#जीवन शैली

bolkar speaker
हमें अपनी कमाई का कितने प्रतिशत दान में देना चाहिए?Hume Apni Income Ka Kitne Pratishat Daan Me Dena Chayia
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:58
नमस्कार दोस्तों सवाल है हमें अपनी इनकम का कितने प्रतिशत दान में देना चाहिए और दोस्तों दान या जो आप जिसको दान शब्द कह रहे हैं कि रिश्तेदार ना देखें तो आप एक सोसाइटी से एक पोस्ट पर और एक जॉब पर बालिका बिजनेसमैन है तो आप कुछ काम आते हैं बिजनेस करते हैं उसमें कुछ लोग होंगे जिनका बिजनेस में आप का टर्नओवर में उनका रोल है आप कोई जॉब करते होंगे कॉमेंट प्राइवेट सेक्टर में तो कुछ लोग होंगे जो आपके प्रोडक्ट को यूज करते हैं या आप कोई और भी तरह से हैं पाप सोसाइटी में जुड़ते हैं और सोसाइटी में कुछ लोगों की वजह से आप अपनी जॉब को सही प्रकार से कर पाते हैं या उनका आपके ओवरऑल जॉब में कहीं न कहीं कोई रोल तो आप मानते हैं कि हमने इस साइड से कुछ लिया है तो मैं कुछ देना चाहिए आमादा में मतलब हम समाज से कम आते हैं तो समाज को एक ही साथ देना चाहिए तो अगर आपकी इच्छा है जो कई लो आप सुनते होंगे 10 बंद करके एक रिवाज है कहते हैं कि 10 परसेंट आपने दान कर देना चाहिए आपको 10 बंद करके आपने सुना होगा अलग-अलग धर्म अलग-अलग मान्यताएं हैं अब मैं लीगलिटी पर आता हूं क्योंकि धार्मिक में जाएंगे तो बातें थोड़ी अलग अलग हो जाएंगे इच्छाप्यारी है बट क्या बोलती है सर कार्य करती है कि अगर एग्जांपल देता हूं एक बड़ी कंपनी है जो लाखों करोड़ों का बिजनेस कर रही है उसको अपने इनकम का कितना प्रतिशत दान में यस यस आज इसको बोलते हैं सोशल रिस्पांसिबिलिटी उसमें देना अभी मुझे खाना रहा है भारत सरकार बोलती है कि आप अगर साल का आप 1000000 रुपए कमाते हैं तो ₹2000 खर्च करना चाहिए गवर्नमेंट कंपनी 1000 करोड़ कम आती है तो उनको कहते हैं कि उनके पिछले 3 साल का है ब्रिटेन कम है उस दिन कम से 2 परसेंट कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी बोलते हैं आपने किया आप ने कमाया आपको उसका कुछ पर बात करना चाहिए और उसने कभी रिफॉर्म एंटरटेनमेंट किया क्योंकि पहले क्या होता था कि कंपनियां बहुत चला कि वह जिससे कमेंट में काम करती थी उसी सेगमेंट में सीएसआर करती थी और अपना प्रमोशन कर लेती थी पर अभी गवर्नमेंट ने कहा है कि आप जिस सेगमेंट में ऑपरेट कर रहे हैं वहां पर भी असर ना करें इसमें एग्जांपल दूंगा प्रॉक्टर एंड गैंबल का कुछ प्रोडक्ट है उसने उसी सेगमेंट में अपने आप को प्रमोट करने के लिए सीएसआर कर दिया दो परसेंट रिलायंस सी कंपनी जिसका 4 लख करोड़ का टर्नओवर है वह अपने दो परसेंट या नहीं समझ सकते हैं आप 4,000 48 हजार करोड़ रूपया खर्च करती हैं सीएसआर में हर साल बहुत बड़ी रकम आप अंदाजा लगा सकते हैं
Namaskaar doston savaal hai hamen apanee inakam ka kitane pratishat daan mein dena chaahie aur doston daan ya jo aap jisako daan shabd kah rahe hain ki rishtedaar na dekhen to aap ek sosaitee se ek post par aur ek job par baalika bijanesamain hai to aap kuchh kaam aate hain bijanes karate hain usamen kuchh log honge jinaka bijanes mein aap ka tarnovar mein unaka rol hai aap koee job karate honge koment praivet sektar mein to kuchh log honge jo aapake prodakt ko yooj karate hain ya aap koee aur bhee tarah se hain paap sosaitee mein judate hain aur sosaitee mein kuchh logon kee vajah se aap apanee job ko sahee prakaar se kar paate hain ya unaka aapake ovarol job mein kaheen na kaheen koee rol to aap maanate hain ki hamane is said se kuchh liya hai to main kuchh dena chaahie aamaada mein matalab ham samaaj se kam aate hain to samaaj ko ek hee saath dena chaahie to agar aapakee ichchha hai jo kaee lo aap sunate honge 10 band karake ek rivaaj hai kahate hain ki 10 parasent aapane daan kar dena chaahie aapako 10 band karake aapane suna hoga alag-alag dharm alag-alag maanyataen hain ab main leegalitee par aata hoon kyonki dhaarmik mein jaenge to baaten thodee alag alag ho jaenge ichchhaapyaaree hai bat kya bolatee hai sar kaary karatee hai ki agar egjaampal deta hoon ek badee kampanee hai jo laakhon karodon ka bijanes kar rahee hai usako apane inakam ka kitana pratishat daan mein yas yas aaj isako bolate hain soshal rispaansibilitee usamen dena abhee mujhe khaana raha hai bhaarat sarakaar bolatee hai ki aap agar saal ka aap 1000000 rupe kamaate hain to ₹2000 kharch karana chaahie gavarnament kampanee 1000 karod kam aatee hai to unako kahate hain ki unake pichhale 3 saal ka hai briten kam hai us din kam se 2 parasent koraporet soshal rispaansibilitee bolate hain aapane kiya aap ne kamaaya aapako usaka kuchh par baat karana chaahie aur usane kabhee riphorm entaratenament kiya kyonki pahale kya hota tha ki kampaniyaan bahut chala ki vah jisase kament mein kaam karatee thee usee segament mein seeesaar karatee thee aur apana pramoshan kar letee thee par abhee gavarnament ne kaha hai ki aap jis segament mein oparet kar rahe hain vahaan par bhee asar na karen isamen egjaampal doonga proktar end gaimbal ka kuchh prodakt hai usane usee segament mein apane aap ko pramot karane ke lie seeesaar kar diya do parasent rilaayans see kampanee jisaka 4 lakh karod ka tarnovar hai vah apane do parasent ya nahin samajh sakate hain aap 4,000 48 hajaar karod roopaya kharch karatee hain seeesaar mein har saal bahut badee rakam aap andaaja laga sakate hain

