#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मैं जनवरी से स्कूल जा रही हूं प्रेजेंट कंटीन्यूअस टेंस?Main January Se School Ja Rahi Hoon Present Continous Tense
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:10
मैं जनवरी से स्कूल जा रही हूं कौन सा टेंस है यह देखिए यह प्रेजेंट परफेक्ट कंटीन्यूअस टेंस है क्योंकि प्रजेंट में है यह परफेक्ट मतलब टाइमिंग दी हुई है तो यूनिपथ लब प्रेजेंट परफेक्ट कंटीन्यूअस का सही ट्रांसलेशन क्या होगा भाई इसमें तो सिर्फ ऐसा नहीं है कि साथ में दिन का भी यूज होगा तो इसका सही ट्रांसलेशन होगा आई हैव बीन गोइंग टू स्कूल सिंस जनवरी क्योंकि जनवरी 1 पॉइंट तक टाइम है यदि पॉइंट टाइम दिया हुआ हूं जो चीज का यूज़ होगा और क्वांटिटी ऑफ टाइम दिया हुआ हूं कि 2 दिन 4 दिन एक हफ्ता एक साथ तो फॉर का यूज होगा कितना स्टेशन है आई हैव बीन गोइंग टू स्कूल से जनवरी के फर्स्ट जनवरी नहीं जनवरी तक इसमें यह नहीं लिखा एक जनवरी से जा रही हूं जनवरी से जा रही हूं इसलिए आई हैव बीन गोइंग टू स्कूल से जनवरी इसी प्रकार के इंग्लिश से जुड़े वीडियो देखने के लिए और अनेक अनेक रोचक तथ्य को सुनने के लिए प्लीज मेरा चैनल सब्सक्राइब करें
Main janavaree se skool ja rahee hoon kaun sa tens hai yah dekhie yah prejent paraphekt kanteenyooas tens hai kyonki prajent mein hai yah paraphekt matalab taiming dee huee hai to yoonipath lab prejent paraphekt kanteenyooas ka sahee traansaleshan kya hoga bhaee isamen to sirph aisa nahin hai ki saath mein din ka bhee yooj hoga to isaka sahee traansaleshan hoga aaee haiv been going too skool sins janavaree kyonki janavaree 1 point tak taim hai yadi point taim diya hua hoon jo cheej ka yooz hoga aur kvaantitee oph taim diya hua hoon ki 2 din 4 din ek haphta ek saath to phor ka yooj hoga kitana steshan hai aaee haiv been going too skool se janavaree ke pharst janavaree nahin janavaree tak isamen yah nahin likha ek janavaree se ja rahee hoon janavaree se ja rahee hoon isalie aaee haiv been going too skool se janavaree isee prakaar ke inglish se jude veediyo dekhane ke lie aur anek anek rochak tathy ko sunane ke lie pleej mera chainal sabsakraib karen

#टेक्नोलॉजी

Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:58
भैया व्हाट्सएप अभी तक यूज कर रही हैं क्या करें समझ नहीं आ रहा क्या प्राइवेसी पॉलिसी है भैया समझ लिया अभी किए कि व्हाट्सएप में दो बार आप ना चले क्लेरिफिकेशन लिया है तुम्हारा भैया हम अपनी लोकेशन जो आप सेंड करेंगे वह नहीं लेंगे आपकी जो पर्सनल चैट होगी उनको हम नहीं पड़ेंगे वह पहले की तरह की छुट्टी रहेगी आपकी सारी जानकारी पहले की तरह सिर्फ रहेगी बस अब व्हाट्सएप बिजनेस जो एक एप्लीकेशन होती है उसके अंदर कोई वेबसाइट करेंगे तो हम उसको बिजनेस के लिए अपने खुद के बिजनेस के लिए एडवर्टाइजमेंट के लिए यूज करें लेकिन दोस्तों मैं आपको एक बात बताना चाहता हूं कि व्हाट्सएप आपका डाटा सिर्फ अभी से नहीं कलेक्ट कर रहा आपको पता होगा कि व्हाट्सएप और फेसबुक और इंस्टाग्राम जमीन खरीदी थी तो जब आप फेसबुक यूज करते हैं तो मैं उसके लिए बताना चाहूंगा कि उसके अंदर आपका कोई नहीं डाटा इंक्रिप्टेड नहीं है यदि आपके फोन में फेसबुक हेतु आपका सारा डाटा ऑलरेडी फेसबुक के पास में है यह बस व्हाट्सएप के लिए अलग से नोटिफिकेशन लाया गया उस पर लोगों ने ध्यान दे दिया और वह पूरी तरह से जो है व्हाट्सएप या फेसबुक पर उल्टा पड़ गया क्योंकि दोनों की मालिक एक ही तो वही बात अब आपको क्या ध्यान रखना है ध्यान वही रख नहीं जो पहले रखते थे कि कुछ भी उल्टा सीधा शेयर ना करें व्हाट्सएप पर कोई भी लिंक पर क्लिक ना करें आप की लोकेशन अभी तो वह कह रही हैं कि आप की लोकेशन एक्सेस नहीं करेंगे ना पिक्चर को पड़ेंगे लेकिन हां अगर आप सिग्नल पर सेट कर सके आपके लिए अभी अभी कंपटीशन हो तो ज्यादा सुरक्षित रहेगा क्योंकि व्हाट्सएप कभी ना कभी पैसा बनाने की कोशिश करेगा आपसे चाहिए आज नहीं तो कल सिग्नल यूज कीजिए non-profit ऑर्गेनाइजेशन तो यदि आपको अपनी प्राइवेसी सबसे ज्यादा प्यारी है तो प्लीज सिग्नल यूज कीजिए कि मैं कहूंगा कि आप ऐप यूज ना करें क्योंकि यदि आप फेसबुक का ऐप यूज करते हैं तो आप की लोकेशन हमेशा ध्यान रखता है आपका सारा डाटा फेसबुक के पास में होता है ब्राउज़र खोल सकते हैं कभी कभी फेसबुक उसे चलानी चाहिए उससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा जहां तक डाटा की बात है तो यदि फेसबुक इंस्टाग्राम अभी आपके पास में है तो ऑलरेडी आपकी सारी फोटोस जो भी आपके फोन में हैं जो भी आपने मैसेज किए हैं फेसबुक पर या इंस्टाग्राम पर किसी को वह उसके अंदर कोई भी नुकसान नहीं है इंक्रिप्शन मतलब फेसबुक आपका डाटा पड सकता है इनके से मतलबी हो गया कि आपका डाटा उसके ऊपर स्टार्ट तो दही का फेसबुक के पास में लेकिन फेसबुक वाला खुद को नहीं पढ़ पाएगा खुद आपके डाटा को नहीं पढ़ पाएगा लेकिन फेसबुक इंस्टाग्राम ऐसा कोई सिस्टम नहीं है तो प्लीज आप फेसबुक पर कोई भी प्राइवेट चैट ना करें और करें तो सिग्नल पर करें धन्यवाद प्लीज लाइक एंड सब्सक्राइब कीजिए
Bhaiya vhaatsep abhee tak yooj kar rahee hain kya karen samajh nahin aa raha kya praivesee polisee hai bhaiya samajh liya abhee kie ki vhaatsep mein do baar aap na chale kleriphikeshan liya hai tumhaara bhaiya ham apanee lokeshan jo aap send karenge vah nahin lenge aapakee jo parsanal chait hogee unako ham nahin padenge vah pahale kee tarah kee chhuttee rahegee aapakee saaree jaanakaaree pahale kee tarah sirph rahegee bas ab vhaatsep bijanes jo ek epleekeshan hotee hai usake andar koee vebasait karenge to ham usako bijanes ke lie apane khud ke bijanes ke lie edavartaijament ke lie yooj karen lekin doston main aapako ek baat bataana chaahata hoon ki vhaatsep aapaka daata sirph abhee se nahin kalekt kar raha aapako pata hoga ki vhaatsep aur phesabuk aur instaagraam jameen khareedee thee to jab aap phesabuk yooj karate hain to main usake lie bataana chaahoonga ki usake andar aapaka koee nahin daata inkripted nahin hai yadi aapake phon mein phesabuk hetu aapaka saara daata olaredee phesabuk ke paas mein hai yah bas vhaatsep ke lie alag se notiphikeshan laaya gaya us par logon ne dhyaan de diya aur vah pooree tarah se jo hai vhaatsep ya phesabuk par ulta pad gaya kyonki donon kee maalik ek hee to vahee baat ab aapako kya dhyaan rakhana hai dhyaan vahee rakh nahin jo pahale rakhate the ki kuchh bhee ulta seedha sheyar na karen vhaatsep par koee bhee link par klik na karen aap kee lokeshan abhee to vah kah rahee hain ki aap kee lokeshan ekses nahin karenge na pikchar ko padenge lekin haan agar aap signal par set kar sake aapake lie abhee abhee kampateeshan ho to jyaada surakshit rahega kyonki vhaatsep kabhee na kabhee paisa banaane kee koshish karega aapase chaahie aaj nahin to kal signal yooj keejie non-profit orgenaijeshan to yadi aapako apanee praivesee sabase jyaada pyaaree hai to pleej signal yooj keejie ki main kahoonga ki aap aip yooj na karen kyonki yadi aap phesabuk ka aip yooj karate hain to aap kee lokeshan hamesha dhyaan rakhata hai aapaka saara daata phesabuk ke paas mein hota hai brauzar khol sakate hain kabhee kabhee phesabuk use chalaanee chaahie usase jyaada phark nahin padega jahaan tak daata kee baat hai to yadi phesabuk instaagraam abhee aapake paas mein hai to olaredee aapakee saaree photos jo bhee aapake phon mein hain jo bhee aapane maisej kie hain phesabuk par ya instaagraam par kisee ko vah usake andar koee bhee nukasaan nahin hai inkripshan matalab phesabuk aapaka daata pad sakata hai inake se matalabee ho gaya ki aapaka daata usake oopar staart to dahee ka phesabuk ke paas mein lekin phesabuk vaala khud ko nahin padh paega khud aapake daata ko nahin padh paega lekin phesabuk instaagraam aisa koee sistam nahin hai to pleej aap phesabuk par koee bhee praivet chait na karen aur karen to signal par karen dhanyavaad pleej laik end sabsakraib keejie

