#जीवन शैली

bolkar speaker
यदि कोई ठुकरा दे तो क्या करना चाहिए?Yadi Koi Thukra De To Kya Karna Chahiye
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:45
यदि कोई ठुकरा दे तो क्या करना चाहिए देखिए इसके लिए आप यही कर सकते हैं अगर कोई आपको ठुकरा दे तो आप उस टाइम पर नहीं कीजिए उस टाइम को जो आपको गुस्सा है क्या वह आप सही जगह पर काम पर लगाइए उस टाइम का गुस्सा जो है वह अपने अंदर कंफर्म करके रखी है उसको आप ऐसी अपने घोष को कंप्लीट कीजिए इस बीच पर चाहिए लाइफ में जहां पर उस जिसने आप को ठुकराया है उस आदमी को यह आर्डर जिसने भी आप को ठुकराया है उनको पछतावा हो देख कर उनको पछतावा हो क्योंकि उन्होंने आप को ठुकराया है इतनी का बिल बनी है कि उनको पछतावे के कारण वह आपसे आकर बात करें आपसे माफी मांगे धन्यवाद
Yadi koee thukara de to kya karana chaahie dekhie isake lie aap yahee kar sakate hain agar koee aapako thukara de to aap us taim par nahin keejie us taim ko jo aapako gussa hai kya vah aap sahee jagah par kaam par lagaie us taim ka gussa jo hai vah apane andar kampharm karake rakhee hai usako aap aisee apane ghosh ko kampleet keejie is beech par chaahie laiph mein jahaan par us jisane aap ko thukaraaya hai us aadamee ko yah aardar jisane bhee aap ko thukaraaya hai unako pachhataava ho dekh kar unako pachhataava ho kyonki unhonne aap ko thukaraaya hai itanee ka bil banee hai ki unako pachhataave ke kaaran vah aapase aakar baat karen aapase maaphee maange dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन में समस्या का एहसास होने पर भी हमारा समस्या को हल ना कर पाने का क्या कारण है?Jeevan Mein Samasya Ka Ehsaas Hone Par Bhe Humara Samasya Ko Hal Na Kar Pane Ka Kya Karan Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:36
जीवन में समस्या का एहसास होने पर भी हमारा समस्या को हल नाक पर पानी का क्या कारण है देखिए इसके बहुत सारे कारण हो सकते हैं हम जब समझ से आते हैं पहली बात हम घबरा जाते हैं हम डर जाते हैं कि हम ऐसे कैसे भरेंगे हम इस समस्या को कैसे निकलेंगे समस्या से कैसे साफ करेंगे सबसे पहले अगर हम समझते कुछ समझ सिस्टम से ही ना तो अगर समझ सको प्रॉब्लम समझी ना तो इसलिए इस चीज से बाहर निकल सकते हैं हमें कोई प्रॉब्लम ही नहीं होगा किसी भी प्रॉब्लम से मतलब बाहर निकलने में
Jeevan mein samasya ka ehasaas hone par bhee hamaara samasya ko hal naak par paanee ka kya kaaran hai dekhie isake bahut saare kaaran ho sakate hain ham jab samajh se aate hain pahalee baat ham ghabara jaate hain ham dar jaate hain ki ham aise kaise bharenge ham is samasya ko kaise nikalenge samasya se kaise saaph karenge sabase pahale agar ham samajhate kuchh samajh sistam se hee na to agar samajh sako problam samajhee na to isalie is cheej se baahar nikal sakate hain hamen koee problam hee nahin hoga kisee bhee problam se matalab baahar nikalane mein