#जीवन शैली

bolkar speaker
आत्म विश्वाश कैसे बढ़ाये?aatm vishvaash kaise badhaaye
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:48
सवाल है आप विश्वास कैसे बढ़ाएं आप कई जानकारों और कई थिंकर्स की किताबों को पढ़ेंगे तो आप पाएंगे जो मैंने अल्प ज्ञान थोड़ा अर्जित किया है उसमें की विश्वास और ट्रस्ट एक ऐसे बिल्डअप होता है तो उसमें कुछ बेसिक चीजें होती हैं जो इसको टेंशन करती है मजबूत करती हैं आपके विश्वास को बढ़ाते हैं पहला सबसे इंपॉर्टेंट वह होता है सत्य और सच आप सबसे पहले सच बोलते हैं जितना आप सच बोलते हैं उतना आप विश्वास को और मजबूत करते हैं आप पूछिए आप एक अनजान जगह जा रहे हैं और अनजान लोगों से मिल रहे हैं आपने किसी से पूछा कि यह एक एड्रेस मुझे बता दीजिए कहां है तो हो सकता है वह आदमी आपसे कुछ कहता है पान की दुकान वाला आया कोई वहां पर आपको मिलता है उस पर आप को सच है एड्रेस बताया आपको उस पर विश्वास होता है तो मैं बोलूंगा छोटी सी छोटी चीजें जहां पर लोग सच बोलते हैं विश्वास होता है कई बार आप ऐसा पाएंगे कि वह जगह पर किसी ने आप से प्रेम कर दिया और आपसे झूठ बोल दिया अब जिंदगी भर उसको याद रखेंगे क्या रे वहां बहुत लोग बदमाश हैं वह तो विश्वास बिल्डअप होता है सबसे पहले सच बोलने से पालीवाल दूसरा लोगों को अगर आपको टीम में आपकी गली से आपके कॉलेज फ्रेंड है स्कूल फ्रेंड है कुछ भी किसी भी कंडीशन में घर में परिवार में विश्वास बढ़ाने का सेकंड जो मैं कहूंगा सच के अलावा वह होगा आपको चीजों को डालना नहीं तो वह विश्वास को घटाता है आप अगर कोई काम कर सकते हैं तो आप हां बोले तो स्पष्टता यह क्लेरिटी आप नहीं कर सकते हैं तो ना बोले तो क्लेरिटी भी दे उनको आप बिल्कुल साफ-साफ अपनी बातों को रखें अगर आप किसी को इसी ने आपसे कुछ पैसे मांग लिया उधर मैं उदाहरण देता हूं और आप उनको देना नहीं चाहते हैं तो आप उनको बोले कि मैं इस समय असमर्थ हूं या मैं आपको नहीं दे पाऊंगा आप डालते हैं तो वह भी विश्वास को बिल्कुल तोड़ता है हो सकता है आप दे सकें या ना देखे किसी को पता तो नहीं है मुद्दा यह है कि आप कितनी सफाई से एक लड़की से यह बातें उन्हें बता देते हैं आप टालमटल करेंगे विश्वास को खा जाएगा और और भी कई चीजें जो विश्वास को ऑपरेट करती हैं उसमें आपका हो सकता है जब लोगों से आप आंख से आंख मिलाकर बात करते हैं तो वह भी विश्वास को बहुत हद तक और तू माना जाता है कि जो लोग सच बोल रहे हैं वही आंखों में आंखें मिला कर बात कर पाएंगे तो सच नहीं बोल रहे हैं आंखें मिला कर बात नहीं कर पाए यह दो तीन चीजें बहुत इंपॉर्टेंट है विद्यापीठ जिनमें खींच पाए आप उन पर जरूर विश्वास करें उन्हें कुछ अच्छा है तभी वह विश्वास करने के लायक हैं और कभी मौका मिलेगा तो मैं फिर अलग से इस पर कुछ बताऊंगा धन्यवाद
Savaal hai aap vishvaas kaise badhaen aap kaee jaanakaaron aur kaee thinkars kee kitaabon ko padhenge to aap paenge jo mainne alp gyaan thoda arjit kiya hai usamen kee vishvaas aur trast ek aise bildap hota hai to usamen kuchh besik cheejen hotee hain jo isako tenshan karatee hai majaboot karatee hain aapake vishvaas ko badhaate hain pahala sabase importent vah hota hai saty aur sach aap sabase pahale sach bolate hain jitana aap sach bolate hain utana aap vishvaas ko aur majaboot karate hain aap poochhie aap ek anajaan jagah ja rahe hain aur anajaan logon se mil rahe hain aapane kisee se poochha ki yah ek edres mujhe bata deejie kahaan hai to ho sakata hai vah aadamee aapase kuchh kahata hai paan kee dukaan vaala aaya koee vahaan par aapako milata hai us par aap ko sach hai edres bataaya aapako us par vishvaas hota hai to main boloonga chhotee see chhotee cheejen jahaan par log sach bolate hain vishvaas hota hai kaee baar aap aisa paenge ki vah jagah par kisee ne aap se prem kar diya aur aapase jhooth bol diya ab jindagee bhar usako yaad rakhenge kya re vahaan bahut log badamaash hain vah to vishvaas bildap hota hai sabase pahale sach bolane se paaleevaal doosara logon ko agar aapako teem mein aapakee galee se aapake kolej phrend hai skool phrend hai kuchh bhee kisee bhee kandeeshan mein ghar mein parivaar mein vishvaas badhaane ka sekand jo main kahoonga sach ke alaava vah hoga aapako cheejon ko daalana nahin to vah vishvaas ko ghataata hai aap agar koee kaam kar sakate hain to aap haan bole to spashtata yah kleritee aap nahin kar sakate hain to na bole to kleritee bhee de unako aap bilkul saaph-saaph apanee baaton ko rakhen agar aap kisee ko isee ne aapase kuchh paise maang liya udhar main udaaharan deta hoon aur aap unako dena nahin chaahate hain to aap unako bole ki main is samay asamarth hoon ya main aapako nahin de paoonga aap daalate hain to vah bhee vishvaas ko bilkul todata hai ho sakata hai aap de saken ya na dekhe kisee ko pata to nahin hai mudda yah hai ki aap kitanee saphaee se ek ladakee se yah baaten unhen bata dete hain aap taalamatal karenge vishvaas ko kha jaega aur aur bhee kaee cheejen jo vishvaas ko oparet karatee hain usamen aapaka ho sakata hai jab logon se aap aankh se aankh milaakar baat karate hain to vah bhee vishvaas ko bahut had tak aur too maana jaata hai ki jo log sach bol rahe hain vahee aankhon mein aankhen mila kar baat kar paenge to sach nahin bol rahe hain aankhen mila kar baat nahin kar pae yah do teen cheejen bahut importent hai vidyaapeeth jinamen kheench pae aap un par jaroor vishvaas karen unhen kuchh achchha hai tabhee vah vishvaas karane ke laayak hain aur kabhee mauka milega to main phir alag se is par kuchh bataoonga dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या रात को एप्पल खाना चाहिए?Kya Raat Ko Apple Khana Chaiye
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:15
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या रात को है फल खाना चाहिए मैं बिल्कुल साफ शब्दों में बिल्कुल साफगोई से कहना चाहूंगा एक फल कैसा है पूरी धरती पर जो आप माना जाता है क्रॉस ईस्ट वेस्ट दुनिया के किसी भी कोने में आप जाएंगे लोग उसको हिंदी मानते हैं कई कहावत है मालिनी की डॉक्टर अबे तू ना पल को किसी भी समय कभी भी खा सकते हैं ज्यादातर फलों की तासीर थोड़ी ठंडी होती है इसलिए आप के लोगों को सुनते होंगे आपसे कहते होंगे कि रात को यह न खाएं शाम में ना खाएं सर्दी हो जाएगी या जो भी एक्स वाई जेड बहुत सारी बातें आपको ब्ला ब्ला सुनने को आती होंगी तो अब उसमें देखा जाता है कि ऐसे कौन से फल है जो आप खा सकते हैं और डाबर ट्रैवल करते समय रात को कभी भी खा सकते हैं उसमें मैं एक पल पल कहूंगा और दूसरा में एडिशनल जानकारी आपको दे रहा हूं अतिरिक्त वह यह है कोकोनट श्रीफल श्रीफल को बहुत ही उपयोगी स्वास्थ्य कारी लवप्रीत कारी माना गया है नारियल श्रीफल तो नारियल आप कभी भी खा सकते हैं अंदर नाइस होंगे नारियल के कई गुण हैं हजारों गुण पाए जाते हैं नारियल में विटामिंस में शार्ट पोटैशियम कैल्शियम कितने तरह के उसमें आपको मैनर्स पाए जाते हैं बहुत अच्छा एनर्जी का सोच भी है उसके पानी में आ जाते हैं कितना अच्छा गुण है तो उसके अंदर का पानी होता है उसके मलाई को खा सकते हैं और नाम नारियल को बोलूंगा नार्मल जो उत्तर भारत में बाकी जगह मिलता है वह पानी वाला नारियल ज्यादातर साउथ में और कई जगह में है नोट में भी है बट यूज़ नहीं होता है वहां तो पानी वाला और जो मलाई वाला हरा नारियल है मैं बोल रहा हूं जो पूरा नारियल जो बिल्कुल जो रहता है बुरा कलर का उसको भी आप दौड़कर कभी भी खाएं उसी के मैं बात कर रहा हूं सिर्फ फल अगर कहा जाता है देवता को यह फल प्रिय है आप समझ सकते हैं श्रीफल देवताओं को भी प्रिय है तो यह फल आप कभी भी खा सकते हैं अपार्ट फ्रॉम एप्पल तो आई होप मैंने आपके सवाल का जवाब दिया धन्यवाद
Namaskaar doston savaal hai kya raat ko hai phal khaana chaahie main bilkul saaph shabdon mein bilkul saaphagoee se kahana chaahoonga ek phal kaisa hai pooree dharatee par jo aap maana jaata hai kros eest vest duniya ke kisee bhee kone mein aap jaenge log usako hindee maanate hain kaee kahaavat hai maalinee kee doktar abe too na pal ko kisee bhee samay kabhee bhee kha sakate hain jyaadaatar phalon kee taaseer thodee thandee hotee hai isalie aap ke logon ko sunate honge aapase kahate honge ki raat ko yah na khaen shaam mein na khaen sardee ho jaegee ya jo bhee eks vaee jed bahut saaree baaten aapako bla bla sunane ko aatee hongee to ab usamen dekha jaata hai ki aise kaun se phal hai jo aap kha sakate hain aur daabar traival karate samay raat ko kabhee bhee kha sakate hain usamen main ek pal pal kahoonga aur doosara mein edishanal jaanakaaree aapako de raha hoon atirikt vah yah hai kokonat shreephal shreephal ko bahut hee upayogee svaasthy kaaree lavapreet kaaree maana gaya hai naariyal shreephal to naariyal aap kabhee bhee kha sakate hain andar nais honge naariyal ke kaee gun hain hajaaron gun pae jaate hain naariyal mein vitaamins mein shaart potaishiyam kailshiyam kitane tarah ke usamen aapako mainars pae jaate hain bahut achchha enarjee ka soch bhee hai usake paanee mein aa jaate hain kitana achchha gun hai to usake andar ka paanee hota hai usake malaee ko kha sakate hain aur naam naariyal ko boloonga naarmal jo uttar bhaarat mein baakee jagah milata hai vah paanee vaala naariyal jyaadaatar sauth mein aur kaee jagah mein hai not mein bhee hai bat yooz nahin hota hai vahaan to paanee vaala aur jo malaee vaala hara naariyal hai main bol raha hoon jo poora naariyal jo bilkul jo rahata hai bura kalar ka usako bhee aap daudakar kabhee bhee khaen usee ke main baat kar raha hoon sirph phal agar kaha jaata hai devata ko yah phal priy hai aap samajh sakate hain shreephal devataon ko bhee priy hai to yah phal aap kabhee bhee kha sakate hain apaart phrom eppal to aaee hop mainne aapake savaal ka javaab diya dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
पीनट बटर क्या है,क्या यह बिना अंडे का बनता हैं और क्या ये लाभकारी है?Penut Butter Kya Hai Kya Yeh Bina Ande Ka Banta Hai Aur Kya Ye Labhkari Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:35
मित्रों नमस्कार सवाल है पीनट बटर क्या है कैसे बिना अंडे का बनाते हैं और क्या यह लाभकारी है मैं कहना चाहूंगा पीनट बटर बहुत ही मैं भी खा सकते हैं 7 पिक 1 वर्ड है और यह बिना अंडे का बनाते हो बेस्ट इंजेक्शन कहानी चीज है और करना इसमें यह भी है कि पीनट बटर अगर आप बनाएं और उसको खाएंगे तो आपको जो नार्मल गाय के दूध से जो बटर बनता है उससे बहुत ज्यादा एडवांटेज है बहुत फायदा है बिल्कुल आप अगर कोशिश करें अगर पॉसिबल हो तो पीनट बटर खाए बट इसमें भी एक बात है बाजार में जो पीनट बटर मिल रहे हैं एक बार उनको चेक करें वह प्रॉपर सही जगह से आए हैं कि नहीं उनका ओरिजिन सही है कि नहीं घर पर भी आप पीनट बटर बना सकते हैं और मैं बताना चाहता हूं बताना चाहूंगा आपको कि जो पीनट होता है नार्मल जिसे हम मूंगफली कहते हैं इसको आप बिल्कुल मिक्सी में सिंपल ग्रैंड करें अगर बुलाई आठ से 10 घंटे बाद मिक्सी में डालकर उसको बिल्कुल क्रश कर दें या पानी के साथ एक लाश पानी के साथ एक मुट्ठी आप ही ना डालें तो उससे दूध तैयार होगा तो उसका दूध भी बहुत ही मैं भी कर सकते हैं आप पहली दूर होता है और उसका अगर दूध को आखिर वापस गर्म करें खोला है प्रस्तुत करें उसे बटन निकाले तो बहुत ही तंदुरुस्त अच्छा खाना होगा इनफेक्टर दुनिया में जो तीन फूड को सुपर फूड कैटेगरी के माना गया है जो बेस्ट माने जाते हैं मई एडिशनल बातें आपको बता रहा हूं पीनट बटर के अलावा तो सबसे पहला होता है जो इसको बोलते हैं सफेद भोपला या फिर लोग जानते होंगे ऐसी कार्ड तो वह को सुपर फूड माना गया है दूसरा मूंगफली को माना गया है तो यह दोनों सुपर फूड और तीसरा हनी को जो तीन खाने की चीजें हैं जो खाद पदार्थ हैं जिनको सुपर फूड कर सकते हैं हनी का केमिकल स्ट्रक्चर जो है वह हमारे ब्लड के केमिकल स्ट्रक्चर से मैच करता है हनी बहुत ही लाभकारी चीज है डेली बेसिस पर का सेवन करें दूसरा में बता रहा था पीनट पीनट किसी भी मामले रोस्टेड को अवॉइड करें फुला कर खाएं बिल्कुल अच्छा रहेगा सबसे अच्छा फुला के अंकुर करके खाएं फ्रॉड के फॉर्म में दूर बना कर खाएं और भी कोई तरीका सिखा सकते हैं और सफेद भोपला तो यह तीन वस्तु पर फूट जो दुनिया में माने जाते हैं और यह तीनों में से एक है और आप बिल्कुल पीनट बटर इस्तेमाल करें आई होप मैंने आपका सवाल का सही जवाब दिया है धन्यवाद
Mitron namaskaar savaal hai peenat batar kya hai kaise bina ande ka banaate hain aur kya yah laabhakaaree hai main kahana chaahoonga peenat batar bahut hee main bhee kha sakate hain 7 pik 1 vard hai aur yah bina ande ka banaate ho best injekshan kahaanee cheej hai aur karana isamen yah bhee hai ki peenat batar agar aap banaen aur usako khaenge to aapako jo naarmal gaay ke doodh se jo batar banata hai usase bahut jyaada edavaantej hai bahut phaayada hai bilkul aap agar koshish karen agar posibal ho to peenat batar khae bat isamen bhee ek baat hai baajaar mein jo peenat batar mil rahe hain ek baar unako chek karen vah propar sahee jagah se aae hain ki nahin unaka orijin sahee hai ki nahin ghar par bhee aap peenat batar bana sakate hain aur main bataana chaahata hoon bataana chaahoonga aapako ki jo peenat hota hai naarmal jise ham moongaphalee kahate hain isako aap bilkul miksee mein simpal graind karen agar bulaee aath se 10 ghante baad miksee mein daalakar usako bilkul krash kar den ya paanee ke saath ek laash paanee ke saath ek mutthee aap hee na daalen to usase doodh taiyaar hoga to usaka doodh bhee bahut hee main bhee kar sakate hain aap pahalee door hota hai aur usaka agar doodh ko aakhir vaapas garm karen khola hai prastut karen use batan nikaale to bahut hee tandurust achchha khaana hoga inaphektar duniya mein jo teen phood ko supar phood kaitegaree ke maana gaya hai jo best maane jaate hain maee edishanal baaten aapako bata raha hoon peenat batar ke alaava to sabase pahala hota hai jo isako bolate hain saphed bhopala ya phir log jaanate honge aisee kaard to vah ko supar phood maana gaya hai doosara moongaphalee ko maana gaya hai to yah donon supar phood aur teesara hanee ko jo teen khaane kee cheejen hain jo khaad padaarth hain jinako supar phood kar sakate hain hanee ka kemikal strakchar jo hai vah hamaare blad ke kemikal strakchar se maich karata hai hanee bahut hee laabhakaaree cheej hai delee besis par ka sevan karen doosara mein bata raha tha peenat peenat kisee bhee maamale rosted ko avoid karen phula kar khaen bilkul achchha rahega sabase achchha phula ke ankur karake khaen phrod ke phorm mein door bana kar khaen aur bhee koee tareeka sikha sakate hain aur saphed bhopala to yah teen vastu par phoot jo duniya mein maane jaate hain aur yah teenon mein se ek hai aur aap bilkul peenat batar istemaal karen aaee hop mainne aapaka savaal ka sahee javaab diya hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
बैंक अकाउंट की हैकिंग कैसे होती है इससे बचने के लिए क्या उपाय करें?Bank Account Ki Hacking Kaise Hoti Hai Isse Bachne Ke Lie Kya Upaay Kare
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
3:00
नमस्कार दोस्तों सवाल है बैंक के अकाउंट की हैकिंग कैसे होती है और दूसरा सवाल है इससे बचने के लिए क्या उपाय करें तो पहले आप जानना होगा कि बैंक के अकाउंट की हैकिंग कैसे होती है बैंक के अकाउंट आप जो ऑनलाइन न्यूज़ करते हैं उसके दो-तीन तरीके होते हैं पहला आप उसको नेट बैंकिंग के आईडी और पासवर्ड सेक्ट्स करते हैं तो नेट बैंकिंग का आईडी और पासवर्ड अगर किसी ने हैक कर लिया क्या आपने किसी लैपटॉप से यूज किया किसी मोबाइल से यूज किया और उसके कुकीज़ में सेव हो गया तो बाद में ब्राउज़र में जाकर हिस्ट्री से निकाल के कोई आकर उसको हैक कर सकता है दूसरा तरीका है मोबाइल आपके थोड़ा पियूष करते हैं तो किसी ने आपका मोबाइल हैक कर लिया और वहां से आप का आईडी पासवर्ड निकाल लिया तो भी हक हो सकता है और तीसरा होता है फोन बैंकिंग यह 3 तरीके होते हैं नेट बैंकिंग मोबाइल ऐप बैंकिंग और एक फोन बैंकिंग जिसमें आप फोन के थ्रू करते हैं और अभी कुछ नए तरीके आए हैं जैसे कि व्हाट्सएप के थ्रू गया बैंकिंग कर सकते हैं तरीकों से आपका डाटा हैक हो सकता है आपका यूजर आईडी पासवर्ड और आपके अकाउंट में सेंध लग सकती है तो अगर आप के डाटा को निकालते हैं और उसको यूज कर लेते हैं कि उनके इसमें एक डबल लेयर ऑथेंटिकेशन होता है मतलब कि आप जब एक्सेस करते हैं नेट बैंकिंग या यह सारे ऑनलाइन तरीके से तो आप user-id डालते हैं फिर आप पासवर्ड डालते हैं और बहुत सारे केसेस में कुछ एक कार्ड को छोड़कर आपको वहां पर एक ओटीपी के लिगामेंट होती है वन टाइम पासवर्ड आप सभी जानते हैं तो उसके बिना यह अकाउंट एक्सेस नहीं होता है तो जो आपका अकाउंट डिटेल चेक करेगा तो आपका डिबेट कार्ड का डिटेल क्रेडिट कार्ड का डिटेल जो मैं बता रहा हूं ऑनलाइन यूज करने के समय अगर किसी ने हैक कर लिया फिर भी उनको एक वन टाइम पासवर्ड लगेगा जो आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आता है अगर आपका यह तीनों सिंह नहीं होगा यह तीनों डाटा नहीं मिलेगा तो ट्रांजैक्शन जो है वह रिजेक्ट हो जाए अब मैं आता हूं आपके दूसरा जो जब सवाल है उसका जवाब देना चाहता हूं कि इससे निपटने के लिए बचने के लिए क्या करें सबसे बड़ी बात कभी भी अनऑथराइज्ड कंप्यूटर लैपटॉप इंटरनेट कैफे किसी और का सिस्टम इसको एक्सेस ना करें यह फॉलो करें सुबह आते हैं और फ्रेश होते हैं वैसे आप इस को फॉलो करें कि कभी भी दूसरे किसी का है पर्यटक योजना करें और अपना मोबाइल लैपटॉप पर किसी को अन्यत्र किसी को देना यूज करने के लिए उसी से होगा जिससे आप उसको यूज करते हैं चाय मोबाइल एक्स्ट्रा दूसरा एक तरीका अपने पासवर्ड स्कोर 3 डिजिट तरह के संख्याओं से बनाएं एक कैपिटल लेटर ए स्मॉल लेटर और एक स्पेशल करैक्टर और एक विवेक तो आप समझे कि आप उसमें चार चीजें डालें तो आपका पासवर्ड हैक करना है कर्ज के लिए बहुत मुश्किल काम होगा धन्यवाद
Namaskaar doston savaal hai baink ke akaunt kee haiking kaise hotee hai aur doosara savaal hai isase bachane ke lie kya upaay karen to pahale aap jaanana hoga ki baink ke akaunt kee haiking kaise hotee hai baink ke akaunt aap jo onalain nyooz karate hain usake do-teen tareeke hote hain pahala aap usako net bainking ke aaeedee aur paasavard sekts karate hain to net bainking ka aaeedee aur paasavard agar kisee ne haik kar liya kya aapane kisee laipatop se yooj kiya kisee mobail se yooj kiya aur usake kukeez mein sev ho gaya to baad mein brauzar mein jaakar histree se nikaal ke koee aakar usako haik kar sakata hai doosara tareeka hai mobail aapake thoda piyoosh karate hain to kisee ne aapaka mobail haik kar liya aur vahaan se aap ka aaeedee paasavard nikaal liya to bhee hak ho sakata hai aur teesara hota hai phon bainking yah 3 tareeke hote hain net bainking mobail aip bainking aur ek phon bainking jisamen aap phon ke throo karate hain aur abhee kuchh nae tareeke aae hain jaise ki vhaatsep ke throo gaya bainking kar sakate hain tareekon se aapaka daata haik ho sakata hai aapaka yoojar aaeedee paasavard aur aapake akaunt mein sendh lag sakatee hai to agar aap ke daata ko nikaalate hain aur usako yooj kar lete hain ki unake isamen ek dabal leyar othentikeshan hota hai matalab ki aap jab ekses karate hain net bainking ya yah saare onalain tareeke se to aap usair-id daalate hain phir aap paasavard daalate hain aur bahut saare keses mein kuchh ek kaard ko chhodakar aapako vahaan par ek oteepee ke ligaament hotee hai van taim paasavard aap sabhee jaanate hain to usake bina yah akaunt ekses nahin hota hai to jo aapaka akaunt ditel chek karega to aapaka dibet kaard ka ditel kredit kaard ka ditel jo main bata raha hoon onalain yooj karane ke samay agar kisee ne haik kar liya phir bhee unako ek van taim paasavard lagega jo aapake rajistard mobail nambar par aata hai agar aapaka yah teenon sinh nahin hoga yah teenon daata nahin milega to traanjaikshan jo hai vah rijekt ho jae ab main aata hoon aapake doosara jo jab savaal hai usaka javaab dena chaahata hoon ki isase nipatane ke lie bachane ke lie kya karen sabase badee baat kabhee bhee anotharaijd kampyootar laipatop intaranet kaiphe kisee aur ka sistam isako ekses na karen yah pholo karen subah aate hain aur phresh hote hain vaise aap is ko pholo karen ki kabhee bhee doosare kisee ka hai paryatak yojana karen aur apana mobail laipatop par kisee ko anyatr kisee ko dena yooj karane ke lie usee se hoga jisase aap usako yooj karate hain chaay mobail ekstra doosara ek tareeka apane paasavard skor 3 dijit tarah ke sankhyaon se banaen ek kaipital letar e smol letar aur ek speshal karaiktar aur ek vivek to aap samajhe ki aap usamen chaar cheejen daalen to aapaka paasavard haik karana hai karj ke lie bahut mushkil kaam hoga dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
किसानों की कृषि कानूनों को सरकार से वापस लेने की जिद को आप कैसे समझते हैं?Kisaanon Kee Krshi Kaanoonon Ko Sarakaar Se Vaapas Lene Kee Jid Ko Aap Kaise Samajhate Hain
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:58
नमस्कार दोस्तों मैं यह सवाल देख पा रहा हूं किसानों की कृषि कानूनों को सरकार से वापस लेने की जिसको आप कैसे समझते हैं अगर आप तो बृहद तौर पर बहुत बड़े दौर पर देखें ऊपर से मैं कहता हूं जिसको हम लोग हेलीकॉप्टर यू कहते हैं और बर्ड आई व्यू आप गौर करेंगे कि कुछ खास तरह की किसान इस प्रदर्शन में शामिल है और कुछ खास तरह के किसान जिद कर रहे हैं और किसान लूटी आपका सकते हैं बिचौलिया जो जिद कर रहे हैं इस तीनों कानून को वापस लेने के बाद आप मैं आपको बताऊंगा कि आपके गांव में आपके आसपास में अगर आप 10 किसान को जानते हैं तो आप उनसे पर्सनली कभी पास पॉसिबल हो तो बात करें वह आपको बताएंगे कि किसान 70 या 75 सालों से 20 रहा है इस व्यवस्था के तहत इस व्यवस्था के तहत वह व्यवस्था जिसके द्वारा वह जो उठ जाता है उसे उसकी वास्तविक कीमत इसमें उदाहरण देता हूं आपको किसान आलू बेचता है ₹5 किलो और हम अभी खरीद रहे हैं अच्छा ले सकते तो आप समझ सकते हैं कि यह बीच का 5 से 40 जो होता है एक इंसान को कभी नहीं मिलता तो कमाई कौन करता है तो कमाई वह करता है जो आपको डायरेक्ट आलू बेच रहा है बीच में मंडियों में कमाई होती है अगर अगर आप गौर करें तो अस्सी परसेंट जो कमाई है वो किसान को छोड़कर बाकी सब को जा रही है तो लाभ यह है कि जो लोग किसानी नहीं कर रहे हैं क्या जो खेती नहीं कर रहे हैं वह ज्यादा पैसे बना रहे हैं और जो कर रहे हो बहुत कम बना पा रहे हैं और विचार ऐसी तकलीफ में पिछले 75 सालों से भारत में विश्व है या पुरानी बात नहीं करूंगा अंग्रेजों के समय क्या होता था अभी की बात करो जब भारत एक हम जिस भारत गणतंत्र देश में रहते हैं और करेंगे अगर 3 महीने से किसान आंदोलन कर रहे हैं और वह इस कानून के आगे जीत है बिल्कुल काम नहीं कर रहे हैं आप अपने आसपास के मंडियों में जा कर देखिए अगर आपको गौर करना होगा तो आप समझ पाएंगे कि कई सब्जियां कई और जो स्टेपल फूड है या बाकी जो चीजें हैं मार्केट में किसी भी चीज की कमी नहीं है इससे क्या पता चलता है कि किसान जो विरोध कर रहा है वह विरोध एक्चुअली में नहीं कर रहा है तो 90% किसान खुशी है और बिल्कुल इस कानून को मानते हैं पसंद कर रहे हैं और उनके लिए बेनिफिशियल है ग्राउंड लेवल पर बिचौलिए जून को सबसे ज्यादा नुकसान है इस कानून से क्योंकि किसान अपना माल कहीं भी भेज सकता है वह बहुत परेशान है एक योजनाबद्ध तरीके से इस सारे प्रकरण को फैला के रखा है यह किसान विरोधी है लास्ट में यह कहना चाहूंगा आप गौर करेंगे भारत की आबादी में 5% हिस्सा नहीं है किसानों में सरदारों का और देखेंगे सारे सरदारी विरोध कर रहे हैं साथ में यह भी देखेंगे वह किसान mercedes-benz वाले हैं ना कि बिल्कुल गरीब किसान
Namaskaar doston main yah savaal dekh pa raha hoon kisaanon kee krshi kaanoonon ko sarakaar se vaapas lene kee jisako aap kaise samajhate hain agar aap to brhad taur par bahut bade daur par dekhen oopar se main kahata hoon jisako ham log heleekoptar yoo kahate hain aur bard aaee vyoo aap gaur karenge ki kuchh khaas tarah kee kisaan is pradarshan mein shaamil hai aur kuchh khaas tarah ke kisaan jid kar rahe hain aur kisaan lootee aapaka sakate hain bichauliya jo jid kar rahe hain is teenon kaanoon ko vaapas lene ke baad aap main aapako bataoonga ki aapake gaanv mein aapake aasapaas mein agar aap 10 kisaan ko jaanate hain to aap unase parsanalee kabhee paas posibal ho to baat karen vah aapako bataenge ki kisaan 70 ya 75 saalon se 20 raha hai is vyavastha ke tahat is vyavastha ke tahat vah vyavastha jisake dvaara vah jo uth jaata hai use usakee vaastavik keemat isamen udaaharan deta hoon aapako kisaan aaloo bechata hai ₹5 kilo aur ham abhee khareed rahe hain achchha le sakate to aap samajh sakate hain ki yah beech ka 5 se 40 jo hota hai ek insaan ko kabhee nahin milata to kamaee kaun karata hai to kamaee vah karata hai jo aapako daayarekt aaloo bech raha hai beech mein mandiyon mein kamaee hotee hai agar agar aap gaur karen to assee parasent jo kamaee hai vo kisaan ko chhodakar baakee sab ko ja rahee hai to laabh yah hai ki jo log kisaanee nahin kar rahe hain kya jo khetee nahin kar rahe hain vah jyaada paise bana rahe hain aur jo kar rahe ho bahut kam bana pa rahe hain aur vichaar aisee takaleeph mein pichhale 75 saalon se bhaarat mein vishv hai ya puraanee baat nahin karoonga angrejon ke samay kya hota tha abhee kee baat karo jab bhaarat ek ham jis bhaarat ganatantr desh mein rahate hain aur karenge agar 3 maheene se kisaan aandolan kar rahe hain aur vah is kaanoon ke aage jeet hai bilkul kaam nahin kar rahe hain aap apane aasapaas ke mandiyon mein ja kar dekhie agar aapako gaur karana hoga to aap samajh paenge ki kaee sabjiyaan kaee aur jo stepal phood hai ya baakee jo cheejen hain maarket mein kisee bhee cheej kee kamee nahin hai isase kya pata chalata hai ki kisaan jo virodh kar raha hai vah virodh ekchualee mein nahin kar raha hai to 90% kisaan khushee hai aur bilkul is kaanoon ko maanate hain pasand kar rahe hain aur unake lie beniphishiyal hai graund leval par bichaulie joon ko sabase jyaada nukasaan hai is kaanoon se kyonki kisaan apana maal kaheen bhee bhej sakata hai vah bahut pareshaan hai ek yojanaabaddh tareeke se is saare prakaran ko phaila ke rakha hai yah kisaan virodhee hai laast mein yah kahana chaahoonga aap gaur karenge bhaarat kee aabaadee mein 5% hissa nahin hai kisaanon mein saradaaron ka aur dekhenge saare saradaaree virodh kar rahe hain saath mein yah bhee dekhenge vah kisaan mairchaidais-bainz vaale hain na ki bilkul gareeb kisaan

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या किसान आंदोलन में टुकढे-टुकढे गैंग का हाथ है?Kya Kisan Aandolan Mein Tukdhe Tukdhe Gang Ka Haath Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
मित्रों नमस्कार सवाल है क्या किसान आंदोलन में टुकड़े-टुकड़े गैंग का हाथ है आदि की यह बहुत ही बता सकते हैं कॉन्ट्रैक्ट क्या कर सकते कंट्रोवर्शियल टॉपिक है फिर भी मैं कुछ चैट करूंगा आप एक बार टुकड़े-टुकड़े जाएंगे आज अभी जेएनयू में हंगामा हुआ था जब भारत विरोधी नारे लग रहे थे अफजल की बरसी मनाई जा रही थी और अब जल तेरे कातिल जिंदा है हम शर्मिंदा हैं तो लोग जो अफजल को फेवर कर रहे थे अफजल गुरु को तो आप एक बार वह फोटोस निकाल ले पुराना न्यूज़ देखिए जो जो लोग उसको सपोर्ट कर रहे थे उस समय वह वह लोग आज दोबारा किसान आंदोलन को सपोर्ट कर रहे हैं तो आप यहां मैच कर सकते हैं कि अगर 10 लोग वहां सपोर्ट में खड़े थे उसमें से 8 लोग आज फिर खड़े हैं किसान आंदोलन के साथ और किस आंदोलन में एक विशेष बात है अगर करेंगे पूरे भारतवर्ष में किसान अच्छी खासी मात्रा में है और आप किसान आंदोलन में जब पिक्चर देखेंगे वीडियो देखेंगे फोटो पापा इन 80 से 90% जो लोग हैं वह पंजाब और हरियाणा से तो आस्था किसान कानून में जो नए भी लाए हैं उसमें ऐसा क्या गलत है जो सिर्फ पंजाब और हरियाणा के किसानों कोई तकलीफ दे रहा है बाकी भारत पर से किसानों को तकलीफ नहीं है तो 70% मैं देखता हूं जो भी रहते हैं वह पंजाब हरियाणा के लोग रहते हैं इसका मतलब वहां कुछ अलग बात है आप समझ सकते हैं पंजाब और हरियाणा के किसान जो है भारत के सबसे संपन्न किसान सबसे अधिक संपन्न और यही किसान कनाडा में भी जाकर खेती करते हैं आप कभी सर्च करिएगा और इस सप्ताह जो लोग वहां के रहने वाले हैं वह कैनेडा में भी जाकर के पंजाबी जो हैं वह खेती करते हैं मतलब बहुत ही अधिक संपन्न किसान आपका सेक्टर अल्ट्रा मॉडर्न खेती करते हैं और जो एक्चुअल की शान है भारत में जो भूख से मरते हैं तो आप क्या करते हैं आप का भी नाम नहीं सुनेंगे वह पंजाब हरियाणा के हैं आप अक्षर नाम सुनेंगे महाराष्ट्र कर्नाटक बिहार यूपी तुझे तकलीफ राज्य हैं जहां से किसान परेशान है वहां के लोग प्रदेश में शामिल नहीं है कहने का तात्पर्य क्या है वह आती है ज्यादातर हैं शामिल उस प्रदर्शन में क्योंकि वह बीच का जो मसला था वह खा जाते थे और जो मलाई उनको तकलीफ हो रही है कि यह कानून से उनको तकलीफ हो सकता है ऐसा हमें अभी तक पता चला है एक बात इसमें और में जोड़ना चाहूंगा अगर किसान 2 महीने से काम नहीं कर रहे हैं प्रदर्शन कर रहे हैं और बिल्कुल विरोध में बैठे पड़े हैं सरकार के तो आपने गौर किया क्या आस-पास में सब्जियों फलों और बेसिक नेसेसिटी कि जो चीज है आती हमें वह उसके दाम में कुछ उछाल आया है मेरा मानना है मैं तो गौर कर रहा हूं कि नहीं बिल्कुल नहीं आया तो अगर सारे किसान विरोध में प्रदर्शन बैठे पड़े हैं और इसके अगेंस्ट लगे पड़े हैं तो फिर तो बेसिक कमोडिटी के दाम बढ़ नहीं चाहिए जो कि बड़ी नहीं इससे पता चलता है कि एकदम पलक और दूंगा कि जब आपका लॉकडाउन वन हुआ था तो सभी चीजों के दाम बढ़ गए थे तो अभी किसान जो है बाकी किसान काम कर रहे हैं कुछ किसान विरोध में बैठे हैं
Mitron namaskaar savaal hai kya kisaan aandolan mein tukade-tukade gaing ka haath hai aadi kee yah bahut hee bata sakate hain kontraikt kya kar sakate kantrovarshiyal topik hai phir bhee main kuchh chait karoonga aap ek baar tukade-tukade jaenge aaj abhee jeenayoo mein hangaama hua tha jab bhaarat virodhee naare lag rahe the aphajal kee barasee manaee ja rahee thee aur ab jal tere kaatil jinda hai ham sharminda hain to log jo aphajal ko phevar kar rahe the aphajal guru ko to aap ek baar vah photos nikaal le puraana nyooz dekhie jo jo log usako saport kar rahe the us samay vah vah log aaj dobaara kisaan aandolan ko saport kar rahe hain to aap yahaan maich kar sakate hain ki agar 10 log vahaan saport mein khade the usamen se 8 log aaj phir khade hain kisaan aandolan ke saath aur kis aandolan mein ek vishesh baat hai agar karenge poore bhaaratavarsh mein kisaan achchhee khaasee maatra mein hai aur aap kisaan aandolan mein jab pikchar dekhenge veediyo dekhenge photo paapa in 80 se 90% jo log hain vah panjaab aur hariyaana se to aastha kisaan kaanoon mein jo nae bhee lae hain usamen aisa kya galat hai jo sirph panjaab aur hariyaana ke kisaanon koee takaleeph de raha hai baakee bhaarat par se kisaanon ko takaleeph nahin hai to 70% main dekhata hoon jo bhee rahate hain vah panjaab hariyaana ke log rahate hain isaka matalab vahaan kuchh alag baat hai aap samajh sakate hain panjaab aur hariyaana ke kisaan jo hai bhaarat ke sabase sampann kisaan sabase adhik sampann aur yahee kisaan kanaada mein bhee jaakar khetee karate hain aap kabhee sarch kariega aur is saptaah jo log vahaan ke rahane vaale hain vah kaineda mein bhee jaakar ke panjaabee jo hain vah khetee karate hain matalab bahut hee adhik sampann kisaan aapaka sektar altra modarn khetee karate hain aur jo ekchual kee shaan hai bhaarat mein jo bhookh se marate hain to aap kya karate hain aap ka bhee naam nahin sunenge vah panjaab hariyaana ke hain aap akshar naam sunenge mahaaraashtr karnaatak bihaar yoopee tujhe takaleeph raajy hain jahaan se kisaan pareshaan hai vahaan ke log pradesh mein shaamil nahin hai kahane ka taatpary kya hai vah aatee hai jyaadaatar hain shaamil us pradarshan mein kyonki vah beech ka jo masala tha vah kha jaate the aur jo malaee unako takaleeph ho rahee hai ki yah kaanoon se unako takaleeph ho sakata hai aisa hamen abhee tak pata chala hai ek baat isamen aur mein jodana chaahoonga agar kisaan 2 maheene se kaam nahin kar rahe hain pradarshan kar rahe hain aur bilkul virodh mein baithe pade hain sarakaar ke to aapane gaur kiya kya aas-paas mein sabjiyon phalon aur besik nesesitee ki jo cheej hai aatee hamen vah usake daam mein kuchh uchhaal aaya hai mera maanana hai main to gaur kar raha hoon ki nahin bilkul nahin aaya to agar saare kisaan virodh mein pradarshan baithe pade hain aur isake agenst lage pade hain to phir to besik kamoditee ke daam badh nahin chaahie jo ki badee nahin isase pata chalata hai ki ekadam palak aur doonga ki jab aapaka lokadaun van hua tha to sabhee cheejon ke daam badh gae the to abhee kisaan jo hai baakee kisaan kaam kar rahe hain kuchh kisaan virodh mein baithe hain

