#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या मोदी जी ने आनन-फानन में राष्ट्रीय संपत्ति बेचकर देश को घाटा दिया है?Kya Modee Jee Ne Aanan-phaanan Mein Raashtreey Sampatti Bechakar Desh Ko Ghaata Diya Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
3:00
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या मोदी जी ने आनन-फानन में राष्ट्रीय संपत्ति बेचकर देश को घटा दिया है तू देखी मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं अगर आप किसी भी डेवलप्ड कंट्री में जाएंगे और किसी भी अच्छी कंट्रीज में जाएंगे जिसका डेवलपमेंट हो चुका है ठीक है वह मैं आपका डेवलपिंग नेशन नहीं है तो वहां पर आप देखेंगे कि जो आप की सरकार होती है जो आप की सरकार होती है और शासन होता है वह चीजों के बल भवन करता है ठीक है बस आप जब देखेंगे अमेरिकन कंट्रीज कितनी भी डेवलपिंग कंट्री से मतलब कंट्रीज देखेंगे तो वहां पर जो कॉमेंट होती है वहां पर बहुत ही छोटे छोटे सेगमेंटेशन होते हैं आंखों में चैप्टर के वहां पर बहुत सी कमेंट जॉब निकलती है वहां पर बहुत कम लोग गवर्मेंट के ऑफिस में सोते हैं वहां पर बहुत ही कम ही लोग गवर्मेंट हुआ के फूल पर होते हैं अभी जिस तरीके से देवी शारदे के बढ़ रहे हैं क्योंकि अगर आपको किसी भी चीज में क्वालिटी चाहिए सारी चीजों में वह चाहिए तो आपको उस सारी चीजों को प्राइवेटाइजेशन करना पड़ेगा क्योंकि वहां पर आपको वह फैसिलिटी मिलती हैं वह आपको चीजें मिलती हैं वहां पर वही लोग पहुंच सकते हैं उसे प्राइवेट सेक्टर में जिसके पास स्केल हो ठीक है अगर आप कोई भी काम स्टील के साथ जादू करने के लिए आपका वह काम हमेशा अच्छा ही होगा वह चीज बहुत अच्छी होगी ठीक है जिस तरीके से आप ने चाय बीएसएनल देखा हो या फिर कोई भी ऐसी कंडीशन की कंपनी देख रहे हो जिसने जिसका आपने बहुत ही डाउनफॉल देखा हूं जिस तरीके से आपने आप एयर इंडिया को ही ले लीजिए ठीक है आप लोगों को पता होगा कि एयर इंडिया पिछले कितने सालों से लगातार घाटे में चल रही है तो सरकार को उसको चलाने का मतलब क्या है जबकि गवर्नमेंट ने कितनी बार भी उनको दे देंगे कि यह सारी चीजें की तो यह सारी चीजों को हमें थोड़ा सा समझना पड़ेगा किसी ने किसी एंड से क्योंकि सरकार का काम फोन करना है वह सारी चीजों को देख रही है वह लॉस में लॉस में कोई भी कंपनी लॉस में जा रही है फिर भी वह से चलाई जा रही है बस केवल कंपनी इसके एंप्लॉई को सैलरी दे रही है और जो मन को उससे कोई फायदा नहीं मिल रहा कुछ भी नहीं चल रहा है उससे कंडीशन में आप उसके पास रखने से कोई फायदा नहीं है आप ही बताइए अगर आपको अब मैं आपको एग्जांपल देता हूं अगर आपकी कोई कंपनी चला रहे हैं ठीक है आप उस कंपनी को देख रहे हैं कि ठीक है मैं चला रहा हूं लेकिन वह बार-बार लॉस में जा रही है हां अगर अंबानी जो कोई ऐसा व्यक्ति है जो उसमें बहुत अच्छा करता है और वह आपकी कंपनी को खरीदने जा रहा है कि मैं आपकी कंपनी को अच्छा खासा कर दूंगा ठीक है आपको मैं रख लूंगा आप काम करो नहीं तो आपको कंपनी को प्रॉफिट में पहुंचा दूंगा उसमें गलती क्या है तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि मोदी जी ने राष्ट्रीय संपत्ति को भेजकर देश का कोई नुकसान किया है ठीक है यह कि हर चीज के प्रचार कौन होते हैं मतलब कमियां होती है अच्छाइयां होती है तो यह सारी चीज होती है ठीक है आपको चीजें अच्छी मिलने लगेगी आने के बाद आप खत्म करने लगे
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki kya modee jee ne aanan-phaanan mein raashtreey sampatti bechakar desh ko ghata diya hai too dekhee main aapakee jaanakaaree ke lie bata doon agar aap kisee bhee devalapd kantree mein jaenge aur kisee bhee achchhee kantreej mein jaenge jisaka devalapament ho chuka hai theek hai vah main aapaka devalaping neshan nahin hai to vahaan par aap dekhenge ki jo aap kee sarakaar hotee hai jo aap kee sarakaar hotee hai aur shaasan hota hai vah cheejon ke bal bhavan karata hai theek hai bas aap jab dekhenge amerikan kantreej kitanee bhee devalaping kantree se matalab kantreej dekhenge to vahaan par jo koment hotee hai vahaan par bahut hee chhote chhote segamenteshan hote hain aankhon mein chaiptar ke vahaan par bahut see kament job nikalatee hai vahaan par bahut kam log gavarment ke ophis mein sote hain vahaan par bahut hee kam hee log gavarment hua ke phool par hote hain abhee jis tareeke se devee shaarade ke badh rahe hain kyonki agar aapako kisee bhee cheej mein kvaalitee chaahie saaree cheejon mein vah chaahie to aapako us saaree cheejon ko praivetaijeshan karana padega kyonki vahaan par aapako vah phaisilitee milatee hain vah aapako cheejen milatee hain vahaan par vahee log pahunch sakate hain use praivet sektar mein jisake paas skel ho theek hai agar aap koee bhee kaam steel ke saath jaadoo karane ke lie aapaka vah kaam hamesha achchha hee hoga vah cheej bahut achchhee hogee theek hai jis tareeke se aap ne chaay beeesenal dekha ho ya phir koee bhee aisee kandeeshan kee kampanee dekh rahe ho jisane jisaka aapane bahut hee daunaphol dekha hoon jis tareeke se aapane aap eyar indiya ko hee le leejie theek hai aap logon ko pata hoga ki eyar indiya pichhale kitane saalon se lagaataar ghaate mein chal rahee hai to sarakaar ko usako chalaane ka matalab kya hai jabaki gavarnament ne kitanee baar bhee unako de denge ki yah saaree cheejen kee to yah saaree cheejon ko hamen thoda sa samajhana padega kisee ne kisee end se kyonki sarakaar ka kaam phon karana hai vah saaree cheejon ko dekh rahee hai vah los mein los mein koee bhee kampanee los mein ja rahee hai phir bhee vah se chalaee ja rahee hai bas keval kampanee isake emploee ko sailaree de rahee hai aur jo man ko usase koee phaayada nahin mil raha kuchh bhee nahin chal raha hai usase kandeeshan mein aap usake paas rakhane se koee phaayada nahin hai aap hee bataie agar aapako ab main aapako egjaampal deta hoon agar aapakee koee kampanee chala rahe hain theek hai aap us kampanee ko dekh rahe hain ki theek hai main chala raha hoon lekin vah baar-baar los mein ja rahee hai haan agar ambaanee jo koee aisa vyakti hai jo usamen bahut achchha karata hai aur vah aapakee kampanee ko khareedane ja raha hai ki main aapakee kampanee ko achchha khaasa kar doonga theek hai aapako main rakh loonga aap kaam karo nahin to aapako kampanee ko prophit mein pahuncha doonga usamen galatee kya hai to aisa bilkul bhee nahin hai ki modee jee ne raashtreey sampatti ko bhejakar desh ka koee nukasaan kiya hai theek hai yah ki har cheej ke prachaar kaun hote hain matalab kamiyaan hotee hai achchhaiyaan hotee hai to yah saaree cheej hotee hai theek hai aapako cheejen achchhee milane lagegee aane ke baad aap khatm karane lage

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अपनी इंग्लिश को कैसे सुधारें?Apni English Ko Kaise Sudhare
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:55
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक अन्य प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि अपनी इंग्लिश को कैसे सुधारें ठीक है आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि आपका जो इंग्लिश है आपकी एंड से इंग्लिश को सुधारना चाहते हैं मतलब आपको आज आपको अपनी ग्रामर पोर्शन पर ज्यादा ध्यान देना है या फिर आपको फ्लूएंट इंग्लिश बोलनी है ठीक है या फिर मतलब आप इंग्लिश बोलना चाहते हो तो देखिए क्या होता है कि अगर आपका कभी भी अगर आप ऐसे माहौल में पले बढ़े हैं जहां पर स्कूल हिंदी का ज्यादा प्रचलन है जैसे अगर आप उत्तर भारतीय हैं अगर आप उत्तर भारत के पूर्वांचल बा रिजल्ट उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल रिजल्ट पैक तो वहां पर लोगों की इंग्लिश इतनी अच्छी नहीं है लेकिन जो भी होगा कि आप उसको पढ़ कर बहुत अच्छी तरीके से ग्रामर को ऑन कर सकते हैं लेकिन इसका मतलब नहीं है कि अगर आपका ग्रामर पर कमांड है तो जरूरी नहीं है कि आप इंग्लिश बहुत अच्छी बोलते हो ठीक है पहले तो हमको सबसे अंदर यह डर सा अपना समाप्त करना होगा होगा कि क्या हम सही बोल रहे हैं लेकिन कि आप और हम कभी भी हिंदी बोलते हैं तो हमारे अंदर यह नहीं होता कि हम गलत बोल रहे हैं सही बोल रहे हैं वह ग्रामेटिकली मिस्टेक है उसमें कि नहीं है कि आपके बोलने का मतलब क्या है ठीक है तो अगर आप देखिए इंग्लिश में हमको देखेंगे तो उनकी भी रहना ग्रामर उतनी अच्छी नहीं होती है वह ग्रामेटिकली बहुत मिस्टेक करते हैं जो आमतौर पर बोलचाल की भाषा होती है उस में हल्की से त्रुटियां होती होती है ठीक है तो यह सारी चीजें और हां अगर आपको अपनी इंग्लिश सुधारने थोड़ा स्पीकिंग करनी है अच्छा बोलना है क्योंकि वो क्या आपके बारे में सीखना है तो आप इंग्लिश मूवीस देखना शुरू करें धीरे-धीरे समझ में आने लगेगी इंग्लिश में पड़े धीरे-धीरे पढ़ें और उसके बाद उसको जो व्हाट्सएप को ना समझ में आता हूं ठीक है उसको आप फोन करेंगे उसके बाद आप उसके खोलिए उस पर आप देखिए कि किस-किस वर्ड का मतलब क्या होता है उसके सिनोनिम्स क्या है क्या चीज अलग हो सकती है और हां अगर आपको वह थोड़ी सही करनी है तो आपने अभी द्वारा लिखित किताब है इसका नाम वर्ड पावर मेड ईजी आपकी खूबसूरती से क्या होते हैं कि अगर उसे वोट के अलग-अलग तरीके होते हैं जो आप लोग कंफ्यूज क्रिएट कर कंफ्यूजन क्रिएट करते हैं उनको भी सही कर देता है ठीक है तो यह सारी चीज है जिससे आप थोड़ी इंग्लिश कम कर सकते हैं इंग्लिश में देखिए आप इंग्लिश पिक्चर मूवी देख रहे हैं इंग्लिश का पेपर पढ़िए तो यह से आपकी थोड़ी नहीं सच्ची हो जाएगी
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek any prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai ki apanee inglish ko kaise sudhaaren theek hai aapakee jaanakaaree ke lie bata doon ki aapaka jo inglish hai aapakee end se inglish ko sudhaarana chaahate hain matalab aapako aaj aapako apanee graamar porshan par jyaada dhyaan dena hai ya phir aapako phlooent inglish bolanee hai theek hai ya phir matalab aap inglish bolana chaahate ho to dekhie kya hota hai ki agar aapaka kabhee bhee agar aap aise maahaul mein pale badhe hain jahaan par skool hindee ka jyaada prachalan hai jaise agar aap uttar bhaarateey hain agar aap uttar bhaarat ke poorvaanchal ba rijalt uttar pradesh ke poorvaanchal rijalt paik to vahaan par logon kee inglish itanee achchhee nahin hai lekin jo bhee hoga ki aap usako padh kar bahut achchhee tareeke se graamar ko on kar sakate hain lekin isaka matalab nahin hai ki agar aapaka graamar par kamaand hai to jarooree nahin hai ki aap inglish bahut achchhee bolate ho theek hai pahale to hamako sabase andar yah dar sa apana samaapt karana hoga hoga ki kya ham sahee bol rahe hain lekin ki aap aur ham kabhee bhee hindee bolate hain to hamaare andar yah nahin hota ki ham galat bol rahe hain sahee bol rahe hain vah graametikalee mistek hai usamen ki nahin hai ki aapake bolane ka matalab kya hai theek hai to agar aap dekhie inglish mein hamako dekhenge to unakee bhee rahana graamar utanee achchhee nahin hotee hai vah graametikalee bahut mistek karate hain jo aamataur par bolachaal kee bhaasha hotee hai us mein halkee se trutiyaan hotee hotee hai theek hai to yah saaree cheejen aur haan agar aapako apanee inglish sudhaarane thoda speeking karanee hai achchha bolana hai kyonki vo kya aapake baare mein seekhana hai to aap inglish moovees dekhana shuroo karen dheere-dheere samajh mein aane lagegee inglish mein pade dheere-dheere padhen aur usake baad usako jo vhaatsep ko na samajh mein aata hoon theek hai usako aap phon karenge usake baad aap usake kholie us par aap dekhie ki kis-kis vard ka matalab kya hota hai usake sinonims kya hai kya cheej alag ho sakatee hai aur haan agar aapako vah thodee sahee karanee hai to aapane abhee dvaara likhit kitaab hai isaka naam vard paavar med eejee aapakee khoobasooratee se kya hote hain ki agar use vot ke alag-alag tareeke hote hain jo aap log kamphyooj kriet kar kamphyoojan kriet karate hain unako bhee sahee kar deta hai theek hai to yah saaree cheej hai jisase aap thodee inglish kam kar sakate hain inglish mein dekhie aap inglish pikchar moovee dekh rahe hain inglish ka pepar padhie to yah se aapakee thodee nahin sachchee ho jaegee