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या दिल और दिमाग के एक जैसा सोच सकते हैं?Kya Dil Or Dimaag Ke Ek Jesa Soch Sakte Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:39
जो दिल और दिमाग की एक जैसे सोच सकते हैं नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि दिल जो है वह हमेशा बाबू को इमोशनली रूप से सोचता है जो हमारे लिए कभी कभी लाइफ में खुश रखता है और कभी-कभी हानिकारक हो सकता है और दिमाग तो है हमेशा फायदेमंद के बारे में सोचता है कि यह काम जो हम करेंगे उसने में फायदा होगा या नुकसान होगा दिमाग हमेशा फायदे के बारे में सोचता है और दिल जो है हमेशा इमोशनल अटैचमेंट की स्थापित होता है बाबू को के सोचता है दोनों एक जैसा सोच नहीं रखते धन्यवाद
Jo dil aur dimaag kee ek jaise soch sakate hain nahin aisa bilkul nahin hai kyonki dil jo hai vah hamesha baaboo ko imoshanalee roop se sochata hai jo hamaare lie kabhee kabhee laiph mein khush rakhata hai aur kabhee-kabhee haanikaarak ho sakata hai aur dimaag to hai hamesha phaayademand ke baare mein sochata hai ki yah kaam jo ham karenge usane mein phaayada hoga ya nukasaan hoga dimaag hamesha phaayade ke baare mein sochata hai aur dil jo hai hamesha imoshanal ataichament kee sthaapit hota hai baaboo ko ke sochata hai donon ek jaisa soch nahin rakhate dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
फिट रहने के लिए कैसी दिनचर्या का पालन करें?Fit Rehne Ke Liye Kaisi Dincharya Ka Palan Karein
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
1:00
फिट रहने के लिए कैसे दिन साड़ियों होनी चाहिए दिखे फिट रहने के लिए हमें मानसिक रूप से और हमारे हेल्थ के हिसाब से हमें फिट होना बहुत जरूरी है स्वस्थ फ्री रहना चाहिए उतना प्रश्न नहीं लेना चाहिए हेल्दी फूड खाने चाहिए ज्यादा ऑइली खाना नहीं खाना चाहिए और हमें प्रात कालीन सुबह उठना चाहिए योगा करना चाहिए प्राणायाम करना चाहिए जोगिंग वगैरह एक्सरसाइज तो है अरबिक एक्सरसाइज तो है यह सब हमें करना चाहिए अपने जो भोजन है उसको नियमित रूप से खाना चाहिए हर चीज टाइम पर करना चाहिए समय के साथ चलना चाहिए मन में हमेशा पॉजिटिविटी रखना चाहिए तू ही यह सब करने से ही जीवन का जो नियम है जीवन के नियम शैली को फॉलो करने से ही हम फिजिकली और मेंटली फिट रह पाएंगे धन्यवाद
Phit rahane ke lie kaise din saadiyon honee chaahie dikhe phit rahane ke lie hamen maanasik roop se aur hamaare helth ke hisaab se hamen phit hona bahut jarooree hai svasth phree rahana chaahie utana prashn nahin lena chaahie heldee phood khaane chaahie jyaada oilee khaana nahin khaana chaahie aur hamen praat kaaleen subah uthana chaahie yoga karana chaahie praanaayaam karana chaahie joging vagairah eksarasaij to hai arabik eksarasaij to hai yah sab hamen karana chaahie apane jo bhojan hai usako niyamit roop se khaana chaahie har cheej taim par karana chaahie samay ke saath chalana chaahie man mein hamesha pojitivitee rakhana chaahie too hee yah sab karane se hee jeevan ka jo niyam hai jeevan ke niyam shailee ko pholo karane se hee ham phijikalee aur mentalee phit rah paenge dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या हर समय नर्म होना सही है?Kya Har Samay Namr Hona Sahi Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:48
क्यों हर समय दर्द होना सही है नहीं यह बिल्कुल सही नहीं है हमें हमेशा सिचुएशन के हिसाब से अपना बर्ताव रखना चाहिए अगर ऐसी सिचुएशन पर इस देश में हमारा जो नंबर था वह वह हमारे ऊपर हावी हो रहा है या किसी को हानि पहुंचा रहा है तो उस टाइम भी हमें नर नहीं रहना चाहिए उस टाइम पर हमें सख्ती बरतना चाहिए हर जगह पर नॉर्मल है कि कोई काम नहीं हो पाता कहीं के सिचुएशन कभी कभी ऐसा हो जाता है जहां पर सख्ती बरतना बहुत जरूरी होता है इसलिए जीवन में अच्छी तरह मेंटेन करके चलने के लिए एकदम समानता रखने के लिए हमें मैडम और शक्ति दोनों पर रखना चाहिए दोनों एक साथ मिलाकर फिर हमें चलना चाहिए धन्यवाद
Kyon har samay dard hona sahee hai nahin yah bilkul sahee nahin hai hamen hamesha sichueshan ke hisaab se apana bartaav rakhana chaahie agar aisee sichueshan par is desh mein hamaara jo nambar tha vah vah hamaare oopar haavee ho raha hai ya kisee ko haani pahuncha raha hai to us taim bhee hamen nar nahin rahana chaahie us taim par hamen sakhtee baratana chaahie har jagah par normal hai ki koee kaam nahin ho paata kaheen ke sichueshan kabhee kabhee aisa ho jaata hai jahaan par sakhtee baratana bahut jarooree hota hai isalie jeevan mein achchhee tarah menten karake chalane ke lie ekadam samaanata rakhane ke lie hamen maidam aur shakti donon par rakhana chaahie donon ek saath milaakar phir hamen chalana chaahie dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या फिल्में इंसान को प्रेरणा दे सकती हैं?Kya Philmen Insaan Ko Prerana De Sakatee Hain
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:30
आपको सवाल है क्या फुल में इंसान को प्रेरणा दे सकती है जरूर फिल्में इंसान को प्रेरणा दे सकती है जैसे पीरियड से जुड़े इस गुलशन में बहुत अच्छी-अच्छी प्रेरणा मिलती है और हर एक फिल्म के पीछे कोई ना कोई मैसेज हुआ रहता है जिसको हमें ढूंढना पड़ता है या किसी पर में हम इसलिए वह दिख जाता है इसलिए फोन में वह बहुत ही छुपा होता है तो हर एक पल में कोई ना कोई मैसेज होता है जो हमें प्रेरणा देता है धन्यवाद
Aapako savaal hai kya phul mein insaan ko prerana de sakatee hai jaroor philmen insaan ko prerana de sakatee hai jaise peeriyad se jude is gulashan mein bahut achchhee-achchhee prerana milatee hai aur har ek philm ke peechhe koee na koee maisej hua rahata hai jisako hamen dhoondhana padata hai ya kisee par mein ham isalie vah dikh jaata hai isalie phon mein vah bahut hee chhupa hota hai to har ek pal mein koee na koee maisej hota hai jo hamen prerana deta hai dhanyavaad

#मनोरंजन

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:44
मुझसे राजा ने सवाल पूछा सबसे पहले तो धन्यवाद राजा मुझसे सवाल पूछने के लिए और आपका सवाल एक किस प्रकार के फल में आपको ज्यादा देखने पसंद है और किस प्रकार की देखनी पसंद नहीं है तो सबसे पहले तो मुझसे तीन लड़का देखना बहुत ही ज्यादा पसंद है और जो फ्रेंडशिप पसंद होते हैं और अपन सोते यह सब मिलकर देखना बहुत पसंद है जैसे मेरा फेवरेट कुछ उनसे जैसे और शादी में जरूर आना और और छिछोरी पीरियड्स प्लेयर लूडो और मैं तुरंत सूचना नहीं देख पाती पर मैं बैटरीज बहुत ज्यादा देखती हूं मुझे कोई चीज बहुत पसंद है और धन्यवाद सवाल पूछने के लिए
Mujhase raaja ne savaal poochha sabase pahale to dhanyavaad raaja mujhase savaal poochhane ke lie aur aapaka savaal ek kis prakaar ke phal mein aapako jyaada dekhane pasand hai aur kis prakaar kee dekhanee pasand nahin hai to sabase pahale to mujhase teen ladaka dekhana bahut hee jyaada pasand hai aur jo phrendaship pasand hote hain aur apan sote yah sab milakar dekhana bahut pasand hai jaise mera phevaret kuchh unase jaise aur shaadee mein jaroor aana aur aur chhichhoree peeriyads pleyar loodo aur main turant soochana nahin dekh paatee par main baitareej bahut jyaada dekhatee hoon mujhe koee cheej bahut pasand hai aur dhanyavaad savaal poochhane ke lie

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
पढ़ने और पढ़ाने में क्या अंतर है?Padhane Aur Padhaane Mein Kya Antar Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:16
पढ़ने और पढ़ाने में क्या अंतर होता है बीच में यह अंतर होता है पढ़ने मतलब हम खुद जो पढ़ते हैं वह होता है पढ़ना और पढ़ाना यह पढ़ाने मतलब हम किसी और को चुस्ती कर देते हैं पढ़ाते हैं उसको कहते पढ़ाने
Padhane aur padhaane mein kya antar hota hai beech mein yah antar hota hai padhane matalab ham khud jo padhate hain vah hota hai padhana aur padhaana yah padhaane matalab ham kisee aur ko chustee kar dete hain padhaate hain usako kahate padhaane