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या सुबह-सुबह बिना ब्रश किए पानी पीने की आदत सही है या इसका कोई नुकसान है?Kya Subah Subah Bina Brush Kie Pani Peene Ki Adat Sahi Hai Ya Iska Koi Nuksan Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:08
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या सुबह सुबह बिना ब्रश किए पानी पीने की आदत सही है इसका कोई नुकसान है पुरानी जो बोलती है और जो आपके बड़े बुजुर्ग कहते होंगे रात भर जब हम सोते हैं तो हमारे जो जो ग्रंथ होते हैं का मुंह के अंदर में वह कुछ ना कुछ नाटक का पहला जो एक क्रश आपका सकते हैं क्या करत है वह तो पाचक रथ यात्रा का अलार्म पाचक रस की शक्ति होती है तो वह आपके मुंह में रहता है तो घर खाली पेट आप सुबह पानी पीते हैं तो वह आपके पेट में चला जाता है आपके यूज़ में आ गया अगर आप सुबह सुबह उठकर कुल्ला कर लेंगे तो बोला राजनीतिक जाएगा जरूरत काम नहीं आया लेकिन इसको आप बहुत बहुत ही विशेष ध्यान देने की बात नहीं है अगर आपकी बातें हैं बहुत लोग बोलते हैं कि मैं ब्रश करूंगा तभी कुछ पी लूंगा तो जो जैसा सूट करता है कर सकते हैं इससे कोई विशेष नुकसान है विशेष फायदा नहीं है पी लेते तो अच्छा रहता नहीं पीते तो कोई तकलीफ की बात नहीं है और वह लाजो आप उस समय निकल जाता है या फिर शरीर को कम पर सेट कर लेता है बहुत कोई नुकसान की बात नहीं है इसके लिए वरिष्ठ ना हो चिंता ना करें धन्यवाद
Namaskaar doston savaal hai kya subah subah bina brash kie paanee peene kee aadat sahee hai isaka koee nukasaan hai puraanee jo bolatee hai aur jo aapake bade bujurg kahate honge raat bhar jab ham sote hain to hamaare jo jo granth hote hain ka munh ke andar mein vah kuchh na kuchh naatak ka pahala jo ek krash aapaka sakate hain kya karat hai vah to paachak rath yaatra ka alaarm paachak ras kee shakti hotee hai to vah aapake munh mein rahata hai to ghar khaalee pet aap subah paanee peete hain to vah aapake pet mein chala jaata hai aapake yooz mein aa gaya agar aap subah subah uthakar kulla kar lenge to bola raajaneetik jaega jaroorat kaam nahin aaya lekin isako aap bahut bahut hee vishesh dhyaan dene kee baat nahin hai agar aapakee baaten hain bahut log bolate hain ki main brash karoonga tabhee kuchh pee loonga to jo jaisa soot karata hai kar sakate hain isase koee vishesh nukasaan hai vishesh phaayada nahin hai pee lete to achchha rahata nahin peete to koee takaleeph kee baat nahin hai aur vah laajo aap us samay nikal jaata hai ya phir shareer ko kam par set kar leta hai bahut koee nukasaan kee baat nahin hai isake lie varishth na ho chinta na karen dhanyavaad

#भारत की राजनीति

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:20
फ्रेंड सा सवाल है हमारे देश में बनी थी कोरोनावायरस की वैक्सीन लगवाने के लिए आदित्य तो दुनिया तैयार है परंतु हमारे देश के लोग इसको विरोध कर रहे हैं आप मेरा जवाब यह है कि आप जानते हैं पुरानी कहावत है घर की मुर्गी दाल बराबर तो जब पता है कि यह महामारी से पूरी दुनिया लड़ रही है और दुनिया में गिनके पांच देश आपने नाम ले लूंगा तो फायदा जो पहली कंपनी है दुनिया में जो बना रही है वैक्सीन जिन्होंने पहले लांच किया था आप जानते हैं और एस्ट्रेजनेका जो इंग्लैंड की कंपनी है इसकी वैक्सीन को इंडिया में सिर्फ दो हो गए तो भारत अमेरिका चाइना रसिया और यह चार चार देश है जो और इंग्लैंड के चार पांच देसी अभी तक दुनिया में बच्चे बना पाए तो आप समझ सकते हैं इतने सारे दोस्त हैं दुन्नी देश दुनिया में है और उसमें से सिर्फ पांच देश जो अभी तक वैक्सीन सफलतापूर्वक बना पाए हैं इसका मतलब डेवलप्ड कंट्रीज आप जानते हैं अरे बाकी जितने देर से वो टेबल अप कंट्री से विकसित देश हैं उनकी टेक्नोलॉजी क्षमता उनकी बुद्धिमत्ता उनके इंफ्रास्ट्रक्चर तो हमसे बड़े हैं तो यह हमारे लिए बहुत बड़ी उपलब्धि की बात है तो आपके सवाल जो है कि हमारी रेक्सीन बन पा रही है हमारे यहां देश में अपनी वैक्सीन यह हमारे लिए बहुत बड़ी उपलब्धि होता है लेकिन घर की मुर्गी दाल बराबर लोग उसको गाली देंगे नहीं और पूरी दुनिया इसके डिमांड करेगी पर हमारे अपने लोग सोचेंगे कि यह तो ऐसी बन गया आसानी से तुझको लेने का क्या है इसमें प्रॉब्लम है इसने यह है इसमें वह है वह कर रहे हैं अब इसमें मैं कहना चाहूंगा की जो विरोधी है या दिन को विरोध करना है या दीपक कुछ अफवाह फैला रहा है उसने बहुत कुछ कर नहीं सकते हैं अगर हमारी रेसिंग पूरी दुनिया से माल करने को तैयार है वह सारे मापदंड पर खरी उतरती है तो हमें भी लगवाना चाहिए और खास करके जो को माफी डाबी लोग हैं जिनको कुछ भी मतलब डर है इंफेक्शन का उनको लगाना चाहिए और उनको जिनको हेल्थ केयर में है उनको खास लगाना चाहिए और जिनको कुछ बीमारियां और हैं डायबिटीज का कार्ड देख इस तरह का उनको भी लगवाना चाहिए तो जो अपनों में ना पड़े और बैटरी लगाएं और जब पूरी दुनिया लगा रही है इसका मतलब है और गर्व करें इस बात का कि हमारे देश में अपनी बातचीत हुई है और पूरी दुनिया में उसकी जय कार हो रही है धन्यवाद
Phrend sa savaal hai hamaare desh mein banee thee koronaavaayaras kee vaikseen lagavaane ke lie aadity to duniya taiyaar hai parantu hamaare desh ke log isako virodh kar rahe hain aap mera javaab yah hai ki aap jaanate hain puraanee kahaavat hai ghar kee murgee daal baraabar to jab pata hai ki yah mahaamaaree se pooree duniya lad rahee hai aur duniya mein ginake paanch desh aapane naam le loonga to phaayada jo pahalee kampanee hai duniya mein jo bana rahee hai vaikseen jinhonne pahale laanch kiya tha aap jaanate hain aur estrejaneka jo inglaind kee kampanee hai isakee vaikseen ko indiya mein sirph do ho gae to bhaarat amerika chaina rasiya aur yah chaar chaar desh hai jo aur inglaind ke chaar paanch desee abhee tak duniya mein bachche bana pae to aap samajh sakate hain itane saare dost hain dunnee desh duniya mein hai aur usamen se sirph paanch desh jo abhee tak vaikseen saphalataapoorvak bana pae hain isaka matalab devalapd kantreej aap jaanate hain are baakee jitane der se vo tebal ap kantree se vikasit desh hain unakee teknolojee kshamata unakee buddhimatta unake imphraastrakchar to hamase bade hain to yah hamaare lie bahut badee upalabdhi kee baat hai to aapake savaal jo hai ki hamaaree rekseen ban pa rahee hai hamaare yahaan desh mein apanee vaikseen yah hamaare lie bahut badee upalabdhi hota hai lekin ghar kee murgee daal baraabar log usako gaalee denge nahin aur pooree duniya isake dimaand karegee par hamaare apane log sochenge ki yah to aisee ban gaya aasaanee se tujhako lene ka kya hai isamen problam hai isane yah hai isamen vah hai vah kar rahe hain ab isamen main kahana chaahoonga kee jo virodhee hai ya din ko virodh karana hai ya deepak kuchh aphavaah phaila raha hai usane bahut kuchh kar nahin sakate hain agar hamaaree resing pooree duniya se maal karane ko taiyaar hai vah saare maapadand par kharee utaratee hai to hamen bhee lagavaana chaahie aur khaas karake jo ko maaphee daabee log hain jinako kuchh bhee matalab dar hai imphekshan ka unako lagaana chaahie aur unako jinako helth keyar mein hai unako khaas lagaana chaahie aur jinako kuchh beemaariyaan aur hain daayabiteej ka kaard dekh is tarah ka unako bhee lagavaana chaahie to jo apanon mein na pade aur baitaree lagaen aur jab pooree duniya laga rahee hai isaka matalab hai aur garv karen is baat ka ki hamaare desh mein apanee baatacheet huee hai aur pooree duniya mein usakee jay kaar ho rahee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या विपक्ष कोरोना वैक्सीन पर राजनीति कर रहा है?Kya Vipaksh Corona Vaccine Par Raajneeti Kar Raha Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:35
नमस्कार सवाल है क्या विपक्ष पूर्णा व्यक्तिगत राजनीति कर रहा है राजनीति क्यों नहीं करें पक्ष का काम क्या है विपक्ष का काम है कि वह ऐसे मौके ढूंढे जहां पर हो सरकार को घेर सके तो आप जानते हैं कि आप जोड़ लेंगे अगर आप पक्ष में हैं आप डीजल लेंगे तो उसको विपक्ष को उसको विरोध करना है कैसे मैं आपको एग्जांपल दूंगा जीएसटी जब कांग्रेस लेकर आ रही थी तो भाजपा उसका विरोध करती थी कि यह मुद्दा बदलने चाहिए यह मोहब्बत के जो है मेंजमेंट करिए आप यह करिए जब फिर जब भी भाजपा लेकर सुधारना चाहता था कि जो भी विपक्ष में है उनको राजनीति करनी है वह उनका काम है और क्यों नहीं करेंगे वह गलत नहीं करते कर रहे हैं और वह चाहते हैं कि यह राजनीति से थोड़ी सी जो सरकार है उसकी बदनामी हो जिसका उनको फायदा हो लोगों में भ्रम पैदा हो यह भी हो सकता है कि सरकार कुछ गलत हो बट वह अपना काम जो कर रहे हैं बिल्कुल अपने रोल को जस्टिफाई कर रहे हैं आप जानते हैं ना वह गीता में लिखा हुआ है आपने कई लोगों ने पढ़ा होगा जानते हैं सर्वविदित है आपको स्वार्थी होना चाहिए तो कृष्ण जी भी करते हैं कि पहले तो अपनी चिंता करो अपनी चिंता कर रहा है राजनीति करेगा तो कुछ उसे लाभ होगा तो उसको करने दीजिए अपने हिसाब से चाहिए धन्यवाद
Namaskaar savaal hai kya vipaksh poorna vyaktigat raajaneeti kar raha hai raajaneeti kyon nahin karen paksh ka kaam kya hai vipaksh ka kaam hai ki vah aise mauke dhoondhe jahaan par ho sarakaar ko gher sake to aap jaanate hain ki aap jod lenge agar aap paksh mein hain aap deejal lenge to usako vipaksh ko usako virodh karana hai kaise main aapako egjaampal doonga jeeesatee jab kaangres lekar aa rahee thee to bhaajapa usaka virodh karatee thee ki yah mudda badalane chaahie yah mohabbat ke jo hai menjament karie aap yah karie jab phir jab bhee bhaajapa lekar sudhaarana chaahata tha ki jo bhee vipaksh mein hai unako raajaneeti karanee hai vah unaka kaam hai aur kyon nahin karenge vah galat nahin karate kar rahe hain aur vah chaahate hain ki yah raajaneeti se thodee see jo sarakaar hai usakee badanaamee ho jisaka unako phaayada ho logon mein bhram paida ho yah bhee ho sakata hai ki sarakaar kuchh galat ho bat vah apana kaam jo kar rahe hain bilkul apane rol ko jastiphaee kar rahe hain aap jaanate hain na vah geeta mein likha hua hai aapane kaee logon ne padha hoga jaanate hain sarvavidit hai aapako svaarthee hona chaahie to krshn jee bhee karate hain ki pahale to apanee chinta karo apanee chinta kar raha hai raajaneeti karega to kuchh use laabh hoga to usako karane deejie apane hisaab se chaahie dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत में जब भी भाजपा की सरकार बनती है तो दंगे क्यों होते हैं?Bharat Mein Jab Bhe Bjp Ki Sarkaar Banti Hai To Dange Kyun Hote Hain
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार मित्रों आज का सवाल मुझे दिख रहा है भारत की जब भी भाजपा की सरकार बनती है तो दंगे क्यों होते हैं तो मेरा ऐसा मानना है कि यह सवाल का जवाब अगर आप ढूंढती गडरिया नंबर लेकर बात करें तो भारत में सबसे बड़ा दंगा या राइट जो हुआ था वह भारत में मैप ज्यादा दिनों की बात नहीं करूंगा क्योंकि 100 200 300 400 नंबर से सबकी बात नहीं करूंगा सबसे बड़ा दंगा जो भारत में हुआ था वह नंबर वन पर माना जाता है 1947 में आजादी के समय हमें जब आजादी मिली थी उसके बाद दंगा हुआ था उसमें आप जानते हैं पाकिस्तान और हिंदुस्तान का बंटवारा हुआ था लाखों लोगों को मारा गया था हिंदुओं को जो पाकिस्तान में थे और उनको मार के इंडिया भेजा गया था तो कर सकते हैं कि आजादी के डेट के पहले से शुरू हुआ मतलब कंबाइंड हिंदुस्तान जब था या इंडिया था तो उस सबसे बड़ा दंगा उस समय कांग्रेस की सरकार थी तो आप समझ सकते हैं कि जब कांग्रेसी तो वह चाहते तो इंडिया और जब इसका हो रहा था तो वह इसको कुछ प्रोडक्ट कर सकते थे या उन्होंने क्या किया यह आप गदर फिल्म देखे होंगे आपने तो शायद वहां से भी कुछ आप ले सकते हैं दूर तक के लोग मारे गए थे बट जो बहुतायत संख्या थी वह हिंदू मारे गए थे इस दंगे में और पाकिस्तान से हिंदुओं को भगाया गया था और इंडिया में आप जानते हैं हिंदू भी रह गए थे और मुस्लिम भेजो जाने जाना नहीं चाहते तो उनको भी नहीं दिया गया तो मतलब हमने बहुत ही सबको सेकुलरिज्म दिखाया और हम सब का सम्मान करते रहे जबकि वहां से चुन-चुन के सब को मार कर भेज दिया गया और वहां जो आबादी थी जो हिंदुओं की उस समय 20 टके के आसपास थी वह आज घटकर के एक या दो पर्सेंट पर रह गई है समझ सकते हैं कि क्या हाल है दूसरी बात कि जो दूसरा सबसे बड़ा दंगा भारत में हुआ है वह कौन सा था तो नंबर वन मैंने कहा दूसरा 9342 जब इंदिरा गांधी मर गई थी तो उस समय उनकी हत्या के बाद भारत में सिख विरोधी दंगे हुए भारत में जिसमें लाखों सिख मारे गए और चमकते हैं लाखों सिख मारे गए क्यों क्योंकि एक सिख ने 16 फौजी है आपका सकते आर्मी मैंने कहीं आप जो सिक्योरिटी पटना से जो इंदिरा गांधी के उन्होंने इंदिरा गांधी को मारा तो बदले में और पूरे भारत में लाखों लोग मारे गए देश ने उस समय भी कांग्रेस की सरकार की थी इसमें इस तरह के छोटे-छोटे कई नंगे में आपको नाम लूंगा भागलपुर का एक बहुत फेमस धंधा है उस समय भी आप जानते कांग्रेस की सरकार थी तो उसमें भी काफी लोग मरे थे यूपी में काफी दंगे हुए रिसेंट टाइम्स में आप बोलेंगे तो कुछ ऐसे दंगे भी हुए हैं तो छोटे 100 250 वाले पर लाखों की संख्या में जब लोग मरे हैं तो उस समय कांग्रेसी सरकार में रही है बाय डिफॉल्ट जो कि आप इस समय देख सकते हैं अब इसमें ध्यान देने की बात है कि दंगों में नुकसान दोनों तरफ होता है लेकिन ऐसा नहीं है कि कोई एक दूध का धुला है और अपुन को क्लीन चिट दे दे कि भाजपा आई तो दंगे हुए तो भाई पहले दंगे नहीं होते तो ऐसा नहीं मानता
Namaskaar mitron aaj ka savaal mujhe dikh raha hai bhaarat kee jab bhee bhaajapa kee sarakaar banatee hai to dange kyon hote hain to mera aisa maanana hai ki yah savaal ka javaab agar aap dhoondhatee gadariya nambar lekar baat karen to bhaarat mein sabase bada danga ya rait jo hua tha vah bhaarat mein maip jyaada dinon kee baat nahin karoonga kyonki 100 200 300 400 nambar se sabakee baat nahin karoonga sabase bada danga jo bhaarat mein hua tha vah nambar van par maana jaata hai 1947 mein aajaadee ke samay hamen jab aajaadee milee thee usake baad danga hua tha usamen aap jaanate hain paakistaan aur hindustaan ka bantavaara hua tha laakhon logon ko maara gaya tha hinduon ko jo paakistaan mein the aur unako maar ke indiya bheja gaya tha to kar sakate hain ki aajaadee ke det ke pahale se shuroo hua matalab kambaind hindustaan jab tha ya indiya tha to us sabase bada danga us samay kaangres kee sarakaar thee to aap samajh sakate hain ki jab kaangresee to vah chaahate to indiya aur jab isaka ho raha tha to vah isako kuchh prodakt kar sakate the ya unhonne kya kiya yah aap gadar philm dekhe honge aapane to shaayad vahaan se bhee kuchh aap le sakate hain door tak ke log maare gae the bat jo bahutaayat sankhya thee vah hindoo maare gae the is dange mein aur paakistaan se hinduon ko bhagaaya gaya tha aur indiya mein aap jaanate hain hindoo bhee rah gae the aur muslim bhejo jaane jaana nahin chaahate to unako bhee nahin diya gaya to matalab hamane bahut hee sabako sekularijm dikhaaya aur ham sab ka sammaan karate rahe jabaki vahaan se chun-chun ke sab ko maar kar bhej diya gaya aur vahaan jo aabaadee thee jo hinduon kee us samay 20 take ke aasapaas thee vah aaj ghatakar ke ek ya do parsent par rah gaee hai samajh sakate hain ki kya haal hai doosaree baat ki jo doosara sabase bada danga bhaarat mein hua hai vah kaun sa tha to nambar van mainne kaha doosara 9342 jab indira gaandhee mar gaee thee to us samay unakee hatya ke baad bhaarat mein sikh virodhee dange hue bhaarat mein jisamen laakhon sikh maare gae aur chamakate hain laakhon sikh maare gae kyon kyonki ek sikh ne 16 phaujee hai aapaka sakate aarmee mainne kaheen aap jo sikyoritee patana se jo indira gaandhee ke unhonne indira gaandhee ko maara to badale mein aur poore bhaarat mein laakhon log maare gae desh ne us samay bhee kaangres kee sarakaar kee thee isamen is tarah ke chhote-chhote kaee nange mein aapako naam loonga bhaagalapur ka ek bahut phemas dhandha hai us samay bhee aap jaanate kaangres kee sarakaar thee to usamen bhee kaaphee log mare the yoopee mein kaaphee dange hue risent taims mein aap bolenge to kuchh aise dange bhee hue hain to chhote 100 250 vaale par laakhon kee sankhya mein jab log mare hain to us samay kaangresee sarakaar mein rahee hai baay dipholt jo ki aap is samay dekh sakate hain ab isamen dhyaan dene kee baat hai ki dangon mein nukasaan donon taraph hota hai lekin aisa nahin hai ki koee ek doodh ka dhula hai aur apun ko kleen chit de de ki bhaajapa aaee to dange hue to bhaee pahale dange nahin hote to aisa nahin maanata