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
हमारे भारत में ही जातिवाद क्यों होता है?Humare Bharat Mein He Jaativaad Kyun Hota Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:50
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि हमारे भारत में ही जातिवाद क्यों होता है तो देखिए जैसे आपके प्रश्न के उत्तर के लिए बता दूं कि जैसे जिस तरीके से भारत पर देश है जिस तरह के से यहां पर डाइवर्सिटी है ठीक है क्योंकि अगर आप भारत देखेंगे तो आपको भारत में हर एक तरीके के हर एक समुदाय के लोग मिल जाएंगे अगर आप देखेंगे हिंदू को आप देखेंगे मुस्लिम को सिख ईसाई पारसी जहान जितने भी धर्म है और भारत एक ऐसा देश है जहां पर किसी भी धर्म के लोगों पर कभी भी कोई दिक्कत नहीं हूं ठीक है वह हमेशा किसी एक धर्म के खिलाफ भारत में कभी लोगों को हमारा दे गया पीता नहीं गया इसमें क्या होता है कि जैसा कि देखिए बहुत लोग हैं देश में कई लोग हैं सबकी अपनी अलग-अलग विचारधारा होती है सबका अपना-अपना सोचने का तरीका होता है ठीक है अब तो उसी तरह भारत में कई भारत के गृह हिंदू धर्म ही देखेंगे या फिर आप मुस्लिम धर्म में देखेंगे उन चीजों में बदल दिया गया भारत में देखेंगे तो ब्राह्मण वैश्य शूद्र को इस कैटेगरी में चेंज कर दीजिए अगर आपकी बात करेंगे तो यह सारी चीजें आपके ऊपर आप कोई भी कर्म करते हैं अगर आप अगर आप एक क्षत्रिय ब्राह्मण में चेंज हो सकते थे लेकिन अभी क्या हो गया यह सारी चीजें आपकी जन्म से निर्धारित होने लगी है जो कि गलत है तो उसमें क्या होता है कि लोगों को जो इगो होती है वह बीच में आती है किसी को कुछ लगता है किसी को कुछ लगता है तो इसके कारण भारत में जातिवाद है लेकिन अगर आप देखेंगे ऐसा नहीं है कि भारत में ही जातिवाद है फिर धर्म कोई धर्म के आगे बोलता है कोई बोलता है अगर आप जैसे भी आएंगे वहां पर आप को देखेंगे आप हमेशा आप देखते होंगे वहां पर ब्लैक लाइफ मैटर की तरह के जिस तरह से मूवमेंट चल रहा था ठीक है वह आपके वहां पर काले गुरु में भेद करते हैं ठीक है अगर आपका फेस का कलर या फिर आपके स्किन का कलर ब्लैक से या फिर आप कल किसी भी सामने टाइप को तो भी वहां पर आपको उस रेशम का सामना करना पड़ता है ठीक है मिलेंगे देखेंगे आप मुस्लिम धर्म में देखेंगे तो फिर सिया सुन्नी जैसे लोग हो जाते हैं तो वह सारी चीजों को जाति में बदल दिया गया तो इसलिए हमारे जातिवाद होता है लेकिन वहां पर आप देखेंगे तो लाइफ नाटक आस्था मूवमेंट हुआ तो वहां पर गोरे गोरे काले और गोरे का भेद होता है
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki hamaare bhaarat mein hee jaativaad kyon hota hai to dekhie jaise aapake prashn ke uttar ke lie bata doon ki jaise jis tareeke se bhaarat par desh hai jis tarah ke se yahaan par daivarsitee hai theek hai kyonki agar aap bhaarat dekhenge to aapako bhaarat mein har ek tareeke ke har ek samudaay ke log mil jaenge agar aap dekhenge hindoo ko aap dekhenge muslim ko sikh eesaee paarasee jahaan jitane bhee dharm hai aur bhaarat ek aisa desh hai jahaan par kisee bhee dharm ke logon par kabhee bhee koee dikkat nahin hoon theek hai vah hamesha kisee ek dharm ke khilaaph bhaarat mein kabhee logon ko hamaara de gaya peeta nahin gaya isamen kya hota hai ki jaisa ki dekhie bahut log hain desh mein kaee log hain sabakee apanee alag-alag vichaaradhaara hotee hai sabaka apana-apana sochane ka tareeka hota hai theek hai ab to usee tarah bhaarat mein kaee bhaarat ke grh hindoo dharm hee dekhenge ya phir aap muslim dharm mein dekhenge un cheejon mein badal diya gaya bhaarat mein dekhenge to braahman vaishy shoodr ko is kaitegaree mein chenj kar deejie agar aapakee baat karenge to yah saaree cheejen aapake oopar aap koee bhee karm karate hain agar aap agar aap ek kshatriy braahman mein chenj ho sakate the lekin abhee kya ho gaya yah saaree cheejen aapakee janm se nirdhaarit hone lagee hai jo ki galat hai to usamen kya hota hai ki logon ko jo igo hotee hai vah beech mein aatee hai kisee ko kuchh lagata hai kisee ko kuchh lagata hai to isake kaaran bhaarat mein jaativaad hai lekin agar aap dekhenge aisa nahin hai ki bhaarat mein hee jaativaad hai phir dharm koee dharm ke aage bolata hai koee bolata hai agar aap jaise bhee aaenge vahaan par aap ko dekhenge aap hamesha aap dekhate honge vahaan par blaik laiph maitar kee tarah ke jis tarah se moovament chal raha tha theek hai vah aapake vahaan par kaale guru mein bhed karate hain theek hai agar aapaka phes ka kalar ya phir aapake skin ka kalar blaik se ya phir aap kal kisee bhee saamane taip ko to bhee vahaan par aapako us resham ka saamana karana padata hai theek hai milenge dekhenge aap muslim dharm mein dekhenge to phir siya sunnee jaise log ho jaate hain to vah saaree cheejon ko jaati mein badal diya gaya to isalie hamaare jaativaad hota hai lekin vahaan par aap dekhenge to laiph naatak aastha moovament hua to vahaan par gore gore kaale aur gore ka bhed hota hai

#जीवन शैली

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:59
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो जग दिल खोजा आपसे बुरा न कोई आपका दुआ है यह आपका हिंदी का एक दुआ है जिसे कबीरदास नहीं उसको रचित किया है तो एक दोहा में कबीर दास जी बोलते हैं कि जब वह पूरे संसार में जब कभी वन निकलते हैं वह बुराई ढूंढने के लिए निकल रहे होते हैं ठीक है लेकिन मुझे पूरा संसार देख लेते हैं तो उन्हें भी संसार में कोई भी बुरा व्यक्ति नहीं मिलता है वो बुराई करता हूं ठीक है लेकिन जब वह अपने मन के अंदर अपने दिल के अंदर झांक कर देखते हैं तो उन्हें यह पता लगता है कि जो इस संसार में सबसे ज्यादा बुरा ही आपकी खुद में है ठीक है यानी संसार में कोई सबसे बुरा व्यक्ति है तो वह आप स्वयं है तो इस दोहे का अर्थ यही है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh apane prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki bura jo dekhan main chala bura na miliya koy jo jag dil khoja aapase bura na koee aapaka dua hai yah aapaka hindee ka ek dua hai jise kabeeradaas nahin usako rachit kiya hai to ek doha mein kabeer daas jee bolate hain ki jab vah poore sansaar mein jab kabhee van nikalate hain vah buraee dhoondhane ke lie nikal rahe hote hain theek hai lekin mujhe poora sansaar dekh lete hain to unhen bhee sansaar mein koee bhee bura vyakti nahin milata hai vo buraee karata hoon theek hai lekin jab vah apane man ke andar apane dil ke andar jhaank kar dekhate hain to unhen yah pata lagata hai ki jo is sansaar mein sabase jyaada bura hee aapakee khud mein hai theek hai yaanee sansaar mein koee sabase bura vyakti hai to vah aap svayan hai to is dohe ka arth yahee hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
'परमहंसो की संहिता' किस धार्मिक ग्रंथ को कहा जाता है?Paramahanso Kee Sanhita Kis Dhaarmik Granth Ko Kaha Jaata Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:41
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि परमहंस हो कि संहिता किस धार्मिक ग्रंथ को कहा जाता है तुझे कि मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं श्रीमद्भागवत गीता को परमहंस यकीन संहिता कहा जाता है ठीक है और देखिए क्योंकि जो आपकी परमहंस ओं की संहिता है वह जो भी आपके वैष्णव संत है उनका परम धन है क्योंकि जैसा कि कहा गया है जो कि आपकी परमहंस हो कि संहिता है या ना तो विरक्त संहिता है और ना ही यह गृहस्थ संहिता है
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki paramahans ho ki sanhita kis dhaarmik granth ko kaha jaata hai tujhe ki main aapakee jaanakaaree ke lie bata doon shreemadbhaagavat geeta ko paramahans yakeen sanhita kaha jaata hai theek hai aur dekhie kyonki jo aapakee paramahans on kee sanhita hai vah jo bhee aapake vaishnav sant hai unaka param dhan hai kyonki jaisa ki kaha gaya hai jo ki aapakee paramahans ho ki sanhita hai ya na to virakt sanhita hai aur na hee yah grhasth sanhita hai

#खेल कूद

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:33
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित तो आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि नवनिर्मित मोटेरा और मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में से सबसे ज्यादा बेहतर क्रिकेट स्टेडियम कौन सा है तो देखिए अगर आप पर किसी भी चीजों को कंपैरिजन कर रहे हैं ठीक है किसी भी दो चीजों की तुलना कर रही हैं तो पहली बात तो आपको सारी चीजों के सुविधाओं को या फिर आप किस पक्ष से उस चीजों की तुलना कर रहे हैं यह ग्रह रखना बहुत ज्यादा जरूरी हो जाता है क्योंकि किसी भी चीज की पसंद और नापसंद और दोनों चीजों की तुलना करना दोनों बहुत ही अलग अलग चीज है ठीक है क्योंकि अगर आप हो सकता है आपकी पसंद दूसरी हो आपको सोचने का तरीका दूसरा हो और दूसरे वाला जो दूसरा व्यक्ति है उसके सोचने का तरीका अलग हो और उसकी पसंद दूसरी दूसरी हो तो आप हमेशा किसी भी दो चीजों की इतना ज्यादा तुलना नहीं कर सकते हैं और अगर करना भी चाहते हैं तो दोनों बीच दोनों चीजें एसएम पक्ष पर हो सारी चीजें सही मोहर चीज है जो भी है तब क्या कहते हैं आप उन सारी चीजों को तुलना कर सकते हैं ठीक है हो सकता है जो भी कोई अहमदाबाद के ब्राउन जिसको पसंद हो लेकिन कोई ऐसा भी हो सकता है कि जिसको मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड ज्यादा बैटर पर लगता हूं उनको जरा वह उनके हमेशा के लिए उनसे उनके लिए अच्छी फीलिंग के साथ रहा हो तो यह अपना पसंद है जैसे अगर आप मान लीजिए कहते हैं आपको सचिन तेंदुलकर विराट कोहली में से पसंद करना है तो आप किसको बेटर प्लेयर मानेंगे ठीक है कि जो भी ना इसके राका प्ले लड़का होगा या फिर ना इसका जो भी होगा जिसने उसे क्रिकेट देखना शुरू ही किया तो उसे हमें उसे हमेशा से सचिन तेंदुलकर अच्छा लगेंगे ठीक है लेकिन अब जैसे क्योंकि विराट कोहली विराट कोहली दोनों द्वारा में खेले अलग-अलग बॉल्स के सामने के लिए अलग-अलग पिच पर खेला हर चीज में डिफरेंस होती है क्योंकि जो पीछे वाली पीढ़ी होती है वह मुश्किलों से खेलती है सर नई वाली पीढ़ियों को उतना आधुनिकता से मिलता है वह सारी मशीनें मिलती है उतना चीजें मिलती है तो बहुत डिफरेंस है ठीक है यह पसंद नापसंद सबकी अपनी अपनी अलग अलग हो सकती है दोनों क्रिकेट ग्राउंड अपने में बहुत ही बेहद खूबसूरत हैं दोनों सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम में से एक है तो सबका अपना अपना अलग-अलग महत्व में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड अपनी जगह बहुत खूबसूरत बहुत अच्छा है और आपका जो मोटे रहा है अपनी जगह बहुत अच्छा है
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit to aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai ki navanirmit motera aur melabarn kriket graund mein se sabase jyaada behatar kriket stediyam kaun sa hai to dekhie agar aap par kisee bhee cheejon ko kampairijan kar rahe hain theek hai kisee bhee do cheejon kee tulana kar rahee hain to pahalee baat to aapako saaree cheejon ke suvidhaon ko ya phir aap kis paksh se us cheejon kee tulana kar rahe hain yah grah rakhana bahut jyaada jarooree ho jaata hai kyonki kisee bhee cheej kee pasand aur naapasand aur donon cheejon kee tulana karana donon bahut hee alag alag cheej hai theek hai kyonki agar aap ho sakata hai aapakee pasand doosaree ho aapako sochane ka tareeka doosara ho aur doosare vaala jo doosara vyakti hai usake sochane ka tareeka alag ho aur usakee pasand doosaree doosaree ho to aap hamesha kisee bhee do cheejon kee itana jyaada tulana nahin kar sakate hain aur agar karana bhee chaahate hain to donon beech donon cheejen esem paksh par ho saaree cheejen sahee mohar cheej hai jo bhee hai tab kya kahate hain aap un saaree cheejon ko tulana kar sakate hain theek hai ho sakata hai jo bhee koee ahamadaabaad ke braun jisako pasand ho lekin koee aisa bhee ho sakata hai ki jisako melabarn kriket graund jyaada baitar par lagata hoon unako jara vah unake hamesha ke lie unase unake lie achchhee pheeling ke saath raha ho to yah apana pasand hai jaise agar aap maan leejie kahate hain aapako sachin tendulakar viraat kohalee mein se pasand karana hai to aap kisako betar pleyar maanenge theek hai ki jo bhee na isake raaka ple ladaka hoga ya phir na isaka jo bhee hoga jisane use kriket dekhana shuroo hee kiya to use hamen use hamesha se sachin tendulakar achchha lagenge theek hai lekin ab jaise kyonki viraat kohalee viraat kohalee donon dvaara mein khele alag-alag bols ke saamane ke lie alag-alag pich par khela har cheej mein dipharens hotee hai kyonki jo peechhe vaalee peedhee hotee hai vah mushkilon se khelatee hai sar naee vaalee peedhiyon ko utana aadhunikata se milata hai vah saaree masheenen milatee hai utana cheejen milatee hai to bahut dipharens hai theek hai yah pasand naapasand sabakee apanee apanee alag alag ho sakatee hai donon kriket graund apane mein bahut hee behad khoobasoorat hain donon sabase bada kriket stediyam mein se ek hai to sabaka apana apana alag-alag mahatv mein melabarn kriket graund apanee jagah bahut khoobasoorat bahut achchha hai aur aapaka jo mote raha hai apanee jagah bahut achchha hai

