#खेल कूद

bolkar speaker
क्रिकेट में गेंद की गति को कैसे मापा जाता है?Cricket Mein Gend Ki Gati Ko Kaise Mapa Jaata Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:19
आपका पैसा है क्रिकेट में गेंद को कैसे मापा जाता है अब गति गति अधिकतम स्पीड को कैसे मार सकते हैं उसके लिए हमें चाहिए एक तो डिस्टेंस यानी दूर हमसे डिलीट कीबोर्ड को शो करते हैं तो कितनी दूरी पर जाती है यह हमें डिस्टेंस चाहिए और दूसरा हमें चाहिए इतनी टाइम मिल गई हो तो अगर हम रिश्ते और टाइम से डिवाइड कर दें तो हम क्रिकेट करो जो लेकिन पॉल है हम उसकी गति को मैसेज कर सकते हैं एवं क्रिकेट बॉल क्यों हम किसी भी ऑब्जेक्ट की गति को मैसेज कर सकते हैं क्या वह कार की गति है गियर साइकिल के लिए कुछ भी है हमने तो स्पीड कम है रिमाइंड करना है वही हमें डिस्टेंस चाहिए कि कितने समय में कितने डिस्टेंस पर वह चीज पहुंची है अब हम कार को लेते हैं जैसे कि कल यहां से मुंह और वह दिल्ली तक पहुंची है और हम यानी उसके किलोमीटर में से कर लेंगे और कितने समय में जो जो 2 घंटे में पहुंच गए तो हम डिस्टर्ब डिस्टेंस फ्रॉम टाइम अगर हम कर लेंगे इस दृश्य को टाइम से डिवाइड कर देंगे तो हमारी स्पीड में कल आएगी उस कार की हमारी गति निकल आएगी ऐसे ही बोल कि अब मैं जैसे में गेहूं को फेंका अब हमें नोटिस किया क्यों कितनी दूर पड़ गई लेकिन वहां पर पहुंचने तक कितना टाइम उसने लिया 2 सेकंड 3 सेकंड जितना भी टाइम लिया 5 सेकंड तो उसको हम उस टाइम से हम डिवाइस कर देंगे तो हमारी स्पीड निकल आएगी तस्वीर इज इक्वल टू डिस्टेंस फ्रॉम टाइम टो टाइम टो विजिट और हमें कई बार वृद्धि होती है टाइम भी गिवन होता है लेकिन हमें डिस्टेंस नहीं पता होता तो स्पीड को टाइम से मल्टीप्लाई कर देंगे तो हमें पता चल जाएगा कि मैं कितना डिस्टेंस कवर किया है अगर आपको आंसर अच्छा लगा हो तो लाइक करें सब्सक्राइब करें थैंक यू
Aapaka paisa hai kriket mein gend ko kaise maapa jaata hai ab gati gati adhikatam speed ko kaise maar sakate hain usake lie hamen chaahie ek to distens yaanee door hamase dileet keebord ko sho karate hain to kitanee dooree par jaatee hai yah hamen distens chaahie aur doosara hamen chaahie itanee taim mil gaee ho to agar ham rishte aur taim se divaid kar den to ham kriket karo jo lekin pol hai ham usakee gati ko maisej kar sakate hain evan kriket bol kyon ham kisee bhee objekt kee gati ko maisej kar sakate hain kya vah kaar kee gati hai giyar saikil ke lie kuchh bhee hai hamane to speed kam hai rimaind karana hai vahee hamen distens chaahie ki kitane samay mein kitane distens par vah cheej pahunchee hai ab ham kaar ko lete hain jaise ki kal yahaan se munh aur vah dillee tak pahunchee hai aur ham yaanee usake kilomeetar mein se kar lenge aur kitane samay mein jo jo 2 ghante mein pahunch gae to ham distarb distens phrom taim agar ham kar lenge is drshy ko taim se divaid kar denge to hamaaree speed mein kal aaegee us kaar kee hamaaree gati nikal aaegee aise hee bol ki ab main jaise mein gehoon ko phenka ab hamen notis kiya kyon kitanee door pad gaee lekin vahaan par pahunchane tak kitana taim usane liya 2 sekand 3 sekand jitana bhee taim liya 5 sekand to usako ham us taim se ham divais kar denge to hamaaree speed nikal aaegee tasveer ij ikval too distens phrom taim to taim to vijit aur hamen kaee baar vrddhi hotee hai taim bhee givan hota hai lekin hamen distens nahin pata hota to speed ko taim se malteeplaee kar denge to hamen pata chal jaega ki main kitana distens kavar kiya hai agar aapako aansar achchha laga ho to laik karen sabsakraib karen thaink yoo

#खेल कूद

bolkar speaker
अधिकांश पति पत्नि की गुलामी क्यों स्वीकार कर लेते हैं?adhikaansh pati patni kee gulaamee kyon sveekaar kar lete hain
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:57
नमस्कार आपका प्रश्न है अधिकांश पति-पत्नी की गुलामी क्यों स्वीकार कर लेते हैं मुझे तो लगता है क्या आपने खाए टाइपिंग में प्रॉब्लम की है कोई गलत पोस्ट कर दिया है क्योंकि मेरे को नहीं तो क्यों होना चाहिए था अधिकांश पत्नियां पति की गुलामी क्यों स्वीकार कर लेती हैं लेकिन अगर इसके बावजूद भी है आपका प्रश्न नहीं है जो आपने राइट किया है जैसे कि अधिकांश पति-पत्नी की गुलामी क्यों स्वीकार कर लेते हैं तो अपने आप में तो यह क्वेश्चन को गलत है क्योंकि यह हमारा इतिहास बताता है भारत का जितनी भी सारी आपको हमारी चाय प्राचीन काल से ले लीजिए पुरानी प्रथा सारी की सारी महिलाओं के खिलाफ है पतियों के खिलाफ तो कोई भी पता नहीं है सती प्रथा पति के मरने पर पत्नी को जिंदा जला दिया जाता था सती प्रथा लेकिन अगर पति को तो कुछ नहीं किया जाता तो पति दूसरी शादी कर लेता था कह दिया कि जिस से जीने का अधिकार नहीं है उसके साथ ही साथ ही कर दिया उसको साथ उसको जिंदा जला दिया तो यह भी पत्नी पर अत्याचार उसके बाल कट कर दिए जाते थे दीदी कर्मियों पर अत्याचार अच्छा फिर तो चाहे पति पत्नी की पत्नी ने की पति रहे इसमें बताइए पति तो बहुत ही वह अपने हैं वह तो शादी करके भी बेच रहा जहां मर्जी और घर पर उसकी बीवी उसकी बेटी बैठी हुई आप क्या लोगी गुलाम बनकर बैठी हुई है आजकल के समय में ले लीजिए के लिए कुछ बताएं हट गए हैं जैसे घुंघट प्रथा सती प्रथा किसने की प्रथा है चलो अब खत्म हो गई है कुछ जगह पर तो घूंघट प्रथा अभी भी है पत्नी चूल्हे पर काम करेंगे लेकिन घूंघट लंबा चौड़ा हुआ है तेरे लिए घुंघट लंबा चौड़ा है पति बाहर दोस्तों के साथ अय्याशी कर रहा है उसकी पत्नी का फोन आता है कि आप कब आएंगे क्लोज यहां पर उसके पति उसका मजाक उड़ाना शुरू कर देते हैं किसकी पत्नी का फोन आ गया कि जोरू का गुलाम अरे हमें तो जवाब देना पड़ेगा रे क्या हमारा मजाक खराब कर दिया अब पति का फोन आया किसकी पत्नी है शायद उसकी इंतजार कर रही है बच्चों की देखभाल कर रही है खाना बना कर बैठी हुई है उसकी वेट कर रही है कि कब आएगा पति और उसके बावजूद भी आप कहते हैं कि तभी हम गुना कमाल है
Namaskaar aapaka prashn hai adhikaansh pati-patnee kee gulaamee kyon sveekaar kar lete hain mujhe to lagata hai kya aapane khae taiping mein problam kee hai koee galat post kar diya hai kyonki mere ko nahin to kyon hona chaahie tha adhikaansh patniyaan pati kee gulaamee kyon sveekaar kar letee hain lekin agar isake baavajood bhee hai aapaka prashn nahin hai jo aapane rait kiya hai jaise ki adhikaansh pati-patnee kee gulaamee kyon sveekaar kar lete hain to apane aap mein to yah kveshchan ko galat hai kyonki yah hamaara itihaas bataata hai bhaarat ka jitanee bhee saaree aapako hamaaree chaay praacheen kaal se le leejie puraanee pratha saaree kee saaree mahilaon ke khilaaph hai patiyon ke khilaaph to koee bhee pata nahin hai satee pratha pati ke marane par patnee ko jinda jala diya jaata tha satee pratha lekin agar pati ko to kuchh nahin kiya jaata to pati doosaree shaadee kar leta tha kah diya ki jis se jeene ka adhikaar nahin hai usake saath hee saath hee kar diya usako saath usako jinda jala diya to yah bhee patnee par atyaachaar usake baal kat kar die jaate the deedee karmiyon par atyaachaar achchha phir to chaahe pati patnee kee patnee ne kee pati rahe isamen bataie pati to bahut hee vah apane hain vah to shaadee karake bhee bech raha jahaan marjee aur ghar par usakee beevee usakee betee baithee huee aap kya logee gulaam banakar baithee huee hai aajakal ke samay mein le leejie ke lie kuchh bataen hat gae hain jaise ghunghat pratha satee pratha kisane kee pratha hai chalo ab khatm ho gaee hai kuchh jagah par to ghoonghat pratha abhee bhee hai patnee choolhe par kaam karenge lekin ghoonghat lamba chauda hua hai tere lie ghunghat lamba chauda hai pati baahar doston ke saath ayyaashee kar raha hai usakee patnee ka phon aata hai ki aap kab aaenge kloj yahaan par usake pati usaka majaak udaana shuroo kar dete hain kisakee patnee ka phon aa gaya ki joroo ka gulaam are hamen to javaab dena padega re kya hamaara majaak kharaab kar diya ab pati ka phon aaya kisakee patnee hai shaayad usakee intajaar kar rahee hai bachchon kee dekhabhaal kar rahee hai khaana bana kar baithee huee hai usakee vet kar rahee hai ki kab aaega pati aur usake baavajood bhee aap kahate hain ki tabhee ham guna kamaal hai