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है यह सवाल थोड़ा सा आप कहेंगे कि मैं इसमें अगर दोनों को बताना चाहूंगा जब कोई भी पार्टी अगर मीडिया को खरीद ती है तो मीडिया उस के पक्ष में रिपोर्टिंग करती है ऐसा लोग मानते हैं तो आप पाएंगे अभी भी मीडिया का एक धड़ा जो है वह मोदी विरोध में रिपोर्टिंग करता है और जिसमें आप एनडीटीवी और आप जानते हैं बाहर स्क्रॉल इंडिया टुडे ग्रुप और कई सारे चैनल है जो एंटी मोदी रिपोर्टिंग करते हैं और कुचलने से जो मोदी रिपोर्टिंग करते हैं जैसे आप जानते हैं चाहे वह रिपब्लिक है चाहे जी टीवी है तो कुछ चैनल तो आप जानते कोई धड़ा धड़ा है एक तू और एक यह तो विपक्ष के भी अच्छी खाते चैनल है जो विपक्ष की महिमा का गुणगान करते हैं और कुछ चैनल से जो पक्ष की करते हैं गुणगान अब थोड़ा सा बैकग्राउंड में जाते हैं एक समय आपको अगर गूगल पर सर्च करेंगे तो मिल जाएगा मनमोहन सिंह जब यूपीए वन और यूपी टीचर दादा जब वह विदेश यात्रा में जाते थे यह डॉक्युमेंटेड है एक जगह नहीं कई जगह आप अगर चाहे तो पता कर सकते हैं एक हवाई जहाज भर के इंडियन जर्नलिस्ट को जो प्रधानमंत्री थे अपने साथ ले जाते थे मीडिया कवरेज के लिए उनको वहां सरकारी मेहमान बना कर ठीक किया जाता था घुमाया जाता था ऐसी बात है यह होता सालों तक रहा है तो मीडिया जो आप कहते हैं कि मैंने जो नया मीडिया को आज वह शराब बंद हो गया है आज वो सारा बंद हो गया है क्योंकि मोदी जी ने खुद खाने देते न किसी को खाने देते हैं ऐसा कहा जाता है कि वह अपने करीबियों को भी बहुत असहज कर देते हैं अतः मतलब तो उनसे भी बहुत हाई डिमांड करते हैं चाहे वह काम के मामले में या कुछ मामले में तो दो होता क्या है कि आप अपने जो बहुत गरीबी है उनसे भी अगर ज्यादा काम मांगेंगे तो वह आप से रुष्ट हो जाएंगे तो ऐसा आप बुरा ना पता कर सकते हैं एक बहुत ही क्षण में एग्जांपल दूंगा जो अभी मीडिया में हाईलाइट हो रहा था रिसेंटली कि अभी राष्ट्रपति जी ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति भवन में एनडीटीवी का जब 25 साल हुआ था तो एक प्राइवेट मीडिया चैनल एनडीटीवी अपना 25 साल का कार्यक्रम कहां बनाता है किसी होटल में नहीं राष्ट्रपति भवन में तो आप समझ सकते हैं मीडिया किस हद तक 22 थी जो कि हुई थी क्या हम अपने और आप हो या कोई बिलेनियर या मिलेनियर कोई बिजनेसमैन कभी भी सरकारी जमीन पर को सनसन कर सकता है नहीं और एक प्राइवेट टीवी चैनल अपना 25 साल का समारोह बनाता है राष्ट्रपति भवन में तो मीडिया विकास कब था आपको पता चल जाएगा वह दूध का धुला नहीं है मीडिया का कहीं ना कहीं कुछ रहता है उनकी आठ होती है स्पॉन्सरशिप होती है बहुत सारी बातें होती है पर आप ऐसा करें कि हम दूध के धुले थे यूपी वाले और इंडिया वाले सारे काले हैं ऐसा कुछ नहीं है आप प्राइवेट चैनल में होकर के राष्ट्रपति भवन को अपना खेती बनाकर इस्तेमाल कर रहे थे तो दोनों पक्ष में कुछ ना कुछ रिपोर्टिंग होती है यही मेरा जवाब है दम
Namaskaar doston savaal hai kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai yah savaal thoda sa aap kahenge ki main isamen agar donon ko bataana chaahoonga jab koee bhee paartee agar meediya ko khareed tee hai to meediya us ke paksh mein riporting karatee hai aisa log maanate hain to aap paenge abhee bhee meediya ka ek dhada jo hai vah modee virodh mein riporting karata hai aur jisamen aap enadeeteevee aur aap jaanate hain baahar skrol indiya tude grup aur kaee saare chainal hai jo entee modee riporting karate hain aur kuchalane se jo modee riporting karate hain jaise aap jaanate hain chaahe vah ripablik hai chaahe jee teevee hai to kuchh chainal to aap jaanate koee dhada dhada hai ek too aur ek yah to vipaksh ke bhee achchhee khaate chainal hai jo vipaksh kee mahima ka gunagaan karate hain aur kuchh chainal se jo paksh kee karate hain gunagaan ab thoda sa baikagraund mein jaate hain ek samay aapako agar googal par sarch karenge to mil jaega manamohan sinh jab yoopeee van aur yoopee teechar daada jab vah videsh yaatra mein jaate the yah dokyumented hai ek jagah nahin kaee jagah aap agar chaahe to pata kar sakate hain ek havaee jahaaj bhar ke indiyan jarnalist ko jo pradhaanamantree the apane saath le jaate the meediya kavarej ke lie unako vahaan sarakaaree mehamaan bana kar theek kiya jaata tha ghumaaya jaata tha aisee baat hai yah hota saalon tak raha hai to meediya jo aap kahate hain ki mainne jo naya meediya ko aaj vah sharaab band ho gaya hai aaj vo saara band ho gaya hai kyonki modee jee ne khud khaane dete na kisee ko khaane dete hain aisa kaha jaata hai ki vah apane kareebiyon ko bhee bahut asahaj kar dete hain atah matalab to unase bhee bahut haee dimaand karate hain chaahe vah kaam ke maamale mein ya kuchh maamale mein to do hota kya hai ki aap apane jo bahut gareebee hai unase bhee agar jyaada kaam maangenge to vah aap se rusht ho jaenge to aisa aap bura na pata kar sakate hain ek bahut hee kshan mein egjaampal doonga jo abhee meediya mein haeelait ho raha tha risentalee ki abhee raashtrapati jee ne raashtrapati bhavan mein raashtrapati bhavan mein enadeeteevee ka jab 25 saal hua tha to ek praivet meediya chainal enadeeteevee apana 25 saal ka kaaryakram kahaan banaata hai kisee hotal mein nahin raashtrapati bhavan mein to aap samajh sakate hain meediya kis had tak 22 thee jo ki huee thee kya ham apane aur aap ho ya koee bileniyar ya mileniyar koee bijanesamain kabhee bhee sarakaaree jameen par ko sanasan kar sakata hai nahin aur ek praivet teevee chainal apana 25 saal ka samaaroh banaata hai raashtrapati bhavan mein to meediya vikaas kab tha aapako pata chal jaega vah doodh ka dhula nahin hai meediya ka kaheen na kaheen kuchh rahata hai unakee aath hotee hai sponsaraship hotee hai bahut saaree baaten hotee hai par aap aisa karen ki ham doodh ke dhule the yoopee vaale aur indiya vaale saare kaale hain aisa kuchh nahin hai aap praivet chainal mein hokar ke raashtrapati bhavan ko apana khetee banaakar istemaal kar rahe the to donon paksh mein kuchh na kuchh riporting hotee hai yahee mera javaab hai dam

#भारत की राजनीति

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
मित्रों नमस्कार सवाल है क्या मोदी जी की लाचार और विपक्ष सरकार को यह तीनों कृषि कानून अभिलंब रद्द कर देनी चाहिए तो मेरी राय थोड़ी इधर है हां मैं यह कहना चाहूंगा कि यह सरकार लाचार और बेबस है यह थोड़ा मुझे लगता नहीं है क्योंकि पहले 5 साल में जब इंडिया की सरकार थी तो भी लोग कहते थे कि यह सरकार ऐसी है काम नहीं करती यह नहीं करती वह नहीं करती लाचार है बेबस है गठबंधन है जो भी है पूर्ण बहुमत से सरकार बनी थी एनडीए की पर उन्होंने ऐसा कुछ बहुत सारा गलत काम किया है साहब मीडिया में आया था विपक्षी पार्टियां बोल रही थी जबकि अगली बार इलेक्शन हुआ तो पब्लिक ने जो भारत के 130 करोड़ वासियों ने इनको मिलकर दोबारा और अधिक बहुमत से और अधिक पावर से उनको उठाया है देश पर राज करने के लिए तो आप समझ सकते हैं कि लाचार और बेबस तो मुझे नहीं दिखती है क्योंकि जिनके पास पावर है अब पब्लिक उनको पसंद करती है उनको स्पीड दे रही है यह कोई राष्ट्र थोड़ी है कि आकर वह कुर्सी पर बैठ गए उनके पापा मंत्री थे जैसे वह बैठ गया क्या पता नहीं किधर गांधी के बेटे राहुल राजीव गांधी थे जो मर गई इंदिरा गांधी तो तुरंत उनके बेटे बन गया प्रधानमंत्री ऐसा हुआ नहीं यह तो उनकी सरकार की कृषि कानून को बंद कर देना चाहिए हटा देना चाहिए कृषि कानून को बंद करना चाहिए नहीं करना चाहिए इस पर सुप्रीम कोर्ट ने एक कमेटी बनाई है वह लोग जो ज्ञान विद्या ज्ञानी लोग हैं इस पर डिस्कशन करेंगे और पता करेंगे सही है गलत उसके बाद डिसीजन लेंगे एक कॉमन लॉजिक में जो मेरे दिमाग में आ रहा है वह आप गलत सोच है तो शायद मैं अपनी राय बताना चाहूंगा वही है कि पिछले 2 महीने से यह नंबर मैंने से प्रदर्शन चल रहा है और ऐसा भाई बना हुआ है कि सारे किसान इसके विरोध में यह कानून बहुत खराब है ऐसा है वैसा है तो अगर सारे किसान विरोधी है या मखदूम या बहुमत में किसान विरोध में है तो पिछले 2 महीने से किसान विरोध कर रहे हैं काम नहीं कर रहे हैं आपने गौर किया आपके आसपास में फल सब्जियों के दाम आसमान को छू ले आप याद करेंगे जब लॉकडाउन वन हुआ था जब सारे ट्रांसपोर्ट बंद थी तो सारी चीजें महंगी हो गई थी तो मंडी में एक हफ्ते आवक नहीं आती है तो दाम दोगुना तीन गुणा ट्रैवल हो जाता है प्याज की कहानी देखनी क्या हाल में जो हो रहा है आप गौर करेंगे फल सब्जियां और जितनी हमारे जो आते हैं सामान वह सारे आप देखेंगे उनका प्रोडक्शन उनके सप्लाई कंटीन्यूअस कहीं भी आप देखेंगे ऐसा नहीं कि आप सर्च है तो मैं तो बोलूंगा कि अगर सारे किसान उसके विरोध में होते तो आपको मार्केट में इस कॉलोनी इंपैक्ट दिख जाता जो कि नहीं दिख रहा है इससे पता चलता है कि सर्टेन पार्ट कुछ लोग और खासकर के 2 स्टेट के लोग हैं आपको पता है और जो माना जा रहा है कि यह 2 स्टेट के पंजाब और हरियाणा के जो किसान है जो किसान नहीं है वह आ जाती हैं ब्रोकर हैं क्योंकि वह प्रोकस अच्छा पैसा कमाते थे उनकी इस किसान रूल से उनको दिक्कत होगी तो उन्होंने उसके खिलाफ मोर्चा खोला है उसको बहुत ही रिफंडिंग है एक पाठ वह
Mitron namaskaar savaal hai kya modee jee kee laachaar aur vipaksh sarakaar ko yah teenon krshi kaanoon abhilamb radd kar denee chaahie to meree raay thodee idhar hai haan main yah kahana chaahoonga ki yah sarakaar laachaar aur bebas hai yah thoda mujhe lagata nahin hai kyonki pahale 5 saal mein jab indiya kee sarakaar thee to bhee log kahate the ki yah sarakaar aisee hai kaam nahin karatee yah nahin karatee vah nahin karatee laachaar hai bebas hai gathabandhan hai jo bhee hai poorn bahumat se sarakaar banee thee enadeee kee par unhonne aisa kuchh bahut saara galat kaam kiya hai saahab meediya mein aaya tha vipakshee paartiyaan bol rahee thee jabaki agalee baar ilekshan hua to pablik ne jo bhaarat ke 130 karod vaasiyon ne inako milakar dobaara aur adhik bahumat se aur adhik paavar se unako uthaaya hai desh par raaj karane ke lie to aap samajh sakate hain ki laachaar aur bebas to mujhe nahin dikhatee hai kyonki jinake paas paavar hai ab pablik unako pasand karatee hai unako speed de rahee hai yah koee raashtr thodee hai ki aakar vah kursee par baith gae unake paapa mantree the jaise vah baith gaya kya pata nahin kidhar gaandhee ke bete raahul raajeev gaandhee the jo mar gaee indira gaandhee to turant unake bete ban gaya pradhaanamantree aisa hua nahin yah to unakee sarakaar kee krshi kaanoon ko band kar dena chaahie hata dena chaahie krshi kaanoon ko band karana chaahie nahin karana chaahie is par supreem kort ne ek kametee banaee hai vah log jo gyaan vidya gyaanee log hain is par diskashan karenge aur pata karenge sahee hai galat usake baad diseejan lenge ek koman lojik mein jo mere dimaag mein aa raha hai vah aap galat soch hai to shaayad main apanee raay bataana chaahoonga vahee hai ki pichhale 2 maheene se yah nambar mainne se pradarshan chal raha hai aur aisa bhaee bana hua hai ki saare kisaan isake virodh mein yah kaanoon bahut kharaab hai aisa hai vaisa hai to agar saare kisaan virodhee hai ya makhadoom ya bahumat mein kisaan virodh mein hai to pichhale 2 maheene se kisaan virodh kar rahe hain kaam nahin kar rahe hain aapane gaur kiya aapake aasapaas mein phal sabjiyon ke daam aasamaan ko chhoo le aap yaad karenge jab lokadaun van hua tha jab saare traansaport band thee to saaree cheejen mahangee ho gaee thee to mandee mein ek haphte aavak nahin aatee hai to daam doguna teen guna traival ho jaata hai pyaaj kee kahaanee dekhanee kya haal mein jo ho raha hai aap gaur karenge phal sabjiyaan aur jitanee hamaare jo aate hain saamaan vah saare aap dekhenge unaka prodakshan unake saplaee kanteenyooas kaheen bhee aap dekhenge aisa nahin ki aap sarch hai to main to boloonga ki agar saare kisaan usake virodh mein hote to aapako maarket mein is kolonee impaikt dikh jaata jo ki nahin dikh raha hai isase pata chalata hai ki sarten paart kuchh log aur khaasakar ke 2 stet ke log hain aapako pata hai aur jo maana ja raha hai ki yah 2 stet ke panjaab aur hariyaana ke jo kisaan hai jo kisaan nahin hai vah aa jaatee hain brokar hain kyonki vah prokas achchha paisa kamaate the unakee is kisaan rool se unako dikkat hogee to unhonne usake khilaaph morcha khola hai usako bahut hee riphanding hai ek paath vah

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या कारण है कि राहुल गांधी पीएम नहीं बन सकते?Kya Kaaran Hai Ki Rahul Gandhi Pm Nahin Ban Sakte
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या कारण है कि राहुल गांधी पीएम नहीं बन सकते तो अगर आप मेरी राय पूछे तो आज के समय में जो भारत के लोग हैं 130 करोड़ निवासी है और उसमें से जो वोटर्स है जिनकी संख्या 90 करोड़ के आसपास है जो 80 से 90 करोड़ के बीच में आती है मुझे लगता है टोटल वोटर्स एलिजिबल है जिनको यह मौका मिलता है 5 साल में एक बार यह चुनने के लिए कि वह किसे प्रधानमंत्री देखना चाहते हैं तो वह लोग शायद इस समय राहुल गांधी को पीएम बनना नहीं देखना चाहते हैं क्या कारण हो सकता है राहुल गांधी की उम्र काफी हो गई 50 साल से ऊपर होने के बाद भी उन्होंने आज तक अपने क्रेडिबिलिटी को अभी तक ग्रुप नहीं कर पाए उनकी एक ही काबिलियत और कह सकते हैं कि वह गांधी परिवार इन फैक्ट कह दो जो नोट्स ओं गांधी परिवार को क्या असली गांधी परिवार की कहानी कुछ और है गांधी टाइटल को एक तरह से हाईजैक किया गया था मोहनदास करमचंद गांधी के जो फैमिली थी वह गांधी बैटरी यूज करती तो वह रियल गांधी होते हैं बट इंदिरा गांधी ने उनको यूज किया इंदिरा गांधी की शादी हुई उनके जो हस्बैंड थे तो उनका टाइटल भी उन्होंने यूज नहीं किया फिर वह चौथे दिन उसके बाद जब आगे आप जानते हैं कि जैसे भी उन्होंने टाइटल को कैरी किया है आर्टिकल माइलेज देने के लिए तो आपका सकते उनकी काबिलियत है कि वह उस डायनेस्टी से बिलॉन्ग करते हैं जहां पर नेहरू थे इंदिरा गांधी के राजीव गांधी तो मुझे उसी लिए मैं एलिजिबल हुआ था उनका मानना है जबकि आपके डीपी की बात करें तो दिन-ब-दिन आप देखेंगे जो पार्टी को उन्होंने हैंडोवर लिया था आज से आप जब कहेंगे उन्होंने ज्वाइन किया तो उसमें कांग्रेस की क्या हालत थी और आज कांग्रेस की क्या हालत हो गई तो दिन-ब-दिन कांग्रेस डाउनफॉल की तरफ जा रही है हर इलेक्शन द इलेक्शन हर साल 2 साल में उसकी क्रिएटिविटी खराब हो रही है तो लोग समझ रहे हैं इनमें को लीडरशिप जो टैलेंट स्किल होना चाहिए वह नहीं है फिर भी फोर्सफुली कांग्रेस को ढो रही है क्योंकि उनके पास कोई उसका रिप्लेसमेंट भी नहीं है और जो भारतवर्ष के लोग हैं उनका जब पीएम पसंद नहीं करते अभी मैं कल की बात कर रहा हूं मैंने एबीपी न्यूज़ पर एक सर्वे देखा वहां पर भी प्रधानमंत्री के प्रश्न पूछे गए लोगों से तो पहला नंबर 55 परसेंट पर मोदी जी थे और दूसरे नंबर पर राहुल गांधी थे 11% जो आप देखते हैं ना 55 और 11 का शुद्ध और इतना बड़ा गैप होने के बाद प्रधानमंत्री बनना आसान नहीं है और आप मुझे लगता है एक आध इलेक्शन के बाद 2024 के बाद वह रेस में रहेंगे भी नहीं क्योंकि आपने जो मां जो काम करना चाहिए क्रेडिटेड इन अप करनी चाहिए वह कर नहीं पाए आप जहां से सांसद रहे हैं सालों तक का मेडिटेटर के बाद कर रहा हूं जो उनका गढ़ है आजादी के समय से गांधी परिवार का पोस्टर कोई बचा नहीं पाए समिति रानी लास्ट अजीत के चले गए तो समझ सकते हैं अभी फेल हुए फेल हुए और वह अपने आप को रोक नहीं कर पाए इसलिए वह बन नहीं सकते
Namaskaar doston savaal hai kya kaaran hai ki raahul gaandhee peeem nahin ban sakate to agar aap meree raay poochhe to aaj ke samay mein jo bhaarat ke log hain 130 karod nivaasee hai aur usamen se jo votars hai jinakee sankhya 90 karod ke aasapaas hai jo 80 se 90 karod ke beech mein aatee hai mujhe lagata hai total votars elijibal hai jinako yah mauka milata hai 5 saal mein ek baar yah chunane ke lie ki vah kise pradhaanamantree dekhana chaahate hain to vah log shaayad is samay raahul gaandhee ko peeem banana nahin dekhana chaahate hain kya kaaran ho sakata hai raahul gaandhee kee umr kaaphee ho gaee 50 saal se oopar hone ke baad bhee unhonne aaj tak apane kredibilitee ko abhee tak grup nahin kar pae unakee ek hee kaabiliyat aur kah sakate hain ki vah gaandhee parivaar in phaikt kah do jo nots on gaandhee parivaar ko kya asalee gaandhee parivaar kee kahaanee kuchh aur hai gaandhee taital ko ek tarah se haeejaik kiya gaya tha mohanadaas karamachand gaandhee ke jo phaimilee thee vah gaandhee baitaree yooj karatee to vah riyal gaandhee hote hain bat indira gaandhee ne unako yooj kiya indira gaandhee kee shaadee huee unake jo hasbaind the to unaka taital bhee unhonne yooj nahin kiya phir vah chauthe din usake baad jab aage aap jaanate hain ki jaise bhee unhonne taital ko kairee kiya hai aartikal mailej dene ke lie to aapaka sakate unakee kaabiliyat hai ki vah us daayanestee se bilong karate hain jahaan par neharoo the indira gaandhee ke raajeev gaandhee to mujhe usee lie main elijibal hua tha unaka maanana hai jabaki aapake deepee kee baat karen to din-ba-din aap dekhenge jo paartee ko unhonne haindovar liya tha aaj se aap jab kahenge unhonne jvain kiya to usamen kaangres kee kya haalat thee aur aaj kaangres kee kya haalat ho gaee to din-ba-din kaangres daunaphol kee taraph ja rahee hai har ilekshan da ilekshan har saal 2 saal mein usakee krietivitee kharaab ho rahee hai to log samajh rahe hain inamen ko leedaraship jo tailent skil hona chaahie vah nahin hai phir bhee phorsaphulee kaangres ko dho rahee hai kyonki unake paas koee usaka riplesament bhee nahin hai aur jo bhaaratavarsh ke log hain unaka jab peeem pasand nahin karate abhee main kal kee baat kar raha hoon mainne ebeepee nyooz par ek sarve dekha vahaan par bhee pradhaanamantree ke prashn poochhe gae logon se to pahala nambar 55 parasent par modee jee the aur doosare nambar par raahul gaandhee the 11% jo aap dekhate hain na 55 aur 11 ka shuddh aur itana bada gaip hone ke baad pradhaanamantree banana aasaan nahin hai aur aap mujhe lagata hai ek aadh ilekshan ke baad 2024 ke baad vah res mein rahenge bhee nahin kyonki aapane jo maan jo kaam karana chaahie kredited in ap karanee chaahie vah kar nahin pae aap jahaan se saansad rahe hain saalon tak ka meditetar ke baad kar raha hoon jo unaka gadh hai aajaadee ke samay se gaandhee parivaar ka postar koee bacha nahin pae samiti raanee laast ajeet ke chale gae to samajh sakate hain abhee phel hue phel hue aur vah apane aap ko rok nahin kar pae isalie vah ban nahin sakate

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
उत्तर प्रदेश की राजधानी क्या है?uttar pradesh kee raajadhaanee kya hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
0:21
आपका सवाल है उत्तर प्रदेश की राजधानी क्या है यह सवाल मुझे लग रहा है आप पहली बार टेस्ट करने के लिए आपने पूछा है तो आप सवाल पूछना का बहुत ही सिंपल लांचर है लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी है और यह आप अगर जानना चाहते हैं तो इतना ही बता सकता हूं
Aapaka savaal hai uttar pradesh kee raajadhaanee kya hai yah savaal mujhe lag raha hai aap pahalee baar test karane ke lie aapane poochha hai to aap savaal poochhana ka bahut hee simpal laanchar hai lakhanoo uttar pradesh kee raajadhaanee hai aur yah aap agar jaanana chaahate hain to itana hee bata sakata hoon

