#जीवन शैली

bolkar speaker
आपको यह कब एहसास हुआ कि आप जो भी आज कर रहे हैं, यही आपके जीवन का लक्ष्य था?Aapako Yah Kab Ehasaas Hua Ki Aap Jo Bhee Aaj Kar Rahe Hain Yahee Aapake Jeevan Ka Lakshy Tha
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:58
सवाल है आपको यह कब एहसास हुआ कि आप जो भी आज कर रहे हैं यही आपके जीवन का लक्ष्य था और अच्छा सवाल है आपका और उसका जवाब में जरूर देना चाहूंगी कि बचपन से मुझे हमेशा लगता था कि लोगों का जो पर्सनालिटी है वह अलग क्यों है कुछ लोग हमेशा खुश रहते हैं कुछ लोग दुखी रहते हैं कुछ लोगों को गुस्सा आता है कुछ लोग short-tempered है कुछ लोग बना वटी है यह सब क्यों है दुनिया में इतना क्यों लोग अलग है और क्यों इतना डिस्कंफर्ट है झगड़ा है वाया पीपल शो डिफरेंट तू जैसे ही मैं आई एम द लेवल ऑफ ग्रेजुएशन तो तब मुझे पता चला कि सरकार इस नाम का एक सब्जेक्ट होता है हमारे टाइम पर स्कूल पर यह ऑफर नहीं करते थे जैसे कि आज कर रहे हैं ओनली इन राजू एंड पोस्ट ग्रेजुएशन ऑफ वर्ड बनेगा जो एक्शन से कॉलेज में किया फिर मैंने काउंसलिंग से कॉलेज में पोस्ट ग्रेजुएशन किया लेकिन उसके बाद भी मैं उतना उसमें नहीं थी लेकिन उस वक्त एक ऐसी घटना मेरे लाइफ में जो मेरे जो इकलौते शिवलिंग थे मेरे भाई मुझे श्यामसुंदर जो एक शहीद है इंडियन आर्मी ऑफिसर थे उन्होंने अपनी छोटी जिंदगी में 27 इयर्स के थे वह उन्हीं लोगों के लिए इतना काम किया लोगों को फाइनेंशली हेल्प किया आप लोगों को फितरत के लिए जो है प्ले कोर्समेट को या फिर अपने पहले ऑफिसर्स को से अनजान लोगों की मदद की चाहे वह पेरेंट्स होली हो या फिर खुद जाकर सेवा करना या फिर किसी और तरह का हेल्प करना पर सपोर्ट जो होता है जिसको हम कहते हैं अनकंडीशनल सपोर्ट कोई आगरा तो बोलता है कि मुझे यह प्रॉब्लम है हॉस्पिटल ले जाओ या फिर मुझे यह करो फिर मेरे लिए मुझे यह प्रॉब्लम है मेरे घर में जाकर बताओ तोही गुड मैक्स और कि उनके जो गांव में जो उनके माता-पिता है उन तक खबर पहुंच जाएगा उन तक पैसे पहुंच जाए किसी जवान के घर में अगर शादी है उसको लीव नहीं मिला है तो ही गुड नाइट ओके कोई ना कोई वहां पर जाएं और शादी पर रिप्रेजेंट करें पैसे भेजे तो मेरे भाई जो है यह सब काम करते थे और जब वह शहीद हो गए मेंटिनेस तब मैंने मैं अपने तब फाइनल ईयर मैथ इन द पोस्ट ग्रेजुएशन उसके बाद उसके दो-तीन साल बाद मुझे लगा कि उनका यह जो अच्छा काम है मुझे आगे लेकर जाना चाहिए और वैसे भी मैं उसे फील्ड में हूं सर कॉलेज ई काउंसलिंग जो है लोग लोगों की सहायता के लिए होता है टो हेल्प पीपल तो मैंने यह दोनों जो मेरा जो एजुकेशन है और मेरे भाई का जो गुड वर्क है जो उनका अच्छा काम है उसको जोड़कर मेरे जीवन का लक्ष्य बनाया और तब से लेकर आज तक मुझे लगा है कि बचपन से मुझे यही फील्ड पसंद था लेकिन इस फील्ड में अगर मैंने कंप्लीट लेकर कदम रखा तो डेफिनेटली से मेरे भाई का बहुत बड़ा हाथ है कि उनके जितना बड़ा दिल जो अनकंडीशनल लव सपोर्ट था सबके लिए अनजान लोगों के लिए जो मदद करते जब रात के 12:00 बजे एनी टाइम तो वह एक रीजन है जिसके लिए मैं यहां पर हूं और अंधेरी हैप्पी कि मेरा लाइफ पप्पी है लोगों की मदद कर पा रही हूं मैं अच्छा काम कर रही हूं और
