#undefined

bolkar speaker
प्राइवेट नौकरी और सरकारी नौकरी में से कोन-सी ज्यादा सिक्योर हैं?Private Naukri Aur Sarkari Naukri Mein Se Kon Si Jyada Secure Hain
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:15
सरकारी नौकरी ज्यादा सिक्योर होती है वहां पर हमें बहुत सारी सेवाएं सरकार की तरफ से मिलने के कारण वह बहुत ज्यादा असुरक्षित रहती है

#undefined

bolkar speaker
हमारे देश में ज्यादातर पढ़े लिखे लोगों को नौकरी क्यों नहीं मिल रही है?hamaare desh mein jyaadaatar padhe likhe logon ko naukaree kyon nahin mil rahee hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:30
नौकरियां ना मिलने का कारण है कि उतनी भारत में कंपनियां ही नहीं है जिसने लोगों को रोजगार दे सके और हम सोचेंगे कि विदेशी कंपनी आ जाएंगे भारत में तो हम उसमें काम करेंगे इससे बेहतर यह सोचेगा कि हम खुद सब मिलाकर 2 लोग मिलाकर 10 लोग मिलाकर एक कंपनी खड़ा करके उसमें रोजगार उपलब्ध करें आज आसपास के लोगों के लिए यह बेहतर विकल्प रहेगा

#undefined

bolkar speaker
भारत में साक्षरता होने के बाद भी इतनी गरीबी क्यों है?Bharat Mein Saksharta Hone Ke Bad Bhe Itni Gareebi Kyun Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:21
भारत के जो अर्थव्यवस्था है वह अर्थव्यवस्था अच्छी तरीके से मैनेज ना होने के कारण यह सब परेशानियां भारत देश को झेलनी पड़ रही है इसमें ज्यादा से ज्यादा राजनीति और जो व्यापारी लोग हैं बड़ी इसमें इनवाल है

#undefined

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:24
आपके सवाल का जवाब है इसका कारण यह है कि जो लोग ज्यादातर सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं एक समाज में एक रोटी चली आ रही है जैसे कि सरकारी नौकर हो तो उसकी शान और शौकत उसकी रहने की उसका खान-पान उसका स्टेटस यह सब बढ़िया रहता है उसी के साथ शाहरुख की नौकरी न जाने कि हमें रहती है उसे ज्यादा से ज्यादा सरकारी जो सेवाएं उपलब्ध होती है उसके लिए घर के लिए उसके परिवार के लिए उन्हें मिलती है बल्कि और चपरासी हो या क्लर्क हो या कोई ऑफिसर हो जो भी पोस्ट पे कार्यकर्ता हो व्हाट्सएप सरकारी होने के कारण से ज्यादा से ज्यादा आराम मिलता है काम में क्या सरकारी काम है जिसे हम कहते हैं कि खाद की कम निमिया ग्राम काम करें तो बहुत ज्यादा काम करना पड़ता है और ज्यादा मानसिक आना हम भी सिर पर पड़ता है हर कानून की नौकरी जो होती है पैसा ना अच्छे से 90% नहीं होता है से मुझे लगता है ज्यादा से ज्यादा लोग सरकारी नौकरी इसलिए पाना चाहते हैं कि आराम से बैठकर काम कर सके

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
लोग हेलमेट पहनने से क्यों बचते हैं?Log Helmet Pehnne Se Kyun Bachte Hain
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:05
जब हम स्थानिक जगह पर किसी भी जगह हर रोज आना जाना करते हैं या ही 2 किलोमीटर बाजार में कहीं भी आसपास के दोस्त के घर जाना होता है तो हम इसका इस्तेमाल नहीं करती क्योंकि वह दिखने में भी आरोप लगता है यहां जाते वक्त पहनना और उसी के साथ साथ उसका संभालना सबसे ज्यादा मुश्किल काम रहता है इसलिए लोग हेलमेट का इस्तेमाल है और उस पुरुष की जगह पर जाने के लिए कम ही करते हैं बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो और दूर तक जाने के लिए भी इस्तेमाल नहीं करते लेकिन मेरी सलाह है कि आप ज्यादा से ज्यादा हेलमेट का उपयोग कीजिए उसको जो हेलमेट हम निकालने के बाद उस वक्त जहां पर रखते हैं गाड़ी पर हो अगर जिस आईडी पर आए ना ना ना हो तो हम उसे रखने के लिए दिक्कत हो सकती है फिर उसे चोरी होने की भी संभावना है ऐसी बहुत सारी बातें हैं इसलिए लोग इसे नहीं पहनते

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
इंसान का सबसे बड़ा हमदर्द कौन है माता-पिता या परमात्मा?Insaan Ka Sabse Bada Hamdard Kaun Hai Mata Pita Ya Paramatma
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:20
आपके सवाल का जवाब दिया रहेगा कि जो इंसान की सोच जिस विचार पर चल रहा है उस पर निर्भर करता है कि वह हमदर्द कौन बन सकता है ना कि वह सिर्फ आपने बताया और हम बोल कर चले गए

#धर्म और ज्योतिषी

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:54
आपके मुताबिक जो कुछ प्रश्न है वह प्रश्न अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय लेवल के तौर पर आप पूछ रहे हो लेकिन हम कुछ बातों को ध्यान में नहीं रखते हुए हम सीधा उसका जवाब दे देते हैं ना कि वह उस पर हुई पिछली बार चालू की और भविष्य के होने वाले परिणाम पर गौर नहीं करते इसलिए हम सीधा उसका उत्तर देकर चले जाते हैं ऐसा ना करते हुए हमें जो कुछ हो रहा है उसके बारे में हमें पूरी पूर्व कल्पना जो होने वाला है उसकी जानकारी और जो हो रहा है उसकी जानकारी यह मिलना बहुत जरूरी बात है उस पर निष्कर्ष निकाल के हम इस आपके सवाल का उत्तर दे सके तो बढ़िया रहेगा