#खेल कूद

bolkar speaker
सबसे बड़ा झूठा कौन है?Sabse Bada Jhutha Kaun Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:53
नमस्कार आप करके इसमें सबसे बड़ा झूठा कौन है सबसे बड़ा लायक कौन है तो दुनिया के सामने तो काफी लोग झूठ बोलते हैं अपने के से हट जाते हैं कि नहीं यह मैंने भी किया यह किसी और ने किया है या फिर किसी भी तरह का जो यह तो हो एक एक कॉमन झूठ बोलने वाले लोग लेकिन आपने पूछा है सबसे बड़ा झूठा कौन है जो सबसे बड़ा झूठा वह है जो दुनिया के सामने तो झूठ बोलता ही बोलता है लेकिन आपके साथ अपनी अपनी अपनी अंतरात्मा से अपने आप से भी वही झूठ बोलता है लफ्जों का बाद उससे किसी और से बोली है वही बात वह खुद को भी बोल रहा है अलग से पता है क्यों झूठ बोल रहा है यह जो बोल रहा है वह गलत है लेकिन वही बात से भी अपनी आता कभी वो सच में उसके आत्मविश्वास को अश्लील नहीं कर रही है लेकिन फिर भी बोल रहा है अब मैं आपसे तो दुनिया का सबसे बड़ा झूठा नहीं है मेरे सामने तो कोई लोग बाहर ही मुखौटा पहन लेते हैं घर आकर तो फिर भी सब अपना मुखड़ा उतार देते हैं लेकिन जो घर पर भी वही मुखौटा पहने मुझे तो एक दूसरा की फीस सकें वह दुनिया का सबसे बड़ा झूठा है जो खुद के लिए ही होता है वह रोटी लेकर आऊंगा तो मेरी नजर में दुनिया का सबसे बड़ा झूठा वही व्यक्ति है जो खुद से अपनी अंतरात्मा से अपने आईने से खुद झूठ बोलता है वही है अगर आपको मेरा जवाब पसंद आया हो तो लाइक करें धन्यवाद
Namaskaar aap karake isamen sabase bada jhootha kaun hai sabase bada laayak kaun hai to duniya ke saamane to kaaphee log jhooth bolate hain apane ke se hat jaate hain ki nahin yah mainne bhee kiya yah kisee aur ne kiya hai ya phir kisee bhee tarah ka jo yah to ho ek ek koman jhooth bolane vaale log lekin aapane poochha hai sabase bada jhootha kaun hai jo sabase bada jhootha vah hai jo duniya ke saamane to jhooth bolata hee bolata hai lekin aapake saath apanee apanee apanee antaraatma se apane aap se bhee vahee jhooth bolata hai laphjon ka baad usase kisee aur se bolee hai vahee baat vah khud ko bhee bol raha hai alag se pata hai kyon jhooth bol raha hai yah jo bol raha hai vah galat hai lekin vahee baat se bhee apanee aata kabhee vo sach mein usake aatmavishvaas ko ashleel nahin kar rahee hai lekin phir bhee bol raha hai ab main aapase to duniya ka sabase bada jhootha nahin hai mere saamane to koee log baahar hee mukhauta pahan lete hain ghar aakar to phir bhee sab apana mukhada utaar dete hain lekin jo ghar par bhee vahee mukhauta pahane mujhe to ek doosara kee phees saken vah duniya ka sabase bada jhootha hai jo khud ke lie hee hota hai vah rotee lekar aaoonga to meree najar mein duniya ka sabase bada jhootha vahee vyakti hai jo khud se apanee antaraatma se apane aaeene se khud jhooth bolata hai vahee hai agar aapako mera javaab pasand aaya ho to laik karen dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
हमारे समाज में वर्दी की क्या आवश्यकता है?Hamare Samaj Mein Vardi Ki Kya Aavashyakta Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:27
नमस्कार आप लोग कैसे हैं हमारे समाज में बढ़ती की क्या आवश्यकता है वर्दी ज्ञानी यूनिफॉर्म यूनिफॉर्म से ही बनता है यूनिफॉर्म मिट्टी क्योंकि एक समान बर्थडे की बहुत ज्यादा आवश्यकता है ताकि तू कुछ लोग दिखावा ना कर पाए कुछ लोग अपने आप को लो ना फिकर पर कुछ लोग अपने आप को पालना इनफॉर्मेटिक यूनीफामिटी रहे अब स्कूल में क्यों सबके यूनिफॉर्म होती है कि उन सब की वृद्धि होती है सब बच्चों की कुछ लोग बहुत ही रिश्ता में से बच्चे ब्रिज सामने से बिलॉन्ग करते हैं और कुछ पर चित्र लोग सामने से मीडियम से बिलॉन्ग करते हैं तो आप सपोर्ट करें हम उनकी यूनिफॉर्म मगर नहीं लगाते हैं तो हमें तो क्या होगा कुछ वाईफाई इस तरह के बनकर आएंगे कुछ बहुत ही सिंपल आएंगे तो उनमें क्या भाई ऊंच नीच की भावना आपस में पैदा होगी तो वह हाईप्रोफाइल वाले लोग होता है ओथेलो हैं उनका मजाक उड़ाएंगे इसलिए मीटिंग की बहुत ज्यादा आवश्यकता है इनमें से कैरियर स्कूल द्वारा नहीं नहीं आगे जाकर भी एक लोगों को भी आप एक यूनिफॉर्म मीटिंग रखनी चाहिए जिससे कि वह सिर्फ अपना पैसा आता है क्योंकि सबसे गंदी चीज पैसा होती है जब वही लोग दिखाते हैं यूनिफॉर्म भी हो जाएगी हो जाएगी हाई रैंक पर भी भर्ती हो जाए तो सब में एक समान आएगी ऊंच-नीच को बढ़ाती रहीं हैं और लोगों को सब एक दूसरे को समान था अब से देखेंगे एक दूसरे को समान लाइन से देखेंगे ना कोई किसी को यह ब्रदर शो करेगा कि मैं आई हूं ना कोई भी कभी किसी को यह पता चलेगा यह बहुत ही अर्जेंट है इस तरह से है तू एक समान सोच के लिए और कुछ नहीं इसको बढ़ावा देना देने के लिए हमारे समाज को भर्ती की आवश्यकता है और स्कूल में ही नहीं मैं तो यह बोलूंगी आगे यूनिवर्सिटी कॉलेज उतारा एजुकेशन कि हर लाइन में आवर्ती जरूर होनी चाहिए और स्पेशली देखी स्कूल स्कूल टीचर्स की भी यूनिफॉर्म होती है ऑफिस में उनके एंप्लॉय हैं उनकी भी यूनिफॉर्म होती है तो यूनिफॉर्म होना बहुत जरूरी है इसके सब एक दूसरे के प्रति समान व्यवहार करते हैं धन्यवाद
Namaskaar aap log kaise hain hamaare samaaj mein badhatee kee kya aavashyakata hai vardee gyaanee yooniphorm yooniphorm se hee banata hai yooniphorm mittee kyonki ek samaan barthade kee bahut jyaada aavashyakata hai taaki too kuchh log dikhaava na kar pae kuchh log apane aap ko lo na phikar par kuchh log apane aap ko paalana inaphormetik yooneephaamitee rahe ab skool mein kyon sabake yooniphorm hotee hai ki un sab kee vrddhi hotee hai sab bachchon kee kuchh log bahut hee rishta mein se bachche brij saamane se bilong karate hain aur kuchh par chitr log saamane se meediyam se bilong karate hain to aap saport karen ham unakee yooniphorm magar nahin lagaate hain to hamen to kya hoga kuchh vaeephaee is tarah ke banakar aaenge kuchh bahut hee simpal aaenge to unamen kya bhaee oonch neech kee bhaavana aapas mein paida hogee to vah haeeprophail vaale log hota hai othelo hain unaka majaak udaenge isalie meeting kee bahut jyaada aavashyakata hai inamen se kairiyar skool dvaara nahin nahin aage jaakar bhee ek logon ko bhee aap ek yooniphorm meeting rakhanee chaahie jisase ki vah sirph apana paisa aata hai kyonki sabase gandee cheej paisa hotee hai jab vahee log dikhaate hain yooniphorm bhee ho jaegee ho jaegee haee raink par bhee bhartee ho jae to sab mein ek samaan aaegee oonch-neech ko badhaatee raheen hain aur logon ko sab ek doosare ko samaan tha ab se dekhenge ek doosare ko samaan lain se dekhenge na koee kisee ko yah bradar sho karega ki main aaee hoon na koee bhee kabhee kisee ko yah pata chalega yah bahut hee arjent hai is tarah se hai too ek samaan soch ke lie aur kuchh nahin isako badhaava dena dene ke lie hamaare samaaj ko bhartee kee aavashyakata hai aur skool mein hee nahin main to yah boloongee aage yoonivarsitee kolej utaara ejukeshan ki har lain mein aavartee jaroor honee chaahie aur speshalee dekhee skool skool teechars kee bhee yooniphorm hotee hai ophis mein unake employ hain unakee bhee yooniphorm hotee hai to yooniphorm hona bahut jarooree hai isake sab ek doosare ke prati samaan vyavahaar karate hain dhanyavaad

#जीवन शैली

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:22
नमस्कार आपका प्रश्न है कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं उन्हें अपने आपको लोग प्रोफाइल क्यों करते हैं क्यों रखते हैं वैसे तो आपके पर क्यों नहीं आता आता है क्योंकि वह अपने आप को लो प्रोफाइल रखते हैं इसलिए है क्योंकि वह काफी बुद्धिमान है समझ चुके हैं कि बाहरी दुनिया में कुछ नहीं है जो कुछ है आपके अंदर का जवाब का ज्ञान है आपका स्क्रीन है आप के गुण हैं वही सब कुछ है आपका पहनावा आपकी और ऊपर का शो आप की कोठी बंगला बनावट कि सब कुछ मायने नहीं रखती है अब जीवन की खुले को पहचान चुके हैं जो लोग काफी बुद्धिमान है वैसे तो कुछ लोगों ने काफी लोग हैं हमारे सिद्धियां में देखते हैं मैं भी इनके सूची में आना चाहती हूं देखते हैं कब आऊंगी या कब ऐसा कुछ हो पाएगा लेकिन जो लोग बुद्धिमान है जो मेरे नोटिस किया है चलो काफी अच्छे वाले वेल एजुकेटेड होते हैं उनका पहनावा बहुत ही सादा होता है सिंपल टॉप करते हैं तो वह समझ चुके होते हैं जीवन के अर्थ को कि हम मनुष्य जीवन में क्यों आए हैं हमारा इस काम में लो दृश्य क्या है उसी के अनुसार चलते हैं तो जब हम इश्क मुल्ले को पहचान जाते हैं तो हम बुद्धिमान व्यक्तियों की श्रेणी में आ जाते हैं तो आप हमें हाई प्रोफाइल इन सब चीजें ऊपरी दिखावा जो उससे हमें कोई लेना देना नहीं होता है उन लोगों को इसलिए अपना प्रोफाइल होते हैं जो प्रोफाइल समझ लो नहीं होता बल्कि ठोस पहुंची हैं आपके विचार होते हैं और आपके लिविंग बिल्कुल ही सिंपल है अब हमारे कोई पुराने फ्रीडम फाइटर्स को ही ले लीजिए और लोगों को ले लीजिए कितने भी हमारे इस तरह के साइंटिस्ट को भी ले लीजिए कुछ भी बिल्कुल सिंपल रहते हैं इनमें एक बहुत अच्छे डॉक्टर को जानती हूं जो अपने हॉस्पिटल के हेड है वहां के डायरेक्टर हैं पर मैं उनके लिए मैं देखती हूं की क्लोजिंग देखती हूं एकदम सिंपल होती है अपना पूरा ध्यान रखें पेशेंट क्यों गए थे डेडीकेटेड होते हैं और बोलने में बहुत अच्छे स्माइली सिंपल बोलते हैं वह किसी का शौक नहीं करते हैं अगर आपको मेरा आंसर अच्छा लगा हो तो लाइक करें थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain unhen apane aapako log prophail kyon karate hain kyon rakhate hain vaise to aapake par kyon nahin aata aata hai kyonki vah apane aap ko lo prophail rakhate hain isalie hai kyonki vah kaaphee buddhimaan hai samajh chuke hain ki baaharee duniya mein kuchh nahin hai jo kuchh hai aapake andar ka javaab ka gyaan hai aapaka skreen hai aap ke gun hain vahee sab kuchh hai aapaka pahanaava aapakee aur oopar ka sho aap kee kothee bangala banaavat ki sab kuchh maayane nahin rakhatee hai ab jeevan kee khule ko pahachaan chuke hain jo log kaaphee buddhimaan hai vaise to kuchh logon ne kaaphee log hain hamaare siddhiyaan mein dekhate hain main bhee inake soochee mein aana chaahatee hoon dekhate hain kab aaoongee ya kab aisa kuchh ho paega lekin jo log buddhimaan hai jo mere notis kiya hai chalo kaaphee achchhe vaale vel ejuketed hote hain unaka pahanaava bahut hee saada hota hai simpal top karate hain to vah samajh chuke hote hain jeevan ke arth ko ki ham manushy jeevan mein kyon aae hain hamaara is kaam mein lo drshy kya hai usee ke anusaar chalate hain to jab ham ishk mulle ko pahachaan jaate hain to ham buddhimaan vyaktiyon kee shrenee mein aa jaate hain to aap hamen haee prophail in sab cheejen ooparee dikhaava jo usase hamen koee lena dena nahin hota hai un logon ko isalie apana prophail hote hain jo prophail samajh lo nahin hota balki thos pahunchee hain aapake vichaar hote hain aur aapake living bilkul hee simpal hai ab hamaare koee puraane phreedam phaitars ko hee le leejie aur logon ko le leejie kitane bhee hamaare is tarah ke saintist ko bhee le leejie kuchh bhee bilkul simpal rahate hain inamen ek bahut achchhe doktar ko jaanatee hoon jo apane hospital ke hed hai vahaan ke daayarektar hain par main unake lie main dekhatee hoon kee klojing dekhatee hoon ekadam simpal hotee hai apana poora dhyaan rakhen peshent kyon gae the dedeeketed hote hain aur bolane mein bahut achchhe smailee simpal bolate hain vah kisee ka shauk nahin karate hain agar aapako mera aansar achchha laga ho to laik karen thaink yoo

#जीवन शैली

bolkar speaker
आदमी जीवन में निराश क्यों होता है?Admi Jeevan Mein Niraash Kyun Hota Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:15
नमस्कार आपका प्रश्न है आदमी जीवन में निराश क्यों होता है यह बहुत ही कॉमन है और सब के साथ होता है तो इसका एक बहुत ही सिंपल आंसर है कि आदमी जीवन में इससे निराश होता है क्योंकि उस जैसा वह चाहता है परिस्थितियों उसके अनुसार वैसी नहीं हो पाती हैं जो पाना चाहता है उसे वह नहीं मिलता वो जीवन जीना चाहता है वैसा नहीं जी पाते जैसा जीवन साथी वह चाहता है कि जीवन साथी से जो एक स्पष्ट करता है उसके प्रत्येक क्षण के अनुसार व्यसन नहीं हो पाता चितरंगी जो चाहता है वैसा नहीं कर पाता दूसरे को प्यार जाता है नहीं हो पाता कई बार हम दूसरों से अब मिल जाए टेंशन हम चाहते हैं कि हमारे बिना बोले हमें अदाएं सुन मिले तो भी नहीं हो पाती तो ऐसे कोई रीज़न है जिसकी वजह से कोई भी प्रसाद इस अ पॉइंट हो जाता है उसमें चाहे मैं भी कर रहा हूं कई बार आपका बचपन में ऐसा नहीं मिल पाता आपकी फ्रेंड सब को कहते हैं कि अरे उनका दिन तो बहुत हैपनिंग रहा उनका बर्थडे है सारा उनका पैसा है सारा हमारी जब सराउंडिंग सब लोग ऐसे बोलते हैं तो हम ऑटोमेटिक हमारे अंदर भी इस तरह का मतलब फीलिंग आती है क्योंकि हमारा भी बर्थडे आ रहा है टिक टैक ऐसा चाहता है तो हम उसके कोडिंग अपना भी वैसा सोच लेते हैं क्योंकि नियर बाय सोच लेते हैं कि जैसे हमारी फ्रेंड के साथ हुआ उसके कहीं नियर बाय हमारे साथ भी हो गया उससे अच्छा भी होगा हम जनरल इंजेक्टिव पहले नहीं सोचेंगे यहां पर हम अपनी सोचेंगे कि हमारे को बहुत अच्छा लेकिन वैसा होता नहीं है या केवल तो कुछ भी नहीं होता है यह कई बार बहुत बुरा भी हो जाता है तो हम निराश हो जाते हैं कई बार हम जो जॉब करना चाहते हैं यह जिस तरह कम हम कोई काम करना चाहते हैं हम बहुत प्यार करते हैं बार-बार आप चाहते हैं मगर फिर भी वह काम पूरा नहीं हो पाता तो हम यह सारा दोष हम जख्मी पर भी डाल देते हैं हम उसके बाद भी हम भी पॉइंट हो जाते हैं तो बेसिकली तो इसमें यही है कि हमारी भी पूरी ना होने पर या जैसा हम चाहते हैं वैसा ना होने पर ही आदमी निराश होता है अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा तो लाइक करें थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai aadamee jeevan mein niraash kyon hota hai yah bahut hee koman hai aur sab ke saath hota hai to isaka ek bahut hee simpal aansar hai ki aadamee jeevan mein isase niraash hota hai kyonki us jaisa vah chaahata hai paristhitiyon usake anusaar vaisee nahin ho paatee hain jo paana chaahata hai use vah nahin milata vo jeevan jeena chaahata hai vaisa nahin jee paate jaisa jeevan saathee vah chaahata hai ki jeevan saathee se jo ek spasht karata hai usake pratyek kshan ke anusaar vyasan nahin ho paata chitarangee jo chaahata hai vaisa nahin kar paata doosare ko pyaar jaata hai nahin ho paata kaee baar ham doosaron se ab mil jae tenshan ham chaahate hain ki hamaare bina bole hamen adaen sun mile to bhee nahin ho paatee to aise koee reezan hai jisakee vajah se koee bhee prasaad is a point ho jaata hai usamen chaahe main bhee kar raha hoon kaee baar aapaka bachapan mein aisa nahin mil paata aapakee phrend sab ko kahate hain ki are unaka din to bahut haipaning raha unaka barthade hai saara unaka paisa hai saara hamaaree jab saraunding sab log aise bolate hain to ham otometik hamaare andar bhee is tarah ka matalab pheeling aatee hai kyonki hamaara bhee barthade aa raha hai tik taik aisa chaahata hai to ham usake koding apana bhee vaisa soch lete hain kyonki niyar baay soch lete hain ki jaise hamaaree phrend ke saath hua usake kaheen niyar baay hamaare saath bhee ho gaya usase achchha bhee hoga ham janaral injektiv pahale nahin sochenge yahaan par ham apanee sochenge ki hamaare ko bahut achchha lekin vaisa hota nahin hai ya keval to kuchh bhee nahin hota hai yah kaee baar bahut bura bhee ho jaata hai to ham niraash ho jaate hain kaee baar ham jo job karana chaahate hain yah jis tarah kam ham koee kaam karana chaahate hain ham bahut pyaar karate hain baar-baar aap chaahate hain magar phir bhee vah kaam poora nahin ho paata to ham yah saara dosh ham jakhmee par bhee daal dete hain ham usake baad bhee ham bhee point ho jaate hain to besikalee to isamen yahee hai ki hamaaree bhee pooree na hone par ya jaisa ham chaahate hain vaisa na hone par hee aadamee niraash hota hai agar aapako mera javaab achchha laga to laik karen thaink yoo