Savaal hai aapako yah kab ehasaas hua ki aap jo bhee aaj kar rahe hain yahee aapake jeevan ka lakshy tha aur achchha savaal hai aapaka aur usaka javaab mein jaroor dena chaahoongee ki bachapan se mujhe hamesha lagata tha ki logon ka jo parsanaalitee hai vah alag kyon hai kuchh log hamesha khush rahate hain kuchh log dukhee rahate hain kuchh logon ko gussa aata hai kuchh log short-taimpairaid hai kuchh log bana vatee hai yah sab kyon hai duniya mein itana kyon log alag hai aur kyon itana diskamphart hai jhagada hai vaaya peepal sho dipharent too jaise hee main aaee em da leval oph grejueshan to tab mujhe pata chala ki sarakaar is naam ka ek sabjekt hota hai hamaare taim par skool par yah ophar nahin karate the jaise ki aaj kar rahe hain onalee in raajoo end post grejueshan oph vard banega jo ekshan se kolej mein kiya phir mainne kaunsaling se kolej mein post grejueshan kiya lekin usake baad bhee main utana usamen nahin thee lekin us vakt ek aisee ghatana mere laiph mein jo mere jo ikalaute shivaling the mere bhaee mujhe shyaamasundar jo ek shaheed hai indiyan aarmee ophisar the unhonne apanee chhotee jindagee mein 27 iyars ke the vah unheen logon ke lie itana kaam kiya logon ko phainenshalee help kiya aap logon ko phitarat ke lie jo hai ple korsamet ko ya phir apane pahale ophisars ko se anajaan logon kee madad kee chaahe vah perents holee ho ya phir khud jaakar seva karana ya phir kisee aur tarah ka help karana par saport jo hota hai jisako ham kahate hain anakandeeshanal saport koee aagara to bolata hai ki mujhe yah problam hai hospital le jao ya phir mujhe yah karo phir mere lie mujhe yah problam hai mere ghar mein jaakar batao tohee gud maiks aur ki unake jo gaanv mein jo unake maata-pita hai un tak khabar pahunch jaega un tak paise pahunch jae kisee javaan ke ghar mein agar shaadee hai usako leev nahin mila hai to hee gud nait oke koee na koee vahaan par jaen aur shaadee par riprejent karen paise bheje to mere bhaee jo hai yah sab kaam karate the aur jab vah shaheed ho gae mentines tab mainne main apane tab phainal eeyar maith in da post grejueshan usake baad usake do-teen saal baad mujhe laga ki unaka yah jo achchha kaam hai mujhe aage lekar jaana chaahie aur vaise bhee main use pheeld mein hoon sar kolej ee kaunsaling jo hai log logon kee sahaayata ke lie hota hai to help peepal to mainne yah donon jo mera jo ejukeshan hai aur mere bhaee ka jo gud vark hai jo unaka achchha kaam hai usako jodakar mere jeevan ka lakshy banaaya aur tab se lekar aaj tak mujhe laga hai ki bachapan se mujhe yahee pheeld pasand tha lekin is pheeld mein agar mainne kampleet lekar kadam rakha to dephinetalee se mere bhaee ka bahut bada haath hai ki unake jitana bada dil jo anakandeeshanal lav saport tha sabake lie anajaan logon ke lie jo madad karate jab raat ke 12:00 baje enee taim to vah ek reejan hai jisake lie main yahaan par hoon aur andheree haippee ki mera laiph pappee hai logon kee madad kar pa rahee hoon main achchha kaam kar rahee hoon aur