#धर्म और ज्योतिषी

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:19
आपका सवाल है कि सभी विद्यार्थियों को भविष्य में सरकारी नौकरी मिल सके क्या संभव है यह कदापि ही संभव नहीं है यह संभव है और ऐसा हो ही नहीं सकता

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
तंबाकू खाने से कैंसर होता है फिर भी लोग क्यों खाते हैं?Mera Sawal Hai Tambakoo Khane Se Cancer Hota Hai Phir Bhi Log Kyun Khate Hain
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:52
आपका सवाल अच्छा है तुम को खाने से कैंसर होता है फिर भी लोग क्यों खाते हैं उन जैसे कि मैं आपको बता देना चाहता हूं कि तंबाकू खाने से कर्क रोग होता है उसी तरह सिगरेट पीने से कर करो बताएं वह बातें सब उस पैकेट के ऊपर लिखी होती है फिर भी लोग सिगरेट पीते शराब पीने से दारु पीने से लीवर खराब होता है अखियां खराब होती है मनुष्य का संतुलन बिगड़ता है यह सब मालूम होते हुए भी लोग शराब पीते हैं उसी तरह जब हम शुगर खाते शक्कर तो शक्कर खाने से हमारी शारीरिक क्षमता कम हो जाती है यह मालूम होते हुए फिर भी लोग खाते हैं

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
वाणी कब विष के समान हो जाती है?Vani Kab Vish Ke Samaan Ho Jati Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:32
जब लोगों के पास पैसे की बढ़ोतरी हो जाती है या कम समय में ज्यादा पैसा लोगों के पास आ जाता है तो ऐसा हो सकता है और ज्यादा से ज्यादा समाज में ऐसा ही हो रहा है अभी जो कुछ गिने-चुने लोग हैं वही सामान्य से रहते हैं बाकी सब आप के कहने के मुताबिक ही चल रहा है

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
English बोलना कैसे सीखें?Eglish Bolna Kaise Seekhe
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:17
भाई मैं आपको एक बात यह बताना देना चाहता हूं इंग्लिश बोलना किसी के ऊपर आप इंग्लिश बोलना जरूरी नहीं है इंग्लिश अंग्रेजी हमारी भाषा है ही नहीं वह दिल सौ दो सौ साल पहले अंग्रेजों ने जो हमारे ऊपर राज किया था उस राज के तहत उन्होंने उनकी भाषा हमारे यहां पर तो की थी जो हम अभी भी उसका इस्तेमाल कर रहे हैं जब तक हम उनकी भाषा को नहीं छोड़ते तब तक हम खुद का समाज का और देश का विकास नहीं कर सकते यह 100% सही बात है आप कितना भी अंग्रेजी सीख लो कुछ हासिल नहीं होने वाला आप ज्यादा से ज्यादा अपनी मातृभाषा सीख लो उसमें ज्यादा से ज्यादा बात कीजिए तो देखी आप का बाप समझकर कैसे पड़ता है ज्यादा से ज्यादा अध्ययन कीजिए अपनी भाषा पर अपने अड़ोस पड़ोस की अपने अड़ोस पड़ोस के जो राज्य में रहते हैं उनकी भाषा सीख लीजिए आपकी बुद्धि देखो कितनी तेज हो जाएगी ना कि यह फालतू की अंग्रेजी में मत पढ़िए

#धर्म और ज्योतिषी

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
2:59
हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को यानी कि मरीजों को अक्सर ज्यादा से ज्यादा सुबह जल्दी उठकर पेट साफ करके योगासन प्राणायाम खुली हवा में जाना चाहिए टहलने के लिए उसी तरह ज्यादा से ज्यादा स्वस्थ खुशी से रहना चाहिए कोई भी मानसिक ट्रांस जो हम किए थे परेशानियां मगर नहीं लेनी चाहिए कितनी भी परेशानियां अगर हम ले ले तो उसका हल तो नहीं निकल सकता परेशानी लेने की वजह से अगर आप उस पर कोई उपाय ढूंढते हो तो ठीक है तू मेरा इतना कर्ज हो गया है मुझे ऐसा हो गया है कि वह ऐसा कर रहा है यह मत सोचो उस पर कोई उपाय है तो सोच ले वरना छोड़ दीजिए जिंदगी एक ही बार मिलती है खुशी खुशी से जी लो और डायबिटीज के पेशेंट को में या गला और होंठ ब्लड प्रेशर हाई ब्लड प्रेशर के लिए आप जो समुद्र का नमक जो खाते हो तो सफेद नमक कहते हैं जैसे वह मत खाओ और किसी को भी मत आप सेंधा नमक काला नमक शिंदे लोन पाटिल और एस नाम का नमक मिलता है सेंधा नमक और सेंधा उम्मीद जिंदा यह चलेगा या काला मिट उसे ही पादे लोन देती है आप कोई भी इस्तेमाल कर सकते हो बहुत बहुत अच्छा ही है नमक बहुत सारी परेशानियों को जड़ से मिटा देता है हाई ब्लड प्रेशर हो गया लो ब्लड प्रेशर कुकर तरीके से खत्म कर देता है और उसी के साथ साथ मक्के 96 96 शरीर को लाभ होता और ब्रिटेन में अभी नहीं बता सकता मुझे वक्त की कमी होने के कारण और अभी दूसरा है कि डायबिटीज डायबिटीज के लोगों को ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियां अरे फल रिप्लाई नहीं फल खाने चाहिए और उसी के साथ साथ ज्यादा से ज्यादा अब जो मीठे बोले वह भी खा सकते हो अगर आपको किसी जो अंग्रेजी दवाई वाले डॉक्टर ने कहा होगा कि मीटिंग फुल मत खाओ आराम देंगे तो आयुर्वेद में या जो नए नेचुरोपैथी नेचुरोपैथी में आपको और कहेंगे नेचुरोपैथी का अलग करती है उसमें कहेंगे आप मीठे फल खा लीजिए जो नेट नहीं निसर्ग से जॉब