#धर्म और ज्योतिषी

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:39
नमस्कार मित्रों जैसा कि आपका प्रश्न है कि गरुण पुराण के अनुसार दरवाजे पर आए मेहमान को बिना भोजन पानी के वापस कर देने से के अंदर की यातना भोगनी पड़ती है तो देखिए जैसा कि मैं आपको बता दूं जो कि मैं हिंदू का समाचार गरुड़ गरुड़ पुराण की बात करें तो उसमें 28 नरक की यातनाएं दी गई है तो जैसे कि आपका प्रश्न है अगर कोई भी व्यक्ति आपके दरवाजे पर आ गया और आप कोई मेहमान आ गया और आपने उसको बिना भोजन करवाएं उसको वापस भेज दिया तो उस समय आपको रो रो मर की यातना भोगनी पड़ती है
Namaskaar mitron jaisa ki aapaka prashn hai ki garun puraan ke anusaar daravaaje par aae mehamaan ko bina bhojan paanee ke vaapas kar dene se ke andar kee yaatana bhoganee padatee hai to dekhie jaisa ki main aapako bata doon jo ki main hindoo ka samaachaar garud garud puraan kee baat karen to usamen 28 narak kee yaatanaen dee gaee hai to jaise ki aapaka prashn hai agar koee bhee vyakti aapake daravaaje par aa gaya aur aap koee mehamaan aa gaya aur aapane usako bina bhojan karavaen usako vaapas bhej diya to us samay aapako ro ro mar kee yaatana bhoganee padatee hai

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
आपको क्या लगता है इस बार भाजपा बंगाल में सरकार बना पाएगी?Aapako Kya Lagata Hai Is Baar Bhaajapa Bangaal Mein Sarakaar Bana Paegee
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:47
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित तो आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि मुझे क्या लगता है कि इस बार जो बंगाल है उसमें क्या ममता बनर्जी का किला जो है वह डर जाएगा और फिर क्या भाजपा भारतीय जनता पार्टी सरकार बना पाएगी या फिर नहीं बना पाएगी तो ऐसा लगता है कि आप किसी भी चुनाव से पहले कुछ ऐसा पूर्वानुमान नहीं लगा सकते कि जनता का मूड किया है जनता क्या चाहती है क्या किसी की सरकार बनेगी क्या नहीं बनेगी क्योंकि वोटर है क्या साबित होता है वह सामने शायद कुछ और दिखाता है लेकिन वह एक जब जाता है वही बीएफ में चाहिए मशीन के सामने जाता है तो वह उस चीज को कोई नहीं देखता है ठीक है हो सकता है कभी-कभी जैसे आप पर टीवी पर लक्षित पर देखते हैं तो कभी कभी आ पाया किसी इलेक्शंस वाले चैनल पर देखेंगे तो क्या होता है कि जैसे कई लोग कहते हैं कि नहीं हम ममता बनर्जी जी फिर से वापस आ रही है या फिर भरता भारतीय जनता पार्टी की सरकार तो ऐसा कभी-कभी ऐसा भी होता है कि जैसे बहुत लोग डर के क्योंकि जिसे आप का माहौल है तो वह किसी भी रूलिंग पार्टी के अगेंस्ट में नहीं जानना चाहते हैं क्योंकि जिस तरीके से हत्याएं होती है पश्चिम बंगाल में वह सारी चीजें बहुत बड़ी मैटर क्रिएट करता है तो देखिए जहां तक मुझे लगता है कि इसका अनुमान लगाना हंड्रेड परसेंट तो नहीं सो पाता है क्योंकि कोई फोटो कोई 6330 कोई समस्या से ही लगा सकता है और जहां तक मुझे लगता है कि अगर अगर ऐसा कुछ रहता है तो शायद भारतीय जनता पार्टी इस बार सरकार बना ले लेकिन मैं पूर्ण रुप से इसके लिए बिल्कुल भी तैयार मतलब वह नहीं हूं कंफर्म नहीं हूं कि क्या भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाई लेगी तो देखे वोटर का क्योंकि कोई दिमाग नहीं पड़ता है आज तक
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit to aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai ki mujhe kya lagata hai ki is baar jo bangaal hai usamen kya mamata banarjee ka kila jo hai vah dar jaega aur phir kya bhaajapa bhaarateey janata paartee sarakaar bana paegee ya phir nahin bana paegee to aisa lagata hai ki aap kisee bhee chunaav se pahale kuchh aisa poorvaanumaan nahin laga sakate ki janata ka mood kiya hai janata kya chaahatee hai kya kisee kee sarakaar banegee kya nahin banegee kyonki votar hai kya saabit hota hai vah saamane shaayad kuchh aur dikhaata hai lekin vah ek jab jaata hai vahee beeeph mein chaahie masheen ke saamane jaata hai to vah us cheej ko koee nahin dekhata hai theek hai ho sakata hai kabhee-kabhee jaise aap par teevee par lakshit par dekhate hain to kabhee kabhee aa paaya kisee ilekshans vaale chainal par dekhenge to kya hota hai ki jaise kaee log kahate hain ki nahin ham mamata banarjee jee phir se vaapas aa rahee hai ya phir bharata bhaarateey janata paartee kee sarakaar to aisa kabhee-kabhee aisa bhee hota hai ki jaise bahut log dar ke kyonki jise aap ka maahaul hai to vah kisee bhee rooling paartee ke agenst mein nahin jaanana chaahate hain kyonki jis tareeke se hatyaen hotee hai pashchim bangaal mein vah saaree cheejen bahut badee maitar kriet karata hai to dekhie jahaan tak mujhe lagata hai ki isaka anumaan lagaana handred parasent to nahin so paata hai kyonki koee photo koee 6330 koee samasya se hee laga sakata hai aur jahaan tak mujhe lagata hai ki agar agar aisa kuchh rahata hai to shaayad bhaarateey janata paartee is baar sarakaar bana le lekin main poorn rup se isake lie bilkul bhee taiyaar matalab vah nahin hoon kampharm nahin hoon ki kya bhaarateey janata paartee sarakaar banaee legee to dekhe votar ka kyonki koee dimaag nahin padata hai aaj tak

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
लड़के को वर्जिन लड़की क्यों चाहिए?Ladake Ko Varjin Ladakee Kyon Chaahie
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:08
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक पैसे उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ इस प्रश्न में जो भी क्या कहते हैं कांट्रडिक्शन दो शब्दों का फोन कनेक्शन होता है या फिर आप के चरित्र का कॉन्ट्रिब्यूशन सोता है वह दिखाता है कि आप जब देखते हैं कोई भी व्यक्ति मतलब 12 लड़कों में देखेंगे या फिर किसी भी मतलब आज मिलने देखेंगे क्या चाहते हैं कि जब वह शादी करें ठीक है तो उन्हें जो लड़की मिले वह हमेशा वर्जन मिले लेकिन अपनी चीजों को अपने गिरेबान में नहीं जीत जाकर देखते हैं क्या हुआ वर्जिन है कि नहीं वर्जिना क्योंकि वह किसी भी लड़की की वर्जिनिटी तोड़ने में सोचते हैं कि शादी से पहले वह वर्जिन ना रहे हैं वह किसी के साथ सेक्स करें किसी के साथ रहे उनके जस्टिफाइड होता है बिल्कुल ही गलत चीज है कि आप आप चीजों को अपने ऊपर ना लागू कर करते हुए हैं और आप दूसरे से दूसरी चीज एक्सपेक्ट करते हैं ठीक है आप किसी को उपदेश से या फिर आप कुछ चीजें अपने पर अगर आप दूसरे से चाहते हैं तो उन चीजों को सबसे पहले अपने पर लागू करें अन्यथा आप उस चीजों के काबिल नहीं है ठीक है आप उस चीजों के काबिल नहीं है तो यह बिल्कुल सरासर गलत है यह मांग बिल्कुल भी बहू थी कि यह किसी भी की जिंदगी की कदर कोई 18 साल से आए उसके बाद शादी करता है तो यह उसकी लाइफ से व्हाट एवरी वांट जो भी बचाता है वह सेक्स करना चाहता है तो करें ना करना चाहता तो ना करें यदि यह समझ पर निर्भर करता है और आपकी समझ पर निर्भर करता है ठीक है और जहां तक मुझे लगता है सब एजुकेशन काला कर दो कि हर कोई साक्षर तो हो जा रहा है पर एजुकेटेड नहीं होता है कि वह जो शिक्षा का महत्व होता है क्या सही है क्या गलत है उन चीजों को हम नहीं अभी तक हिंदी पाते हैं कि क्या तार्किक रूप से क्या चीज सही है सही है और क्या चीज गलत है उसका डिफरेंस करना हमें आना चाहिए कि क्या चीज सही है क्या चीज गलत है
Namaskaar mitron main sachin paathak paise upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath is prashn mein jo bhee kya kahate hain kaantradikshan do shabdon ka phon kanekshan hota hai ya phir aap ke charitr ka kontribyooshan sota hai vah dikhaata hai ki aap jab dekhate hain koee bhee vyakti matalab 12 ladakon mein dekhenge ya phir kisee bhee matalab aaj milane dekhenge kya chaahate hain ki jab vah shaadee karen theek hai to unhen jo ladakee mile vah hamesha varjan mile lekin apanee cheejon ko apane girebaan mein nahin jeet jaakar dekhate hain kya hua varjin hai ki nahin varjina kyonki vah kisee bhee ladakee kee varjinitee todane mein sochate hain ki shaadee se pahale vah varjin na rahe hain vah kisee ke saath seks karen kisee ke saath rahe unake jastiphaid hota hai bilkul hee galat cheej hai ki aap aap cheejon ko apane oopar na laagoo kar karate hue hain aur aap doosare se doosaree cheej eksapekt karate hain theek hai aap kisee ko upadesh se ya phir aap kuchh cheejen apane par agar aap doosare se chaahate hain to un cheejon ko sabase pahale apane par laagoo karen anyatha aap us cheejon ke kaabil nahin hai theek hai aap us cheejon ke kaabil nahin hai to yah bilkul saraasar galat hai yah maang bilkul bhee bahoo thee ki yah kisee bhee kee jindagee kee kadar koee 18 saal se aae usake baad shaadee karata hai to yah usakee laiph se vhaat evaree vaant jo bhee bachaata hai vah seks karana chaahata hai to karen na karana chaahata to na karen yadi yah samajh par nirbhar karata hai aur aapakee samajh par nirbhar karata hai theek hai aur jahaan tak mujhe lagata hai sab ejukeshan kaala kar do ki har koee saakshar to ho ja raha hai par ejuketed nahin hota hai ki vah jo shiksha ka mahatv hota hai kya sahee hai kya galat hai un cheejon ko ham nahin abhee tak hindee paate hain ki kya taarkik roop se kya cheej sahee hai sahee hai aur kya cheej galat hai usaka dipharens karana hamen aana chaahie ki kya cheej sahee hai kya cheej galat hai