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपके हिसाब से जिंदगी में सबसे महत्वपूर्ण चीज क्या है?Apke Hisaab Se Jindazi Mein Sabse Mahatvapurn Cheej Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:30
आपके हिसाब से जिंदगी में सबसे महत्वपूर्ण चीज क्या है जिंदगी में सबसे महत्वपूर्ण चीज दिए है रीजन यानी कि अगर कोई आपकी लाइफ में ऐसी घटना घटित होती है जो आपको नेगेटिव में लेकर आ जाती है चाहे वह रिलेशनशिप में हो पैसों में हो आपकी नौकरी में हो रिश्तो में हूं या फिर किसी भी एरिया में हो अगर आपको नेगेटिव में ले आती है तो रेसिलियंस से आप वापस जा सकते हैं कि जिंदगी से लड़ने की क्षमता लड़ना मतलब मैं बहुत अफेयर की बात नहीं कर रही हूं लड़ना मत रहो अपने स्किल सेट को अपनी एंपैथी को अपनी अंडरस्टैंडिंग को सेल्फ लव इन चीजों को आप अपने ऊपर यूज़ करके आगे बढ़ने के बारे में अगर आप सोचते हैं आज के तारीख में कांड में के टाइम पर एस्पेशली ए टू जेड फॉर्टेंट कि आप में self-love हो रेसिलियंस हो और आप में अपने नेगेटिव को पोस्टर में बदलने की क्षमता विदाउट थिंकिंग के अंदर यहां पर कोई कामयाबी नहीं मिली है तो मेरी जिंदगी खत्म हो गई है यह वह हो गया है जिंदगी में भी डोंट वांट एनी एक्सक्यूज अगर आपको कोई प्रॉब्लम आईडेंटिफाई करना नहीं है तो सलूशन भी आपको नहीं मिलेगा तो पहले प्रॉब्लम को आईडेंटिफाई करना है सॉल्यूशंस को लेकर आना है सलूशन के क्या रिस्क है उनको देखना है फिर सबसे कम रिस्क वाला और सबसे बेस्ट रोशन चूस करके आपको उसको इंप्लीमेंट करना होगा सॉल्यूशन में रिस्क होगा रेफ्रिजरेशन बहुत कम होता है डरना नहीं है आपको फिर भी उसको करना है जिसके साथ प्रॉब्लम से जिंदगी नहीं होती है जितनी जल्दी आप यह समझ जाएं आपके लिए इतना अच्छे दिनेश नो प्रॉब्लम फ्री लाइफ सब की लाइफ में अलग अलग तरीके की प्रॉब्लम से आती है उसको लेकर चलना है और हर हाल में जीना है और अच्छे से जीना है जितनी जल्दी आप इस बात को समझ जाएंगे आप अपनी जिंदगी बिना किसी प्रॉब्लम क्या बढ़ते रहेंगे परेशानी आएंगे अब जूझते रहेंगे और परेशानियों कभी-कभी सुरेशन नहीं मिले तो भी उनके साथ आप आगे बढ़ेंगे ना कि डिप्रेशन में जाएंगे दुखी होंगे लोगों से मुंह मोड़ लेंगे खाना पीना बंद कर देंगे और जिंदगी हसीन नहीं है ऐसी बात कहेंगे तो देश नो प्रॉब्लम फ्री लाइफ जिंदगी हसीन है हर हाल में आपको जीना है अच्छे से जीना है नेगेटिव का पश्चिम में बदलना है कभी-कभी न्यूटन भी रहना है जिंदगी के सारे रंगों को लेकर चलना है नोटिस ब्लैक एंड वाइट थिंकिंग ओके कभी फ्लैक्सिबल भी हैप्पी एंड कीप ऑन अपग्रेडिंग योरसेल्फ फॉर काउंसलिंग प्लीज कनेक्ट ऑन कविता पानी हम डॉट कॉम
Aapake hisaab se jindagee mein sabase mahatvapoorn cheej kya hai jindagee mein sabase mahatvapoorn cheej die hai reejan yaanee ki agar koee aapakee laiph mein aisee ghatana ghatit hotee hai jo aapako negetiv mein lekar aa jaatee hai chaahe vah rileshanaship mein ho paison mein ho aapakee naukaree mein ho rishto mein hoon ya phir kisee bhee eriya mein ho agar aapako negetiv mein le aatee hai to resiliyans se aap vaapas ja sakate hain ki jindagee se ladane kee kshamata ladana matalab main bahut apheyar kee baat nahin kar rahee hoon ladana mat raho apane skil set ko apanee empaithee ko apanee andarastainding ko selph lav in cheejon ko aap apane oopar yooz karake aage badhane ke baare mein agar aap sochate hain aaj ke taareekh mein kaand mein ke taim par espeshalee e too jed phortent ki aap mein sailf-lovai ho resiliyans ho aur aap mein apane negetiv ko postar mein badalane kee kshamata vidaut thinking ke andar yahaan par koee kaamayaabee nahin milee hai to meree jindagee khatm ho gaee hai yah vah ho gaya hai jindagee mein bhee dont vaant enee eksakyooj agar aapako koee problam aaeedentiphaee karana nahin hai to salooshan bhee aapako nahin milega to pahale problam ko aaeedentiphaee karana hai solyooshans ko lekar aana hai salooshan ke kya risk hai unako dekhana hai phir sabase kam risk vaala aur sabase best roshan choos karake aapako usako impleement karana hoga solyooshan mein risk hoga rephrijareshan bahut kam hota hai darana nahin hai aapako phir bhee usako karana hai jisake saath problam se jindagee nahin hotee hai jitanee jaldee aap yah samajh jaen aapake lie itana achchhe dinesh no problam phree laiph sab kee laiph mein alag alag tareeke kee problam se aatee hai usako lekar chalana hai aur har haal mein jeena hai aur achchhe se jeena hai jitanee jaldee aap is baat ko samajh jaenge aap apanee jindagee bina kisee problam kya badhate rahenge pareshaanee aaenge ab joojhate rahenge aur pareshaaniyon kabhee-kabhee sureshan nahin mile to bhee unake saath aap aage badhenge na ki dipreshan mein jaenge dukhee honge logon se munh mod lenge khaana peena band kar denge aur jindagee haseen nahin hai aisee baat kahenge to desh no problam phree laiph jindagee haseen hai har haal mein aapako jeena hai achchhe se jeena hai negetiv ka pashchim mein badalana hai kabhee-kabhee nyootan bhee rahana hai jindagee ke saare rangon ko lekar chalana hai notis blaik end vait thinking oke kabhee phlaiksibal bhee haippee end keep on apagreding yoraselph phor kaunsaling pleej kanekt on kavita paanee ham dot kom