#पढ़ाई लिखाई

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:53
क्यों हिंदी मीडियम में पढ़ने वाले बच्चे अंग्रेजी मीडियम में पढ़ने वाले बच्चों से कमजोर होते हैं देखिए सब बिल्कुल नहीं अब किसी भी मीडियम से पढ़ी बस अच्छी तरह पढ़ी अपनी पढ़ाई को काम पर लगा तो आप हर मीडियम पर जाकर ऊंचाइयां हासिल कर सकते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता आप हिंदी मीडियम में पढ़ी या अंग्रेजी मीडियम में पड़ी दोनों ही मीडियम का जो पढ़ाई है वह एकदम समान है एक लेवल का है तो इससे निराश मत होइए कि मैं हिंदी मीडियम में पढ़ती हूं मैं अंग्रेजी मीडियम से कमजोर हूं ऐसा बिल्कुल नहीं है आप हिंदी मीडियम में एक्सपर्ट है और अंग्रेजी मीडियम में थोड़ा लो है तो जो बच्चा अंग्रेजी मीडियम में पढ़ रहा है वह हिंदी मीडियम में थोड़ा लो है और आप बोल बच्चा अंग्रेजी मीडियम में थोड़ा हाई है तो दोनों ही बराबर ही है
Kyon hindee meediyam mein padhane vaale bachche angrejee meediyam mein padhane vaale bachchon se kamajor hote hain dekhie sab bilkul nahin ab kisee bhee meediyam se padhee bas achchhee tarah padhee apanee padhaee ko kaam par laga to aap har meediyam par jaakar oonchaiyaan haasil kar sakate hain isase koee phark nahin padata aap hindee meediyam mein padhee ya angrejee meediyam mein padee donon hee meediyam ka jo padhaee hai vah ekadam samaan hai ek leval ka hai to isase niraash mat hoie ki main hindee meediyam mein padhatee hoon main angrejee meediyam se kamajor hoon aisa bilkul nahin hai aap hindee meediyam mein eksapart hai aur angrejee meediyam mein thoda lo hai to jo bachcha angrejee meediyam mein padh raha hai vah hindee meediyam mein thoda lo hai aur aap bol bachcha angrejee meediyam mein thoda haee hai to donon hee baraabar hee hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कैसे रोजाना पढ़ने की आदत डालें?Kaise Rojana Padhne Ki Aadat Dale
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:36
सुल्ताना पढ़ने की आदत डाली रोजाना पढ़ने की आदत है पैसे डाल सकते हैं जैसे आज अपनी up21 2021 डिसकस चटर्जी ले लीजिए 21 दिन में हमारा कोई भी आदत हमें लग जाता है कोई भी आदत हमारे छूट जाता है 21 दिन पर आप हर रोज 5 मिनट 10 मिनट आज अगर पास में ही बैठी पढ़ने के लिए 10 मिनट बाकी है और से 20 मिनट के बाद आध घंटा इसके बाद एक घंटा ऐसे करते-करते अपने टाइम को बढ़ाइए पढ़ने के साथ ऐसे ही आपका हो जाएगा
Sultaana padhane kee aadat daalee rojaana padhane kee aadat hai paise daal sakate hain jaise aaj apanee up21 2021 disakas chatarjee le leejie 21 din mein hamaara koee bhee aadat hamen lag jaata hai koee bhee aadat hamaare chhoot jaata hai 21 din par aap har roj 5 minat 10 minat aaj agar paas mein hee baithee padhane ke lie 10 minat baakee hai aur se 20 minat ke baad aadh ghanta isake baad ek ghanta aise karate-karate apane taim ko badhaie padhane ke saath aise hee aapaka ho jaega

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मन को स्थिर करने का तरीका क्या है?man ko sthir karane ka tareeka kya hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:19
मन को स्थिर करने का तरीका क्या है मन को स्थिर करने का तरीका यही है कि अब रोजाना योगा करें तो बहुत जल्दी उठे सुबह जल्दी उठने के बाद मेडिटेशन करें हरि ओम का जाप करें तो आपका मन धीरे-धीरे स्थिर होने लगेगा धन्यवाद
Man ko sthir karane ka tareeka kya hai man ko sthir karane ka tareeka yahee hai ki ab rojaana yoga karen to bahut jaldee uthe subah jaldee uthane ke baad mediteshan karen hari om ka jaap karen to aapaka man dheere-dheere sthir hone lagega dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
हम अपने पढ़ने और लिखने की कौशलता कैसे सुधारे?ham apane padhane aur likhane kee kaushalata kaise sudhaare
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:40
हम अपनी पढ़ने और लिखने की कुशलता कैसे सुधारे हम इसको सुधार सकते हैं हर रोज मिनिमम टाइम पढ़ाई में देखिए कोई भी बुक पढ़ की कोई भी न्यूज़ पेपर पर के मैगज़ीन पर कि किसी भी कुछ भी करके किसी भी तरह किसी चीज को पढ़ कि हम उसको टाइम दे सकते हैं उस दिन सीख सकते हैं और यही मतलब कहीं पर भी हमें कोई नया शब्द मिले नया कुछ लाइन मिले नया कुछ चीज मिले उसको साथ साथी अपने एक नोटबुक में लिख ली थी तो उससे हम अगर रोशन उसको प्रैक्टिस करेंगे तो ऑटोमेटिक हमारे राइटिंग और लर्निंग जो है पढ़ने का आदत वह सुधरता है
Ham apanee padhane aur likhane kee kushalata kaise sudhaare ham isako sudhaar sakate hain har roj minimam taim padhaee mein dekhie koee bhee buk padh kee koee bhee nyooz pepar par ke maigazeen par ki kisee bhee kuchh bhee karake kisee bhee tarah kisee cheej ko padh ki ham usako taim de sakate hain us din seekh sakate hain aur yahee matalab kaheen par bhee hamen koee naya shabd mile naya kuchh lain mile naya kuchh cheej mile usako saath saathee apane ek notabuk mein likh lee thee to usase ham agar roshan usako praiktis karenge to otometik hamaare raiting aur larning jo hai padhane ka aadat vah sudharata hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
पढ़ने का बिल्कुल भी मन नहीं करता इसके लिए क्या करें?Padhne Ka Bilkul Bhi Man Nahin Karta Iske Liye Kya Karein
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:58
पढ़ने का बिल्कुल भी मन नहीं करता इसके लिए क्या करें पढ़ने का बिल्कुल नहीं मन करता तो इसके लिए आप यही कर सकते हैं कि आप आंख बंद की थी और एकदम शांति से सोचिए कि आप जो पढ़ाई कर रहे हैं उससे कितने लोगों को उम्मीद है जिससे आपके पैरेंट्स आपके माता-पिता आपके भाई बहन आपके परिवार वाले और कब से कितनी उम्मीदें लगाए बैठे हैं अपने आप से कहीं ना कहीं तो उम्मीद लगाए बैठे हैं कि फ्यूचर में आप ऐसा करेंगे यहां जाएंगे घूमने यह जॉब करेंगे दोस्त को याद कीजिए कि कितने लोगों की उम्मीदें हैं आपसे अगर अब पढ़ाई नहीं करेंगे पढ़ाई पर मन नहीं लगेगा तो आप उन लोगों की उम्मीदों पर कैसे खड़े हो जाएंगे आप समाज को छोड़ देते आप आप आप अपनी लोगों की सूची अपने लोग जो आपके ऊपर उम्मीदें लगाए बैठे हैं उनके बारे में सोचिए फिर देखिए आपका अपने आप पढ़ाई में मन लगेगा
Padhane ka bilkul bhee man nahin karata isake lie kya karen padhane ka bilkul nahin man karata to isake lie aap yahee kar sakate hain ki aap aankh band kee thee aur ekadam shaanti se sochie ki aap jo padhaee kar rahe hain usase kitane logon ko ummeed hai jisase aapake pairents aapake maata-pita aapake bhaee bahan aapake parivaar vaale aur kab se kitanee ummeeden lagae baithe hain apane aap se kaheen na kaheen to ummeed lagae baithe hain ki phyoochar mein aap aisa karenge yahaan jaenge ghoomane yah job karenge dost ko yaad keejie ki kitane logon kee ummeeden hain aapase agar ab padhaee nahin karenge padhaee par man nahin lagega to aap un logon kee ummeedon par kaise khade ho jaenge aap samaaj ko chhod dete aap aap aap apanee logon kee soochee apane log jo aapake oopar ummeeden lagae baithe hain unake baare mein sochie phir dekhie aapaka apane aap padhaee mein man lagega