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
जब हमारे अंतरण में भगवान और कण-कण में भगवान है तो फिर हम मंदिरों में क्या करने जाते हैं?Jab Hamare Antaran Mein Bhagwan Aur Kan Kan Mein Bhagwan Hai To Phir Hum Mandiron Mein Kya Karne Jate Hain
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:28
जो अंतरण में भगवान है कण-कण में भगवान हैं तो मंदिरों में जाने की क्या जरूरत है क्यों बनाया के मंदिर देखिए यह प्रश्न इसी प्रकार का हो गया कि जब कण-कण में ऑक्सीजन है पूरे वायुमंडल में ऑक्सीजन है तो उस मरीज बेड पर लेटा है उसे सिलेंडर के माध्यम से तारों के माध्यम से पाइपों के माध्यम से ऑक्सीजन देने की क्या जरूरत हो तो खुद ले सकता है पूरे वायुमंडल में ऑक्सीजन है क्यों नहीं लेता या फिर पानी किस से बनता है हाइड्रोजन से और ऑक्सीजन हाइड्रोजन और ऑक्सीजन दोनों वायुमंडल पर विद्यमान है उन्हें गिलास भर की जग में पानी डाल के कुंए से पानी निकालकर तुम्हें उसे पीने की क्या जरूरत है इसी प्रकार से जब संतुष्टि की भूख होती है जब परमात्मा की भूख होती है तो मंदिर ट्रुथ का काम करता है जान को बैठाने के लिए वह पूरी तरह से कौन सी क्रीटेड होता है पुरानी जो मंदिर होते थे उनके अंदर एक ऊर्जा का प्रभाव होता है पवित्र वातावरण होता है वह तो कहीं भी हो सकता है लेकिन एक तरह के साधन की तरह काम करते हैं जो हमारे और परमात्मा के मिलन के बीच में एक पुल का काम करो परमात्मा और आपके बीच में एक पुल का काम करते हैं जोड़ने का तो उत्तर वैसे इस प्रश्न की कोई नया प्रश्न नहीं है इसमें हिंदू धर्म में ही कई हजारों सालों से लड़ाई तो नहीं कहूंगा लेकिन हां बातचीत होती चली आ रही है जो वैद्वादी होते हैं आतंकवादी होते हैं वैद्वादी या आर्य समाज वाले यह मंदिर नहीं जाते मंदिर नहीं पूछते हैं खुद के अंदर भगवान होने का विश्वास रखते हैं दूसरी तरफ जो भक्ति योग के हैं वह अपने कृष्ण की राम की मूरत बनाकर उनकी पूजा करते हैं वह समझते हैं कि वह कृष्णा की मूरत नहीं वह कृष्ण और और जो भक्त है उसे जोड़ने का एक माध्यम है यह मैसेज नया प्रश्न नहीं था लेकिन हां इसके उत्तर कहीं विद्वानों ने दिए हैं मैंने अपने उत्तर देने का प्रयास किया यदि उत्तर पसंद आया हो तो चैनल को जरूर सब्सक्राइब कीजिए गा मेरे और मैं आपके सवालों का जवाब नहीं देता रहूंगा धन्यवाद
Jo antaran mein bhagavaan hai kan-kan mein bhagavaan hain to mandiron mein jaane kee kya jaroorat hai kyon banaaya ke mandir dekhie yah prashn isee prakaar ka ho gaya ki jab kan-kan mein okseejan hai poore vaayumandal mein okseejan hai to us mareej bed par leta hai use silendar ke maadhyam se taaron ke maadhyam se paipon ke maadhyam se okseejan dene kee kya jaroorat ho to khud le sakata hai poore vaayumandal mein okseejan hai kyon nahin leta ya phir paanee kis se banata hai haidrojan se aur okseejan haidrojan aur okseejan donon vaayumandal par vidyamaan hai unhen gilaas bhar kee jag mein paanee daal ke kune se paanee nikaalakar tumhen use peene kee kya jaroorat hai isee prakaar se jab santushti kee bhookh hotee hai jab paramaatma kee bhookh hotee hai to mandir truth ka kaam karata hai jaan ko baithaane ke lie vah pooree tarah se kaun see kreeted hota hai puraanee jo mandir hote the unake andar ek oorja ka prabhaav hota hai pavitr vaataavaran hota hai vah to kaheen bhee ho sakata hai lekin ek tarah ke saadhan kee tarah kaam karate hain jo hamaare aur paramaatma ke milan ke beech mein ek pul ka kaam karo paramaatma aur aapake beech mein ek pul ka kaam karate hain jodane ka to uttar vaise is prashn kee koee naya prashn nahin hai isamen hindoo dharm mein hee kaee hajaaron saalon se ladaee to nahin kahoonga lekin haan baatacheet hotee chalee aa rahee hai jo vaidvaadee hote hain aatankavaadee hote hain vaidvaadee ya aary samaaj vaale yah mandir nahin jaate mandir nahin poochhate hain khud ke andar bhagavaan hone ka vishvaas rakhate hain doosaree taraph jo bhakti yog ke hain vah apane krshn kee raam kee moorat banaakar unakee pooja karate hain vah samajhate hain ki vah krshna kee moorat nahin vah krshn aur aur jo bhakt hai use jodane ka ek maadhyam hai yah maisej naya prashn nahin tha lekin haan isake uttar kaheen vidvaanon ne die hain mainne apane uttar dene ka prayaas kiya yadi uttar pasand aaya ho to chainal ko jaroor sabsakraib keejie ga mere aur main aapake savaalon ka javaab nahin deta rahoonga dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
यदि हमारे लक्ष्य 5 है तो उन में से कौन सा चुने?Yadi Hamare Lakshya 5 Hai To Un Mein Se Kaun Sa Chune
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:17
प्रश्न यह है कि मेरे लक्ष्यदीप आज तुम उन में से कौन सा चुना लेकिन मैं यह कहता हूं कि चाहे आपके लक्ष्य 10 हैं सबसे पहले आपको यह क्लियर करना है कि कौन सा ऐसा काम है जो आप जिंदगी भर कर पाएंगे उस बिना उसका हमसे बोर हुए लगन के साथ में बिना उस काम को छोड़ें फिर यह चीज है कि आप चाहे कोई भी काम करने आपको हमेशा ऐसा लगेगा कि आज वह दूसरा वाला काम कर लेता तो शायद मैं उसको ज्यादा अच्छे से कर पाता लेकिन जब सी भी चीज आ जाती है यह हर इंसान के साथ में आती है चाहे कितना भी रिसर्च करने कितनी वो अपने लक्ष्य के बारे में पता कर ले कि मैं कि मेरी लिए क्या बढ़िया रहेगा लेकिन आप जिस भी चीज को करेंगे आपके मन में यह ख्याल जरूर आएगा कि अब मैं दूसरी तो शायद वह भैया होता तो मेरा यह मानना है कि आप चाहे पांचों में से किसी भी एक चीज कोरंडम ले सुन ले लेकिन यदि आप उस चीज को बिना रुके बिना थके लगन के साथ में अच्छे से करते हैं खुद की सेटिस्फेक्शन के साथ में कोई मैटर नहीं करता कि वह चीज सही है या दूसरी चीज सहित आप जिस चीज को अपने ढंग से कर लिया वह चीज आपके लिए सही हो जाएगी यही सबसे बड़ी चीज है कि आपकी लक्ष्य चाहे 549 ऐसी चीज हो जो आपके लक्ष्य में सेना भी हो लेकिन यदि आपने खा लिया कि मैं को इस चीज को करना है उसी चीज को अच्छे से करना है और बस इसी चीज को करना है तो वह चाहे इसे सही हो या ना हो आपके लिए कम से कम आपके लिए आपके परिवार के लिए आपकी फ्यूचर के लिए वह चीज काम कर जाएगी यदि आपने उसको अच्छे से किया है आपने उसको ईमानदारी से किया तो यह मैटर नहीं करता कि आपके पास कितने लगते हैं किसी भी एक कुछ नहीं है क्योंकि कोई चीज सही या गलत नहीं होती सही कहा तभी पता लगता है जब हम उसको करते हुए कई साल हो गए होते और फिर हम पीछे मुड़कर देखते हैं कि सही किया या गलत किया उससे पहले पता नहीं लग सकता कि आप क्या करेंगे लेकिन हां जो भी करेंगे आप यदि उसको अच्छे ढंग से करते हैं तो अच्छी चीज ही होगी आपके साथ में अच्छा ही होगा यदि आप अपनी पूरी जान लगा देते हैं सिर्फ एक चीज को करने के लिए धन्यवाद
Prashn yah hai ki mere lakshyadeep aaj tum un mein se kaun sa chuna lekin main yah kahata hoon ki chaahe aapake lakshy 10 hain sabase pahale aapako yah kliyar karana hai ki kaun sa aisa kaam hai jo aap jindagee bhar kar paenge us bina usaka hamase bor hue lagan ke saath mein bina us kaam ko chhoden phir yah cheej hai ki aap chaahe koee bhee kaam karane aapako hamesha aisa lagega ki aaj vah doosara vaala kaam kar leta to shaayad main usako jyaada achchhe se kar paata lekin jab see bhee cheej aa jaatee hai yah har insaan ke saath mein aatee hai chaahe kitana bhee risarch karane kitanee vo apane lakshy ke baare mein pata kar le ki main ki meree lie kya badhiya rahega lekin aap jis bhee cheej ko karenge aapake man mein yah khyaal jaroor aaega ki ab main doosaree to shaayad vah bhaiya hota to mera yah maanana hai ki aap chaahe paanchon mein se kisee bhee ek cheej korandam le sun le lekin yadi aap us cheej ko bina ruke bina thake lagan ke saath mein achchhe se karate hain khud kee setisphekshan ke saath mein koee maitar nahin karata ki vah cheej sahee hai ya doosaree cheej sahit aap jis cheej ko apane dhang se kar liya vah cheej aapake lie sahee ho jaegee yahee sabase badee cheej hai ki aapakee lakshy chaahe 549 aisee cheej ho jo aapake lakshy mein sena bhee ho lekin yadi aapane kha liya ki main ko is cheej ko karana hai usee cheej ko achchhe se karana hai aur bas isee cheej ko karana hai to vah chaahe ise sahee ho ya na ho aapake lie kam se kam aapake lie aapake parivaar ke lie aapakee phyoochar ke lie vah cheej kaam kar jaegee yadi aapane usako achchhe se kiya hai aapane usako eemaanadaaree se kiya to yah maitar nahin karata ki aapake paas kitane lagate hain kisee bhee ek kuchh nahin hai kyonki koee cheej sahee ya galat nahin hotee sahee kaha tabhee pata lagata hai jab ham usako karate hue kaee saal ho gae hote aur phir ham peechhe mudakar dekhate hain ki sahee kiya ya galat kiya usase pahale pata nahin lag sakata ki aap kya karenge lekin haan jo bhee karenge aap yadi usako achchhe dhang se karate hain to achchhee cheej hee hogee aapake saath mein achchha hee hoga yadi aap apanee pooree jaan laga dete hain sirph ek cheej ko karane ke lie dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अंग्रेजी कैसे सीखें?Angreji Kaise Seekhe
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:58
देखी अंग्रेजी तो सिर्फ वैसे तो एक भाषा है किसी की बुद्धिमता का अनुमान उसकी भाषा से नहीं लगाया जाना चाहिए लेकिन प्रजेंट कांटेक्ट में यानी कि आज के कांटेक्ट में हम देखें तो अंग्रेजी को बहुत ज्यादा महत्व दिया जाता है यह इंटरनेशनल लैंग्वेज भी है तो उसे सीखना भी बहुत ज्यादा जरूरी है मैं आपको बताऊंगा कि मैंने कैसे अंग्रेजी सीखी मेरा क्या जगी रही अंग्रेजी को सीखने में तो मेरा क्लास 10th तक मीडियम हिंदी था उसके बाद में मैंने मीडियम चेंज किया इलेवंथ ट्वेल्थ में कॉमर्स के साथ में इंग्लिश मीडियम किया मुझे इतनी प्रॉब्लम नहीं आई लेकिन मैं हां आपकी मदद कर सकता हूं कि चाहे आप स्कूल से निकल चुके हैं चाय स्कूल में है चाय कॉलेज में है आपको अंग्रेजी सीखने में जरूर मिलेगी तो पहला तरीका यह है यह स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस है उसे आप को फॉलो करना पड़ेगा कि पहले तो आप अंग्रेजी वाक्यों का सेंटेंस स्ट्रक्चर मतलब वाक्यों को पढ़ें उन्हें ऑब्जर्व करें कि वह बंद कैसे रहे हैं आप भूल पड़े की है किसके साथ में आता है हर किसके साथ में आ रहा है तू किसके साथ में आ रहा है बस किसके साथ में आ रहा है कि आपको बाद में दिक्कत ना आपके मन में लग ना जाए कि मुझे तो हम भी सीखनी ही है ईद की सबसे आप पर सबसे ज्यादा डिपेंडेंट है कि आप कितना ज्यादा इसके प्रति सीरियस है कि आपको अंग्रेजी सीखनी है या नहीं जब अब बहुत ज्यादा सीरियस है तो आप कोई भी अंग्रेजी की किताब खरीदी जो जैसे रैपिडेक्स इंग्लिश कोर्स है यह कोई भी आपके मनपसंद कहानियों की किताब है आप वह खरीदे और उसी हिंदी ट्रांसलेशन भजन के खरीदे दोनों को लाइन टू लाइन मिला कर देख कर आपको समझ नहीं आएगा पहले लेकिन खाली ऑब्जर्व करें खाली देखे उसको समझने की कोशिश करें 2 बार 4 बार उसको अच्छे से समझा इसी तरह से कोई भी चालू भी हो जाए आपको इंग्लिश कंटेंट देखना है उसके अंदर सबटाइटल्स के साथ में आजकल देख सकते हैं यूट्यूब पर भी काफी वीडियो जब लेबल है उसकी औरत के साथ में चला उसका प्रेक्टिकल इसको सुनेंगे एक बच्चा कोई भाषा कैसे सुनता है वह शुरू में बोलता नहीं है वह पहले सिर्फ सुनता है उसी प्रकार से आप से सुनिए पढ़िए समझिए उसके बाद में जवाब को सिर्फ समझने में कॉन्फिडेंस आने लग जाए कि हां अब मुझे किसी भी प्रकार की कोई अंग्रेजी में बोल रहा हो तो कम से कम समझ में तो आ जाएगा जब आपकी यह क्षति हो जाए उसके बाद में बोलना 20 धीरे-धीरे स्टार्ट कीजिए खुद के साथ में बोलिए मन के अंदर किसी भी सेंटेंस को पकड़ लीजिए कि कि आज इसका इंग्लिश में मतलब क्या होगा इसी तरह से धीरे-धीरे आपकी इंग्लिश दूर होती जाएगी कोई भी मुश्किल काम नहीं है कोई भी बच्चा अंग्रेजों में झाड़ू निकालने वाला भी अंग्रेजी बोलता है आप तो शेर भी बहुत अच्छे हैं जरूर सीखेंगे मेहनत करते रहिए नगर
Dekhee angrejee to sirph vaise to ek bhaasha hai kisee kee buddhimata ka anumaan usakee bhaasha se nahin lagaaya jaana chaahie lekin prajent kaantekt mein yaanee ki aaj ke kaantekt mein ham dekhen to angrejee ko bahut jyaada mahatv diya jaata hai yah intaraneshanal laingvej bhee hai to use seekhana bhee bahut jyaada jarooree hai main aapako bataoonga ki mainne kaise angrejee seekhee mera kya jagee rahee angrejee ko seekhane mein to mera klaas 10th tak meediyam hindee tha usake baad mein mainne meediyam chenj kiya ilevanth tvelth mein komars ke saath mein inglish meediyam kiya mujhe itanee problam nahin aaee lekin main haan aapakee madad kar sakata hoon ki chaahe aap skool se nikal chuke hain chaay skool mein hai chaay kolej mein hai aapako angrejee seekhane mein jaroor milegee to pahala tareeka yah hai yah step baay step proses hai use aap ko pholo karana padega ki pahale to aap angrejee vaakyon ka sentens strakchar matalab vaakyon ko padhen unhen objarv karen ki vah band kaise rahe hain aap bhool pade kee hai kisake saath mein aata hai har kisake saath mein aa raha hai too kisake saath mein aa raha hai bas kisake saath mein aa raha hai ki aapako baad mein dikkat na aapake man mein lag na jae ki mujhe to ham bhee seekhanee hee hai eed kee sabase aap par sabase jyaada dipendent hai ki aap kitana jyaada isake prati seeriyas hai ki aapako angrejee seekhanee hai ya nahin jab ab bahut jyaada seeriyas hai to aap koee bhee angrejee kee kitaab khareedee jo jaise raipideks inglish kors hai yah koee bhee aapake manapasand kahaaniyon kee kitaab hai aap vah khareede aur usee hindee traansaleshan bhajan ke khareede donon ko lain too lain mila kar dekh kar aapako samajh nahin aaega pahale lekin khaalee objarv karen khaalee dekhe usako samajhane kee koshish karen 2 baar 4 baar usako achchhe se samajha isee tarah se koee bhee chaaloo bhee ho jae aapako inglish kantent dekhana hai usake andar sabataitals ke saath mein aajakal dekh sakate hain yootyoob par bhee kaaphee veediyo jab lebal hai usakee aurat ke saath mein chala usaka prektikal isako sunenge ek bachcha koee bhaasha kaise sunata hai vah shuroo mein bolata nahin hai vah pahale sirph sunata hai usee prakaar se aap se sunie padhie samajhie usake baad mein javaab ko sirph samajhane mein konphidens aane lag jae ki haan ab mujhe kisee bhee prakaar kee koee angrejee mein bol raha ho to kam se kam samajh mein to aa jaega jab aapakee yah kshati ho jae usake baad mein bolana 20 dheere-dheere staart keejie khud ke saath mein bolie man ke andar kisee bhee sentens ko pakad leejie ki ki aaj isaka inglish mein matalab kya hoga isee tarah se dheere-dheere aapakee inglish door hotee jaegee koee bhee mushkil kaam nahin hai koee bhee bachcha angrejon mein jhaadoo nikaalane vaala bhee angrejee bolata hai aap to sher bhee bahut achchhe hain jaroor seekhenge mehanat karate rahie nagar