#जीवन शैली

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:40
नमस्कार आपको पता है ना कि मुझे अपनी छोटी-छोटी पुरानी बातें भी याद है मगर जिस दिन से आपको अंडरवर्ल्ड रखा गया तो वहां उस दिन से आपकी कोई मैं भी उस तरह से नहीं हो पाती कि आप केवल आपकी याददाश्त कमजोर हो गई है कि आपको कुछ भी याद नहीं है तुझ से बात की है कि आपको भी छोटी-छोटी पुरानी बातें याद हैं क्योंकि उस टाइम आप उस कमेंट को उनके जो भी उम्र से आपके अच्छे या बुरे आप लोगों को अच्छे से किया है आपका ध्यान डाइवर्ट नहीं हुआ है और वह मैं भी इतनी कम थी कि आपके प्रेम में अच्छे से दूर हो गए अब आपको लगता है कि आप अंडर वॉच हैं आपके पर कोई वॉच की जा रही है आपके ऊपर कोई नजर रख रहा है या कोई की रानी है अंजलि हम ऑफिस में वर्क करते हैं तो चारों तरफ कैमरा होते हैं तो हमें बनावटी रोल थोड़ा सा पेश करते हैं हम वह नहीं होते हैं तो हम खुद वैसे जैसे हम हैं वैसा नहीं हूं करते हैं हम उनके अकॉर्डिंग्ली भी हेल्प करते हैं तो उस तरह की मेमोरी में हम थोड़े से कोई चीज हो जाते हैं और मैं अभी पूरी तरह से कम नहीं होती है टूटी-फूटी होती है धीरे-धीरे विलुप्त हो जाता है तो जिस में हम इंस्ट्रूमेंट जिसमें हम हमारी तो कोई बात नहीं है हम कॉन्शियस नहीं होते अच्छे से हमको लीव करते हैं वह मेमोरी हमारी सॉन्ग रहेगी और अच्छे से हो तो हो जाएगी क्योंकि हमारा ध्यान डाइवर्ट नहीं हुआ है लेकिन अगर आपको पता है कि आप अंडरवाटर तो आपका ध्यान डाइवर्ट रहेगा आप उन मोमेंट्स को पूरी तरह से जी नहीं पाएंगे एक तो आपकी भी हमें आपकी आंखों से बनावट आएगी क्योंकि आपको पता है क्या आप अंदर हो अच्छा है और इसलिए आपका ध्यान विशेष में डाइवर्ट होता रहेगा तो मैं ब्लॉक भी होंगे और आपका जैसे अटेंशन डाइवर्ट ओग्गी इन सब की वजह से आपकी मैं भी बहुत ही छोटी छोटी चीजों में आएगी आपके प्रेम में और वह थोड़े टाइम बाद वह अपने आप ही वहां से गिरे सोचा है कि सिर्फ यही है सीजन जब आपकी कुछ ऐसे स्ट्रांग हेमरेज जिसमें आफ कॉन्शियस नहीं होते हैं तो वह आपके दिन व्यस्त हो जाती है बहुत अच्छे से इसमें कोई शक नहीं है और बनावट है जैसे कि आपके हैं क्या वंडरवॉश है तो उसके बाद इस तरह कि मैं अभी हमारे ब्रेन में ढंग से सो नहीं हो पाती है अगर आपको अच्छा लगे तो प्लीज लाइक करें थैंक यू
Namaskaar aapako pata hai na ki mujhe apanee chhotee-chhotee puraanee baaten bhee yaad hai magar jis din se aapako andaravarld rakha gaya to vahaan us din se aapakee koee main bhee us tarah se nahin ho paatee ki aap keval aapakee yaadadaasht kamajor ho gaee hai ki aapako kuchh bhee yaad nahin hai tujh se baat kee hai ki aapako bhee chhotee-chhotee puraanee baaten yaad hain kyonki us taim aap us kament ko unake jo bhee umr se aapake achchhe ya bure aap logon ko achchhe se kiya hai aapaka dhyaan daivart nahin hua hai aur vah main bhee itanee kam thee ki aapake prem mein achchhe se door ho gae ab aapako lagata hai ki aap andar voch hain aapake par koee voch kee ja rahee hai aapake oopar koee najar rakh raha hai ya koee kee raanee hai anjali ham ophis mein vark karate hain to chaaron taraph kaimara hote hain to hamen banaavatee rol thoda sa pesh karate hain ham vah nahin hote hain to ham khud vaise jaise ham hain vaisa nahin hoon karate hain ham unake akordinglee bhee help karate hain to us tarah kee memoree mein ham thode se koee cheej ho jaate hain aur main abhee pooree tarah se kam nahin hotee hai tootee-phootee hotee hai dheere-dheere vilupt ho jaata hai to jis mein ham instrooment jisamen ham hamaaree to koee baat nahin hai ham konshiyas nahin hote achchhe se hamako leev karate hain vah memoree hamaaree song rahegee aur achchhe se ho to ho jaegee kyonki hamaara dhyaan daivart nahin hua hai lekin agar aapako pata hai ki aap andaravaatar to aapaka dhyaan daivart rahega aap un moments ko pooree tarah se jee nahin paenge ek to aapakee bhee hamen aapakee aankhon se banaavat aaegee kyonki aapako pata hai kya aap andar ho achchha hai aur isalie aapaka dhyaan vishesh mein daivart hota rahega to main blok bhee honge aur aapaka jaise atenshan daivart oggee in sab kee vajah se aapakee main bhee bahut hee chhotee chhotee cheejon mein aaegee aapake prem mein aur vah thode taim baad vah apane aap hee vahaan se gire socha hai ki sirph yahee hai seejan jab aapakee kuchh aise straang hemarej jisamen aaph konshiyas nahin hote hain to vah aapake din vyast ho jaatee hai bahut achchhe se isamen koee shak nahin hai aur banaavat hai jaise ki aapake hain kya vandaravosh hai to usake baad is tarah ki main abhee hamaare bren mein dhang se so nahin ho paatee hai agar aapako achchha lage to pleej laik karen thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या अंग्रेजी सीखना बिना अंग्रेजी ग्रामर के संभव है?Kya Angreji Seekhna Bina Angreji Grammer Ke Sambhav Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:28
हेलो आपका क्वेश्चन है इस इट पॉसिबल टू लर्न इंग्लिश किताब ग्रामर तो ग्रामर के बिना इंग्लिश सीखना आसान पॉसिबल है या नहीं आपका क्वेश्चन डिफाइन व्हाट इस पॉसिबल टू लर्न इंग्लिश इन करता है आपके ऊपर आपके ऊपर अब आप बताइए जो श्याम इंडिया में है और मैं नॉर्थ साइड से बिलॉन्ग करती हूं तो यहां पर जो सब बोलते हैं वह मदर टेन हिंदी है अब जब मैं मतलब जब हस्बैंड टाइम जैसे जैसे मैं ग्रुप हमारे सामने सब हिंदी यूज़ करते थे ऑटोमेटिक कि मुझे हिंदी आ गई तो क्या मैंने कहा मुझसे कि हिंदी ग्रामर नहीं सीखी नंबर मुझे फिर भी हिंदी बोलने आ गई हमारी तरफ का जैसा एनवायरमेंट होता है जैसा कल्चर होता है आज चारों तरफ जैसे लोगों का सपोर्ट और होता है हम आटोमेटिक के लिए वह लैंग्वेज सीख जाते हैं अब जिन कंट्रीज की मदर टंग इंग्लिश है वह बचेंगे स्टेशन जाते हैं अपने आप ही छोटे होते से ही वह बड़े ही सीमेंट इंग्लिश बोलना सीख जाते हैं और आप के चारों तरफ से एडवांस में रहता है और आपके घर में इंग्लिश स्पोकन है तो आपको ग्रामर की न्यूज़ नहीं है अगर शुरू से ही सारे व्हाट्स इंग्लिश के प्रॉपर भी हम इंग्लिश में टाइप करते हो तब तो ग्रामर कि नहीं नहीं है आपका मदर टंग ऐसा होना चाहिए आपका सराउंडिंग वैसा होना चाहिए तो ग्रामर की नहीं नहीं है किसी भी लायक हो इसमें थैंक यू
Helo aapaka kveshchan hai is it posibal too larn inglish kitaab graamar to graamar ke bina inglish seekhana aasaan posibal hai ya nahin aapaka kveshchan diphain vhaat is posibal too larn inglish in karata hai aapake oopar aapake oopar ab aap bataie jo shyaam indiya mein hai aur main north said se bilong karatee hoon to yahaan par jo sab bolate hain vah madar ten hindee hai ab jab main matalab jab hasbaind taim jaise jaise main grup hamaare saamane sab hindee yooz karate the otometik ki mujhe hindee aa gaee to kya mainne kaha mujhase ki hindee graamar nahin seekhee nambar mujhe phir bhee hindee bolane aa gaee hamaaree taraph ka jaisa enavaayarament hota hai jaisa kalchar hota hai aaj chaaron taraph jaise logon ka saport aur hota hai ham aatometik ke lie vah laingvej seekh jaate hain ab jin kantreej kee madar tang inglish hai vah bachenge steshan jaate hain apane aap hee chhote hote se hee vah bade hee seement inglish bolana seekh jaate hain aur aap ke chaaron taraph se edavaans mein rahata hai aur aapake ghar mein inglish spokan hai to aapako graamar kee nyooz nahin hai agar shuroo se hee saare vhaats inglish ke propar bhee ham inglish mein taip karate ho tab to graamar ki nahin nahin hai aapaka madar tang aisa hona chaahie aapaka saraunding vaisa hona chaahie to graamar kee nahin nahin hai kisee bhee laayak ho isamen thaink yoo