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
इंग्लिश लिखने और पढ़ने का सही तरीका बताओ?English Likhne Aur Padhne Ka Sahi Tarika Batao
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:46
इंग्लिश लिखने और पढ़ने का सही तरीका बताओ लिखिए इंग्लिश लिखने और पढ़ने का सही तरीका यह है आप अलग-अलग किताबें पढ़ी है अलग-अलग नोबेल सूट है उसको पढ़िए और हर रोज इंग्लिश सीखने के लिए हर रोज रीडिंग मस्त है आप हर रोज अपने आप को बुक के साथ आप खुद को 5:10 मिनट टाइम दे दिया 8 घंटा एक घंटा 5 मिनट टाइम टू रीडिंग कोड दे दीजिए और जब आप रीडिंग करेंगे तो ऐसा तो आई गई कि वर्ल्ड जाएगा न्यू न्यू वर्ड्स मिलेंगे जो आपको नहीं पता होगा मीनिंग तो तब की डिक्शनरी खोल कि आप वोट को देखिए और उसको साथ साथ ही कॉपी में लिख लीजिए तो इससे आपकी डिंग भीम ब्लू मूवी इंग्लिश रीडिंग भी होगी और इंग्लिश राइटिंग भीम पोगो
Inglish likhane aur padhane ka sahee tareeka batao likhie inglish likhane aur padhane ka sahee tareeka yah hai aap alag-alag kitaaben padhee hai alag-alag nobel soot hai usako padhie aur har roj inglish seekhane ke lie har roj reeding mast hai aap har roj apane aap ko buk ke saath aap khud ko 5:10 minat taim de diya 8 ghanta ek ghanta 5 minat taim too reeding kod de deejie aur jab aap reeding karenge to aisa to aaee gaee ki varld jaega nyoo nyoo vards milenge jo aapako nahin pata hoga meening to tab kee dikshanaree khol ki aap vot ko dekhie aur usako saath saath hee kopee mein likh leejie to isase aapakee ding bheem bloo moovee inglish reeding bhee hogee aur inglish raiting bheem pogo