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
चौहान वंश के प्रमुख शासकों के नाम लिखो?Chauhan Vansh Ke Pramukh Shaaskon Ke Naam Likho
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:50
दीक्षित चौहानों का राजस्थान की इतिहास में एक बहुत बड़ा रोल रहा है चौहान भी अलग-अलग क्षेत्रों के हुए जैसे शाकंभरी के चौहान हैं और रणथंबोर के चौहान हैं जालौर के चौहान हैं सिरोही के चोरा चौहान है हाडोती के चौहान हैं तो यह सभी चौहान हुए इन सभी के संस्थापक अलग-अलग थे इन सभी ने अलग-अलग क्षेत्रों में राज किया तो जैसे हम मां शाकंभरी के चौहानों की बात करते हैं जिनका चंद्रवरदाई ने अग्नि कुंड से पृथ्वीराज रासो ग्रंथ में बताया है कि उनकी उत्पत्ति अग्निकुंड में हुई थी कर्नल टॉड ने माना है कि विदेशी थे इसी प्रकार से अलग-अलग इतिहासकारों ने अलग-अलग जाती है कि इनको उत्पत्ति कहां से हुई शाकंभरी चौहानों की बात की जाए तो उनके संस्थापक वासुदेव चौहान थे उसके बाद में प्रथम विजय राज विग्रहराज द्वितीय द्वितीय अजय राज अनुराज विग्रहराज चतुर्थ सभा विराज चौहान तृतीय जो सबसे इंपॉर्टेंट माने जाते हैं जिन्होंने और पृथ्वीराज चौहान है उन्होंने मोहम्मद गोरी के साथ में 1991 में तराइन का युद्ध किया 1991 वाला हो जीते इसके बाद में ब्यान में मोहम्मद गोरी ने उन को हराया उसके बाद में ही भारत में जो मुस्लिम आक्रांता ओं का जो प्रसार हुआ इसी तरह से इसके बाद में आते हैं रणथंबोर के चौहान जिन के संस्थापक गोविंद राज थे उनके बाद में बंधन भाग भाग भाग हमीर देव चौहान यह सब आए जालौर के चौहानों की बात करें तो इनका किला जो है स्वर्ण नगरी सोनगढ़ में कथा और इनको इनका जो प्राचीन नगरी की वजह वाली कुर्ती इनकी प्रमुख शासकों की बात की जाए तो कीर्तिपाल समर सिंह का नागदेव नागदेव सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है दरबार में नैंसी की लिखी गई थी फिर इन्होंने का युद्ध उसके बाद में वीरमदेव अखेराज यह सब आए सिरोही सिरोही के चौहानों की बात करें तो लाभ लुंबा की भावना राव सहमत अखरे अखेराज देवड़ा प्रथम प्रश्न सुल्ताना देवड़ा यह सब आए इनके अंतिम शासक महाराजा शिव सिंह थे उसके बाद में यदि हाडोती की चौहानों की बात करें तो दिवाकर सिंह राव सुरजन सिंह हाडा यह सब थे इनके अंतिम शासक राम सिंह हाडा से कोटा का रास्ता जाता है चौहानों के बाद में तो यह सिर्फ 3 मिनट के अंदर सिर्फ चौहानों का पूरा इतिहास पता ना बहुत मुश्किल है इसे कम से कम आधा से एक घंटा लगेगा इसको अगर पूरा समझा जाए तो यदि राजस्थान से के राष्ट्र विरोधी कोई प्रश्न है तो आप प्लीज उसे आपको तो दिन में मुझे खुशी होगी
Deekshit chauhaanon ka raajasthaan kee itihaas mein ek bahut bada rol raha hai chauhaan bhee alag-alag kshetron ke hue jaise shaakambharee ke chauhaan hain aur ranathambor ke chauhaan hain jaalaur ke chauhaan hain sirohee ke chora chauhaan hai haadotee ke chauhaan hain to yah sabhee chauhaan hue in sabhee ke sansthaapak alag-alag the in sabhee ne alag-alag kshetron mein raaj kiya to jaise ham maan shaakambharee ke chauhaanon kee baat karate hain jinaka chandravaradaee ne agni kund se prthveeraaj raaso granth mein bataaya hai ki unakee utpatti agnikund mein huee thee karnal tod ne maana hai ki videshee the isee prakaar se alag-alag itihaasakaaron ne alag-alag jaatee hai ki inako utpatti kahaan se huee shaakambharee chauhaanon kee baat kee jae to unake sansthaapak vaasudev chauhaan the usake baad mein pratham vijay raaj vigraharaaj dviteey dviteey ajay raaj anuraaj vigraharaaj chaturth sabha viraaj chauhaan trteey jo sabase importent maane jaate hain jinhonne aur prthveeraaj chauhaan hai unhonne mohammad goree ke saath mein 1991 mein tarain ka yuddh kiya 1991 vaala ho jeete isake baad mein byaan mein mohammad goree ne un ko haraaya usake baad mein hee bhaarat mein jo muslim aakraanta on ka jo prasaar hua isee tarah se isake baad mein aate hain ranathambor ke chauhaan jin ke sansthaapak govind raaj the unake baad mein bandhan bhaag bhaag bhaag hameer dev chauhaan yah sab aae jaalaur ke chauhaanon kee baat karen to inaka kila jo hai svarn nagaree sonagadh mein katha aur inako inaka jo praacheen nagaree kee vajah vaalee kurtee inakee pramukh shaasakon kee baat kee jae to keertipaal samar sinh ka naagadev naagadev sabase jyaada mahatvapoorn hai darabaar mein nainsee kee likhee gaee thee phir inhonne ka yuddh usake baad mein veeramadev akheraaj yah sab aae sirohee sirohee ke chauhaanon kee baat karen to laabh lumba kee bhaavana raav sahamat akhare akheraaj devada pratham prashn sultaana devada yah sab aae inake antim shaasak mahaaraaja shiv sinh the usake baad mein yadi haadotee kee chauhaanon kee baat karen to divaakar sinh raav surajan sinh haada yah sab the inake antim shaasak raam sinh haada se kota ka raasta jaata hai chauhaanon ke baad mein to yah sirph 3 minat ke andar sirph chauhaanon ka poora itihaas pata na bahut mushkil hai ise kam se kam aadha se ek ghanta lagega isako agar poora samajha jae to yadi raajasthaan se ke raashtr virodhee koee prashn hai to aap pleej use aapako to din mein mujhe khushee hogee

