#जीवन शैली

bolkar speaker
उपधातु का उदाहरण है?Upadhaatu Ka Udaaharan Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:45

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
आत्मा का वजन नापने का प्रयोग किसने किया था?Aatma Ka Vajan Naapane Ka Prayog Kisane Kiya Tha
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:09
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि आत्मा का वजन नापने का प्रयोग किसने किया था तो देखिए जो मानव शरीर में आत्मा होती है उसका वजन लगभग 300 किलोग्राम होता है वह एक एक्सपेरिमेंट प्रयोग द्वारा पता चला कि जो लोग मरने वाले थे लगभग 5 मिनट पहले मरने वाला तो कोई 10 मिनट बाद मरने वाला था उन सभी का भजन नापा गया तो कुछ 275 276 था असली नाम लेकिन जब मर चुके थे और उनकी डेट बॉडी का भजन आप आ गया तू और सभी के वजन में 300 ग्राम का अंतर था उनका वजन मरने के बाद कम हो गया था इस आधार पर उनको सकते हैं जो मानव शरीर में सोया होती है आत्मा होती है उसका वजन 300 ग्राम होता है और इसे एक अमेरिकी चिकित्सक डॉक्टर मैप हमने इन्वेस्ट किया कमेंट किया था और उन्होंने यह बात साथ अप्रैल 1960 को बताई थी राधे राधे

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
प्राचीन समय में मनुष्य की आवश्यकता कैसी थी?Prachin Samay Mein Manushya Ki Avashyakta Kaisi Thi
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:50
जो आज का क्वेश्चन है कि यह मनुष्य प्राचीन समय में उसकी आवश्यकताएं कहती थी वस्त्र खाना और रहने के लिए आवास मकान क्या बताएं बहुत ही अधिक सीमित थी लेकिन जैसे-जैसे मनुष्य का विकास हुआ अब ऐसे युग की आवश्यकता है बढ़ने लगी उसने नई नई चीजों को इन डांस किया हो जाओ और उसकी आवश्यकता अंदर बन गई जो कि हम आज देखते जा रहे हैं और उसके पास भी चीजें होती है उसे अपनी और अधिक चीजों की आवश्यकता पड़ने लगी है और वह अपनी जिंदगी को बहुत ही ज्यादा आरामदायक बनाना चामुंडा राधे राधे

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
राजस्थान को राजपूतों और वीरों की भूमि क्यों कहा जाता है?Rajasthan Ko Rajpooto Aur Veero Ki Bhoomi Kyu Kaha Jata Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:10
राधे राधे आज का क्वेश्चन है कि राजस्थान को राजपूतों और वीरों की भूमि क्यों कहा जाता है तो हम सभी जानते हैं कि जो भारत के राजस्थान भारत का एक राज्य है और जो हमारे महाराणा प्रताप के वीर पराक्रमी शाम तक वह मेवाड़ के राजा हुआ करते थे जो अकबर था उस समय का बहुत ही शक्तिशाली शासक था उसने भारत के लगभग पूरे भारत पर अपना साधन जमा लिया था और जो हमारे और बाकी राजा थे राजपूत थे उन्होंने अकबर के साथ हाथ मिला लिया उन्होंने अकबर की पराधीनता स्वीकार नहीं की और भले ही उनकी सेना अकबर से आधे से भी आती थी लेकिन उन्हें युद्ध लड़ा और हार गए बस जंगलों में रहे लेकिन उन्होंने किसी से मदद नहीं मांगी बाय कूदी से लड़ते रहे और फिर अंततः उन्होंने अपने मेवाड़ को वापस अपने अधीन कर लिया था तो इसलिए भी मैं सॉरी की वीरों की भूमि कहा जाता है और वहां पर और भी घातक हुए जिन्होंने कभी पराधीनता शिकार नहीं राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
ओजोन परत किसे कहते हैं और यह किस कारण से होती है?Ozone Parat Kise Kahate Hain Aur Yah Kis Kaaran Se Hotee Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:30
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि ओजन परत निकालते हैं और किस कारण से होती है थोड़ा सा ऊपर वायुमंडल स्थित है वहां पर एक मोल गैस होती हैं इसलिए जीवन रक्षक गैस भी कहते हैं तो उसकी एक मोटी सी परत है जो हमारे वायुमंडल में जमीन हुई है या वह तोते की लगी हुई है तो जो हमारी ओजोन परत है जीवन रक्षक है मानव जीवन रक्षक है वह इसलिए क्योंकि जो सूर्य की पराबैंगनी किरणें होती है हानिकारक है बहुत ही ज्यादा हानिकारक होती है अगर वह हमारी तो बढ़ जाती है तो हमें 1 दिन का कैंसर हो सकता है ब्लड कैंसर हो जाता है तो भोजन कराते हुए उनके गुणों को पृथ्वी पर आने से रोकती है लेकिन जो हमारे और उन पर आते हैं अब उसने एक चित्र पड़ गया है छोटा था लेकिन अब बर बड़ा होता जा रहा है वह चित्र बड़ा होने का कारण यह है कि अब पृथ्वी पर यात्री का प्रयोग बढ़ता ही जा रहा है जिसे की एलईडी टीवी रेफ्रिजरेटर और भी बहुत सारी चीजें हैं इसी वगैरा तो इसके कारण एपीके उपयोग से ओजोन परत में छिद्र पढ़ने लगा और इसी के गाड़ियां कैंसर जैसी भयंकर बीमारी का आम लोगों को सामना करना पड़ता राधे राधे

