#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या आज के युग में सरकारी नौकरी की तैयारी करना टाइम पास है?Kya Aaj Ke Yug Mein Sarkari Naukari Ki Taiyari Karna Time Paas Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:46
आज के युग में सरकारी नौकरी की तैयारी करना टाइम पास है जी मेरे हिसाब से तो बिल्कुल हां इस समय में सरकारी नौकरी का कोई भी तैयारी करना या कुछ भी करना टाइम पास ही है तो मेरा कहना सिर्फ इतना है कि कोशिश करें अपना बिजनेस करें चाहे छोटा करें लेकिन अपना बिजनेस करें उसमें आपको हर तरीके की सहूलियत और तरीका मिलता है और आपकी नौकरी में अगर आपको नौकरी करनी है तो या तो आप प्राइवेट भी कर सकती जरूरी नहीं है सरकारी के लिए ही तैयारी करें क्योंकि आज सरकारी और प्राइवेट एक बराबर नौकरी हो चुकी है इंसान पहले नौकरी के लिए सरकारी इसलिए भागता था कि उसको बीएफ फंड और जी आप को पेंशन मिलती थी कि हमारा जब हम नौकरी छोड़ देंगे तो हम को पेंशन मिलेगी लेकिन आज के समय में पेंशन 1995 के बाद में एक कानून और लागू हुआ था जहां 995 के बाद में हुआ था कि 2 बच्चे की जिसके पास 2 बच्चे होंगे वही चुनाव लड़ पाएगा वह उसी की सरकारी नौकरी लगेगी तीसरे बच्चे पर उसकी सरकारी नौकरी जा सकती है और दूसरा ना तो पेंशन मिलती है और खंड पीएफ की बात एक ऐसी है कि आप प्राइवेट जॉब भी करते हैं तो लिमिटेड कंपनी हो तो उसमें भी आपका पीएफ फंड मिलता है तो आप सरकारी या प्राइवेट दोनों में से कोई सी भी कर सकते हैं लेकिन जिस तरीके से आप पैसा बर्बाद अपना करते हैं सरकारी जॉब के लिए स्त्री की तैयारी उस तरीके यहां यहां कोचिंग करना वहां कोचिंग करना यहां तैयारी वहां तैयारी करके तो आप वह बिल्कुल बेकार कर रहे हैं अगर आपको कोई उम्मीद दिखती है या आपका कोई भी उस रिलेटिव गवर्नमेंट जॉब में है तो आप तैयारी करते हैं अगर आपको लगता है कि वह कोई जुगाड़ लगाकर लगवा सकते हैं तो आप बेशक करें अन्यथा मेरे हिसाब से आप जिसमें आपको अच्छा लगे आप प्राइवेट जॉब भी कर सकते हैं क्योंकि अगर आपकी कोई भी जुगाड़ या कुछ भी अभी जानकारी नहीं है तो आप का कुछ नहीं हो सकता है आपकी लग नहीं सकती है और ऐसी भी नौकरी क्या करना जिसमें पहले से ही और सरकार आज सभी कम सरकारी और प्राइवेट कर ही रही है रेलवे भी प्राइवेट कर दी क्योंकि यह बिक रहे हैं उस तरीके से प्राइवेट हो रहे तू कोशिश करें क्या प्राइवेट ही काम करें कोई और हो सके तो सबसे अच्छा सबसे बेस्ट आप अपना खुद का भी निस्तारण
Aaj ke yug mein sarakaaree naukaree kee taiyaaree karana taim paas hai jee mere hisaab se to bilkul haan is samay mein sarakaaree naukaree ka koee bhee taiyaaree karana ya kuchh bhee karana taim paas hee hai to mera kahana sirph itana hai ki koshish karen apana bijanes karen chaahe chhota karen lekin apana bijanes karen usamen aapako har tareeke kee sahooliyat aur tareeka milata hai aur aapakee naukaree mein agar aapako naukaree karanee hai to ya to aap praivet bhee kar sakatee jarooree nahin hai sarakaaree ke lie hee taiyaaree karen kyonki aaj sarakaaree aur praivet ek baraabar naukaree ho chukee hai insaan pahale naukaree ke lie sarakaaree isalie bhaagata tha ki usako beeeph phand aur jee aap ko penshan milatee thee ki hamaara jab ham naukaree chhod denge to ham ko penshan milegee lekin aaj ke samay mein penshan 1995 ke baad mein ek kaanoon aur laagoo hua tha jahaan 995 ke baad mein hua tha ki 2 bachche kee jisake paas 2 bachche honge vahee chunaav lad paega vah usee kee sarakaaree naukaree lagegee teesare bachche par usakee sarakaaree naukaree ja sakatee hai aur doosara na to penshan milatee hai aur khand peeeph kee baat ek aisee hai ki aap praivet job bhee karate hain to limited kampanee ho to usamen bhee aapaka peeeph phand milata hai to aap sarakaaree ya praivet donon mein se koee see bhee kar sakate hain lekin jis tareeke se aap paisa barbaad apana karate hain sarakaaree job ke lie stree kee taiyaaree us tareeke yahaan yahaan koching karana vahaan koching karana yahaan taiyaaree vahaan taiyaaree karake to aap vah bilkul bekaar kar rahe hain agar aapako koee ummeed dikhatee hai ya aapaka koee bhee us riletiv gavarnament job mein hai to aap taiyaaree karate hain agar aapako lagata hai ki vah koee jugaad lagaakar lagava sakate hain to aap beshak karen anyatha mere hisaab se aap jisamen aapako achchha lage aap praivet job bhee kar sakate hain kyonki agar aapakee koee bhee jugaad ya kuchh bhee abhee jaanakaaree nahin hai to aap ka kuchh nahin ho sakata hai aapakee lag nahin sakatee hai aur aisee bhee naukaree kya karana jisamen pahale se hee aur sarakaar aaj sabhee kam sarakaaree aur praivet kar hee rahee hai relave bhee praivet kar dee kyonki yah bik rahe hain us tareeke se praivet ho rahe too koshish karen kya praivet hee kaam karen koee aur ho sake to sabase achchha sabase best aap apana khud ka bhee nistaaran