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
गोरे रंग से लोग इतना प्यार क्यों करते हैं?Gore Rang Se Log Itna Pyaar Kyun Karte Hain
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:22
अरे रंग पे ना इतना गुमान कर गोरा रंग 2 दिन में उड़ जाएगा जी हां गोरा रंग काला रंग गोरा है यह समस्या भारत की नहीं पूरे विश्व की है ऐसा क्या सबको पता होगा कि अभी अमेरिका में भी कुछ महीनों पहले जॉर्ज परी के नाम पर ब्लैकमेल स्वेटर का आंदोलन बहुत बड़ा खड़ा हुआ कि एक अश्वेत व्यक्ति या निकाली व्यक्ति उत्पन्न जो पुलिस वाले ने अत्याचार किया उस पर पूरे देश की जनता खड़ी हो गई अमेरिका की तो यह तो अमेरिका होता है भारत को क्या चाहिए और कोई भी देश को गोरे रंग के प्रति आकर्षण रहा है इसके मनोवैज्ञानिक कारण हो सकते हैं कि हमें कोई चीज पसंद क्यों आती है तो देखने में सुंदर हो वैसे तो कोई चीज सुंदर हो सुंदर है या ना है उसके ऊपर लिखा तो नहीं होता लेकिन एक इंसान को जो चीज पहले पहली नजर में पसंद आती है हो सकता है कि उसे गोरा रंग पसंद आता हूं इंसान की एक नेचुरल भीड़ होगी हां मुझे गोरा देखना है तो इसका एक ही कारण हो सकता है कि गोरा रंग सबको पसंद होता है ऐसा जरूरी नहीं है कि सबको पसंद हो लेकिन हां यह एक मनोवैज्ञानिक कारण है कि लोग गोरा रंग पसंद करते हैं इसके बारे में आपको एक बात बता दूं मैं की गोरा रंग काला रंग कैसे डिसाइड होता है तो हमारे खून में एक हार्मोन होता है मैं लेट होने मैं रिटर्न इन हार्मोन ही डिसाइड करता है कि आपका रंग गोरा हो गया काला होगा यदि आप ग्रुप में बैठते हैं तो मैं लूटन इन हार्मोन एक्टिव हो जाता है और वह आपके शरीर को बचाता है धूप की अल्ट्रावायलेट किरणों से दुआ कर शरीर को शरीर के रंग को काला कर देता है जो गोरेगांव लोग होते हैं उनके अंदर मैरिटाइम इनकम पाया जाता है तो उनकी जो स्किन है वह गोरी दिखती है और कालू केंद्र इसका वाईस वर्सा यानी उनकी नजारा होता है तो उनकी स्किन काली दिखती है हमें इन सब चीजों से ऊपर उठने की जरूरत है यदि समाज को आगे बढ़ाना है चाहे कोई गोरा हो जाए पतला हो जाए मोटा हो चाइना का हो उसके व्यक्तित्व को देखना चाहिए उसके शरीर को नहीं यही किसी सफल समाज की मूलभूत अवधारणा है
Are rang pe na itana gumaan kar gora rang 2 din mein ud jaega jee haan gora rang kaala rang gora hai yah samasya bhaarat kee nahin poore vishv kee hai aisa kya sabako pata hoga ki abhee amerika mein bhee kuchh maheenon pahale jorj paree ke naam par blaikamel svetar ka aandolan bahut bada khada hua ki ek ashvet vyakti ya nikaalee vyakti utpann jo pulis vaale ne atyaachaar kiya us par poore desh kee janata khadee ho gaee amerika kee to yah to amerika hota hai bhaarat ko kya chaahie aur koee bhee desh ko gore rang ke prati aakarshan raha hai isake manovaigyaanik kaaran ho sakate hain ki hamen koee cheej pasand kyon aatee hai to dekhane mein sundar ho vaise to koee cheej sundar ho sundar hai ya na hai usake oopar likha to nahin hota lekin ek insaan ko jo cheej pahale pahalee najar mein pasand aatee hai ho sakata hai ki use gora rang pasand aata hoon insaan kee ek nechural bheed hogee haan mujhe gora dekhana hai to isaka ek hee kaaran ho sakata hai ki gora rang sabako pasand hota hai aisa jarooree nahin hai ki sabako pasand ho lekin haan yah ek manovaigyaanik kaaran hai ki log gora rang pasand karate hain isake baare mein aapako ek baat bata doon main kee gora rang kaala rang kaise disaid hota hai to hamaare khoon mein ek haarmon hota hai main let hone main ritarn in haarmon hee disaid karata hai ki aapaka rang gora ho gaya kaala hoga yadi aap grup mein baithate hain to main lootan in haarmon ektiv ho jaata hai aur vah aapake shareer ko bachaata hai dhoop kee altraavaayalet kiranon se dua kar shareer ko shareer ke rang ko kaala kar deta hai jo goregaanv log hote hain unake andar mairitaim inakam paaya jaata hai to unakee jo skin hai vah goree dikhatee hai aur kaaloo kendr isaka vaees varsa yaanee unakee najaara hota hai to unakee skin kaalee dikhatee hai hamen in sab cheejon se oopar uthane kee jaroorat hai yadi samaaj ko aage badhaana hai chaahe koee gora ho jae patala ho jae mota ho chaina ka ho usake vyaktitv ko dekhana chaahie usake shareer ko nahin yahee kisee saphal samaaj kee moolabhoot avadhaarana hai