#जीवन शैली

sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:29
राधे-राधे बुआ जी को ही मन किया गया है कि नारी सशक्तिकरण क्या है क्या नारी को सम्मान वाहक मिल रहा है जो समाज में से मिलना चाहिए यह नारी सशक्तिकरण व चीज है कि जो नारी है मैं अपने अधिकारों के प्रति अपने कर्तव्यों के प्रति तत्व तत्व तत्व में अपने अधिकारों के लिए लड़ सकती है तो देखिए यह नहीं बोलूंगी कि हर जगह पर नारी शक्ति का हो चुका है क्योंकि जो हमारे भारत का एक राज्य केरल वहां पर नारी सशक्तिकरण सफलतापूर्वक संपन्न हो रहा है क्योंकि मैंने इसका मतलब यहां से लगाया कि नहीं वहां पर नारी साक्षरता 91% है 9191 प्रतिशत है और वहां पर महिलाओं को महत्व दिया जाता है जैसा कि अदर अदर राज्यों में हमारे इधर पुरुषों को महत्व दिया जाता है वैसे वहां पर महिलाओं का होना शुभ माना जाता है केरल में तो हम और की बात नहीं कर पाते क्योंकि हमारे गांव में आज भी कुप्रथा को मानते हैं कि पर्दा परंतु अभी भी गांवों में प्रचलित है और पुरुष को प्रधान मानना अब तो समाज की अपनी अलग अलग सोच है लेकिन हमारी सरकार व का नारी सशक्तिकरण में बहुत मदद कर रही है तो हर जगह औरतों को सम्मान नहीं मिला नारियों को और कहीं कहीं मिल नहीं रहा राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
हम अपने मन को सकारात्मक कैसे रख सकते हैं?Hum Apne Man Ko Sakaratmak Kaise Rakh Sakte Hain
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:26
गुड मॉर्निंग जो आज का सवाल है कि हम अपने मन को हमेशा सकारात्मक कैसे रख सकते हैं तो देखिए मैं इसका जवाब स्पेशली वैष्णवी पांडे जी के लिए दे रही हूं क्योंकि उन्होंने मुझसे रिप्लाई में यह क्वेश्चन पूछा था तो देखिए जो हमारा मन है उसे हवा की गति से भी तेज नहीं है तो हम सभी जानते हैं वह हमेशा किसी ना किसी विषय पर सूट होता ही रहता है कभी वह सकारात्मक सोच का है कभी वह नेगेटिव सोचता है कभी और पॉजिटिव होता है हमारे ऊपर निर्भर करता है कि हमारा मन क्या सोचे अथवा क्या ना होती तो देखिए अगर आप चाहते हैं कि आपके मन में कभी न गीत MP4 ना आए नकारात्मक तू अपने आपको हमेशा व्यस्त रखें हमेशा किसी ना किसी काम में लगा के रखी है और आप अकेले मत रखिए रही है कभी हां कभी ना कभी तो रहना पड़ता है लेकिन जब आप उदास हो तो आप अकेले मत रहिए और अगर आपके पास कोई काम भी नहीं है आप किसी के साथ भी रहना नहीं चाहते तो आप बता सकते हैं कि किताबें ही है जो एक व्यक्ति की सबसे अच्छी मित्र होते हैं आप अपने आप को किताबें पढ़ने में लगा दीजिए तो पक्का आपके मन में नकारात्मक विचार नहीं आएंगे राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
अपनी मंजिल पाने के लिए क्या झूठ का सहारा लेना सही है?Apni Manjil Pane Ke Lie Kya Jhuth Ka Sahara Lena Sahi Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:28
राधे राधे जो आज का सवाल है कि हमें अपनी मंजिल पाने के लिए क्या झूठ का सहारा लेना चाहिए मेरा मानना है कि हमें झूठ का सहारा नहीं लेना चाहिए वह इसलिए क्योंकि जब आप सफलता की मंजिल पर पहुंच जाएंगे अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे तब आपको वह खुशी महसूस नहीं होगी हां दुनिया को जरूर बता देंगे कि मैंने यह चीटिंग करके नहीं किया मैंने अपने मन से किया या मैंने खुद अपने दम पर किया लेकिन यह आप खुद को नहीं समझा सकते क्योंकि हर बार झूठ बोल सकता है लेकिन अपने आपसे कभी झूठ नहीं बोल सकता तो फिर जवाब सफलता की मंजिल पर पहुंच जाएंगे तो अपने आप पर आपको गर्व महसूस नहीं होगा आप अपने आपको अब आप अब आप अपनी ही नजरों में गिर जाएंगे आपको लगे कि मैंने तो यह चीटिंग की प्राप्त किया है आपको खुशी होगी लेकिन खुशी नहीं होगी तो आप मेहनत करके अगर आपको सफलता को प्राप्त करेंगे तो आपको अधिक खुशी होगी लेकिन आप अगर सूट के साथ चैटिंग के साथ उस सफलता को प्राप्त करेंगे तो दूसरों को तो बड़ी खुशी होगी कि चलो मेरी बेटी मेरा बेटा मेरे पास हो गया और बड़ी मंजिल पर पहुंच गया आपको अपने ऊपर बिल्कुल भी महसूस नहीं होगी क्योंकि रियल्टी क्या है वह तो आपको पता ही होगी तो मेरा मानना है कि हमें जो आता है गलत है लेकिन हमें अपने मन से लिखना चाहिए और मैं इतनी रूल को फॉलो भी करती हूं राधे-राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
समय का महत्व पर आप को समझाना हो तो कैसे समझाएं?Samay Ka Mahatva Par Aap Ko Samjhana Ho To Kaise Samjhaye
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:08
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि समय का जो महत्व है जो टाइम की वैल्यू है आप उसे कैसे समझाएंगे हर व्यक्ति के जीवन में समय का महत्व बहुत ज्यादा होता है कि उन व्यक्तियों के जीवन में समय का महत्व नहीं होता है जिनके पास कुछ काम नहीं है कि हम इसका एक बहुत अच्छा उदाहरण देते हैं जब हमारी परीक्षा होती है परीक्षा में एग्जाम देना छोटे बच्चों के एग्जाम जब होते हैं तब हमें अभी 3 घंटा कभी ढाई घंटा एक घंटा दिया जाता है समझ सकते हैं होते हैं उसके लिए टाइम नहीं टाइम कितना इंपोर्टेंट है हमें टाइम कैसे जाया नहीं करना चाहिए अभी हमें इस टाइम की कोई कीमत नहीं है लेकिन जब हम पहने जाते हैं तब वहां हमारे लिए 1122 मैंने मिनट का 122 सेकंड भी बहुत ज्यादा मायने रखते हैं राधे-राधे आई होप आपको यह समझ में आया होगा