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
मोदी जी ने कोविड-19 वैक्सीन की खुराक इतनी देर से क्यों ली?Modi Ji Ne Covid 19 Vaccine Ki Khuraak Itni Der Se Kyun Li
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:18
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक लेकिन जैसा कि प्रश्न है कि मोदी जी ने कोविड-19 वैक्सीन की खुराक इतनी देर से क्यों ली आप सभी लोगों को पता है जिस तरीके से नरेंद्र मोदी जी का व्यक्तित्व है आपका वह किसी भी कार्य को करते हैं तो भी चर्चा में रहते हैं और ना ही ना भी करते हैं तो भी चर्चा में रहते हैं अभी हाल फिलहाल में ही आप लोगों ने देखा होगा काफी चीजों पर काफी चर्चा चल रही थी कि मोदी जी ने अभी तक अपनी राशि नहीं लगाई है और वह शायद रहे हैं उनके अंदर डर का माहौल है बस केवल इस तरीके से बहुत ही जल्दी बाजी में प्राचीन को ला दिया गया है बाहर भेजा जा रहा है तो कई चीजें चल रही थी लेकिन मेरा मानना है कि जिस तरीके से लगने का जोड़ था मतलब जो क्रम था कि जैसे-जैसे सबसे पहले जितने भी हेल्थ वर्कर्स है जिन्होंने अपना कोविड-19 ट्यूशन में जिन्होंने अपना हर चीज त्याग कर जनता की भलाई मैं सारी चीज करने के लिए जो भी फ्रंटलाइन सॉलिटस आप समझ सकते हैं फ्रेंड सॉरी फ्रंटलाइन आपके जो भी हुआ रियल थे जो आगे आकर भारत के देश की उन्होंने को एक देश को बचाया जिस तरीके से वह बहुत ही क्या कहते हैं सराहनीय और बहुत है जिसको जितनी भी तारीफ की जाए उतनी कम है ठीक है तो देखिए यह क्या था कि अभी जितने भी हेल्थ वर्कर्स थे और जितने भी आपके फ्रंटलाइन है उस थे उनको सबसे पहले को बैटिंग की जुताई है उन 19 कि उन्होंने सबसे पहले लगी तो अभी जब उनका चरण और जितने भी फ्रंट लाइने से आपके पुलिसकर्मी वगैरह हो जब इनका पूरा चरण समय समाप्त हो चुका है पहला चरण तो उसके बाद अब जैसे जितने भी आपके पॉलिटिशन हो गए मंत्री हो गए या फिर जो भी जिस तरीके से जो पॉलिसीज में जो पॉलिसी में करें सरकार के पॉलिसी में करें सरकार की है तो अब उन लोग का नंबर आया तो उन्होंने अभी आया शुरुआती अभी आप लोगों ने देखा कि जिस तरह के जिस दिन नरेंद्र मोदी जी ने लगवाया था उसके अगले दिन आपके स्वास्थ्य मंत्री ने भी अपना लगवाया है टीकाकरण तो यह देखिए ऐसा था कि जो भी कर्म है उसी हिसाब से नरेंद्र मोदी जी ने अपनी खुराक लिस्ट में मुझे नहीं लगता कि कोई बहुत ज्यादा देरी की या फिर बहुत जल्दी जल्दी बाजी की
Namaskaar mitron main sachin paathak lekin jaisa ki prashn hai ki modee jee ne kovid-19 vaikseen kee khuraak itanee der se kyon lee aap sabhee logon ko pata hai jis tareeke se narendr modee jee ka vyaktitv hai aapaka vah kisee bhee kaary ko karate hain to bhee charcha mein rahate hain aur na hee na bhee karate hain to bhee charcha mein rahate hain abhee haal philahaal mein hee aap logon ne dekha hoga kaaphee cheejon par kaaphee charcha chal rahee thee ki modee jee ne abhee tak apanee raashi nahin lagaee hai aur vah shaayad rahe hain unake andar dar ka maahaul hai bas keval is tareeke se bahut hee jaldee baajee mein praacheen ko la diya gaya hai baahar bheja ja raha hai to kaee cheejen chal rahee thee lekin mera maanana hai ki jis tareeke se lagane ka jod tha matalab jo kram tha ki jaise-jaise sabase pahale jitane bhee helth varkars hai jinhonne apana kovid-19 tyooshan mein jinhonne apana har cheej tyaag kar janata kee bhalaee main saaree cheej karane ke lie jo bhee phrantalain solitas aap samajh sakate hain phrend soree phrantalain aapake jo bhee hua riyal the jo aage aakar bhaarat ke desh kee unhonne ko ek desh ko bachaaya jis tareeke se vah bahut hee kya kahate hain saraahaneey aur bahut hai jisako jitanee bhee taareeph kee jae utanee kam hai theek hai to dekhie yah kya tha ki abhee jitane bhee helth varkars the aur jitane bhee aapake phrantalain hai us the unako sabase pahale ko baiting kee jutaee hai un 19 ki unhonne sabase pahale lagee to abhee jab unaka charan aur jitane bhee phrant laine se aapake pulisakarmee vagairah ho jab inaka poora charan samay samaapt ho chuka hai pahala charan to usake baad ab jaise jitane bhee aapake politishan ho gae mantree ho gae ya phir jo bhee jis tareeke se jo poliseej mein jo polisee mein karen sarakaar ke polisee mein karen sarakaar kee hai to ab un log ka nambar aaya to unhonne abhee aaya shuruaatee abhee aap logon ne dekha ki jis tarah ke jis din narendr modee jee ne lagavaaya tha usake agale din aapake svaasthy mantree ne bhee apana lagavaaya hai teekaakaran to yah dekhie aisa tha ki jo bhee karm hai usee hisaab se narendr modee jee ne apanee khuraak list mein mujhe nahin lagata ki koee bahut jyaada deree kee ya phir bahut jaldee jaldee baajee kee

#पढ़ाई लिखाई

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:24
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या निजी स्कूलों की किताबों की कीमतों पर नियंत्रण जरूरी नहीं है तो देखिए इन चीजों पर नियंत्रण तो बहुत ही जरूरी है क्योंकि जिस तरीके से अभी स्कूल का धंधा हो चुका है लोग बस केवल कमाने का स्कोर जरिया बना लिए हैं आगे से सी बी एस सी स्कूलों पर सीबीएसई ओर आईसीएसई इसकी स्कूलों को देखेंगे तो बेसिकली वहां पर क्या होता है कि अभी जैसे भारत सरकार द्वारा एनसीईआरटी की बुक से अधिकतर सरकारी स्कूलों में यूज होती है तो की एनसीईआरटी की बुक्स वैसे भी बहुत अच्छी है कि अगर आप अब एनसीईआरटी की बुक पकड़ते हैं तो आप कहीं ना कहीं पर बहुत अच्छा करते हैं कहीं ने हर जगह पर आप काफी अच्छा करते हैं क्योंकि आपका पूरा उत्सव पीस सारा मजबूत किया जाता है क्योंकि आपको आपने जब कभी भी देखा होगा कोई भी आईएएस की तैयारी करता है पीसीएस की तैयारी करता है तो हर कोई हर एक एक्सपीरियंस एनसीईआरटी बुक से अपनी शुरुआत करता है पूरा उस सारी चीज होगी लेकिन अभी क्या हो गया कि जिस तरीके से धंधा लोगों ने बना दिया है धंधा बनाकर इसको काम करना शुरू कर दिया है धंधा बना दिया है पैसा कमाने के लिए कोई टूगेदर चला रहा है कोई कुछ चला रहा है और क्या हाल फिलहाल में ऐसा देखा देखा जा रहा है स्कूलों में कि वह आपको बातें करते हैं स्कूल की बुक खरीदने के लिए अगर कोई दूसरा और दूसरी का यूज नहीं करता है वर्क बुक की तरह होने लगी अब किताबें भी वर्क बुक की तरह होने लगी है क्या वह किताब नहीं बदला है वह सारी चीजें होती वह किताबें भर जाती है तो कोई दूसरा यूज नहीं कर सकता है तो यह सारी चीज है एक मार्केटिंग का जरिया है और बच्चों को लूटने का जरिया पैरंट्स को लूटने का जरिया है जो कि बहुत ही गलत है जैसे जो जो भी गरीब परिवार से कोई भी गया किसान परिवार से आ रहा है कोई बच्चा स्कूल पढ़ने के लिए तो उसके माता-पिता उसे उन सारी चीजों पर फोन नहीं कर सकता कर पा रहे हैं और लेकिन स्कूल के जो मालिक है उन्हें वह एकदम जरूरी कर दिया है कि आपको हमारी जो किताबें हो बस इसी दुकान पर मिल कितने दाम में मिलेगी आपको उन्हीं किताबों को खरीदना ही होगा नहीं तो वह स्कूल में आपके बच्चों के साथ अलग भी है बीयर करते हैं खड़ा कर देंगे उनको दंड देंगे पनिशमेंट देंगे तो यह सारी चीजें बहुत ही गलत है और सरकार को इस तरीके इस जगह पर किसी ने किसी तरीके से ध्यान देने की बहुत ज्यादा जरूरत है क्योंकि यह एक तरीके से पेरेंट्स और बच्चों का दोनों लोग का शोषण हो रहा है
Namaskaar mitron main sachin paathak jaisa ki aapaka prashn hai ki kya nijee skoolon kee kitaabon kee keematon par niyantran jarooree nahin hai to dekhie in cheejon par niyantran to bahut hee jarooree hai kyonki jis tareeke se abhee skool ka dhandha ho chuka hai log bas keval kamaane ka skor jariya bana lie hain aage se see bee es see skoolon par seebeeesee or aaeeseeesee isakee skoolon ko dekhenge to besikalee vahaan par kya hota hai ki abhee jaise bhaarat sarakaar dvaara enaseeeeaaratee kee buk se adhikatar sarakaaree skoolon mein yooj hotee hai to kee enaseeeeaaratee kee buks vaise bhee bahut achchhee hai ki agar aap ab enaseeeeaaratee kee buk pakadate hain to aap kaheen na kaheen par bahut achchha karate hain kaheen ne har jagah par aap kaaphee achchha karate hain kyonki aapaka poora utsav pees saara majaboot kiya jaata hai kyonki aapako aapane jab kabhee bhee dekha hoga koee bhee aaeeees kee taiyaaree karata hai peeseees kee taiyaaree karata hai to har koee har ek eksapeeriyans enaseeeeaaratee buk se apanee shuruaat karata hai poora us saaree cheej hogee lekin abhee kya ho gaya ki jis tareeke se dhandha logon ne bana diya hai dhandha banaakar isako kaam karana shuroo kar diya hai dhandha bana diya hai paisa kamaane ke lie koee toogedar chala raha hai koee kuchh chala raha hai aur kya haal philahaal mein aisa dekha dekha ja raha hai skoolon mein ki vah aapako baaten karate hain skool kee buk khareedane ke lie agar koee doosara aur doosaree ka yooj nahin karata hai vark buk kee tarah hone lagee ab kitaaben bhee vark buk kee tarah hone lagee hai kya vah kitaab nahin badala hai vah saaree cheejen hotee vah kitaaben bhar jaatee hai to koee doosara yooj nahin kar sakata hai to yah saaree cheej hai ek maarketing ka jariya hai aur bachchon ko lootane ka jariya pairants ko lootane ka jariya hai jo ki bahut hee galat hai jaise jo jo bhee gareeb parivaar se koee bhee gaya kisaan parivaar se aa raha hai koee bachcha skool padhane ke lie to usake maata-pita use un saaree cheejon par phon nahin kar sakata kar pa rahe hain aur lekin skool ke jo maalik hai unhen vah ekadam jarooree kar diya hai ki aapako hamaaree jo kitaaben ho bas isee dukaan par mil kitane daam mein milegee aapako unheen kitaabon ko khareedana hee hoga nahin to vah skool mein aapake bachchon ke saath alag bhee hai beeyar karate hain khada kar denge unako dand denge panishament denge to yah saaree cheejen bahut hee galat hai aur sarakaar ko is tareeke is jagah par kisee ne kisee tareeke se dhyaan dene kee bahut jyaada jaroorat hai kyonki yah ek tareeke se perents aur bachchon ka donon log ka shoshan ho raha hai