#धर्म और ज्योतिषी

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:15
अगर आपको कुछ परेशानी है शरीर की तकलीफ हो रही है तू ही आप ले सकते हो और ना अगर आप कहीं पर पढ़ कर आए हो किसी से सुन कर आए हो या कोई वीडियो को देखा है उसे ना ले

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत मे बेरोज़गारी कैसे हटाई जा सकती है।?Bharat Me Berozgari Kaise Hatai Ja Sakti Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:48
भारत के स्वरूप सो प्रतिशत बेरोजगारी तो हटाने के लिए हम आवेदन कर सकते हैं जैसे कि हम भारत माता से जुड़े हर काम करें जैसे कि हम स्वदेशी का इस्तेमाल करें स्वदेशी का नारा मोदी सरकार ने अभी कुछ दिन पहले दिया है लेकिन मैं तो बाना 15 साल से इसका प्रयोग उसका उपयोग कर रहा हूं उदेशिका और मैं आ रहा हूं मैं अपने परिवार को अपने दोस्तों को अपने पड़ोसियों को भी बता रहा हूं कि छोटी सी का इस्तेमाल कीजिए मोदी सरकार दो अभी आई है और उसी के साथ हम किसानों को ज्यादा से ज्यादा उनको उनकी मेहनत का फल दे यह बेहतर रहेगा विदेशियों का बहिष्कार करना ही हमारी बेरोजगारी का और एक कारण है मगर उनको ग्राम जो विदेशों से आए हुए पंजीना कार्य और स्वदेशी का इस्तेमाल करके स्वदेशी को बढ़ाओ बनाए तो हमारे बेरोजगारी कम हो सकती है उसी के साथ-साथ नाम जो भी भारतवासी के काम करते हैं क्यूट से काम करें भारत में ज्यादा से ज्यादा लीगल तरीके से सही तरीके से कानूनी तरीके से काम हो तो हम और बड़े बन सकते हैं ज्यादा से ज्यादा हम लोग खेती-बाड़ी व्यापार का इस्तेमाल करें तो हम विरोध करने नहीं रह सकते

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
अगर किसान नहीं होता तो क्या होता तो फिर अनाज कहां से आता?Agar Kisaan Nahin Hota To Kya Hota To Phir Anaaj Kaha Se Aata
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:51
जब से हम पैदा हुए हैं हजारों सालों से अनार की खेती कर के हम जिंदा हो रहे हैं और जिंदा है कुछ समय पहले हम माफ खाते थे उसके आगे हम सब खाना ही खाते हैं अगर आप का सवाल ही कुछ अलग है लेकिन हम देखे तो किसान है तो नौकर वर्ग जो जॉब करता है वह उसके बाद व्यवसाय करता है बिजनेस को 17 किलो किसानों के अनाज पर ही गुजारा करते हैं इसलिए किसान होना ही चाहिए किसान नहीं तो हम भी नहीं
Jab se ham paida hue hain hajaaron saalon se anaar kee khetee kar ke ham jinda ho rahe hain aur jinda hai kuchh samay pahale ham maaph khaate the usake aage ham sab khaana hee khaate hain agar aap ka savaal hee kuchh alag hai lekin ham dekhe to kisaan hai to naukar varg jo job karata hai vah usake baad vyavasaay karata hai bijanes ko 17 kilo kisaanon ke anaaj par hee gujaara karate hain isalie kisaan hona hee chaahie kisaan nahin to ham bhee nahin

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या मोदी सरकार को कृषि कानूनों को रद्द कर देना चाहिए?Kya Modi Sarkar Ko Krishi Kanun Ko Radd Kar Dena Chaiye
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:49
कोई भी कानून नया लाया गया हो या रद्द किया गया हो यार अंत करने वाला हूं वह कानून भविष्य के लिए हमें कितना जरूरी है यह निर्भर करता है और आप का सवाल है कि मोदी सरकार को खुशी कानून को रद्द कर देना चाहिए या नहीं जैसे कि आप देख रहे हो अभी जो संगठन कार्य कर रहा है यानी कि आज जो लोग कहते हैं कि एक शेतकरी ओ का आंदोलन है तो सिर्फ वहां पर एक ही राज्य है तो रांची के लोग हमें दिखाई दे रहे हैं मुझे ऐसा लगता है मुझे अपनी पूरी जानकारी नहीं है लेकिन महाराष्ट्र से आंख कर्नाटक से या और किसी राज्य के लोग वहां इकट्ठा हुए हैं इसकी मुझे अभी जानकारी नहीं मिली है और जैसे कि हम देखें कि कोई भी कानून को रद्द करने के लिए संगठन यानी कि सांस जो इकट्ठा मतदान होता है वह सब निर्णय बनाता है और जो भी कानून रहते हैं वह काम नागरा हमें मालूम हो जनता को मालूम हो तो हम उस कानून पर अब बस करे तो हमें पता चलेगा कि वह भविष्य के लिए बेहतर है यहां पे करनी है अगर हमको जानना चाहते हैं अगर आप जानना चाहते हैं कि कानून क्या है वह जान लीजिए मुझे भी इतनी जानकारी नहीं है लेकिन अगर हम कानून क्या है वह जान ले तो हमें पता चलेगा कि वह से भविष्य के लिए अच्छा है या बुरे हैं
Koee bhee kaanoon naya laaya gaya ho ya radd kiya gaya ho yaar ant karane vaala hoon vah kaanoon bhavishy ke lie hamen kitana jarooree hai yah nirbhar karata hai aur aap ka savaal hai ki modee sarakaar ko khushee kaanoon ko radd kar dena chaahie ya nahin jaise ki aap dekh rahe ho abhee jo sangathan kaary kar raha hai yaanee ki aaj jo log kahate hain ki ek shetakaree o ka aandolan hai to sirph vahaan par ek hee raajy hai to raanchee ke log hamen dikhaee de rahe hain mujhe aisa lagata hai mujhe apanee pooree jaanakaaree nahin hai lekin mahaaraashtr se aankh karnaatak se ya aur kisee raajy ke log vahaan ikattha hue hain isakee mujhe abhee jaanakaaree nahin milee hai aur jaise ki ham dekhen ki koee bhee kaanoon ko radd karane ke lie sangathan yaanee ki saans jo ikattha matadaan hota hai vah sab nirnay banaata hai aur jo bhee kaanoon rahate hain vah kaam naagara hamen maaloom ho janata ko maaloom ho to ham us kaanoon par ab bas kare to hamen pata chalega ki vah bhavishy ke lie behatar hai yahaan pe karanee hai agar hamako jaanana chaahate hain agar aap jaanana chaahate hain ki kaanoon kya hai vah jaan leejie mujhe bhee itanee jaanakaaree nahin hai lekin agar ham kaanoon kya hai vah jaan le to hamen pata chalega ki vah se bhavishy ke lie achchha hai ya bure hain