#जीवन शैली

bolkar speaker
इतनी कम उम्र में ग्रेटा थनबर्ग सोशल मीडिया पर कैसे छा गई है?Itni Kam Umr Mein Greta Thanberg Social Media Par Kaise Chha Gayi Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:42
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि कितने कमरों में ग्रेता थनबर्ग सोशल मीडिया पर इतने कैसे छा गए तो देखिए मेरा यह मानना बिल्कुल भी नहीं छोटे बड़े होने से कोई हद होती है किसी में टैलेंट कम होता है लेकिन टैलेंट होता है बचपन से ही होता है और किसी में कभी नहीं आता है तो इसका यह बिल्कुल भी मतलब नहीं कि वह छोड़ने होने से कैसे फेमस हुआ टैलेंट हो गए राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
इंसान को क्या बुद्धिमान बनाता है?Insan Ko Kya Buddhiman Banata Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:13
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन ही निर्माण को क्या बुद्धिमान बनाता है तो देखिए जो इंसान होते हैं अधिकतर बुद्धिमान होते हैं जो कम बोलते हैं क्योंकि मैं अपने दिमाग में कुछ ना कुछ कैलकुलेशन करते रहते हैं उनको जोड़ घटाना करते रहते हैं किसी ना किसी भी सोचते रहते हैं और जो बुद्धिमान व्यक्ति होते हैं वह हमेशा अपने आसपास के बारे में जाने में बहुत ज्यादा है लेकिन होते हैं और हमेशा अपने आसपास के बारे में जानने के लिए हमेशा उसको खुश हैं कि जबकि ऑफ सूर्य लाल क्यों होता है और भी बहुत सारी चीजें तारे टिमटिमाते क्यों हमेशा सोचता रहता अपने आसपास के बारे में अधिकतर कम बोलते हैं और जो लोग बीमार होते हैं उनके दोस्ती में बहुत कम होते हैं क्योंकि इन सब चीजों के लिए टाइम नहीं निकाल पाते उनका केवल केवल एक लक्ष होता है हमारे आसपास के बारे में जानना और बुद्धिमान करते हैं पढ़ाई में बुद्धिमान बुद्धिमान बुद्धिमान राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपके ख्याल से ज्यादा बोलने वाले लोग कैसे होते हैं?Aapake Khyal Se Jyaada Bolane Vaale Log Kaise Hote Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:05
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि ज्यादा बोलने वाले लोग कैसे होते हैं अधिक बोलने वाले लोग कैसे होते हैं मेरा मानना है जो अधिक बोलने वाले लोग होते हैं बच्चे होते हैं इसलिए अच्छे होते हैं क्योंकि वह अपनी बात को ज्यादा टाइम तक छुपा नहीं पाते क्योंकि उनकी आदत होती है बोलने की बातों ही बातों में नहीं होते हैं वह सच्चे होते हैं और वह अपनी बात तो हर किसी के साथ प्यार करती है हर किसी से मेरा यह मतलब नहीं कि किसी के साथ भी शेयर कर देते हैं जिसके अपने बेस्ट फ्रेंड के साथ अपनी फैमिली के साथ शेयर कर देते हैं जो अधिक बोलने वाले लोग बोलते हैं उनका स्वभाव भी होता है कम बोलना अपने बातों को छुपाते हैं उन्हें डर लगता है कि मेरी वजह से कोई और प्रॉब्लम है ना फंस जाए तो इसलिए वह अपनी समस्याएं होती हैं अपनी परेशानियां होती वंश पूरी लड़ते रहते हैं लेकिन अधिक बोलने वाले होते हैं अपनी प्रॉब्लम शेयर करते हैं और सब कहां लगा लेते हैं तो अधिक बोलने वाले लोग सच्चे होते हैं राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या कोई भी रिस्क लेने से डरना चाहिए?Kya Koi Bhe Risk Lene Se Darna Chahiye
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:04
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है कि क्या वह मेरे आने से डरना चाहिए कि मेरा मानना है कि हम लोग बाहर रहना चाहिए जहां हमारे जितने के चांस से अधिक हूं अगर हम रिस्क बहा लेंगे जहां हमारे जींस और जितने के चांस है 1% हो तो मैं वहां रिस्क नहीं लेना चाहिए सरासर बेवकूफी होगी मेरे तो बहा लेना चाहिए जहां हमें लगे कि हां हम इधर सफल हो सकते हैं धरमजीत सकते हैं तुरंत वहां लेना चाहिए वहां पर बिल्कुल मत लेना वहां पर बिल्कुल भी नहीं लेना चाहिए जहां पर हमारी जिंदगी जानते ना के बराबर हूं क्योंकि अगर इश्क एक तरफ से बेवकूफ ही साबित हुई हर बार जरूरी नहीं कि जो प्रेस क्लब असफल हो जाए और हर बार जरूरी है अभी नहीं है कि आपने तो कभी कभी रिस्क लेने से हमारी काफी सारी जो समस्याएं होती है बस और भी हो जाती है लेकिन कभी-कभी जब हमारी जितनी के नाम से सॉन्ग राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