#जीवन शैली

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:22
नमस्कार आपका प्रश्न है बीमार व्यक्ति के सामने किस प्रकार की बातें नहीं करनी चाहिए जो अक्सर लोग कहते हैं ऐसी बात तो सही है बीमार व्यक्ति के सामने तो आप खुद ही पेशेंट है अपनी बीमारी से खुद ही परेशान है और हम जा रहे हैं चलिए हम उसका हालचाल पता करने जा रहे हैं हम एक बिगिनिंग तो कर सकते हैं हल्की फुल्की मगर सबसे पहले हम उससे बड़े ही अच्छी बेबी अतिक्रमण से नामली बस से मिलना चाहिए जैसे हम मिलते हैं हम यह सोचते हैं कि वह बीमार है और हम सब पता करने जा रहे हैं और हमें उसके सामने उसकी बीमारी को लेकर डीप में नहीं जाना चाहिए उसे नुस्खे ज्यादा नहीं बता नहीं चाहिए क्योंकि वह पर्सनैलिटी अभी बीमारी को लेकर काफी परेशान है और जो भी लोग आते होंगे सब उसकी बीमारी के लिए गाड़ी की बात करते होंगे कि आप ऐसा कर लीजिए आप उधर दिखा लीजिए आप ऐसे कर लीजिए वैसे कर लीजिए लेकिन जैसे-जैसे शाम बीमारी होती ऐसी काफी हद तक मारता है उसे मतलब फ्री के डॉक्टर भी बहुत मिल जाते हैं और तलाक देने वाले तो बहुत ही ज्यादा मिल जाते हैं एडवाइजर बहुत ज्यादा उसके पास होते हैं तो मैं तो सब से यही रिक्वेस्ट करूंगी अभी भी है मेरी और नाखून कैसे करती हो और कोई व्यक्ति पहले से ही बीमार है तो उसके सामने कम से कम उसकी बीमारी के रिगार्डिंग बात मत करें उसके सामने बड़ी की जोड़ी रे छन भर रहा है क्या खास बातें करें आउट ऑफ द वे जागकर कोशिश करें क्या अभी तक टाइम उसके साथ रहे और इस्माइल करता रे आप स्माइल करते एकदम से ही आप तो आप चुप जाएंगे वहां से तो वह बड़ा खुश होगा अंदर ही अंदर तो अपने आप को नार्मल महसूस करेगा इससे उसकी वीवो व 20 कम होगी अगर हम लोग चाहते हैं और हम उसी की बीमारी के बाद में बात करते हैं कि कितना टाइम हो गया ऐसे क्या करो कि डॉक्टर को दिखा रहे हो यार और में जाते हैं तो इससे और व्यक्ति सामने वाला स्पीड प्रश्न आ जाता है तो हमें उसे बीमारी को छोड़कर बाकी सारी हल्की इधर उधर की कुल बातें करनी चाहिए आते रहना चाहिए एक तो टाइम कोचिंग करके आना चाहिए जिससे कि उसका जो उसकी जो विल पावर है वह बड़े की और अपनी बीमारी को जल्दी से रिकवर कर पाएगा थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai beemaar vyakti ke saamane kis prakaar kee baaten nahin karanee chaahie jo aksar log kahate hain aisee baat to sahee hai beemaar vyakti ke saamane to aap khud hee peshent hai apanee beemaaree se khud hee pareshaan hai aur ham ja rahe hain chalie ham usaka haalachaal pata karane ja rahe hain ham ek bigining to kar sakate hain halkee phulkee magar sabase pahale ham usase bade hee achchhee bebee atikraman se naamalee bas se milana chaahie jaise ham milate hain ham yah sochate hain ki vah beemaar hai aur ham sab pata karane ja rahe hain aur hamen usake saamane usakee beemaaree ko lekar deep mein nahin jaana chaahie use nuskhe jyaada nahin bata nahin chaahie kyonki vah parsanailitee abhee beemaaree ko lekar kaaphee pareshaan hai aur jo bhee log aate honge sab usakee beemaaree ke lie gaadee kee baat karate honge ki aap aisa kar leejie aap udhar dikha leejie aap aise kar leejie vaise kar leejie lekin jaise-jaise shaam beemaaree hotee aisee kaaphee had tak maarata hai use matalab phree ke doktar bhee bahut mil jaate hain aur talaak dene vaale to bahut hee jyaada mil jaate hain edavaijar bahut jyaada usake paas hote hain to main to sab se yahee rikvest karoongee abhee bhee hai meree aur naakhoon kaise karatee ho aur koee vyakti pahale se hee beemaar hai to usake saamane kam se kam usakee beemaaree ke rigaarding baat mat karen usake saamane badee kee jodee re chhan bhar raha hai kya khaas baaten karen aaut oph da ve jaagakar koshish karen kya abhee tak taim usake saath rahe aur ismail karata re aap smail karate ekadam se hee aap to aap chup jaenge vahaan se to vah bada khush hoga andar hee andar to apane aap ko naarmal mahasoos karega isase usakee veevo va 20 kam hogee agar ham log chaahate hain aur ham usee kee beemaaree ke baad mein baat karate hain ki kitana taim ho gaya aise kya karo ki doktar ko dikha rahe ho yaar aur mein jaate hain to isase aur vyakti saamane vaala speed prashn aa jaata hai to hamen use beemaaree ko chhodakar baakee saaree halkee idhar udhar kee kul baaten karanee chaahie aate rahana chaahie ek to taim koching karake aana chaahie jisase ki usaka jo usakee jo vil paavar hai vah bade kee aur apanee beemaaree ko jaldee se rikavar kar paega thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अंग्रेजी के शब्द पुश (push) और पुल (pull) के बीच अंतर क्या है?Angreji Ke Shabd Push Push Aur Pull Pull Ke Beech Antar Kya Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:32
काश आपका प्रश्न है अंग्रेजी के शब्द के बीच अंतर क्या है अब आप यह बताइए कि आप इनके मीनिंग क्वेश्चन वर्ड नहीं है टाइपिंग करते हैं एक हैप्पी यू दूसरा हैप्पी यू डब्ल्यू कॉम एंड है तो एच ऑफ द डिफरेंस तो आप दूसरे डिफरेंस हिंदी में आता है और एक मिला होता है इसमें लड़ाई होता है तो यह आपकी वॉइस रिकॉर्डिंग भी बोलने में आप के परिणाम से रिकॉर्डिंग ली आपकी बात बेसिक में डिफरेंस होता है कि मीनिंग का पुश पुश जाने किस-किस को धक्का देना और किसी चीज को अपनी तरफ खींचना जो लिखा होता है जैसे किसी डिपार्टमेंट शौर्य किसी भी मतलब हम किसी शॉप पर के शॉपिंग मॉल पर चाहती हैं यह पोस्ट आपको वहां पर मैच होगा स्कूल में सुनो का यह फ्लाइट में चलूंगा तो कुछ होगा तो आपको उस चोर को अंदर की तरफ धक्का देकर फिर एंट्री करनी है अगर पुल होगा वह मैं तो आपको उस दौर को उसका हैंडल को अपनी तरफ किसके तब उसे खोलना है कुछ न्यूज़ दिखा देना और कल मैं आपको उसको अपनी तरफ खींचना यह इनकी मीनिंग का डिफरेंस है थैंक यू
Kaash aapaka prashn hai angrejee ke shabd ke beech antar kya hai ab aap yah bataie ki aap inake meening kveshchan vard nahin hai taiping karate hain ek haippee yoo doosara haippee yoo dablyoo kom end hai to ech oph da dipharens to aap doosare dipharens hindee mein aata hai aur ek mila hota hai isamen ladaee hota hai to yah aapakee vois rikording bhee bolane mein aap ke parinaam se rikording lee aapakee baat besik mein dipharens hota hai ki meening ka push push jaane kis-kis ko dhakka dena aur kisee cheej ko apanee taraph kheenchana jo likha hota hai jaise kisee dipaartament shaury kisee bhee matalab ham kisee shop par ke shoping mol par chaahatee hain yah post aapako vahaan par maich hoga skool mein suno ka yah phlait mein chaloonga to kuchh hoga to aapako us chor ko andar kee taraph dhakka dekar phir entree karanee hai agar pul hoga vah main to aapako us daur ko usaka haindal ko apanee taraph kisake tab use kholana hai kuchh nyooz dikha dena aur kal main aapako usako apanee taraph kheenchana yah inakee meening ka dipharens hai thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
किन बातों पर विचार करना वास्तव में कठिन है और क्यों?Kin Baaton Par Vichaar Karna Vaastav Mein Kathin Hai Aur Kyun
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:37
आपका प्रश्न बैंक इन बातों पर विचार करना वासना में कठिन है और क्यों इसी के लिए आजकल तो मुद्दे हैं जिन पर विचार करना कठिन है सबसे पहला तो आजकल बच्चे जो हैं या बड़े भी हो गए कुछ ऐसे लोग यह मिथलेश वाले लोग कि हम कौन सा धर्म चुने और क्यों चुने रीति रिवाज मानें तो क्यों माने ऐसे करें तो क्यों करने को क्यों होली बुक स्कूल चाहिए गीता रामायण महाभारता यह बाइबल या कोई भी ऐसी बुक है वह वेद हमारी चार वेद है उन सबको वह सिर्फ एक कहानी कितने लेते हैं ढेर सारी करते नहीं है अधूरा ज्ञान हमेशा खतरनाक होता है तो उनके लिए तो यही मेरी राय होगी कि पहले आप अपना ज्ञान पूरा करें उसके बाद आप इस बारे में सोचे क्योंकि वह हर बात को लॉजिक के साथ दूसरा सबसे बड़ा मुद्दा यह है कि हमारे बच्चे आगे फ्यूचर में क्या ने क्या बने क्या करें यह पेड़ से सोचते हैं ज्ञान पर खुश होते हैं और बच्चे भी क्योंकि बहुत मुश्किल कंपटीशन का टाइम है बाकी क्या बनना चाहते हैं और कितना कंपटीशन है कितनी परसेंटेज है उनके इस में आने की तो यह सब देखते नहीं वाकई यह बहुत ही टर्न ओन है कोई इंजीनियर की इंजीनियरिंग में जाना चाहता है कोई मेडिकल में जाना चाहता है कोई आगे अकाउंटेंसी में जाना चाहता है कोई डिफेंस में जाना चाहता कोई सिविल सर्विस में जाना चाहता है कोई सिनेमैटोग्राफी भी जाना चाहता है कोई स्पेस में जाना चाहता है कोई बंद साइंटिस्ट बनना चाहता है तो यह सब बहुत से हैं इसकी क्वेश्चन और क्यों उसके पीछे अब वह लॉजिक भी ढूंढते हैं कि अरे इसमें जाएंगे बहुत वॉलिटी बहुत को इस तरह से और क्यों टेस्टी होना चाहिए आपका आपके स्वरुचि होनी चाहिए तो इन सबको सोचना और इसके लिए तो प्रॉपर काउंसलर भी पहले हमारे टाइम में कांग्रेस नहीं होते थे अब तो जगह-जगह पर काउंसलेट्स होते हैं जहां पर पेरेंट्स चार किस तरह का कि हम अपने बच्चों को आगे क्या दिलवाए जिससे कि उसका आगे एक फ्यूचर सुनिश्चित हो जाए ऐसे ही कई जगह से पूछते हैं अच्छे अच्छे लोगों को आगे बढ़े चला लेते हैं ऐसा नहीं होता था लेकिन यह जरूरी हो गया है और लेने में कोई हर्ज भी नहीं है मैं तो यही बोलूंगी अच्छे से सलाह करे विचार विमर्श करें कठिन है और क्यों और कठिन दोनों का ही आपको जवाब मिल जाता है लेकिन कुछ भी जल्दबाजी में मत करें जो अच्छा लगे तो लाइक करें थैंक यू
Aapaka prashn baink in baaton par vichaar karana vaasana mein kathin hai aur kyon isee ke lie aajakal to mudde hain jin par vichaar karana kathin hai sabase pahala to aajakal bachche jo hain ya bade bhee ho gae kuchh aise log yah mithalesh vaale log ki ham kaun sa dharm chune aur kyon chune reeti rivaaj maanen to kyon maane aise karen to kyon karane ko kyon holee buk skool chaahie geeta raamaayan mahaabhaarata yah baibal ya koee bhee aisee buk hai vah ved hamaaree chaar ved hai un sabako vah sirph ek kahaanee kitane lete hain dher saaree karate nahin hai adhoora gyaan hamesha khataranaak hota hai to unake lie to yahee meree raay hogee ki pahale aap apana gyaan poora karen usake baad aap is baare mein soche kyonki vah har baat ko lojik ke saath doosara sabase bada mudda yah hai ki hamaare bachche aage phyoochar mein kya ne kya bane kya karen yah ped se sochate hain gyaan par khush hote hain aur bachche bhee kyonki bahut mushkil kampateeshan ka taim hai baakee kya banana chaahate hain aur kitana kampateeshan hai kitanee parasentej hai unake is mein aane kee to yah sab dekhate nahin vaakee yah bahut hee tarn on hai koee injeeniyar kee injeeniyaring mein jaana chaahata hai koee medikal mein jaana chaahata hai koee aage akauntensee mein jaana chaahata hai koee diphens mein jaana chaahata koee sivil sarvis mein jaana chaahata hai koee sinemaitograaphee bhee jaana chaahata hai koee spes mein jaana chaahata hai koee band saintist banana chaahata hai to yah sab bahut se hain isakee kveshchan aur kyon usake peechhe ab vah lojik bhee dhoondhate hain ki are isamen jaenge bahut volitee bahut ko is tarah se aur kyon testee hona chaahie aapaka aapake svaruchi honee chaahie to in sabako sochana aur isake lie to propar kaunsalar bhee pahale hamaare taim mein kaangres nahin hote the ab to jagah-jagah par kaunsalets hote hain jahaan par perents chaar kis tarah ka ki ham apane bachchon ko aage kya dilavae jisase ki usaka aage ek phyoochar sunishchit ho jae aise hee kaee jagah se poochhate hain achchhe achchhe logon ko aage badhe chala lete hain aisa nahin hota tha lekin yah jarooree ho gaya hai aur lene mein koee harj bhee nahin hai main to yahee boloongee achchhe se salaah kare vichaar vimarsh karen kathin hai aur kyon aur kathin donon ka hee aapako javaab mil jaata hai lekin kuchh bhee jaldabaajee mein mat karen jo achchha lage to laik karen thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
बॉलीवुड के नए और पुराने गानों में आप किस तरह का फ़र्क़ देखते हैं?Bollywood Ke Naye Aur Purane Gaanon Mein Aap Kis Tarah Ka Farq Dekhte Hain
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:17
आपका प्रश्न है बॉलीवुड की नई और पुरानी कहानी आप किस तरह का फर्क देखते हैं सच में यह बहुत ही अच्छा प्रश्न है सबसे पहले तो उसके लिए आपको बहुत-बहुत बधाई कि आपने बहुत ही अच्छा प्रश्न पूछा है और मैं एक ही सेंटेंस में जवाब देना चाहूंगी कि बॉलीवुड के नए गाने समुद्र की लहर की तरह हैं जो पूरा रोमांच लेकर आते हैं फिर लेकर आते हैं लहर जल्दी जितनी जल्दी आती है उतनी ही जल्दी वापस चली जाती है लेकिन जो बॉलीवुड के पुराने गाने हैं वह नदी में बहते पानी की तरह कल कल कल कल चलते रहते हैं जैसे कल कल उसमें बहता है और हमारे मन को शांत रखता है और हम नदी के किनारे बैठे हैं यह हमने अपने आवंटित किए हैं और कितना हम हैप्पीनेस फील करते हैं एक साथ ही करते हैं बड़ा कूल फील करते हैं इस तरह की फीलिंग आती है पुराने गानों को सुनकर नहीं जाने हमें थी तो हमारे अंदर पैदा करते हैं टाइपिंग होते हैं होते हैं जवाब अच्छा लगे तो लाइक करें सब्सक्राइब करें थैंक यू
Aapaka prashn hai boleevud kee naee aur puraanee kahaanee aap kis tarah ka phark dekhate hain sach mein yah bahut hee achchha prashn hai sabase pahale to usake lie aapako bahut-bahut badhaee ki aapane bahut hee achchha prashn poochha hai aur main ek hee sentens mein javaab dena chaahoongee ki boleevud ke nae gaane samudr kee lahar kee tarah hain jo poora romaanch lekar aate hain phir lekar aate hain lahar jaldee jitanee jaldee aatee hai utanee hee jaldee vaapas chalee jaatee hai lekin jo boleevud ke puraane gaane hain vah nadee mein bahate paanee kee tarah kal kal kal kal chalate rahate hain jaise kal kal usamen bahata hai aur hamaare man ko shaant rakhata hai aur ham nadee ke kinaare baithe hain yah hamane apane aavantit kie hain aur kitana ham haippeenes pheel karate hain ek saath hee karate hain bada kool pheel karate hain is tarah kee pheeling aatee hai puraane gaanon ko sunakar nahin jaane hamen thee to hamaare andar paida karate hain taiping hote hain hote hain javaab achchha lage to laik karen sabsakraib karen thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
ओर्डर अफ फीनिक्स के सदस्य हॉरक्रक्स को नष्ट क्यों नहीं कर सकते थे?Order Of Phinics Ke Sadasy Horcrux Ko Nasht Kyun Nahi Kar Sakte The
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:21
आपका प्रश्न है ऑर्डर आफ फिनिक्स फिनिक्स की फौज के सदस्य फिनिक्स की फौज के मेंबर को नष्ट क्यों नहीं कर सकते थे इसमें आप हैरी पॉटर की सीरीज की बात कर रही हैं क्योंकि जेके रोलिंग द्वारा लिखी गई है एक तरह का काला जादू है इसमें जो बिल है टॉम रिडल जाने की लॉर्ड वोल्डेमोर्ट उसने अपनी आत्मा के साथ टुकड़े किए और उन टुकड़ों को अलग-अलग वस्तुओं में उसने काले जादू के जरिए उस में डाल दिया था क्यों बनने के बाद भी अमर रहे इन चीजों को खूब कहा जाता था वह कुछ कुछ भी देश में काफी सारे हूं तुझसे ही जैसे कि कोई लोकेश या कोई काम या क्राउन या इश्क में इस तरह की फोकस है उसमें और रही बात फिनिक्स की फौज इन ऑर्डर टो फिनिक्स सदस्य क्यों नहीं कर सकते थे तो यह गलत है वहां के जो हेड मास्टर चंबल जोर उन्होंने पहले की दो खूबसूरत नष्ट कर दिए थे जो कि फिनिक्स की पोस्ट के मेहमान थे उसके बाद हैरी पॉटर में ना कि वह भी फिनिक्स की फौज के मेंबर थे कि बाद में रोना एक फूंक नष्ट किया वह भी फिनिक्स की पोस्ट का मेंबर था उसके बाद लास्ट में एक को खुद हैरी पॉटर बुक करा था तो उसने अपने आप को नष्ट किया तो वह भी फिक्स की पोस्ट का मेंबर था एक ओर स्टूडेंट उसने इतनी को खत्म किया वह भी फिनिक्स की फौज का नंबर था तो फिर की फौज के मेंबर यानी आर्डर ऑफ़ सैनिक के सदस्य इसे नष्ट कर सकते थे और उन्होंने बखूबी से नष्ट किया बस इतना पता नहीं था शुरू में की फोकस कहां है कितनी है किस रूप में है कहां छुपे हैं और उन्हें कैसे किया जा सकता है बस का निरस्त करना लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने इन सारे टुकड़ों को इन सारे हो क्रश को नष्ट कर दिया ताकि इसमें जो स्टोरी का इस पूरी सीरीज का जो मिलन है वह पूरी तरह से उसकी आत्मा नष्ट हो जाए अगर आपको आंसर अच्छा लगा हूं तब से लाइक करें सब्सक्राइब करें थैंक यू
Aapaka prashn hai ordar aaph phiniks phiniks kee phauj ke sadasy phiniks kee phauj ke membar ko nasht kyon nahin kar sakate the isamen aap hairee potar kee seereej kee baat kar rahee hain kyonki jeke roling dvaara likhee gaee hai ek tarah ka kaala jaadoo hai isamen jo bil hai tom ridal jaane kee lord voldemort usane apanee aatma ke saath tukade kie aur un tukadon ko alag-alag vastuon mein usane kaale jaadoo ke jarie us mein daal diya tha kyon banane ke baad bhee amar rahe in cheejon ko khoob kaha jaata tha vah kuchh kuchh bhee desh mein kaaphee saare hoon tujhase hee jaise ki koee lokesh ya koee kaam ya kraun ya ishk mein is tarah kee phokas hai usamen aur rahee baat phiniks kee phauj in ordar to phiniks sadasy kyon nahin kar sakate the to yah galat hai vahaan ke jo hed maastar chambal jor unhonne pahale kee do khoobasoorat nasht kar die the jo ki phiniks kee post ke mehamaan the usake baad hairee potar mein na ki vah bhee phiniks kee phauj ke membar the ki baad mein rona ek phoonk nasht kiya vah bhee phiniks kee post ka membar tha usake baad laast mein ek ko khud hairee potar buk kara tha to usane apane aap ko nasht kiya to vah bhee phiks kee post ka membar tha ek or stoodent usane itanee ko khatm kiya vah bhee phiniks kee phauj ka nambar tha to phir kee phauj ke membar yaanee aardar of sainik ke sadasy ise nasht kar sakate the aur unhonne bakhoobee se nasht kiya bas itana pata nahin tha shuroo mein kee phokas kahaan hai kitanee hai kis roop mein hai kahaan chhupe hain aur unhen kaise kiya ja sakata hai bas ka nirast karana lekin dheere-dheere unhonne in saare tukadon ko in saare ho krash ko nasht kar diya taaki isamen jo storee ka is pooree seereej ka jo milan hai vah pooree tarah se usakee aatma nasht ho jae agar aapako aansar achchha laga hoon tab se laik karen sabsakraib karen thaink yoo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
हार्ट अटैक से बचने के लिए हमें क्या-क्या नुस्खे करनी चाहिए?Heart Atacck Se Bachne Ke Lie Humein Kya Kya Nuskhe Karne Chaiye
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:20
नमस्कार आपका प्रश्न है हार्ट अटैक से बचने के लिए हमें क्या-क्या नुस्खे करने जाएंगे तो मैं एक बहुत ही सरल बहुत ही सरल आसान तरीका आपको बताती हूं जिससे आपको हर्ट अटैक कभी भी नहीं होगा दालचीनी यह सब से अपनी सुना ही होगा दालचीनी हम सब लोग अपने घर में इस्तेमाल करते हैं कई बार धर्मशाला बनाने में के बाद चाय के मसाले में बड़ा ही खुशबू दायक होता है और हम भाई सुधरे में भी फ्लेवर देने के लिए हमेशा यूज करते हैं तो वह दालचीनी को आप दरदरा पीस लें और ड्यूटी दिन में एक बार इसकी अब ग्रीन टी में यानी आप इसको थोड़ा सा आधा चम्मच पाउडर को दालचीनी पाउडर को एक कप पानी में घोलकर ना रखते और ज्यादा हो जाए तब आप इसे गरम-गरम ग्रीन टी की तरह के सकते हैं आपको कभी भी हाईटेक नहीं होगा 9959 सोमेश्वर को ठीक है आगे आपकी खानपान के आज तक के ऊपर निर्भर करता है दालचीनी सबसे अच्छा और सरल उपाय हैं हार्ट अटैक से बचने का बस इसके और भी फायदे हैं मगर आपने किसी का पूछा है तो उसकी विवाह बता रही है अच्छा लगे तो लाइक करें धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai haart ataik se bachane ke lie hamen kya-kya nuskhe karane jaenge to main ek bahut hee saral bahut hee saral aasaan tareeka aapako bataatee hoon jisase aapako hart ataik kabhee bhee nahin hoga daalacheenee yah sab se apanee suna hee hoga daalacheenee ham sab log apane ghar mein istemaal karate hain kaee baar dharmashaala banaane mein ke baad chaay ke masaale mein bada hee khushaboo daayak hota hai aur ham bhaee sudhare mein bhee phlevar dene ke lie hamesha yooj karate hain to vah daalacheenee ko aap daradara pees len aur dyootee din mein ek baar isakee ab green tee mein yaanee aap isako thoda sa aadha chammach paudar ko daalacheenee paudar ko ek kap paanee mein gholakar na rakhate aur jyaada ho jae tab aap ise garam-garam green tee kee tarah ke sakate hain aapako kabhee bhee haeetek nahin hoga 9959 someshvar ko theek hai aage aapakee khaanapaan ke aaj tak ke oopar nirbhar karata hai daalacheenee sabase achchha aur saral upaay hain haart ataik se bachane ka bas isake aur bhee phaayade hain magar aapane kisee ka poochha hai to usakee vivaah bata rahee hai achchha lage to laik karen dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अगर प्रतिदिन आप चेहरे पर नींबू का रस लगाते हैं तो उसका परिणाम क्या हुआ?Agar Pratidin Aap Chehre Par Nimbu Ka Ras Lagate Hain To Uska Parinam Kya Hua