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
अगर मोदीजी 15 साल और राज करें तो भारत का भविष्य कैसा होगा ?Agar Modiji 15 Saal Aur Raaj Karein To Bharat Ka Bhavishya Kaisa Hoga
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:50
अगर मोदी जी 15 साल और राज करें तो भारत का भविष्य कैसा होगा अगर मोदी जी ने 15 साल राज कर दिया तो उन्होंने करीब 7 से 8 साल राज करने के बाद में आज से 20 से 30 साल पीछे देश पहुंचा दिया तो लगाई अगर 15 साल किया तो कम से कम 100 साल रख लो यह पीछे पहुंचा देंगे कि देश को क्योंकि अगर आप इनके जितने भी बीजेपी के नेता इनके रिकॉर्ड देखते हैं यह कुछ भी देखते हैं तो आपको खुद मालूम हो जाएगा अगर आप इस समय जो भी कुछ देख रहे हैं वह सब कुछ आपके सामने है कि कैसा काम क्या हो रहा है तो इसलिए क्योंकि पूछिए इन लोगों ने कितनी मिट्टी खराब कर रखी है भारत की और जो मोदी भक्त अंधे हैं उनका तो पता ही नहीं है वह कहां से बोलते हैं कैसे बोलते हैं तो मुझे भी नहीं मालूम है लेकिन मुझे इतना जरूर मालूम है कि इस सरकार ने जिस तरीके से मट्टी खराब पूरे दिन पूरे भारत की ही है शायद किसी सरकार ने नहीं की होगी तो यह सर्कस सबसे ज्यादा गिरी हुई है इसमें सिर्फ अपने फायदे के अलावा और अडानी अंबानी ओके फायदे के अलावा कोई भी काम नहीं किया है अगर कोई इनका मोदी भक्त है तो मुझे मैसेज करके कोई भी जमीनी स्तर पर इसका एक भी काम की नहीं तो मैं जानू क्योंकि इस समय अगर 15 साल और राज करने के बाद में जो पैसे वाला है वह पैसे वाला ही रहेगा जो अमीर है वह मेरी रहेगा वह और पैसा उसके पास बढ़ेगा लेकिन जो कम आती है ना यार रोज अपना खाना पीना खाते हैं उनको शायद कचरे में से खाना उठाकर खाना पड़े और या फिर शायद उनको वह भी दो स्वर्ण मिले ना उसे वह भी मिलना दुश्वार हो जाए क्योंकि इतनी भूखमरी तो शायद अंग्रेजों के और मुगल राज्य के समय में भी नहीं थी जितनी इसने मिट्टी खराब कर रखी है और 15 साल राज करने के बाद भी ऐसा ही हाल और ज्यादा 2 गुना 100 गुना कर देगा तो कृपया मेरी तो चलाई गई है कि जिस तरीके से से खुशी को बैठाया है उस तरीके से बता रहे हैं और जो इंसान सही लगे जो नेताओं में चाय लेडीज हो या जैंस हो जो नेता अच्छी हो जिसका कानून व्यवस्था अच्छी हो जिसका कार्यकाल अच्छा रहा हूं कोशिश करें उसे आप नेता पद पर चुने क्योंकि यह लोग कुछ नहीं करेंगे हम सिर्फ आम जनता को बर्बाद करने के अलावा
Agar modee jee 15 saal aur raaj karen to bhaarat ka bhavishy kaisa hoga agar modee jee ne 15 saal raaj kar diya to unhonne kareeb 7 se 8 saal raaj karane ke baad mein aaj se 20 se 30 saal peechhe desh pahuncha diya to lagaee agar 15 saal kiya to kam se kam 100 saal rakh lo yah peechhe pahuncha denge ki desh ko kyonki agar aap inake jitane bhee beejepee ke neta inake rikord dekhate hain yah kuchh bhee dekhate hain to aapako khud maaloom ho jaega agar aap is samay jo bhee kuchh dekh rahe hain vah sab kuchh aapake saamane hai ki kaisa kaam kya ho raha hai to isalie kyonki poochhie in logon ne kitanee mittee kharaab kar rakhee hai bhaarat kee aur jo modee bhakt andhe hain unaka to pata hee nahin hai vah kahaan se bolate hain kaise bolate hain to mujhe bhee nahin maaloom hai lekin mujhe itana jaroor maaloom hai ki is sarakaar ne jis tareeke se mattee kharaab poore din poore bhaarat kee hee hai shaayad kisee sarakaar ne nahin kee hogee to yah sarkas sabase jyaada giree huee hai isamen sirph apane phaayade ke alaava aur adaanee ambaanee oke phaayade ke alaava koee bhee kaam nahin kiya hai agar koee inaka modee bhakt hai to mujhe maisej karake koee bhee jameenee star par isaka ek bhee kaam kee nahin to main jaanoo kyonki is samay agar 15 saal aur raaj karane ke baad mein jo paise vaala hai vah paise vaala hee rahega jo ameer hai vah meree rahega vah aur paisa usake paas badhega lekin jo kam aatee hai na yaar roj apana khaana peena khaate hain unako shaayad kachare mein se khaana uthaakar khaana pade aur ya phir shaayad unako vah bhee do svarn mile na use vah bhee milana dushvaar ho jae kyonki itanee bhookhamaree to shaayad angrejon ke aur mugal raajy ke samay mein bhee nahin thee jitanee isane mittee kharaab kar rakhee hai aur 15 saal raaj karane ke baad bhee aisa hee haal aur jyaada 2 guna 100 guna kar dega to krpaya meree to chalaee gaee hai ki jis tareeke se se khushee ko baithaaya hai us tareeke se bata rahe hain aur jo insaan sahee lage jo netaon mein chaay ledeej ho ya jains ho jo neta achchhee ho jisaka kaanoon vyavastha achchhee ho jisaka kaaryakaal achchha raha hoon koshish karen use aap neta pad par chune kyonki yah log kuchh nahin karenge ham sirph aam janata ko barbaad karane ke alaava