हमें कठिनाइयों से क्यों नहीं डरना चाहिए?Hume Kathinayo Se Kyun Nahi Darna Chahiye
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:18
राधे-राधे क्वेश्चन है हमें क्यों नहीं करना चाहिए देखिए यह तो संभव है कि हर किसी के जीवन में संघर्ष होता है हमारे पास तो दो ऑप्शन होती है या तो हम कठिनाइयों को खुदकुशी एक्सेप्ट कर ले उनके साथ लड़े उनके साथ डटे रहें और लेकिन क्यों मुझ से डर जाएं और दूर भगाएं दूर भाग में समस्या है वह खत्म नहीं हो जाती का मिलकर सामना करना चाहिए और क्या करना है वर्तमान समय किसी की भी लाइफ है कि नहीं है जिसमें संघर्ष ना हो सकती है तेरी जिंदगी में अगर किसी की जिंदगी में कम संघर्ष संगत का डटकर सामना करना चाहिए और से बता देना चाहिए कि हम भी प्रो प्लेयर है हम भी खेल सकते हैं तुम्हारे साथ जिंदगी आपके साथ खेल रही है और ना ही हो जाती है तो मैं डरना नहीं चाहिए बल्कि हमें मुसीबत का सामना करना चाहिए राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या आज के जमाने में इंसान का प्रशन मन उसके पैसों पर निर्भर करता है?Kya Aaj Ke Zamane Mein Insaan Ka Prashan Man Uske Paison Par Nirbhar Karta Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:52
राधे राधे रिवाज क्वेश्चन किया गया है कि आज के जमाने में संतान का प्रश्न नंबर में पैसों पर निर्भर करता है तो देखिए मेरा मानना यह नहीं है कि हमारा खुश रहना या दुखी रहना पैसों पर निर्भर करता है अगर कंडीशन हो कि आप तो जवाब छोटे हो बचपन से ही गरीब रहे हो मिडल क्लास फैमिली से तब आपकी खुशी पैसे पर निर्भर करती है लेकिन वह खुशी आपकी परमानेंटली नहीं रहेगी हमारी जरूरत है हमारी खुशी यादों का कारण पैसा बिल्कुल मेरा मानना है कि किसी भी इंसान का प्रश्न बना रखना पैसे के ऊपर निर्भर नहीं करता वहां में 2 मिनट के लिए कुछ कर सकता है लेकिन और अधिक टाइम के लिए हमें खुश नहीं रखता नहीं रख सकता राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्यों इंसान परिस्थितियों से हार जाता है?Kyo Insan Paristhitiyo Se Haar Jata Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:03
राधे राधे आज का जो क्वेश्चन किया गया है कि अपने परिस्थितियों से हार मान जाता है तो देखिए व्यक्ति यूं ही अपनी परिस्थितियों से हार नहीं मानता निरंतर अनुपस्थित मिली हार का सामना करना पड़ेगा लेकिन सभी लोग बस तत्वों से हार नहीं मानती लोग होते हैं हैरान होते हैं विवेक की होती हैं उनका मानना होता है कि शायद एक बार और मुझे ट्राई कर लेना चाहिए चाहे दिन के अगले कदम पर मेरे लिए सफलता रखी हो और जो लोग मैं यह नहीं कह रही हूं और जिन लोगों को हमेशा असफलताओं का सामना करना पड़े निरंतर और उनके जो आसपास का माहौल है वह नेगेटिव व्यक्ति अपनी बिहार मानचित्र राधे-राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
आँखों के आंसू कभी झूठ क्यों नहीं बोलते?Aankhon Ke Aansu Kabhi Jhuth Kyun Nahi Bolte
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:45
राधे राधे क्यों आज क्वेश्चन किया गया कि आंखों के आंसू कभी झूठ नहीं बोलते तो मैं एक से एग्री नहीं हूं सहमत नहीं हूं क्योंकि कभी-कभी लोग अपनी बात को सच बताने के लिए या सच मनवाने के लिए आंखों में झूठे आंसू ले आते हैं जिसे हम मगरमच्छ के आंसू कहते हैं लेकिन मेरा मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि सभी लोगों की आंख आंसू आंखों के झूठे होते हैं कुछ लोग हैं दुनिया में ऐसे जिनके आंसू सच्चे होते हैं लेकिन बहुत लोग ऐसे भी हैं जो अपनी बात को सही बताने के लिए भी आंख में झूठे आंसू ले जाते हैं