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
खाना खाते समय किस चीज का ध्यान रखना चाहिए?Khana Khate Samay Kis Cheej Ka Dhyan Rakhna Chaiye
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों सवाल है खाना खाते समय किस चीज का ध्यान रखना चाहिए तो खाना खाते समय कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए मैं जब खाना खाता हूं तो मैं ध्यान रखता हूं जो मेरे लिए मुझे उपयुक्त लगता है वह यह है कि मैं कहीं ज्यादा न खा जाऊं तो सबसे पहले तो वही ध्यान रखना चाहिए कि जब खाना आपको डिस्टर्ब मिलेगा अच्छा मिलेगा तो संभावना ज्यादा खाना खा जाएंगे और आपकी जो कैदी के लिगामेंट है आप आधी खेलेंगे तो आप मोटे हो जाएंगे तो पहले किस तो वह मेरे लिए करोगे मैं मानता हूं तो और जो चीज अगर कम लोगों की ऑब्जर्व करे तो 10 लोगों को अगर खाना खाते देखेंगे तो उसमें से आपको कई लोगों से जब आप उनसे कुछ सवाल पूछेंगे कि आपने क्या गलती कर दी खाना खाते समय तो आप अगर खुद ऑब्जर्व करेंगे रेस्टोरेंट में बैठकर या 10 लोगों को देखे हैं जिनको आप पता ना चले कि आप उन्हें देख रहे हैं और आप देख लो अब जबकि लोग गलती करते हैं एक तो ओवर रेटिंग तो मैंने कहा बहुत कम चीज है दूसरा खाने के बीच में पानी पीते रहना तो यह दो चीजें सबसे कॉमन मिस्टेक्स है जो लोग करते हैं एक तो अच्छा ओवरईटिंग कर लेते हैं दूसरा जो लोग करते हैं वह यह होता है कि बिल्कुल पानी भी बीच में पीते रहते हैं खाना कभी भी खाते समय बीच में पानी पीना वह पुरानी कहावत है ना विष के समान है खाने के बीच में पानी पी रहे तो किसके समान है तो आप बिल्कुल बिल्कुल ना खाए खाना पचने में दिक्कत होती है लोगों को फिर बवाल मोमेंट में दिक्कत होता है सारी परेशानी आती है क्योंकि आप खाने के साथ पानी मिला देते हैं और आपके जो बाइल जूस एस जो आप रोते ना आपके शरीर में जो यूसेज बनते हैं खाना को पचाने के लिए वह जो दूसरे से काम नहीं कर पाती है क्योंकि आपने साथ में पानी मिला दिया है तो जूस की जो मात्रा से अधिक बना रहा है अगर आपने जो खाना खाया उसके लिए एक शर्ट एंड अमाउंट ऑफ जूस का प्रोडक्शन शरीर में किया गॉलब्लैडर से आप जानते हैं दूर से बनकर गए वह खाने को पचा नहीं पाए क्योंकि आपने उसमें पानी मिला दिया तो आपका वाइट पानी के लिए और बाला मैंने बोला ना करें क्लिक करें और एक बहुत पुरानी कहावत है मैं उसको बोल कर अपना कॉल को कंप्लीट करूंगा वह यह है कि आप पानी को चलाएं और जो आप तकरार थारे उनके चलाना चाहिए और आप जो कर सकते हैं हाटफूट खा रहे हैं जो कड़े पदार्थ खा रहे हैं उनको आपको पीना चाहिए इसका मतलब यह निकला कि आप अगर रोटी सब्जी खाते हैं तो उसको कम से कम 25 30 * जब आए वह बिल्कुल पानी के जैसा हो जाए तब उसको शरीर के अंदर ले जाएं और जब आप पानी पीते हैं तो पानी को चलाएं करने का दोनों में अगर आप प्रैक्टिस कर के देखेंगे तो पता चलेगा यह इफेक्टिवली आपके डिजिटल रिलेटेड यानी आपके पाचन संबंधित 99 50 प्रॉब्लम को सॉल्व कर देगा किसी को कब्ज रहता है किसी का और भी तो प्रॉब्लम है उसको भी सॉल्व कर देगा मैं समय समाप्त हो रहा है तो फिर भी मैं कहूंगा यह दो तीन चीजें फॉलो करें ओवर रेटिंग ना करें शुरू करें प्रॉपर्ली
Namaskaar doston savaal hai khaana khaate samay kis cheej ka dhyaan rakhana chaahie to khaana khaate samay kaee cheejon ka dhyaan rakhana chaahie main jab khaana khaata hoon to main dhyaan rakhata hoon jo mere lie mujhe upayukt lagata hai vah yah hai ki main kaheen jyaada na kha jaoon to sabase pahale to vahee dhyaan rakhana chaahie ki jab khaana aapako distarb milega achchha milega to sambhaavana jyaada khaana kha jaenge aur aapakee jo kaidee ke ligaament hai aap aadhee khelenge to aap mote ho jaenge to pahale kis to vah mere lie karoge main maanata hoon to aur jo cheej agar kam logon kee objarv kare to 10 logon ko agar khaana khaate dekhenge to usamen se aapako kaee logon se jab aap unase kuchh savaal poochhenge ki aapane kya galatee kar dee khaana khaate samay to aap agar khud objarv karenge restorent mein baithakar ya 10 logon ko dekhe hain jinako aap pata na chale ki aap unhen dekh rahe hain aur aap dekh lo ab jabaki log galatee karate hain ek to ovar reting to mainne kaha bahut kam cheej hai doosara khaane ke beech mein paanee peete rahana to yah do cheejen sabase koman misteks hai jo log karate hain ek to achchha ovareeting kar lete hain doosara jo log karate hain vah yah hota hai ki bilkul paanee bhee beech mein peete rahate hain khaana kabhee bhee khaate samay beech mein paanee peena vah puraanee kahaavat hai na vish ke samaan hai khaane ke beech mein paanee pee rahe to kisake samaan hai to aap bilkul bilkul na khae khaana pachane mein dikkat hotee hai logon ko phir bavaal moment mein dikkat hota hai saaree pareshaanee aatee hai kyonki aap khaane ke saath paanee mila dete hain aur aapake jo bail joos es jo aap rote na aapake shareer mein jo yoosej banate hain khaana ko pachaane ke lie vah jo doosare se kaam nahin kar paatee hai kyonki aapane saath mein paanee mila diya hai to joos kee jo maatra se adhik bana raha hai agar aapane jo khaana khaaya usake lie ek shart end amaunt oph joos ka prodakshan shareer mein kiya golablaidar se aap jaanate hain door se banakar gae vah khaane ko pacha nahin pae kyonki aapane usamen paanee mila diya to aapaka vait paanee ke lie aur baala mainne bola na karen klik karen aur ek bahut puraanee kahaavat hai main usako bol kar apana kol ko kampleet karoonga vah yah hai ki aap paanee ko chalaen aur jo aap takaraar thaare unake chalaana chaahie aur aap jo kar sakate hain haataphoot kha rahe hain jo kade padaarth kha rahe hain unako aapako peena chaahie isaka matalab yah nikala ki aap agar rotee sabjee khaate hain to usako kam se kam 25 30 * jab aae vah bilkul paanee ke jaisa ho jae tab usako shareer ke andar le jaen aur jab aap paanee peete hain to paanee ko chalaen karane ka donon mein agar aap praiktis kar ke dekhenge to pata chalega yah iphektivalee aapake dijital rileted yaanee aapake paachan sambandhit 99 50 problam ko solv kar dega kisee ko kabj rahata hai kisee ka aur bhee to problam hai usako bhee solv kar dega main samay samaapt ho raha hai to phir bhee main kahoonga yah do teen cheejen pholo karen ovar reting na karen shuroo karen proparlee

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
हार्ट अटैक से बचने के लिए हमें क्या-क्या नुस्खे करनी चाहिए?Heart Atacck Se Bachne Ke Lie Humein Kya Kya Nuskhe Karne Chaiye
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों आज सवाल है हार्ट अटैक से बचने के लिए हमें क्या-क्या नुस्खे करनी चाहिए तो पहले आप अगर इस सवाल का समझना चाहते हैं तो आप आम भाषा में पहले यह जान लेकर हार्ड अटैक क्यों होता है तो आपकी रक्त वाहिनी धमनिया है जो आपके ब्लड वेसल साफ कर सकते हैं भाषा में जो ब्लड कैरी करते शरीर में उनमें जब कुछ रुकावट आती है और ब्लड में सुतली आराम से मुंह नहीं कर पाता है तो उससे क्या होता है कि ब्लड का मूवमेंट जो नहीं सही से हो पा रहा क्योंकि जो धमनिया है वह पतली हो गई है फ्री हो गई है क्योंकि उसमें कोलेस्ट्रॉल जम गया है फ्लैट जम गया है तब क्या होता है दिल के ऊपर काफी दबाव पड़ता है और दबाव पड़ता है तो कहीं पर रखकर हो सकता है और कहीं टूट-फूट हो सकती है उसी को हम कहते हैं हार्ड अटैक आप समझ सकते हैं धमनियों पर जोर पड़ा धमनिया टूट गई या कमजोर हो गई अब थोड़ी डिश मेंटल हो गई तो या उनको हो सकता है वह तुम कर क्या सकते हैं पहले तो वह जो कोलेस्ट्रॉल या पार्टी पोजीशन है उसको ना होने दें सिंपल एक्सरसाइज मैं कहूंगा एक्साइज भी ना करें तो मैं और सिंपल करता हूं आप सपने में मैं दिल्ली की बात नहीं करूंगा क्योंकि हर किसी के अलग रूटीन है आप 1 हफ्ते में 2 घंटे यानी 120 मिनट पैदल चले थे तो अगर आपको लगता है आप सप्ताह में 4 दिन चल पा रहे तो आधे घंटे 4 दिन चलिए तो 2 घंटे हो जाएंगे अगर आप दिल्ली चल पाए तो दिल्ली आप अंदर से 20 मिनट चले इतना अगर आप चलते हैं तो आपके जो धमनियों में जोड़ने का जो संभावना है वह 70 से अधिक से अधिक से अधिक कम हो जाएगा पहला सिंपल बेसिक कि आप चले पैदल चले पैदल दूसरा कितना इंपॉर्टेंट देना चाहूंगा जो साइंटिफिकली प्रूवन है वह है कि आप रिफाइंड ऑयल और यह जो नए जमाने के जो प्यूरीफाइड याद आ सकते हैं आप प्रोसेस ऑइल है खाना बंद कर दें आप स्विच करें पूरी दुनिया जा रही है जो भारतीय संस्कृति में भी था या भारतीय संस्कृति में कच्चा स्कूल कच्ची घानी तेल तो कच्ची घानी तेल मतलब सिर्फ सर सुखाची गाने नहीं होती है ऐसा भी कोई तेल जो हम इस्तेमाल करते थे भारतीय संस्कृति में जो पीसा जाता था कोल्हू मशीन होता है ना उसमें पीसते हैं उसकी बात कर रहा हूं मतलब कोल्ड प्रेस्ड ऑयल और अभी जो मशीनों से बनकर आ रहा है फैक्टरी से सनफ्लावर या कोई भी तेल आप देखते हैं प्रोसेस जिसको बोलते हैं वह उन लोग उसको क्या कहते हैं तेल को हिट करते हैं गंध उसका स्मेल उसके सारे पोस्ट खत्म हो जाते हैं तो आप रिफाइंड तेल खाना बंद कर दें आप कोल्ड प्रेस्ड ऑयल खाएं कोल्ड प्रेस यानी कि जो हमारी पुरानी पिसा हुआ कुल्लू का तेल किसे बोलते हैं वह खाए यह दो चीजें करें और आप यह दो चीजें करेंगे तो आपको मैं बता सकता हूं 80 से 90 फ़ीसदी संभावना नहीं
Namaskaar doston aaj savaal hai haart ataik se bachane ke lie hamen kya-kya nuskhe karanee chaahie to pahale aap agar is savaal ka samajhana chaahate hain to aap aam bhaasha mein pahale yah jaan lekar haard ataik kyon hota hai to aapakee rakt vaahinee dhamaniya hai jo aapake blad vesal saaph kar sakate hain bhaasha mein jo blad kairee karate shareer mein unamen jab kuchh rukaavat aatee hai aur blad mein sutalee aaraam se munh nahin kar paata hai to usase kya hota hai ki blad ka moovament jo nahin sahee se ho pa raha kyonki jo dhamaniya hai vah patalee ho gaee hai phree ho gaee hai kyonki usamen kolestrol jam gaya hai phlait jam gaya hai tab kya hota hai dil ke oopar kaaphee dabaav padata hai aur dabaav padata hai to kaheen par rakhakar ho sakata hai aur kaheen toot-phoot ho sakatee hai usee ko ham kahate hain haard ataik aap samajh sakate hain dhamaniyon par jor pada dhamaniya toot gaee ya kamajor ho gaee ab thodee dish mental ho gaee to ya unako ho sakata hai vah tum kar kya sakate hain pahale to vah jo kolestrol ya paartee pojeeshan hai usako na hone den simpal eksarasaij main kahoonga eksaij bhee na karen to main aur simpal karata hoon aap sapane mein main dillee kee baat nahin karoonga kyonki har kisee ke alag rooteen hai aap 1 haphte mein 2 ghante yaanee 120 minat paidal chale the to agar aapako lagata hai aap saptaah mein 4 din chal pa rahe to aadhe ghante 4 din chalie to 2 ghante ho jaenge agar aap dillee chal pae to dillee aap andar se 20 minat chale itana agar aap chalate hain to aapake jo dhamaniyon mein jodane ka jo sambhaavana hai vah 70 se adhik se adhik se adhik kam ho jaega pahala simpal besik ki aap chale paidal chale paidal doosara kitana importent dena chaahoonga jo saintiphikalee proovan hai vah hai ki aap riphaind oyal aur yah jo nae jamaane ke jo pyooreephaid yaad aa sakate hain aap proses oil hai khaana band kar den aap svich karen pooree duniya ja rahee hai jo bhaarateey sanskrti mein bhee tha ya bhaarateey sanskrti mein kachcha skool kachchee ghaanee tel to kachchee ghaanee tel matalab sirph sar sukhaachee gaane nahin hotee hai aisa bhee koee tel jo ham istemaal karate the bhaarateey sanskrti mein jo peesa jaata tha kolhoo masheen hota hai na usamen peesate hain usakee baat kar raha hoon matalab kold presd oyal aur abhee jo masheenon se banakar aa raha hai phaiktaree se sanaphlaavar ya koee bhee tel aap dekhate hain proses jisako bolate hain vah un log usako kya kahate hain tel ko hit karate hain gandh usaka smel usake saare post khatm ho jaate hain to aap riphaind tel khaana band kar den aap kold presd oyal khaen kold pres yaanee ki jo hamaaree puraanee pisa hua kulloo ka tel kise bolate hain vah khae yah do cheejen karen aur aap yah do cheejen karenge to aapako main bata sakata hoon 80 se 90 feesadee sambhaavana nahin

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या आप हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए उपचार बता सकते हैं?Kya Aap Haddiyo Ko Majbut Banane Ke Lie Upchar Bata Sakte Hain
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:56
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है क्या आप हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए उपचार बता सकते हैं जी जरूर मैं आपको कुछ उपचार बताना चाहूंगा और बहुत सिंपल अब बहुत ही प्रैक्टिकल जिसमें आपको देना चाहूंगा तो अगर आप हड्डियों को मजबूत बनाना चाहते हैं तो आपको एक्सटर्नल या बाहर से कोई से पेमेंट लेने की जरूरत नहीं है मार्केट से टेबलेट खाने की जरूरत नहीं है आप एक दिनचर्या में आप दिल्ली चलो ए वतन अच्छा नहीं हमारे छोटे चेन्नई जो काले चने होते हैं या लाल वाले उनको लूटकर इंक्लूड कर लें आप सुबह शाम थोड़ी-थोड़ी एक कटोरी में ले ले और दो कटोरी सुबह शाम खाएं चेन्नई कैल्शियम के अच्छे रिच सोर्स माने जाते हैं अगर आप उनको पानी में शोक कर रखे रात भर और अगले दिन खाएं तो आपकी कैल्शियम की कॉमेंट के लिए आपको अलग से और कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है लेकिन एक बात आप ध्यान रखें कैल्शियम हमारे शरीर में जब यह आ जाता है तो इस कैल्शियम को एक जॉब कर के और उसको हमारे हड्डी में सजाने के लिए सजवानी मतलब बिल्डिंग करने के लिए अंदर में जमाने के लिए एक बहुत इंपॉर्टेंट डिपार्मेंट होता है जो साइंस के ट्रूवेन है आप जानते हैं सर्च कर सकते हैं पता कर सकते हैं वह है विटामिन डी जिससे हम बात कर सकते हैं कॉलेकैल्सिफेरॉल भी कहते हैं केमिकल भाषा में तो कॉलेकैल्सिफेरॉल या विटामिन डी के बिना कैल्शियम हम अगर खा भी लेते हैं हमारे शरीर कोई उसको इस्तेमाल नहीं कर पाता है वेजिटेरियन सोर्स में आपके पास बड़ी मुश्किल और कई कई लिमिटेड ऑप्शंस है तो आपके लिए सबसे अच्छा ऑप्शन ही होगा आप दिल्ली कोशिश करें आधे घंटे के लिए आप धूप का सेवन करें तो धूप का सेवन करना बहुत ही जरूरी है कॉलेकैल्सिफेरॉल या विटामिन डी आपको धूप से मिलता है प्राकृतिक रूप में इसलिए आप जानेंगे पुराने समय में जब लोग बहुत ज्यादा डर के कपड़े नहीं पहनते थे या दिनभर यहां वहां घूमते थे तो उनको काफी मात्रा में दूध पिलाती थी तो उन्हें अलग से को लेकर शिवपुराण की कमी नहीं होती थी हड्डियां मजबूत रखी थी जबकि आज के डेट में जब सभी लोग ऑफिस के बंदर काम करते हैं घर में ही रहते हैं और धूप आता नहीं है तो सबको विटामिन डी की कमी होती है तो अगर आप कैल्शियम का भी रहे हैं तो कल सिम चिंता का विषय नहीं है वह आपके डाइट से मिल जाता है पर हमारा शरीर उसे ब्लॉक नहीं कर पाता बिकॉज ऑफ कमी है जो उसके कारण जो विटामिन डी की कमी के कारण तो धूप ले और वेजिटेरियन सोर्स अगर आप बोलेंगे तो बहुत लिमिटेड हैं नॉनवेज में आधे रणछोड़ से आते हैं जहां से आप ले सकते हैं कॉड लिवर आयल जहां से आपको मिल जाता है फिर भी लोग जो खाते हैं वहां से मिल सकता है पर धूप सबसे अच्छा सोर्स है अगर आप दिल्ली नहीं मिले पा रहे हैं तो कोशिश करें सप्ताह में 2 दिन 1 घंटे के लिए धूप में बैठे आधे बदन खोल कर तो अच्छा रहेगा यही था मेरा जवाब धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka savaal hai kya aap haddiyon ko majaboot banaane ke lie upachaar bata sakate hain jee jaroor main aapako kuchh upachaar bataana chaahoonga aur bahut simpal ab bahut hee praiktikal jisamen aapako dena chaahoonga to agar aap haddiyon ko majaboot banaana chaahate hain to aapako eksatarnal ya baahar se koee se pement lene kee jaroorat nahin hai maarket se tebalet khaane kee jaroorat nahin hai aap ek dinacharya mein aap dillee chalo e vatan achchha nahin hamaare chhote chennee jo kaale chane hote hain ya laal vaale unako lootakar inklood kar len aap subah shaam thodee-thodee ek katoree mein le le aur do katoree subah shaam khaen chennee kailshiyam ke achchhe rich sors maane jaate hain agar aap unako paanee mein shok kar rakhe raat bhar aur agale din khaen to aapakee kailshiyam kee koment ke lie aapako alag se aur koee chinta karane kee jaroorat nahin hai lekin ek baat aap dhyaan rakhen kailshiyam hamaare shareer mein jab yah aa jaata hai to is kailshiyam ko ek job kar ke aur usako hamaare haddee mein sajaane ke lie sajavaanee matalab bilding karane ke lie andar mein jamaane ke lie ek bahut importent dipaarment hota hai jo sains ke trooven hai aap jaanate hain sarch kar sakate hain pata kar sakate hain vah hai vitaamin dee jisase ham baat kar sakate hain kolekailsipherol bhee kahate hain kemikal bhaasha mein to kolekailsipherol ya vitaamin dee ke bina kailshiyam ham agar kha bhee lete hain hamaare shareer koee usako istemaal nahin kar paata hai vejiteriyan sors mein aapake paas badee mushkil aur kaee kaee limited opshans hai to aapake lie sabase achchha opshan hee hoga aap dillee koshish karen aadhe ghante ke lie aap dhoop ka sevan karen to dhoop ka sevan karana bahut hee jarooree hai kolekailsipherol ya vitaamin dee aapako dhoop se milata hai praakrtik roop mein isalie aap jaanenge puraane samay mein jab log bahut jyaada dar ke kapade nahin pahanate the ya dinabhar yahaan vahaan ghoomate the to unako kaaphee maatra mein doodh pilaatee thee to unhen alag se ko lekar shivapuraan kee kamee nahin hotee thee haddiyaan majaboot rakhee thee jabaki aaj ke det mein jab sabhee log ophis ke bandar kaam karate hain ghar mein hee rahate hain aur dhoop aata nahin hai to sabako vitaamin dee kee kamee hotee hai to agar aap kailshiyam ka bhee rahe hain to kal sim chinta ka vishay nahin hai vah aapake dait se mil jaata hai par hamaara shareer use blok nahin kar paata bikoj oph kamee hai jo usake kaaran jo vitaamin dee kee kamee ke kaaran to dhoop le aur vejiteriyan sors agar aap bolenge to bahut limited hain nonavej mein aadhe ranachhod se aate hain jahaan se aap le sakate hain kod livar aayal jahaan se aapako mil jaata hai phir bhee log jo khaate hain vahaan se mil sakata hai par dhoop sabase achchha sors hai agar aap dillee nahin mile pa rahe hain to koshish karen saptaah mein 2 din 1 ghante ke lie dhoop mein baithe aadhe badan khol kar to achchha rahega yahee tha mera javaab dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या प्रोटीन के लिए सोयाबीन खाना सही है?Kya Protein Ke Lie Soyabean Khana Sahi Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:27
मित्रों आपका सवाल है क्या प्रोटीन के लिए सोयाबीन खाना सही है हां बिल्कुल सोयाबीन खाना प्रोटीन के अगर आपको ही कमेंट है तो बिल्कुल सही है मैं चुकी है जवाब बहुत ही छोटा सा है बिल्कुल सही आप खा सकते हैं बट मैं आपको ऐड कर दूंगा अगर आप बिजी टेरियन है तो आपके लिए दो-तीन प्रोटीन के अच्छे सोर्स कौन-कौन से हो सकते हैं तो आप एक सोयाबीन को कैसे रख कर सकते हैं दूसरा इंर्पोटेंट सोर्स आफ जो दिल्ली अपनी डाइट पर अपलोड कर सकते हैं वह है आपकी मूंगफली मूंगफली को एक सुपर फूड कैटेगरी माना गया है मूंगफली को आप कई तरह से खा सकते हैं आप उसको सबसे अच्छा और बेस्ट तरीका होगा मूंगफली से आपको प्रोटीन अगर चाहिए तो आप उसको रात को भुला दें और सुबह जब वह और थोड़ा रूक जा पानी में तो फिर आप उसको ख्वाजा से आप चने भिगोकर खाते हैं फ्रॉड के फॉर्म में तो वह खा सकते हैं आप चाहे तो मूंगफली को थोड़ा सा रोज करके खा सकते हैं आप मूंगफली को ऐसे भी खा सकते हैं बिना कुछ जैसे आप चाहे तो बहुत अच्छा सोर्स होगा तो यह दो हो गए अगर और प्रोटीन का आपको चाहिए जो आप अगर ऐड करना चाहते हैं तो आपके लिए ओवैस लिए विजिट एरिया लोग हैं तो आपके लिए पालक होगा पालक में भी पाया जाता है आपको मिलता है और आप अन्य जो मैं यह दो-तीन चीजों को फॉलो करेंगे तो आपको अच्छी खासी मात्रा में डाला अपनी डाइट में टूट करेंगे तो आपको प्रोटीन की कमी पूरी हो जाएगी
Mitron aapaka savaal hai kya proteen ke lie soyaabeen khaana sahee hai haan bilkul soyaabeen khaana proteen ke agar aapako hee kament hai to bilkul sahee hai main chukee hai javaab bahut hee chhota sa hai bilkul sahee aap kha sakate hain bat main aapako aid kar doonga agar aap bijee teriyan hai to aapake lie do-teen proteen ke achchhe sors kaun-kaun se ho sakate hain to aap ek soyaabeen ko kaise rakh kar sakate hain doosara inrpotent sors aaph jo dillee apanee dait par apalod kar sakate hain vah hai aapakee moongaphalee moongaphalee ko ek supar phood kaitegaree maana gaya hai moongaphalee ko aap kaee tarah se kha sakate hain aap usako sabase achchha aur best tareeka hoga moongaphalee se aapako proteen agar chaahie to aap usako raat ko bhula den aur subah jab vah aur thoda rook ja paanee mein to phir aap usako khvaaja se aap chane bhigokar khaate hain phrod ke phorm mein to vah kha sakate hain aap chaahe to moongaphalee ko thoda sa roj karake kha sakate hain aap moongaphalee ko aise bhee kha sakate hain bina kuchh jaise aap chaahe to bahut achchha sors hoga to yah do ho gae agar aur proteen ka aapako chaahie jo aap agar aid karana chaahate hain to aapake lie ovais lie vijit eriya log hain to aapake lie paalak hoga paalak mein bhee paaya jaata hai aapako milata hai aur aap any jo main yah do-teen cheejon ko pholo karenge to aapako achchhee khaasee maatra mein daala apanee dait mein toot karenge to aapako proteen kee kamee pooree ho jaegee