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
जब भगवान की भक्ति करके थक जाए और कोई हल नहीं निकले तो क्या करना चाहिए?Jab Bhagwan Kee Bhakti Karke Thak Jaye Aur Koi Hal Nahi Nikle To Kya Karna Chaiye
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:34
जब भगवान की भक्ति करके थक जाएं और कोई हल नहीं निकले तो क्या करना चाहिए देखिए जब इंसान के दिमाग में कोई बात नहीं होती है या किसी चीज से परेशान होता है किसी भी तरीके से इंसान तकलीफों से घिरा होता है तो उसे खाली भगवान दिखाई देता है कि मेरी पूरी मदद करने वाला नहीं इस समय खाली भगवान की ही आसरा लेता है लेकिन जो कुछ काम हम चाहते हैं कुछ समय के अनुसार होता है तो इसलिए उसमें भगवान भी कभी-कभी कुछ नहीं कर पाते हैं तो जो एक काम समय के अनुसार होना है तो वह समय के अनुसार ही होगा तो आप भगवान के कोई भक्ति करते हुए थक गए कुछ भी हम अपनी आस्था बनाए रखी है और जैसे आप ही के लिए चल रही हैं पर काम चला उस तरीके से अपने काम कीजिए जो जिस समय पर होगा वह उसी समय पर होगा और आगरा भगवान की कोई भी मतलब भक्ति नहीं करना चाहते हैं या कोई हल नहीं निकलता है तो सबसे अच्छा काम है अच्छे काम कीजिए और सबसे बड़ी बात है इंसान बनिए क्योंकि आजकल मनुष्य इंसान बनना भूल गया है इंसान में से इंसानियत निकल गई है जिस जाने किस-किस दुनिया भागता है लेकिन इंसानियत को भूल गया है अगर इंसान अपनी इंसानियत बरकरार रखें और इंसानियत दिखाई तो उसका कभी कोई भी काम बिगड़ता नहीं है हमेशा सुधारते हैं और और बेसहारा होगा सहारा बनी है कोशिश कीजिए अगर आप के जरिए किसी के चेहरे पर मुस्कान आ सकती है या आपकी जरिए कुछ करने से किसी से थोड़ी सी मदद मिल सकती है किसी को तो वह आपको बढ़-चढ़कर ही मिलता है उसका मत आपको जवाब बढ़-चढ़कर नहीं मिलता है अगर आप गलत करते हैं तो आपको गलत मिलता है और सही करते हैं तो सही मिलता है तो कोशिश कीजिए आप किसी के साथ अच्छा कर सकें आप एक अच्छे इंसान बन सके क्योंकि इंसान आजकल जाने किस-किस में घूम रहा है उसे खुद भी नहीं मालूम है इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में वह यह तो भूल ही गया है कि इंसानियत का मतलब क्या है तो कोशिश कीजिए कि आपको एक अच्छे इंसान बने और इस काम को करने के बाद मैं आपको जरूर कुछ ना कुछ अच्छा ही हल निकलेगा तो कोशिश करके जरूर दें
Jab bhagavaan kee bhakti karake thak jaen aur koee hal nahin nikale to kya karana chaahie dekhie jab insaan ke dimaag mein koee baat nahin hotee hai ya kisee cheej se pareshaan hota hai kisee bhee tareeke se insaan takaleephon se ghira hota hai to use khaalee bhagavaan dikhaee deta hai ki meree pooree madad karane vaala nahin is samay khaalee bhagavaan kee hee aasara leta hai lekin jo kuchh kaam ham chaahate hain kuchh samay ke anusaar hota hai to isalie usamen bhagavaan bhee kabhee-kabhee kuchh nahin kar paate hain to jo ek kaam samay ke anusaar hona hai to vah samay ke anusaar hee hoga to aap bhagavaan ke koee bhakti karate hue thak gae kuchh bhee ham apanee aastha banae rakhee hai aur jaise aap hee ke lie chal rahee hain par kaam chala us tareeke se apane kaam keejie jo jis samay par hoga vah usee samay par hoga aur aagara bhagavaan kee koee bhee matalab bhakti nahin karana chaahate hain ya koee hal nahin nikalata hai to sabase achchha kaam hai achchhe kaam keejie aur sabase badee baat hai insaan banie kyonki aajakal manushy insaan banana bhool gaya hai insaan mein se insaaniyat nikal gaee hai jis jaane kis-kis duniya bhaagata hai lekin insaaniyat ko bhool gaya hai agar insaan apanee insaaniyat barakaraar rakhen aur insaaniyat dikhaee to usaka kabhee koee bhee kaam bigadata nahin hai hamesha sudhaarate hain aur aur besahaara hoga sahaara banee hai koshish keejie agar aap ke jarie kisee ke chehare par muskaan aa sakatee hai ya aapakee jarie kuchh karane se kisee se thodee see madad mil sakatee hai kisee ko to vah aapako badh-chadhakar hee milata hai usaka mat aapako javaab badh-chadhakar nahin milata hai agar aap galat karate hain to aapako galat milata hai aur sahee karate hain to sahee milata hai to koshish keejie aap kisee ke saath achchha kar saken aap ek achchhe insaan ban sake kyonki insaan aajakal jaane kis-kis mein ghoom raha hai use khud bhee nahin maaloom hai is bhaag daud bharee jindagee mein vah yah to bhool hee gaya hai ki insaaniyat ka matalab kya hai to koshish keejie ki aapako ek achchhe insaan bane aur is kaam ko karane ke baad main aapako jaroor kuchh na kuchh achchha hee hal nikalega to koshish karake jaroor den