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
बीटेक करने वाले छात्रों को बेरोजगारी का सामना क्यों करना पड़ रहा है?Btech Karne Wale Chaatron Ko Berozgaari Ka Saamna Kyun Karna Pad Raha Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:28
नमस्कार आपका सवाल है कि ठीक करने वाले छात्रों को रूबी रोजगारी का सामना करना पड़ रहा है वह मेरी जो आज के दौर के अनुभव के अनुसार ऐसा लगता है मैं आपका मेरा खुद का प्रशिक्षण आपको बता देता हूं मैंने ब्रेकफास्ट किया है उसके बाद बीकॉम अगर मैं आपको सही तरह से यह बता दो कि मेरे पास अभी तुरंत 3 डिग्रियां है और मास्टर 2 डिग्रियां हैं और मास्टर थर्ड डिग्री 3 डिग्री के लिए मैं अभी अगले 2 महीने के बाद अप्लाई करने वाला हूं क्योंकि रोजगारी का जो आप ने सवाल उठाया है वह हर सरकार पर सवाल आता है और अभी आप देखे तो कुछ सरकारी वशीकरण करने के और जो करते हुए देख रहे हैं तो इसमें तो बहुत कठिन आया होने वाली है ऐसा मुझे लगता है उसी की तरह है जो पिछली सरकार थी उन्होंने भी वादा किया था बेरोजगारी हटाने का लेकिन यह बहुत बड़ा मसला हो रहा है इस पर यह लोग कुछ नहीं करने वाले सिर्फ वोट बैंक के लिए बोलते हैं और छोड़ देते हैं
Namaskaar aapaka savaal hai ki theek karane vaale chhaatron ko roobee rojagaaree ka saamana karana pad raha hai vah meree jo aaj ke daur ke anubhav ke anusaar aisa lagata hai main aapaka mera khud ka prashikshan aapako bata deta hoon mainne brekaphaast kiya hai usake baad beekom agar main aapako sahee tarah se yah bata do ki mere paas abhee turant 3 digriyaan hai aur maastar 2 digriyaan hain aur maastar thard digree 3 digree ke lie main abhee agale 2 maheene ke baad aplaee karane vaala hoon kyonki rojagaaree ka jo aap ne savaal uthaaya hai vah har sarakaar par savaal aata hai aur abhee aap dekhe to kuchh sarakaaree vasheekaran karane ke aur jo karate hue dekh rahe hain to isamen to bahut kathin aaya hone vaalee hai aisa mujhe lagata hai usee kee tarah hai jo pichhalee sarakaar thee unhonne bhee vaada kiya tha berojagaaree hataane ka lekin yah bahut bada masala ho raha hai is par yah log kuchh nahin karane vaale sirph vot baink ke lie bolate hain aur chhod dete hain