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
व्यायाम करने के क्या घाटे हैं?Vyayam Karne Ke Kya Ghate Hain
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:51
गुड मॉर्निंग मित्रों यह सवाल है व्यायाम करने के क्या गाते हैं सुनकर ही हंसी आती है फिर भी मैं अपनी तरफ से लगी लोगों को यह सवाल के जवाब भी इंतजार है उनको बताना चाहूंगा कई सारे घाटे घाटे मिलेंगे आपको व्यायाम करने के आगर कितना चाहे शुरू करें तो सबसे पहला घटा दवा दुकान वालों को दिन की दवा कम बिकेगी क्योंकि व्यवहार आप करेंगे व्यायाम फिर आप स्वस्थ रहेंगे सबसे दूसरा घटा बड़े हॉस्पिटल और जितने डॉक्टर से प्रेक्टिस कर रहे हैं जो उनके पेशंट कम हो जाएंगे तो थोड़ा हमको घाटा होगा यह बोला था अगर ऐसे इंडिविजुअल आप देखें आप एक्सरसाइज अगर कर रहे हैं व्यायाम कर रहे हैं तो आप कुछ तो मैं का घाटा होगा बट उस घंटे के बदले आपको बहुत कुछ मिलेगा स्वास्थ्य मिलेगा पर घाटे की बात करें तो घाटा होगा आपको समय का और अगर घाटे की गिनाना चाहे वह आम के दो जो हेल्प इंडस्ट्री है जो सप्लीमेंट इंडस्ट्री है जो मेडिसिन इंडस्ट्री है और जो सारी इंडस्ट्रीज हैं वह सारी सफर करेंगी उनके रोजगार प्रभावित सबको हटा हुआ तो कुछ ना कुछ घटा उनको और अगर और माइन्यूट ली आप जाकर देखें कि व्यायाम करने के क्या घाटे हैं तो इसके घाटे यह है कि आपको ऐसा महसूस होगा कि कभी-कभी साइकोलॉजी के लिए अरे मैं तो डॉक्टर के पास जाता ही नहीं हूं तो यह भी एक पौधा था ना आपको उपेक्षा लगेगा अरे मैं तो बीमार पड़ता ही नहीं हूं तो सोसाइटी में आपकी बहुत रेपुटेशन खराब भी हो सकती है तो ऑनलाइटर नोट व्यायाम करने के कई सारे घटे हैं जो बयान करते हैं उनको छोड़कर बाकी सब को कुछ ना कुछ घाटे होंगे जो उस व्यापार में या उस बिजनेस से जुड़े हैं नोइंग्ली अननोइंग्ली वह जानबूझकर नहीं चाहते कि लोग बीमार पड़े बट उनका बिजनेस जुड़ा हुआ आज ही था मेरा जवाब धन्यवाद
Gud morning mitron yah savaal hai vyaayaam karane ke kya gaate hain sunakar hee hansee aatee hai phir bhee main apanee taraph se lagee logon ko yah savaal ke javaab bhee intajaar hai unako bataana chaahoonga kaee saare ghaate ghaate milenge aapako vyaayaam karane ke aagar kitana chaahe shuroo karen to sabase pahala ghata dava dukaan vaalon ko din kee dava kam bikegee kyonki vyavahaar aap karenge vyaayaam phir aap svasth rahenge sabase doosara ghata bade hospital aur jitane doktar se prektis kar rahe hain jo unake peshant kam ho jaenge to thoda hamako ghaata hoga yah bola tha agar aise indivijual aap dekhen aap eksarasaij agar kar rahe hain vyaayaam kar rahe hain to aap kuchh to main ka ghaata hoga bat us ghante ke badale aapako bahut kuchh milega svaasthy milega par ghaate kee baat karen to ghaata hoga aapako samay ka aur agar ghaate kee ginaana chaahe vah aam ke do jo help indastree hai jo sapleement indastree hai jo medisin indastree hai aur jo saaree indastreej hain vah saaree saphar karengee unake rojagaar prabhaavit sabako hata hua to kuchh na kuchh ghata unako aur agar aur mainyoot lee aap jaakar dekhen ki vyaayaam karane ke kya ghaate hain to isake ghaate yah hai ki aapako aisa mahasoos hoga ki kabhee-kabhee saikolojee ke lie are main to doktar ke paas jaata hee nahin hoon to yah bhee ek paudha tha na aapako upeksha lagega are main to beemaar padata hee nahin hoon to sosaitee mein aapakee bahut reputeshan kharaab bhee ho sakatee hai to onalaitar not vyaayaam karane ke kaee saare ghate hain jo bayaan karate hain unako chhodakar baakee sab ko kuchh na kuchh ghaate honge jo us vyaapaar mein ya us bijanes se jude hain noinglee ananoinglee vah jaanaboojhakar nahin chaahate ki log beemaar pade bat unaka bijanes juda hua aaj hee tha mera javaab dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
एक इंटरव्यू में पूछे जाने वाले पेचीदा प्रश्न क्या है?Ek Interview Mein Puche Jane Vale Pechida Prashn Kya Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:05
प्रिंस और सवाल है एक इंटरव्यू में पूछे जाने वाले प्रश्न का प्रश्न क्या है कई सारे इंटरव्यू देने के बाद या उससे कई ज्यादा मैंने 10 गुना 50 गुना कि मुझे लगता अगर मैं जोड़ लूंगा तो इंटरव्यू लेने के बाद मैं इस निष्कर्ष पर पहुंचा हूं कि सबसे जो कठिन या पेचीदा या थोड़ा ट्विस्टिंग क्वेश्चन होता है * में वह होता है आपके स्ट्रैंथ क्या है और आपके वीकनेस क्या है अगर आपने कहा आपकी फ्रेंड है मान लीजिए कम्युनिकेशन या तो वह आपके कम्युनिकेशन पर आपको अब जब करेंगे और वह आप को देखेंगे कि आप कम्युनिकेशन में कितना अच्छा कर पाते हैं आपने कुछ भी और स्टैंड क्या मैं बहुत व्यस्त हूं तो वह कहेंगे आप प्रूफ करिए कि आपका यह ट्रेन है क्या आप हमें एग्जांपल दीजिए कि आपका इस स्ट्रेंथ में कैसे आप मानते हैं कि आपका स्ट्रैंथ है तो कुछ भी अगर आपको ही आर्टिकल जॉब के लिए जाते हैं या आप कुछ अलग तक एक जॉब में जाते हैं मान लीजिए आप कहते हैं कि कोई प्रोजेक्ट पर आम काम करने वाले हैं तो आप कहते हैं कि मेरी टीम वर्क बहुत अच्छी है मैं लोगों से मिलजुल कर काम करता हूं तो आपको पूछेंगे तो जरा आप बताइए आपको उदाहरण दीजिए एग्जांपल दीजिए पास एक्सपीरियंस शेयर करिए तो यह होता है स्टैंड और विटनेस अगर आपने कहा कुछ चीज कोविड-19 मैं मानता हूं कि मेरा यह पाठ में है मैं लोगों से थोड़ा जल्दी कोई मिल नहीं पाता या मैं किसी किसी से मेरी बनती नहीं है क्या जो लोग झूठ बोलते मैं उनको पसंद नहीं करता हूं या आपको लगता है कि कोई स्किल आपने कहा कि मेरी कंप्यूटर की स्पीड अच्छी नहीं है टाइपिंग की क्या आप कर सकते हैं कुछ भी और यह दोनों सवाल में इंटरव्यू जो होते हैं वह इंटरव्यू को अच्छे से फंसा लेते हैं और यह जवाब बहुत बार अच्छा खासा एक आपके इंटरव्यू का इंपॉर्टेंट एक्सपेक्ट होता है और पेचीदा होता जवाब देना कि आपका मजबूती क्या है आप पेंट क्या है और आपकी कमी क्या है तो कमजोरी और आप के सबसे श्रेष्ठ गुण कौन से हैं यह बताना बहुत ही टॉकिंग है और बहुत ही पेचीदा होता है यह मेरा मानना है सुनने के लिए धन्यवाद
Prins aur savaal hai ek intaravyoo mein poochhe jaane vaale prashn ka prashn kya hai kaee saare intaravyoo dene ke baad ya usase kaee jyaada mainne 10 guna 50 guna ki mujhe lagata agar main jod loonga to intaravyoo lene ke baad main is nishkarsh par pahuncha hoon ki sabase jo kathin ya pecheeda ya thoda tvisting kveshchan hota hai * mein vah hota hai aapake strainth kya hai aur aapake veekanes kya hai agar aapane kaha aapakee phrend hai maan leejie kamyunikeshan ya to vah aapake kamyunikeshan par aapako ab jab karenge aur vah aap ko dekhenge ki aap kamyunikeshan mein kitana achchha kar paate hain aapane kuchh bhee aur staind kya main bahut vyast hoon to vah kahenge aap prooph karie ki aapaka yah tren hai kya aap hamen egjaampal deejie ki aapaka is strenth mein kaise aap maanate hain ki aapaka strainth hai to kuchh bhee agar aapako hee aartikal job ke lie jaate hain ya aap kuchh alag tak ek job mein jaate hain maan leejie aap kahate hain ki koee projekt par aam kaam karane vaale hain to aap kahate hain ki meree teem vark bahut achchhee hai main logon se milajul kar kaam karata hoon to aapako poochhenge to jara aap bataie aapako udaaharan deejie egjaampal deejie paas eksapeeriyans sheyar karie to yah hota hai staind aur vitanes agar aapane kaha kuchh cheej kovid-19 main maanata hoon ki mera yah paath mein hai main logon se thoda jaldee koee mil nahin paata ya main kisee kisee se meree banatee nahin hai kya jo log jhooth bolate main unako pasand nahin karata hoon ya aapako lagata hai ki koee skil aapane kaha ki meree kampyootar kee speed achchhee nahin hai taiping kee kya aap kar sakate hain kuchh bhee aur yah donon savaal mein intaravyoo jo hote hain vah intaravyoo ko achchhe se phansa lete hain aur yah javaab bahut baar achchha khaasa ek aapake intaravyoo ka importent eksapekt hota hai aur pecheeda hota javaab dena ki aapaka majabootee kya hai aap pent kya hai aur aapakee kamee kya hai to kamajoree aur aap ke sabase shreshth gun kaun se hain yah bataana bahut hee toking hai aur bahut hee pecheeda hota hai yah mera maanana hai sunane ke lie dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:53
नमस्कार दोस्तों और सवाल है किसान की विडंबना यह है कि जब उसके पास फसल होती है तो रेट उसका कम होता है और जब उसके पास खत्म हो जाती है तो रेट बढ़ जाता है यह मुश्किल है यह परेशानी किसान के साथ ही नहीं अपितु सभी के साथ है दुनिया में यह रूल है और यह इसको हम लोग अगर आम भाषा में समझे तो सप्लाई और डिमांड का रूल है जब आप समझिए कि किसी एक गांव है एकदम पर मैं देता हूं किसी एक गांव का एक गांव में 1 दिन में 100 किलो माल लीजिए के मटर की खपत है अब अचानक से क्या होता है उस गांव की छोटी से मंडी में 100 किलो के जगह 500 किलोमीटर आता है तो मटर अगर पहले ₹20 बिक रहा था सप्लाई वहां पर 5 गुना आ गया तो मटर हो सकता है ₹5 ₹4 बिना भी डिमांड और सप्लाई एक दूसरे पर निर्भर हैं जैसे-जैसे डिमांड घटेगी क्योंकि सप्लाई अगर कम हो जाएगी तो आप समझिए कि हम ऐसे समझ सके अगर वहां 100 की जगह 50 सप्लाई हो रेट 20 की जगह 40 सकता था बजे से सप्लाई बढ़ेगी तो ऑटोमेटेकली आपका रेट घट जाएगा तो यह इसके लिए हुआ अप्लिकेयर बल आपको मैं एक और उदाहरण देता हूं हवाई जहाज आप देखते होंगे कि जब आप लेने जाते हैं टिकट टिकट का दाम पर ले कम रहता है जैसे-जैसे आखिरी दिन आता है जिसे डिमांड बढ़ जाता है वही टिकट जो पहले 5000 का मिल रहा था हो सकता है आपको ₹15000 पूरी दुनिया इस ग्रुप में चलती है अब इसका सलूशन क्या सलूशन यह है अगर आप लॉन्ग टर्म सोचे वैसे आपको मैं उदाहरण देख कर बताऊंगा 75 साल होने आए हमारे देश की आजादी को भंडारण यह आपका सकते हैं स्टोरेज की क्षमता हमारे पास है वह बहुत ही खराब है यानी कि सभी लोगों ने फसल उगाने और बाकी सब में तो बहुत दिमाग लगाया स्टोरेज में गवर्नमेंट ने बिल्कुल ध्यान नहीं दिया आपने पता करने जाएंगे आपके 10 किलोमीटर 20 किलोमीटर किस शहर में कहीं भी आप देखेंगे एक प्रॉपर कोल्ड स्टोरेज बोलेंगे तो आपको ढूंढने में तकलीफ होगी ऑल इंडिया में जो हमारे पास एक्चुअल कैपेसिटी होनी चाहिए उसका दस परसेंट भी स्टोरेज सेंटर नहीं है जिसको हम लोग कोल्ड स्टोरेज सेंटर बोलते हैं तो आप इससे समझ सकते हैं कि हम स्टोर नहीं कर पाएंगे वह माल आप जानते हैं कि वह डीकंपोजेबल आया न खराब होने वाला प्रोडक्ट है फल सब्जी दूध जैसी चीज है और जो भी आप समझ सकते हैं तो वह क्या हुआ खराब हो जाएगा आप समझ कभी देखते होंगे कि चावल खराब हो गया बोरियों में रखा रखा पानी लग गया तो हमारे पास सलूशन यह है कि हम स्टोरेज करें स्टोरेज करें और स्टोरेज अगर नहीं करेंगे तो सभी किसान एक ही फल उग आएंगे एक ही सब जो कहेंगे वह बहुतायत में हो जाएगा बाद में को खराब हो जाएगा तो हमें ध्यान देना है स्टोरेज के ऊपर स्टोरेज की क्या पति बढ़ानी है तो एक लगाना है जिससे हम सही समय पर सही दाम ले पाए धन्यवाद
Namaskaar doston aur savaal hai kisaan kee vidambana yah hai ki jab usake paas phasal hotee hai to ret usaka kam hota hai aur jab usake paas khatm ho jaatee hai to ret badh jaata hai yah mushkil hai yah pareshaanee kisaan ke saath hee nahin apitu sabhee ke saath hai duniya mein yah rool hai aur yah isako ham log agar aam bhaasha mein samajhe to saplaee aur dimaand ka rool hai jab aap samajhie ki kisee ek gaanv hai ekadam par main deta hoon kisee ek gaanv ka ek gaanv mein 1 din mein 100 kilo maal leejie ke matar kee khapat hai ab achaanak se kya hota hai us gaanv kee chhotee se mandee mein 100 kilo ke jagah 500 kilomeetar aata hai to matar agar pahale ₹20 bik raha tha saplaee vahaan par 5 guna aa gaya to matar ho sakata hai ₹5 ₹4 bina bhee dimaand aur saplaee ek doosare par nirbhar hain jaise-jaise dimaand ghategee kyonki saplaee agar kam ho jaegee to aap samajhie ki ham aise samajh sake agar vahaan 100 kee jagah 50 saplaee ho ret 20 kee jagah 40 sakata tha baje se saplaee badhegee to otometekalee aapaka ret ghat jaega to yah isake lie hua aplikeyar bal aapako main ek aur udaaharan deta hoon havaee jahaaj aap dekhate honge ki jab aap lene jaate hain tikat tikat ka daam par le kam rahata hai jaise-jaise aakhiree din aata hai jise dimaand badh jaata hai vahee tikat jo pahale 5000 ka mil raha tha ho sakata hai aapako ₹15000 pooree duniya is grup mein chalatee hai ab isaka salooshan kya salooshan yah hai agar aap long tarm soche vaise aapako main udaaharan dekh kar bataoonga 75 saal hone aae hamaare desh kee aajaadee ko bhandaaran yah aapaka sakate hain storej kee kshamata hamaare paas hai vah bahut hee kharaab hai yaanee ki sabhee logon ne phasal ugaane aur baakee sab mein to bahut dimaag lagaaya storej mein gavarnament ne bilkul dhyaan nahin diya aapane pata karane jaenge aapake 10 kilomeetar 20 kilomeetar kis shahar mein kaheen bhee aap dekhenge ek propar kold storej bolenge to aapako dhoondhane mein takaleeph hogee ol indiya mein jo hamaare paas ekchual kaipesitee honee chaahie usaka das parasent bhee storej sentar nahin hai jisako ham log kold storej sentar bolate hain to aap isase samajh sakate hain ki ham stor nahin kar paenge vah maal aap jaanate hain ki vah deekampojebal aaya na kharaab hone vaala prodakt hai phal sabjee doodh jaisee cheej hai aur jo bhee aap samajh sakate hain to vah kya hua kharaab ho jaega aap samajh kabhee dekhate honge ki chaaval kharaab ho gaya boriyon mein rakha rakha paanee lag gaya to hamaare paas salooshan yah hai ki ham storej karen storej karen aur storej agar nahin karenge to sabhee kisaan ek hee phal ug aaenge ek hee sab jo kahenge vah bahutaayat mein ho jaega baad mein ko kharaab ho jaega to hamen dhyaan dena hai storej ke oopar storej kee kya pati badhaanee hai to ek lagaana hai jisase ham sahee samay par sahee daam le pae dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कुछ तनाव प्रबंधन तकनीकें क्या हैं?Kuch Tanav Prabandhan Takneeke Kya Hain
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
फ्रेंड आप का सवाल है कुछ तनाव प्रबंधन तकनीक ए क्या है यानी कि आप लोग स्ट्रेस मैनेजमेंट कैसे करें और इस प्रेस से कैसे बचे तो मैं सवाल देना का जवाब देना चाहूंगा आपने एक्सपीरियंस है यह नहीं है सवाल जवाब पसंद आया प्लीज इसको लाइक करें और सब्सक्राइब करें आप सबसे इंपॉर्टेंट पार्ट पहला पॉइंट जो आपको तनाव प्रबंधन या स्ट्रेस मैनेजमेंट करने में काम आएगा वह है आने का सबसे बड़ा कारण होता है पैसा पैसे की कमी तो अगर आप देखें कि अगर आप 10 लोग सर्वे करेंगे तो 9 लोग इस प्रेस में क्यों है उनकी जो जरूरतें हैं उस जरूरतों के लिए उनकी आर्थिक स्थिति उसके हिसाब से नहीं चल रही है तो वह स्पेस में जा रहे हैं तो स्ट्रेस का सबसे बड़ा कारण जो है वह पैसा है या आप समझ सकते हैं कि इकोनॉमिकल कंडीशन तो इसको कैसे दूर करें तो इसके लिए हम आपकी मदद यहां से बिल्कुल नहीं कर सकते हैं आपको एक सी नौकरी पकड़नी चाहिए एक अच्छा व्यवसाय करना चाहिए जिससे आप कम से कम अपने जीवन यापन के रोज मुर्गा को जो भी आपकी जरूरतें हैं या बेसिक वह आप उसको पूरी कर सकते हैं एक यह पाठ दूसरा हम आपको सजेस्ट कर सकते हैं अगर आपके पास इनकम कम है और आप इतना में कल कंडीशन से स्ट्रगल करते हैं तो आपको अपने खर्चे - चाहिए सिंपल सी बात है आप सोचेंगे कि यह बहुत ज्यादा भी तरीका नहीं है बट्टी एक तरीका है जिससे आपका स्ट्रेस कम हो सकता है क्योंकि आपने अपने खर्चों को कम किया तो अपने बैलेंस की अपने बजट को तो एक वह फायदेमंद होएगा दो और तीन दो तीन उपाय और मैं पसंद बताना चाहूंगा जो आपके लिए बहुत काम आएगा जिस मेरे फ्रेंड के लिए वह है आपका बहुत ही जरूरी जो आप उसको फॉलो करें तो काम आएगा वह होता है प्रोएक्टिव होना एग्जांपल देता हूं आपको कई लोग को आप सुबह देखेंगे 9:00 से 10:00 के बीच भागते हुए अपने ऑफिस के तरफ जा रहे हैं या अपने काम की तरफ जा रहे हैं उनमें इतना प्रेशर बड़ा होता है सुबह अपने काम में पहुंचने में और हर दिन हो सकता है वह 5 मिनट लेट पहुंचते हैं बॉस की झाल मिल जाती है डांट पड़ जाती है और चीजों में उनको तकलीफ होती है तो आप अगर पूर्व एक्टिव हो प्रॉपर टाइम मैनेजमेंट करें तो आपका अच्छा खासा स्ट्रेस का वातावरण आएगा ही नहीं तीसरा इंपॉर्टेंट मैं आपको सलाह देना चाहूंगा वह होता है और ना ही सोना ऑर्गेनाइज होने का मतलब क्या है आपने व्यवस्थित होना है अपनी जरूरतें हैं जैसे मैं ग्राम पर देता हूं आप एक मॉल में गए एक शापिंग कांपलेक्स में गए और आप तो बस इतने ही थे आप ने खरीदी थी पांच चीजें आप खरीद के चली आए 8 चीजें तो यह अगर आप ऑर्गेनाइज होते आप एक लिस्ट लेकर जाते कि यह पांच मेरी जरूरत की चीजें हैं यही लूंगा तो आप ऑर्गेनाइज होते तो आप स्ट्रेस से बस तक के थे जो कि आपको 10 दिन के बाद आएगा पंडित दिन के बाद जब क्रेडिट कार्ड का बिल आएगा धन्यवाद
Phrend aap ka savaal hai kuchh tanaav prabandhan takaneek e kya hai yaanee ki aap log stres mainejament kaise karen aur is pres se kaise bache to main savaal dena ka javaab dena chaahoonga aapane eksapeeriyans hai yah nahin hai savaal javaab pasand aaya pleej isako laik karen aur sabsakraib karen aap sabase importent paart pahala point jo aapako tanaav prabandhan ya stres mainejament karane mein kaam aaega vah hai aane ka sabase bada kaaran hota hai paisa paise kee kamee to agar aap dekhen ki agar aap 10 log sarve karenge to 9 log is pres mein kyon hai unakee jo jarooraten hain us jarooraton ke lie unakee aarthik sthiti usake hisaab se nahin chal rahee hai to vah spes mein ja rahe hain to stres ka sabase bada kaaran jo hai vah paisa hai ya aap samajh sakate hain ki ikonomikal kandeeshan to isako kaise door karen to isake lie ham aapakee madad yahaan se bilkul nahin kar sakate hain aapako ek see naukaree pakadanee chaahie ek achchha vyavasaay karana chaahie jisase aap kam se kam apane jeevan yaapan ke roj murga ko jo bhee aapakee jarooraten hain ya besik vah aap usako pooree kar sakate hain ek yah paath doosara ham aapako sajest kar sakate hain agar aapake paas inakam kam hai aur aap itana mein kal kandeeshan se stragal karate hain to aapako apane kharche - chaahie simpal see baat hai aap sochenge ki yah bahut jyaada bhee tareeka nahin hai battee ek tareeka hai jisase aapaka stres kam ho sakata hai kyonki aapane apane kharchon ko kam kiya to apane bailens kee apane bajat ko to ek vah phaayademand hoega do aur teen do teen upaay aur main pasand bataana chaahoonga jo aapake lie bahut kaam aaega jis mere phrend ke lie vah hai aapaka bahut hee jarooree jo aap usako pholo karen to kaam aaega vah hota hai proektiv hona egjaampal deta hoon aapako kaee log ko aap subah dekhenge 9:00 se 10:00 ke beech bhaagate hue apane ophis ke taraph ja rahe hain ya apane kaam kee taraph ja rahe hain unamen itana preshar bada hota hai subah apane kaam mein pahunchane mein aur har din ho sakata hai vah 5 minat let pahunchate hain bos kee jhaal mil jaatee hai daant pad jaatee hai aur cheejon mein unako takaleeph hotee hai to aap agar poorv ektiv ho propar taim mainejament karen to aapaka achchha khaasa stres ka vaataavaran aaega hee nahin teesara importent main aapako salaah dena chaahoonga vah hota hai aur na hee sona orgenaij hone ka matalab kya hai aapane vyavasthit hona hai apanee jarooraten hain jaise main graam par deta hoon aap ek mol mein gae ek shaaping kaampaleks mein gae aur aap to bas itane hee the aap ne khareedee thee paanch cheejen aap khareed ke chalee aae 8 cheejen to yah agar aap orgenaij hote aap ek list lekar jaate ki yah paanch meree jaroorat kee cheejen hain yahee loonga to aap orgenaij hote to aap stres se bas tak ke the jo ki aapako 10 din ke baad aaega pandit din ke baad jab kredit kaard ka bil aaega dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कच्चे फल खाने से क्या लाभ है या हानि होती है?Kache Phal Khane Se Kya Laabh Hai Ya Hani Hoti Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:48
फ्रेंड आप का सवाल है कच्चे फल खाने से क्या लाभ है या क्या हानि है और महेश का जवाब देना चाहूंगा और जिनको जवाब पसंद है लाइक बटन दबा सकते हैं कच्चे फल खाने से किसी प्रकार की हारे नहीं है फायदे ही फायदे हैं कच्चे फल खाने का मतलब जब उसमें अगर आप समझेंगे मैं उदाहरण देता हूं आपको जो कच्चे फल खा सकते हैं जैसे कि अकेला तो अकेला पकड़ खा सकते हैं कोई दिक्कत नहीं है केले खाने में कोई परेशानी नहीं है अकेला जो पक जाता है उसमें कैलोरी कंटेंट बहुत बढ़ जाता है तो हो सकता है डायबिटीज के मरीज के लिए अच्छा नहीं रहा है पर कच्चा केला सब्जी के रूप में खाए कोई दिक्कत नहीं है आप औरत अगर कच्चे फलों की बात कर रहे हैं जैसे कुछ फल खा सकते हैं उसमें आते हैं जैसे कि पपाया पपाया भी पकने के बाद हाई कैलोरी कंटेंट होता है जबकि उसके विटामिन सम्मेलन में जितने मात्रा में पाए जाते हैं आप कच्चे पपाया खाए बहुत अच्छा रहेगा कोई भी फल जो आप कच्चा खाते हैं जो कच्चे खाया जाता है वह फल को खाने का फायदा यह होता है आपको बहुत आयत मात्रा में अधिक से अधिक मात्रा में फाइबर मिलते हैं और विटामिन जो है इंटर करते हैं उसमें ज्यादा पकने के बाद वह फल में हो सकता है आपको उतने विटामिन ना मिले और फिर जब ना रहे जितने की शुरुआती दौर पर थोड़े कच्चे में होते हैं जिसे मैं ग्राम पर देता हूं अमरुद भी एक पल उसमें से हो सकता है तो आप बहुत ज्यादा पकने देंगे या पका हुआ खाएंगे उससे बेहतर है थोड़ा कच्चा ही खा ले आपको फाइबर अच्छा मिलेगा कैलोरी कंटेंट कम होएगा और विटामिन बी आपको भरपूर मात्रा मिल जाएंगे तो जो भी फल आपका चेक खा सकते हैं जरूर खाइए बहुत ही अच्छी बात है बिल्कुल ना छोड़े और जरूर खाएं धन्यवाद
Phrend aap ka savaal hai kachche phal khaane se kya laabh hai ya kya haani hai aur mahesh ka javaab dena chaahoonga aur jinako javaab pasand hai laik batan daba sakate hain kachche phal khaane se kisee prakaar kee haare nahin hai phaayade hee phaayade hain kachche phal khaane ka matalab jab usamen agar aap samajhenge main udaaharan deta hoon aapako jo kachche phal kha sakate hain jaise ki akela to akela pakad kha sakate hain koee dikkat nahin hai kele khaane mein koee pareshaanee nahin hai akela jo pak jaata hai usamen kailoree kantent bahut badh jaata hai to ho sakata hai daayabiteej ke mareej ke lie achchha nahin raha hai par kachcha kela sabjee ke roop mein khae koee dikkat nahin hai aap aurat agar kachche phalon kee baat kar rahe hain jaise kuchh phal kha sakate hain usamen aate hain jaise ki papaaya papaaya bhee pakane ke baad haee kailoree kantent hota hai jabaki usake vitaamin sammelan mein jitane maatra mein pae jaate hain aap kachche papaaya khae bahut achchha rahega koee bhee phal jo aap kachcha khaate hain jo kachche khaaya jaata hai vah phal ko khaane ka phaayada yah hota hai aapako bahut aayat maatra mein adhik se adhik maatra mein phaibar milate hain aur vitaamin jo hai intar karate hain usamen jyaada pakane ke baad vah phal mein ho sakata hai aapako utane vitaamin na mile aur phir jab na rahe jitane kee shuruaatee daur par thode kachche mein hote hain jise main graam par deta hoon amarud bhee ek pal usamen se ho sakata hai to aap bahut jyaada pakane denge ya paka hua khaenge usase behatar hai thoda kachcha hee kha le aapako phaibar achchha milega kailoree kantent kam hoega aur vitaamin bee aapako bharapoor maatra mil jaenge to jo bhee phal aapaka chek kha sakate hain jaroor khaie bahut hee achchhee baat hai bilkul na chhode aur jaroor khaen dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
1:04
अब सवाल उठता है कि क्या सर्दियों में टाइप टू डायबिटीज के मरीज को संतरा खाना चाहिए या नहीं मैं इसका बहुत सरल और सीधा जवाब देना चाहूंगा और बहुत ही छोटा हो यह है कि संतरा एक ऐसा फल है जो सिग्नल तो है पर उसमें ग्लूकोज की मात्रा अच्छी खासी होती है तो आप अगर इसके खाने के शौकीन है तो एक संतरे के जॉब 10 उनके जो छोटे टुकड़े होते हैं उसमें एक आत का भी टेस्ट कर ले पर डायल सच आपके डाइट में संतरा होना बहुत अच्छी बात नहीं है क्योंकि यह हाई कैलोरी और कंटेंट्स में शुगर पाया जाता है तो डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा नहीं है यह सिंपल सी बात है और कोई भी संतरे मतलब या कोई भी ऐसे फल जिनमें हाई कलर इकॉन्टेंट है उनको अवॉइड करना चाहिए क्योंकि उनकी इंसुलिन बनाने की शक्ति थोड़ी कम है तो वह कम से कम शुगर ले जो एक्स्ट्रा शुगर सारी बना लें और थोड़े थोड़े हमें बार-बार ले तो अच्छा रहेगा धन्यवाद
Ab savaal uthata hai ki kya sardiyon mein taip too daayabiteej ke mareej ko santara khaana chaahie ya nahin main isaka bahut saral aur seedha javaab dena chaahoonga aur bahut hee chhota ho yah hai ki santara ek aisa phal hai jo signal to hai par usamen glookoj kee maatra achchhee khaasee hotee hai to aap agar isake khaane ke shaukeen hai to ek santare ke job 10 unake jo chhote tukade hote hain usamen ek aat ka bhee test kar le par daayal sach aapake dait mein santara hona bahut achchhee baat nahin hai kyonki yah haee kailoree aur kantents mein shugar paaya jaata hai to daayabiteej ke mareejon ke lie achchha nahin hai yah simpal see baat hai aur koee bhee santare matalab ya koee bhee aise phal jinamen haee kalar ikontent hai unako avoid karana chaahie kyonki unakee insulin banaane kee shakti thodee kam hai to vah kam se kam shugar le jo ekstra shugar saaree bana len aur thode thode hamen baar-baar le to achchha rahega dhanyavaad

