#पढ़ाई लिखाई

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:30
जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या ऑनलाइन पढ़ाई सेल्फ नोट्स बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से कहना कि तू मेरी सलाह है कि आप ऑनलाइन अप्लाई करें या खास में पीडीएफ से पढ़ें आपको सेल्फ नोट्स बनाने के बाद ही अपनी क्षमताओं का पता लगता है और सेल्फ नोट बनाने पर आप चीजों की अच्छी तरह से तैयारी कर सकते हैं मेरा यही कहना है और मेरा नंबर भी यही है कि सेट हर तरीके से बेस्ट होते हैं जब तक आप सेंड क्लॉक नहीं बनाएंगे तो आप आगे नहीं बढ़ने दे सेल्फ नॉट आप के बाद तक के जीवन के लिए सुनहरा एक सुनहरा पल होते हैं जो आप को संजो कर रखना चाहिए सेल्फ नोट की आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं नोट से आपके अंदर एक कौन डांस पैदा होता है जो आपकी सफलता में एक बहुत बड़ा हाथ और एक बहुत बड़ा रोल अदा करता है मेरा यही सुझाव है कि इस नोट पर ही हर स्टूडेंट को उस पर ध्यान देना बहुत जरूरी होता है क्योंकि जब आप साइंस नोट्स बनाते हैं तो आप चीजों को एक बार पढ़ते हैं दूसरी बार लगते हैं और अगर तीसरी बार पढ़ने तो वह चीजें क्यों लेट हो जाती है धन्यवाद
Jaisa ki aapaka prashn hai ki kya onalain padhaee selph nots banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se kahana ki too meree salaah hai ki aap onalain aplaee karen ya khaas mein peedeeeph se padhen aapako selph nots banaane ke baad hee apanee kshamataon ka pata lagata hai aur selph not banaane par aap cheejon kee achchhee tarah se taiyaaree kar sakate hain mera yahee kahana hai aur mera nambar bhee yahee hai ki set har tareeke se best hote hain jab tak aap send klok nahin banaenge to aap aage nahin badhane de selph not aap ke baad tak ke jeevan ke lie sunahara ek sunahara pal hote hain jo aap ko sanjo kar rakhana chaahie selph not kee aapako aage badhane ke lie prerit karate hain not se aapake andar ek kaun daans paida hota hai jo aapakee saphalata mein ek bahut bada haath aur ek bahut bada rol ada karata hai mera yahee sujhaav hai ki is not par hee har stoodent ko us par dhyaan dena bahut jarooree hota hai kyonki jab aap sains nots banaate hain to aap cheejon ko ek baar padhate hain doosaree baar lagate hain aur agar teesaree baar padhane to vah cheejen kyon let ho jaatee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
2:55
नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है कि किसान आंदोलन का गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में जो गुंडागर्दी कर रहे हैं क्या यह सही है यह बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि यह गणतंत्र दिवस भारत का एक बहुत बड़ा पर्व है भारत की आजादी का बहुत बड़ा पर्व है और इस पर्व पर देश का अपमान करने के राजा हम किसी को नहीं दे सकते क्योंकि यह भारत की संप्रभुता एकता और उसकी इज्जत और उस हमारे मन में भारत का यह सब इन चीजों के कारण ही है तो जो कुछ भी ना दिल्ली में जो हुआ जो भी चीजें हुई है वह बहुत ही गलत है शर्मसार करने वाली है पर हम सिर्फ एक पहलू को ही देख पा रहे हैं हम दूसरी बहनों की तरफ बिल्कुल भी गौर नहीं कर पा रहे हैं जी क्यों रैली हुई रैली के दौरान लाल किले तक जो प्रदर्शनकारी पहुंचे लाल किले में जो कुछ भी हुआ वह हम सबके सामने है तो सवाल ये उठता है कि जब लालकिले तक जाने का कोई रूठता ही नहीं तो शान प्रदर्शनकारी वहां तक कैसे पहुंचे दूसरी बात यह है कि जो बात सामने आई है और जो हमें बताई नहीं जा रही है जिन रूटों से होकर किसानों को अपना रैली निकालनी थी उन रूटों में बैरिकेट्स लगा दिए गए थे और दिल्ली की तरफ जाने वाले रास्ते पर एक छोटे-मोटे बैरिकेड लगाए गए थे और के कारण जो सूट था उस रूट को बंद कर दिल्ली के रूप में कम वेरी ग्रेट लगाए गए और वह जल्दी वहां से वह तोड़ने में सफल रहे और दिल्ली के अंदर घुस गए अब सवाल यह है किस रूट से भटकाने की कोशिश क्यों की गई दूसरा सवाल यह भी होता है सिर्फ एक व्यक्ति का नाम इस पूरे जो गणतंत्र दिवस पर कितनी है सिर्फ एक तो व्यक्ति का नाम इसमें शामिल हो रहा है यह किसान आंदोलनकारी नहीं थी किसान आंदोलन को बदनाम करने के लिए यह साजिश रची गई एक व्यक्ति जो ना किसान आंदोलन आंदोलन में था ना किसान रैली में था फिर भी वह डायरेक्ट लाल किला पहुंचता है और लाल किले में श्रीनगर के वहां से निकल जाता है आज तक उस पर कोई कार्यवाही नहीं की जाती है तो इस पर सवालिया निशान को उठना स्वाभाविक है तो मैं नहीं मानता कि यह गलती हुई है पर यह किसान आंदोलनकारी नहीं थी किसान तो नहीं सकते भाइयों ऐसा कभी नहीं कर सकते हमें बांटने की कोशिश की जा रही है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai ki kisaan aandolan ka ganatantr divas par dillee mein jo gundaagardee kar rahe hain kya yah sahee hai yah bilkul bhee sahee nahin hai kyonki yah ganatantr divas bhaarat ka ek bahut bada parv hai bhaarat kee aajaadee ka bahut bada parv hai aur is parv par desh ka apamaan karane ke raaja ham kisee ko nahin de sakate kyonki yah bhaarat kee samprabhuta ekata aur usakee ijjat aur us hamaare man mein bhaarat ka yah sab in cheejon ke kaaran hee hai to jo kuchh bhee na dillee mein jo hua jo bhee cheejen huee hai vah bahut hee galat hai sharmasaar karane vaalee hai par ham sirph ek pahaloo ko hee dekh pa rahe hain ham doosaree bahanon kee taraph bilkul bhee gaur nahin kar pa rahe hain jee kyon railee huee railee ke dauraan laal kile tak jo pradarshanakaaree pahunche laal kile mein jo kuchh bhee hua vah ham sabake saamane hai to savaal ye uthata hai ki jab laalakile tak jaane ka koee roothata hee nahin to shaan pradarshanakaaree vahaan tak kaise pahunche doosaree baat yah hai ki jo baat saamane aaee hai aur jo hamen bataee nahin ja rahee hai jin rooton se hokar kisaanon ko apana railee nikaalanee thee un rooton mein bairikets laga die gae the aur dillee kee taraph jaane vaale raaste par ek chhote-mote bairiked lagae gae the aur ke kaaran jo soot tha us root ko band kar dillee ke roop mein kam veree gret lagae gae aur vah jaldee vahaan se vah todane mein saphal rahe aur dillee ke andar ghus gae ab savaal yah hai kis root se bhatakaane kee koshish kyon kee gaee doosara savaal yah bhee hota hai sirph ek vyakti ka naam is poore jo ganatantr divas par kitanee hai sirph ek to vyakti ka naam isamen shaamil ho raha hai yah kisaan aandolanakaaree nahin thee kisaan aandolan ko badanaam karane ke lie yah saajish rachee gaee ek vyakti jo na kisaan aandolan aandolan mein tha na kisaan railee mein tha phir bhee vah daayarekt laal kila pahunchata hai aur laal kile mein shreenagar ke vahaan se nikal jaata hai aaj tak us par koee kaaryavaahee nahin kee jaatee hai to is par savaaliya nishaan ko uthana svaabhaavik hai to main nahin maanata ki yah galatee huee hai par yah kisaan aandolanakaaree nahin thee kisaan to nahin sakate bhaiyon aisa kabhee nahin kar sakate hamen baantane kee koshish kee ja rahee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