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन में जब कामयाबी ना मिले तो क्या करना चाहिए?Jeevan Mein Jab Kamyabi Na Mile To Kya Karna Chaiye
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:58
आपका सवाल है जीवन में जब कामयाबी ना मिले तो क्या करना चाहिए जब आपको इस तरह के से जो तरीका अपने अपनाया है उस तरह के मैं अगर आपको कामयाबी नहीं मिली है तो बिना मायूस हुए आपको किसी और तरीके को अपनाना चाहिए शायद कर कई तरीकों को अपनाना चाहिए अपना नजरिया और अपने एयरपोर्ट को और बदल कर अलग तरीके से मेहनत करना चाहिए मैं यह नहीं कहती कि मैं रात में तो अपना सब कुछ न्यौछावर कर दे आप लेकिन सही तरीके का जो मेहनत होता है वह इतना भारी भी नहीं होता कि आप उसके नीचे एकदम कहते हैं ना कि ब्लॉक फुट के नीचे दब जाए उतना नहीं होता है वह क्लियर बेस्ट बट उससे आपको स्ट्रेस नहीं होता है तकलीफ नहीं होती है और उसे आपको खुशी मिलती है तो सही तरीके का जो अगर आप रास्ता चुनेंगे तो बहुत मस्त स्कूल भी नहीं होगा और आप कामयाब भी होंगे कामयाबी मिलेगी आपको लेकिन अगर आप समझ जाएंगे कि आपको जाना कहां है वहां पर अगर आपको पता चल जाता है तो कैसे जाना है यह भी आपके सामने आ जाता है अगर एक रहा से आपको कामयाबी नहीं मिली है आधे मिली अधूरी मिली है तो दूसरे रहा को चुन लीजिए दोनों राह पर चलिए मतलब अबे टॉप 10 नंबर ऑफ दैट जिंदगी ब्लैक और वाइट नहीं होती है जिंदगी शेड्स ऑफ ग्रे एंड ऑल कलर से बनती है तो या तो यह या तो वह हर जन्म में हम इसको लेकर नहीं चल सकते हैं तो आपको चाहिए कि आप फ्लैक्सिबल हो ताकि कई चीजों को एक साथ करें और एक ही करना चूस करके दो तीन चीजों को रखिए अपने जो भी है जो आपके टैलेंट से उसको आप एवं व्यवसाय में बदल सकते हैं तो सुबह आप ऑफिस का काम कर सकते हैं शाम को अपना बिजनेस कर सकते हैं यह टेंडर में के समय में आपको चाहिए कि आप की जो टैलेंट है जो आपके जो हबीस है उसको आप एक घर घरेलू व्यवसाय में आप उसको कर बदल देंगे तो आपको पैसे भी मिलेंगे आपका टाइम भी अच्छे से स्पेंड होगा और अनिल शरीर थिंकिंग एंड द डिप्रेशन वगैरह में आप नहीं जाएंगे तो मायूस नहीं होना चाहिए आपको अलग तरीकों को अपनाना चाहिए अपने स्किल सेट को बढ़ाना चाहिए और अपने ऑफिस और टैलेंट को अगर हो सके तो होम बिजनेस आपको कन्वर्ट करना चाहिए कामयाबी ना मिले इसका मतलब यह नहीं हुआ कि आप सीनियर हैं इसको सिर्फ इतना मतलब है कि जिस रास्ते पर आप जा रहे थे जो मेहनत जो एफर्ट्स आप लगा रहे थे वह वहां जाने के लिए शायद कम थे सही नहीं थी पर्याप्त नहीं थी बस आपको इतना बदलना है अपनी सोच को बदल नहीं है नजरिया बदलना है और अलग तरीके से अलग राह से आपको उसी मंजिल पर पहुंचना है कभी-कभी मंजिल भी बदल जाती है और इसे आप शुरू डिफाइन बोल बदलता है मंजिल बदलता है कि जसबीर फ्लैक्सिबल जो बदलता है बदलने दीजिए और उसमें आप को डरने की जरूरत नहीं है ओके जस्ट गो विद दोस्त लोग भी ओपन और