#भारत की राजनीति

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
फ्रेंड्स मुझे इस सवाल में 2 सवाल दिखते हैं पहला यह कि क्या इस समय देश में लोकतंत्र नहीं मोदी राजतंत्र है और दूसरा है क्या सच में मोदी ने कांग्रेस को कांग्रेस ने देश को बचा लिया है तो पुलिस वालों पर आता हूं देश में लोकतंत्र ही है मोदी राजतंत्र नहीं है मेरा ऐसा मानना है लोकतंत्र या लोकशाही जिसे बोलते हैं या आप जनतंत्र कहें या गणतंत्र कहें यह जो भी हम चीजें समझते हैं इसमें एक चुनी हुई सरकार फोटो से आती है और जो उन्होंने अपने वायदे किए या उनके जो मेनिफेस्टो होते हैं उनके जो प्रॉमिस एस होते हैं वह धीरे-धीरे करके पूरे करते हैं शायद मोदी सरकार पहली बार जब भी आई थी तो उन्होंने अपने मेनिफेस्टो से कुछ चीजें करके दिखाई थी जो प्रॉमिस की थी तो पब्लिक ने अगली बार उनको और वोटों के साथ भेजा और सीटों के साथ भेजा कि आप और कुछ करके दिखाएं और पिछले दो ढाई साल में उन्होंने काफी कुछ अपने मेनिफेस्टो में एक कई गई चीजें को क्लियर किया और जैसे कि कुछ भी कानून ने बनाया और जो भी उनके मेनिफेस्टो में था उन्होंने पूरा कर रहे हैं तो ऐसा मानते हैं कि अब बहुत लोगों को तकलीफ होती है ऐसा क्यों किया क्योंकि यह पापुलिस्ट हो जाया गवर्मेंट बहुत उनकी प्रॉपर्टी बढ़ जाती है वोट बढ़ते गए ऐसी पढ़ते गए थे उनको डर तो अगर यह राजतंत्र होता तो ऐसे भी आप ने मौके देखे होंगे जब राज्यसभा जहां पर आज इंडिया को बहुमत नहीं है तो वहां पर बिल को पास करवाने में एनडीए सरकार को हालत खराब हो जाती है उनकी बहुत परीक्षा हो जाती है क्योंकि उनका वहां पर बहुमत नहीं है जब लोकतंत्र में क्या होता है कोई भी अपने मनमानी नहीं कर सकता है एक चुनी हुई सरकार को लोकसभा और राज्यसभा में एस पर द रूट्स ऑफ द रिश्ता क्या सकते हैं कंट्री उनको नए कानून बनाने हैं नए बिल पास करवाने हैं दोनों जगह वोटिंग करवानी है तो वह कर रहे हैं जैसे यह प्रोसेस है तो यहां पर कोई नहीं है सेम बे टिस बिफोर लोड सेकंड ली क्या कांग्रेस के से कांग्रेस ने देश को मोदी जी ने बचा लिया आप कर सकते हैं जो जो लोग तो 2014 के पहले भी राजनीति में ध्यान रखते थे या इनकंटर था वह जानते हैं 21 अगस्त काल में चली गई थी देश की इकोनॉमी कितने घोटाले होते थे मनमोहन सिंह बोलते थे उनका खुद का स्टेटमेंट है कि इतने घोटाले की अब शर्म आने लगी है अपनी ही सरकार के मंत्रियों से तो यह कहना था मनमोहन सिंह का यूपीए-2 के टाइम उन्होंने आप स्टेटमेंट सर्च करेंगे इतने घोटाले और इतनी हेराफेरी मेरे सरकार में मुझे शर्म आती है ऐसा उनका स्टेटमेंट था तो समझ सकते हैं कि जब प्रधानमंत्री नहीं नाखुश थे कि उनकी सरकार में घोटाला है क्या कहना तो हा एक तरह से मोदी जी ने कुछ बेहतर जो काम किया है उस
Phrends mujhe is savaal mein 2 savaal dikhate hain pahala yah ki kya is samay desh mein lokatantr nahin modee raajatantr hai aur doosara hai kya sach mein modee ne kaangres ko kaangres ne desh ko bacha liya hai to pulis vaalon par aata hoon desh mein lokatantr hee hai modee raajatantr nahin hai mera aisa maanana hai lokatantr ya lokashaahee jise bolate hain ya aap janatantr kahen ya ganatantr kahen yah jo bhee ham cheejen samajhate hain isamen ek chunee huee sarakaar photo se aatee hai aur jo unhonne apane vaayade kie ya unake jo meniphesto hote hain unake jo promis es hote hain vah dheere-dheere karake poore karate hain shaayad modee sarakaar pahalee baar jab bhee aaee thee to unhonne apane meniphesto se kuchh cheejen karake dikhaee thee jo promis kee thee to pablik ne agalee baar unako aur voton ke saath bheja aur seeton ke saath bheja ki aap aur kuchh karake dikhaen aur pichhale do dhaee saal mein unhonne kaaphee kuchh apane meniphesto mein ek kaee gaee cheejen ko kliyar kiya aur jaise ki kuchh bhee kaanoon ne banaaya aur jo bhee unake meniphesto mein tha unhonne poora kar rahe hain to aisa maanate hain ki ab bahut logon ko takaleeph hotee hai aisa kyon kiya kyonki yah paapulist ho jaaya gavarment bahut unakee propartee badh jaatee hai vot badhate gae aisee padhate gae the unako dar to agar yah raajatantr hota to aise bhee aap ne mauke dekhe honge jab raajyasabha jahaan par aaj indiya ko bahumat nahin hai to vahaan par bil ko paas karavaane mein enadeee sarakaar ko haalat kharaab ho jaatee hai unakee bahut pareeksha ho jaatee hai kyonki unaka vahaan par bahumat nahin hai jab lokatantr mein kya hota hai koee bhee apane manamaanee nahin kar sakata hai ek chunee huee sarakaar ko lokasabha aur raajyasabha mein es par da roots oph da rishta kya sakate hain kantree unako nae kaanoon banaane hain nae bil paas karavaane hain donon jagah voting karavaanee hai to vah kar rahe hain jaise yah proses hai to yahaan par koee nahin hai sem be tis biphor lod sekand lee kya kaangres ke se kaangres ne desh ko modee jee ne bacha liya aap kar sakate hain jo jo log to 2014 ke pahale bhee raajaneeti mein dhyaan rakhate the ya inakantar tha vah jaanate hain 21 agast kaal mein chalee gaee thee desh kee ikonomee kitane ghotaale hote the manamohan sinh bolate the unaka khud ka stetament hai ki itane ghotaale kee ab sharm aane lagee hai apanee hee sarakaar ke mantriyon se to yah kahana tha manamohan sinh ka yoopeee-2 ke taim unhonne aap stetament sarch karenge itane ghotaale aur itanee heraapheree mere sarakaar mein mujhe sharm aatee hai aisa unaka stetament tha to samajh sakate hain ki jab pradhaanamantree nahin naakhush the ki unakee sarakaar mein ghotaala hai kya kahana to ha ek tarah se modee jee ne kuchh behatar jo kaam kiya hai us