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
पढ़ाई में मन ना लगे और नींद आने लगे तो क्या करना चाहिए ?padhaee mein man na lage aur neend aane lage to kya karana chaahie
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
1:04
पढ़ाई में मन ना लगे और नींद आने लगे तो क्या करना चाहिए देखिए यह अक्सर हर बच्चे की कहानी है उनको बुक लेकर बैठने से ही उनको नींद आ जाता है पढ़ने बैठने से ही उनको नींद आ जाता है अगर ऐसा ज्यादा मात्र पर आपको अगर ऐसा होता है तो कुत्ते तो लीजिए आपको पढ़ते-पढ़ते नींद आ रही है कुत्ते तो ली थी क्योंकि उठने के बाद अब पढ़ना शुरू की थी और ऐसा भी अगर आपको काम नहीं करता तो फिर आप जब पढ़ने बैठे हैं तब एकदम जैसे सुबह बैठे पढ़नी तो एकदम नहा धो के प्लस टू के बैठिए जब भी अपन नहीं बैठेंगे एकदम हाथ मुंह धो के एकदम अच्छे से प्रश्नों के फिर पढ़ने बैठी और अपनी पढ़ाई की टेबल विद नीट एंड क्लीन रखिए ताकि उसको देखकर बोरियत ना लगे कि ऐसे गंदगी मत चला कर रखिए एकदम नीट एंड क्लीन रखिए साफ सुथरा को देखने में भी अच्छा लगेगा और नींद भी नहीं आएगा और कब से पढ़ने बैठने समय खाली पेट मत बैठिए हमेशा कुछ न कुछ टेबल करके फिर पढ़ने बैठी है
Padhaee mein man na lage aur neend aane lage to kya karana chaahie dekhie yah aksar har bachche kee kahaanee hai unako buk lekar baithane se hee unako neend aa jaata hai padhane baithane se hee unako neend aa jaata hai agar aisa jyaada maatr par aapako agar aisa hota hai to kutte to leejie aapako padhate-padhate neend aa rahee hai kutte to lee thee kyonki uthane ke baad ab padhana shuroo kee thee aur aisa bhee agar aapako kaam nahin karata to phir aap jab padhane baithe hain tab ekadam jaise subah baithe padhanee to ekadam naha dho ke plas too ke baithie jab bhee apan nahin baithenge ekadam haath munh dho ke ekadam achchhe se prashnon ke phir padhane baithee aur apanee padhaee kee tebal vid neet end kleen rakhie taaki usako dekhakar boriyat na lage ki aise gandagee mat chala kar rakhie ekadam neet end kleen rakhie saaph suthara ko dekhane mein bhee achchha lagega aur neend bhee nahin aaega aur kab se padhane baithane samay khaalee pet mat baithie hamesha kuchh na kuchh tebal karake phir padhane baithee hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
एक स्टूडेंट के लिए पढ़ने का सबसे अच्छा टाइम और सबसे अच्छा तरीका क्या होता है?ek stoodent ke lie padhane ka sabase achchha taim aur sabase achchha tareeka kya hota hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
1:29
एक स्टूडेंट के लिए पढ़ने का सबसे अच्छा टाइम और सबसे अच्छा तरीका क्या होता है एक स्टूडेंट के लिए पढ़ने का सबसे अच्छा टाइम टेबल ही होता है जब वह खुद ही पढ़ना चाहिए और उसका उसी टाइम पर पढ़ने का मन हो जैसे बहुत सारे बच्चे होते हैं जिनको लेट नाइट पढ़ने का मन हो वह लिखने पड़ते हैं बहुत सारे का दोपहर को पढ़ने का मन होता है बहुत सारी बहुत सारी बच्चों की दम सुबह पढ़ने का मन होता है तो वह स्टूडेंट के ऊपर डिपेंड करता है उनको जाना पड़ता है कि वह कौन से टाइम पर पढ़ने से ज्यादा कंफर्टेबल महसूस करते ज्यादा जल्दी ठीक है याद कर पाते हैं और सबसे अच्छा तरीका यही है पढ़ने का कि आप जो पढ़ रहे हैं उसको साथ-साथ लिख डाले लिखने का आदत सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है पढ़ाई किस टाइम आप जैसे कोई टेक्स्ट बुक पढ़ रहे हैं रीडिंग कर दें और टेक्सबुक परिधि बहुत इंपॉर्टेंट होता है आप रीडिंग कर दे कोई वर्ड आप को ध्यान में आया व्हाट द मीनिंग नहीं पता साथ-साथ डिक्शनरी देखकर उसको अपने कॉपी में लिख लीजिए इसलिए आपको सहायता मिलेगी और जो जो इंपॉर्टेंट पॉइंट तब देखते हैं पढ़ते-पढ़ते आपको मिलता है वह सब एक कॉपी में नोट बना लीजिए चैप्टर का इससे क्या होगा नोट बनाने से आप जब एग्जाम आपका आएगा सामने एग्जाम के टाइम पर आपको यह पढ़ने में रिवाइज करने में बहुत आसानी हो जाएगी इसलिए अब जल्दी पूरा चैप्टर कवर कर लेंगे और इसीलिए आपको समझ भी आता है क्या धन्यवाद
Ek stoodent ke lie padhane ka sabase achchha taim aur sabase achchha tareeka kya hota hai ek stoodent ke lie padhane ka sabase achchha taim tebal hee hota hai jab vah khud hee padhana chaahie aur usaka usee taim par padhane ka man ho jaise bahut saare bachche hote hain jinako let nait padhane ka man ho vah likhane padate hain bahut saare ka dopahar ko padhane ka man hota hai bahut saaree bahut saaree bachchon kee dam subah padhane ka man hota hai to vah stoodent ke oopar dipend karata hai unako jaana padata hai ki vah kaun se taim par padhane se jyaada kamphartebal mahasoos karate jyaada jaldee theek hai yaad kar paate hain aur sabase achchha tareeka yahee hai padhane ka ki aap jo padh rahe hain usako saath-saath likh daale likhane ka aadat sabase jyaada mahatvapoorn hota hai padhaee kis taim aap jaise koee tekst buk padh rahe hain reeding kar den aur teksabuk paridhi bahut importent hota hai aap reeding kar de koee vard aap ko dhyaan mein aaya vhaat da meening nahin pata saath-saath dikshanaree dekhakar usako apane kopee mein likh leejie isalie aapako sahaayata milegee aur jo jo importent point tab dekhate hain padhate-padhate aapako milata hai vah sab ek kopee mein not bana leejie chaiptar ka isase kya hoga not banaane se aap jab egjaam aapaka aaega saamane egjaam ke taim par aapako yah padhane mein rivaij karane mein bahut aasaanee ho jaegee isalie ab jaldee poora chaiptar kavar kar lenge aur iseelie aapako samajh bhee aata hai kya dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:55
मेरा यह सवाल स्टूडेंट के लिए है जो पढ़ाई कर रहे हैं अगर हम एक स्टूडेंट है तो हमें पढ़ने के साथ-साथ कोई काम करना चाहिए या अपना पूरा ध्यान पढ़ाई पर लगाना चाहिए देखिए यह स्टूडेंट फ्रंट के ऊपर डिपेंड करता है कि अगर वह पढ़ाई के साथ-साथ कोई भी काम कर रहे हैं उसको साथ चला कर अपने पढ़ाई को ठीक से एकदम डोरेमोन 3 करके चल रहा है तो सही है तो आप काम कर करके पढ़ाई कर सकते हैं ऐसा नहीं है कि आप नजदीक में है सेवंथ में तफ्तीश शुरू कर दिया नहीं ऐसा नहीं बोल के बाद कॉलेज लेवल पिक्चर बताइए कुछ कर सकते हैं अगर आपका डिसबैलेंस हो रहा है आपका आपके साथ साथ पढ़ाई कंटिन्यू नहीं कर पाए तो कोई जरूरत नहीं है आप पर जी पहले पढ़ाई कंप्लीट कीजिए फिर जाकर किसी काम में चाहिए वही आपके लिए सही होगा
Mera yah savaal stoodent ke lie hai jo padhaee kar rahe hain agar ham ek stoodent hai to hamen padhane ke saath-saath koee kaam karana chaahie ya apana poora dhyaan padhaee par lagaana chaahie dekhie yah stoodent phrant ke oopar dipend karata hai ki agar vah padhaee ke saath-saath koee bhee kaam kar rahe hain usako saath chala kar apane padhaee ko theek se ekadam doremon 3 karake chal raha hai to sahee hai to aap kaam kar karake padhaee kar sakate hain aisa nahin hai ki aap najadeek mein hai sevanth mein taphteesh shuroo kar diya nahin aisa nahin bol ke baad kolej leval pikchar bataie kuchh kar sakate hain agar aapaka disabailens ho raha hai aapaka aapake saath saath padhaee kantinyoo nahin kar pae to koee jaroorat nahin hai aap par jee pahale padhaee kampleet keejie phir jaakar kisee kaam mein chaahie vahee aapake lie sahee hoga