#जीवन शैली

bolkar speaker
जब आप बिल्कुल तन्हा और उदास होते हैं तो आप क्या करते हैं?Jab Aap Bilkul Tanha Aur Udas Hote Hain To Aap Kya Karte Hain
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:36
राधे राधे जो आज का क्वेश्चन है पर्सनल लाइफ से रिलेटेड है कि जब आपका ना होते हैं उदास होते हैं आप फ्रेंड होते तो आप क्या करते हैं तो देखिए अगर मैं अपनी बात करूं जब मैं सेंड होती हूं तब मैं अधिकतर गाने सुनती हूं सैड सॉन्ग नहीं पार्टी सॉन्ग और जो मेरी खुशी भरे लम्हे थे मैं उन्हें याद करती हूं और

#जीवन शैली

sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:18
राधे राधे आज क्वेश्चन किया गया है क्या मैं जो व्यक्ति बीमार है उसके सामने कैसी बातें करनी चाहिए या लोग अधिकतर कैसी बातें करती हैं देखिए मेरा मानना है कि हमें जो बीमार व्यक्ति है उसके सामने ऐसी बातें करनी चाहिए कि उसके अंदर की इच्छा इच्छा शक्ति बढ़ जाए और उसे ऐसा लगे कि हां अब मुझे ठीक होना ही होगा और हमें अपने घर में खुशियों का माहौल रखना चाहिए लड़ाई झगड़े नहीं करनी चाहिए उसके सामने उसकी आवाज में बात नहीं करनी चाहिए और जो परिवार की ओर से हैं उन्हें उसके साथ प्यार से बोलना चाहिए प्यार से बातचीत करनी चाहिए और उसे हमें बोर नहीं होने देना चाहिए हमें उसके साथ अब कोई भी व्यक्ति की चित्र परमानेंट हो तो नहीं रह सकता लेकिन हां उसे हमें अपना कुछ टाइम देना चाहिए जिससे वह अपने आप को अकेला ना करें और हमें उसे बार-बार यह बताना चाहिए कि आप जल्द खो जाएंगे तो उस व्यक्ति के अंदर की जो दृढ़ निश्चय होता है वह जाग उठता है उसका आत्मविश्वास बढ़ जाता कि हां मैं यह कर सकता हूं मैं ठीक हो सकता तू हमें जो व्यक्ति बीमार है उसके लिए ऐसी बातें करनी चाहिए राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
ऐसी क्या चीज़ जिस वजह से हमारा मन नकारात्मकता की ओर जाता है?Aisi Kya Chiz Hai Jis Wajah Se Hamara Man Nakaratmakta Ki Or Jata Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:59
राधे राधे आज जो क्वेश्चन किया गया है आज लगभग हम सभी की प्रॉब्लम बनी हुई है समस्या बनी हुई है जिससे हमारा मन नेगेटिविटी क्यों चला जाता है तो देखिए लेकिन टीवीटी ऐसे ही हमारे जीवन में हमारे मन में प्रवेश नहीं कर जाती यदि हमारे घर का माहौल नेगेटिव रहता है ना कि टीम में घर में लड़ाई होती रहती है झगड़े होते रहते हैं छोटे बड़ों का सम्मान नहीं करते और भी बहुत कुछ और जैसे आप बहुत ज्यादा बहुत ज्यादा हॉरर मूवी देखते हैं तो इससे भी आपके मन पर इसका बुरा प्रभाव पड़ने लगता है कि आपके घर में भगवान की पूजा नहीं होती क्या कोई भी धार्मिक कार्य नहीं होता तो हमारे मन में नेगेटिविटी आ जाती है या फिर दूसरा रीजन यह है कि जब हमें निरंतर असफलताओं का सामना करना पड़े तब भी हमारे मन में बेटी पैदा हो जाती है कि नहीं मैं ऐसा नहीं कर सकता यह कार्य मेरे लिए नहीं बना जी हमारे जो बड़े हैं विद्वान है वह पहले से कह गए नथिंग इस इंपॉसिबल का मतलब है कि कुछ भी असंभव नहीं है लेकिन जनता और असफलताओं का अंत तक तेज का सामना करना पड़ता है तू तो हमारा मन विचलित हो जाता है कहीं ना कहीं बरसने लगता है कि सारी चीज मेरे लिए नहीं बनी है या फिर मैं के लिए नहीं बना हूं और मैं यह कभी नहीं कर सकता तो देखिए अगर आपको अपने आप को नेगेटिव से दूर रखना है तुझ को सबसे सरल उपाय बार-बार फेल होते हैं फिर को मेरे मतलब परीक्षा में फेल होने से नहीं है किसी भी चीज में फेल होने से है तो बस आप एक बस एक बार और बाद में सफलता थी एक कदम पीछे हूं तो शायद आपको आपका गोल लक्ष्य प्राप्त हो जाएगा राधे राधे

#जीवन शैली

sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
2:37
राधे-राधे जनरल क्वेश्चन है वह भांगड़ा ही महत्वपूर्ण है जो आज हम सब की परेशानी बनी हुई है मन की एकाग्रता तो देखिए अपने क्वेश्चन किया है कि इंसान का मन अपने बस में क्यों नहीं रहता या मनुष्य से अपने बस में रखता रखना नहीं चाहता कोई नहीं होगा जो अपने मन को अपने बस में रखना नहीं चाहता होगा हर कोई कोई ना कोई उपाय करता है जैसे ध्यान लगाना प्राणायाम करना व्यायाम करना ही होगा एक्सरसाइज वगैरा वगैरा लेकिन लगता है कि हर व्यक्ति मन की एकाग्रता चाहता है लेकिन मन की एकाग्रता हाथ नहीं कर पाता आज हम विज्ञान के युग में हम चारों तरफ से गिरे हुए हैं जैसे हम पक्का ही उदाहरण ले लें अगर हम पढ़ने बैठते हैं मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर टीवी पढ़ने में मन नहीं लगता पढ़ने बैठ जाता है तो या तो कोई मैसेज आ जाता है या फिर कुछ गेम्स वगैरह वायरस क्या है उसमें फंस जाता है तू मन की एकाग्रता आज का आज की जीवन का सबसे महत्वपूर्ण टॉपिक बन चुका है मेरा मानना है कि हम मन को एकाग्र लग पाना काफी मुश्किल है क्योंकि आज हम जिस युग में जी रहे हैं वह संसाधनों से भरा पड़ा है शॉर्टकट का उपयोग करने में लगा हुआ है वह चाहिए और मन की एकाग्रता आज के जीवन संभव है और यह तो हम सभी जानते हैं कि जो हमारे मन की जाती है वह हवा से भी तेज है और जब मिला दो साधु महात्मा लोग होते थे जंगलों में रहते थे उनके पास नहीं होते थे मैं यह नहीं कह रही हूं कि बिल्कुल नहीं होते होते थे लेकिन सा मानव संसाधन हुआ करते थे अपने मन को एकाग्र करने में आदि आदि