#भारत की राजनीति

prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:58
शादी के इतने सालों बाद भी भारतीय किसान सरकार के खिलाफ आजादी की लड़ाई क्यों लड़ रहा है अगर आप छोटी सी बात सोचें तो वह हर तरीके से सही है कि किसी नामी गिरामी कि छोटे से फार्महाउस से अगर कोई चीज निकलती है तो वह ₹100 किलो ₹80 किलो ₹60 किलो और किसान की खेती जो चीज निकलती है वह ₹10 किलो ₹5 किलो इसका क्या रीजन है ऑफिस का क्या मतलब है यह तो वही वाला ऐसा हुआ कि सस्ता माल खरीदो और इंडिया से अदानी अंबानी को पैसे वाला करो हो सके तो मेरा सभी लोगों से अनुरोध है कि किसानों का समर्थन करें उनका समर्थन बने समर्थन करें हर तरीके से क्योंकि वह हमारा अन्नदाता है जिस तरीके से हम शादी व्याह किसी पार्टी समारोह में जिस तरीके खाना बर्बाद कर देते हैं ना अगर आप देखोगे ना तो किसान को खुद भरपेट अच्छे से खाना नहीं मिलता खाना पैदा करने वाले को खाना नहीं मिलता है लेकिन हम पैसे के दम पर खाने को बर्बाद तक कर देते हैं और यह सरकार हर सरकार सिर्फ किसानों के दम पर ही बनती है और किसानों को हर तरीके से बड़ा मानती है लेकिन किसान को ही हर तरीके से पीछा छोड़ देती है और हम लोगों की गंदी बातें यह होती है कि अगर गेहूं पर एक रुपए किलो भर जाए तो हम कितना बड़ा सोचने लगते हैं कि इस पर रेट बढ़ गया उस पर रेट बढ़ गया लेकिन चल अब गुटका शराब ₹100 से 200 की हो जाए तो हमें कोई फर्क नहीं पड़ता हमको पीनी है वह गुटका हमको रोज खाना है वही वाला गुटखा आज ₹5 में ₹5 से ₹10 में पहुंच गया लेकिन हमको कहना है इतनी महंगी चीजें हम खा सकते हैं लेकिन हमारी सबसे गंदी आ जाइए और सरकार बीजेपी सरकार तो आज तक ना पैदा हुई है और ना शायद कभी होगी इसमें वही वाला हिसाब किया हुआ है कि जिसकी लाठी उसकी भैंस यह सिर्फ पैसे वालों को ही पैसा का पैसे वाला बना रहा है अडानी अंबानी यों का ही घर पर प्राय यह किसी और का कुछ नहीं कर रहा है आम जनता का गरीब का किसान का सबका मरना हो रहा है तो हो सके तो इस सरकार का बहिष्कार करें और आपको जो ठीक लगे उस सरकार को वोट दें और ज्यादा से ज्यादा किसान का समर्थन करें मेरा आप लोगों से यही अनुरोध है नहीं तो यह बेचारे किसान इसी तरीके की आजादी की लड़ाई लड़ते-लड़ते मर जाएंगे यह सरकार कुछ नहीं करेगी और आप लोग
Shaadee ke itane saalon baad bhee bhaarateey kisaan sarakaar ke khilaaph aajaadee kee ladaee kyon lad raha hai agar aap chhotee see baat sochen to vah har tareeke se sahee hai ki kisee naamee giraamee ki chhote se phaarmahaus se agar koee cheej nikalatee hai to vah ₹100 kilo ₹80 kilo ₹60 kilo aur kisaan kee khetee jo cheej nikalatee hai vah ₹10 kilo ₹5 kilo isaka kya reejan hai ophis ka kya matalab hai yah to vahee vaala aisa hua ki sasta maal khareedo aur indiya se adaanee ambaanee ko paise vaala karo ho sake to mera sabhee logon se anurodh hai ki kisaanon ka samarthan karen unaka samarthan bane samarthan karen har tareeke se kyonki vah hamaara annadaata hai jis tareeke se ham shaadee vyaah kisee paartee samaaroh mein jis tareeke khaana barbaad kar dete hain na agar aap dekhoge na to kisaan ko khud bharapet achchhe se khaana nahin milata khaana paida karane vaale ko khaana nahin milata hai lekin ham paise ke dam par khaane ko barbaad tak kar dete hain aur yah sarakaar har sarakaar sirph kisaanon ke dam par hee banatee hai aur kisaanon ko har tareeke se bada maanatee hai lekin kisaan ko hee har tareeke se peechha chhod detee hai aur ham logon kee gandee baaten yah hotee hai ki agar gehoon par ek rupe kilo bhar jae to ham kitana bada sochane lagate hain ki is par ret badh gaya us par ret badh gaya lekin chal ab gutaka sharaab ₹100 se 200 kee ho jae to hamen koee phark nahin padata hamako peenee hai vah gutaka hamako roj khaana hai vahee vaala gutakha aaj ₹5 mein ₹5 se ₹10 mein pahunch gaya lekin hamako kahana hai itanee mahangee cheejen ham kha sakate hain lekin hamaaree sabase gandee aa jaie aur sarakaar beejepee sarakaar to aaj tak na paida huee hai aur na shaayad kabhee hogee isamen vahee vaala hisaab kiya hua hai ki jisakee laathee usakee bhains yah sirph paise vaalon ko hee paisa ka paise vaala bana raha hai adaanee ambaanee yon ka hee ghar par praay yah kisee aur ka kuchh nahin kar raha hai aam janata ka gareeb ka kisaan ka sabaka marana ho raha hai to ho sake to is sarakaar ka bahishkaar karen aur aapako jo theek lage us sarakaar ko vot den aur jyaada se jyaada kisaan ka samarthan karen mera aap logon se yahee anurodh hai nahin to yah bechaare kisaan isee tareeke kee aajaadee kee ladaee ladate-ladate mar jaenge yah sarakaar kuchh nahin karegee aur aap log