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:30
नमस्कार आपका प्रश्न है अगर प्रतिदिन आप चेहरे पर नींबू का रस लगाते हैं तो उसका क्या परिणाम होता है तो हम प्रतिदिन अगर हम चेहरे पर नींबू का रस लगाते हैं बहुत अच्छा ठीक है सर है अगर हम नींबू का रस चलो सही है और साथ में नींबू का छिलका है अगर उसको एक तो हमारा ऊपर का जो मिट्टी है 10 है वह सब दूर होगा मारे रोम छिद्र खुलेंगे विटामिन सी की कमी पूरी होगी नींबू में एक सिट्रिक एसिड होता है जो हमारे लिए बहुत जरूरी है अगर हम विभु के रस में थोड़ा-सा सरसों का तेल डालकर हफ्ते में एक बार अपने सिर पर भी लगाएं तो उससे हमारी डैंड्रफ दूर होते हैं खत्म होते हैं और सिर्फ चेहरे पर देखिए हम अपने हाथों पर भी नींबू को रगड़े के पैरों पर करें तो उससे भी हमारे पैरों हाथों और चेहरे पर निखार आएगा की डेड स्किन दूर होगी विटामिन सी की पूर्ति होगी और साथ-साथ एक रात से चाहो तो आएगी ही आएगी हमारी रोम छिद्र भी खुल जाएंगे यह सस्ता भी है और नेचुरल है आयुर्वेदिक है जिसे हम कह सकते हैं आप इसका इस्तेमाल आप जो इस पोस्ट की जगह पर अगर आप मुल्तानी मिट्टी या नींबू का इस्तेमाल करते हैं तो यह अत्यंत लाभदायक है धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai agar pratidin aap chehare par neemboo ka ras lagaate hain to usaka kya parinaam hota hai to ham pratidin agar ham chehare par neemboo ka ras lagaate hain bahut achchha theek hai sar hai agar ham neemboo ka ras chalo sahee hai aur saath mein neemboo ka chhilaka hai agar usako ek to hamaara oopar ka jo mittee hai 10 hai vah sab door hoga maare rom chhidr khulenge vitaamin see kee kamee pooree hogee neemboo mein ek sitrik esid hota hai jo hamaare lie bahut jarooree hai agar ham vibhu ke ras mein thoda-sa sarason ka tel daalakar haphte mein ek baar apane sir par bhee lagaen to usase hamaaree daindraph door hote hain khatm hote hain aur sirph chehare par dekhie ham apane haathon par bhee neemboo ko ragade ke pairon par karen to usase bhee hamaare pairon haathon aur chehare par nikhaar aaega kee ded skin door hogee vitaamin see kee poorti hogee aur saath-saath ek raat se chaaho to aaegee hee aaegee hamaaree rom chhidr bhee khul jaenge yah sasta bhee hai aur nechural hai aayurvedik hai jise ham kah sakate hain aap isaka istemaal aap jo is post kee jagah par agar aap multaanee mittee ya neemboo ka istemaal karate hain to yah atyant laabhadaayak hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
घमंड से बचने का उपाय क्या है?Ghmand Se Bachne Ka Upay Kya Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:19
नमस्कार आपका प्रश्न है ब्राह्मण से बचने का उपाय क्या है आई रिपीट आपका प्रश्न है कमेंट यानी प्राउड से बचने का उपाय क्या है तो सबसे बढ़िया तो एक ही उपाय है अगर आप इस बात को हमेशा अपने दिमाग में रखें कि सब कुछ नश्वर है सिर्फ आपकी कदमों को छोड़ता है तो आपके अंदर घमंड कभी नहीं बन पाएगा ज्यादा घमंड धन दोलत का होता है खुद धन दौलत आपकी नहीं आपके साथ लेके नहीं जा सकते या दूसरा घमंड होता है आपके सदा रहेगा लोगों को जो चैनल ही देखा जाता है जो बहुत सुंदर होती है फिर भी होती है उसको होता है तो रुक भी समाप्त हो जाता है समय के साथ-साथ उसका भी घमंड नहीं कर सकते बेसिकली उसने भी अंत में राख हो जाना है जाते हैं आपकी तरफ आपकी गंदे कर्म और आपके अच्छे तरह यही कहो तो नहीं इस बात को अगर आप हमेशा में दिमाग दे रहे हैं कि कि धन दौलत कुछ नहीं है सभी छोड़कर जाना है रूपसुंदरी भी कुछ नहीं है यह भी यहीं रह जाना है जब मैं इनमें से कुछ साथ ले जा ही नहीं सकता तुम्हें क्या ले जा सकता हूं आप सिर्फ वह करें आप अपनी कर्म ले जा सकते हैं आपकी कदमों के ऊपर ही आपका हिसाब किताब होगा लेखा-जोखा होगा वह हर समय देखना है व्हाट्सएप में आपको देखा इसने आज क्या केस में आज क्या किया तो कोशिश करें पुण्य कर्म कमाए मेडिटेशन करें गरीबों की मदद करें और हमेशा कहते हैं नानी वाह ओके चल बंदेया मीयान्नूर अब मिलता हमेशा झुकता चलें और भी कहावत है कि हमेशा सूखा वृक्ष खड़ा रहता है फलदार वृक्ष तो हमेशा ही झुका रहता है तो आप फलदार वृक्ष की तरह रहे फल भी हो जिसके ऊपर रो झुका हुआ भी हो तो हमें शनिवार को करेंगे ही सोच अपनाएंगे तो आपके अंदर कभी भी घमंड नहीं आएगा धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai braahman se bachane ka upaay kya hai aaee ripeet aapaka prashn hai kament yaanee praud se bachane ka upaay kya hai to sabase badhiya to ek hee upaay hai agar aap is baat ko hamesha apane dimaag mein rakhen ki sab kuchh nashvar hai sirph aapakee kadamon ko chhodata hai to aapake andar ghamand kabhee nahin ban paega jyaada ghamand dhan dolat ka hota hai khud dhan daulat aapakee nahin aapake saath leke nahin ja sakate ya doosara ghamand hota hai aapake sada rahega logon ko jo chainal hee dekha jaata hai jo bahut sundar hotee hai phir bhee hotee hai usako hota hai to ruk bhee samaapt ho jaata hai samay ke saath-saath usaka bhee ghamand nahin kar sakate besikalee usane bhee ant mein raakh ho jaana hai jaate hain aapakee taraph aapakee gande karm aur aapake achchhe tarah yahee kaho to nahin is baat ko agar aap hamesha mein dimaag de rahe hain ki ki dhan daulat kuchh nahin hai sabhee chhodakar jaana hai roopasundaree bhee kuchh nahin hai yah bhee yaheen rah jaana hai jab main inamen se kuchh saath le ja hee nahin sakata tumhen kya le ja sakata hoon aap sirph vah karen aap apanee karm le ja sakate hain aapakee kadamon ke oopar hee aapaka hisaab kitaab hoga lekha-jokha hoga vah har samay dekhana hai vhaatsep mein aapako dekha isane aaj kya kes mein aaj kya kiya to koshish karen puny karm kamae mediteshan karen gareebon kee madad karen aur hamesha kahate hain naanee vaah oke chal bandeya meeyaannoor ab milata hamesha jhukata chalen aur bhee kahaavat hai ki hamesha sookha vrksh khada rahata hai phaladaar vrksh to hamesha hee jhuka rahata hai to aap phaladaar vrksh kee tarah rahe phal bhee ho jisake oopar ro jhuka hua bhee ho to hamen shanivaar ko karenge hee soch apanaenge to aapake andar kabhee bhee ghamand nahin aaega dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या करना चाहिए अगर शादी के बाद मुझे यह पता चले कि मेरी पत्नी बच्चा पैदा नहीं कर सकती है?Kya Karana Chaahie Agar Shaadee Ke Baad Mujhe Yah Pata Chale Ki Meree Patnee Bachcha Paida Nahin Kar Sakatee Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:52
नमस्कार आपका प्रश्न है कि क्या करना चाहिए अगर शादी के बाद मुझे यह पता चले कि मेरी पत्नी बच्चा पैदा नहीं कर सकती है तो मैं सबसे पहले आपको ही बता दूं कि वह आपकी पत्नी है यानी आपकी अर्धांगिनी है आपके शरीर आपका आधा अंक तन-मन-धन हर रूप से वह आपका आधा अंक है और आप भी उसके अर्धांग हैं ना तो आपकी मशीन हो ना तो वह कोई मशीन है कोई कमी हो जाए तो हमें उसका क्या करना चाहिए उसको फेंक देना चाहिए उसको देख लेना चाहिए उसको रिप्लेस करना चाहिए यहां पर यह ऑप्शन नहीं होना चाहिए दोनों के ही एक दूसरे के प्रति कर्तव्य हैं उन्हें निभाई और प्यार से रहे और दूसरी बात अगर आप दोनों में से किसी एक में कमी आ गई अब मतलब अपना बेबी नहीं कर सकते हैं तो आप इसके पीछे पोस्टिंग छोड़ दें कि मुझे तो लगता है कि आपको भगवान नहीं शायद पता नहीं कुछ और कुछ ओरछा करने के लिए भेजा है आपको बेसिक लिए आपको बेबी चाहिए उससे क्या फर्क पड़ता है कि बेबी वह आपको यही फर्क पड़ता है कि बेबी आपको हंसी है क्या पता किसी अनाथ का ही जीवन यापन व्यवस्था पालन पोषण उस पर एक परिवार मिलना हो आप के थ्रू तो आप एक अनाथ को गोद ले सकते हैं नहीं तो हमारे विषय में भी बहुत सारे टेक्नोलॉजीज हैं आप वह भी कर सकते हैं आपकी राय की गोद में भी कर सकते हैं तो ऐसे बहुत सारे हैं लेकिन सबसे अच्छा तरीका तो यही है कि आप किसी अनाथ को गोद ले सकते हैं और आप उसे माता पिता का प्यार दे सकते हैं उसे परिवार दे सकते हैं इससे एक तो आप के पुण्य कर्म बढ़ेंगे और आपकी जो अपनी इच्छा है वह भी पूरी हो जाएगी धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai ki kya karana chaahie agar shaadee ke baad mujhe yah pata chale ki meree patnee bachcha paida nahin kar sakatee hai to main sabase pahale aapako hee bata doon ki vah aapakee patnee hai yaanee aapakee ardhaanginee hai aapake shareer aapaka aadha ank tan-man-dhan har roop se vah aapaka aadha ank hai aur aap bhee usake ardhaang hain na to aapakee masheen ho na to vah koee masheen hai koee kamee ho jae to hamen usaka kya karana chaahie usako phenk dena chaahie usako dekh lena chaahie usako riples karana chaahie yahaan par yah opshan nahin hona chaahie donon ke hee ek doosare ke prati kartavy hain unhen nibhaee aur pyaar se rahe aur doosaree baat agar aap donon mein se kisee ek mein kamee aa gaee ab matalab apana bebee nahin kar sakate hain to aap isake peechhe posting chhod den ki mujhe to lagata hai ki aapako bhagavaan nahin shaayad pata nahin kuchh aur kuchh orachha karane ke lie bheja hai aapako besik lie aapako bebee chaahie usase kya phark padata hai ki bebee vah aapako yahee phark padata hai ki bebee aapako hansee hai kya pata kisee anaath ka hee jeevan yaapan vyavastha paalan poshan us par ek parivaar milana ho aap ke throo to aap ek anaath ko god le sakate hain nahin to hamaare vishay mein bhee bahut saare teknolojeej hain aap vah bhee kar sakate hain aapakee raay kee god mein bhee kar sakate hain to aise bahut saare hain lekin sabase achchha tareeka to yahee hai ki aap kisee anaath ko god le sakate hain aur aap use maata pita ka pyaar de sakate hain use parivaar de sakate hain isase ek to aap ke puny karm badhenge aur aapakee jo apanee ichchha hai vah bhee pooree ho jaegee dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या असीमित इच्छाये एक दिन मौत की तरफ ले जाती है?Kya Aseemit Ikchaye Ek Din Maut Ki Taraf Le Jati Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:15
नमस्कार आपका प्रश्न है क्या अच्छी नहीं है 1 दिन मौत की तरफ ले जाती हैं तो मेरा जवाब है टेक्निटी मौत तो निश्चित है ही है तुम्हारी इच्छा ही सीमित ही होनी चाहिए वैसे तो इतना ही बहुत कम या ना के बराबर होनी चाहिए आप सोचिए अगर आपकी इच्छाएं और सीमित हैं आप परीक्षा के बाद नहीं आती बिल्कुल बिल्कुल कांग्रेस फिर और निश्चित है आपको पता भी नहीं चलेगा कब मौत आ जाएगी और आपकी इच्छाएं भी अच्छा ही है हम अपनी इच्छाओं को सीमित करें थोड़ी इच्छाएं या जितनी जरूरत है झूठ के हिसाब से हम अपनी इच्छा थी और उसे एक निश्चित समय में थोड़े समय में हो पूरी विधालय जगाए रखें करना भी क्या है हम जीवन का जो अमूल्य है फिर उसे पहचाने जीवन में सकारात्मक काम है हम लोग करें जितने भी पॉजिटिव थॉट्स या वाइब्रेशन हम उन्हें अपने जीवन को पहचाने की इच्छा को पूरा करते करते उसे यूं ही व्यर्थ न जाने दें धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai kya achchhee nahin hai 1 din maut kee taraph le jaatee hain to mera javaab hai teknitee maut to nishchit hai hee hai tumhaaree ichchha hee seemit hee honee chaahie vaise to itana hee bahut kam ya na ke baraabar honee chaahie aap sochie agar aapakee ichchhaen aur seemit hain aap pareeksha ke baad nahin aatee bilkul bilkul kaangres phir aur nishchit hai aapako pata bhee nahin chalega kab maut aa jaegee aur aapakee ichchhaen bhee achchha hee hai ham apanee ichchhaon ko seemit karen thodee ichchhaen ya jitanee jaroorat hai jhooth ke hisaab se ham apanee ichchha thee aur use ek nishchit samay mein thode samay mein ho pooree vidhaalay jagae rakhen karana bhee kya hai ham jeevan ka jo amooly hai phir use pahachaane jeevan mein sakaaraatmak kaam hai ham log karen jitane bhee pojitiv thots ya vaibreshan ham unhen apane jeevan ko pahachaane kee ichchha ko poora karate karate use yoon hee vyarth na jaane den dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
आपकी नजर में धर्म क्या है?Apki Nazar Mein Dharm Kya Hain
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:45
नमस्कार आपका प्रश्न है आपकी नजर में नरम क्या वैसे मैं आजकल के समय में बता देती हूं अभी यह मेरी नजर में ना अभिनय में बाद में दूंगी आज कल में धर्म क्या है एक कम्यूनिटी द्वारा बनाए गए कुछ रूल्स एंड रेगुलेशंस जोश कम्युनिटी के दूसरे लोग फॉलो करते हैं जैसे कि हमारी बिरादरी में ऐसे होता है हमारी जात में ऐसे होता है हमारे उसमें जो होता है और उसके परिवार के अन्य सदस्य क्या उसे समुदाय के अन्य लोग तो उसको उन नियमों पर चलते हैं वह इसलिए धर्म मानते हैं जिससे हमारे में ऐसे होता है जन्म के समय से होता है मृत्यु के समय से होता है पूजा ऐसे करते हैं अरे में काले कपड़े पहनती हमारे में सफेद कपड़े पहनती हैं तो यह समुदाय की जब प्रधान ने जिस समय के रूल्स बनाए होंगे तो उन्हीं को बाकी लोग फॉलो करते गए धर्म कह रहा था कि बड़ा धर्म सबसे अच्छा धर्म हम क्या हैं आप इंसान हैं एक इंसान का दूसरे इंसान के प्रति बढ़ता अगर हम चाहते हैं हमारे साथ सामने वाला इंसान कैसा बिहेव करे हमें भी उसके साथ वैसा ही बिहेव करना होगा तो सबसे बड़ा धर्म इंसानियत का है इंसानियत से ऊपर कोई धर्म नहीं है ईश्वर ने हमें इंसान बनाया है मानव मनुष्य बनाया है तो मनुष्य का सबसे बड़ा धर्म है कि मेरी उम्मीद है कि आप दूसरों से भी सलाह ले सकते हैं और इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं है धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai aapakee najar mein naram kya vaise main aajakal ke samay mein bata detee hoon abhee yah meree najar mein na abhinay mein baad mein doongee aaj kal mein dharm kya hai ek kamyoonitee dvaara banae gae kuchh rools end reguleshans josh kamyunitee ke doosare log pholo karate hain jaise ki hamaaree biraadaree mein aise hota hai hamaaree jaat mein aise hota hai hamaare usamen jo hota hai aur usake parivaar ke any sadasy kya use samudaay ke any log to usako un niyamon par chalate hain vah isalie dharm maanate hain jisase hamaare mein aise hota hai janm ke samay se hota hai mrtyu ke samay se hota hai pooja aise karate hain are mein kaale kapade pahanatee hamaare mein saphed kapade pahanatee hain to yah samudaay kee jab pradhaan ne jis samay ke rools banae honge to unheen ko baakee log pholo karate gae dharm kah raha tha ki bada dharm sabase achchha dharm ham kya hain aap insaan hain ek insaan ka doosare insaan ke prati badhata agar ham chaahate hain hamaare saath saamane vaala insaan kaisa bihev kare hamen bhee usake saath vaisa hee bihev karana hoga to sabase bada dharm insaaniyat ka hai insaaniyat se oopar koee dharm nahin hai eeshvar ne hamen insaan banaaya hai maanav manushy banaaya hai to manushy ka sabase bada dharm hai ki meree ummeed hai ki aap doosaron se bhee salaah le sakate hain aur insaaniyat se bada koee dharm nahin hai dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या किसी को माफ कर देने मात्र से उसके प्रति नफरत खत्म हो जाती है?Kya Kisi Ko Maaf Kar Dene Matra Se Uske Prati Nafrat Khatam Ho Jaati Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:13
आपका प्रश्न है क्या किसी को माफ कर देने मात्र से उसके प्रति नफरत खत्म हो जाती है तो मेरा जवाब है कि हां इनिशियल स्टेज पर तो खत्म हो ही जाती है जैसे किसी व्यक्ति ने कोई गलती की है और उसने आपसे दिल से माफी मांगी है तो आप पहले नहीं करेंगे दूसरी बार नहीं करेंगे लेकिन अगर वह व्यक्ति आपको कह रहा है कि उससे गलती हुई तो माफ कर देंगे सपोर्ट कीजिए तो टाइम पास वही गलती उसने रिपीट कर दी अब आपके लिए मुश्किल हो जाएगा अरे यही बात तो पहले हुई थी और फिर से वही सी मिस्टेक कर आए तो पैसा भी आएगा किसने तो माफी मांगी थी और मैंने माफ भी कर दिया था तो क्या होता है कि गर्म आप कब तक काम करती है जब तक आप उसे रिपीट नहीं करते हैं फिर आपसे माफी मांगने की कोई वैल्यू नहीं रह जाती है आप कब तक माफी मांग लेंगे अगर आप उसी गलती को रिपोर्ट करते जाएंगे तो माफ करना कब तक करेगा तो हम सब इंसान हैं ना हमारे अंदर की फीलिंग से अगर आपको बार बार माफ कर रहा है लेकिन फिर आप करते जा रहे फिर दिल को समझा जो नाटक है कुछ नहीं है कुछ रियालिटी नहीं तो अगर आप चाहते हैं कि कोई इंसान आपको दिल से माफ करते तो आप भी उन सब बातों को करने से बचें वह सब गलती है ना करें जिससे कि सामने वाले का दिल दुखे और आपको माफी मांगने पड़े रिपीटेशन नहीं करनी चाहिए आप एक बार गलती की उसे दोबारा मत हो रहा है इसलिए अगर दोहराएंगे तो आप उस व्यक्ति के मन में अपने प्रति नफरत पैदा करते हैं इसलिए माफ कर देने मात्र से नफरत मिठाई नहीं जा सकते हैं आपको आगे उसके लिए पूरा रोड पर चलना पड़ेगा अगर हम किसी को माफ कर देते हैं लेकिन सामने वाला फिर से वही गलती करता है बहुत मुश्किल हो जाता है बार बार बार बार माफ करना फिर तो ऐसा लगता है जैसे यह तो सिर्फ पूरे शब्द है इनके पीछे कोई अच्छी नहीं है तो ध्यान रखें
Aapaka prashn hai kya kisee ko maaph kar dene maatr se usake prati napharat khatm ho jaatee hai to mera javaab hai ki haan inishiyal stej par to khatm ho hee jaatee hai jaise kisee vyakti ne koee galatee kee hai aur usane aapase dil se maaphee maangee hai to aap pahale nahin karenge doosaree baar nahin karenge lekin agar vah vyakti aapako kah raha hai ki usase galatee huee to maaph kar denge saport keejie to taim paas vahee galatee usane ripeet kar dee ab aapake lie mushkil ho jaega are yahee baat to pahale huee thee aur phir se vahee see mistek kar aae to paisa bhee aaega kisane to maaphee maangee thee aur mainne maaph bhee kar diya tha to kya hota hai ki garm aap kab tak kaam karatee hai jab tak aap use ripeet nahin karate hain phir aapase maaphee maangane kee koee vailyoo nahin rah jaatee hai aap kab tak maaphee maang lenge agar aap usee galatee ko riport karate jaenge to maaph karana kab tak karega to ham sab insaan hain na hamaare andar kee pheeling se agar aapako baar baar maaph kar raha hai lekin phir aap karate ja rahe phir dil ko samajha jo naatak hai kuchh nahin hai kuchh riyaalitee nahin to agar aap chaahate hain ki koee insaan aapako dil se maaph karate to aap bhee un sab baaton ko karane se bachen vah sab galatee hai na karen jisase ki saamane vaale ka dil dukhe aur aapako maaphee maangane pade ripeeteshan nahin karanee chaahie aap ek baar galatee kee use dobaara mat ho raha hai isalie agar doharaenge to aap us vyakti ke man mein apane prati napharat paida karate hain isalie maaph kar dene maatr se napharat mithaee nahin ja sakate hain aapako aage usake lie poora rod par chalana padega agar ham kisee ko maaph kar dete hain lekin saamane vaala phir se vahee galatee karata hai bahut mushkil ho jaata hai baar baar baar baar maaph karana phir to aisa lagata hai jaise yah to sirph poore shabd hai inake peechhe koee achchhee nahin hai to dhyaan rakhen