Aapaka savaal hai jeevan mein jab kaamayaabee na mile to kya karana chaahie jab aapako is tarah ke se jo tareeka apane apanaaya hai us tarah ke main agar aapako kaamayaabee nahin milee hai to bina maayoos hue aapako kisee aur tareeke ko apanaana chaahie shaayad kar kaee tareekon ko apanaana chaahie apana najariya aur apane eyaraport ko aur badal kar alag tareeke se mehanat karana chaahie main yah nahin kahatee ki main raat mein to apana sab kuchh nyauchhaavar kar de aap lekin sahee tareeke ka jo mehanat hota hai vah itana bhaaree bhee nahin hota ki aap usake neeche ekadam kahate hain na ki blok phut ke neeche dab jae utana nahin hota hai vah kliyar best bat usase aapako stres nahin hota hai takaleeph nahin hotee hai aur use aapako khushee milatee hai to sahee tareeke ka jo agar aap raasta chunenge to bahut mast skool bhee nahin hoga aur aap kaamayaab bhee honge kaamayaabee milegee aapako lekin agar aap samajh jaenge ki aapako jaana kahaan hai vahaan par agar aapako pata chal jaata hai to kaise jaana hai yah bhee aapake saamane aa jaata hai agar ek raha se aapako kaamayaabee nahin milee hai aadhe milee adhooree milee hai to doosare raha ko chun leejie donon raah par chalie matalab abe top 10 nambar oph dait jindagee blaik aur vait nahin hotee hai jindagee sheds oph gre end ol kalar se banatee hai to ya to yah ya to vah har janm mein ham isako lekar nahin chal sakate hain to aapako chaahie ki aap phlaiksibal ho taaki kaee cheejon ko ek saath karen aur ek hee karana choos karake do teen cheejon ko rakhie apane jo bhee hai jo aapake tailent se usako aap evan vyavasaay mein badal sakate hain to subah aap ophis ka kaam kar sakate hain shaam ko apana bijanes kar sakate hain yah tendar mein ke samay mein aapako chaahie ki aap kee jo tailent hai jo aapake jo habees hai usako aap ek ghar ghareloo vyavasaay mein aap usako kar badal denge to aapako paise bhee milenge aapaka taim bhee achchhe se spend hoga aur anil shareer thinking end da dipreshan vagairah mein aap nahin jaenge to maayoos nahin hona chaahie aapako alag tareekon ko apanaana chaahie apane skil set ko badhaana chaahie aur apane ophis aur tailent ko agar ho sake to hom bijanes aapako kanvart karana chaahie kaamayaabee na mile isaka matalab yah nahin hua ki aap seeniyar hain isako sirph itana matalab hai ki jis raaste par aap ja rahe the jo mehanat jo epharts aap laga rahe the vah vahaan jaane ke lie shaayad kam the sahee nahin thee paryaapt nahin thee bas aapako itana badalana hai apanee soch ko badal nahin hai najariya badalana hai aur alag tareeke se alag raah se aapako usee manjil par pahunchana hai kabhee-kabhee manjil bhee badal jaatee hai aur ise aap shuroo diphain bol badalata hai manjil badalata hai ki jasabeer phlaiksibal jo badalata hai badalane deejie aur usamen aap ko darane kee jaroorat nahin hai oke jast go vid dost log bhee opan aur