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अंग्रेजी स्पीकिंग सीखने का देसी तरीका क्या है?Angreji Speaking Seekhne Ka Desi Tareeka Kya Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:55
मुझे ऐसा लगता है कि अंग्रेजी के चक्कर में मत पड़ो अपनी भाषा से को मातृभाषा उसमें भी ढेर सारी बातें अभी तक हमें 20 25 50 साल होने तक भी पता नहीं चलती और उसके बाद आना हिंदी भाषा का भी इस्तेमाल कीजिए ऐसा मुझे लगता है अगर आपको हिंदी भाषा नहीं सीखनी तो फिर आप अपने पौलाट्जास के पड़ोस की जो राजभाषा जो राज्य हैं उनकी भाषा सीख ले सीख ले नहीं तो संस्कृत आती जो हमारे पूरे भारत की और विश्व की व्यवस्था हम कहते हैं वह संस्कृत सीख लीजिए हमारे यहां पर सारी भाषाएं हैं एवं काल भाइयों कर रहे हैं या अंग्रेजी के फालतू की भाषा की वजह से मुझे लगता है फिर आपका फैसला है क्या करना है
Mujhe aisa lagata hai ki angrejee ke chakkar mein mat pado apanee bhaasha se ko maatrbhaasha usamen bhee dher saaree baaten abhee tak hamen 20 25 50 saal hone tak bhee pata nahin chalatee aur usake baad aana hindee bhaasha ka bhee istemaal keejie aisa mujhe lagata hai agar aapako hindee bhaasha nahin seekhanee to phir aap apane paulaatjaas ke pados kee jo raajabhaasha jo raajy hain unakee bhaasha seekh le seekh le nahin to sanskrt aatee jo hamaare poore bhaarat kee aur vishv kee vyavastha ham kahate hain vah sanskrt seekh leejie hamaare yahaan par saaree bhaashaen hain evan kaal bhaiyon kar rahe hain ya angrejee ke phaalatoo kee bhaasha kee vajah se mujhe lagata hai phir aapaka phaisala hai kya karana hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कुछ लोग अंग्रेजी भाषा सीखने के कारण तुतलाने लगते हैं?Kuch Log Angreji Bhasha Seekhne Ke Karan Tutlane Lagte Hain
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:15
जो लोग पतला नहीं लगते हैं उनको लगता है कि मैंने अंग्रेजी के लिए प्रोजेक्ट मेरे काबू में आ गया लेकिन उनको यह बात नहीं मालूम कि जो लोग अंग्रेजी सीखते हैं वो किसी के अंदर काम करने की एक होगी रखते हैं ना कि खुद कोई काम या कोई बिजनेस शुरू कर सकते हैं देख लीजिए मेरे अगर आप देखेंगे तो 100 में से 90 लोग अंग्रेजी सीख कर काम ही करते हैं किसी के अंदर और जो आन पड़ा होता है पढ़ा लिखा नहीं होता जिसे पूजा का नया कुछ 10वीं 12वीं पास होता है क्या अपनी मातृभाषा में पढ़ा होता है उनके अंदर और काम करते हैं उनके हाथ के नीचे काम करते हैं आप लोग जो भी आपके सामने यह किसी भी इसके सामने अंग्रेजी जा रहा हो तो आप अपनी मातृभाषा का इस्तेमाल करें उसे लग्नाची यहां मैं अभी कहां हूं मैं क्या बोल रहा हूं और यह क्या बोल रहा है मैं खुद की भारत माता की भाषा छोड़कर किसी अंग्रेजों की भाषा बोल रहा हूं उस पर एहसास होना चाहिए
Jo log patala nahin lagate hain unako lagata hai ki mainne angrejee ke lie projekt mere kaaboo mein aa gaya lekin unako yah baat nahin maaloom ki jo log angrejee seekhate hain vo kisee ke andar kaam karane kee ek hogee rakhate hain na ki khud koee kaam ya koee bijanes shuroo kar sakate hain dekh leejie mere agar aap dekhenge to 100 mein se 90 log angrejee seekh kar kaam hee karate hain kisee ke andar aur jo aan pada hota hai padha likha nahin hota jise pooja ka naya kuchh 10veen 12veen paas hota hai kya apanee maatrbhaasha mein padha hota hai unake andar aur kaam karate hain unake haath ke neeche kaam karate hain aap log jo bhee aapake saamane yah kisee bhee isake saamane angrejee ja raha ho to aap apanee maatrbhaasha ka istemaal karen use lagnaachee yahaan main abhee kahaan hoon main kya bol raha hoon aur yah kya bol raha hai main khud kee bhaarat maata kee bhaasha chhodakar kisee angrejon kee bhaasha bol raha hoon us par ehasaas hona chaahie

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अंग्रेजी में May का प्रयोग कब किया जाता है?Angreji Mein May Ka Prayog Kab Kiya Jata Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:25
मुझे ऐसा लगता है कि आप अंग्रेजी का प्रयोग करने की वजह आप अपनी मातृभाषा हिंदी का प्रयोग किया और किसी भाषा को ज्यादा सीखे तो बढ़िया रहेगा क्योंकि सबसे घटिया और सबसे ठंडा क्लास जो भाषा मेरे हिसाब से है और अंग्रेजी भाषा है यह गुलामी भाषा है आप इसका इस्तेमाल मत
Mujhe aisa lagata hai ki aap angrejee ka prayog karane kee vajah aap apanee maatrbhaasha hindee ka prayog kiya aur kisee bhaasha ko jyaada seekhe to badhiya rahega kyonki sabase ghatiya aur sabase thanda klaas jo bhaasha mere hisaab se hai aur angrejee bhaasha hai yah gulaamee bhaasha hai aap isaka istemaal mat

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
हमें अपनी भाषा का प्रसार कहां-कहां करना चाहिए?Hame Apni Bhasha Ka Prasaar Kaha Kaha Karna Chaiye
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:47
हमें अपनी भाषा का प्रचार प्रसार पहले से खुद से घर से गली से गांव से तालुके से जिले से प्रांत से करना चाहिए और उसके बाद हम आगे बढ़ सकते हैं अगर हम खुद ही अपनी मातृभाषा का इस्तेमाल ना करें तो यह विदेशी भाषाओं पर हावी होकर भविष्य में हमें उनकी गुलामी करनी पड़ी थी आप ही कर्म थोड़ी-थोड़ी खुला में गर्मी पड़ रही है आगे भविष्य में आप फिर गुलाम हो सकते हैं इसलिए हमें खुद की भाषा का प्रसार ज्यादा से ज्यादा कर कर खुद भाषा बोलना चाहिए
Hamen apanee bhaasha ka prachaar prasaar pahale se khud se ghar se galee se gaanv se taaluke se jile se praant se karana chaahie aur usake baad ham aage badh sakate hain agar ham khud hee apanee maatrbhaasha ka istemaal na karen to yah videshee bhaashaon par haavee hokar bhavishy mein hamen unakee gulaamee karanee padee thee aap hee karm thodee-thodee khula mein garmee pad rahee hai aage bhavishy mein aap phir gulaam ho sakate hain isalie hamen khud kee bhaasha ka prasaar jyaada se jyaada kar kar khud bhaasha bolana chaahie