किसानों की कृषि कानूनों को सरकार से वापस लेने की जिद को आप कैसे समझते हैं?Kishano Ki Krishi Kanunon Ko Sarkar Se Vapas Lene Ki Jid Ko Aap Kaise Samajhte Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
2:53
नमस्कार जैसा की निधि जी आपका सवाल है कि किसानों की कृषि कानूनों को सरकार से वापस लेने की जिद को आप कैसे समझते हैं तो मैं इस गीत को जिद नहीं मानता यह किसानों का अधिकार है जो किसान आज से नहीं यह तीन कानून जो सरकार के द्वारा लाए गए यह किसान विरोधी कानून हैं और इन कानूनों के विरोध में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं इसे वापस लेने की मांग कर रहे हैं और जो 12 दौर की वार्ता किसान और सरकार के बीच में हुई है सभी किसान नेताओं के द्वारा सरकार को पॉइंट वाइज इन कानूनों गलतियां इन कानूनों के दुष्प्रभाव को बताया गया है और अगर किसान नेताओं की माने को सरकार के पास उनके इस सवालों का कोई जवाब नहीं था इसका मतलब यह है कि यह तीनों कानून किसान के विरोध में है किसान विरोधी हैं और किसान और कृषि को निचले स्तर पर लाने का काम करेंगे देखिए इन तीनों कृषि कानूनों को छोड़ें तो एमएसपी की गारंटी कृषि को अच्छा बनाने के लिए सरकार से किसान हमेशा मांग करते रहे हैं मोहन सालों से मांग करते रहे देखिए यह दो-तीन कृषि कानून है और किसानों के द्वारा एमएसपी की गारंटी की का मांग की जा रही है यहां मांग मेरे विचार में जो कि आपने मुझसे पूछा है यह मेरे विचार में बहुत ही जायज मांग रहे हैं क्योंकि आज अगर आप किसान केस और पढ़ना भी देखें तो किसान के चहेते किसान की कद्र करने वाले किसान के विचार रखने वाले या एक आम नागरिक की तरह भी सोचे तो इन कानूनों के दुष्प्रभाव अगर आप इन कानूनों को पढ़ें तो आपको पता चलेंगे देखिए जो भी आज से पहले तक किसान आंदोलन चल रहा था जो 26 तारीख की घटना हुई और जो उसके बाद कुछ घटनाएं हुई हैं वह आश्चर्यजनक तो है ही पर सरकार पर सवालिया निशान खड़ा करती है कि क्या सरकार किसानों के इस आंदोलन से डर गई है क्या किसानों की आवाज को दबाया जा रहा है अब तो मेरा यही निवेदन है और मैं यही समझता हूं कि यह तीनों कानून को रद्द करने की मांग बिल्कुल भी जायज है धन्यवाद
Namaskaar jaisa kee nidhi jee aapaka savaal hai ki kisaanon kee krshi kaanoonon ko sarakaar se vaapas lene kee jid ko aap kaise samajhate hain to main is geet ko jid nahin maanata yah kisaanon ka adhikaar hai jo kisaan aaj se nahin yah teen kaanoon jo sarakaar ke dvaara lae gae yah kisaan virodhee kaanoon hain aur in kaanoonon ke virodh mein kisaan pradarshan kar rahe hain ise vaapas lene kee maang kar rahe hain aur jo 12 daur kee vaarta kisaan aur sarakaar ke beech mein huee hai sabhee kisaan netaon ke dvaara sarakaar ko point vaij in kaanoonon galatiyaan in kaanoonon ke dushprabhaav ko bataaya gaya hai aur agar kisaan netaon kee maane ko sarakaar ke paas unake is savaalon ka koee javaab nahin tha isaka matalab yah hai ki yah teenon kaanoon kisaan ke virodh mein hai kisaan virodhee hain aur kisaan aur krshi ko nichale star par laane ka kaam karenge dekhie in teenon krshi kaanoonon ko chhoden to emesapee kee gaarantee krshi ko achchha banaane ke lie sarakaar se kisaan hamesha maang karate rahe hain mohan saalon se maang karate rahe dekhie yah do-teen krshi kaanoon hai aur kisaanon ke dvaara emesapee kee gaarantee kee ka maang kee ja rahee hai yahaan maang mere vichaar mein jo ki aapane mujhase poochha hai yah mere vichaar mein bahut hee jaayaj maang rahe hain kyonki aaj agar aap kisaan kes aur padhana bhee dekhen to kisaan ke chahete kisaan kee kadr karane vaale kisaan ke vichaar rakhane vaale ya ek aam naagarik kee tarah bhee soche to in kaanoonon ke dushprabhaav agar aap in kaanoonon ko padhen to aapako pata chalenge dekhie jo bhee aaj se pahale tak kisaan aandolan chal raha tha jo 26 taareekh kee ghatana huee aur jo usake baad kuchh ghatanaen huee hain vah aashcharyajanak to hai hee par sarakaar par savaaliya nishaan khada karatee hai ki kya sarakaar kisaanon ke is aandolan se dar gaee hai kya kisaanon kee aavaaj ko dabaaya ja raha hai ab to mera yahee nivedan hai aur main yahee samajhata hoon ki yah teenon kaanoon ko radd karane kee maang bilkul bhee jaayaj hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:44
कार जैसा कि प्रश्न है कि किसान आंदोलन की वास्तविकता क्या है क्यों सरकार और किसान के बीच बातचीत नहीं बन पा रही है तू मैं आपको बताना चाहता हूं कि किसान नेताओं और सरकार के बीच 11 दौर की बात इन 60 दिनों के आंदोलन में हो चुकी है पर किसी भी मीटिंग का कोई भी फायदा निकलकर सामने नहीं आया है इसका कारण सरकार का रियल रवैया है क्योंकि यह आंदोलन जिन शर्तों के साथ चालू हुआ था सरकार उन शर्तों को छोड़कर कोई अलग प्रस्ताव बनाने के लिए कोई अलग प्रस्ताव मनवाने के लिए सरकार प्रयासरत है और जैसा की विधित है कि किसान आंदोलन जिन दो प्रमुख मांगों के कारण चालू हुआ था सरकार का कोई भी ध्यान उस तरफ नहीं है और सरकार यह है कि वह इन तीनों कानूनों को किसी भी स्थिति में रद्द नहीं करेगी और ना ही एमएसपी गारंटी को लागू करें और भाई दूसरे प्रस्ताव होती कर किसानों को बहलाने की कोशिश कर रहे हैं यह कारण बहुत ही ठोस कारण है कि अभी तक किसान आंदोलन में सरकार और किसान के बीच बातचीत नहीं बन पा रही है धन्यवाद