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या सुबह-सुबह बिना ब्रश किए पानी पीने की आदत सही है या इसका कोई नुकसान है?Kya Subah Subah Bina Brush Kie Pani Peene Ki Adat Sahi Hai Ya Iska Koi Nuksan Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:08
सुबह-सुबह बिना ब्रश किए पानी पीने की आदत सही है या इसका कोई नुकसान है देखिए इसका कोई भी नुकसान नहीं है और अगर आप सुबह खाली पेट अगर इसे आप खाली पेट सुबह कम से कम 2 से 3 गिलास पानी थोड़ा गुनगुना पीते हैं तो आपके पेट को भी आराम देता है और आपके शरीर को भी काफी है हल्दी और स्वस्थ रखता है और रही बात के खास बासी मुंह मतलब बिना ब्रश किया हूं ना ब्रश किए हुए अगर आप पानी पीते हैं तो आपके पेट के कीड़ों पेट में पेट में खाना खाने के बाद में कई तरीके के हम रात और सोने गया था कितनी बैक्टीरिया पैदा हो जाती है या हमारे पैरों में तो गड़बड़ हो ना इस बार हो जाता है या जैसे जो कीड़े की शिकायत होती है वह सारी शिकायतें खत्म हो जाती हैं जैसे एक दिन हमारे मामा ने मामा के घर गए थे तो उन्होंने एक एग्जांपल हमें करके दिखाया था के कुछ बाजरा बाजरा जो होता है उसके दाने मुंह में रख के रात को सो गए थे मुंह में रखकर सोने के बाद में वह दाने उन्होंने कबूतरों को और चिड़िया को डाल दिए थे तो सूखने के बाद में कबूतर खाने के लिए आए तो उसके 2 घंटे बाद बोले कबूतर मर गए तो आप समझ सकते हैं कि यह आपके पेट के कीड़ों के लिए कितना लाभदायक होता है और आपके स्वास्थ्य के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभदायक होता है तू अगर आप खाली पेट और सुबह बिना ब्रश किए पानी पीते हैं वह भी गुनगुना तो आपको हर तरीके से फायदा होता है आपको ताजगी भी बनी रहेगी अगर आपका पेट की चर्बी है वह भी कम होगी आपको फ्रेश होने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी तो इसलिए जोशी सर वगैरा की जो भी परेशानी होती है यह आपको कोई सी भी किसी भी तरीके कोई दिक्कत नहीं होगी तो आप हो सके तो सुबह खाली पेट सुबह फ्रेश होने से पहले दो से तीन गिलास गुनगुना पानी पीने तो आपके लिए स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होगा
Subah-subah bina brash kie paanee peene kee aadat sahee hai ya isaka koee nukasaan hai dekhie isaka koee bhee nukasaan nahin hai aur agar aap subah khaalee pet agar ise aap khaalee pet subah kam se kam 2 se 3 gilaas paanee thoda gunaguna peete hain to aapake pet ko bhee aaraam deta hai aur aapake shareer ko bhee kaaphee hai haldee aur svasth rakhata hai aur rahee baat ke khaas baasee munh matalab bina brash kiya hoon na brash kie hue agar aap paanee peete hain to aapake pet ke keedon pet mein pet mein khaana khaane ke baad mein kaee tareeke ke ham raat aur sone gaya tha kitanee baikteeriya paida ho jaatee hai ya hamaare pairon mein to gadabad ho na is baar ho jaata hai ya jaise jo keede kee shikaayat hotee hai vah saaree shikaayaten khatm ho jaatee hain jaise ek din hamaare maama ne maama ke ghar gae the to unhonne ek egjaampal hamen karake dikhaaya tha ke kuchh baajara baajara jo hota hai usake daane munh mein rakh ke raat ko so gae the munh mein rakhakar sone ke baad mein vah daane unhonne kabootaron ko aur chidiya ko daal die the to sookhane ke baad mein kabootar khaane ke lie aae to usake 2 ghante baad bole kabootar mar gae to aap samajh sakate hain ki yah aapake pet ke keedon ke lie kitana laabhadaayak hota hai aur aapake svaasthy ke svaasthy ke lie bhee bahut laabhadaayak hota hai too agar aap khaalee pet aur subah bina brash kie paanee peete hain vah bhee gunaguna to aapako har tareeke se phaayada hota hai aapako taajagee bhee banee rahegee agar aapaka pet kee charbee hai vah bhee kam hogee aapako phresh hone mein bhee koee dikkat nahin hogee to isalie joshee sar vagaira kee jo bhee pareshaanee hotee hai yah aapako koee see bhee kisee bhee tareeke koee dikkat nahin hogee to aap ho sake to subah khaalee pet subah phresh hone se pahale do se teen gilaas gunaguna paanee peene to aapake lie svaasthy ke lie bahut laabhadaayak hoga