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
डाटा एन्ट्री की जॉब बेटर है या कॉल सेंटर की ?Data Entry Kee Job Better Hai Ya Call Center Ki
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:19
भैया कौन सी जॉब सही रहेगी डाटा एंट्री या कॉल सेंटर की पर्सनैलिटी कि आप किस तरह का काम कर सकते हैं जहां तक मेरी बात करूं तो यदि मुझे इन दोनों में से किसी एक जॉब को करने का मौका मिले तो मैं तो कॉल सेंटर की जॉब पर आकर करूंगा क्योंकि मैं ज्यादा समय तक कंप्यूटर का आगे सिर्फ डाटा सेंटर करते हुए नहीं बैठ सकता जी हां यह बोरिंग का मेरे को तो लगता है किसी और की कोई प्रेफरेंस अलग हो सकती है मुझे तो दिया मेरे जैसे लोगों को जिन्हें लोगों से बात करना उनकी उनकी समस्या का हल देना तुरंत लाइव उनकी मदद करना पसंद है तो हां आप कॉल सेंटर की जॉब कर सकते हैं कंप्यूटर का काम तो उसमें भी होगा लेकिन आपका मीन काम लोगों को सुनना अपने विवेक से उनका उत्तर देना उनकी समस्या का हल करना होगा जबकि डाटा एंट्री में आप सिर्फ अकेले होंगे कंप्यूटर के आगे आपको एक डेटाशीट दी जाएगी आप उसे कंप्यूटर के अंदर मेडिकल ऐड करेंगे तो देखिए आप क्या कर सकते हैं आपकी पसंद क्या है अब मन लगाकर किस काम को बिना बोल हुए ज्यादा समय तक अच्छी-अच्छी सीएनसी के साथ में कर सकते तो यह पूर्णतया पर है कि आप कौन सी जॉब किस तरह से करना चाहते हैं
Bhaiya kaun see job sahee rahegee daata entree ya kol sentar kee parsanailitee ki aap kis tarah ka kaam kar sakate hain jahaan tak meree baat karoon to yadi mujhe in donon mein se kisee ek job ko karane ka mauka mile to main to kol sentar kee job par aakar karoonga kyonki main jyaada samay tak kampyootar ka aage sirph daata sentar karate hue nahin baith sakata jee haan yah boring ka mere ko to lagata hai kisee aur kee koee prepharens alag ho sakatee hai mujhe to diya mere jaise logon ko jinhen logon se baat karana unakee unakee samasya ka hal dena turant laiv unakee madad karana pasand hai to haan aap kol sentar kee job kar sakate hain kampyootar ka kaam to usamen bhee hoga lekin aapaka meen kaam logon ko sunana apane vivek se unaka uttar dena unakee samasya ka hal karana hoga jabaki daata entree mein aap sirph akele honge kampyootar ke aage aapako ek detaasheet dee jaegee aap use kampyootar ke andar medikal aid karenge to dekhie aap kya kar sakate hain aapakee pasand kya hai ab man lagaakar kis kaam ko bina bol hue jyaada samay tak achchhee-achchhee seeenasee ke saath mein kar sakate to yah poornataya par hai ki aap kaun see job kis tarah se karana chaahate hain

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
रोंडा बायरन की किताब 'द सीक्रेट' से आपने क्या सीखा?Ronda Bayron Ki Kitaab The Secret Se Apne Kya Seekha
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:45
रोना वायरस की किताब द सीक्रेट कुछ ही लाइनों में व्यक्त की जा सकती है जिसके ऊपर उन्होंने ढाई सौ 330 की बात लिखी है सिर्फ एक ही चीज को बार बार ही किया है कि जिस टीवी रोना वायरल हूं चाहे जो शक मरती हो उनकी भी किताब है जल पावर सबकॉन्शियस माइंड यह दोनों किताबों की राह पर चलती है कि जी आप जिस चीज को अपने मन के अंदर बैठा लें आप उसके बारे में सोचें और उसकी बारे में सोचते रहे सोचते रहे उसको एक रियलिटी बनानी अपने मन के अंदर तो वह चीज आपके साथ सच में घटित हो जाएगी फिर देखिए मेरे हिसाब से तो एक टाइम पास का तरीका है कि आप खाली अपने ख्यालों में उस चीज को बिठा ले हां यदि आपको किसी चीज को पाना होता है तो आप उसे अपने ख्यालों में बिठा कर एक बार उससे अपने मन में बैठाकर उसके प्रतीक काम करना भी उतना ही आवश्यक होता है जितना किया उसके बारे में से सोचा तू यह किताबें उन लोगों को पसंद आती है जिन्होंने काम करना पसंद नहीं है जो किसी शॉर्टकट को ढूंढते हैं किसी भी सफलता को पाने के लिए अगर आप चाहें तो टाइम पास के लिए ऐसी किताबें पढ़ सकते हैं लेकिन हां इस किताब की मेरे को सिर्फ एक ही बात अच्छी लगी कि आप जिस भी काम को अपनी दिल्ली तमन्ना से दिल से चाहते हैं वह पूरा होगा लेकिन दुख किताब में नहीं बताया गया है कि आप उसके लिए काम भी करना पड़ेगा उतनी ही मेहनत करनी पड़ेगी अपना शरीर दिखाना पड़ेगा उस चीज को पाने के लिए सिर्फ उस चीज को सोचने से वह चीज आपके हाथ में नहीं आ जाएगी
Rona vaayaras kee kitaab da seekret kuchh hee lainon mein vyakt kee ja sakatee hai jisake oopar unhonne dhaee sau 330 kee baat likhee hai sirph ek hee cheej ko baar baar hee kiya hai ki jis teevee rona vaayaral hoon chaahe jo shak maratee ho unakee bhee kitaab hai jal paavar sabakonshiyas maind yah donon kitaabon kee raah par chalatee hai ki jee aap jis cheej ko apane man ke andar baitha len aap usake baare mein sochen aur usakee baare mein sochate rahe sochate rahe usako ek riyalitee banaanee apane man ke andar to vah cheej aapake saath sach mein ghatit ho jaegee phir dekhie mere hisaab se to ek taim paas ka tareeka hai ki aap khaalee apane khyaalon mein us cheej ko bitha le haan yadi aapako kisee cheej ko paana hota hai to aap use apane khyaalon mein bitha kar ek baar usase apane man mein baithaakar usake prateek kaam karana bhee utana hee aavashyak hota hai jitana kiya usake baare mein se socha too yah kitaaben un logon ko pasand aatee hai jinhonne kaam karana pasand nahin hai jo kisee shortakat ko dhoondhate hain kisee bhee saphalata ko paane ke lie agar aap chaahen to taim paas ke lie aisee kitaaben padh sakate hain lekin haan is kitaab kee mere ko sirph ek hee baat achchhee lagee ki aap jis bhee kaam ko apanee dillee tamanna se dil se chaahate hain vah poora hoga lekin dukh kitaab mein nahin bataaya gaya hai ki aap usake lie kaam bhee karana padega utanee hee mehanat karanee padegee apana shareer dikhaana padega us cheej ko paane ke lie sirph us cheej ko sochane se vah cheej aapake haath mein nahin aa jaegee