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
गंगा जल क्यों नहीं सड़ता है?Ganga Jal Kyun Nahin Sadta Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:57
गंगा एक पवित्र नदी हम मानते हैं और इसका हमें हमारे पूर्वजों से भी बहुत बार उस नदी के बारे में अच्छी-अच्छी बातें हम सुनते आ रहे हैं गंगा में स्नान करने से हमारे सभी जो कुछ बुरे कर्म होते हैं वह सब भूल जाते हैं ऐसे बात कहते हैं हमारे पूर्वज उसी तरह अगर हम देखे तो कुछ सवा सौ साल पहले कुछ लोग आया था उपरोक्त में जो पीला से हो रही थी वह सब लाशें नदी में गंगा नदी में डाल दी गई थी और जो हेनरी नामक एक छात्र नेता छात्र ने मुझ पर रिसर्च किया और वो सर्वश्रेष्ठ करने का उसका तरीका इसलिए था कि उन्होंने उन्होंने उनके गांव उनके देश में जब कोई महामारी आई हुई थी तभी उनके गांव के लोगों ने उसी तरह नदी में प्लासी डाली और उस नदी में डाले हुए लास्ट की वजह से उनके आगे के दो ना आने वाले पानी पीने वाले लोग थे उन लोगों को क्या लगा हुआ और उससे वह और बीमार होकर मरने लगी और उन्हें लगा भारत में भी ऐसा हो सकता है लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ जो कुछ भारत में राशि डाली गई उन लाशों को गंगा नदी में कुछ ऐसे वायरस से जो गंदे जोंबी वायरस आते हैं वह उनको खा जाते हैं एनिमल्स कर दे कर नष्ट कर देते हैं हमेशा के लिए यह पवित्रता गंगा नदी की है इसलिए हम गंगा को गंगा जल जाए पवित्र मानते हैं
Ganga ek pavitr nadee ham maanate hain aur isaka hamen hamaare poorvajon se bhee bahut baar us nadee ke baare mein achchhee-achchhee baaten ham sunate aa rahe hain ganga mein snaan karane se hamaare sabhee jo kuchh bure karm hote hain vah sab bhool jaate hain aise baat kahate hain hamaare poorvaj usee tarah agar ham dekhe to kuchh sava sau saal pahale kuchh log aaya tha uparokt mein jo peela se ho rahee thee vah sab laashen nadee mein ganga nadee mein daal dee gaee thee aur jo henaree naamak ek chhaatr neta chhaatr ne mujh par risarch kiya aur vo sarvashreshth karane ka usaka tareeka isalie tha ki unhonne unhonne unake gaanv unake desh mein jab koee mahaamaaree aaee huee thee tabhee unake gaanv ke logon ne usee tarah nadee mein plaasee daalee aur us nadee mein daale hue laast kee vajah se unake aage ke do na aane vaale paanee peene vaale log the un logon ko kya laga hua aur usase vah aur beemaar hokar marane lagee aur unhen laga bhaarat mein bhee aisa ho sakata hai lekin aisa kuchh nahin hua jo kuchh bhaarat mein raashi daalee gaee un laashon ko ganga nadee mein kuchh aise vaayaras se jo gande jombee vaayaras aate hain vah unako kha jaate hain enimals kar de kar nasht kar dete hain hamesha ke lie yah pavitrata ganga nadee kee hai isalie ham ganga ko ganga jal jae pavitr maanate hain

#मनोरंजन

bolkar speaker
बॉलीवुड का सबसे अच्छा ओर सबसे बुरा अभिनेता ओर अभिनेत्री कौन है?Bollywood Ka Sabse Accha Or Sabse Bura Abhineta Or Abhinetri Kaun Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
2:58
सबसे अच्छा और सबसे बुरा अभिनेता और अभिनेत्री यानी कि वह सिर्फ एक्टिंग में अभी-अभी ने जो करते हैं वह अभिनय के बारे में पूछ रहे हो क्या उनकी असल जिंदगी के बारे में पूछ रहे हो यहां आपको अगर लिख आपने अगर लिखा होता तो ज्यादा बेहतर होता सवाल का जवाब देने के लिए अगर मैंने जिंदगी में उनसे कोई नहीं था उनकी कोई बात आपको नहीं बता देना चाहता हूं सिर्फ में अभिनय के बारे में आपको चलो फिर तो कोई अभिनेता या अभिनेत्री हैं उनके बारे में आपको कुछ दो बातें हो यानी कि उनके नाम बता देना चाहता हूं जैसे कि दिलीप कुमार रहेंगे सबसे सिने अभिनेता उनके बाद जो जो सुपरस्टार रहेंगे राजेश खन्ना उसी के साथ साथ पढ़ता अमिताभ बच्चन और आज के शाहरुख खान का बेहतरीन और ज्यादा समझदार अभिनेता के रूप में फंस गए हैं और गोविंदा भी रहते हैं संजू संजू बाबा संजय दत्त यह उनका अभिनय का एक दौर ऐसा था कि उनकी चलती थी उसके बाद हम देखे तो कुछ-कुछ हां जो अभी नए आए कपूर खानदान की वह भी अच्छी तरह से काम कर लेते हैं और अभिनेत्री में ग्राम देखे तो अपने 1079 में काजल है विद्या बालन जी और है जो हम देखते हैं मुझे नाम याद नहीं रहा रहा है अभी सबके और हम पूरी बुरा काम या बुरा भी नहीं करने वालों के नाम भी नहीं मैं बता देना चाहता हूं मेरे हिसाब से अभिनेता है अपना मन में आता है जो काम बुरा करता है मैं उनके देखता ही नहीं जैसे कि वह कपूर कॉलेज ओ आर राजकुमार में काम किया हुआ वह उसके पास है और अभिनेत्री में आती है आलिया भट्ट के कुछ एक्टिंग का सीन है यह नहीं ऐसा मुझे लगता है उसके साथ-साथ पहले आता है करण जोहर जोहर ना अभिनेता या अभिनेत्री है वो दिग्दर्शक निर्माता है उसे किसने मना किया मुझे मालूम नहीं और उसी के नाम लिखे तो बहुत सारे लोग हैं जिनके बारे में आपको बता सकता हूं लेकिन आप पूरे समय की वजह से मैं यह बात पूरी नहीं कर सकता
Sabase achchha aur sabase bura abhineta aur abhinetree yaanee ki vah sirph ekting mein abhee-abhee ne jo karate hain vah abhinay ke baare mein poochh rahe ho kya unakee asal jindagee ke baare mein poochh rahe ho yahaan aapako agar likh aapane agar likha hota to jyaada behatar hota savaal ka javaab dene ke lie agar mainne jindagee mein unase koee nahin tha unakee koee baat aapako nahin bata dena chaahata hoon sirph mein abhinay ke baare mein aapako chalo phir to koee abhineta ya abhinetree hain unake baare mein aapako kuchh do baaten ho yaanee ki unake naam bata dena chaahata hoon jaise ki dileep kumaar rahenge sabase sine abhineta unake baad jo jo suparastaar rahenge raajesh khanna usee ke saath saath padhata amitaabh bachchan aur aaj ke shaaharukh khaan ka behatareen aur jyaada samajhadaar abhineta ke roop mein phans gae hain aur govinda bhee rahate hain sanjoo sanjoo baaba sanjay datt yah unaka abhinay ka ek daur aisa tha ki unakee chalatee thee usake baad ham dekhe to kuchh-kuchh haan jo abhee nae aae kapoor khaanadaan kee vah bhee achchhee tarah se kaam kar lete hain aur abhinetree mein graam dekhe to apane 1079 mein kaajal hai vidya baalan jee aur hai jo ham dekhate hain mujhe naam yaad nahin raha raha hai abhee sabake aur ham pooree bura kaam ya bura bhee nahin karane vaalon ke naam bhee nahin main bata dena chaahata hoon mere hisaab se abhineta hai apana man mein aata hai jo kaam bura karata hai main unake dekhata hee nahin jaise ki vah kapoor kolej o aar raajakumaar mein kaam kiya hua vah usake paas hai aur abhinetree mein aatee hai aaliya bhatt ke kuchh ekting ka seen hai yah nahin aisa mujhe lagata hai usake saath-saath pahale aata hai karan johar johar na abhineta ya abhinetree hai vo digdarshak nirmaata hai use kisane mana kiya mujhe maaloom nahin aur usee ke naam likhe to bahut saare log hain jinake baare mein aapako bata sakata hoon lekin aap poore samay kee vajah se main yah baat pooree nahin kar sakata