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
टेस्ला के मालिक कौन है?Tesla Ke Malik Kaun Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:32
जैसा कि आपने हाल फिलहाल में देखा होगा कि लोगों के बीच में हेलन उसका नाम बहुत तेजी से घूम रहा था क्योंकि वह विश्व के सबसे अमीर आदमी बन गए थे तो यह जो ऐलन मस्ती है वही टकला के मालिक हैं उन्होंने ही फैसला किया को नीचा हत्या टेस्ला की कार को नीचा क्यों और कैसे जोकि बेसिकली एक इलेक्ट्रिक का कार की कंडीशन की कंपनी है जो कि इलेक्ट्रिक से चलती है
Jaisa ki aapane haal philahaal mein dekha hoga ki logon ke beech mein helan usaka naam bahut tejee se ghoom raha tha kyonki vah vishv ke sabase ameer aadamee ban gae the to yah jo ailan mastee hai vahee takala ke maalik hain unhonne hee phaisala kiya ko neecha hatya tesla kee kaar ko neecha kyon aur kaise joki besikalee ek ilektrik ka kaar kee kandeeshan kee kampanee hai jo ki ilektrik se chalatee hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
किन लोगों को अपनी किस्मत पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए?Kin Logon Ko Apni Kismat Par Bilkul Bhi Bharosa Nahi Karna Chahiye
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:49
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि किस तरह के लोगों को अपनी किस्मत पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए ठीक है तो देख कर मैं यह कहता हूं कि अगर कोई भी व्यक्ति है कोई भी व्यक्ति हो आप हो हम हो कोई लड़की हो कोई आपकी मां हो बहनों कोई भी हो इसमें कोई भी व्यक्ति हो उसे अपने एक किस्मत पर भरोसा कभी भी नहीं करना चाहिए ठीक है क्योंकि आप जब तक मेहनत नहीं करेंगे तब तक आप अपने उस किस्मत को साथ होने का एहसास कुछ भी नहीं सकते किसी चीज के बारे में जानने की कोशिश नहीं करेंगे तब तक कहां से देगी तो अगर आप कोई भी कार्य को करना चाहते हैं मतलब कोई भी व्यक्ति में किसी भी व्यक्ति की बात करो अगर वह किसी भी कार्य को शुरू ही नहीं करेगा अगर उसको आगे बढ़ेगा नहीं तब तक उसकी किस्मत कैसे हो साहब तुम मेरा मानना यही है कि जितने भी आक्रमण लोग हैं या फिर आप कोई भी चीज काम शुरू नहीं करते हो मेहनत नहीं करते हो ऐसे लोगों को कभी भी अपनी किस्मत पर किसी को भरोसा नहीं होना चाहिए अगर आप कार्य करते हैं लगातार मेहनत कर रहे हैं सब चीज कर रहे हैं तब आपको अपनी किस्मत में जरूर भरोसा भरोसा होना चाहिए क्योंकि क्योंकि आप मेहनत कर रहा हूं आपकी मेहनत का रिजल्ट है लेकिन आप उसको कहते हैं कि मेरी किस्मत थी कि यह चीजें ऐसे बैठ गई ठीक है जाएगा आप उसे भाग्यशाली होते हुए मानते हुए ले कर ले लीजिए या फिर संजू बोली जो कुछ भी बोल दीजिए लेकिन यह आप की मेहनत का नतीजा होता है ना कि हर बार आपकी किस्मत का धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai ki kis tarah ke logon ko apanee kismat par bilkul bhee bharosa nahin karana chaahie theek hai to dekh kar main yah kahata hoon ki agar koee bhee vyakti hai koee bhee vyakti ho aap ho ham ho koee ladakee ho koee aapakee maan ho bahanon koee bhee ho isamen koee bhee vyakti ho use apane ek kismat par bharosa kabhee bhee nahin karana chaahie theek hai kyonki aap jab tak mehanat nahin karenge tab tak aap apane us kismat ko saath hone ka ehasaas kuchh bhee nahin sakate kisee cheej ke baare mein jaanane kee koshish nahin karenge tab tak kahaan se degee to agar aap koee bhee kaary ko karana chaahate hain matalab koee bhee vyakti mein kisee bhee vyakti kee baat karo agar vah kisee bhee kaary ko shuroo hee nahin karega agar usako aage badhega nahin tab tak usakee kismat kaise ho saahab tum mera maanana yahee hai ki jitane bhee aakraman log hain ya phir aap koee bhee cheej kaam shuroo nahin karate ho mehanat nahin karate ho aise logon ko kabhee bhee apanee kismat par kisee ko bharosa nahin hona chaahie agar aap kaary karate hain lagaataar mehanat kar rahe hain sab cheej kar rahe hain tab aapako apanee kismat mein jaroor bharosa bharosa hona chaahie kyonki kyonki aap mehanat kar raha hoon aapakee mehanat ka rijalt hai lekin aap usako kahate hain ki meree kismat thee ki yah cheejen aise baith gaee theek hai jaega aap use bhaagyashaalee hote hue maanate hue le kar le leejie ya phir sanjoo bolee jo kuchh bhee bol deejie lekin yah aap kee mehanat ka nateeja hota hai na ki har baar aapakee kismat ka dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या किसी को आर्मी बनना है तो उसे एनसीसी जरूरी है जल्दी से जल्दी बनने के लिए?Kya Kisee Ko Aarmee Banana Hai To Use Enaseesee Jarooree Hai Jaldee Se Jaldee Banane Ke Lie
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:24
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है क्या किसी को आर्मी बनना है तो उसे एनसीसी जरूरी है जल्दी से जल्द बनने के लिए देखिए मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि यह बिल्कुल भी जरूरी नहीं है कि अगर आपको ए का आर्मी का ऑफिसर बनना है या फिर आपको आर्मी में शामिल होना है या फिर आपको किसी भी सेना का जवान बनना है ऐसे किसी भी स्तर पर मतलब जैसे भी जो भी जवान सेना के सेना के लोग में होते हैं थल सेना वायु सेना या फिर आपको नेवी किसी का भी अगर आपको जैसे अनेक है या फिर ऑफिसर बनना या फिर कुछ भी है ऐसा बिल्कुल भी जरूरी नहीं है कि आपको एनसीसी एनसीसी होना बिल्कुल भी जरूरी नहीं है आप बिना एनसीसी के भी एक और मीका ऑफिसर बन सकते हैं ठीक है लेकिन कुछ ऐसी पोस्ट होती है जो डायरेक्ट ली अगर आपको आर्मी में जाना है तो एनसीसी के तू भी आपकी उसमें ले सकते आप एक आर्मी का जवान बन सकते हैं तो वह हो सकता है लेकिन ऐसा नहीं है बिल्कुल हाल है लेकिन यह होता है कि अगर आपने एनसीसी की है ठीक है अगर आप नेशनल कैडेट कोर की है सदस्य हैं और आपने अपनी पूरी जो भी सिगरेट बी ग्रेड सी ग्रेड वाला जो भी सर्टिफिकेट होता है अगर आपने लिया है और आपने अच्छे तरीके से की है आपको उस सारी चीजों के बीच मिलते हैं और ना यह केवल भारतीय सेना के लिए यह नहीं है आपको अगर आप एनसीसी तो आप देखोगे किसी भी सब इंस्पेक्टर की भर्ती आती है या फिर कोई भी भर्ती आती है उसमें एनसीसी के अलग से मार्क्स होते हैं ठीक है अभी आपको 2 नंबर 3 नंबर 4 नंबर 5 नंबर एक्स्ट्रा वेटेज मिलता है जो कि बहुत ही बेनिफिशियल है आपके किसी भी कॉन्पिटिटिव एग्जाम के लिए ठीक है और रही बात अगर आपको आर्मी में जाना तो वहां पर कई ऑप्शन से दौड़ से होता है रिटेन एग्जाम से होता है आप सीरियस के तू जा सकते हो फिर आप एनसीसी के थ्रू में भी जा सकते हो फिर आप एनडीए दे सकते हो एयर फोर्स के कई टेक्निकल पोस्ट आती है उसमें जा सकते हो फिर आप यह पूछ कि नार्मल भर्ती जाती है फिर भी आती है तो बेसिकली आप एसएससी के थ्रू में एंट्री के झूमे जैसे सीआरपीएफ एनुअल यह सारी चीजों में बिल्कुल जा सकते हो ऐसा बिल्कुल भी जरूरी कि आप अगर एनसीसी नहीं है तो आप एक आर्मी का ऑफिसर नहीं बन सकती अकादमी के सैनिक नहीं बन सकते तो आपको लेकिन यह करने पड़ेंगे आपको उसकी शारीरिक दक्षता वाले जो पेपर होते हैं जो भी गलत आपका फिजिकल एसेसमेंट होता है आपको वह सारी चीजें क्लियर करनी पड़ेगी तो इसके थ्रू आप जल्दी से जल्द आर्मी में जा सकते हैं धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai kya kisee ko aarmee banana hai to use enaseesee jarooree hai jaldee se jald banane ke lie dekhie main aapakee jaanakaaree ke lie bata doon ki yah bilkul bhee jarooree nahin hai ki agar aapako e ka aarmee ka ophisar banana hai ya phir aapako aarmee mein shaamil hona hai ya phir aapako kisee bhee sena ka javaan banana hai aise kisee bhee star par matalab jaise bhee jo bhee javaan sena ke sena ke log mein hote hain thal sena vaayu sena ya phir aapako nevee kisee ka bhee agar aapako jaise anek hai ya phir ophisar banana ya phir kuchh bhee hai aisa bilkul bhee jarooree nahin hai ki aapako enaseesee enaseesee hona bilkul bhee jarooree nahin hai aap bina enaseesee ke bhee ek aur meeka ophisar ban sakate hain theek hai lekin kuchh aisee post hotee hai jo daayarekt lee agar aapako aarmee mein jaana hai to enaseesee ke too bhee aapakee usamen le sakate aap ek aarmee ka javaan ban sakate hain to vah ho sakata hai lekin aisa nahin hai bilkul haal hai lekin yah hota hai ki agar aapane enaseesee kee hai theek hai agar aap neshanal kaidet kor kee hai sadasy hain aur aapane apanee pooree jo bhee sigaret bee gred see gred vaala jo bhee sartiphiket hota hai agar aapane liya hai aur aapane achchhe tareeke se kee hai aapako us saaree cheejon ke beech milate hain aur na yah keval bhaarateey sena ke lie yah nahin hai aapako agar aap enaseesee to aap dekhoge kisee bhee sab inspektar kee bhartee aatee hai ya phir koee bhee bhartee aatee hai usamen enaseesee ke alag se maarks hote hain theek hai abhee aapako 2 nambar 3 nambar 4 nambar 5 nambar ekstra vetej milata hai jo ki bahut hee beniphishiyal hai aapake kisee bhee konpititiv egjaam ke lie theek hai aur rahee baat agar aapako aarmee mein jaana to vahaan par kaee opshan se daud se hota hai riten egjaam se hota hai aap seeriyas ke too ja sakate ho phir aap enaseesee ke throo mein bhee ja sakate ho phir aap enadeee de sakate ho eyar phors ke kaee teknikal post aatee hai usamen ja sakate ho phir aap yah poochh ki naarmal bhartee jaatee hai phir bhee aatee hai to besikalee aap esesasee ke throo mein entree ke jhoome jaise seeaarapeeeph enual yah saaree cheejon mein bilkul ja sakate ho aisa bilkul bhee jarooree ki aap agar enaseesee nahin hai to aap ek aarmee ka ophisar nahin ban sakatee akaadamee ke sainik nahin ban sakate to aapako lekin yah karane padenge aapako usakee shaareerik dakshata vaale jo pepar hote hain jo bhee galat aapaka phijikal esesament hota hai aapako vah saaree cheejen kliyar karanee padegee to isake throo aap jaldee se jald aarmee mein ja sakate hain dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्यों एक लड़की सच्चे लड़के की फीलिंग को समझ नहीं पाती?Kyun Ek Ladki Sache Ladke Ki Felling Ko Samajh Nahin Pati
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:21
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष आ गए प्रश्नों के उत्तर के साथ ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्यों एक लड़की सच्चे लड़की की फीलिंग को समझ नहीं पाती तो देखिए यह कहना बिल्कुल ही गलत है कि कोई भी अगर लड़की है तो वह एक सच्चे लड़की की फीलिंग को नहीं समझ पाती ठीक है यह कोई जरूरी चीज नहीं है कि अगर आप किसी भी व्यक्ति को प्यार करते हो या फिर किसी भी लड़की को आप प्यार करती हूं तू वह लड़की भी आपको उतना ही प्यार प्यार करती है ठीक है तू कभी क्या-क्या कहीं-कहीं सी नारियों में क्या होता है कि आप वह लड़की को एकतरफा प्यार करते हो ठीक है ऐसा बिल्कुल भी बिल्कुल भी नहीं है कि आप कि आप उसको प्यार कर रहे हो तो वह सामने वाला भी आपको प्यार करेगा ठीक है तो पहले हमें इस चीज को समझने की जरूरत है अगर आप किसी के साथ प्यार में हो तो आप उसकी भी इतना इंसर्ट को देखो आप उसमें उनको भी देखें कि क्या कहते हैं क्या वह लड़की आपके लिए क्या आपको प्यार करती है कि नहीं या फिर वह केवल आपको यूज़ कर रही है या फिर यह दोनों के लिए हो सकती हो सकता है कोई लड़की भी किसी लड़के को बहुत ज्यादा प्यार करती हूं ठीक है ना समझता हूं और आपको समझ नहीं पड़ेगी कि आप किस व्यक्ति से प्यार कर रहे हैं किस लड़की से प्यार कर रहे हैं क्या वह आपकी फीलिंग की कद्र करती है कि नहीं क्या हुआ आपको प्यार करती है कि या फिर आपको यूज़ कर रही है ठीक है हमें समझने की कोई समझना पड़ेगा कि हम वह हमको अपने चुनाव करना पड़ेगा कि क्या है वह आप मुझसे प्यार करते हो कि सामने वाला करता है कि नहीं करता है ठीक है तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि कोई लड़की एक सच्ची लड़की की फिल्म नहीं समझ पाती है अक्सर कि कोई लड़का किसी भी लड़की के देखे फिदा हो जाएगा और उसे प्यार करना लगता है जबकि लड़की क्या कहते हैं आपको बिल्कुल भी नहीं चाहती और उस टाइम क्या होता है कि आज का जो जमाना है बहुत ही स्वार्थी समान है ठीक है लोग देखते हैं कि हां सामने वाला बस शुरू हो गया प्यार करना तो उनकी फायदा उठाने लगते हैं आपको यूज़ करेगी लड़की आपको यूज़ करने लगती है और आप फिर जब काम हो पता है तू आपको चाय की मक्खी की तरह निकाल कर फेंक देती है तो यह चीज है हमें समझ नहीं पड़ेगी चाहे वह लड़का हो या फिर लड़की दोनों को समझ नहीं पड़ेगी कौन कैसा है उसकी फीलिंग को समझ समझ नहीं पड़ेगी उसकी सोच सोच को समझना पड़ेगा कि वह क्या करना चाह रही है अगर आप बार-बार उसके पीछे ऐसे लगे ही रहेंगे तो यह चीज तो होनी होनी है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh aa gae prashnon ke uttar ke saath hee jaisa ki aapaka prashn hai ki kyon ek ladakee sachche ladakee kee pheeling ko samajh nahin paatee to dekhie yah kahana bilkul hee galat hai ki koee bhee agar ladakee hai to vah ek sachche ladakee kee pheeling ko nahin samajh paatee theek hai yah koee jarooree cheej nahin hai ki agar aap kisee bhee vyakti ko pyaar karate ho ya phir kisee bhee ladakee ko aap pyaar karatee hoon too vah ladakee bhee aapako utana hee pyaar pyaar karatee hai theek hai too kabhee kya-kya kaheen-kaheen see naariyon mein kya hota hai ki aap vah ladakee ko ekatarapha pyaar karate ho theek hai aisa bilkul bhee bilkul bhee nahin hai ki aap ki aap usako pyaar kar rahe ho to vah saamane vaala bhee aapako pyaar karega theek hai to pahale hamen is cheej ko samajhane kee jaroorat hai agar aap kisee ke saath pyaar mein ho to aap usakee bhee itana insart ko dekho aap usamen unako bhee dekhen ki kya kahate hain kya vah ladakee aapake lie kya aapako pyaar karatee hai ki nahin ya phir vah keval aapako yooz kar rahee hai ya phir yah donon ke lie ho sakatee ho sakata hai koee ladakee bhee kisee ladake ko bahut jyaada pyaar karatee hoon theek hai na samajhata hoon aur aapako samajh nahin padegee ki aap kis vyakti se pyaar kar rahe hain kis ladakee se pyaar kar rahe hain kya vah aapakee pheeling kee kadr karatee hai ki nahin kya hua aapako pyaar karatee hai ki ya phir aapako yooz kar rahee hai theek hai hamen samajhane kee koee samajhana padega ki ham vah hamako apane chunaav karana padega ki kya hai vah aap mujhase pyaar karate ho ki saamane vaala karata hai ki nahin karata hai theek hai to aisa bilkul bhee nahin hai ki koee ladakee ek sachchee ladakee kee philm nahin samajh paatee hai aksar ki koee ladaka kisee bhee ladakee ke dekhe phida ho jaega aur use pyaar karana lagata hai jabaki ladakee kya kahate hain aapako bilkul bhee nahin chaahatee aur us taim kya hota hai ki aaj ka jo jamaana hai bahut hee svaarthee samaan hai theek hai log dekhate hain ki haan saamane vaala bas shuroo ho gaya pyaar karana to unakee phaayada uthaane lagate hain aapako yooz karegee ladakee aapako yooz karane lagatee hai aur aap phir jab kaam ho pata hai too aapako chaay kee makkhee kee tarah nikaal kar phenk detee hai to yah cheej hai hamen samajh nahin padegee chaahe vah ladaka ho ya phir ladakee donon ko samajh nahin padegee kaun kaisa hai usakee pheeling ko samajh samajh nahin padegee usakee soch soch ko samajhana padega ki vah kya karana chaah rahee hai agar aap baar-baar usake peechhe aise lage hee rahenge to yah cheej to honee honee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
लेक्चर बनने के लिए क्या करना होगा?Lecturer Banne Ke Liye Kya Karna Hoga
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:33
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ एक ही जैसा कि आपका प्रश्न है कि लेक्चरर बनने के लिए क्या करना होगा तो जैसे बेसिकली आप लेक्चरर मतलब जो भी आपस नॉर्मली जिसको प्रोसेसर भी कहा जाता है जैसे कि आप का आयोजन डिग्री कॉलेज के पढ़ाने लगते हैं तो उससे मैं आपको लेक्चरर कहा जाता है या फिर अच्छा प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसर एसोसिएट प्रोफेसर प्रोफेसर की भर्ती होती है तो चैन की प्रक्रिया होती है इसके लिए अलग-अलग चयन की प्रक्रिया है पहली बात तो अगर आप प्रोफेसर असिस्टेंट प्रोफेसर एसोसिएट प्रोफेसर बनना चाहते हैं ठीक है मान लीजिए देकर अगर आप देखेंगे तो सबसे पहले असिस्टेंट प्रोफेसर की पोस्ट आती है तो बेसिकली आप असिस्टेंट प्रोफ़ेसर ही शुरु करते हैं अपने कैरियर की अगर आप लेक्चरर बनता है तो उसके लिए देखें सबसे पहले की जरूरी है कि आपको अभी नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट उसने कहा जाता है पहले आपको वह क्वालीफाई करना होता है जैसे वह बेसिकली आपका जो नेट होता है वह आप को जितने भी पर्सन मार्क्स होते हैं उसके आपको 60% के मार्क्स आपको जरूरी होते हैं तो पहली बात तो है कि आपको नेट क्वालीफाई होना चाहिए यह सबसे पहला क्राइटेरिया है सबसे पहला क्राइटेरिया नेट और नेट वही दे सकता है जो आप जिसने पोस्ट ग्रेजुएशन या फिर ग्रेजुएशन की हुई है ठीक है आपको नेट पास होने के लिए भेज वेट होना जरूरी है नेट अगर आप क्लियर करना चाहते हो तो आपको वह करना जरूरी है नेट पिया करना ठीक है उसके बाद आपको जैसे कई आफ यूनिवर्सिटीज देखेंगे जिस में अगर आप पहले बनना चाहते हैं तो आपको पीएचडी करना जरूरी होता है आपको प्लीज अगर आप पीएचडी नहीं करेंगे तो आप प्रोफेसर नहीं बन सकते और जैसे आपको एग्जाम लेक्चरर बनने के लिए कई कई स्टेट यूनिवर्सिटी होती है वह अपना कॉमेंट की तरफ से उनको नोटिफिकेशन आता है उसकी अलग एग्जाम होती है कई ऐसी यूनिवर्सिटीज है जो अपना खुद का खुद का वह करती है जैसे नॉर्मली अगर नेट लेना कर रहा है तू भी आप टीचर बना सकते जैसे मैं प्राइवेट यूनिवर्सिटीज की बात कर रहा हूं तो अलग-अलग मापदंड है लेकिन हम कठेरिया कि आपको नेट क्वालीफाई करना होगा यह सबसे जरूरी है और अगर माली कोई स्टेट यूनिवर्सिटीज अपना करवाती है कोई शासन करवाती है तो उसके लिए प्रवेश की परीक्षा प्रवेश परीक्षा इंटर साइंस मतलब आपका एग्जाम होता है आपको एग्जाम क्रैक करना होता है आपकी जो मेरिट होती है उसको मेरिट में आना होता है तो बेसिकली है आपका कुछ क्राइटेरिया है जो अलग-अलग यूनिवर्सिटी द्वारा अलग-अलग शासन द्वारा अलग-अलग राज द्वारा अपना-अपना सेट किया जाता है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath ek hee jaisa ki aapaka prashn hai ki lekcharar banane ke lie kya karana hoga to jaise besikalee aap lekcharar matalab jo bhee aapas normalee jisako prosesar bhee kaha jaata hai jaise ki aap ka aayojan digree kolej ke padhaane lagate hain to usase main aapako lekcharar kaha jaata hai ya phir achchha prophesar aur asistent prophesar esosiet prophesar prophesar kee bhartee hotee hai to chain kee prakriya hotee hai isake lie alag-alag chayan kee prakriya hai pahalee baat to agar aap prophesar asistent prophesar esosiet prophesar banana chaahate hain theek hai maan leejie dekar agar aap dekhenge to sabase pahale asistent prophesar kee post aatee hai to besikalee aap asistent profesar hee shuru karate hain apane kairiyar kee agar aap lekcharar banata hai to usake lie dekhen sabase pahale kee jarooree hai ki aapako abhee neshanal elijibilitee test usane kaha jaata hai pahale aapako vah kvaaleephaee karana hota hai jaise vah besikalee aapaka jo net hota hai vah aap ko jitane bhee parsan maarks hote hain usake aapako 60% ke maarks aapako jarooree hote hain to pahalee baat to hai ki aapako net kvaaleephaee hona chaahie yah sabase pahala kraiteriya hai sabase pahala kraiteriya net aur net vahee de sakata hai jo aap jisane post grejueshan ya phir grejueshan kee huee hai theek hai aapako net paas hone ke lie bhej vet hona jarooree hai net agar aap kliyar karana chaahate ho to aapako vah karana jarooree hai net piya karana theek hai usake baad aapako jaise kaee aaph yoonivarsiteej dekhenge jis mein agar aap pahale banana chaahate hain to aapako peeechadee karana jarooree hota hai aapako pleej agar aap peeechadee nahin karenge to aap prophesar nahin ban sakate aur jaise aapako egjaam lekcharar banane ke lie kaee kaee stet yoonivarsitee hotee hai vah apana koment kee taraph se unako notiphikeshan aata hai usakee alag egjaam hotee hai kaee aisee yoonivarsiteej hai jo apana khud ka khud ka vah karatee hai jaise normalee agar net lena kar raha hai too bhee aap teechar bana sakate jaise main praivet yoonivarsiteej kee baat kar raha hoon to alag-alag maapadand hai lekin ham katheriya ki aapako net kvaaleephaee karana hoga yah sabase jarooree hai aur agar maalee koee stet yoonivarsiteej apana karavaatee hai koee shaasan karavaatee hai to usake lie pravesh kee pareeksha pravesh pareeksha intar sains matalab aapaka egjaam hota hai aapako egjaam kraik karana hota hai aapakee jo merit hotee hai usako merit mein aana hota hai to besikalee hai aapaka kuchh kraiteriya hai jo alag-alag yoonivarsitee dvaara alag-alag shaasan dvaara alag-alag raaj dvaara apana-apana set kiya jaata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
सूक्ष्म जीवों द्वारा बनाए गए खाने की चीजों के दो उदाहरण?Sookshm Jeevo Dwara Banaye Gaye Khane Ki Cheejo Ke Do Udahran
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:23
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न की सूक्ष्म जीवों द्वारा बनाए गए खाने की चीजों के दो उदाहरण तो देखिए मैं आपको बता देता हूं कि सूक्ष्म जीवों द्वारा बनाए गए कुछ पदार्थ या फिर कोई प्रोडक्ट जो कि हमारे द्वारा यूज किए जाते हैं यानी खाने के लिए यूज किए जाते हैं तो देखिए जहां तक मुझे पता है कि आप लोग से मैक्सिमम लोग दही से जरूर ही परिचित होंगे तो दही है वह भी बहुत ही सूक्ष्म जीव के द्वारा बनाई जाती है जो कि जो जिसे अगर आप निकाल कर जो रन डालते हैं तो उसमें जो बैग बेसिकली लेक्टोबेसिल आई नाम के जो सूक्ष्म जीव होते हैं उनके कारण पूरा पूरा आपकी दही जम जाती है तो पहला उदाहरण है दही दूसरा उदाहरण आपका अगर आपने सर का देखा होगा सिरका बेसिकली जो गन्ने के रस से बनाया जाता है उसमें भी सूक्ष्म जीवों के कारण बनते हैं और तीसरी चीज है जो आपकी ब्रेड ब्रेड में भी आपका जो बेसिकली फंगस से फंगस कर 15 की जाती है तो बेसिकली यह का कुछ तीन उदाहरण है जैसे अगर आपने कभी भटूरा खाया होगा तो भटूरे में खमीर उठाई जाती है उसका जो उसका मैदान सेट कर रखते हैं उसमें भी बेसिकली खमीर उठाई जाती है तो बेसिकली वह भी आपका जो है सुकून ही उतारा ही बनकर वह कभी रुकती है तो यह कुछ उदाहरण है जो सूक्ष्म जीवों द्वारा बनाया जाता है खाने के उदाहरण धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh apane prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn kee sookshm jeevon dvaara banae gae khaane kee cheejon ke do udaaharan to dekhie main aapako bata deta hoon ki sookshm jeevon dvaara banae gae kuchh padaarth ya phir koee prodakt jo ki hamaare dvaara yooj kie jaate hain yaanee khaane ke lie yooj kie jaate hain to dekhie jahaan tak mujhe pata hai ki aap log se maiksimam log dahee se jaroor hee parichit honge to dahee hai vah bhee bahut hee sookshm jeev ke dvaara banaee jaatee hai jo ki jo jise agar aap nikaal kar jo ran daalate hain to usamen jo baig besikalee lektobesil aaee naam ke jo sookshm jeev hote hain unake kaaran poora poora aapakee dahee jam jaatee hai to pahala udaaharan hai dahee doosara udaaharan aapaka agar aapane sar ka dekha hoga siraka besikalee jo ganne ke ras se banaaya jaata hai usamen bhee sookshm jeevon ke kaaran banate hain aur teesaree cheej hai jo aapakee bred bred mein bhee aapaka jo besikalee phangas se phangas kar 15 kee jaatee hai to besikalee yah ka kuchh teen udaaharan hai jaise agar aapane kabhee bhatoora khaaya hoga to bhatoore mein khameer uthaee jaatee hai usaka jo usaka maidaan set kar rakhate hain usamen bhee besikalee khameer uthaee jaatee hai to besikalee vah bhee aapaka jo hai sukoon hee utaara hee banakar vah kabhee rukatee hai to yah kuchh udaaharan hai jo sookshm jeevon dvaara banaaya jaata hai khaane ke udaaharan dhanyavaad