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या सिर के बालों में मेहंदी लगाना सही होता है?Kya Sir Ke Baalon Mein Mehndi Lagana Sahi Hota Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:35
सिर के बालों में मेहंदी लगाना सही होता है जी अगर आप पेड़ जो पौधे से हरि हरि मेरी तैयार होती है अगर आप उसे तोड़कर यूज करते हैं बालों में उसमें मीठा दही नींबू और बेर के पत्ते इन चीजों को यूज करते हैं तो आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है आपके बाल बढ़ने में भी जैसे कि कहते शैंपू चलाते हैं यह तो शैंपू में दिखाते हैं ना के शैंपू यूज़ करने के बाद में इसे यूज करो तो ऐसा लगा सकती रह जाता है मतलब बालों में मतलब अच्छी बाल हो जाते हैं तो उस तरीके का प्रेशर ही यूज करने के बाद में आप के सीन उसी तरीके के बाल होंगे और आप के सर में डैंड्रफ भी नहीं होगा काली बाहर रहेंगे घने बाल रहेंगे और ना टूटेंगे बाल क्योंकि सबसे ज्यादा शिकायतें हैं काले सफेद बाल होने की और डैंड्रफ और किसने की यह सारी शिकायतें खत्म हो जाएंगी और आपको मेहंदी लगाने से बहुत से फायदे मिलेंगे और हो सके तो आप सर्दियों में मेहंदी का इस्तेमाल ना करें सिर्फ गर्मियों में इस्तेमाल करें क्योंकि गर्मियों में इस्तेमाल करने से आपके सर को ठंडक भी मिलती है और काफी हद तक बालों में आराम मिलता है और अच्छा रहता है यह आपको मेहंदी लगाना को बहुत फायदेमंद रहेगा तो कृपया अगर हो सके तुझे मार्केट वाली मेहंदी से अच्छा होगा कि आप हरी मेहंदी तोड़कर लाएं और उसे ही उसे यूज करें आपके लिए बहुत फायदेमंद होगी
Sir ke baalon mein mehandee lagaana sahee hota hai jee agar aap ped jo paudhe se hari hari meree taiyaar hotee hai agar aap use todakar yooj karate hain baalon mein usamen meetha dahee neemboo aur ber ke patte in cheejon ko yooj karate hain to aapake lie bahut phaayademand hota hai aapake baal badhane mein bhee jaise ki kahate shaimpoo chalaate hain yah to shaimpoo mein dikhaate hain na ke shaimpoo yooz karane ke baad mein ise yooj karo to aisa laga sakatee rah jaata hai matalab baalon mein matalab achchhee baal ho jaate hain to us tareeke ka preshar hee yooj karane ke baad mein aap ke seen usee tareeke ke baal honge aur aap ke sar mein daindraph bhee nahin hoga kaalee baahar rahenge ghane baal rahenge aur na tootenge baal kyonki sabase jyaada shikaayaten hain kaale saphed baal hone kee aur daindraph aur kisane kee yah saaree shikaayaten khatm ho jaengee aur aapako mehandee lagaane se bahut se phaayade milenge aur ho sake to aap sardiyon mein mehandee ka istemaal na karen sirph garmiyon mein istemaal karen kyonki garmiyon mein istemaal karane se aapake sar ko thandak bhee milatee hai aur kaaphee had tak baalon mein aaraam milata hai aur achchha rahata hai yah aapako mehandee lagaana ko bahut phaayademand rahega to krpaya agar ho sake tujhe maarket vaalee mehandee se achchha hoga ki aap haree mehandee todakar laen aur use hee use yooj karen aapake lie bahut phaayademand hogee

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या तेल लगाने से बालों को फायदा होता है?Kya Tel Lagane Se Balon Ko Fayda Hota Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:56
क्या तेल लगाने से बालों को फायदा मिलता है जी बिल्कुल तेल अगर आप अपने मां-बाप या दादी बाबा से एक बार अगर आप पूछोगे तो आप देखोगे क्या खाली उन्होंने उस समय एक सरसों के तेल के अलावा कोई तेल यूज़ नहीं किया है और आप देखोगे तो सरसों का तेल बहुत फायदेमंद और लाभदायक होता है जो हर तरीके से हर काम हर किसी के काम में आता है लेकिन उस समय एक ओरिजिनल जो कच्ची धानी बोलते हैं उसका तेल यूज़ होता था जिसकी वजह से लेडीस का बाल काफी हद तक लंबी हुआ करते थे क्योंकि आप खुद पूछोगे तो आपके दादी भी बताएंगे अभी मारी बताएंगे क्या हां हमारे काफी लंबे बाल हुआ करते थे क्योंकि मैं अगर अपनी बताता हूं तो मेरी मां के खुद 6 फुट के बाल हुआ करते थे मेरी मम्मी बताती भी है और उनके फोटो भी हैं उनके फोटो में देखा है उनके कम से कम 6 फुट मतलब वह खुद भी 6 फुट की और उनसे लंबे ही बाल हुआ करते थे तो इसलिए काफी लंबे सरसों के ही दिल से जो मांग करके कॉल कर और जड़ों में तेल डाला जाता है और फिर एग्जाम की की जाती है तो उससे बालों में काफी हद तक फायदा होता है यह गंजेपन की शिकायत कम होती है और डैंड्रफ होता है इसकी शिकायत कम होती है बाल हल्के होने की शिकायत कम होती है तो इससे काफी हद तक पहुंचे फायदे मिलते हैं जो भी खाने में भी अच्छा होता है और लगाने में भी अच्छा होता है और आज के समय में कुछ बच्चों के लड़कियों के मतलब यह बाल टूटना डेंड्रफ होना गिरना और गंजापन होना तो इसकी शिकायत बाल ना भरना है इनकी यही शिकायत है कि जिस तरह तरह के तेल तरह-तरह की शैंपू इन चीजों का यूज करना डेकोरेटिव के अनुसार हम चीजों को यूज करने लग जाते हैं लेकिन आप छोटी सी बताइए कितने भी बड़े वैज्ञानिक के पास जाइए किसी के पास जाइए एक बात यह है कि आमला का तेल बोलते हैं आंवला के किस हिस्से में से तेल निकलता है माना बादाम में से तेल निकलता है गोले में से तेल निकलता है सरसों में से तेल निकलता है तू या में से तेल निकलता है लेकिन हम में से किस जगह से तेल निकलता है तू ही बोलते हैं बादाम वाला तेल बादाम वाला तेरी जितनी भी वैरायटी अलग-अलग कलर अलग अलग से मेल की होती है ना यह सारी वैरायटी रिफाइंड की होती है रिफाइंड मर कलर ऑफ लीवर का यूज करके अलग अलग तरीके के तेल ही पैदा कर दिए जाते हैं तैयार कर दी जाती हैं जिससे हर इंसान को इससे परेशानी होती है यह बाल टूटने झड़ने और सफेद होना यह सब से शिकायत होती है तो मेरा मन नहीं है यह क्या आप सरसों का तेल सबसे ज्यादा इस्तेमाल करें
Kya tel lagaane se baalon ko phaayada milata hai jee bilkul tel agar aap apane maan-baap ya daadee baaba se ek baar agar aap poochhoge to aap dekhoge kya khaalee unhonne us samay ek sarason ke tel ke alaava koee tel yooz nahin kiya hai aur aap dekhoge to sarason ka tel bahut phaayademand aur laabhadaayak hota hai jo har tareeke se har kaam har kisee ke kaam mein aata hai lekin us samay ek orijinal jo kachchee dhaanee bolate hain usaka tel yooz hota tha jisakee vajah se ledees ka baal kaaphee had tak lambee hua karate the kyonki aap khud poochhoge to aapake daadee bhee bataenge abhee maaree bataenge kya haan hamaare kaaphee lambe baal hua karate the kyonki main agar apanee bataata hoon to meree maan ke khud 6 phut ke baal hua karate the meree mammee bataatee bhee hai aur unake photo bhee hain unake photo mein dekha hai unake kam se kam 6 phut matalab vah khud bhee 6 phut kee aur unase lambe hee baal hua karate the to isalie kaaphee lambe sarason ke hee dil se jo maang karake kol kar aur jadon mein tel daala jaata hai aur phir egjaam kee kee jaatee hai to usase baalon mein kaaphee had tak phaayada hota hai yah ganjepan kee shikaayat kam hotee hai aur daindraph hota hai isakee shikaayat kam hotee hai baal halke hone kee shikaayat kam hotee hai to isase kaaphee had tak pahunche phaayade milate hain jo bhee khaane mein bhee achchha hota hai aur lagaane mein bhee achchha hota hai aur aaj ke samay mein kuchh bachchon ke ladakiyon ke matalab yah baal tootana dendraph hona girana aur ganjaapan hona to isakee shikaayat baal na bharana hai inakee yahee shikaayat hai ki jis tarah tarah ke tel tarah-tarah kee shaimpoo in cheejon ka yooj karana dekoretiv ke anusaar ham cheejon ko yooj karane lag jaate hain lekin aap chhotee see bataie kitane bhee bade vaigyaanik ke paas jaie kisee ke paas jaie ek baat yah hai ki aamala ka tel bolate hain aanvala ke kis hisse mein se tel nikalata hai maana baadaam mein se tel nikalata hai gole mein se tel nikalata hai sarason mein se tel nikalata hai too ya mein se tel nikalata hai lekin ham mein se kis jagah se tel nikalata hai too hee bolate hain baadaam vaala tel baadaam vaala teree jitanee bhee vairaayatee alag-alag kalar alag alag se mel kee hotee hai na yah saaree vairaayatee riphaind kee hotee hai riphaind mar kalar oph leevar ka yooj karake alag alag tareeke ke tel hee paida kar die jaate hain taiyaar kar dee jaatee hain jisase har insaan ko isase pareshaanee hotee hai yah baal tootane jhadane aur saphed hona yah sab se shikaayat hotee hai to mera man nahin hai yah kya aap sarason ka tel sabase jyaada istemaal karen