#जीवन शैली

sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:12
राधे आज जो क्वेश्चन किया गया है वह हमारी डेली लाइफ से रिलेटेड है कि जो लोग काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपने आप को लो प्रोफाइल क्यों रखना पसंद करते हैं रखते हैं तो देखिए यह तो हम सभी जानते हैं कि जिस व्यक्ति को जिस व्यक्ति को और सकते सफलता मिल जाती है उसके साथ उसने एकदम फ्री में चलने वाले भी मिल जाती है शैलेश करने वाली तो वह हमेशा अपने आपको हमेशा अपने आप को उनके सामने नॉर्मल नॉर्मल पिक करना चाहता है कि हां मैं नॉर्मल हूं मैं तुमसे ज्यादा इंटेलिजेंट नहीं हूं इसलिए करते हैं ताकि जब वह अपने लकी और आगे बढ़े तो जो उनके जेलस फील करने वाले होते हैं अगर वह अपने आप को लो प्रोफाइल का रखेंगे तो शायद उन्हें इससे कोई जल्दी नहीं करेगा और जल्दी नहीं करेगा तो उसके रास्ते में रुकावट कम से कम होगी और ग्रीन अपनी लक तक पहुंच जाएगा तो मेरा मानना है इसलिए जो व्यक्ति सफलता को हासिल कर लेता है या बुद्धिमान होता है मैं अपने आपको हमेशा लो प्रोफाइल रखना पसंद करता है या लगती है राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
आज के टाइम में पैसा ही सब कुछ है?Aaj Ke Time Mein Paisa Hi Sab Kuch Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:11
राधे राधे आज का क्वेश्चन है कि क्या आज के समय में पैसा सब कुछ है तो देखिए अगर हम आज की प्रजेंट की बात करें तो आज के समय में लोगों को बहुत अधिक महत्व देते हैं क्योंकि वह पैसा ही एक ऐसी चीज है जिसे लोग आपको बहुत ज्यादा इंपॉर्टेंट देते हैं लेकिन मेरे कहने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि व्यक्तित्व बिल्कुल भी मायने नहीं रखता पैसे का महत्व अपनी जगह पर अलग है और व्यक्तित्व का अलग है जो हमारा आज का समय चल रहा है उसमें व्यक्ति अधिकतर पैसे को ही महत्व देते हैं और माना गलत भी नहीं है क्योंकि पैसा ही एक वह चीज है जिसे सब कुछ खरीदा जा सकता है लेकिन खुशी और जो हमें दूसरों की हेल्प करने के बाद जो महसूस होता है वह नहीं खरीदा जा सकता तो मेरा मानना है कि पैसे का महत्व बहुत अधिक है व्यक्तित्व का मान भी बहुत अधिक है दुनिया और आप अपने सुंदर व्यक्तित्व लोगों के दिलों को जीतने राधे राधे

#जीवन शैली

bolkar speaker
आदमी जीवन में निराश क्यों होता है?Admi Jeevan Mein Niraash Kyun Hota Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:38
राधे राधे दोस्तों आज सवाल किया गया है कि आदमी जीवन में नाराज क्यों होता है तो देखिए आदमी अपने जीवन में तब होता है जब उसे तुरंत अपनी लाइफ में असफलताओं का सामना करना पड़े व्यक्ति एक बार ट्राई करेगा और उसे सफलता मिलेगी दोबारा ट्राई करेगा तो फिर सफलता मिलेगी लेकिन मेरा मानना है कि व्यक्तियों को भी अपने जीवन में हार नहीं माननी चाहिए या उसे अपने जीवन में निराशा नामक बीमारी रहना ही नहीं चाहिए दोबारा बिहार में एक बार और यह कहकर आपको दोबारा से ट्राई करना चाहिए और इसका सबसे बड़ा एग्जांपल है अभी वर्तमान में एलोन मस्क बंदे ने अपनी लगभग पूरी प्रॉपर्टी लगा दी उसको सक्सेसफुल बनाने में और अंततः वह सक्सेसफुल हुआ अपना पहला क्वेश्चन इंग्लिश में भेजा जो कि फेल हो गया दोबारा कोशिश की तब भी फेल हो गया तीसरी बार देखो तब भी फेल हो गया और फिर ना जाने का मजाक उड़ाया कोई भी प्राइवेट कंपनी ऐसे नहीं गलती उसने भी उसकी बात बची हुई थी और अंधता उसका भाई इस बीच में सक्सेसफुल हुआ और अब दुनिया का चौथा सबसे अमीर इंसान बन गया है राधे राधे
Raadhe raadhe doston aaj savaal kiya gaya hai ki aadamee jeevan mein naaraaj kyon hota hai to dekhie aadamee apane jeevan mein tab hota hai jab use turant apanee laiph mein asaphalataon ka saamana karana pade vyakti ek baar traee karega aur use saphalata milegee dobaara traee karega to phir saphalata milegee lekin mera maanana hai ki vyaktiyon ko bhee apane jeevan mein haar nahin maananee chaahie ya use apane jeevan mein niraasha naamak beemaaree rahana hee nahin chaahie dobaara bihaar mein ek baar aur yah kahakar aapako dobaara se traee karana chaahie aur isaka sabase bada egjaampal hai abhee vartamaan mein elon mask bande ne apanee lagabhag pooree propartee laga dee usako saksesaphul banaane mein aur antatah vah saksesaphul hua apana pahala kveshchan inglish mein bheja jo ki phel ho gaya dobaara koshish kee tab bhee phel ho gaya teesaree baar dekho tab bhee phel ho gaya aur phir na jaane ka majaak udaaya koee bhee praivet kampanee aise nahin galatee usane bhee usakee baat bachee huee thee aur andhata usaka bhaee is beech mein saksesaphul hua aur ab duniya ka chautha sabase ameer insaan ban gaya hai raadhe raadhe