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
ऑनलाइन क्लास में और स्कूल कॉलेज जा के पढ़ने में क्या अंतर है?onalain klaas mein aur skool kolej ja ke padhane mein kya antar hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:32
ऑनलाइन क्लास में और स्कूल कॉलेज जा की पढ़ने में क्या अंतर है देखिए ऑनलाइन और फिजिकल मोड में जाकर पढ़ने में बहुत ही फर्क होता है ऑनलाइन में टीचर समय ठीक से समझा नहीं पाते नोट्स वगैरा पीडीएफ फॉर्म में मिलता है और अगर हम ऐसे ही फिजिकल मोड में जाकर स्कूल कॉलेज में पड़े तो हमें बोर्ड ब्लैक बोर्ड में या वाइट बोर्ड में समझाते प्रोजेक्टर के माध्यम से समझा पाते हैं प्रैक्टिकल करके दिखा पाते ऑनलाइन मोड मोड में यह सब पॉसिबल नहीं हो पाता है
Onalain klaas mein aur skool kolej ja kee padhane mein kya antar hai dekhie onalain aur phijikal mod mein jaakar padhane mein bahut hee phark hota hai onalain mein teechar samay theek se samajha nahin paate nots vagaira peedeeeph phorm mein milata hai aur agar ham aise hee phijikal mod mein jaakar skool kolej mein pade to hamen bord blaik bord mein ya vait bord mein samajhaate projektar ke maadhyam se samajha paate hain praiktikal karake dikha paate onalain mod mod mein yah sab posibal nahin ho paata hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
किस वजह से बच्चों का मन पढ़ाई में नहीं लगता है?Kis Vajah Se Bachon Ka Man Padhai Mein Nahin Lagta Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:31
किस वजह से बच्चों का मन पढ़ाई में नहीं लगता है विकी बच्चों का मन बहुत ही चंचल होता है तो उनका एक जगह पर मन लगना यह टिकना बहुत ही मुश्किल होता है वह अभी इधर खेल रहे होते हैं उनका मन चला जाता है कहीं और अभी दर्द बाद में कहिए कहीं चला जाता है तो उनका मन एक जगह पर लगना बहुत मुश्किल होता तो इसलिए बच्चों का मन जो है वह पढ़ाई में भी नहीं लगता है इतनी जल्दी लग जाएगा तेरे थे धन्यवाद
Kis vajah se bachchon ka man padhaee mein nahin lagata hai vikee bachchon ka man bahut hee chanchal hota hai to unaka ek jagah par man lagana yah tikana bahut hee mushkil hota hai vah abhee idhar khel rahe hote hain unaka man chala jaata hai kaheen aur abhee dard baad mein kahie kaheen chala jaata hai to unaka man ek jagah par lagana bahut mushkil hota to isalie bachchon ka man jo hai vah padhaee mein bhee nahin lagata hai itanee jaldee lag jaega tere the dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
सबसे ज्यादा प्रदूषण किस देश में होता है?Sabse Jyada Pradushan Kis Desh Mein Hota Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:35
सबसे ज्यादा प्रदूषण किस देश में होता है सबसे प्रदूषित देश रिपोर्ट के मुताबिक बांग्लादेश विश्व का सबसे प्रदूषित देश है इसके बाद पाकिस्तान दूसरे स्थान पर आता है तीसरे स्थान पर मंगोलिया चौथे स्थान पर अफगानिस्तान और पाकिस्तान पर भारत है शुरुआत की सभी 5 देशों की हवा की गुणवत्ता खराब है धन्यवाद
Sabase jyaada pradooshan kis desh mein hota hai sabase pradooshit desh riport ke mutaabik baanglaadesh vishv ka sabase pradooshit desh hai isake baad paakistaan doosare sthaan par aata hai teesare sthaan par mangoliya chauthe sthaan par aphagaanistaan aur paakistaan par bhaarat hai shuruaat kee sabhee 5 deshon kee hava kee gunavatta kharaab hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
विश्व का सबसे छोटा देश कौन सा है?Vishv Ka Sabase Chhota Desh Kaun Sa Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:37
विश्व का सबसे छोटा देश कौन सा है निश्चित तौर पर से लैंड दुनिया का सबसे छोटा देश है लेकिन इसे अभी तक अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मान्यता नहीं मिली है इसलिए विश्व समुदाय से मान्यता प्राप्त सबसे छोटा देश फिलहाल वेटिकन सिटी वैटिकन सिटी का कुल क्षेत्रफल 2 पॉइंट 4 4 वर्ग किमी है और यहां की जनसंख्या भी 800 लोगों की है धन्यवाद
Vishv ka sabase chhota desh kaun sa hai nishchit taur par se laind duniya ka sabase chhota desh hai lekin ise abhee tak antararaashtreey samudaay kee maanyata nahin milee hai isalie vishv samudaay se maanyata praapt sabase chhota desh philahaal vetikan sitee vaitikan sitee ka kul kshetraphal 2 point 4 4 varg kimee hai aur yahaan kee janasankhya bhee 800 logon kee hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:49
गणित विज्ञान और भाषा विषय में से कौन सा विशेष पृष्ठ है इनमें से कौन सा विषय सीखने वाला ज्यादा बुद्धिमान है और आगे बढ़ी या दिखी साड़ी विषय ही अपनी अपनी जगह पर पृष्ठ गणित गणित में भी बहुत सारे लाइन से बहुत सारे अपॉर्चुनिटी से विज्ञान उसमें भी बहुत सारी लाइन से बहुत सारी स्कोप से बहुत सारी ऑफ यूनिटी स्तर पर भाषा विषय में भी तो ऐसा कुछ नहीं है कि इसमें जाने से मिल जाता तो सफलता मिलेगी इसमें जरनेटर में कम सफलता मिलेगी ऐसा कुछ भी नहीं है आप किसी भी दिशा में जाए किसी भी विषय को लेकर पानी सही तरीके से पड़ी तो हर विषय में आपको अच्छा आप कामयाबी मिलेगा और पूरा कामयाबी मिले
Ganit vigyaan aur bhaasha vishay mein se kaun sa vishesh prshth hai inamen se kaun sa vishay seekhane vaala jyaada buddhimaan hai aur aage badhee ya dikhee sari vishay hee apanee apanee jagah par prshth ganit ganit mein bhee bahut saare lain se bahut saare aporchunitee se vigyaan usamen bhee bahut saaree lain se bahut saaree skop se bahut saaree oph yoonitee star par bhaasha vishay mein bhee to aisa kuchh nahin hai ki isamen jaane se mil jaata to saphalata milegee isamen jaranetar mein kam saphalata milegee aisa kuchh bhee nahin hai aap kisee bhee disha mein jae kisee bhee vishay ko lekar paanee sahee tareeke se padee to har vishay mein aapako achchha aap kaamayaabee milega aur poora kaamayaabee mile