#खेल कूद

bolkar speaker
corona की सबसे पहली बेसिन किसे लगी थी?Corona Ki Sabse Peheli Vecin Kise Lagi Thi
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:42
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के साथ ऐसा किया आपका प्रश्न है कि कोरोनावायरस से पहली वैक्सीन थी वह किसी लगी थी जैसा कि आप लोग को पता होगा कि जो करो ना कि भाग से नहीं सुनती सबसे पहले आपकी दो सफाई कर्मी हो और जितने भी डॉक्टर्स की टीम थी उनको लगना शुरू लगने की शुरुआत हुई तो इसी की चौकड़ी में सर्वप्रथम भारत में जिसको करुणा की वैक्सीन लगी वह थे एम्स के सफाई कर्मी शिव मनीष कुमार जी ने 16 जनवरी को सबसे पहले वैक्सीन लगी कोरोनावायरस
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke saath aisa kiya aapaka prashn hai ki koronaavaayaras se pahalee vaikseen thee vah kisee lagee thee jaisa ki aap log ko pata hoga ki jo karo na ki bhaag se nahin sunatee sabase pahale aapakee do saphaee karmee ho aur jitane bhee doktars kee teem thee unako lagana shuroo lagane kee shuruaat huee to isee kee chaukadee mein sarvapratham bhaarat mein jisako karuna kee vaikseen lagee vah the ems ke saphaee karmee shiv maneesh kumaar jee ne 16 janavaree ko sabase pahale vaikseen lagee koronaavaayaras