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यक्ति के मन में नकारात्मक भावनाएं क्यों होती है?Vyakti Ke Man Mein Nakaratmak Bhavnaein Kyun Hoti Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
2:17
नमस्कार आपका प्रश्न है व्यक्ति के मन में नकारात्मक इन एक्टिव भावनाएं क्यों होती हैं तो नेगेटिव थॉट्स व्यक्ति के मन में किसी न किसी दर्द की वजह से ही आते हैं तो बिजनेस में लॉस हो रहा है तो उसको पैसे का डाल रहे हैं या दोस्तों का लॉस हो रहा है तो उस तो रिश्तो का डर है या कुछ भी बच्चे के साथ बच्चे का भविष्य बनाना है तो उसका डर है तो सबको लेकर उसके अंदर नेगेटिव दोस्ती पहले आते हैं अच्छे थॉट्स पास में आते हैं अगर हमारा बच्चा सबसे अच्छी मिल नहीं रहा है हर शाम को खेलने के आज छोटा है हमें अब बाहर गए हमें दिख नहीं रहा है हालांकि हो सकता है वह अपनी और प्ले कर रहा हूं लेकिन हमारे मन में ना अब बचा नहीं दिख रहा है हम घबरा जाएंगे तो सबसे पहले हमारे अंदर नेगेटिव थॉट्स यह मेरा खुद का एक्सपीरियंस है मेरा बेटा 1 दिन पार्क में गया और मैं आपसे लेने के लिए गए तो अब मुझे वह दिखाई नहीं दे रहा था हल्के वहीं पर ही हो एक मॉल के पीछे छुपा हुआ था जब वहां पर कुछ लोग थे इधर से मेरे अंदर कितना है मैं बता नहीं सकती आपको एक्सप्लेन नहीं कर सकती कि सपोटरा के लिए क्या हुआ कहां लेकर आओ भाई दिखाई नहीं दे रहा है तो कहीं बाहर गया नहीं पता नहीं क्या-क्या कितनी फोन में नहीं आती है तो हमें वह मिल तो गया लेकिन पहले बहुत सारी नकारात्मक विचार मन में आए तो किसी ना किसी चीज का डर इस जैसे हम बहुत प्यार करते हैं हम अपने बिजनस से बहुत प्यार करते हैं तुमको खोने का डर हमारे अंदर नकारात्मक विचार पैदा करता है कि किसी भी चीज को खोने का डर जिसे हम बहुत पसंद करते हैं हमारे अंदर नेगेटिव थॉट्स पैदा करता है तो मैं टेशन कीजिए मैंने भी मैं भी करती हूं तो यही इसका इलाज है नकारात्मक सोच सॉन्ग को बल्ले दूर भगाए प्लीज इस मैटर को कम करें कोशिश करें खुद पर काबू पाने के तो नेगेटिव थोड़ी बताएंगे आशावादी बनें धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai vyakti ke man mein nakaaraatmak in ektiv bhaavanaen kyon hotee hain to negetiv thots vyakti ke man mein kisee na kisee dard kee vajah se hee aate hain to bijanes mein los ho raha hai to usako paise ka daal rahe hain ya doston ka los ho raha hai to us to rishto ka dar hai ya kuchh bhee bachche ke saath bachche ka bhavishy banaana hai to usaka dar hai to sabako lekar usake andar negetiv dostee pahale aate hain achchhe thots paas mein aate hain agar hamaara bachcha sabase achchhee mil nahin raha hai har shaam ko khelane ke aaj chhota hai hamen ab baahar gae hamen dikh nahin raha hai haalaanki ho sakata hai vah apanee aur ple kar raha hoon lekin hamaare man mein na ab bacha nahin dikh raha hai ham ghabara jaenge to sabase pahale hamaare andar negetiv thots yah mera khud ka eksapeeriyans hai mera beta 1 din paark mein gaya aur main aapase lene ke lie gae to ab mujhe vah dikhaee nahin de raha tha halke vaheen par hee ho ek mol ke peechhe chhupa hua tha jab vahaan par kuchh log the idhar se mere andar kitana hai main bata nahin sakatee aapako eksaplen nahin kar sakatee ki sapotara ke lie kya hua kahaan lekar aao bhaee dikhaee nahin de raha hai to kaheen baahar gaya nahin pata nahin kya-kya kitanee phon mein nahin aatee hai to hamen vah mil to gaya lekin pahale bahut saaree nakaaraatmak vichaar man mein aae to kisee na kisee cheej ka dar is jaise ham bahut pyaar karate hain ham apane bijanas se bahut pyaar karate hain tumako khone ka dar hamaare andar nakaaraatmak vichaar paida karata hai ki kisee bhee cheej ko khone ka dar jise ham bahut pasand karate hain hamaare andar negetiv thots paida karata hai to main teshan keejie mainne bhee main bhee karatee hoon to yahee isaka ilaaj hai nakaaraatmak soch song ko balle door bhagae pleej is maitar ko kam karen koshish karen khud par kaaboo paane ke to negetiv thodee bataenge aashaavaadee banen dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या कपड़ों से या पहनावे से इंसान का चरित्र पता किया जा सकता है?Kya Kapdon Se Ya Pehnave Se Insan Ka Charitra Pata Kiya Ja Sakta Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:34
नमस्कार आपका में क्या कपड़ों से क्या मैं ना वैसे इंसान के चरित्र का पता किया जा सकता है तो कपड़े या पहनावे है जो भी हमारा गेट है जब भी कोई दूसरा व्यक्ति हमें देखता है तो पहले वह तुम्हारा डेट भी देखता है लेकिन इससे वह हमारे चरित्र का अंदाजा नहीं लगा सकता आइडिया लगा लेगा लेकिन इतनी जरूरी नहीं है ना कि वह 10% सही और 20% सही हो तो बेसिकली इंसान के कपड़े के पहनावे से उसके चरित्र का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता उसके कपड़ों से नहीं पता चल सकता है जैसे मैंने जैसी भी क्लोरीन की है आप नहीं जा सकते कि मैं चरित्रवान हो गया चरित्रहीन हूं आप नहीं जान सकते यह दुनिया अवगुण आप नहीं पहचान सकते जब तक कि हम उस इंसान के साथ व्यवहारिक रूप से हम से बचेंगे नहीं हम उससे बातचीत में करेंगे उसके कर्मों को नहीं देखेंगे हम उसके चरित्र का पता नहीं लगा सकते यह बात तो तैयार है कि हमारे कपड़े के मॉडर्न हो से टिपिकल हो जैसे भी हो हमारी कपड़ों से हमारी चरित्र का पता नहीं लगता एक और बात भी है कितनी हाइट और सोते हैं लोगों की सोच बिक्री के ऊपर होती है उतनी ही उनके कपड़े सिंपल होते हैं शुभ होते हैं थोड़ा सा आईडिया हम इस तरह से लगा सकते हैं धन्यवाद
Namaskaar aapaka mein kya kapadon se kya main na vaise insaan ke charitr ka pata kiya ja sakata hai to kapade ya pahanaave hai jo bhee hamaara get hai jab bhee koee doosara vyakti hamen dekhata hai to pahale vah tumhaara det bhee dekhata hai lekin isase vah hamaare charitr ka andaaja nahin laga sakata aaidiya laga lega lekin itanee jarooree nahin hai na ki vah 10% sahee aur 20% sahee ho to besikalee insaan ke kapade ke pahanaave se usake charitr ka andaaja nahin lagaaya ja sakata usake kapadon se nahin pata chal sakata hai jaise mainne jaisee bhee kloreen kee hai aap nahin ja sakate ki main charitravaan ho gaya charitraheen hoon aap nahin jaan sakate yah duniya avagun aap nahin pahachaan sakate jab tak ki ham us insaan ke saath vyavahaarik roop se ham se bachenge nahin ham usase baatacheet mein karenge usake karmon ko nahin dekhenge ham usake charitr ka pata nahin laga sakate yah baat to taiyaar hai ki hamaare kapade ke modarn ho se tipikal ho jaise bhee ho hamaaree kapadon se hamaaree charitr ka pata nahin lagata ek aur baat bhee hai kitanee hait aur sote hain logon kee soch bikree ke oopar hotee hai utanee hee unake kapade simpal hote hain shubh hote hain thoda sa aaeediya ham is tarah se laga sakate hain dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या आप खुद की गलतियों के लिए खुद को माफ़ कर पाए हैं?Kya Ap Khud Ki Galtiyo Ke Lie Khud Ko Maaf Kar Paye Hain
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:54
क्या आप की गलतियों के लिए खुद को माफ कर पाए हैं तो अगर हमें पता चल जाए हम भी गलती की है हमें जुलाई सो जाए हम महसूस करते हैं तुमसे कि हमसे बहुत बड़ी गलती हो गई है यह गलत काम हो गया है हमें ऐसा नहीं करना चाहिए था ऐसा नहीं बोलना चाहिए था इस तरह से नहीं अगर आपको यह रिलाइजेशन हो गया है तब तो बहुत ही मुश्किल है कि आप खुद को माफ़ कर पाए आप उसके लिए पछताते रहेंगे और लगभग पूरी उम्र बताते रहेंगे हम सोचेंगे केवल बार-बार आपकी बहन भी वही बात आएगी मुझसे ऐसा कैसे हो गया तो देखा जाए तो अपने आप ही की बहुत अच्छी बात है अभिषेक अपनी नजर में खुद को माफ़ नहीं कर पाए हैं लेकिन आप अपने ही आप को सुधार रहे हैं अपनी नजर में उठ रहे हैं और दूसरा जिन लोगों ने गलती की है हमने पता ही नहीं है कि नहीं गलती की है उन्हें यह बात गलत लगती ही नहीं है तो माफी कहां वह तो समझेंगे कि हम लोग बिल्कुल ठीक किया है हमें तो कुछ गलत किया ही नहीं है उसको माफ किया वह तो सोचेंगे कि नहीं हम ठीक हैं और सामने वाला गलत है हमें तो समय के अनुसार अपने उसके सामने बिल्कुल बहुत बढ़िया काम किया है तू देखा जाए तो वह लोग अपने आपको और और और बिगाड़ रहे हैं अपने आप लोग और गलत काम करने के लिए मोटिवेट कर रहे हैं लेकिन गलती से रिलाइजेशन पानी प्रवेश कब खुद को माफ़ नहीं कर पा रहे हैं लेकिन यही अपने आप में एक बहुत अच्छी बात है कि आपको रिलाइजेशन हो गई है अब आप अपने आप को सुधार रहे हैं का पछतावा कर रहे हैं हम उसकी जरूर है खुद को माफ करना
Kya aap kee galatiyon ke lie khud ko maaph kar pae hain to agar hamen pata chal jae ham bhee galatee kee hai hamen julaee so jae ham mahasoos karate hain tumase ki hamase bahut badee galatee ho gaee hai yah galat kaam ho gaya hai hamen aisa nahin karana chaahie tha aisa nahin bolana chaahie tha is tarah se nahin agar aapako yah rilaijeshan ho gaya hai tab to bahut hee mushkil hai ki aap khud ko maaf kar pae aap usake lie pachhataate rahenge aur lagabhag pooree umr bataate rahenge ham sochenge keval baar-baar aapakee bahan bhee vahee baat aaegee mujhase aisa kaise ho gaya to dekha jae to apane aap hee kee bahut achchhee baat hai abhishek apanee najar mein khud ko maaf nahin kar pae hain lekin aap apane hee aap ko sudhaar rahe hain apanee najar mein uth rahe hain aur doosara jin logon ne galatee kee hai hamane pata hee nahin hai ki nahin galatee kee hai unhen yah baat galat lagatee hee nahin hai to maaphee kahaan vah to samajhenge ki ham log bilkul theek kiya hai hamen to kuchh galat kiya hee nahin hai usako maaph kiya vah to sochenge ki nahin ham theek hain aur saamane vaala galat hai hamen to samay ke anusaar apane usake saamane bilkul bahut badhiya kaam kiya hai too dekha jae to vah log apane aapako aur aur aur bigaad rahe hain apane aap log aur galat kaam karane ke lie motivet kar rahe hain lekin galatee se rilaijeshan paanee pravesh kab khud ko maaf nahin kar pa rahe hain lekin yahee apane aap mein ek bahut achchhee baat hai ki aapako rilaijeshan ho gaee hai ab aap apane aap ko sudhaar rahe hain ka pachhataava kar rahe hain ham usakee jaroor hai khud ko maaph karana