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपके जीवन का अब तक का सबसे बड़ा संघर्ष क्या रहा और उससे आपने कैसे निपटा?aapake jeevan ka ab tak ka sabase bada sangharsh kya raha aur usase aapane kaise nipata
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:24
आपका सवाल है आपके जीवन का अब तक का सबसे बड़ा संघर्ष क्या रहा है और उसे आपने कैसे निपटा देखिए दो ऐसी घटनाएं हो मेरी लाइफ में बहुत ही अंगेज में जिससे जिससे मेरे लाइफ का पूरा रुप ही बदल दिया 24 साल पहले मेरे जो भाई थे मेजर श्यामसुंदर उन्होंने अपनी जिंदगी इस देश के नक्शा वर्कर दी मचल कश्मीर में थे जम्मू एंड कश्मीर में चल सकता में पोस्ट में पोस्टेड थे वह और उसके बाद मेरी जिंदगी बदल गई माइक्रोरटी बेटी हूं और संतान भी लेकिन मेरा एक ही भाई था ओन्ली सब लिंग उसके ठीक 6 साल बाद मेरे पिताजी का निधन हो गया और यह दोनो डेट से मेरी पूरी जिंदगी उथल-पुथल हो गई और अगर मैं साइकोलॉजिस्ट नहीं होती तो शायद आज आपके सामने मैं ऐसे बात कर नहीं रही होती शायद बहुत तकलीफ में होती शायद बहुत दुख में होती शायद डिप्रेशन में होती लेकिन बिलॉन्गिंग टो इनामी बदमाश हम लोग हमें बैकग्राउंड से है मेरे पिताजी और भाई भी और हमें सिखाया जाता है कि जिंदगी में जो भी होता है उसको एक्सेप्ट कर के आगे चलो तो इतना आसान भी नहीं रहा है मुझे काफी काम करना पड़ा अपने आप पर और फिर जाकर मैं इन दोनों हादसों से बाहर आई और मैंने अपना काम शुरू किया पढ़ाई जारी रखी और आज आपके सामने हूं कॉलेजेस कविता पानी हम के रूप में तो मैं आपसे यह कहना चाहूंगी कि डेथ एंड की निधन जो होता है अपने घर वालों का वह सबसे मुश्किल चीज होता है उसको पार करके आगे जाने का डॉन के बाप हो पढ़ने में तुम्हें काफी लोगों के फैमिली के मेंबर्स की जान गई है तो मैं हर्ट्स बट यू आर अंडरस्टैंड की बहुत मुश्किल है लेकिन जिंदगी आगे चलती है जिंदगी चलती ही रहती है तो प्लीज उनके बाप हो हिल एंड ग्रो लाइफ है चलेगी और अजित जल्दी हम समझ जाए उतना अच्छा है तो जिससे कि टिहरी झील और जिंदगी चलती रहती है आप भेजेंगे अच्छे से जी इसे लोन टू लिप बेटर विद आउट सेटिंग ऑन फीलिंग बैटर अगर आप फीलिंग पर जाएंगे तो हमेशा अटक जाएंगे तो लिविंग बैटर स्वीट बे कॉन्शियस चॉइस आप इस बात को मान कर चलिए कि आपको अच्छे से जीना है हर हाल में जीना है और आप देखिए अपनी जिंदगी किस तरह बदल जाती है तो कान सिंह प्लीज कनेक्ट ऑन कविता पानी हम डॉट कॉम
Aapaka savaal hai aapake jeevan ka ab tak ka sabase bada sangharsh kya raha hai aur use aapane kaise nipata dekhie do aisee ghatanaen ho meree laiph mein bahut hee angej mein jisase jisase mere laiph ka poora rup hee badal diya 24 saal pahale mere jo bhaee the mejar shyaamasundar unhonne apanee jindagee is desh ke naksha varkar dee machal kashmeer mein the jammoo end kashmeer mein chal sakata mein post mein posted the vah aur usake baad meree jindagee badal gaee maikroratee betee hoon aur santaan bhee lekin mera ek hee bhaee tha onlee sab ling usake theek 6 saal baad mere pitaajee ka nidhan ho gaya aur yah dono det se meree pooree jindagee uthal-puthal ho gaee aur agar main saikolojist nahin hotee to shaayad aaj aapake saamane main aise baat kar nahin rahee hotee shaayad bahut takaleeph mein hotee shaayad bahut dukh mein hotee shaayad dipreshan mein hotee lekin bilonging to inaamee badamaash ham log hamen baikagraund se hai mere pitaajee aur bhaee bhee aur hamen sikhaaya jaata hai ki jindagee mein jo bhee hota hai usako eksept kar ke aage chalo to itana aasaan bhee nahin raha hai mujhe kaaphee kaam karana pada apane aap par aur phir jaakar main in donon haadason se baahar aaee aur mainne apana kaam shuroo kiya padhaee jaaree rakhee aur aaj aapake saamane hoon kolejes kavita paanee ham ke roop mein to main aapase yah kahana chaahoongee ki deth end kee nidhan jo hota hai apane ghar vaalon ka vah sabase mushkil cheej hota hai usako paar karake aage jaane ka don ke baap ho padhane mein tumhen kaaphee logon ke phaimilee ke membars kee jaan gaee hai to main harts bat yoo aar andarastaind kee bahut mushkil hai lekin jindagee aage chalatee hai jindagee chalatee hee rahatee hai to pleej unake baap ho hil end gro laiph hai chalegee aur ajit jaldee ham samajh jae utana achchha hai to jisase ki tiharee jheel aur jindagee chalatee rahatee hai aap bhejenge achchhe se jee ise lon too lip betar vid aaut seting on pheeling baitar agar aap pheeling par jaenge to hamesha atak jaenge to living baitar sveet be konshiyas chois aap is baat ko maan kar chalie ki aapako achchhe se jeena hai har haal mein jeena hai aur aap dekhie apanee jindagee kis tarah badal jaatee hai to kaan sinh pleej kanekt on kavita paanee ham dot kom