#भारत की राजनीति

prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:46
हमारे देश में बनी हुई कोरोनावायरस की वैक्सीन लगवाने के लिए आधी से ज्यादा दुनिया तैयार है परंतु हमारे ही देश के लोग इसको इसका विरोध कर रहे हैं देखिए हमारे देश के लोग लोग इसका विरोध इसलिए कर रहे हैं क्योंकि आपने शायद गौर किया होगा इस बीमारी को आने के बाद में के यहां की सरकार ने इस बीमारी के अनुसार एक मजाक का किया है अगर आपने लगभग लगभग 99 परसेंट देखा होगा तो इस बीमारी की अफवाह ज्यादा थी भारत में और बीमारी कम थी क्योंकि आज से चार-पांच महीने पहले एक पाकिस्तानी जैसे देश ने उस बीमारी पर काबू पाया लेकिन भारत काबू नहीं कर पाया ऐसी कैसी बीमार हो गई और भारत इतना सक्षम होने के बाद भी इस बीमारी पर काबू नहीं कर पाया अगर इस व्यक्ति ने अभी सुना था कि शायद कहीं की इंजेक्शन का उपयोग किया गया तो वहां के लोग में से एक की मौत हो गई थी और कुछ लोग बीमार हो गए थे तो अब आप ही सोचिए इस व्यक्ति को कैसे कोई लगवाए ऐसी खबर आने के बाद में कोई इस व्यक्ति का कैसे उपयोग कर सकता है अगर यह वैक्सीन ठीक है सही है तो मेरा मानना यह है कि यहां के सारे नेताओं को सारी राजनेताओं को पहले यह वैक्सीन का उपयोग करना चाहिए तभी ही इंसान को जब भी भारत की जनता इसका उपयोग करने के लिए तैयार होगी फिर दूसरे नंबर भारत में सबसे ज्यादा इस वायरस का वायरस में है लोगों को समझाने में सबसे बड़ा योगदान अमिताभ जी का है तो सबसे पहले मेरा मानना है कि सबसे पहले अमिताभ जी को इस बच्चन का उपयोग करना चाहिए आगे लोग बढ़ेंगे एक तरफ कहते हैं लोग बिना वैक्सीन के सही होगा एक तरफ कहते हैं कि कुछ लोगों को वायरस से यह कैसा वायरस है जो समझ से बाहर है आप अभी चार जगह अपना चेकअप कराइए और चार्जर गिरने से कम से कम दो जगह नेगेटिव और दो जगह पोजिटिव आएगा तो इसीलिए मेरे हिसाब से तो यहां सिर्फ पैसा खाने के लिए क्योंकि सरकार के पास से इसके लिए पैसा मिलता है अगर पॉजिटिव बताएंगे तो पैसा मिलेगा अगर नेगेटिव बताएंगे तो पैसा नहीं मिलेगा तो मेरा मानना यही है कि पहले यह राजनेता और यह एक्टर एजुकेशन का उपयोग करें फिर जनता इसका वैक्सीन का उपयोग करेगी कोई भी मना नहीं करेगा
Hamaare desh mein banee huee koronaavaayaras kee vaikseen lagavaane ke lie aadhee se jyaada duniya taiyaar hai parantu hamaare hee desh ke log isako isaka virodh kar rahe hain dekhie hamaare desh ke log log isaka virodh isalie kar rahe hain kyonki aapane shaayad gaur kiya hoga is beemaaree ko aane ke baad mein ke yahaan kee sarakaar ne is beemaaree ke anusaar ek majaak ka kiya hai agar aapane lagabhag lagabhag 99 parasent dekha hoga to is beemaaree kee aphavaah jyaada thee bhaarat mein aur beemaaree kam thee kyonki aaj se chaar-paanch maheene pahale ek paakistaanee jaise desh ne us beemaaree par kaaboo paaya lekin bhaarat kaaboo nahin kar paaya aisee kaisee beemaar ho gaee aur bhaarat itana saksham hone ke baad bhee is beemaaree par kaaboo nahin kar paaya agar is vyakti ne abhee suna tha ki shaayad kaheen kee injekshan ka upayog kiya gaya to vahaan ke log mein se ek kee maut ho gaee thee aur kuchh log beemaar ho gae the to ab aap hee sochie is vyakti ko kaise koee lagavae aisee khabar aane ke baad mein koee is vyakti ka kaise upayog kar sakata hai agar yah vaikseen theek hai sahee hai to mera maanana yah hai ki yahaan ke saare netaon ko saaree raajanetaon ko pahale yah vaikseen ka upayog karana chaahie tabhee hee insaan ko jab bhee bhaarat kee janata isaka upayog karane ke lie taiyaar hogee phir doosare nambar bhaarat mein sabase jyaada is vaayaras ka vaayaras mein hai logon ko samajhaane mein sabase bada yogadaan amitaabh jee ka hai to sabase pahale mera maanana hai ki sabase pahale amitaabh jee ko is bachchan ka upayog karana chaahie aage log badhenge ek taraph kahate hain log bina vaikseen ke sahee hoga ek taraph kahate hain ki kuchh logon ko vaayaras se yah kaisa vaayaras hai jo samajh se baahar hai aap abhee chaar jagah apana chekap karaie aur chaarjar girane se kam se kam do jagah negetiv aur do jagah pojitiv aaega to iseelie mere hisaab se to yahaan sirph paisa khaane ke lie kyonki sarakaar ke paas se isake lie paisa milata hai agar pojitiv bataenge to paisa milega agar negetiv bataenge to paisa nahin milega to mera maanana yahee hai ki pahale yah raajaneta aur yah ektar ejukeshan ka upayog karen phir janata isaka vaikseen ka upayog karegee koee bhee mana nahin karega