Kaar jaisa ki prashn hai ki kisaan aandolan kee vaastavikata kya hai kyon sarakaar aur kisaan ke beech baatacheet nahin ban pa rahee hai too main aapako bataana chaahata hoon ki kisaan netaon aur sarakaar ke beech 11 daur kee baat in 60 dinon ke aandolan mein ho chukee hai par kisee bhee meeting ka koee bhee phaayada nikalakar saamane nahin aaya hai isaka kaaran sarakaar ka riyal ravaiya hai kyonki yah aandolan jin sharton ke saath chaaloo hua tha sarakaar un sharton ko chhodakar koee alag prastaav banaane ke lie koee alag prastaav manavaane ke lie sarakaar prayaasarat hai aur jaisa kee vidhit hai ki kisaan aandolan jin do pramukh maangon ke kaaran chaaloo hua tha sarakaar ka koee bhee dhyaan us taraph nahin hai aur sarakaar yah hai ki vah in teenon kaanoonon ko kisee bhee sthiti mein radd nahin karegee aur na hee emesapee gaarantee ko laagoo karen aur bhaee doosare prastaav hotee kar kisaanon ko bahalaane kee koshish kar rahe hain yah kaaran bahut hee thos kaaran hai ki abhee tak kisaan aandolan mein sarakaar aur kisaan ke beech baatacheet nahin ban pa rahee hai dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
भारत में पाँच सबसे सुंदर जगह कहाँ हैं और वहाँ का प्रसिद्ध देखने के लिए क्या हैं?Bharat Mein Paanch Sabse Sundar Jagah Kahan Hain Aur Vaha Ka Prasiddh Dekhne Ke Lie Kya Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:44
जैसा कि प्रश्न है भारत में पांच सबसे सुंदर जगह है कहां है और वहां का विशुद्ध देखने के लिए क्या है मैं आज आपको ऐसी पांच जगह कौन-कौन लोग की प्रसिद्ध देखने के स्थानों के बारे में बताऊंगा सबसे पहला स्थान सबसे पहला स्थान जो कि बहुत ही है वह है कसोल यहां हिमाचल प्रदेश में आता है और यह अपने हिल स्टेशनों के लिए काफी प्रसिद्ध है और यहां पर पार्वती नदी किस जगह और खूबसूरत बनाती है दूसरा है मसूरी यह बहुत खूबसूरत सेहत है और यह पर्वतों की रानी के नाम से जाना जाता है तीसरा है गोवा गोवा को हम सभी जानते हैं कि यहां पर अगर कम दाम में मौज मस्ती करें बुक माय बेस्ट फ्रेंड गोवा एक बेस्ट ऑप्शन हो सकता है गोवा अपनी मनमोहक समुद्र तटों के लिए दुनिया भर में मशहूर है इसके बाद आता है जयपुर में इसे हम पिंक सिटी में कहते हैं यहां के लोग शानदार महलों और शाही राजपूत विरासत को प्रदर्शित करता इसके बाद आता है सुनील गिरी गिरी की सुंदर पहाड़ियों में स्थित एक सुंदर शहर में इसका आधिकारिक नाम कोटक मंड है तथा पर्यटकों की सुविधा के लिए ऐसे उटी का संक्षिप्त नाम दिया गया है यहां भी अपने हिल स्टेशनों के काफी मशहूर है पहले
Jaisa ki prashn hai bhaarat mein paanch sabase sundar jagah hai kahaan hai aur vahaan ka vishuddh dekhane ke lie kya hai main aaj aapako aisee paanch jagah kaun-kaun log kee prasiddh dekhane ke sthaanon ke baare mein bataoonga sabase pahala sthaan sabase pahala sthaan jo ki bahut hee hai vah hai kasol yahaan himaachal pradesh mein aata hai aur yah apane hil steshanon ke lie kaaphee prasiddh hai aur yahaan par paarvatee nadee kis jagah aur khoobasoorat banaatee hai doosara hai masooree yah bahut khoobasoorat sehat hai aur yah parvaton kee raanee ke naam se jaana jaata hai teesara hai gova gova ko ham sabhee jaanate hain ki yahaan par agar kam daam mein mauj mastee karen buk maay best phrend gova ek best opshan ho sakata hai gova apanee manamohak samudr taton ke lie duniya bhar mein mashahoor hai isake baad aata hai jayapur mein ise ham pink sitee mein kahate hain yahaan ke log shaanadaar mahalon aur shaahee raajapoot viraasat ko pradarshit karata isake baad aata hai suneel giree giree kee sundar pahaadiyon mein sthit ek sundar shahar mein isaka aadhikaarik naam kotak mand hai tatha paryatakon kee suvidha ke lie aise utee ka sankshipt naam diya gaya hai yahaan bhee apane hil steshanon ke kaaphee mashahoor hai pahale

#भारत की राजनीति

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
2:57
नमस्कार जैसा कि भ्रष्ट है कि कानून पर 1 साल के लिए आरोप लगाकर सुप्रीम कोर्ट ने किसानों को गुमराह करने की कोशिश की तो देखिए जहां तक मेरी जानकारी है तो सुप्रीम कोर्ट ने 6 महीने के लिए कृषि कानूनों को सस्पेंड किया है अब यह बात की क्या सुप्रीम कोर्ट ने किसानों को गुमराह करने की कोशिश की तो सुप्रीम कोर्ट देश की सर्वोच्च संस्था है हमारा सबसे बड़ा न्यायिक संस्था जो है वह सुप्रीम कोर्ट है वह हमें उस पर विश्वास रखना चाहिए हम इतना बड़ा इल्जाम जो है हम उस पर नहीं लगा सकते हो कि उन्होंने किसानों को गुमराह किया है उनके हाथ में जो चीजें थी उन्होंने वही किया वह कृषि कानूनों को सिर्फ सस्पेंड कर सकते हैं निरस्त नहीं तो उन्होंने वही काम किया 6 महीने के लिए कृषि कानूनों को सस्पेंड किया पर जहां तक बात है कि सुप्रीम कोर्ट ने 6 महीने के लिए सस्पेंड कर और इन कृषि कानूनों के लिए समिति का गठन किया है समिति का गठन कुछ सवाल ग्रेड का सुप्रीम कोर्ट के द्वारा ऐसे लोगों को उस कमेटी में रखा गया जिन लोगों ने हमेशा कृषि कानूनों को सराहा है कृषि कानूनों की तारीफें की कृषि कानूनों का हमेशा साथ या उनमें से एक व्यक्ति ऐसे हैं जो कृषि कानूनों कृषि कानून कमेटी की सिफारिश से बनाए गए उस कमेटी में भी थे तो जो कृषि कानूनों को बनाने वाले कमेटी में उपस्थित थे उस आदमी को कृषि कानूनों के पक्ष में जो किसान खड़े हैं उन्हें बात करने के लिए भेजा जाता है आप सोच सकते हैं कि वह व्यक्ति जो किसी चीज को सत्य मान चुका है और वह हमेशा उस चीज को दोहरा रहा है वह कैसे सचेतक हो सकता है तो सुप्रीम कोर्ट के बाद बहुत घटाने वाली समिति के एक सदस्य ने इस्तीफा दे दिया बुझा कुल मिलाकर वह समिति से हट गए उनका कहना था कि मैं कृषि और किसानों के हितों की रक्षा के लिए हमेशा मानता रहूंगा विश्वासघात नहीं कर सकता यही उस समिति पर सवाल खड़ा करता है क्या वह समिति किसानों के दो उपयोग किसानों की भलाई के लिए नहीं बनाई गई तो एक बात यह भी है कि सुप्रीम कोर्ट ने थोड़ा किसानों के को गुमराह करने की कोशिश तो की है