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
आर्ट्स कॉमर्स साइंस में क्या अंतर है?Arts Commerce Science Mein Kya Antar Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
1:29
आर्ट्स कॉमर्स साइंस में क्या अंतर होता है बेसिकली जब हम कह देते हैं तो इलेवंथ ट्वेल्थ में पढ़ना पड़ता है क्या कहीं पर जूनियर कॉलेजेस शुरू हो जाते हैं तो फिर 10th के बाद ही हम ही अलग-अलग सब्जेक्ट विशेष सुनना पड़ता है जिसमें आर्ट्स कॉमर्स साइंस इन तीनों में से हमें चुनना पड़ता है जो 8 होता है उस पर इतिहास हिस्ट्री भूगोल जियोग्राफी अर्थशास्त्र इकोनामिक आफ मीडिया तक कॉमर्स में भी आता है यह सब सब्जेक्ट है पोल साइंस पॉलिटिकल साइंस सब्जेक्ट है 8:00 पर होते हैं 8:00 पर हम यह सब पढ़ते हैं बाकी कॉमर्स पर हम बिजनेस स्टडीज पढ़ते हैं अकाउंटेंसी पढ़ते हैं मैथ पढ़ते हैं कौन ऑल मिक्स पढ़ते हैं यह सब कॉमर्स पर आता है और बात करें साइंस की तो साइंस फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी मैथ्स यह सब आता है तू अभी जो हमने क्लास 10 तक पढ़ा था एसएससी ग्रुप में और सोशल स्टडीज के ग्रुप में व्हाट्सएप आ जाता है 8:00 पर और कॉमर्स पर बिजनेस स्टडीज अकाउंटेंसी यह सब न्यूज़ सब्जेक्ट हो जाता है और साइंस में जो हमें 22:00 तक पढ़ा था पूरा एक साइंस जिसमें केमिस्ट्री बायोलॉजी सब इंक्लूड होता है यह सब आ जाता है ऐसा करती हो आपको अभी अंतर समझ आ गया है धन्यवाद
Aarts komars sains mein kya antar hota hai besikalee jab ham kah dete hain to ilevanth tvelth mein padhana padata hai kya kaheen par jooniyar kolejes shuroo ho jaate hain to phir 10th ke baad hee ham hee alag-alag sabjekt vishesh sunana padata hai jisamen aarts komars sains in teenon mein se hamen chunana padata hai jo 8 hota hai us par itihaas histree bhoogol jiyograaphee arthashaastr ikonaamik aaph meediya tak komars mein bhee aata hai yah sab sabjekt hai pol sains politikal sains sabjekt hai 8:00 par hote hain 8:00 par ham yah sab padhate hain baakee komars par ham bijanes stadeej padhate hain akauntensee padhate hain maith padhate hain kaun ol miks padhate hain yah sab komars par aata hai aur baat karen sains kee to sains phijiks kemistree baayolojee maiths yah sab aata hai too abhee jo hamane klaas 10 tak padha tha esesasee grup mein aur soshal stadeej ke grup mein vhaatsep aa jaata hai 8:00 par aur komars par bijanes stadeej akauntensee yah sab nyooz sabjekt ho jaata hai aur sains mein jo hamen 22:00 tak padha tha poora ek sains jisamen kemistree baayolojee sab inklood hota hai yah sab aa jaata hai aisa karatee ho aapako abhee antar samajh aa gaya hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या अंग्रेजी सीखना बिना अंग्रेजी ग्रामर के संभव है?Kya Angreji Seekhna Bina Angreji Grammer Ke Sambhav Hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:52
क्या अंग्रेजी सीखना बिना अंग्रेजी ग्रामर के संभव है यह देखिए ऐसा हो गया कि हमें रीडिंग करने दे दिया पर हमें एबीसीडी नहीं पता और तक भी नहीं पता क्या होता है जो वरना होता है अल्फाबेट्स होता है वही हमें नहीं पता और हमें बोला गया कि हम रीडिंग करें तो ऐसा पॉसिबल है क्या नहीं ना तो अंग्रेजी सीखने के लिए भी अंग्रेजी ग्रामर तो बहुत ज्यादा हद तक जरूरी है क्योंकि अगर हम ब्राह्मण ही नहीं चलेंगे क्या है तो हम वाक्य को बोलेंगे कैसे कोई भी सेंटेंस को बोलिंग की कैसे किसी से बातचीत कैसे करेंगे हमें अगर ब्राह्मण नहीं पता होगा तो हमें पास्ट टेंस प्रेजेंट टेंस सेंटेंसेस है तब भी नहीं पता होगा तो अंग्रेजी सीखने के लिए अंग्रेजी ग्रामर का बहुत ज्यादा आवश्यक है
Kya angrejee seekhana bina angrejee graamar ke sambhav hai yah dekhie aisa ho gaya ki hamen reeding karane de diya par hamen ebeeseedee nahin pata aur tak bhee nahin pata kya hota hai jo varana hota hai alphaabets hota hai vahee hamen nahin pata aur hamen bola gaya ki ham reeding karen to aisa posibal hai kya nahin na to angrejee seekhane ke lie bhee angrejee graamar to bahut jyaada had tak jarooree hai kyonki agar ham braahman hee nahin chalenge kya hai to ham vaaky ko bolenge kaise koee bhee sentens ko boling kee kaise kisee se baatacheet kaise karenge hamen agar braahman nahin pata hoga to hamen paast tens prejent tens sentenses hai tab bhee nahin pata hoga to angrejee seekhane ke lie angrejee graamar ka bahut jyaada aavashyak hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मन भविष्य को लेकर बहुत भयभीत है क्या करूं?Man Bhavishya Ko Lekar Bahut Bhayabheet Hai Kya Karu
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:36
मन भविष्य को लेकर बहुत भयभीत है क्या करूं यह सब का मनी भयभीत रहता है भविष्य को लेकर कि भविष्य में क्या होगा कैसे सब कुछ करेंगे क्या बन पाएगी अपना गोल कर पाएंगे या नहीं अपनी कोर्स को पूरा कर पाएंगे नहीं यह सब का रहता है तो मेरा मानना यह है कि आप अपने वर्तमान पर ध्यान दीजिए पास तो जो गाया गया उसके बारे में मत सोचिए अपना वर्तमान से चल रहे वर्तमान पर प्रेजेंट पर फोकस कीजिए उसको अच्छा बनाइए तो आपका फ्यूचर जो है ऐसे ही अच्छा बन जाएगा उसके लिए कोई भाई लेने की कोई जरूरत नहीं
Man bhavishy ko lekar bahut bhayabheet hai kya karoon yah sab ka manee bhayabheet rahata hai bhavishy ko lekar ki bhavishy mein kya hoga kaise sab kuchh karenge kya ban paegee apana gol kar paenge ya nahin apanee kors ko poora kar paenge nahin yah sab ka rahata hai to mera maanana yah hai ki aap apane vartamaan par dhyaan deejie paas to jo gaaya gaya usake baare mein mat sochie apana vartamaan se chal rahe vartamaan par prejent par phokas keejie usako achchha banaie to aapaka phyoochar jo hai aise hee achchha ban jaega usake lie koee bhaee lene kee koee jaroorat nahin