#भारत की राजनीति

Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:47
देखिए जहां तक जात पात की बात है तो मैं आपको बताना चाहूंगा की जात पात को जो बढ़ावा है वह आरक्षण देने से पहले ही काफी समय पहले ही मिल चुका था इतिहास हमें बताता है कि ऋग्वेद इन कालीन जो सभ्यता थी वह हिंदू समाज में आप अपनी जाति का परिवर्तन कर सकते थे जाति आपकी जन्म के आधार पर ना होकर आपके कर्म के आधार पर होती थी यानी जैसा व्यवसाय करते थे वैसे ही आप की जाति होती थी लेकिन उसके कुछ सैकड़ों हजारों सालों बाद में ऐसी स्थिति बन गई की जाति जन्म के आधार पर होने लग गई और जाति के बीच में बहुत भेदभाव आ गया शंकराचार्य ने भी इसी को कम करने की कोशिश करी बुद्ध ने भी इसी को कम करने की कोशिश करी उन्होंने बौद्ध धर्म में जाति पाति का कोई सिस्टम नहीं रखा शंकराचार्य का जो निर्वाण षटकम् है उसके अंदर भी आती है यह बात की नमी जाती भेज दो ना मैं ऐसा करके एक मंत्र है उसके अंदर भी वे बताते हैं कि मैं जानती नहीं हूं मैं शरीर भी नहीं हूं ऐसा करके उन्होंने जाति पाति का उस समय के समाज में भी इंप्रेस करने की कोशिश करी तो जब बात आती है कि क्या आज के समय में जाति के आरक्षण की आवश्यकता है तो दिखी अलग-अलग फ्लोर पर अलग-अलग आपके विचार हो सकते हैं कुछ जाती अभी भी ऐसी है जिनको लोग अपने खून से अपने नल से पानी भी नहीं पीने देते हैं उनकी स्थिति बहुत ज्यादा दयनीय है हां उनको आरक्षण की आवश्यकता है लेकिन जो ऐसी जातियां हैं जो इकोनॉमिकली डिवेलप हो चुकी है जिनके पास सब पैसा है या मान लीजिए कि ऐसी एक ऐसी जाती जिसको आरक्षण मिल चुका है और उसके परिवार में जब एक बार आरक्षण मिल गया एक बार उसके परिवार में किसी को नौकरी लग गई तो हां हम यह कर सकते हैं कि उसके आने वाली जनरेशन उसके आने वाली पीढ़ी को हम आरक्षण ना दे लेकिन जहां एकदम गांव में जहां अभी भी जाती पाती बहुत बड़ी समस्या है वहां पर अभी भी आरक्षण की बात जायज है आप चाहे उसको कितना भी न करें लेकिन हां भारत केंद्र जाति का भेदभाव है और जब तक ही नहीं निकलता जब तक एकदम जो समाज के तलवों पर है जैसे लोग जब तक हम उनको नहीं उठा पाते तब तक जाति के आरक्षण की व्यवस्था बनी रहेगी और जिस दिन भी ऊपर आ जाएंगे हां इसको सिस्टमैटिकली खत्म किया जा सकता है कि जिसको एक बार हमने आरक्षण दे दिया उसके आने वाली जनरेशन स्कोर हम आरक्षण ना दें तो यह मेरा उत्तर था कि जातिवाद को बढ़ावा पहले से मिला हुआ है और उसी को कम करने का इलाज जो है इकोनॉमिकली उनको डेवलप करना जो कि आरक्षण के माध्यम से किया गया धन्यवाद
Dekhie jahaan tak jaat paat kee baat hai to main aapako bataana chaahoonga kee jaat paat ko jo badhaava hai vah aarakshan dene se pahale hee kaaphee samay pahale hee mil chuka tha itihaas hamen bataata hai ki rgved in kaaleen jo sabhyata thee vah hindoo samaaj mein aap apanee jaati ka parivartan kar sakate the jaati aapakee janm ke aadhaar par na hokar aapake karm ke aadhaar par hotee thee yaanee jaisa vyavasaay karate the vaise hee aap kee jaati hotee thee lekin usake kuchh saikadon hajaaron saalon baad mein aisee sthiti ban gaee kee jaati janm ke aadhaar par hone lag gaee aur jaati ke beech mein bahut bhedabhaav aa gaya shankaraachaary ne bhee isee ko kam karane kee koshish karee buddh ne bhee isee ko kam karane kee koshish karee unhonne bauddh dharm mein jaati paati ka koee sistam nahin rakha shankaraachaary ka jo nirvaan shatakam hai usake andar bhee aatee hai yah baat kee namee jaatee bhej do na main aisa karake ek mantr hai usake andar bhee ve bataate hain ki main jaanatee nahin hoon main shareer bhee nahin hoon aisa karake unhonne jaati paati ka us samay ke samaaj mein bhee impres karane kee koshish karee to jab baat aatee hai ki kya aaj ke samay mein jaati ke aarakshan kee aavashyakata hai to dikhee alag-alag phlor par alag-alag aapake vichaar ho sakate hain kuchh jaatee abhee bhee aisee hai jinako log apane khoon se apane nal se paanee bhee nahin peene dete hain unakee sthiti bahut jyaada dayaneey hai haan unako aarakshan kee aavashyakata hai lekin jo aisee jaatiyaan hain jo ikonomikalee divelap ho chukee hai jinake paas sab paisa hai ya maan leejie ki aisee ek aisee jaatee jisako aarakshan mil chuka hai aur usake parivaar mein jab ek baar aarakshan mil gaya ek baar usake parivaar mein kisee ko naukaree lag gaee to haan ham yah kar sakate hain ki usake aane vaalee janareshan usake aane vaalee peedhee ko ham aarakshan na de lekin jahaan ekadam gaanv mein jahaan abhee bhee jaatee paatee bahut badee samasya hai vahaan par abhee bhee aarakshan kee baat jaayaj hai aap chaahe usako kitana bhee na karen lekin haan bhaarat kendr jaati ka bhedabhaav hai aur jab tak hee nahin nikalata jab tak ekadam jo samaaj ke talavon par hai jaise log jab tak ham unako nahin utha paate tab tak jaati ke aarakshan kee vyavastha banee rahegee aur jis din bhee oopar aa jaenge haan isako sistamaitikalee khatm kiya ja sakata hai ki jisako ek baar hamane aarakshan de diya usake aane vaalee janareshan skor ham aarakshan na den to yah mera uttar tha ki jaativaad ko badhaava pahale se mila hua hai aur usee ko kam karane ka ilaaj jo hai ikonomikalee unako devalap karana jo ki aarakshan ke maadhyam se kiya gaya dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
दूध पीने का सबसे उत्तम समय कौन सा है?Doodh Peene Ka Sabse Uttam Samay Kaun Sa Hai
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:10
प्रश्न यह है कि दूध पीने का सर्वोत्तम समय क्या है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि यदि आप को सोने की समस्या है यदि आपको नींद आने में प्रॉब्लम होती है अभी रात तक मोबाइल चलाते रहते हैं तो यदि आप रात को सोने से पहले गर्म गर्म दूध पी ले चाहे वह एक का पिक्चर ना हो और साथ में यदि आप को चवनप्राश लेते हैं या फिर उसके अंदर पर एक चौथाई चम्मच हल्दी भी मिला दीजिए यदि आप वह गरम गरम दूध पीते हैं तो जिस प्रकार एक बच्चा अपनी मां का दूध पीकर आराम से पूरी रात होता है उसी प्रकार आप भी गौ माता का जिसका भी आप दूध पीते हैं उसे भी करा पूरी रात आराम से सो पाएंगे आपकी नींद अच्छी होगी आपको कोई मानसिक समस्या नहीं होगी आपका मानसिक स्वास्थ्य सही रहेगा और आपकी नींद जो है वह सुबह प्रेस खुलेगी साथ ही शरीर को भी पोषण मिलेगा अच्छा यह होगा कि आप खाने और दूध पीने का समय में कम से कम 3 से 4 घंटे का समय रखें ताकि जब आपका खाना बन चुका हूं आपको थोड़ी भूख भी लग रही हो तो आपको दोबारा रात को भूख भी ना लगे और रात को आप दूध पीकर आराम से सो पाए धन्यवाद
Prashn yah hai ki doodh peene ka sarvottam samay kya hai to main aapako bataana chaahoonga ki yadi aap ko sone kee samasya hai yadi aapako neend aane mein problam hotee hai abhee raat tak mobail chalaate rahate hain to yadi aap raat ko sone se pahale garm garm doodh pee le chaahe vah ek ka pikchar na ho aur saath mein yadi aap ko chavanapraash lete hain ya phir usake andar par ek chauthaee chammach haldee bhee mila deejie yadi aap vah garam garam doodh peete hain to jis prakaar ek bachcha apanee maan ka doodh peekar aaraam se pooree raat hota hai usee prakaar aap bhee gau maata ka jisaka bhee aap doodh peete hain use bhee kara pooree raat aaraam se so paenge aapakee neend achchhee hogee aapako koee maanasik samasya nahin hogee aapaka maanasik svaasthy sahee rahega aur aapakee neend jo hai vah subah pres khulegee saath hee shareer ko bhee poshan milega achchha yah hoga ki aap khaane aur doodh peene ka samay mein kam se kam 3 se 4 ghante ka samay rakhen taaki jab aapaka khaana ban chuka hoon aapako thodee bhookh bhee lag rahee ho to aapako dobaara raat ko bhookh bhee na lage aur raat ko aap doodh peekar aaraam se so pae dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
कच्चे फल खाने से क्या लाभ है या हानि होती है?Kache Phal Khane Se Kya Laabh Hai Ya Hani Hoti Hai
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:15
बिल्कुल सही प्रश्न पूछा है आपने कि क्या कच्चे फल खाने से लाभ है या हानि मैं यह बताना चाहूंगा कि अभी की रिसर्च ओं में ही पता लगा है कि जितना कच्चे फल खाना आपके लिए फायदा करता है उतना आपके लिए फायदा और कुछ भी नहीं कर सकता क्यों यदि आप मांसाहार करते हैं अगर यदि मांस खाते हैं तो उसे 12 घंटे का समय लगता है बचने के लिए अगर आप माता खाना खाकर साग सब्जी है यानी वेजीटेरियन खाना खाते हैं तो उसे 4 से 5 घंटे लगते हैं बचने के लिए वही फल कच्चे फल डेड घंटे के अंदर पक जाते हैं वह आप की आहार नाल केंद्र सिर्फ डेढ़ घंटे के लिए रहते हैं जिससे आपके शरीर के अंदर उर्जा होती है आपके शरीर को खाना पचाने के लिए अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ती और आप स्वस्थ रहते हैं और आप को पोषण मिलता है तो हा आपको जरूर कच्चे फल खाने चाहिए और मैं तो यहां से कहूंगा कि आपको अपने खाने का 30 से 40 यहां तक कि 50% हिस्सा भी कच्चे फलों को रखना चाहिए इसके अंदर आपकी अंदर जीवंत ऊर्जा मिलेगी आपके शरीर को आप और ज्यादा ऊर्जावान और ज्यादा स्पष्ट और ज्यादा निरोगी महसूस करेंगे यदि आप कच्चे फल को अपने आहार का एक पाठ बना लेते हैं धन्यवाद
Bilkul sahee prashn poochha hai aapane ki kya kachche phal khaane se laabh hai ya haani main yah bataana chaahoonga ki abhee kee risarch on mein hee pata laga hai ki jitana kachche phal khaana aapake lie phaayada karata hai utana aapake lie phaayada aur kuchh bhee nahin kar sakata kyon yadi aap maansaahaar karate hain agar yadi maans khaate hain to use 12 ghante ka samay lagata hai bachane ke lie agar aap maata khaana khaakar saag sabjee hai yaanee vejeeteriyan khaana khaate hain to use 4 se 5 ghante lagate hain bachane ke lie vahee phal kachche phal ded ghante ke andar pak jaate hain vah aap kee aahaar naal kendr sirph dedh ghante ke lie rahate hain jisase aapake shareer ke andar urja hotee hai aapake shareer ko khaana pachaane ke lie adhik mehanat nahin karanee padatee aur aap svasth rahate hain aur aap ko poshan milata hai to ha aapako jaroor kachche phal khaane chaahie aur main to yahaan se kahoonga ki aapako apane khaane ka 30 se 40 yahaan tak ki 50% hissa bhee kachche phalon ko rakhana chaahie isake andar aapakee andar jeevant oorja milegee aapake shareer ko aap aur jyaada oorjaavaan aur jyaada spasht aur jyaada nirogee mahasoos karenge yadi aap kachche phal ko apane aahaar ka ek paath bana lete hain dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
नींद ना आने की समस्या को कैसे दूर करें?Neend Na Aane Ki Samasya Ko Kaise Dur Kare
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
1:53
देखिए नींद ना आने की समस्या जिसको इनसोम्निया भी कहा जाता है आजकल हर किसी को हो रही है स्पेशली मोबाइल क्या जाने के बाद में लोग देर रात मोबाइल चलाते रहते हैं फिर उन्हें नींद की प्रॉब्लम हो जाती है सुबह लेट उठते हैं और उनका सारा शेड्यूल बिगड़ जाता है तो इससे बचने के लिए हम कुछ ऐसे उपाय कर सकते हैं कि हमें नींद जल्दी आए सबसे पहले यह जानना जरूरी है क्या कि तुम हमें नींद क्यों नहीं आ रही है आखिर हमारा शरीर आखिर हमारा दिमाग क्यों रिलैक्स नहीं कर पा रहा है जिससे हमें नींद नहीं आ रही तो सबसे पहले उस कारण को ठीक कीजिए उस पैसे को ठीक कीजिए उस एंजाइटी को ठीक कीजिए इससे आप को नींद लेने में मदद हो सके इसके अलावा कुछ उपाय भी हैं जो आपको नींद लेने में मदद करेंगे पहला उपाय कि आप ध्यान का सहारा ले हिंदुस्तान ध्यान की विधियों के लिए जाना जाता है काफी सारे ध्यान के लिए आप भी है आंसर यूट्यूब पर वीडियो भी है जानिया मेडिटेशन पढ़ाई कीजिए उससे आपको मदद मिली दूसरा शारीरिक मेहनत कीजिए जिससे आपको थोड़ी थकावट हो थोड़ा घूम कर आई है थोड़ा शरीर लाइए जिससे आपको थकान के कारण भी नहीं है फिर बात करते हैं कि हम सोने से पहले क्या कर सकते हैं जिससे हमें अच्छी नहीं है यदि आप एक शावर ले ले या ठंडे जल से नहा ले सोने से पहले अभी तो ठंड है तो आप नहाना पसंद नहीं करेंगे हालांकि लेकिन आप थोड़ी गर्म पानी से यह ताजे पानी से भी नहा ले तो आप देखेंगे कि आप आराम से सो पाएंगे बिना किसी टेंशन के क्योंकि जब आप नहाते हैं तो आप नहीं देखा होगा कि आपके जितनी भी टेंशन है वह सब एक से एक बार के लिए गायब हो जाती है दूसरा तरीका यदि आप नहाने की बात थोड़ा गर्म दूध भी पी ले हल्दी मिलाकर यह जो भी आपको पसंद है मिलाकर तो वह भी आपको सोने में मदद करेगा
Dekhie neend na aane kee samasya jisako inasomniya bhee kaha jaata hai aajakal har kisee ko ho rahee hai speshalee mobail kya jaane ke baad mein log der raat mobail chalaate rahate hain phir unhen neend kee problam ho jaatee hai subah let uthate hain aur unaka saara shedyool bigad jaata hai to isase bachane ke lie ham kuchh aise upaay kar sakate hain ki hamen neend jaldee aae sabase pahale yah jaanana jarooree hai kya ki tum hamen neend kyon nahin aa rahee hai aakhir hamaara shareer aakhir hamaara dimaag kyon rilaiks nahin kar pa raha hai jisase hamen neend nahin aa rahee to sabase pahale us kaaran ko theek keejie us paise ko theek keejie us enjaitee ko theek keejie isase aap ko neend lene mein madad ho sake isake alaava kuchh upaay bhee hain jo aapako neend lene mein madad karenge pahala upaay ki aap dhyaan ka sahaara le hindustaan dhyaan kee vidhiyon ke lie jaana jaata hai kaaphee saare dhyaan ke lie aap bhee hai aansar yootyoob par veediyo bhee hai jaaniya mediteshan padhaee keejie usase aapako madad milee doosara shaareerik mehanat keejie jisase aapako thodee thakaavat ho thoda ghoom kar aaee hai thoda shareer laie jisase aapako thakaan ke kaaran bhee nahin hai phir baat karate hain ki ham sone se pahale kya kar sakate hain jisase hamen achchhee nahin hai yadi aap ek shaavar le le ya thande jal se naha le sone se pahale abhee to thand hai to aap nahaana pasand nahin karenge haalaanki lekin aap thodee garm paanee se yah taaje paanee se bhee naha le to aap dekhenge ki aap aaraam se so paenge bina kisee tenshan ke kyonki jab aap nahaate hain to aap nahin dekha hoga ki aapake jitanee bhee tenshan hai vah sab ek se ek baar ke lie gaayab ho jaatee hai doosara tareeka yadi aap nahaane kee baat thoda garm doodh bhee pee le haldee milaakar yah jo bhee aapako pasand hai milaakar to vah bhee aapako sone mein madad karega