Namaskaar jaisa ki bhrasht hai ki kaanoon par 1 saal ke lie aarop lagaakar supreem kort ne kisaanon ko gumaraah karane kee koshish kee to dekhie jahaan tak meree jaanakaaree hai to supreem kort ne 6 maheene ke lie krshi kaanoonon ko saspend kiya hai ab yah baat kee kya supreem kort ne kisaanon ko gumaraah karane kee koshish kee to supreem kort desh kee sarvochch sanstha hai hamaara sabase bada nyaayik sanstha jo hai vah supreem kort hai vah hamen us par vishvaas rakhana chaahie ham itana bada iljaam jo hai ham us par nahin laga sakate ho ki unhonne kisaanon ko gumaraah kiya hai unake haath mein jo cheejen thee unhonne vahee kiya vah krshi kaanoonon ko sirph saspend kar sakate hain nirast nahin to unhonne vahee kaam kiya 6 maheene ke lie krshi kaanoonon ko saspend kiya par jahaan tak baat hai ki supreem kort ne 6 maheene ke lie saspend kar aur in krshi kaanoonon ke lie samiti ka gathan kiya hai samiti ka gathan kuchh savaal gred ka supreem kort ke dvaara aise logon ko us kametee mein rakha gaya jin logon ne hamesha krshi kaanoonon ko saraaha hai krshi kaanoonon kee taareephen kee krshi kaanoonon ka hamesha saath ya unamen se ek vyakti aise hain jo krshi kaanoonon krshi kaanoon kametee kee siphaarish se banae gae us kametee mein bhee the to jo krshi kaanoonon ko banaane vaale kametee mein upasthit the us aadamee ko krshi kaanoonon ke paksh mein jo kisaan khade hain unhen baat karane ke lie bheja jaata hai aap soch sakate hain ki vah vyakti jo kisee cheej ko saty maan chuka hai aur vah hamesha us cheej ko dohara raha hai vah kaise sachetak ho sakata hai to supreem kort ke baad bahut ghataane vaalee samiti ke ek sadasy ne isteepha de diya bujha kul milaakar vah samiti se hat gae unaka kahana tha ki main krshi aur kisaanon ke hiton kee raksha ke lie hamesha maanata rahoonga vishvaasaghaat nahin kar sakata yahee us samiti par savaal khada karata hai kya vah samiti kisaanon ke do upayog kisaanon kee bhalaee ke lie nahin banaee gaee to ek baat yah bhee hai ki supreem kort ne thoda kisaanon ke ko gumaraah karane kee koshish to kee hai

#भारत की राजनीति

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:51
स्कार जैसा कि प्रश्न है किसान आंदोलन में लगभग 150 किसानों की मृत्यु का जिम्मेदार आप किसे मानते हैं देखें हम इन 150 किसानों की मृत्यु का जिम्मेदार सिर्फ सरकार को ही मान सकते हैं क्योंकि यह आंदोलन सरकार के विरोध में नहीं इन कृषि कानूनों के विरोध में हो रहा है और जो कृषि कानून संसद के द्वारा सरकार ने ही बनवाए हैं और यह कानून सरकार के द्वारा ही बनाए गए हैं इस कारण किसान इन तीनों कानूनों से असंतुष्ट हैं और वह दिल्ली की ओर कूच कर रहे थे पर दिल्ली की सीमाओं पर उन्हें रोका गया जिससे कि वह दिल्ली की सीमाओं पर ही आज 55 से ज्यादा दिन हो चुके हैं इतनी ठंड इतनी सर्दी के बावजूद भी वह दिल्ली के सीमाओं पर डटे हुए और कहा जा रहा है कि 150 किसान शहीद हो चुकी है कहीं ना कहीं इसका जिम्मेदार सरकार को भी ठहराया जा सकता है क्योंकि आज 55 से ज्यादा दिन सही किसान आंदोलन चल रहा है 11 दौर की बातें सरकार और किसान संगठन के बीच हो चुकी है तो सरकार किसानों को कन्वेंस करने में क्यों असफल रही सरकार का कोई भी नेता या मंत्री ग्राउंड में जाकर उन किसानों से बातचीत क्यों नहीं कर पाया उन्हें क्यों नहीं बना पाया उनके शिकायतों को जो दूर नहीं कर पाया तो एक तरफ तो इसमें सरकार भी जिम्मेदार है धन्यवाद
Skaar jaisa ki prashn hai kisaan aandolan mein lagabhag 150 kisaanon kee mrtyu ka jimmedaar aap kise maanate hain dekhen ham in 150 kisaanon kee mrtyu ka jimmedaar sirph sarakaar ko hee maan sakate hain kyonki yah aandolan sarakaar ke virodh mein nahin in krshi kaanoonon ke virodh mein ho raha hai aur jo krshi kaanoon sansad ke dvaara sarakaar ne hee banavae hain aur yah kaanoon sarakaar ke dvaara hee banae gae hain is kaaran kisaan in teenon kaanoonon se asantusht hain aur vah dillee kee or kooch kar rahe the par dillee kee seemaon par unhen roka gaya jisase ki vah dillee kee seemaon par hee aaj 55 se jyaada din ho chuke hain itanee thand itanee sardee ke baavajood bhee vah dillee ke seemaon par date hue aur kaha ja raha hai ki 150 kisaan shaheed ho chukee hai kaheen na kaheen isaka jimmedaar sarakaar ko bhee thaharaaya ja sakata hai kyonki aaj 55 se jyaada din sahee kisaan aandolan chal raha hai 11 daur kee baaten sarakaar aur kisaan sangathan ke beech ho chukee hai to sarakaar kisaanon ko kanvens karane mein kyon asaphal rahee sarakaar ka koee bhee neta ya mantree graund mein jaakar un kisaanon se baatacheet kyon nahin kar paaya unhen kyon nahin bana paaya unake shikaayaton ko jo door nahin kar paaya to ek taraph to isamen sarakaar bhee jimmedaar hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
हमारे देश की कितनी जनता का व्यवसाय कृषि है?Kitni Janta Ka Vyavsaay Krshi Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:22
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि हमारे देश की कितनी जनसंख्या का व्यवसाय कृषि है मैं आपको बताना चाहता हूं कि भारत कृषि प्रधान देश है और यहां के लगभग 70 परसेंट जनसंख्या का व्यवसाय कृषि है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki hamaare desh kee kitanee janasankhya ka vyavasaay krshi hai main aapako bataana chaahata hoon ki bhaarat krshi pradhaan desh hai aur yahaan ke lagabhag 70 parasent janasankhya ka vyavasaay krshi hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
सोडियम को केरोसिन में डुबोकर क्यों रखा जाता है?Sodium Ko Kerosene Mein Dubokar Kyun Rakha Jata Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:59
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि सोडियम को केरोसिन में डुबोकर क्यों रखा जाता है तो सोडियम को केरोसिन में इसकी सोडियम ऑक्सीजन और नवमी के संपर्क में ना आए सोडियम अत्याधिक क्रियाशील धातु है न्यूयॉर्क से धन से पल भर में क्या करती है सोडियम अत्यधिक क्रियाशील होती है इसे खुला रखा जाए तो यह हवा में मौजूद ऑक्सीजन कार्बन डाइऑक्साइड और नमी के साथ विशेष रूप से अभिक्रिया करता है और तुरंत आग पकड़ कर चलना शुरू कर दी विस्फोटक प्रतिक्रिया को रोकने के लिए सोडियम को मिट्टी के तेल यानी केरोसिन में डुबोकर रखा जाता है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki sodiyam ko kerosin mein dubokar kyon rakha jaata hai to sodiyam ko kerosin mein isakee sodiyam okseejan aur navamee ke sampark mein na aae sodiyam atyaadhik kriyaasheel dhaatu hai nyooyork se dhan se pal bhar mein kya karatee hai sodiyam atyadhik kriyaasheel hotee hai ise khula rakha jae to yah hava mein maujood okseejan kaarban daioksaid aur namee ke saath vishesh roop se abhikriya karata hai aur turant aag pakad kar chalana shuroo kar dee visphotak pratikriya ko rokane ke lie sodiyam ko mittee ke tel yaanee kerosin mein dubokar rakha jaata hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
पीतल में किन किन धातुओं का मिश्रण होता है?Peetal Mein Kin Dhatuon Ka Mishran Hota Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:23