#खेल कूद

bolkar speaker
वेस्ट बंगाल पुलिस भर्ती की परीक्षा कब है?West Bangal Police Bharti Ki Pariksha Kab Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:50
नमस्कार मित्र सचिन पाठक कि आपका प्रश्न है कि बस पर पुलिस भर्ती की परीक्षा कब है तो देखिए आपको पता है कि अभी फिलहाल फिलहाल में आपका जॉब नोटिफिकेशन ता हुआ अब तक 23 जनवरी को आया था और जो आपकी लास्ट एडमिशन की डेट थी वह भी सब रही थी जैसा कि चुनाव के चलते जेल के मद्देनजर अभी तक उसकी डेट नहीं आई है क्योंकि किसी को पता नहीं था कि कब तक चुनाव होंगे क्या क्या कब तक अधिसूचना जारी होगी और कब तक चुनाव में जिसके कारण अभी तक उसके परीक्षा की भर्ती की डेट नहीं आई है लेकिन अब जहां तक उम्मीद है क्योंकि आप लोगों को सभी को पता है कि 27 मार्च से चुनाव होने वाले हैं तो जहां तक मुझे उम्मीद है कि आपका अगली सरकार के बनने के बाद भी एस की परीक्षा की डेट आएगी
Namaskaar mitr sachin paathak ki aapaka prashn hai ki bas par pulis bhartee kee pareeksha kab hai to dekhie aapako pata hai ki abhee philahaal philahaal mein aapaka job notiphikeshan ta hua ab tak 23 janavaree ko aaya tha aur jo aapakee laast edamishan kee det thee vah bhee sab rahee thee jaisa ki chunaav ke chalate jel ke maddenajar abhee tak usakee det nahin aaee hai kyonki kisee ko pata nahin tha ki kab tak chunaav honge kya kya kab tak adhisoochana jaaree hogee aur kab tak chunaav mein jisake kaaran abhee tak usake pareeksha kee bhartee kee det nahin aaee hai lekin ab jahaan tak ummeed hai kyonki aap logon ko sabhee ko pata hai ki 27 maarch se chunaav hone vaale hain to jahaan tak mujhe ummeed hai ki aapaka agalee sarakaar ke banane ke baad bhee es kee pareeksha kee det aaegee

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
कंप्यूटर में शॉर्टकट कीज कौन-कौन सी हैं?Computer Me Shortcut Keys Kon Kon Si Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:57
घर में तो मैं सचिन पाठक जैसा कि आपका प्रश्न है कि कंप्यूटर में शॉर्टकट कीस कौन-कौन सी है तो देखिए जैसे कि मैं आपको बताऊं कि बहुत ढेर सारी शार्ट करी जाती है अगर मैं इन शब्दों को मलिक इस प्रश्न का उत्तर देने लगा तो शायद सारे प्रश्न का उत्तर मैं ना दे पहुंच जितनी भी शॉर्टकट फ्री जाती है क्योंकि बहुत ही ढेर सारी होती है तो बेसिकली मैं जितनी भी शॉर्टकट कीस जैसे आपकी वर्ड में यूज होती है तो मैं उसको बेसिक सही के लिए मैं आपको बताना चाहता हूं मैं कि जैसे कि आप जब कंट्रोल और एक साथ में दब आएंगे कंट्रोल तो जितना भी आपका कंटेंट सारे पेज का वह सेलेक्ट हो जाता है ठीक है जैसे ही आप कंट्रोल भी करेंगे तो वह जितने भी हो जा बोल्ड हाईलाइट सिलेक्शन हो जाएगा ठीक है अब आप जब कंट्रोल सी साथ में जलाते हैं कंट्रोल और सीधा जाएंगे तो जितने भी टेक्स्ट है वह आपके कॉपी हो जाएंगे जब आप कंट्रोल एक्स एक्स दब आएंगे तो काली जी से कट हो जाएगी कंट्रोल जब एंड दब आएंगे तो आपका कोई भी नया या फिर ब्लॉक जो नया डॉक्यूमेंट है वह खुल जाएगा कंट्रोल कंट्रोल हो आप को ओपन हो जाएगा कंट्रोल पी से कंट्रोल पीसी बेसिकली आपकी जो भी फाइल है वह प्रिंट के लिए कमांड देती है कंट्रोल एप से आप मत दे जैसे कोई भी चीज है अगर आपको फाइंड करनी है माली आपको अपना नाम सर्च करना है और आपको तो पैसे के लिए आप ऊपर भी जाएंगे या फिर जब ऐसे ही कंट्रोल आफ जब आएंगे तो उसमें आपका फाइंड का बॉक्स आ जाता है उसमें आप वह चीज सर्च करके उसको सर्च कर सकते हैं ठीक है आपका विवेक कंट्रोल के दिन आएंगे तो आप किसी भी लिंक को इंसल्ट कर लेंगे आप कंट्रोल यू दब आएंगे तो जितने भी आपके वर्ड है वहां के जो हाईलाइट पर सलेक्शन है वह अंडरलाइन हो जाता है ठीक है अब कंट्रोल विद अब आएंगे तो चीजें पेश हो जाती हैं कंट्रोल भाई से लास्ट एक्शन जो हुआ जाता है वह डिलीट हो जाता है ठीक है कंट्रोल रेट से अंडू होता है कंट्रोल जी से फाइंड और रिप्लाई भी ऑप्शन आता है और कंट्रोल ऐसे भी फाइनल रिप्लेस के ऑप्शन चाहते हैं ठीक है जब आप कंट्रोल डी दबाते हैं तो आप क्यों फोन क्यों शंस आते हैं ठीक है अगर आपको फोन चेंज करना है तो उसमें आप को कंट्रोल प्लस शिफ्ट प्लस एप्स कब आना होगा ठीक है कंट्रोल डब्लू से आप कोई भी डाक्यूमेंट्स को बंद कर सकते हैं आप सब कंट्रोल प्लस ए सब आएंगे तो आप चीजों को सेव कर सकते हैं आप जब कंट्रोल प्लस एप नहीं दबाते हैं तो वह जो अभी करंट विंडो है वह आपके मिनिमाइज हो जाती है कंट्रोल प्लस एक्सटेंड अब आएंगे तो आपकी जो करेंटली सिलेक्टेड वैल्यू है वह उतना समाहित हो जाती है ठीक है 2 प्लस एप फॉर से आपका जो करंट ओपन प्रोग्राम है वह बंद हो जाता है और कंट्रोल एयरपोर्ट से पूरा विंडो ही क्लोज हो जाती है यह आपके कुछ बेसिक से शॉर्टकट की थी जो आपको काम देती हैं धन्यवाद में
Ghar mein to main sachin paathak jaisa ki aapaka prashn hai ki kampyootar mein shortakat kees kaun-kaun see hai to dekhie jaise ki main aapako bataoon ki bahut dher saaree shaart karee jaatee hai agar main in shabdon ko malik is prashn ka uttar dene laga to shaayad saare prashn ka uttar main na de pahunch jitanee bhee shortakat phree jaatee hai kyonki bahut hee dher saaree hotee hai to besikalee main jitanee bhee shortakat kees jaise aapakee vard mein yooj hotee hai to main usako besik sahee ke lie main aapako bataana chaahata hoon main ki jaise ki aap jab kantrol aur ek saath mein dab aaenge kantrol to jitana bhee aapaka kantent saare pej ka vah selekt ho jaata hai theek hai jaise hee aap kantrol bhee karenge to vah jitane bhee ho ja bold haeelait silekshan ho jaega theek hai ab aap jab kantrol see saath mein jalaate hain kantrol aur seedha jaenge to jitane bhee tekst hai vah aapake kopee ho jaenge jab aap kantrol eks eks dab aaenge to kaalee jee se kat ho jaegee kantrol jab end dab aaenge to aapaka koee bhee naya ya phir blok jo naya dokyooment hai vah khul jaega kantrol kantrol ho aap ko opan ho jaega kantrol pee se kantrol peesee besikalee aapakee jo bhee phail hai vah print ke lie kamaand detee hai kantrol ep se aap mat de jaise koee bhee cheej hai agar aapako phaind karanee hai maalee aapako apana naam sarch karana hai aur aapako to paise ke lie aap oopar bhee jaenge ya phir jab aise hee kantrol aaph jab aaenge to usamen aapaka phaind ka boks aa jaata hai usamen aap vah cheej sarch karake usako sarch kar sakate hain theek hai aapaka vivek kantrol ke din aaenge to aap kisee bhee link ko insalt kar lenge aap kantrol yoo dab aaenge to jitane bhee aapake vard hai vahaan ke jo haeelait par salekshan hai vah andaralain ho jaata hai theek hai ab kantrol vid ab aaenge to cheejen pesh ho jaatee hain kantrol bhaee se laast ekshan jo hua jaata hai vah dileet ho jaata hai theek hai kantrol ret se andoo hota hai kantrol jee se phaind aur riplaee bhee opshan aata hai aur kantrol aise bhee phainal riples ke opshan chaahate hain theek hai jab aap kantrol dee dabaate hain to aap kyon phon kyon shans aate hain theek hai agar aapako phon chenj karana hai to usamen aap ko kantrol plas shipht plas eps kab aana hoga theek hai kantrol dabloo se aap koee bhee daakyooments ko band kar sakate hain aap sab kantrol plas e sab aaenge to aap cheejon ko sev kar sakate hain aap jab kantrol plas ep nahin dabaate hain to vah jo abhee karant vindo hai vah aapake minimaij ho jaatee hai kantrol plas eksatend ab aaenge to aapakee jo karentalee silekted vailyoo hai vah utana samaahit ho jaatee hai theek hai 2 plas ep phor se aapaka jo karant opan prograam hai vah band ho jaata hai aur kantrol eyaraport se poora vindo hee kloj ho jaatee hai yah aapake kuchh besik se shortakat kee thee jo aapako kaam detee hain dhanyavaad mein