#टेक्नोलॉजी

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:30
नमस्कार एयरटेल सिम कार्ड आपका जो बंद हो चुका है उसकी वैधता 90 दिन तक ही रहती है अगर आप का 90 दिन पूरा हो गया हो तो वह सिम कार्ड यानी कि वह नंबर आपको फिर से दोबारा नहीं मिल सकता मैं सिम कार्ड खरीद दी थी ज्यादा जानकारी के लिए रिटेल के जो भी आज नजदीकी ऑफिस में जाकर आप उससे बातचीत करके आपका जो सवाल है उनको बताइए
Namaskaar eyaratel sim kaard aapaka jo band ho chuka hai usakee vaidhata 90 din tak hee rahatee hai agar aap ka 90 din poora ho gaya ho to vah sim kaard yaanee ki vah nambar aapako phir se dobaara nahin mil sakata main sim kaard khareed dee thee jyaada jaanakaaree ke lie ritel ke jo bhee aaj najadeekee ophis mein jaakar aap usase baatacheet karake aapaka jo savaal hai unako bataie

#मनोरंजन

bolkar speaker
भारत में होटलों से ज्यादा ढाबे क्यों लोकप्रिय है?bhaarat mein hotalon se jyaada dhaabe kyon lokapriy hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:06
भारत में होटल से ज्यादा ढाबे फेमस है इसलिए क्योंकि ढाबों पर जो खाना बढ़िया तरीके से मिलता है अच्छे दाम में मिलता है और ज्यादा से ज्यादा रात को बाहर बैठकर खाने में जो मजा है वह किसी आलीशान होटल में जाकर सबके सामने नौटंकी करते हुए खाने में नहीं मिलता और ज्यादा से ज्यादा होटलों में जाने वाली रुक तो आप 5 स्टार 3 स्टार 1 स्टार के नाम से देखते हैं उसमें ज्यादा से ज्यादा लोग जाते हैं वह लोग अमीर घराने की रईस खराबी के रहते हैं और हमारे देश में इतने आभारी नहीं है कि हर कोई होटल में जाकर खाना खाए ज्यादा से ज्यादा ढाबे पर जो खाना मिलता है और उसकी जो हमें लखन दिखाई देते खाने खाने के वक्त वह बहुत बढ़िया रहती है
Bhaarat mein hotal se jyaada dhaabe phemas hai isalie kyonki dhaabon par jo khaana badhiya tareeke se milata hai achchhe daam mein milata hai aur jyaada se jyaada raat ko baahar baithakar khaane mein jo maja hai vah kisee aaleeshaan hotal mein jaakar sabake saamane nautankee karate hue khaane mein nahin milata aur jyaada se jyaada hotalon mein jaane vaalee ruk to aap 5 staar 3 staar 1 staar ke naam se dekhate hain usamen jyaada se jyaada log jaate hain vah log ameer gharaane kee raees kharaabee ke rahate hain aur hamaare desh mein itane aabhaaree nahin hai ki har koee hotal mein jaakar khaana khae jyaada se jyaada dhaabe par jo khaana milata hai aur usakee jo hamen lakhan dikhaee dete khaane khaane ke vakt vah bahut badhiya rahatee hai

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या अंग्रेजी फिल्में अंग्रेजी सीखने में मदद करती है?Kya Angreji Films Angreji Seekhne Mein Madad Karti Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:47
आप जो अंग्रेजी फिल्म देखकर अंग्रेजी सीखना चाहते हैं वह कौन से धर्म के अंग्रेजी फिल्म देख रहे हैं इस पर निर्भर करता है क्योंकि हर एक भाग की अमेरिका की इंग्लैंड की यूरोप के अन्य देशों की हर एक तरह के भाषाएं अलग अलग ढंग से पेश की जाती है और भारत की भी अंग्रेजी से मिलती जुलती है कि है लेकिन एक साथ एक जैसी नहीं होती इसलिए आप जो फिल्म कैटेगरी देख रहे हो एक ही टंकी देखिए मुझे लगता है अंग्रेजी सीखना इतना घटिया बने कि इससे घटिया भाषा और दुनिया में कोई नहीं है
Aap jo angrejee philm dekhakar angrejee seekhana chaahate hain vah kaun se dharm ke angrejee philm dekh rahe hain is par nirbhar karata hai kyonki har ek bhaag kee amerika kee inglaind kee yoorop ke any deshon kee har ek tarah ke bhaashaen alag alag dhang se pesh kee jaatee hai aur bhaarat kee bhee angrejee se milatee julatee hai ki hai lekin ek saath ek jaisee nahin hotee isalie aap jo philm kaitegaree dekh rahe ho ek hee tankee dekhie mujhe lagata hai angrejee seekhana itana ghatiya bane ki isase ghatiya bhaasha aur duniya mein koee nahin hai