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है पीतल में किन किन धातुओं का मिश्रण होता है तो पीतल एक प्रमुख मिश्र धातु है और यह तांबा धातु और जिंक धातु दोनों के मिश्रण से मिलकर पीतल का निर्माण होता है धन्य
Namaskaar jaisa ki prashn hai peetal mein kin kin dhaatuon ka mishran hota hai to peetal ek pramukh mishr dhaatu hai aur yah taamba dhaatu aur jink dhaatu donon ke mishran se milakar peetal ka nirmaan hota hai dhany

#जीवन शैली

bolkar speaker
हम ठंड में उनी कपड़े क्यों पहनते हैं?Hum Thand Mein Unee Kapde Kyun Pehnte Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:06
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है हम ठंड में ऊनी कपड़े क्यों पहनते हैं तो ठंड का मौसम या सर्दी का मौसम आते ही हम गर्म या ऊनी कपड़े पहनना शुरू कर देते हैं इसका क्या कारण है इसका वैज्ञानिक कारण क्या है कि उन ऊष्मा की कुचालक होती है तथा इसके देशों के बीच बहुत सारी हवा बंद हो जाती है हवा उनसे भी अधिक ऊष्मा की कुचालक होती है इसलिए हमारे शरीर में पैदा होने वाले ऊष्मा अधिक मात्रा से बाहर नहीं निकल पाती है उनके वस्त्र और शरीर के बीच में वायु की परत होने के कारण भी शरीर से ऊष्मा बाहर नहीं निकल पाती इसलिए ऊनी कपड़े पहनने से गर्मी का एहसास होता है और इसी कारण ठंड में अपने कपड़े पहनते हैं धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ham thand mein oonee kapade kyon pahanate hain to thand ka mausam ya sardee ka mausam aate hee ham garm ya oonee kapade pahanana shuroo kar dete hain isaka kya kaaran hai isaka vaigyaanik kaaran kya hai ki un ooshma kee kuchaalak hotee hai tatha isake deshon ke beech bahut saaree hava band ho jaatee hai hava unase bhee adhik ooshma kee kuchaalak hotee hai isalie hamaare shareer mein paida hone vaale ooshma adhik maatra se baahar nahin nikal paatee hai unake vastr aur shareer ke beech mein vaayu kee parat hone ke kaaran bhee shareer se ooshma baahar nahin nikal paatee isalie oonee kapade pahanane se garmee ka ehasaas hota hai aur isee kaaran thand mein apane kapade pahanate hain dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
स्वर किसे कहते हैं?Swar Kise Kehte Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:24
घर जैसा कि प्रश्न है स्वर्ग किसे कहते हैं स्वर उन ध्वनियों को कहते हैं जो बिना किसी अन्य वर्णों की सहायता की उच्चारित की जाती है स्वतंत्र रूप से बोले जाने वाले वर्ड स्वर कहलाते हैं हिंदी भाषा में मूल रूप से 11 स्वर होते हैं धन्यवाद
Ghar jaisa ki prashn hai svarg kise kahate hain svar un dhvaniyon ko kahate hain jo bina kisee any varnon kee sahaayata kee uchchaarit kee jaatee hai svatantr roop se bole jaane vaale vard svar kahalaate hain hindee bhaasha mein mool roop se 11 svar hote hain dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
अक्षर Y vowel है या consonant हैं?Y Vowel Hai Ya Consonant Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:30
नमस्कार जैसा की प्रश्न है अक्षर बाय बोरवेल है या कॉन्सोनेंट है तो इसका जवाब यह है कि अक्षर बाय कॉन्सोनेंट है क्योंकि वो बिल 5 होते हैं ए ई आई ओ यू बाकी के बचे हुए सभी अक्षर कौन सा नेट चलाते हैं इस प्रकार बाय कौन सा नेट होता है धन्य
Namaskaar jaisa kee prashn hai akshar baay boravel hai ya konsonent hai to isaka javaab yah hai ki akshar baay konsonent hai kyonki vo bil 5 hote hain e ee aaee o yoo baakee ke bache hue sabhee akshar kaun sa net chalaate hain is prakaar baay kaun sa net hota hai dhany

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
इंसान का रंग अलग अलग क्यों है?Insan Ka Rang Alag Alag Kyu Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:08
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि इंसान का रंग अलग अलग होता है तो आज हम इसका कारण जाएंगे कि इंसान कारण अलग-अलग क्यों आए तो जब सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में है या सूर्य के प्रकाश में उपस्थित पराबैगनी किरणे जब हमारे शरीर में पढ़ती है तो शरीर के ऊतकों द्वारा अधिक मेलानिन बनने लगता है और शरीर के द्वारा अधिक महिला बनने की वजह से शरीर का रंग काला या गेहुआ हो जाता है जबकि ठंडे स्थानों पर विपरीत होता है ठंडे स्थानों पर रहने वाले लोगों के शरीर में मैंने मेलानिन की मात्रा कम पाई जाती है जिसके कारण वहां के लोग गोरे यही कारण है कि अलग-अलग रंग इंसानों में होते हैं धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki insaan ka rang alag alag hota hai to aaj ham isaka kaaran jaenge ki insaan kaaran alag-alag kyon aae to jab soory ke prakaash kee upasthiti mein hai ya soory ke prakaash mein upasthit paraabaiganee kirane jab hamaare shareer mein padhatee hai to shareer ke ootakon dvaara adhik melaanin banane lagata hai aur shareer ke dvaara adhik mahila banane kee vajah se shareer ka rang kaala ya gehua ho jaata hai jabaki thande sthaanon par vipareet hota hai thande sthaanon par rahane vaale logon ke shareer mein mainne melaanin kee maatra kam paee jaatee hai jisake kaaran vahaan ke log gore yahee kaaran hai ki alag-alag rang insaanon mein hote hain dhanyavaad

#खेल कूद

bolkar speaker
किस गैस को जीवनदायिनी गैस कहा जाता है?Kis Gas Ko Jeevandayini Gas Kaha Jata Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:28
जैसा कि प्रश्न है किस गैस को जीवन भाई ने क्या कहा जाता है तो ऑक्सीजन गैस को जीवनदाई में गैस कहा जाता है क्योंकि मनुष्य उसे ग्रहण करता है और कार्बन डाइऑक्साइड गैस को छोड़ता है इसलिए मनुष्य के लिए ऑक्सीजन एक जीवनदायिनी गैस है उसका जीवन ऑक्सीजन पर ही निर्भर करता है धन्यवाद
Jaisa ki prashn hai kis gais ko jeevan bhaee ne kya kaha jaata hai to okseejan gais ko jeevanadaee mein gais kaha jaata hai kyonki manushy use grahan karata hai aur kaarban daioksaid gais ko chhodata hai isalie manushy ke lie okseejan ek jeevanadaayinee gais hai usaka jeevan okseejan par hee nirbhar karata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:24
कार कृष्ण भारत के प्रधानमंत्री कौन है तो भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी है जो कि बीजेपी पार्टी के हैं और उनका दूसरा कार्यकाल अभी चल रहा है भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदर मोदी जी हैं