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
स्वस्थ रहने के लिए कौन से फल हर रोज खाने चाहिए?Svasth Rehne Ke Lie Kaun Se Fal Har Roj Khane Chaiye
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:17
है कि स्वस्थ रहने के लिए रोज कौन से फल खाएं तो देखिए सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि आखिर हम फल खाए हैं क्यों तू जैसा कि हम सबको पता है कि आज के टाइम में हम जो भी नॉर्मल खाना खाते हैं आटा दाल चावल इनके अंदर स्पेशली भारत के अंदर पोषण की मात्रा इतनी कम हो गई है कि विदेश जो डेवलप्ड नेशंस एंड जो डेवलप्ड देश हैं वह भारत से चावल तक नहीं खरीदते हैं क्यों क्योंकि उन्होंने अपने रिसर्च में पाया कि भारत के चावल के अंदर कोई पोषण ही नहीं है इसी प्रकार से भारत की जितनी भी डाले हैं गेहूं है चना है उनकी अंदर पोषण की मात्रा बहुत कम है क्यों क्योंकि उसके अंदर पेस्टिसाइड्स का दूसरे केमिकल्स का बहुत ज्यादा प्रयोग किया जाता है इसी प्रकार से जो नॉनवेज है उसको लोग पोषण के लिए खाना पसंद करते हैं कोई पसंद करे ना चेक करें लेकिन आजकल डॉक्टर एडवाइस करते हैं कि आपको अगर पोषित रहना है तो आपको नॉनवेज खाना पड़ेगा लेकिन एक बात मैं बताऊं आपको कि यदि कोई व्यक्ति नॉनवेज खाता है तो उसकी पाचन प्रणाली में वह भोजन कितनी देर तक रहता है यदि कोई नॉनवेज खाए तो उसे 10 से 12 घंटे लगते हैं पूरी तरह से बचने के लिए और यदि कोई सिर्फ वैद्य खाता है सब्जियां दाल चावल तो उसे 3 से 4 घंटे लगते हैं बचने के लिए वही अगर अपन फलों की बात करें तो सिर्फ डेढ़ से दो घंटा लगता है उनको पढ़ने के लिए और सभी सबसे ज्यादा पोषण भी फलों के अंदर होता है तो सभी प्रकार के फल हमको खाने चाहिए बदल बदल के फल खाने चाहिए साइंस ने पाया है कि जितनी भी रंग के फल है उन सभी रंगों को जैसे काले जामुन हो गए संतरा हो गया से हो गया दिल खट्टे फल है वह विटामिन सी का स्रोत हैं तो विटामिन इसी से आपकी मिलिट्री की भर्ती है इसीलिए खट्टे फलों पर ज्यादा जोर रखना चाहिए बाकी सभी तरह के फल जो सीजनल फल है वह भी खाने चाहिए यदि आपको पोषण का ध्यान रखना है और आप मांसाहार से बचना चाहते हैं तो और अपनी सेहत को तंदुरुस्त बनाना चाहते हैं
Hai ki svasth rahane ke lie roj kaun se phal khaen to dekhie sabase pahale yah jaanana jarooree hai ki aakhir ham phal khae hain kyon too jaisa ki ham sabako pata hai ki aaj ke taim mein ham jo bhee normal khaana khaate hain aata daal chaaval inake andar speshalee bhaarat ke andar poshan kee maatra itanee kam ho gaee hai ki videsh jo devalapd neshans end jo devalapd desh hain vah bhaarat se chaaval tak nahin khareedate hain kyon kyonki unhonne apane risarch mein paaya ki bhaarat ke chaaval ke andar koee poshan hee nahin hai isee prakaar se bhaarat kee jitanee bhee daale hain gehoon hai chana hai unakee andar poshan kee maatra bahut kam hai kyon kyonki usake andar pestisaids ka doosare kemikals ka bahut jyaada prayog kiya jaata hai isee prakaar se jo nonavej hai usako log poshan ke lie khaana pasand karate hain koee pasand kare na chek karen lekin aajakal doktar edavais karate hain ki aapako agar poshit rahana hai to aapako nonavej khaana padega lekin ek baat main bataoon aapako ki yadi koee vyakti nonavej khaata hai to usakee paachan pranaalee mein vah bhojan kitanee der tak rahata hai yadi koee nonavej khae to use 10 se 12 ghante lagate hain pooree tarah se bachane ke lie aur yadi koee sirph vaidy khaata hai sabjiyaan daal chaaval to use 3 se 4 ghante lagate hain bachane ke lie vahee agar apan phalon kee baat karen to sirph dedh se do ghanta lagata hai unako padhane ke lie aur sabhee sabase jyaada poshan bhee phalon ke andar hota hai to sabhee prakaar ke phal hamako khaane chaahie badal badal ke phal khaane chaahie sains ne paaya hai ki jitanee bhee rang ke phal hai un sabhee rangon ko jaise kaale jaamun ho gae santara ho gaya se ho gaya dil khatte phal hai vah vitaamin see ka srot hain to vitaamin isee se aapakee militree kee bhartee hai iseelie khatte phalon par jyaada jor rakhana chaahie baakee sabhee tarah ke phal jo seejanal phal hai vah bhee khaane chaahie yadi aapako poshan ka dhyaan rakhana hai aur aap maansaahaar se bachana chaahate hain to aur apanee sehat ko tandurust banaana chaahate hain