#जीवन शैली

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:48
नमस्कार प्रश्न है कि ऐसी कौन सी चीज है जो पीछे से लड़कियों की उपज होती है और दूसरा प्रश्न आपका यह है कि ऐसी कौन सी चीज है जो लड़कियों की बड़ी होती है लड़कों की छोटे बच्चों की अनुरोध इस सवाल है और आपने बोलकर आपके सभी फ्रेंड्स किसी के ऊपर चैलेंज किया है तो मैं इसका जवाब देना चाहूंगी तो कारण है इसके एक तो आपके अनुरोध किया है इसलिए जवाब देना चाहूंगी तो सामने मानसिकता पर सवाल उठाया है तब भी जवाब देना चाहूंगी तो आपने कहा आपका जो पहला प्रश्न है ऐसी कौन सी चीज है जो लड़की पीछे से उठी होती है तो वह है उनकी एड़ी एड़ी के सैंडल से मैं आपको बोला है क्योंकि पीछे से उठी होती है तो मैं इससे सहमत हूं कुछ पांडे जी नहीं तो दूसरा जवाब दिया है कि उनके सपने बड़े होते हैं छोटे होते हैं तुम्हें एक जी नहीं करती हो मेरे ख्याल से लड़कियों का जो वो लेट है या उनका जो बैग कैरी बैग पर्स वगैरह वह हमेशा ही कंपैटिबिलिटी बाय बड़ा होता है हमारा वॉलेट जाए मुसलमानी कैरी करें या कॉस्मेटिक कैरी करें थैंक्यू बारादेवी तेरे कुछ भी करें लड़कियों का हमेशा बड़ा होता है लड़कों का होता है वो लेट क्योंकि उनकी पॉकेट में आ जाता है अगर आपको जवाब पसंद आया तो लाइक करो एंड जवाब पूछने के लिए अनुरोध करने के लिए थैंक यू
Namaskaar prashn hai ki aisee kaun see cheej hai jo peechhe se ladakiyon kee upaj hotee hai aur doosara prashn aapaka yah hai ki aisee kaun see cheej hai jo ladakiyon kee badee hotee hai ladakon kee chhote bachchon kee anurodh is savaal hai aur aapane bolakar aapake sabhee phrends kisee ke oopar chailenj kiya hai to main isaka javaab dena chaahoongee to kaaran hai isake ek to aapake anurodh kiya hai isalie javaab dena chaahoongee to saamane maanasikata par savaal uthaaya hai tab bhee javaab dena chaahoongee to aapane kaha aapaka jo pahala prashn hai aisee kaun see cheej hai jo ladakee peechhe se uthee hotee hai to vah hai unakee edee edee ke saindal se main aapako bola hai kyonki peechhe se uthee hotee hai to main isase sahamat hoon kuchh paande jee nahin to doosara javaab diya hai ki unake sapane bade hote hain chhote hote hain tumhen ek jee nahin karatee ho mere khyaal se ladakiyon ka jo vo let hai ya unaka jo baig kairee baig pars vagairah vah hamesha hee kampaitibilitee baay bada hota hai hamaara volet jae musalamaanee kairee karen ya kosmetik kairee karen thainkyoo baaraadevee tere kuchh bhee karen ladakiyon ka hamesha bada hota hai ladakon ka hota hai vo let kyonki unakee poket mein aa jaata hai agar aapako javaab pasand aaya to laik karo end javaab poochhane ke lie anurodh karane ke lie thaink yoo