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपने 2020 में क्या नया अनुभव सीखा और आपको क्या लाभ या हानि हुए?Aapne 2020 Mein Kya Naya Anubhav Seekha Aur Apko Kya Laabh Ya Haani Hui
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:55
अब तो सवाल है आपने 2020 में क्या नया अनुभव सीखा और आपको क्या लाभ या हानि हुई यह जो पांडेमिक है इसमें सबसे इंपोर्टेंट चीज यह थी कि अगर आपके जो पॉजिटिव नेगेटिव में बदल गए नौकरी चली गई या आपको किसी तरह का पर्सनल लॉस हुआ है तो यह चाहिए था कि आप प्रेसिडेंट बने कुछ और कोशिश करें या फिर कुछ जो आपका टैलेंट है उसको आप एक व्यवसाय में बदलने और उसमें आप काम करना शुरू कर दे होम बिजनेस इन एनी वे और पैसे आप कमाना शुरू करें कई लोग ऐसे थे जिनकी नौकरियां चली गई और वह डिप्रेशन में चले गए मेरे को बहुत सारे के सारे उस टाइम पर और काफी किसको सक्सेसफुल पर मैंने बनाया जब यह बताया कि आपका नया व्यवसाय आप शुरू कर सकते हैं आप में कई टैलेंट से कई खूबियां हैं जरूरी नहीं कि जो आपने पढ़ाई की है उसी में आपको काम कर रहा है पांडे में किए वक्त है जहां पर जिस तरह से आप अपने हॉबीज को आगरा व्यवसाय सकते हैं फिलहाल के लिए हो सकता है कि यह आपका प्रॉमिनेंट व्यवसाय बन जाए आपका काम भी बन जाए तो मायूस नहीं हुई है नए-नए टेक्निक्स नए स्केल सेट को सीखिए और आपके जो अभी सच में आप बहुत ही अच्छे हुनर अच्छा है तो उसको अपने व्यवसाय बना सकते हैं और डिप्रेशन में जाने से बच सकते हैं एक रोटी और एक एक्टिविटी और डिप्रेशन से बाहर निकलना है तो डिसिप्लिन रहना है अनुशासन रहना है और एक डेली एक्टिविटी बनाना बहुत जरूरी है कि आप सुबह से रात तक क्या करेंगे उसको ठीक करना है और यह रोज करना है यह जो वक्त है पांडेमिक का यू रिक्वायर डिसिप्लिन एंड यू रिक्वायर नेटिविटी स्केड्यूल विद प्रोटीन सुबह उठेंगे सेम टाइम पर टंगे सेम टाइम तो सोएंगे और सेम टाइम पर आप एक्टिविटीज को करेंगे इससे क्या होता है कि टाइम वेस्ट नहीं होगा ओवरथिंकिंग नहीं होगा डिप्रेशन एंग्जाइटी वगैरह भी नहीं रहेगा यह इस टाइम का सीट है जो मैंने सीखा और सब को सिखाया वर्क आंसरिंग प्लीज कनेक्ट डोंट माइंड सजेस्ट डॉट कॉम
Ab to savaal hai aapane 2020 mein kya naya anubhav seekha aur aapako kya laabh ya haani huee yah jo paandemik hai isamen sabase importent cheej yah thee ki agar aapake jo pojitiv negetiv mein badal gae naukaree chalee gaee ya aapako kisee tarah ka parsanal los hua hai to yah chaahie tha ki aap president bane kuchh aur koshish karen ya phir kuchh jo aapaka tailent hai usako aap ek vyavasaay mein badalane aur usamen aap kaam karana shuroo kar de hom bijanes in enee ve aur paise aap kamaana shuroo karen kaee log aise the jinakee naukariyaan chalee gaee aur vah dipreshan mein chale gae mere ko bahut saare ke saare us taim par aur kaaphee kisako saksesaphul par mainne banaaya jab yah bataaya ki aapaka naya vyavasaay aap shuroo kar sakate hain aap mein kaee tailent se kaee khoobiyaan hain jarooree nahin ki jo aapane padhaee kee hai usee mein aapako kaam kar raha hai paande mein kie vakt hai jahaan par jis tarah se aap apane hobeej ko aagara vyavasaay sakate hain philahaal ke lie ho sakata hai ki yah aapaka prominent vyavasaay ban jae aapaka kaam bhee ban jae to maayoos nahin huee hai nae-nae tekniks nae skel set ko seekhie aur aapake jo abhee sach mein aap bahut hee achchhe hunar achchha hai to usako apane vyavasaay bana sakate hain aur dipreshan mein jaane se bach sakate hain ek rotee aur ek ektivitee aur dipreshan se baahar nikalana hai to disiplin rahana hai anushaasan rahana hai aur ek delee ektivitee banaana bahut jarooree hai ki aap subah se raat tak kya karenge usako theek karana hai aur yah roj karana hai yah jo vakt hai paandemik ka yoo rikvaayar disiplin end yoo rikvaayar netivitee skedyool vid proteen subah uthenge sem taim par tange sem taim to soenge aur sem taim par aap ektiviteej ko karenge isase kya hota hai ki taim vest nahin hoga ovarathinking nahin hoga dipreshan engjaitee vagairah bhee nahin rahega yah is taim ka seet hai jo mainne seekha aur sab ko sikhaaya vark aansaring pleej kanekt dont maind sajest dot kom