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यक्ति के मन में नकारात्मक भावनाएं क्यों होती है?Vyakti Ke Man Mein Nakaratmak Bhavnaein Kyun Hoti Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:56
सवाल है व्यक्ति के मन में नकारात्मक भावनाएं क्यों होती है और मैं मानता हूं कि नकारात्मक भावनाएं हूं ना किसी भी चीज के लिए अच्छा भी है क्योंकि जब आप डिसीजन मेकिंग करते हैं ऐसे मैं आपको उदाहरण देता हूं आपने दिल्ली से मुंबई जाना है तो आपने यह डिसीजन लेना है कि दिल्ली से मुंबई जाने का रास्ता क्या उदाहरण में आपको दे रहा हूं कि हम कैसे जाएंगे फ्लाइट से जाएंगे ट्रेन से जाएंगे बस से जाएंगे तो अभी कोर्णाक ऑल है तो करना काल में आप क्या चाहेंगे किस तरीके से जाने के लिए बस से जाएंगे ट्रेन से चाहेंगे और कोई भी पैदल भी एक ऑप्शन हो सकता है तो आप उसका पॉजिटिव ही देखते हैं उसका नेगेटिव भी देखते हैं तो आप पॉजिटिव हमेशा देखते हैं पर नकारात्मकता भी आएंगी कि आप लाइफ में जा रहे हैं जहां पर बहुत ही कन्जेस्टेड तरीके से लोग बैठे हुए हैं और हो सकता है आप के बगल में कोई व्यक्ति हो जो संक्रमित हो और आपको इंफेक्शन फैला दें तो यह क्या हुआ एक नकारात्मक का भाव आया तो नकारात्मक का भाव आना गलत नहीं है जब भी आप नकारात्मक का भाव आता है तो आप उससे बचने के उपाय करते हैं जिसको हम बोलते हैं पूर्व एक्टिव होना तो आप प्रोएक्टिव या आप जो बोलते प्रीवेंटिव मेजरस आफ लेते हैं कैसे लेते हैं आपने देखा कि मौसम ठंडा हो रहा है तो आपने स्वेटर निकालकर पहन लिया तो क्या है आपको डर हुआ मौसम ठंडा हो गया है आप को सर्दी हो जाएगी खांसी हो जाएगी यह नकारात्मकता है तो आप बचने के लिए क्या किया आपने अच्छे स्वेटर और जैकेट पहन लिए आपको नहीं हुआ तो नकारात्मक का भाव होना नखरा तब तक खराब नहीं है आपने यह समझना है कि आप जब कोई डिसीजन लेते हैं कोई भी कार्य मैं आपको एग्जांपल दिया एक स्वेटर का एक छोटा ट्रेवल का आपको हर समय पॉजिटिव और नेगेटिव सकारात्मकता और नकारात्मक दोनों को तुलना करना है और तुलना करके आपको डिसीजन लेना है कौन सा डिवीजन आपके लिए सही है तो बिल्कुल आना खाता की भावना कि मैं जो बोलूंगा कि यह मेरे हिसाब से यह गलत नहीं है दोनों को वे करना चाहिए और एक छोटा सा कॉशन है क्या आप ऐसा ना सोचे कि मैं रोड पर निकला और एक गाड़ी आएगी मुझे धक्का मार देगी तो फिर धक्का मार देगी तो मैं यह हो जाएगा तो छोड़ चला जाऊंगा चोट लग जाएगा खून निकल जाएगा बजाएगा फैक्चर हो जाएगा हॉस्पिटल में जगह नहीं मिलेगा तो आप बहुत स्मार्ट समझते गए तो वैसे भी नहीं होना आपने नकारात्मकता के बारे में प्रैक्टिस मैच लेने हैं पर आपने यह भी सोचना है आप एक जनरल को फॉलो करें जब रोड में लोग चलते हैं तो 10000 लोगों में से 1 लोग का एक्सीडेंट होता है बाकी 9999 लोग जो है वह सही सकुशल अपने घर वापस चले जाते हैं तो आपने यह देखना है कि जनरलाइज्ड क्या है और हम उतनी ज्यादा न सोचें उसी में फर्स्ट किनारा जाए ऐसा मेरा मानना तो इसके लिए मैं यह कहना चाहता था आपका बहुत-बहुत धन्यवाद थैंक यू
Savaal hai vyakti ke man mein nakaaraatmak bhaavanaen kyon hotee hai aur main maanata hoon ki nakaaraatmak bhaavanaen hoon na kisee bhee cheej ke lie achchha bhee hai kyonki jab aap diseejan meking karate hain aise main aapako udaaharan deta hoon aapane dillee se mumbee jaana hai to aapane yah diseejan lena hai ki dillee se mumbee jaane ka raasta kya udaaharan mein aapako de raha hoon ki ham kaise jaenge phlait se jaenge tren se jaenge bas se jaenge to abhee kornaak ol hai to karana kaal mein aap kya chaahenge kis tareeke se jaane ke lie bas se jaenge tren se chaahenge aur koee bhee paidal bhee ek opshan ho sakata hai to aap usaka pojitiv hee dekhate hain usaka negetiv bhee dekhate hain to aap pojitiv hamesha dekhate hain par nakaaraatmakata bhee aaengee ki aap laiph mein ja rahe hain jahaan par bahut hee kanjested tareeke se log baithe hue hain aur ho sakata hai aap ke bagal mein koee vyakti ho jo sankramit ho aur aapako imphekshan phaila den to yah kya hua ek nakaaraatmak ka bhaav aaya to nakaaraatmak ka bhaav aana galat nahin hai jab bhee aap nakaaraatmak ka bhaav aata hai to aap usase bachane ke upaay karate hain jisako ham bolate hain poorv ektiv hona to aap proektiv ya aap jo bolate preeventiv mejaras aaph lete hain kaise lete hain aapane dekha ki mausam thanda ho raha hai to aapane svetar nikaalakar pahan liya to kya hai aapako dar hua mausam thanda ho gaya hai aap ko sardee ho jaegee khaansee ho jaegee yah nakaaraatmakata hai to aap bachane ke lie kya kiya aapane achchhe svetar aur jaiket pahan lie aapako nahin hua to nakaaraatmak ka bhaav hona nakhara tab tak kharaab nahin hai aapane yah samajhana hai ki aap jab koee diseejan lete hain koee bhee kaary main aapako egjaampal diya ek svetar ka ek chhota treval ka aapako har samay pojitiv aur negetiv sakaaraatmakata aur nakaaraatmak donon ko tulana karana hai aur tulana karake aapako diseejan lena hai kaun sa diveejan aapake lie sahee hai to bilkul aana khaata kee bhaavana ki main jo boloonga ki yah mere hisaab se yah galat nahin hai donon ko ve karana chaahie aur ek chhota sa koshan hai kya aap aisa na soche ki main rod par nikala aur ek gaadee aaegee mujhe dhakka maar degee to phir dhakka maar degee to main yah ho jaega to chhod chala jaoonga chot lag jaega khoon nikal jaega bajaega phaikchar ho jaega hospital mein jagah nahin milega to aap bahut smaart samajhate gae to vaise bhee nahin hona aapane nakaaraatmakata ke baare mein praiktis maich lene hain par aapane yah bhee sochana hai aap ek janaral ko pholo karen jab rod mein log chalate hain to 10000 logon mein se 1 log ka ekseedent hota hai baakee 9999 log jo hai vah sahee sakushal apane ghar vaapas chale jaate hain to aapane yah dekhana hai ki janaralaijd kya hai aur ham utanee jyaada na sochen usee mein pharst kinaara jae aisa mera maanana to isake lie main yah kahana chaahata tha aapaka bahut-bahut dhanyavaad thaink yoo

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या मोदी जी इनडायरेक्टली यह कहना चाहते हैं सब अपना अपना देख लो?Kya Modi Ji Indirectly Yah Kehna Chahte Hain Sab Apna Apna Dekh Lo
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:58
फ्रेंड्स मैं समझ पाता हूं सवाल है कि क्या मोदी जी डायरेक्ट लिया करना चाहते हैं अब सब अपना देख लो इसका मतलब यह लगता है आत्मनिर्भर अभियान से प्रेरित सवाल है आप मोदी जी करना चाहते हैं ऐसा कोई लिखता है कि अपना अपना देख लो मतलब खुद के लिए आप कुछ करो तो यह आपने भर अभियान की एक का पाठ में सकते हैं आदि की अगर दुनिया में बड़े से बड़े महागुरु महा ज्ञानी सभी लोग बात करते समय या कुछ आपको विश्लेषण करते समय गीता के बारे में बताते हैं तो बोलते हैं कि गीता इज वन ऑफ द बेस्ट मैनेजमेंट गुरु बुक एंड गीता में पूरी दुनिया का सारा ज्ञान छुपा है गीता में श्रीकृष्ण भी यही कहते हैं कि आप अपने लिए रिस्पांस बनो अपनी करने के लिए रिस्पांस पर हो अपने एफर्ट अपने डिटेल रिस्पांसिबल हो इसका मतलब क्या निकलता है मैं राजनेता के फेवर में यह बात नहीं कर रहा हूं मैं सिर्फ यह कहना चाहता हूं शास्त्र बात है और आप किसी बड़े बुजुर्ग से भी बात करेंगे तो वह आपको बताएंगे आपको अपने लिए जिम्मेवार होना पड़ेगा जैसे मैं छोटा एग्जांपल आपको देता हूं आप पहले जब भी कभी फ्लाइट में आपने बैठे होंगे तो यह सब किया होगा कि जब भी अनाउंसमेंट होती है तो वह सब बताते हैं कि जब भी ऑक्सीजन की कमी हो तो पहले आप अपना नष्ट जो है लगा लेना कि दूसरा का लगाएं उनका कहने का तात्पर्य होता है अगर ऑक्सीजन की कमी होती है और आप के बगल में आपका बच्चा है आप से 10 साल 15 साल उसके उम्र है उसका कम है तो आप जानते हैं कि 20 साल का बच्चा आपका आपका छोटा है या कोई भी आपको बच्चे साथ में है इसकी उम्र कम है आपका जान पहचान का कोई है आप अगर उसका मांस बचाने जाते हैं तो अपना मासिक नहीं बन नहीं लगाएंगे तो आप नुकसान में रहेंगे क्योंकि अगर आप हैं तो आप उसको बचा भी सकते हैं खुद आपको बस सकते हैं तात्पर्य है स्वार्थी होना लोग आते हैं खराब बात है नहीं कुछ क्वेश्चंस में आपको स्वार्थी होना पड़ता है कि यह नीड है यह जरूरत है गीता में भी श्रीकृष्ण ने यही ज्ञान दिया है अर्जुन को और सभी को कि आपको अपने लिए जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी अपने लिए पहले देखना पड़ेगा और तब ही दूसरे के लिए आप कर सकते हो तो यह सारी बातों का सार यह है मैं जो कंफ्यूज करना चाहूंगा कि आपको अपने ऊपर अपनी जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी और मोदी जी कहे या ना कहे नेहरू जी कहे ना कहे या कोई आपको ऐसा प्रधानमंत्री बन जाए जैसे केजरीवाल ने दिल्ली में बांटा था इलेक्ट्रिसिटी आपको बताना फ्री का मिला था बहुत सारे लोगों को तो फ्री का कुछ नहीं होता है सरकार श्री का कुछ नहीं देती है जो भी फ्री का होता है वह टेक्स्ट पर का जमा हुआ टेक्स होता है तो आप अपनी चिंता खुद करें अपना ध्यान खुद रखें धन्यवाद
Phrends main samajh paata hoon savaal hai ki kya modee jee daayarekt liya karana chaahate hain ab sab apana dekh lo isaka matalab yah lagata hai aatmanirbhar abhiyaan se prerit savaal hai aap modee jee karana chaahate hain aisa koee likhata hai ki apana apana dekh lo matalab khud ke lie aap kuchh karo to yah aapane bhar abhiyaan kee ek ka paath mein sakate hain aadi kee agar duniya mein bade se bade mahaaguru maha gyaanee sabhee log baat karate samay ya kuchh aapako vishleshan karate samay geeta ke baare mein bataate hain to bolate hain ki geeta ij van oph da best mainejament guru buk end geeta mein pooree duniya ka saara gyaan chhupa hai geeta mein shreekrshn bhee yahee kahate hain ki aap apane lie rispaans bano apanee karane ke lie rispaans par ho apane ephart apane ditel rispaansibal ho isaka matalab kya nikalata hai main raajaneta ke phevar mein yah baat nahin kar raha hoon main sirph yah kahana chaahata hoon shaastr baat hai aur aap kisee bade bujurg se bhee baat karenge to vah aapako bataenge aapako apane lie jimmevaar hona padega jaise main chhota egjaampal aapako deta hoon aap pahale jab bhee kabhee phlait mein aapane baithe honge to yah sab kiya hoga ki jab bhee anaunsament hotee hai to vah sab bataate hain ki jab bhee okseejan kee kamee ho to pahale aap apana nasht jo hai laga lena ki doosara ka lagaen unaka kahane ka taatpary hota hai agar okseejan kee kamee hotee hai aur aap ke bagal mein aapaka bachcha hai aap se 10 saal 15 saal usake umr hai usaka kam hai to aap jaanate hain ki 20 saal ka bachcha aapaka aapaka chhota hai ya koee bhee aapako bachche saath mein hai isakee umr kam hai aapaka jaan pahachaan ka koee hai aap agar usaka maans bachaane jaate hain to apana maasik nahin ban nahin lagaenge to aap nukasaan mein rahenge kyonki agar aap hain to aap usako bacha bhee sakate hain khud aapako bas sakate hain taatpary hai svaarthee hona log aate hain kharaab baat hai nahin kuchh kveshchans mein aapako svaarthee hona padata hai ki yah need hai yah jaroorat hai geeta mein bhee shreekrshn ne yahee gyaan diya hai arjun ko aur sabhee ko ki aapako apane lie jimmedaaree lenee padegee apane lie pahale dekhana padega aur tab hee doosare ke lie aap kar sakate ho to yah saaree baaton ka saar yah hai main jo kamphyooj karana chaahoonga ki aapako apane oopar apanee jimmedaaree lenee padegee aur modee jee kahe ya na kahe neharoo jee kahe na kahe ya koee aapako aisa pradhaanamantree ban jae jaise kejareevaal ne dillee mein baanta tha ilektrisitee aapako bataana phree ka mila tha bahut saare logon ko to phree ka kuchh nahin hota hai sarakaar shree ka kuchh nahin detee hai jo bhee phree ka hota hai vah tekst par ka jama hua teks hota hai to aap apanee chinta khud karen apana dhyaan khud rakhen dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
गरीब होना पाप नहीं है गरीब मरना पाप है आप सब लोग यह बात मानते हो कि नहीं ?Gareb Hona Paap Nahi Hai Gareb Marna Paap Hai Aap Sab Log Yahe Baat Manate Ho Ki Nahi Manate
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:14
आप दोस्तों आप का सवाल है कि गरीब होना पाप नहीं है अपितु गरीब वरना पाप है तो यह कहावत है जो पूछी गई है कि यह सही है नहीं मैं मानता हूं कि गरीबी की परिभाषा के थोड़े हमें अंदर जाना पड़ेगा तो आप समझते हैं कि गरीबों है मैं भी आपके नजर में वह गरीब है जिसे आज इसके पास एक मोटरसाइकिल नहीं है हो सकता है कोई समझता है गांव का जो ऐसे भी होंगे जो जिनके पास एक साइकिल भी नहीं है तो उनके लिए गरीब कौन है आदिवासी इनके पास साइकिल नहीं है अब जिनके पास एक साइकिल है वह सोचते हैं कि उसके पास अगले के पास चप्पल नहीं है उसी तरह से जो लोग मर्सिडीज में घूमते हैं एक करोड़ की कार में उनको देखकर धीरूभाई अंबानी के बेटे जो है मुकेश अंबानी वह सोचते हैं कि यह गरीब है तो पहले आप समझे कि गरीब और अमीर कुछ होता नहीं है यह हर किसी का अपना मापदंड है और लोग मानते हैं अपने हिसाब से कि मैंने यह स्टैंडर्ड बना कर रखा है यह होगा तो अमीर है यह होगा तो गरीब है अब आते हैं परस्पर कि आदमी किस चीज में कितना संतोष पाता है आप जब छोटे होते हैं तो आपको एक चॉकलेट मिल जाता है ₹1 का तो आप उसी में बहुत संतोष पाल लेते हैं जबकि आप जब बड़े हो जाते हैं एक अच्छे पोजीशन में पहुंच जाते हैं जहां पर आप लाखों की कमाई कर रहे हैं फिर भी हो सकता है आप खुशी ना हो तो यह मन कितना संतोष पाता है आप की सुविधाओं के साथ इसी से आप डिसाइड करते हैं गरीब और अमीर तो यह मिथ्या है कि गरीब और अमीर कुछ लोग ऐसे भी धरती पर हैं आप साधु महात्माओं को देखेंगे आप गांव में जाकर देखेंगे डीप जंगल में जाकर देखेंगे वहां पाएंगे कुछ लोग ऐसे हैं जो सूखी रोटी खा रहे हैं और फिर भी आप देखेंगे वह मस्त मौला जीवन जी रहे हैं तो वह गरीब नहीं है गरीब और यह सब जो बातें हैं अमित यह सब मन का मसला है और कुछ नहीं है आदमी अपनी बेसिक नेसेसिटी को पूरी कर ले मतलब रोटी खा ले जिंदा रह ले खुश रह ले अपने बाल बच्चों को पालने अब पालने का तरीका है किसी के बच्चे पढ़ते हैं आप सरकारी स्कूल में किसी के बच्चे पढ़ते ही नहीं है गुरुकुल में है कुछ के मां-बाप कुछ पढ़ा देते हैं घर पर बैठा कर और कुछ कह जो कैंब्रिज में पढ़ रहे हैं तो ऐसा ऐसा अलग-अलग सोच है तो यह डिस्कशन का मुद्दा है बट गरीब और अमीर कुछ होता नहीं
Aap doston aap ka savaal hai ki gareeb hona paap nahin hai apitu gareeb varana paap hai to yah kahaavat hai jo poochhee gaee hai ki yah sahee hai nahin main maanata hoon ki gareebee kee paribhaasha ke thode hamen andar jaana padega to aap samajhate hain ki gareebon hai main bhee aapake najar mein vah gareeb hai jise aaj isake paas ek motarasaikil nahin hai ho sakata hai koee samajhata hai gaanv ka jo aise bhee honge jo jinake paas ek saikil bhee nahin hai to unake lie gareeb kaun hai aadivaasee inake paas saikil nahin hai ab jinake paas ek saikil hai vah sochate hain ki usake paas agale ke paas chappal nahin hai usee tarah se jo log marsideej mein ghoomate hain ek karod kee kaar mein unako dekhakar dheeroobhaee ambaanee ke bete jo hai mukesh ambaanee vah sochate hain ki yah gareeb hai to pahale aap samajhe ki gareeb aur ameer kuchh hota nahin hai yah har kisee ka apana maapadand hai aur log maanate hain apane hisaab se ki mainne yah staindard bana kar rakha hai yah hoga to ameer hai yah hoga to gareeb hai ab aate hain paraspar ki aadamee kis cheej mein kitana santosh paata hai aap jab chhote hote hain to aapako ek chokalet mil jaata hai ₹1 ka to aap usee mein bahut santosh paal lete hain jabaki aap jab bade ho jaate hain ek achchhe pojeeshan mein pahunch jaate hain jahaan par aap laakhon kee kamaee kar rahe hain phir bhee ho sakata hai aap khushee na ho to yah man kitana santosh paata hai aap kee suvidhaon ke saath isee se aap disaid karate hain gareeb aur ameer to yah mithya hai ki gareeb aur ameer kuchh log aise bhee dharatee par hain aap saadhu mahaatmaon ko dekhenge aap gaanv mein jaakar dekhenge deep jangal mein jaakar dekhenge vahaan paenge kuchh log aise hain jo sookhee rotee kha rahe hain aur phir bhee aap dekhenge vah mast maula jeevan jee rahe hain to vah gareeb nahin hai gareeb aur yah sab jo baaten hain amit yah sab man ka masala hai aur kuchh nahin hai aadamee apanee besik nesesitee ko pooree kar le matalab rotee kha le jinda rah le khush rah le apane baal bachchon ko paalane ab paalane ka tareeka hai kisee ke bachche padhate hain aap sarakaaree skool mein kisee ke bachche padhate hee nahin hai gurukul mein hai kuchh ke maan-baap kuchh padha dete hain ghar par baitha kar aur kuchh kah jo kaimbrij mein padh rahe hain to aisa aisa alag-alag soch hai to yah diskashan ka mudda hai bat gareeb aur ameer kuchh hota nahin

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
ब्रह्म मुहूर्त में उठने का मुख्य फायदा क्या है?Brahm Muhrat Mein Uthne Ka Mukhya Fayda Kya Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:11
मित्रों आज सवाल है कि ब्रह्म मुहूर्त में उठने के क्या-क्या फायदे हैं आप एक चीज गौर करेंगे पूरी संसार में पूरे संसार को चलाने में सबसे बड़ा योगदान किस चीज का है सूर्य का अगर आप पाएंगे इस धरती पर सब कुछ जो भी घट रहा है अगर एक दिन आप इस बात को एहसास करें कि आप किसी भी चीज के बिना किसी तरह से मैनेज कर सकते हैं बट क्या आप सूर्य के बिना कुछ मैनेज कर सकते नहीं ब्रह्मोस आप समझे तो सूर्य होता है कि पहले का वह समय 4:00 बजे 5:00 बजे के सुबह का समय है जब सुख पृथ्वी अपनी परिक्रमा में घूम रहा है और वह काल को हम लोग ब्रह्म काल करते हैं यह सूर्योदय के शुरू होने के पहले का समय है मतलब दिन शुरू होने वाला है तो हमारे वैदिक संस्कृति में इसका बहुत महत्व है आप गौर करेंगे कई साधु महात्मा जो भी कार्य करते थे वह दिन की रोशनी में करते थे चाय जम्मू से लेकर के सामने अंधेरा होने तक यह लाखों करोड़ों वर्ष से माना गया है कि यह समय कार्य के लिए सबसे उपयोग रहता है कुछ भी करने के लिए आप यह भी कर सकते हैं कि कई बार अपने बुजुर्गों से सुना होगा कि ब्रह्म मुहूर्त में पड़े आपको याद होगा बिल्कुल सही बात है क्योंकि ब्रह्म मुहूर्त वह समय है जब सृष्टि जागने से शुरू करती है आप चिड़ियों को देखेंगे आप जानवरों को देखेंगे सभी उठ जाते हैं 4:05 बजे सुबह में हमारे नए जो भौतिक हमने परिवर्तन लाए हैं उसके हिसाब से हम अपना जो उसको हम सर्काडियन रिदम कहते हैं आप पढ़ सकते हैं इसके बारे में मैं बाद में कभी बताऊंगा सर्काडियन रिदम बोर ही दम है जिससे शरीर का साइकिल या शरीर का जो घड़ी है वह चलता है तो आप गौर करें तो हमारे शरीर की घड़ी भी जब शुरू होती है भ्रम भूत के समय से ही स्टार्ट तो अगर आप अपने आप को प्रकृति के उस साइकिल के साथ जोड़ लेंगे तो आप बिल्कुल सूखी होंगे और आपको जो भी कार्य करेंगे उसमें अच्छी खासी पॉजिटिव एनर्जी मिलेगी तो ब्रह्म और 1000 10000 आपको फायदे लेकर आ सकता है क्योंकि आप सृष्टि के साथ चल रहे हैं ना कि विपरीत धन्यवाद
Mitron aaj savaal hai ki brahm muhoort mein uthane ke kya-kya phaayade hain aap ek cheej gaur karenge pooree sansaar mein poore sansaar ko chalaane mein sabase bada yogadaan kis cheej ka hai soory ka agar aap paenge is dharatee par sab kuchh jo bhee ghat raha hai agar ek din aap is baat ko ehasaas karen ki aap kisee bhee cheej ke bina kisee tarah se mainej kar sakate hain bat kya aap soory ke bina kuchh mainej kar sakate nahin brahmos aap samajhe to soory hota hai ki pahale ka vah samay 4:00 baje 5:00 baje ke subah ka samay hai jab sukh prthvee apanee parikrama mein ghoom raha hai aur vah kaal ko ham log brahm kaal karate hain yah sooryoday ke shuroo hone ke pahale ka samay hai matalab din shuroo hone vaala hai to hamaare vaidik sanskrti mein isaka bahut mahatv hai aap gaur karenge kaee saadhu mahaatma jo bhee kaary karate the vah din kee roshanee mein karate the chaay jammoo se lekar ke saamane andhera hone tak yah laakhon karodon varsh se maana gaya hai ki yah samay kaary ke lie sabase upayog rahata hai kuchh bhee karane ke lie aap yah bhee kar sakate hain ki kaee baar apane bujurgon se suna hoga ki brahm muhoort mein pade aapako yaad hoga bilkul sahee baat hai kyonki brahm muhoort vah samay hai jab srshti jaagane se shuroo karatee hai aap chidiyon ko dekhenge aap jaanavaron ko dekhenge sabhee uth jaate hain 4:05 baje subah mein hamaare nae jo bhautik hamane parivartan lae hain usake hisaab se ham apana jo usako ham sarkaadiyan ridam kahate hain aap padh sakate hain isake baare mein main baad mein kabhee bataoonga sarkaadiyan ridam bor hee dam hai jisase shareer ka saikil ya shareer ka jo ghadee hai vah chalata hai to aap gaur karen to hamaare shareer kee ghadee bhee jab shuroo hotee hai bhram bhoot ke samay se hee staart to agar aap apane aap ko prakrti ke us saikil ke saath jod lenge to aap bilkul sookhee honge aur aapako jo bhee kaary karenge usamen achchhee khaasee pojitiv enarjee milegee to brahm aur 1000 10000 aapako phaayade lekar aa sakata hai kyonki aap srshti ke saath chal rahe hain na ki vipareet dhanyavaad
URL copied to clipboard