Kaar krshn bhaarat ke pradhaanamantree kaun hai to bhaarat ke pradhaanamantree shree narendr modee jee hai jo ki beejepee paartee ke hain aur unaka doosara kaaryakaal abhee chal raha hai bhaarat ke pradhaanamantree shree narendr daamodar modee jee hain

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
आवेश का विमीय सूत्र क्या है?Aawesh Ka Vimiy Sutra Kya Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:25
नमस्कार कृष्ण है ऑफिस का विमीय सूत्र क्या है तो आवेश का एस आई पद्धति में मात्रक कूलाम का नियम और विद्युत आवेश का विमीय सूत्र एम0 एल0 11 होता है धन्यवाद
Namaskaar krshn hai ophis ka vimeey sootr kya hai to aavesh ka es aaee paddhati mein maatrak koolaam ka niyam aur vidyut aavesh ka vimeey sootr ema0 ela0 11 hota hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कौन से बर्तन में पानी पीना हर व्यक्ति के लिए लाभदायक होता है?Kaun Se Bartan Mein Pani Peena Har Vyakti Ke Lie Labhdayak Hota Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:54
नमस्कार जैसा की फिल्म है कि कौन से बर्तन में पानी पीना हर व्यक्ति के लिए लाभदायक होता है तो तांबे के बर्तन में पानी रखते हैं उसे तांबे के सारे गुण पानी में आ जाते हैं यह पानी ना केवल स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है बल्कि खूबसूरती बढ़ाने में भी मददगार होता है खाना खाने के बाद अपच का हो जाना एक आम बात है तांबे के बर्तन में रखें पानी को पीने से कब्ज गैस कौन अपच की समस्या से आराम मिलता है इसका मतलब कि तांबे के बर्तन में रखें पानी को पीने से हर व्यक्ति के लिए लाभ ही लाभ है वह हर व्यक्ति के लिए लाभदायक है धन्यवाद
Namaskaar jaisa kee philm hai ki kaun se bartan mein paanee peena har vyakti ke lie laabhadaayak hota hai to taambe ke bartan mein paanee rakhate hain use taambe ke saare gun paanee mein aa jaate hain yah paanee na keval svaasthy ke lie achchha hota hai balki khoobasooratee badhaane mein bhee madadagaar hota hai khaana khaane ke baad apach ka ho jaana ek aam baat hai taambe ke bartan mein rakhen paanee ko peene se kabj gais kaun apach kee samasya se aaraam milata hai isaka matalab ki taambe ke bartan mein rakhen paanee ko peene se har vyakti ke lie laabh hee laabh hai vah har vyakti ke lie laabhadaayak hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
कबीर ने किस का चिंतन करने को कहा है?Kabir Ne Kis Ka Chintan Karne Ko Kaha Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:20
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि कबीर ने किस का चिंतन करने को कहा है कबीर जी भक्ति काल की ज्ञानेश्वरी शाखा के लिए निरमा धारा के कवि हैं और उन्होंने हरि नाम का कीर्तन और चिंतन करने को कहा है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki kabeer ne kis ka chintan karane ko kaha hai kabeer jee bhakti kaal kee gyaaneshvaree shaakha ke lie nirama dhaara ke kavi hain aur unhonne hari naam ka keertan aur chintan karane ko kaha hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
खट्टा शहद कहां पाया जाता है?Khatta Shahad Kahan Paya Jata Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:38
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है खट्टा शहद कहां पाया जाता है तो मीठे सेहत के बारे में तो हम सभी जानते हैं सभी ने मिलकर को देखा भी होगा और आपको पता भी है कि दुनिया में एक ऐसा देश है जहां पर खट्टा शहद भी पाया जाता है तो हम उस देश के बारे में जानना चाहते हैं तो वह देश ब्राजील है ब्राजील देश के जंगलों में खड्डा शहद पाया जाता है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai khatta shahad kahaan paaya jaata hai to meethe sehat ke baare mein to ham sabhee jaanate hain sabhee ne milakar ko dekha bhee hoga aur aapako pata bhee hai ki duniya mein ek aisa desh hai jahaan par khatta shahad bhee paaya jaata hai to ham us desh ke baare mein jaanana chaahate hain to vah desh braajeel hai braajeel desh ke jangalon mein khadda shahad paaya jaata hai dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
kGF चैप्टर 2 में संजय दत्त की क्या भूमिका है?Kgf Chapter 2 Mein Sanjay Datt Ki Kya Bhumika Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:37
कार जैसा कि सवाल है कि केजीएफ चैप्टर 2 में संजय दत्त की क्या भूमिका है तो केजीएफ चैप्टर 2 में संजय दत्त विलेन का रोल निभा रहे हैं और उनके किरदार का नाम अधूरा है इस शेड्यूल की शूटिंग दिसंबर के महीने में ही खत्म हो गई है फिल्मों में यस और संजय दत्त के अलावा रवीना टंडन भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती नजर आ रही है धन्यवाद
Kaar jaisa ki savaal hai ki kejeeeph chaiptar 2 mein sanjay datt kee kya bhoomika hai to kejeeeph chaiptar 2 mein sanjay datt vilen ka rol nibha rahe hain aur unake kiradaar ka naam adhoora hai is shedyool kee shooting disambar ke maheene mein hee khatm ho gaee hai philmon mein yas aur sanjay datt ke alaava raveena tandan bhee ek mahatvapoorn bhoomika nibhaatee najar aa rahee hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
सूर्य की किरणें धरती पर कितने देर तक पहुंचती है?Surya Ki Kirne Dharti Par Kitne Der Tak Paunchti Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:24
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि सूर्य की किरणें धरती पर कितनी देर में पहुंचती है तो इसका उत्तर यह है कि सूर्य की किरणों को पृथ्वी पर पहुंचने के लिए 8 मिनट 22 सेकंड का समय लगता है अर्थात 8 मिनट बाद 22 सेकंड में सूर्य की किरणें पृथ्वी पर पहुंच जाती है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki soory kee kiranen dharatee par kitanee der mein pahunchatee hai to isaka uttar yah hai ki soory kee kiranon ko prthvee par pahunchane ke lie 8 minat 22 sekand ka samay lagata hai arthaat 8 minat baad 22 sekand mein soory kee kiranen prthvee par pahunch jaatee hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या वाकई बादाम खाने से याददाश्त बढ़ती है?Kya Vakayi Badam Khane Se Yaadarsht Badhti Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:36
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि क्या वाकई बादाम खाने से याददाश्त बढ़ती है तो बादाम एक एंटीऑक्सीडेंट भी होती है और यह किस रूप में शरीर के खून में से फ्री रेडिकल्स को दूर करके खून को साफ रखता है जिससे हमारा दिमाग सही रूप में काम करने के लायक है बना रहता है और याददाश्त भी कमजोर होने का खतरा नहीं होता इसका जवाब यही है कि हां याददाश्त में बादाम खाने से बढ़ती है