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन को पूरा करने के लिए क्या समाज के साथ जुड़े रहना जरूरी है, अगर हां तो क्यों जरुरी हैं ?jeevan ko poora karane ke lie kya samaaj ke saath jude rahana jarooree hai agar haan to kyon jaruree hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:56

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या पारिवारिक जीवन में सभी चीजों का हिसाब रखने से कोई लाभ होता है?Kya Parivarik Jivan Me Sabhi Chijo Ka Hisab Rakhne Se Koi Laabh Hota Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:55

#जीवन शैली

bolkar speaker
आप भी क्या कभी-कभी झूम कर नाच उठते हैं?aap bhee kya kabhee-kabhee jhoom kar naach uthate hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:58

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपका क्या काम आपके निजी जीवन में हस्तक्षेप करता है आप काम और निजी जीवन को कैसे संतुलित करते हैं?aapaka kya kaam aapake nijee jeevan mein hastakshep karata hai aap kaam aur nijee jeevan ko kaise santulit karate hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:59

#जीवन शैली

bolkar speaker
वह कौन सी साधारण बातें हैं, जो किसी इंसान का मनोबल तोड़ देती हैं?Vah Kaun See Saadhaaran Baaten Hain Jo Kisee Insaan Ka Manobal Tod Detee Hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:09

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन की कुछ खूबसूरत सच्चाई क्या है?Jeevan Ki Kuchh Khoobsurat Sachhai Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:51

#जीवन शैली

bolkar speaker
मेहनत और कामयाबी के बीच क्या संबंध है?Mehanat Aur Kaamayaabee Ke Beech Kya Sambandh Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:58

#जीवन शैली

bolkar speaker
छोटी सी परेशानी से भी परेशान ना हो, इसके लिए क्या करें?Chhotee See Pareshaanee Se Bhee Pareshaan Na Ho Isake Lie Kya Karen
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:11

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
कहा जाता है कि हमारी शक्ति हमारे अंदर ही हैं , क्या यह बातें सत्य है ?Kaha Jaata Hai Ki Hamaaree Shakti Hamaare Andar Hee Hain Kya Yah Baaten Saty Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:03

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
क्या पढ़ाई का मुख्य उद्देश्य सिर्फ पैसे कमाना होना चाहिए?Kya Padhaee Ka Mukhy Uddeshy Sirph Paise Kamaana Hona Chaahie
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:06

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या यह सच है कि लोग जितनी ऊंचाई पर पहुंच जाते हैं, उतना ही अकेला महसूस करते हैं?Kya Yah Sach Hai Ki Log Jitanee Oonchaee Par Pahunch Jaate Hain Utana Hee Akela Mahasoos Karate Hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
1:59

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या रंगों का भी व्यक्तित्व पर कोई प्रभाव पड़ता है?Kya Rangon Ka Bhee Vyaktitv Par Koee Prabhaav Padata Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:22

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन का बेहतर अनुभव ठोकर खाने से आता है या तजुर्बा से इस पर आपकी क्या राय है?Jeevan Ka Behatar Anubhav Thokar Khaane Se Aata Hai Ya Tajurba Se Is Par Aapakee Kya Raay Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:14

#जीवन शैली

bolkar speaker
नैतिक व्यवहार के उदाहरण क्या है?Naitik Vyavahaar Ke Udaaharan Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:20

#जीवन शैली

bolkar speaker
किसी व्यक्ति को बातचीत से कैसे प्रभावित करें?Kisee Vyakti Ko Baatacheet Se Kaise Prabhaavit Karen
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:19

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या आपको कभी लगा है, कि आप ही भगवान हैं?Kya Aapako Kabhee Laga Hai Ki Aap Hee Bhagavaan Hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:04

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन की असली खुशियां क्या है?Jeevan Kee Asalee Khushiyaan Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:05

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या निर्णय लेने से दूसरों की राय प्रभावित होती है?Kya Nirnay Lene Se Doosaron Kee Raay Prabhaavit Hotee Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:03

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
हमेशा बाहरी खूबसूरती को ज्यादा महत्व क्यों दिया जाता है?Hamesha Baaharee Khoobasooratee Ko Jyaada Mahatv Kyon Diya Jaata Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:15

#जीवन शैली

bolkar speaker
खुद को तलाशने का सबसे बेहतर तरीका क्या है?Khud Ko Talaashane Ka Sabase Behatar Tareeka Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:21

#जीवन शैली

bolkar speaker
अगर अंदर अहंकार बढ़ने लगे तो इस पर काबू पाने के लिए क्या करना चाहिए?Agar Andar Ahankaar Badhane Lage To Is Par Kaaboo Paane Ke Lie Kya Karana Chaahie
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:05

#जीवन शैली

bolkar speaker
हमें पता है कि शरीर नश्वर है तो फिर लोग मरने से क्यों डरते हैं?Hamen Pata Hai Ki Shareer Nashvar Hai To Phir Log Marane Se Kyon Darate Hain
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:01

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन में असली सुख क्या है?Jeevan Mein Asalee Sukh Kya Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:21

#जीवन शैली

bolkar speaker
हर इंसान को अपनी जिंदगी में कोई ना कोई कमी क्यों नजर आती है?Har Insaan Ko Apanee Jindagee Mein Koee Na Koee Kamee Kyon Najar Aatee Hai
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:12

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या लक डाउन के बाद भी हमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना चाहिए?Kya Lak Daun Ke Baad Bhee Hamen Soshal Distensing Ka Paalan Karana Chaahie
kavita Panyam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kavita जी का जवाब
Multiple Award Winning Counseling Psychologist
2:07
URL copied to clipboard