#मनोरंजन

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:53
आप तो फिल्म घातक फिल्म की कहानी लिख रहे हैं वह कहानी आप कौन से क्षेत्र में लिख रहे हैं उस पर निर्भर करता है यानी कि आप बॉलीवुड के लिए मराठी के लिए या कोई और इंडस्ट्री के लिए आप लिख रहे हैं और उस इंडस्ट्री के लिए जिस इंडस्ट्री को लिए आप लिख रहे हैं उसमें कोई ना कोई जो वैकेंसी संस्थाएं रहती है वह संस्था में आपको राइडर के नाम राइटर के नाम तो और ऊपर आप कहानी लिख रहे हैं ऐसे राइटर के अधिकार के लिए वहां पर आपको कार्ड निकालने की जरूरत पड़ती है और उसके बाद ही अब आप आगे आप काम कीजिए कार्ड का मिलने के बाद ही आप पब्लिक के लिए आप की स्टोरी
Aap to philm ghaatak philm kee kahaanee likh rahe hain vah kahaanee aap kaun se kshetr mein likh rahe hain us par nirbhar karata hai yaanee ki aap boleevud ke lie maraathee ke lie ya koee aur indastree ke lie aap likh rahe hain aur us indastree ke lie jis indastree ko lie aap likh rahe hain usamen koee na koee jo vaikensee sansthaen rahatee hai vah sanstha mein aapako raidar ke naam raitar ke naam to aur oopar aap kahaanee likh rahe hain aise raitar ke adhikaar ke lie vahaan par aapako kaard nikaalane kee jaroorat padatee hai aur usake baad hee ab aap aage aap kaam keejie kaard ka milane ke baad hee aap pablik ke lie aap kee storee

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या फिल्मों को हिट करने के लिए जानबूझकर समाज में विवाद पैदा किया जाता है?Kya Filmon Ko Hit Karne Ke Lie Jaanbujhkar Samaaj Mein Vivaad Paida Kiya Jata Hai
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:09
आज के दौर में यह होने की संभावना ज्यादा से ज्यादा पूर्ण होने हो रही है ऐसा दिख रहा है
Aaj ke daur mein yah hone kee sambhaavana jyaada se jyaada poorn hone ho rahee hai aisa dikh raha hai

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या आने वाले समय में मुंबई से बॉलीवुड खत्म हो जाएगा?Kya Aane Vaale Samay Mein Mumbai Se Bollywood Khatm Ho Jaega
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:34
आप जो कह रहे हैं वह इतना आसान नहीं है कि कुछ समय में आने वाले कुछ समय में बॉलीवुड मुंबई से खत्म हो जाएगा नहीं ऐसा हो नहीं सकता क्योंकि उसके वहां पर ठीक होने के लिए बहुत साल गुजर चुके हैं और आगे अगर कोई आप आपका कहना ही होगा कि योगी आदित्यनाथ वहां पर फिल्म सिटी बना रहे हैं उसका स्वरूप मुंबई के बॉलीवुड पर होगा थोड़ा सा होगा ज्यादा कुछ नहीं फर्क पड़ेगा
Aap jo kah rahe hain vah itana aasaan nahin hai ki kuchh samay mein aane vaale kuchh samay mein boleevud mumbee se khatm ho jaega nahin aisa ho nahin sakata kyonki usake vahaan par theek hone ke lie bahut saal gujar chuke hain aur aage agar koee aap aapaka kahana hee hoga ki yogee aadityanaath vahaan par philm sitee bana rahe hain usaka svaroop mumbee ke boleevud par hoga thoda sa hoga jyaada kuchh nahin phark padega

#मनोरंजन

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:57
दक्षिणी फिल्मों में ज्यादा से ज्यादा भारतीय संस्कृति भारतीय आयुर्वेद भारतीय संघ ओपन और सब भारतीय परिवार और एकता की मिसाल उसमें दी जाती है यार एक फिल्म में वापसी के साथ-साथ होगा गांव और गांव की सभी अच्छे अच्छे कर्मों का उनकी फिल्में दिखाई दिए जाते हैं और वह अपनी खुद की भाषा का इस्तेमाल करके वह फिल्म ज्यादा बेहतर बनाते हैं और हमारे यहां विराट कारण उसे के साथ-साथ अंदर जटवाद गुंडागिरी दादागिरी उसके साथ नेपोटिज्म आपको हर एक प्रकार की परेशानियों से जूझ रहा है बॉलीवुड इसलिए यह हो रहा है
Dakshinee philmon mein jyaada se jyaada bhaarateey sanskrti bhaarateey aayurved bhaarateey sangh opan aur sab bhaarateey parivaar aur ekata kee misaal usamen dee jaatee hai yaar ek philm mein vaapasee ke saath-saath hoga gaanv aur gaanv kee sabhee achchhe achchhe karmon ka unakee philmen dikhaee die jaate hain aur vah apanee khud kee bhaasha ka istemaal karake vah philm jyaada behatar banaate hain aur hamaare yahaan viraat kaaran use ke saath-saath andar jatavaad gundaagiree daadaagiree usake saath nepotijm aapako har ek prakaar kee pareshaaniyon se joojh raha hai boleevud isalie yah ho raha hai
URL copied to clipboard