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki kya vaakee baadaam khaane se yaadadaasht badhatee hai to baadaam ek enteeokseedent bhee hotee hai aur yah kis roop mein shareer ke khoon mein se phree redikals ko door karake khoon ko saaph rakhata hai jisase hamaara dimaag sahee roop mein kaam karane ke laayak hai bana rahata hai aur yaadadaasht bhee kamajor hone ka khatara nahin hota isaka javaab yahee hai ki haan yaadadaasht mein baadaam khaane se badhatee hai

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
विश्व में ऐसा कौन सा देश है जहां एक भी खेत नहीं है?Vishv Mein Aisa Kaun Sa Desh Hai Jah Ek Bhe Khet Nahin Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:20
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है विश्व में ऐसा कौन सा देश है जहां एक भी खेत नहीं है इसका जवाब यह है कि विश्व का सिंगापुर सिंगापुर ऐसा देश है जहां पर एक भी खेत नहीं है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai vishv mein aisa kaun sa desh hai jahaan ek bhee khet nahin hai isaka javaab yah hai ki vishv ka singaapur singaapur aisa desh hai jahaan par ek bhee khet nahin hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने भारत का दौरा रद्द क्यों किया?Britian Ke Pradhanmantri Ne Bharat Ka Daura Radd Kyun Kiya
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:57
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने भारत का दौरा रद्द और नियम तो ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को गणतंत्र दिवस के तौर पर मुख्य अतिथि के रूप में भारत में आमंत्रित किया गया था लेकिन ब्रिटेन में तेजी से फैल रही कोरोनावायरस के नए स्टैंड के चलते जॉनसन ने अपने इस दौरे को रद्द कर दिया है तेजी से फैल रहे कोरोनावायरस के नए स्टैंड के चलते ब्रिटेन में एक बार फिर अतुल लॉकडाउन लगाया गया है और प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को कहा कि संक्रमण जितनी तेजी से फैल रहा है वह बहुत दुखी करने वाला और चिंताजनक है और किसी के कारण वह भारत आने में असमर्थ हैं धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai ki briten ke pradhaanamantree ne bhaarat ka daura radd aur niyam to briten ke pradhaanamantree boris jonasan ko ganatantr divas ke taur par mukhy atithi ke roop mein bhaarat mein aamantrit kiya gaya tha lekin briten mein tejee se phail rahee koronaavaayaras ke nae staind ke chalate jonasan ne apane is daure ko radd kar diya hai tejee se phail rahe koronaavaayaras ke nae staind ke chalate briten mein ek baar phir atul lokadaun lagaaya gaya hai aur pradhaanamantree boris jonasan ne mangalavaar ko kaha ki sankraman jitanee tejee se phail raha hai vah bahut dukhee karane vaala aur chintaajanak hai aur kisee ke kaaran vah bhaarat aane mein asamarth hain dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
एक विद्यार्थी का जीवन कैसा होना चाहिए?Ek Vidyarthi Ka Jeevan Kaisa Hona Chaiye
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:18
मुस्कान जैसा कि प्रश्न है कि एक विद्यार्थी का जीवन कैसा होना चाहिए एक विद्यार्थी का जीवन सरल सहज और कुछ ग्रहण करने वाला होना चाहिए ज्ञान होना चाहिए उसे जहां से भी किसी भी प्रकार की चीज़ सीखने को मिले वह सीखने वाला होना चाहिए ना की जानकारी होना चाहिए कि कोई लंबा व्यक्ति को हमसे छोटा आदमी हमें कौन दिखा रहा है कोई हमारे अमीरी और दूसरा कोई गरीब है में कुछ खाना है तो हम उसे नाशिक है यह विद्यार्थी के ऊपर लागू नहीं होता विद्यार्थियों को गरीब हो चाहे अमीर व है सीखने वाला होता है वह किसी से भी सीखें तू बैठ जाती है मां सरल स्वभाव वाला होता है मूल स्वभाव वाला विनम्र स्वभाव वाला पाई जाती है और उनकी हूं चीजों को अपने जीवन में उतारे और उसे अपने व्यवहार और अपनी शिक्षा अपने ज्ञान से दूसरों का भला करें वही विद्यार्थी हैं जो एक विद्यार्थी का जीवन संभव मदद करने वाला संस्कारी और सीखने वाला होना चाहिए धन्यवाद
Muskaan jaisa ki prashn hai ki ek vidyaarthee ka jeevan kaisa hona chaahie ek vidyaarthee ka jeevan saral sahaj aur kuchh grahan karane vaala hona chaahie gyaan hona chaahie use jahaan se bhee kisee bhee prakaar kee cheez seekhane ko mile vah seekhane vaala hona chaahie na kee jaanakaaree hona chaahie ki koee lamba vyakti ko hamase chhota aadamee hamen kaun dikha raha hai koee hamaare ameeree aur doosara koee gareeb hai mein kuchh khaana hai to ham use naashik hai yah vidyaarthee ke oopar laagoo nahin hota vidyaarthiyon ko gareeb ho chaahe ameer va hai seekhane vaala hota hai vah kisee se bhee seekhen too baith jaatee hai maan saral svabhaav vaala hota hai mool svabhaav vaala vinamr svabhaav vaala paee jaatee hai aur unakee hoon cheejon ko apane jeevan mein utaare aur use apane vyavahaar aur apanee shiksha apane gyaan se doosaron ka bhala karen vahee vidyaarthee hain jo ek vidyaarthee ka jeevan sambhav madad karane vaala sanskaaree aur seekhane vaala hona chaahie dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत में कितने प्रतिशत जंगल हैं?Bharat Mein Kitne Pratishat Jungle Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:45
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है भारत में कितने प्रतिशत जंगल है तो भारत में 21 पॉइंट सिक्स सेवन पर्सेंट भूमि पर वन आवरण है जो कि 712149 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है 2017 की रिपोर्ट में यह 21 पॉइंट 57 परसेंट था जो कि 708273 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ था आज की स्थिति में भारत की 21 पॉइंट सिक्स सेवन पर्सेंट भूमि पर वन आवरण है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai bhaarat mein kitane pratishat jangal hai to bhaarat mein 21 point siks sevan parsent bhoomi par van aavaran hai jo ki 712149 varg kilomeetar mein phaila hua hai 2017 kee riport mein yah 21 point 57 parasent tha jo ki 708273 varg kilomeetar mein phaila hua tha aaj kee sthiti mein bhaarat kee 21 point siks sevan parsent bhoomi par van aavaran hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत के अनाज उगाने वाले किसान मुसीबत से जूझ रहे हैं ऐसा क्यों?Bharat Ke Anaj Ugane Vale Kisan Musibat Se Jujh Rahe Hain Aisa Kyun