#जीवन शैली

bolkar speaker
चेहरे से पिम्पल के काले दाग कैसे हटाए प्लीज बताए?Chehre Se Pimple Ke Kale Daag Kaise Hatye Please Btaye
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:20
जो भाई आज ही सवाल किया गया है कि चेहरे से पिंपल के काले दाग कहते हैं तो देखिए अगर तू ब्लैक डॉग होते हैं उन्हें ब्लेक सर्कल को हटाने का एक सिंपल सा उपाय अगर आपके पास एलोवेरा जेल नहीं है तो आप जो घर पर एलोवेरा लगा रहता है एलोवेरा तो अभी काम था अपने घर में लगा रहता है तो आप तो उसके अंदर जो जल होता है उसे ले और आप एक हफ्ता ट्राई करें आपको जरूर ब्लेक सर्कल हटाने में मदद मिलेगी और जो पिंपल होते हैं उस प्रॉब्लम के लिए आप तो वेतन एक चम्मच चम्मच हल्दी और मैं थोड़ा सा ही डालें और उन तीनों को अच्छी सीमित करके इनका पेंट बना ले और फिर कम से कम 5 मिनट अपने चेहरे पर लगाकर रखें तो आपके जो पिंपल होते हैं वह भी जल्दी चले जाएंगे क्या पर आप इतनी सारी दुनिया में नहीं पड़ना चाहते हैं तो आप फोन वाइट ब्यूटी फेस वाश यूज कर सकते हैं उससे भी आपको काफी मदद मिलेगी और कृपया बताएं आप की ट्रेन और जो आपकी स्किन है वह किस टाइम की है तो मैं आपको और भी उपाय बताऊंगी
Jo bhaee aaj hee savaal kiya gaya hai ki chehare se pimpal ke kaale daag kahate hain to dekhie agar too blaik dog hote hain unhen blek sarkal ko hataane ka ek simpal sa upaay agar aapake paas elovera jel nahin hai to aap jo ghar par elovera laga rahata hai elovera to abhee kaam tha apane ghar mein laga rahata hai to aap to usake andar jo jal hota hai use le aur aap ek haphta traee karen aapako jaroor blek sarkal hataane mein madad milegee aur jo pimpal hote hain us problam ke lie aap to vetan ek chammach chammach haldee aur main thoda sa hee daalen aur un teenon ko achchhee seemit karake inaka pent bana le aur phir kam se kam 5 minat apane chehare par lagaakar rakhen to aapake jo pimpal hote hain vah bhee jaldee chale jaenge kya par aap itanee saaree duniya mein nahin padana chaahate hain to aap phon vait byootee phes vaash yooj kar sakate hain usase bhee aapako kaaphee madad milegee aur krpaya bataen aap kee tren aur jo aapakee skin hai vah kis taim kee hai to main aapako aur bhee upaay bataoongee

#जीवन शैली

bolkar speaker
तुम दूसरों की जिंदगी में खुशी और मुस्कान लाने के लिए क्या कर सकते हैं?Tum Dusaro Kee Jindagi Me Khushi Or Muskaan Lane Ke Liye Kya Kar Sakte Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:15
राधे-राधे अंजू क्वेश्चन किया कि हम दूसरों की जिंदगी में खुशियां मुस्कान लाने के लिए क्या कर सकते हैं तो देखिए हर किसी की जिंदगी में खुशी का एक अपना अलग मतलब होता है गरीब इंसान को भोजन भोजन में होती है पैसों में होती है एक विद्यार्थी की खुशी पढ़ने में होती है और सबकी अपनी अपनी खुशियां और अपनी खुशियों की अलग-अलग मतलब है तो देखिए हम उन्हें उनकी खुशियों से मिलाकर उनकी जिंदगी में खुशियां ला सकते हैं जैसे कि कोई गरीब व्यक्ति है और अगर आप उसे भोजन दे देते हैं या पैसे दे देते हैं तो मैं उसे खुशी मिल गई किसी विद्यार्थी हो कोई व्यक्ति कैसे होते हैं समाज में जो पढ़ना चाहते हैं लेकिन मैं पढ़ नहीं पा रहे हैं तो आप शंकरा करने का खर्च उठा कर आप उनकी जिंदगी में खुशियां ला सकते हैं तो मेरा कहने का मतलब है कि सबकी जिंदगी में खुशी खुशी के अपने-अपने अलग-अलग मतलब होता है राधे-राधे
Raadhe-raadhe anjoo kveshchan kiya ki ham doosaron kee jindagee mein khushiyaan muskaan laane ke lie kya kar sakate hain to dekhie har kisee kee jindagee mein khushee ka ek apana alag matalab hota hai gareeb insaan ko bhojan bhojan mein hotee hai paison mein hotee hai ek vidyaarthee kee khushee padhane mein hotee hai aur sabakee apanee apanee khushiyaan aur apanee khushiyon kee alag-alag matalab hai to dekhie ham unhen unakee khushiyon se milaakar unakee jindagee mein khushiyaan la sakate hain jaise ki koee gareeb vyakti hai aur agar aap use bhojan de dete hain ya paise de dete hain to main use khushee mil gaee kisee vidyaarthee ho koee vyakti kaise hote hain samaaj mein jo padhana chaahate hain lekin main padh nahin pa rahe hain to aap shankara karane ka kharch utha kar aap unakee jindagee mein khushiyaan la sakate hain to mera kahane ka matalab hai ki sabakee jindagee mein khushee khushee ke apane-apane alag-alag matalab hota hai raadhe-raadhe