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
आरक्षण जरूरी है पर सबके लिए बराबरी का कटऑफ क्यों नहीं होना चाहिए?Arakshan Jaruri Hai Par Sabke Liye Barabri Ka Cutoff Kyun Nahin Hona Chahiye
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:23
नमस्कार आपका प्रश्न है आरक्षण जरूरी है पर सबके लिए बराबर का कटऑफ क्यों नहीं होना चाहिए ऐसे कमाल की बात है ना कुछ दिन पहले मैंने भी यही सेम क्वेश्चन पुट किया था कि आरक्षण एक तो जात पात में बढ़ावा नहीं देता आरक्षण के नाम पर वैसे हम सब समान है लेकिन आरक्षण के नाम पर हम हमारे भी डाक्यूमेंट्स में अलग-अलग कैटेगरी में फिल्मी कैटिगराइज कर दिया गया है कि आप ऐसी हो आप कैसे हो आप पागल हो क्यों नहीं क्यों हमें कट कर दिया क्या फाइनल में छोटी इन सब को देखें आरक्षण जरूरी है तो फिर से बराबरी का दर्जा क्यों नहीं है आपका यह प्रश्न बिल्कुल जायज है और इसका आंसर तो मैं भी खुश रहे हैं अपनी सरकार से हमारे जो देश की सरकार है उन सब से मैं यह पूछना चाहती हूं कि अगर आप आरक्षण दे रहे हैं तो साथ-साथ कम से कम काबिलियत भी तो रखें की पर्सेंट आपके यहां पर 70% तो नहीं हो जाने चाहिए इससे क्या होता है जो काबिल बच्चे हैं वह पीछे रह जाते हैं और आरक्षण के नाम पर जो दूसरे बच्चे हैं वह पढ़ते ही नहीं उठना पड़ता है कि ठीक है हमारा तो रिजर्वेशन में हो जाए तो मैं इसका जवाब ढूंढ रही हूं मैं भी वेट में हूं जानेमन
Namaskaar aapaka prashn hai aarakshan jarooree hai par sabake lie baraabar ka katoph kyon nahin hona chaahie aise kamaal kee baat hai na kuchh din pahale mainne bhee yahee sem kveshchan put kiya tha ki aarakshan ek to jaat paat mein badhaava nahin deta aarakshan ke naam par vaise ham sab samaan hai lekin aarakshan ke naam par ham hamaare bhee daakyooments mein alag-alag kaitegaree mein philmee kaitigaraij kar diya gaya hai ki aap aisee ho aap kaise ho aap paagal ho kyon nahin kyon hamen kat kar diya kya phainal mein chhotee in sab ko dekhen aarakshan jarooree hai to phir se baraabaree ka darja kyon nahin hai aapaka yah prashn bilkul jaayaj hai aur isaka aansar to main bhee khush rahe hain apanee sarakaar se hamaare jo desh kee sarakaar hai un sab se main yah poochhana chaahatee hoon ki agar aap aarakshan de rahe hain to saath-saath kam se kam kaabiliyat bhee to rakhen kee parsent aapake yahaan par 70% to nahin ho jaane chaahie isase kya hota hai jo kaabil bachche hain vah peechhe rah jaate hain aur aarakshan ke naam par jo doosare bachche hain vah padhate hee nahin uthana padata hai ki theek hai hamaara to rijarveshan mein ho jae to main isaka javaab dhoondh rahee hoon main bhee vet mein hoon jaaneman

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
बड़े ही बदनसीब होते हैं वह लोग जिनके नसीब में किसी का भी प्यार नहीं होता?Bade Hi Badnaseeb Hote Hain Vah Log Jinke Naseeb Me Kisi Ka Bhi Pyar Nahi Hota
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:20
नमस्कार सर जी आपका प्रश्न है बड़े ही बदनसीब होते हैं वह लोग जिनके नसीब में किसी का भी प्यार नहीं होता तो मैं तो इसका जवाब नहीं दूंगी जो लोग बदनसीब नहीं होते बेसिकली सब तो हमारे कर्म ही होते हैं हमारे कुछ - कर्म कुछ कर दे करम है जिसका हमें फल मिल रहा है आप अपनी पोस्ट कर्म करते हैं अच्छे कर्म करते चले आप मैं आपको भाग्य की दुहाई नहीं दे रही है मैं सिर्फ आपको यह चीज के सूती ही अच्छे काम का भी हमें अच्छा फल मिलता ही है जिससे तो होता ही होता है तो आप अपने यह सब को सोच कर कि आपको प्यार नहीं मिला अपने अंदर एक्टिविटी नहीं मिलाए अपने जॉब के एक्शन सेवा अपने नेगेटिव नहीं हो जाए आप हमेशा पॉजिटिव रहें अच्छे काम करते रहें अपने - को खत्म कीजिए तो देखें कैसे नहीं मिलता आपको आप बदनसीब संप्रसिद्धि हो जाएंगे और ऐसे कई लोग और भी इस तरह से बस अपने अंदर एक्टिविटी महिलाएं हमेशा ऑप्टिमिस्टिक रहें और आपका भाग्य बदलेगा चमकेगा और आप खुश नसीब होंगे सब का प्यार मिलेगा धन्यवाद
Namaskaar sar jee aapaka prashn hai bade hee badanaseeb hote hain vah log jinake naseeb mein kisee ka bhee pyaar nahin hota to main to isaka javaab nahin doongee jo log badanaseeb nahin hote besikalee sab to hamaare karm hee hote hain hamaare kuchh - karm kuchh kar de karam hai jisaka hamen phal mil raha hai aap apanee post karm karate hain achchhe karm karate chale aap main aapako bhaagy kee duhaee nahin de rahee hai main sirph aapako yah cheej ke sootee hee achchhe kaam ka bhee hamen achchha phal milata hee hai jisase to hota hee hota hai to aap apane yah sab ko soch kar ki aapako pyaar nahin mila apane andar ektivitee nahin milae apane job ke ekshan seva apane negetiv nahin ho jae aap hamesha pojitiv rahen achchhe kaam karate rahen apane - ko khatm keejie to dekhen kaise nahin milata aapako aap badanaseeb samprasiddhi ho jaenge aur aise kaee log aur bhee is tarah se bas apane andar ektivitee mahilaen hamesha optimistik rahen aur aapaka bhaagy badalega chamakega aur aap khush naseeb honge sab ka pyaar milega dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
अगर किसी लड़की को प्रपोज करना हो तो कैसे किया जाता है?Agar Kisi Ladki Ko Propose Karna Ho To Kaise Kiya Jata Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:19
नमस्कार अगर किसी लड़की को प्रपोज करना हो तो कैसे किया जाता है सबसे पहले तो अगर आप उस को प्रपोज करने वाले हैं उसके बारे में आपको पता तो होना चाहिए ना पता चाहिए आप ऐसे कैसे प्रपोज कर देंगे अगर आपको यह पता है कि वह भी आपको पसंद करती है तो उसके हमेशा के बारे में भी जानते होंगे अकॉर्डिंग टू है सर आपको यह देखना है कि आप उसको प्राइवेट ही प्रपोज करेंगे आप अपनी कृपा करेंगे आप उसको किसी के सामने शर्मिंदा ना करें आपको ऐसे प्रपोज करना चाहिए और हर लड़की चाहिए कि वह मतलब आप से स्पेशल फील कर रहा है कोई भी मतलब जिसे आप प्यार करते हैं या शरीर की भी आपको पसंद करती है तब उसको स्पेशल भेजना है और ना उसको शर्मिंदा ना करवाएं कहीं भी किसी के सामूहिक सम्मेलन होने थी उसकी मान मर्यादा इज्जत का ख्याल रखें आप एक फ्लावर एक चॉकलेट देकर भी उसे प्रपोज कर सकते हैं आप को नाटकीय अंदाज में प्रपोज करने की कोई नहीं नहीं लेकिन ध्यान रखें इससे लड़की की मान मर्यादा की हानि नहीं होनी चाहिए और उसकी नजर किसी के सामने झुकना भी नहीं चाहिए अगर आपको आंसर अच्छा लगा तो आप लाइक करें थैंक यू
Namaskaar agar kisee ladakee ko prapoj karana ho to kaise kiya jaata hai sabase pahale to agar aap us ko prapoj karane vaale hain usake baare mein aapako pata to hona chaahie na pata chaahie aap aise kaise prapoj kar denge agar aapako yah pata hai ki vah bhee aapako pasand karatee hai to usake hamesha ke baare mein bhee jaanate honge akording too hai sar aapako yah dekhana hai ki aap usako praivet hee prapoj karenge aap apanee krpa karenge aap usako kisee ke saamane sharminda na karen aapako aise prapoj karana chaahie aur har ladakee chaahie ki vah matalab aap se speshal pheel kar raha hai koee bhee matalab jise aap pyaar karate hain ya shareer kee bhee aapako pasand karatee hai tab usako speshal bhejana hai aur na usako sharminda na karavaen kaheen bhee kisee ke saamoohik sammelan hone thee usakee maan maryaada ijjat ka khyaal rakhen aap ek phlaavar ek chokalet dekar bhee use prapoj kar sakate hain aap ko naatakeey andaaj mein prapoj karane kee koee nahin nahin lekin dhyaan rakhen isase ladakee kee maan maryaada kee haani nahin honee chaahie aur usakee najar kisee ke saamane jhukana bhee nahin chaahie agar aapako aansar achchha laga to aap laik karen thaink yoo

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
दूध पीने के बाद कितने घंटे बाद पानी पीना चाहिए?Dudh Peene Ke Baad Kitne Ghante Bad Pani Piye
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
0:28
नमस्कार आपका प्रश्न है दूध पीने के बाद कितने घंटे के बाद पानी पीना चाहिए अगर आपने दूध लिया है तो आप को कम से कम एक से डेढ़ घंटा वेट करनी ही पड़ेगी आप उससे पहले पानी ना ले अगर आप पानी लेंगे तो आपका स्वास्थ्य खराब हो सकता है दूध अपने आप ही कंप्लीट डाइट हैं तो दूध पीने के डेट के 2 घंटे बाद पानी पी सकते हैं थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai doodh peene ke baad kitane ghante ke baad paanee peena chaahie agar aapane doodh liya hai to aap ko kam se kam ek se dedh ghanta vet karanee hee padegee aap usase pahale paanee na le agar aap paanee lenge to aapaka svaasthy kharaab ho sakata hai doodh apane aap hee kampleet dait hain to doodh peene ke det ke 2 ghante baad paanee pee sakate hain thaink yoo

#रिश्ते और संबंध

Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
0:48
नमस्कार आपका प्रश्न है कि कितने घंटे की नींद हमारे लिए प्रतिदिन जरूरी होती है तो दोपहर के समय तो हमें खाना खाने के बाद थोड़ा सा रिलैक्स आना चाहिए रात के समय हमें शिक्षा वर्ग की नींद हमारी इन होती है हमें इससे ज्यादा नहीं सोना चाहिए ना मुझसे ज्यादा तकलीफ लेते हैं तो हम व्यस्त हो जाते हैं हमारा मोटापा भी बढ़ सकता है और हमारे अंदर अलग से भी आता है तो 5 से 6 घंटे के नियम हमारे लिए प्रसिद्ध थे जरूरी है इससे कम भी नहीं लेनी चाहिए इलेक्शन ऐसी हमारी आंखों को पूरा देश चाहिए और इससे ज्यादा भी नहीं लेना चाहिए आई मिस यू सो मच थैंक यू
Namaskaar aapaka prashn hai ki kitane ghante kee neend hamaare lie pratidin jarooree hotee hai to dopahar ke samay to hamen khaana khaane ke baad thoda sa rilaiks aana chaahie raat ke samay hamen shiksha varg kee neend hamaaree in hotee hai hamen isase jyaada nahin sona chaahie na mujhase jyaada takaleeph lete hain to ham vyast ho jaate hain hamaara motaapa bhee badh sakata hai aur hamaare andar alag se bhee aata hai to 5 se 6 ghante ke niyam hamaare lie prasiddh the jarooree hai isase kam bhee nahin lenee chaahie ilekshan aisee hamaaree aankhon ko poora desh chaahie aur isase jyaada bhee nahin lena chaahie aaee mis yoo so mach thaink yoo

#जीवन शैली

bolkar speaker
अगर कोई व्यक्ति हमारा मजाक उड़ाता है तो हमें क्या करना चाहिए?Agar Koi Viyakti Hamara Majaak Udata Hai To Humein Kya Karna Chaiye
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
0:29
नमस्कार आपका प्रश्न है अगर कोई व्यक्ति हमारा मजाक उड़ाता है तो हमें क्या करना चाहिए अगर कोई व्यक्ति हमारा मजाक उड़ा रहा है तो हमारा मजाक सच में उड़ गया है क्या हम हमें क्या बेसिकली वह क्या कर रहा है वह मजाक हमारा उड़ा रहा है या अपना उड़ा रहा है इसका आंसर तो एक ही लाइन में बनता है उसे प्यार से स्माइल गेट वेल सून कहना चाहिए
Namaskaar aapaka prashn hai agar koee vyakti hamaara majaak udaata hai to hamen kya karana chaahie agar koee vyakti hamaara majaak uda raha hai to hamaara majaak sach mein ud gaya hai kya ham hamen kya besikalee vah kya kar raha hai vah majaak hamaara uda raha hai ya apana uda raha hai isaka aansar to ek hee lain mein banata hai use pyaar se smail get vel soon kahana chaahie
URL copied to clipboard