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
2:53
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है भारत के अनाज उगाने वाले किसान मुसीबत से जूझ रहे हैं ऐसा क्यों मैं आपको बताना चाहता हूं कि 2 महीने की बात है जब पंजाब से किसान बातचीत करने के लिए दिल्ली की ओर अग्रसर कोई दिल्ली आते हुए उन्हें रोका गया और उनकी बातों को ना सुनकर उन्हें घोषित किया गया जिसके कारण आज वो आंदोलनरत हैं और बहुत बड़ी संख्या में दिल्ली की सभी बोलेरो पर एकत्रित होकर आंदोलन कर रहे हैं उनकी मांगे हैं उनकी मुक्ता जो मांगे हैं और दो अलग मांगो वह तीनों कानून को रद्द करने की उम्र के बाद और एमएसपी को ग्रंटेड बनाने की बात ही उनके मुख चंद्र होते हैं जिनके कारण वह आज आंदोलन कर रहे भारत का किसान सड़क पर है इतनी मुसीबत से जूझ रहा है बरसात थी वहां पर हो रही है ठंड का भी मौसम है तो किसी विकट परिस्थितियों में बैठा हुआ है अपनी मांगों को मानने के लिए नहीं वहां पर डटा हुआ है आज मैं आपको बताना चाहता हूं कि आज 7:00 से आज बैठकर किसानों की सरकारों के साथ हूं उसका कोई भी रिजल्ट अभी तक नहीं निकला सिर्फ दो छोटी मांगों को मानकर किसानों को लॉलीपॉप दिया गया जिससे कि किसान नाखुश हैं साथ बैठकों में कोई भी ऐसा कुछ भी निर्णय निकलकर सामने नहीं आया सिर्फ किसान नेताओं के द्वारा कही गई बात यह है कि सरकार उन्हें लॉलीपॉप दे रही है सरकार बार-बार यह अहसास करा रही है कि वह तीनों कानून सही है जबकि किसान नेताओं के द्वारा कहीं गए तथ्य उनके एग्जांपल किए हैं तीनों कानून किस तरह किसानों के लिए नुकसानदायक है और भारत के लिए बहुत खतरनाक तब जब वह मीटिंग में इस बात को रखते हैं तो सरकार के अधिकारी और सरकार के मंत्रियों के पास कोई भी जवाब नहीं होता बस जब वह मीटिंग से बाहर आते हैं तो सरकार के मंत्री और सरकार के नेता सरकारी कर्मचारी और सरकार किसकी सरकार है उन सरकार के कार्यकाल आप सभी को यह बताने लग जा रहे हैं किसान मूर्ख सिवा किसी और पार्टी के बहकावे में आ गए हैं तो सबसे बड़ी आज मुसीबत यही है कि सरकार किसानों के पक्ष में है सरकार किसानों की बातों को नजरअंदाज कर रही है क्योंकि वह अपनी पार्टी को मजबूत रखना चाहती है अपनी पार्टी की सरकार को बनाए रखना चाहती है और अपने आप को बहुत बड़ा बताना चाहती है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai bhaarat ke anaaj ugaane vaale kisaan museebat se joojh rahe hain aisa kyon main aapako bataana chaahata hoon ki 2 maheene kee baat hai jab panjaab se kisaan baatacheet karane ke lie dillee kee or agrasar koee dillee aate hue unhen roka gaya aur unakee baaton ko na sunakar unhen ghoshit kiya gaya jisake kaaran aaj vo aandolanarat hain aur bahut badee sankhya mein dillee kee sabhee bolero par ekatrit hokar aandolan kar rahe hain unakee maange hain unakee mukta jo maange hain aur do alag maango vah teenon kaanoon ko radd karane kee umr ke baad aur emesapee ko granted banaane kee baat hee unake mukh chandr hote hain jinake kaaran vah aaj aandolan kar rahe bhaarat ka kisaan sadak par hai itanee museebat se joojh raha hai barasaat thee vahaan par ho rahee hai thand ka bhee mausam hai to kisee vikat paristhitiyon mein baitha hua hai apanee maangon ko maanane ke lie nahin vahaan par data hua hai aaj main aapako bataana chaahata hoon ki aaj 7:00 se aaj baithakar kisaanon kee sarakaaron ke saath hoon usaka koee bhee rijalt abhee tak nahin nikala sirph do chhotee maangon ko maanakar kisaanon ko loleepop diya gaya jisase ki kisaan naakhush hain saath baithakon mein koee bhee aisa kuchh bhee nirnay nikalakar saamane nahin aaya sirph kisaan netaon ke dvaara kahee gaee baat yah hai ki sarakaar unhen loleepop de rahee hai sarakaar baar-baar yah ahasaas kara rahee hai ki vah teenon kaanoon sahee hai jabaki kisaan netaon ke dvaara kaheen gae tathy unake egjaampal kie hain teenon kaanoon kis tarah kisaanon ke lie nukasaanadaayak hai aur bhaarat ke lie bahut khataranaak tab jab vah meeting mein is baat ko rakhate hain to sarakaar ke adhikaaree aur sarakaar ke mantriyon ke paas koee bhee javaab nahin hota bas jab vah meeting se baahar aate hain to sarakaar ke mantree aur sarakaar ke neta sarakaaree karmachaaree aur sarakaar kisakee sarakaar hai un sarakaar ke kaaryakaal aap sabhee ko yah bataane lag ja rahe hain kisaan moorkh siva kisee aur paartee ke bahakaave mein aa gae hain to sabase badee aaj museebat yahee hai ki sarakaar kisaanon ke paksh mein hai sarakaar kisaanon kee baaton ko najarandaaj kar rahee hai kyonki vah apanee paartee ko majaboot rakhana chaahatee hai apanee paartee kee sarakaar ko banae rakhana chaahatee hai aur apane aap ko bahut bada bataana chaahatee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
किस देश की औरतें सबसे सुंदर मानी जाती हैं?Kis Desh Kee Aurtein Sabse Sundar Mani Jati Hain
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:14
नमस्कार जैसा की प्रश्न है किस देश की औरतें सबसे सुंदर मानी जाती है तो इसका उत्तर है तुर्की देश तुर्की देश की औरतें सबसे सुंदर मानी जाती है धन्यवाद
Namaskaar jaisa kee prashn hai kis desh kee auraten sabase sundar maanee jaatee hai to isaka uttar hai turkee desh turkee desh kee auraten sabase sundar maanee jaatee hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
कौन-से स्थान पर रावण की पूजा होती है?Kaun Se Sthan Par Ravan Ki Pooja Hoti Hai
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
0:28
नमस्कार जैसा कि प्रश्न है कौन से स्थान पर रावण की पूजा होती है मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में रावण की पूजा की जाती है मंदसौर जिले में या कथा प्रचलित है कि रावण की पत्नी मंदोदरी मंदसौर की ही है और इस नाते से रावण उनके दामाद हुए हो और इस कारण मंदसौर जिले में रावण की पूजा की जाती है धन्यवाद
Namaskaar jaisa ki prashn hai kaun se sthaan par raavan kee pooja hotee hai madhyapradesh ke mandasaur jile mein raavan kee pooja kee jaatee hai mandasaur jile mein ya katha prachalit hai ki raavan kee patnee mandodaree mandasaur kee hee hai aur is naate se raavan unake daamaad hue ho aur is kaaran mandasaur jile mein raavan kee pooja kee jaatee hai dhanyavaad
URL copied to clipboard