#जीवन शैली

bolkar speaker
हमें किस बारे में चिंता करनी चाहिए ?Hume Kis Bare Mein Chinta Karni Chaiye Hume Kya Chinta Karni Chaiye
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:11
राधे राधे आज प्रश्न किया गया है या में किस बारे में चिंता करनी चाहिए तो देखिए जहां तक मेरा मानना है तो हमें चिंता करनी ही नहीं चाहिए किसी भी विषय पर चिंता नहीं करनी चाहिए क्योंकि शास्त्रों में भी कहा गया है कि चिंता ही एक ऐसी चीज है जो मनुष्य को चिता तक ले जाती है तो आता ही मनुष्य की मृत्यु है तू चिंता नहीं करनी चाहिए यह नहीं कह रहे हो चिंता नहीं करनी चाहिए बहुत चिंता करने गई है सभी को करनी चाहिए क्योंकि थोड़ी बहुत टेंशन तो सभी को होनी चाहिए अपने फ्यूचर के बारे में लेकिन मैं यह भी नहीं कह रही हूं कि आप हर वक्त टेंशन लेकर बैठी रहे क्योंकि जनता को छटा वेतनमान आ गया तू चिंता मत कर तू करें और उसे ही माने में लगे रहे चिंता का बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए और करते ही हैं के बारे में चिंता करें राधे-राधे
Raadhe raadhe aaj prashn kiya gaya hai ya mein kis baare mein chinta karanee chaahie to dekhie jahaan tak mera maanana hai to hamen chinta karanee hee nahin chaahie kisee bhee vishay par chinta nahin karanee chaahie kyonki shaastron mein bhee kaha gaya hai ki chinta hee ek aisee cheej hai jo manushy ko chita tak le jaatee hai to aata hee manushy kee mrtyu hai too chinta nahin karanee chaahie yah nahin kah rahe ho chinta nahin karanee chaahie bahut chinta karane gaee hai sabhee ko karanee chaahie kyonki thodee bahut tenshan to sabhee ko honee chaahie apane phyoochar ke baare mein lekin main yah bhee nahin kah rahee hoon ki aap har vakt tenshan lekar baithee rahe kyonki janata ko chhata vetanamaan aa gaya too chinta mat kar too karen aur use hee maane mein lage rahe chinta ka bilkul bhee nahin karanee chaahie aur karate hee hain ke baare mein chinta karen raadhe-raadhe

#जीवन शैली

bolkar speaker
कठोर से कठोर आदमी को किस अवसर पर आंसू आते हैं?Kathor Se Kathor Aadmi Ko Kis Avsar Par Aansu Aate Hain
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
1:00
राधे राधे आज सवाल किया गया है कि कठोर से कठोर आदमी इस अवसर पर आंसू आ जाते हैं देखिए कोई भी एक नारी कठोर निर्णय का क्यों ना हों यदि कोई मार्मिक कथा चल रही हो कोई व्यक्ति जिससे उस व्यक्ति का बहुत अधिक लाभ या तो उसकी मृत्यु हो गई हो या दुर्घटना हो गई हो तो कितना भी गटर गटर का व्यक्ति क्यों ना हो लेकिन उसकी आंखों में आंसू आ जाते हैं यह मैंने खुद देखा है यह परमार धरती है कितने ही कठोर लड़का क्यों ना हो और मेरा मानना है जो दिन में कठोर निर्णय का होता है अंदर से उतना ही कोमल होता है और एग्जाम पढ़ना लिखना रियल देखिए जो आंसू होते हैं और जाते हैं उस का प्रतीक है राधे राधे
Raadhe raadhe aaj savaal kiya gaya hai ki kathor se kathor aadamee is avasar par aansoo aa jaate hain dekhie koee bhee ek naaree kathor nirnay ka kyon na hon yadi koee maarmik katha chal rahee ho koee vyakti jisase us vyakti ka bahut adhik laabh ya to usakee mrtyu ho gaee ho ya durghatana ho gaee ho to kitana bhee gatar gatar ka vyakti kyon na ho lekin usakee aankhon mein aansoo aa jaate hain yah mainne khud dekha hai yah paramaar dharatee hai kitane hee kathor ladaka kyon na ho aur mera maanana hai jo din mein kathor nirnay ka hota hai andar se utana hee komal hota hai aur egjaam padhana likhana riyal dekhie jo aansoo hote hain aur jaate hain us ka prateek hai raadhe raadhe

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
भारत का भारत के राष्ट्रपति का नाम क्या है?Bhaarat Ka Bhaarat Ke Raashtrapati Ka Naam Kya Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:18
राधे राधे आज हमने किसने किया है कि हमारे देश का राष्ट्रपति कौन है देखिए हमारा 2021 के वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद है राधे-राधे
Raadhe raadhe aaj hamane kisane kiya hai ki hamaare desh ka raashtrapati kaun hai dekhie hamaara 2021 ke vartamaan raashtrapati raamanaath kovind hai raadhe-raadhe

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत का प्रथम राष्ट्रपति कौन है?Bhaarat Ka Pratham Raashtrapati Kaun Hai
sargam shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sargam जी का जवाब
I am only student👩‍🎓
0:45
राधे राधे सवाल किया कि भारत के प्रथम राष्ट्रपति कौन है कि जो हमारे भारत के इंडिया के प्रथम राष्ट्रपति हैं जब हमारा देश आजाद आजाद हुआ था तुरंत बाद डॉ राजेंद्र प्रसाद जी को बना दिया गया और वह हमारे संविधान सभा हुई थी जो उसके अध्यक्ष गौरव भाई को महान महापुरुष महापुरुष के लिए भारत के मुख्य अतिथि और हमारे भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और अभी वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जी राधे राधे
Raadhe raadhe savaal kiya ki bhaarat ke pratham raashtrapati kaun hai ki jo hamaare bhaarat ke indiya ke pratham raashtrapati hain jab hamaara desh aajaad aajaad hua tha turant baad do raajendr prasaad jee ko bana diya gaya aur vah hamaare sanvidhaan sabha huee thee jo usake adhyaksh gaurav bhaee ko mahaan mahaapurush mahaapurush ke lie bhaarat ke mukhy atithi aur hamaare bhaarat ke pratham pradhaanamantree pandit javaaharalaal neharoo aur abhee vartamaan raashtrapati raamanaath kovind jee raadhe raadhe
URL copied to clipboard