#भारत की राजनीति

Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:05

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या यूट्यूब को बैंक ग्राउंड में चलाना संभव है?Kya Youtube Ko Back Groud Mein Chalana Sambhav Hai
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:49

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
नई व्हाट्सएप नीति 2021 क्या है इससे प्राइवेसी पर क्या प्रभाव पड़ेगा?Nayi Whatsapp Neeti 2021 Kya Hai Isse Privacy Par Kya Prabhav Padega
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
2:28
क्या हुआ क्या हुआ नहीं डाटा नीति क्या है यह डाटा व्हाट्सएप का जो नया प्राइवेसी पॉलिसी आया है डाटा डाटा शब्द इसका बेसिक डाटा कोई नया फूल कहा जाता है क्यों मतलब इंधन जो दुनिया को चलाएगा इसके पास डाटा है वह राजा है राजा कैसे हैं भाई अगर मुझे पता है कि तुम किस रेस्टोरेंट में खाना खाना पसंद करते हो कौन सी शॉपिंग मॉल में शॉपिंग करना पसंद करते हो किस तरह का तुम्हारा घर है तुम्हारे घर की लोकेशन क्या है तुम पॉश एरिया में रहते हो यानी तुम महंगी एरिया एरिया में रहते हो या गरीब वाले एरिया में रहते हो या फिर तुम किस तरह की चीजें पसंद करते हो तुम्हारे पास पैसा कितना है तुम्हारे बैंक डिटेल्स क्या है यदि मेरे को सब पता है तो मुझे तुम्हारी नव पता है मुझे जैसे तुम्हें प्लेट करना होगा सबकॉन्शियसली मैं तो तुम्हें पता नहीं लगेगा फिर भी मैं तुम्हें मैंने प्लेट कर पाऊंगा अगर मेरा मेरे पास में तुम्हारा डाटा है तो यही है व्हाट्सएप की डाटा पॉलिसी आपका जो भी डाटा है कि आप कहां गए कहां खाना खाया कौन से होटल में रुके कौन सी टूरिस्ट प्लेस डेस्टिनेशन में कई कौन सी वेबसाइट पर आपने शॉपिंग करी क्या शॉपिंग करी आपके बैंक में बैलेंस कितना है सूची ही सब्जेक्ट डाटा व्हाट्सएप के पास में होगा तो वह आपको किस तरह से मैनिपुलेट कर पाएगा यही है व्हाट्सएप पे नहीं डाटा पॉलिसी और इसी के किसी को कम करने के लिए जो सिगनल एप है जो आया है वह कहते हैं अभी तक कि वह एक non-profit ऑर्गेनाइजेशन है मतलब वह पैसा नहीं कमाएंगे तो सिर्फ एक दान पर चलने वाली संस्थाएं अब अगर आप चाहे तो आप भी उसके लिए दान कर सकते हैं और वह आपका डाटा सुरक्षित रखेंगे जानकारी के लिए बता दूं कि व्हाट्सएप भी जो डाटा इंक्रिप्शन यूज करता है अब तक जो करता है वह भी जो सिग्नल कंपनी है उसी का था तो सिग्नल कंपनी की जोशी की वह है वह व्हाट्सएप से रिजाइन कर दिया था उन्होंने जब व्हाट्सएप ने स्टार्ट किया था व्हाट्सएप कि अब हम पैसा कमाना स्टार्ट करें और उनके साथ आपका डाटा शेयर करने वाली
Kya hua kya hua nahin daata neeti kya hai yah daata vhaatsep ka jo naya praivesee polisee aaya hai daata daata shabd isaka besik daata koee naya phool kaha jaata hai kyon matalab indhan jo duniya ko chalaega isake paas daata hai vah raaja hai raaja kaise hain bhaee agar mujhe pata hai ki tum kis restorent mein khaana khaana pasand karate ho kaun see shoping mol mein shoping karana pasand karate ho kis tarah ka tumhaara ghar hai tumhaare ghar kee lokeshan kya hai tum posh eriya mein rahate ho yaanee tum mahangee eriya eriya mein rahate ho ya gareeb vaale eriya mein rahate ho ya phir tum kis tarah kee cheejen pasand karate ho tumhaare paas paisa kitana hai tumhaare baink ditels kya hai yadi mere ko sab pata hai to mujhe tumhaaree nav pata hai mujhe jaise tumhen plet karana hoga sabakonshiyasalee main to tumhen pata nahin lagega phir bhee main tumhen mainne plet kar paoonga agar mera mere paas mein tumhaara daata hai to yahee hai vhaatsep kee daata polisee aapaka jo bhee daata hai ki aap kahaan gae kahaan khaana khaaya kaun se hotal mein ruke kaun see toorist ples destineshan mein kaee kaun see vebasait par aapane shoping karee kya shoping karee aapake baink mein bailens kitana hai soochee hee sabjekt daata vhaatsep ke paas mein hoga to vah aapako kis tarah se mainipulet kar paega yahee hai vhaatsep pe nahin daata polisee aur isee ke kisee ko kam karane ke lie jo siganal ep hai jo aaya hai vah kahate hain abhee tak ki vah ek non-profit orgenaijeshan hai matalab vah paisa nahin kamaenge to sirph ek daan par chalane vaalee sansthaen ab agar aap chaahe to aap bhee usake lie daan kar sakate hain aur vah aapaka daata surakshit rakhenge jaanakaaree ke lie bata doon ki vhaatsep bhee jo daata inkripshan yooj karata hai ab tak jo karata hai vah bhee jo signal kampanee hai usee ka tha to signal kampanee kee joshee kee vah hai vah vhaatsep se rijain kar diya tha unhonne jab vhaatsep ne staart kiya tha vhaatsep ki ab ham paisa kamaana staart karen aur unake saath aapaka daata sheyar karane vaalee

#टेक्नोलॉजी

Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:27

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हार्डविन इम्यूनिटी किसे कहते हैं?Hardwin Immunity Kise Kehte Hain
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:24
जब किसी देश की पापुलेशन का 60% हिस्सा किसी बीमारी के प्रति अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को डेवलप कर लेता है तो इसे हार्ड मिनट ही कहा जाता है या नुकसान प्रतिशत लोग बीमार हो चुके हैं और सक्सेसफुली रिकवर हो चुके हैं तो बच्ची 40% पॉपुलेशन में बीमारी का खतरा ना के बराबर होता है
Jab kisee desh kee paapuleshan ka 60% hissa kisee beemaaree ke prati apanee rog pratirodhak kshamata ko devalap kar leta hai to ise haard minat hee kaha jaata hai ya nukasaan pratishat log beemaar ho chuke hain aur saksesaphulee rikavar ho chuke hain to bachchee 40% populeshan mein beemaaree ka khatara na ke baraabar hota hai

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
ज्यादा नमक और ज्यादा चीनी क्यों नहीं खाना चाहिए?Jyada Namak Aur Jyada Cheeni Kyun Nahi Khana Chaiye
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:57

#टेक्नोलॉजी

Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:23
दिखी यदि कहीं चीन की आ जाती है तो उस पर आटा यह हल्दी डालकर उनको भगाया जा सकता है चूंकि यह आटे में आ गई है तो पार्टी को आप धूप में रख दीजिए अगर आटा कम क्वांटिटी में है तो उसे धूप में रखकर चीटियां हटाकर किसी जानवर को दे दीजिए ज्यादा सुरक्षित होगा नहीं तो अगर आटा ज्यादा है तो उसे धूप में रख कर साफ हो जाएगा
Dikhee yadi kaheen cheen kee aa jaatee hai to us par aata yah haldee daalakar unako bhagaaya ja sakata hai choonki yah aate mein aa gaee hai to paartee ko aap dhoop mein rakh deejie agar aata kam kvaantitee mein hai to use dhoop mein rakhakar cheetiyaan hataakar kisee jaanavar ko de deejie jyaada surakshit hoga nahin to agar aata jyaada hai to use dhoop mein rakh kar saaph ho jaega

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
बर्ड फ्लू में चिकन खाना कितना सही है?Bird Flu Mein Chicken Khana Kitna Sahi Hai
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:25

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
तुम लोग बाजार जाते हो?
Nikhil Arora Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Unknown
0:16
दिखी प्रेजेंट टेंस या वर्तमान टेंस में जब किसी प्रश्न को पूछा जाता है तो सबसे पहले डू यार्डेज का प्रयोग होता है और युग के साथ में हमेशा डू का प्रयोग होता है तो सही ट्रांसलेशन होगा डू यू गाइस गोट मार्केट
URL copied to clipboard