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारतीय राजनीति में में क्या बदलना है?Bhaarateey Raajaneeti Mein Mein Kya Badalana Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:54

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या भारत में अधिक से अधिक मिलावट की जाती है खाने में?Kya Bhaarat Mein Adhik Se Adhik Milaavat Kee Jaatee Hai Khaane Mein
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:28

#भारत की राजनीति

prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:26

#खेल कूद

bolkar speaker
ऐसा कौन सा जीव है जिसके बचपन में चार , जवानी में दो और बुढ़ापे में तीन पैर होते हैं?Aisa Kaun Sa Jeev Hai Jisake Bachapan Mein Chaar Javaanee Mein Do Aur Budhaape Mein Teen Pair Hote Hain
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
0:42

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या हमारे देश में निर्धनता का कारण भ्रष्टाचार है?Kya Hamaare Desh Mein Nirdhanata Ka Kaaran Bhrashtaachaar Hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:34

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
किसी लड़की के चरित्रहीन हो जाने में उसके माता-पिता का क्या दोष होता है?kisee ladakee ke charitraheen ho jaane mein usake maata-pita ka kya dosh hota hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:28

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
सनातन हिंदू मान्यतानुसार, अधिक मास(पुरूषोत्तम मास) में क्या दान करना चाहिए?sanaatan hindoo maanyataanusaar adhik maas(purooshottam maas) mein kya daan karana chaahie
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:22

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
चैन की नींद कब मिलती है?chain kee neend kab milatee hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:25

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
शादी के बाद बच्चे पैदा करना जरूरी है क्या?shaadee ke baad bachche paida karana jarooree hai kya
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:11

#जीवन शैली

bolkar speaker
कैसा लगता है यह देख कर के कि हमारे मित्र बहुत कामयाब है और हम उनके काफी पीछे रह गए?kaisa lagata hai yah dekh kar ke ki hamaare mitr bahut kaamayaab hai aur ham unake kaaphee peechhe rah gae
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:27

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या धर्म एक पाखंड है?kya dharm ek paakhand hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:22

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
रेडीमेड कपड़े का व्यवसाय में कितना फायदा है?redeemed kapade ka vyavasaay mein kitana phaayada hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:31

#जीवन शैली

bolkar speaker
ऐसा कौनसा रहस्य है जो कांग्रेस चाहती है कि देश कभी ना जान पाए?aisa kaunasa rahasy hai jo kaangres chaahatee hai ki desh kabhee na jaan pae
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:09

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या आरक्षण के चलते, भारत तरक्की कर पाएगा?kya aarakshan ke chalate bhaarat tarakkee kar paega
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:27

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या यह सच है कि पैसा कमाना बड़ा कठिन काम है?kya yah sach hai ki paisa kamaana bada kathin kaam hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:29

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या भाग्य का लिखा हुआ कभी मिट नहीं सकता?kya bhaagy ka likha hua kabhee mit nahin sakata
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:24

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या भारत चाइना जैसे सस्ते मार्लों का उत्पादन नहीं कर सकता?kya bhaarat chaina jaise saste maarlon ka utpaadan nahin kar sakata
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:12

#मनोरंजन

bolkar speaker
बॉलीवुड के बारे में आपकी क्या राय है?boleevud ke baare mein aapakee kya raay hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:10

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
पाकिस्तान ने कोरोनावायरस को कैसे नियंत्रित किया जबकि भारत अभी भी संघर्ष कर रहा है?paakistaan ne koronaavaayaras ko kaise niyantrit kiya jabaki bhaarat abhee bhee sangharsh kar raha hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:06

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
भगवान जीवन में मुश्किलें क्यों देते हैं?bhagavaan jeevan mein mushkilen kyon dete hain
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:53

#जीवन शैली

bolkar speaker
कैसे पहचाने कि यह इंसान मतलबी है?kaise pahachaane ki yah insaan matalabee hai
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
1:18

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
आप आने वाले कितने वर्षों तक भाजपा को वोट करते रहेंगे?aap aane vaale kitane varshon tak bhaajapa ko vot karate rahenge
prakash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए prakash जी का जवाब
Normal business
2:28
URL copied to clipboard