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
जब पढ़ने में मन ना लगे तो क्या करें?Jab Padhne Me Man Na Lage To Kya Kare
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:50
जब पढ़ने में मन ना लगे तो क्या करें अक्सर हर बच्चों की यह कहानी है कि पढ़ने में मन नहीं लगता पढ़ना अच्छा नहीं लगता कैसे पड़ी कब पड़ी तो उनकी यही बताना चाहूंगी कि जब उनको पढ़ने का मन करे जब उनको लगेगी हां मुझे भी थोड़ा पढ़ना थी तब भी पढ़ने बैठे ऐसा नहीं कि आप 4 दिन पढ़ते रहे पड़ती है आपका बिल्कुल मन नहीं है फिर भी आप पढ़ ले ऐसा करेंगे तो आपको कभी पढ़ने में मन नहीं लगेगा आप बस सोचिए कि मुझे जीवन में कुछ करना है करना है अपना जो गोल है उसको पूरा करना है अपना नाम रोशन करना है तो आप ऑटोमेटिक लिए अब मोटिवेशनल वीडियोस देखेगी यह सब से आपके अंदर ऑटोमेटिक ली जो है पढ़ने की इच्छा जागेगी और आपको पढ़ने का मन होगा
Jab padhane mein man na lage to kya karen aksar har bachchon kee yah kahaanee hai ki padhane mein man nahin lagata padhana achchha nahin lagata kaise padee kab padee to unakee yahee bataana chaahoongee ki jab unako padhane ka man kare jab unako lagegee haan mujhe bhee thoda padhana thee tab bhee padhane baithe aisa nahin ki aap 4 din padhate rahe padatee hai aapaka bilkul man nahin hai phir bhee aap padh le aisa karenge to aapako kabhee padhane mein man nahin lagega aap bas sochie ki mujhe jeevan mein kuchh karana hai karana hai apana jo gol hai usako poora karana hai apana naam roshan karana hai to aap otometik lie ab motiveshanal veediyos dekhegee yah sab se aapake andar otometik lee jo hai padhane kee ichchha jaagegee aur aapako padhane ka man hoga

#खेल कूद

bolkar speaker
भारत की सबसे ऊंची इमारत का नाम क्या है?bhaarat kee sabase oonchee imaarat ka naam kya hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:18
भारत की सबसे ऊंची इमारत का नाम क्या है अब तक भारत की सबसे ऊंची इमारत इंपीरियल टावर है जिसकी ऊंचाई 233 फीट है और उसमें 61 फ्लोर है
Bhaarat kee sabase oonchee imaarat ka naam kya hai ab tak bhaarat kee sabase oonchee imaarat impeeriyal taavar hai jisakee oonchaee 233 pheet hai aur usamen 61 phlor hai

#खेल कूद

bolkar speaker
भारत का सबसे पुराना नाम क्या है?bhaarat ka sabase puraana naam kya hai
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:19
भारत का सबसे पुराना नाम क्या है यह तो हमारा भारत बहुत से नामों से जाना जाता है भारत हिंदुस्तान इंडिया पर उसका सबसे पुराना नाम है ऑडियो बर्थ पहली बार जो है वह ऑडियो वृत्त के नाम से जाना जाता था धन्यवाद
Bhaarat ka sabase puraana naam kya hai yah to hamaara bhaarat bahut se naamon se jaana jaata hai bhaarat hindustaan indiya par usaka sabase puraana naam hai odiyo barth pahalee baar jo hai vah odiyo vrtt ke naam se jaana jaata tha dhanyavaad

#खेल कूद

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:26
इंडियन प्रो म्यूजिक लीग कब से शुरू होगा यह आप का सवाल है सलमान खान का यह नया टीवी शो फरवरी में शुरू होने वाला है इंडियन प्रो म्यूजिक लीग का प्रीमियर 26 फरवरी को होगा यह रियलिटी शो शाम 8:00 बजे टेलीकास्ट किया जाएगा
Indiyan pro myoojik leeg kab se shuroo hoga yah aap ka savaal hai salamaan khaan ka yah naya teevee sho pharavaree mein shuroo hone vaala hai indiyan pro myoojik leeg ka preemiyar 26 pharavaree ko hoga yah riyalitee sho shaam 8:00 baje teleekaast kiya jaega

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या पढ़ाई ,प्यार एक साथ करना चाहिए?Kya Padhai Pyaar Ek Sath Karna Chaiye
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:41
क्यों पढ़ाई प्यार एक साथ करना चाहिए इसलिए स्टूडेंट के ऊपर डिपेंड करता है कोई ऐसे होते हैं जो प्यार के साथ-साथ पढ़ाई को एकदम चलानी पड़ती है उनको मेंटी नहीं कर पाते और कोई ऐसा होता है जो अपने पढ़ाई के साथ-साथ प्यार को भी मेंटेन करके चल पाते हैं तो यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप पढ़ाई के साथ प्यार कर पाती या नहीं अगर मेरा ओपिनियन मानी तो पढ़ाई के साथ यह सब ना करना ही बेहतर होगा क्योंकि आप पहले पढ़ाई करके अपना करियर सेट कीजिए फिर ताकि आप प्यार की तरफ ध्यान दीजिए धन्यवाद
Kyon padhaee pyaar ek saath karana chaahie isalie stoodent ke oopar dipend karata hai koee aise hote hain jo pyaar ke saath-saath padhaee ko ekadam chalaanee padatee hai unako mentee nahin kar paate aur koee aisa hota hai jo apane padhaee ke saath-saath pyaar ko bhee menten karake chal paate hain to yah aapake oopar dipend karata hai ki aap padhaee ke saath pyaar kar paatee ya nahin agar mera opiniyan maanee to padhaee ke saath yah sab na karana hee behatar hoga kyonki aap pahale padhaee karake apana kariyar set keejie phir taaki aap pyaar kee taraph dhyaan deejie dhanyavaad
URL copied to clipboard