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
यूरिया का सूत्र क्या होता है?Urea Ka Sootra Kya Hota Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:30
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि ऊर्जा का सूत्र क्या होता है तो देखिए मैं आपको बता दूं कि जो आपका यूरिया होता है वह एक कार्बनिक यौगिक होता है ठीक है जैसा कि आप यूरिया का जो आईयूपीएसी नेम भी है वह भी यूरिया ही होता है और जो यूरिया का रासायनिक सूत्र होता है वह होता है ch4 एंड टू धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki oorja ka sootr kya hota hai to dekhie main aapako bata doon ki jo aapaka yooriya hota hai vah ek kaarbanik yaugik hota hai theek hai jaisa ki aap yooriya ka jo aaeeyoopeeesee nem bhee hai vah bhee yooriya hee hota hai aur jo yooriya ka raasaayanik sootr hota hai vah hota hai chh4 end too dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
गुस्सा आने पर लोगों को कीमती चीजें तोड़ने का क्यों मन करता है?Gussa Aane Par Logon Ko Keemti Chijen Todne Ka Kyun Man Karta Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:54
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक पर उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्नों के उत्तर के साथ एक जैसा कि आपका प्रश्न है कि गुस्सा आने पर लोगों की लोगों को कीमती चीजें तोड़ने का क्यों बन सकता है लेकिन ऐसा नहीं है कि किसी को गुस्सा आता है तो हमेशा अपने कीमती चीजों को तोड़ने का ही मन नहीं है तो गुस्सा आती है तो वह चीजों को तोड़ना पटकना आचार्य जी से करने लगते हैं तो यह हमारी और आपकी सोच समझकर अंतर है कि अगर आपको गुस्सा आ रही है तो आप लोगों से दूर हट के सामान से दूर हट जाए तो उसे क्या होता है कि आप अपने को उसकी से से अलग करते तो आपका थोड़ा सा गुस्सा शांत हो जाता है ठीक है तू ऐसा नहीं है अलग-अलग लोगों का नहीं चाहते कि मैं अगर गुस्सा हो तो तुम्हें कभी भी अपने सामान को नहीं छोड़ता हूं मैं किसी के भी सामान को नहीं छोड़ता हूं ठीक है गुस्सा हमेशा नुकसान ही करवाता है तो हमें अपने गुस्से को काबू करना चाहिए और ऐसा नहीं है कि हर कोई का गुस्सा लगती है तो वह सामान ही तोड़ता तोड़ता है कि मुझे ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कई लोग हैं जो अब कीमती सामान को तोड़ देते हैं कुछ भी हाथ में आता है पटक देते हैं क्योंकि उनका उनके गुस्से पर काबू नहीं रहता है ठीक है या नहीं वह अपने गुस्से को काबू नहीं कर पाते हैं लेकिन गुस्से पर काबू करना मेरे को सीखना चाहिए यह बहुत ही जरूरी ट्रिक है कि भी आप अगर कभी भी बाहर जाएंगे कुछ भी करेंगे तो हमेशा चीज में आपके अकॉर्डिंग्ली नहीं होगी आपको कभी भी आपको गुस्सा आएगी तो आप उसको पीना पड़ेगा उस गुस्से को पीना पड़ेगा काबू करना पड़ेगा आपको अपने मन को काबू करना पड़ेगा गुस्से के मामले में अन्यथा आप चीजों को ऐसे तोड़ते होते रहेंगे धन्यवाद मित्रों आशा है कि आप को मेरे प्रश्न का उत्तर पसंद आया होगा अगर आपको मेरे उत्तर पसंद है तो कृपया करके मुझे बोलकर एप्लीकेशन पर फॉलो करें और मेरे उत्तर को अवश्य लाइक करें धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak par upasthit hoon aapake samaksh apane prashnon ke uttar ke saath ek jaisa ki aapaka prashn hai ki gussa aane par logon kee logon ko keematee cheejen todane ka kyon ban sakata hai lekin aisa nahin hai ki kisee ko gussa aata hai to hamesha apane keematee cheejon ko todane ka hee man nahin hai to gussa aatee hai to vah cheejon ko todana patakana aachaary jee se karane lagate hain to yah hamaaree aur aapakee soch samajhakar antar hai ki agar aapako gussa aa rahee hai to aap logon se door hat ke saamaan se door hat jae to use kya hota hai ki aap apane ko usakee se se alag karate to aapaka thoda sa gussa shaant ho jaata hai theek hai too aisa nahin hai alag-alag logon ka nahin chaahate ki main agar gussa ho to tumhen kabhee bhee apane saamaan ko nahin chhodata hoon main kisee ke bhee saamaan ko nahin chhodata hoon theek hai gussa hamesha nukasaan hee karavaata hai to hamen apane gusse ko kaaboo karana chaahie aur aisa nahin hai ki har koee ka gussa lagatee hai to vah saamaan hee todata todata hai ki mujhe aisa bilkul bhee nahin hai kaee log hain jo ab keematee saamaan ko tod dete hain kuchh bhee haath mein aata hai patak dete hain kyonki unaka unake gusse par kaaboo nahin rahata hai theek hai ya nahin vah apane gusse ko kaaboo nahin kar paate hain lekin gusse par kaaboo karana mere ko seekhana chaahie yah bahut hee jarooree trik hai ki bhee aap agar kabhee bhee baahar jaenge kuchh bhee karenge to hamesha cheej mein aapake akordinglee nahin hogee aapako kabhee bhee aapako gussa aaegee to aap usako peena padega us gusse ko peena padega kaaboo karana padega aapako apane man ko kaaboo karana padega gusse ke maamale mein anyatha aap cheejon ko aise todate hote rahenge dhanyavaad mitron aasha hai ki aap ko mere prashn ka uttar pasand aaya hoga agar aapako mere uttar pasand hai to krpaya karake mujhe bolakar epleekeshan par pholo karen aur mere uttar ko avashy laik karen dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
यदि कोई बच्चा डांट के डर से झूठ बोलता है तो उसका झूठ बोलना कैसे दूर किया जा सकता है?Yadi Koi Bacha Daant Ke Dar Se Jhuth Bolta Hai To Uska Jhuth Bolna Kaise Dur Kiya Ja Sakta Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:29
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक पर उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्नों के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि यदि कोई बच्चा डांट के डर से झूठ बोलता है तो उसका झूठ बोलना कैसे दूर किया जा सकते हैं तो देखिए मैं आपको एक चीज के बारे में बता दूं सर मेरे पास इतना ज्यादा अनुभव तो नहीं है कि मैं कभी अभी तो बैलेंस बनाने को व्हाट्सएप से मेरे घर में छोटे भाई हैं छोटी बहन है या फिर घर में कोई छोटे बच्चे हैं भतीजी भतीजी भांजी हैं तो उस कंडीशन में उस चीजों में क्या होता है कि जैसे कि बच्चे कभी ड ड ड ड ड सी जो झूठ बोलते हैं तो ठीक है देखिए इस चीजों में उस बच्चे की कि नहीं करती इस चीजों में यह है ना जो पैरंटरल हमारी कमी है यह हमारा हमारी कमी है कि हम उनको उस तरीके से पार नहीं पा रहे पाल नहीं पा रहे का इंदर सेंस यह है कि हम उसको अपने विश्वास में नहीं ले पा रहे हैं अगर कोई भी बच्चा आपकी डांट से डरता है आप उसे लिए लगेगा कि आप उस को डांट रहे हो तो आप उसके साथ बहुत प्रेम से बात करें उसके साथ बहुत पोलाइट लिए बात करें उसे चीजों को समझने की कोशिश करें ठीक है मालिक आपका बेटा कुछ गलत कर के आया ठीक है भाई जी कोई बात बाहर झगड़ा करके आता है तो पहले आप बच्चे के पॉइंट ऑफ यू बोलने की अब उनसे एकदम आराम से पोलाइट ले जाओ बेटा क्या हुआ कैसे हुआ क्यों हुआ तो उसको यह लगेगा कि जो बच्चा है उसको भी यह भी लगेगा कि आप मेरे साइट को सुन रहे हो ठीक है तो आ जाता है आप बच्चों को ऐसा नहीं कि शुरू ही कुछ भी हुआ तो आप उसको डांटना लोगों कुछ भी हुआ तो आप डॉक्टर हो तो डर के वह हमेशा झूठ ही बोलता रहे आप उसके साथ बहुत ही प्रेम से बहुत ही पोलाइट एकदम खुले दिल से बात करें क्या हुआ है उसकी बातों को पहले शुद्ध फिर किसी भी चीज को लेकर जजमेंटल हूं उसके जजमेंटल मौत हुई उसकी चीज को लेकर तो आप जब उसको सुनेंगे प्रिंसेस को सुनेंगे उसके बातों को सुनेंगे वह भी कंफर्टेबल महसूस करेगा कि हां आप आप भाइयों हां मेरा भाई मेरे बातों को प्रेम से सुन रहे तब फिर वह कोई निर्णय लेगा आप या फिर आप बच्चे के बाप बहुत प्रेम से सुनने तो वह उस फिर 1 चीजों से कंफर्ट जोन में आ जाएगा तो कोई भी चीज होगी तो वह आपको प्रेम से बताएगा और आप उसके साथ थोड़ा थोड़ा धीरे-धीरे खुलने की कोशिश करें कि कौन कहता है कैसे-कैसे तो यह सारी चीज से बच्चा बाद में नहीं डरेगा तो बस हमेशा सच ही बोलेगा आपसे
Namaskaar mitron main sachin paathak par upasthit hoon aapake samaksh apane prashnon ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki yadi koee bachcha daant ke dar se jhooth bolata hai to usaka jhooth bolana kaise door kiya ja sakate hain to dekhie main aapako ek cheej ke baare mein bata doon sar mere paas itana jyaada anubhav to nahin hai ki main kabhee abhee to bailens banaane ko vhaatsep se mere ghar mein chhote bhaee hain chhotee bahan hai ya phir ghar mein koee chhote bachche hain bhateejee bhateejee bhaanjee hain to us kandeeshan mein us cheejon mein kya hota hai ki jaise ki bachche kabhee da da da da da see jo jhooth bolate hain to theek hai dekhie is cheejon mein us bachche kee ki nahin karatee is cheejon mein yah hai na jo pairantaral hamaaree kamee hai yah hamaara hamaaree kamee hai ki ham unako us tareeke se paar nahin pa rahe paal nahin pa rahe ka indar sens yah hai ki ham usako apane vishvaas mein nahin le pa rahe hain agar koee bhee bachcha aapakee daant se darata hai aap use lie lagega ki aap us ko daant rahe ho to aap usake saath bahut prem se baat karen usake saath bahut polait lie baat karen use cheejon ko samajhane kee koshish karen theek hai maalik aapaka beta kuchh galat kar ke aaya theek hai bhaee jee koee baat baahar jhagada karake aata hai to pahale aap bachche ke point oph yoo bolane kee ab unase ekadam aaraam se polait le jao beta kya hua kaise hua kyon hua to usako yah lagega ki jo bachcha hai usako bhee yah bhee lagega ki aap mere sait ko sun rahe ho theek hai to aa jaata hai aap bachchon ko aisa nahin ki shuroo hee kuchh bhee hua to aap usako daantana logon kuchh bhee hua to aap doktar ho to dar ke vah hamesha jhooth hee bolata rahe aap usake saath bahut hee prem se bahut hee polait ekadam khule dil se baat karen kya hua hai usakee baaton ko pahale shuddh phir kisee bhee cheej ko lekar jajamental hoon usake jajamental maut huee usakee cheej ko lekar to aap jab usako sunenge prinses ko sunenge usake baaton ko sunenge vah bhee kamphartebal mahasoos karega ki haan aap aap bhaiyon haan mera bhaee mere baaton ko prem se sun rahe tab phir vah koee nirnay lega aap ya phir aap bachche ke baap bahut prem se sunane to vah us phir 1 cheejon se kamphart jon mein aa jaega to koee bhee cheej hogee to vah aapako prem se bataega aur aap usake saath thoda thoda dheere-dheere khulane kee koshish karen ki kaun kahata hai kaise-kaise to yah saaree cheej se bachcha baad mein nahin darega to bas hamesha sach hee bolega aapase

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या व्यापार शुरू करने के लिए अनुभव होना जरूरी है?Kya Vyapar Shuru Karne Ke Liye Anubhav Hona Jaroori Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:38
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक सर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ देखिए जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या व्यापार शुरू करने के लिए अनुभव होना जरूरी है तुझे कि मैं आपको बता दूं किसी भी चीज को शुरू करने के लिए अगर आपके पास अनुभव है चाहे वह व्यापार हूं वह चाहिए या फिर नौकरी हो या फिर कोई भी चीज हो तो अनुभव बहुत ही जरूरी चीज है लेकिन मेरे उज्जैन से एक पहल उसका ए भी है कि अगर आप कोई भी चीज कभी भी शुरुआत कर तो किसी भी चीज की जाए या फिर वह बिजनेस हो या फिर कोई भी चीज हो आप उस चीज को जीवन में पहली बार कभी ना कभी पहली बार करोगे उस टाइम आप हमेशा प्रेशर ही गिरे जाते हो वहां पर तो अगर आप फ्रेश जब तक फेशियल्स के साथ काम नहीं करोगे जब तक आप उसके साथ समय नहीं बताओगे तब तक आपको अनुभव कहां से होगा ठीक है तो हां यह है कि अगर आपके पास थोड़ा सा अनुभव है जैसे आपके पास नौकरी का अनुभव आप जिस फिल्म में व्यापार करना शुरू करना चाहते हो किसी भी फिल्म में माली चाचा पार करना शुरू करते माली चावल का कोई सेगमेंटेशन ले लीजिए माली चापेक ट्रैवल एजेंसी खोलना खोलना चाह रहे हैं ठीक है तो उसमें कि उससे क्या होता है कि जब आप एक बार पहले बात नौकरी कर लेते हैं उस किसी भी ट्रैवल एजेंसी बेटा नौकरी करेंगे तो आप उन सारी चीजों के बारे में थोड़ा सा जानकारी हो जाती है कि जो इंडस्ट्री में कैसे काम करती है कस्टमर किस किस तरीके से आते हैं और फिर हमें कस्टमर को किस तरीके से अप्रोच करना है और हमें रेट कहां से मिलेंगे हम चीजों को कैसे कैसे सपोर्ट करेंगे तो जहां तक मेरी उम्र में है मेरा मानना है कि अनुभव होना बहुत ही जरूरी है आप अगर आपको कभी भी व्यापार करना शुरू करना चाह रहे किसी भी व्यापार का उससे पहले उससे ही व्यापार क्षेत्र में आप शुरू करना चाह रहे हैं व्यापार उससे क्षेत्र का थोड़ा सा अनुभव अवश्य लें जिससे आपके लिए बहुत आसान हो जाती है अदर वाइज अगर आप डर के लिए व्यापार में लग जाते हो अगर आप सारी चीजों के बारे में भी सोच नहीं करते हो एनालिसिस नहीं करते हो तो अगर आपकी जो खरीदेंगे महंगी मिलेगी आपको सर्विसेज नहीं मिलेगी आप चीजों में अच्छा और गलत का अंतर नहीं कर पाओगे कि कौन सी चीज अच्छी है मार्केट में क्या चीज चल रही है क्या चीज आप कभी अगर कपड़े के फेवर में नया शुरू हो तो आपको आउटडेटेड पैशंस के कपड़े मिल जाते हैं तो यह सारी चीजों दिक्कत आती है तो जहां तक मेरा मानना है कि अगर आप कभी भी भेजना शुरू करना चाहते तो शुरुआत क्षेत्र में अब 2 से 3 साल नौकरी अवश्य करें यहां तक कि मेरा मानना है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak sar se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath dekhie jaisa ki aapaka prashn hai ki kya vyaapaar shuroo karane ke lie anubhav hona jarooree hai tujhe ki main aapako bata doon kisee bhee cheej ko shuroo karane ke lie agar aapake paas anubhav hai chaahe vah vyaapaar hoon vah chaahie ya phir naukaree ho ya phir koee bhee cheej ho to anubhav bahut hee jarooree cheej hai lekin mere ujjain se ek pahal usaka e bhee hai ki agar aap koee bhee cheej kabhee bhee shuruaat kar to kisee bhee cheej kee jae ya phir vah bijanes ho ya phir koee bhee cheej ho aap us cheej ko jeevan mein pahalee baar kabhee na kabhee pahalee baar karoge us taim aap hamesha preshar hee gire jaate ho vahaan par to agar aap phresh jab tak pheshiyals ke saath kaam nahin karoge jab tak aap usake saath samay nahin bataoge tab tak aapako anubhav kahaan se hoga theek hai to haan yah hai ki agar aapake paas thoda sa anubhav hai jaise aapake paas naukaree ka anubhav aap jis philm mein vyaapaar karana shuroo karana chaahate ho kisee bhee philm mein maalee chaacha paar karana shuroo karate maalee chaaval ka koee segamenteshan le leejie maalee chaapek traival ejensee kholana kholana chaah rahe hain theek hai to usamen ki usase kya hota hai ki jab aap ek baar pahale baat naukaree kar lete hain us kisee bhee traival ejensee beta naukaree karenge to aap un saaree cheejon ke baare mein thoda sa jaanakaaree ho jaatee hai ki jo indastree mein kaise kaam karatee hai kastamar kis kis tareeke se aate hain aur phir hamen kastamar ko kis tareeke se aproch karana hai aur hamen ret kahaan se milenge ham cheejon ko kaise kaise saport karenge to jahaan tak meree umr mein hai mera maanana hai ki anubhav hona bahut hee jarooree hai aap agar aapako kabhee bhee vyaapaar karana shuroo karana chaah rahe kisee bhee vyaapaar ka usase pahale usase hee vyaapaar kshetr mein aap shuroo karana chaah rahe hain vyaapaar usase kshetr ka thoda sa anubhav avashy len jisase aapake lie bahut aasaan ho jaatee hai adar vaij agar aap dar ke lie vyaapaar mein lag jaate ho agar aap saaree cheejon ke baare mein bhee soch nahin karate ho enaalisis nahin karate ho to agar aapakee jo khareedenge mahangee milegee aapako sarvisej nahin milegee aap cheejon mein achchha aur galat ka antar nahin kar paoge ki kaun see cheej achchhee hai maarket mein kya cheej chal rahee hai kya cheej aap kabhee agar kapade ke phevar mein naya shuroo ho to aapako aautadeted paishans ke kapade mil jaate hain to yah saaree cheejon dikkat aatee hai to jahaan tak mera maanana hai ki agar aap kabhee bhee bhejana shuroo karana chaahate to shuruaat kshetr mein ab 2 se 3 saal naukaree avashy karen yahaan tak ki mera maanana hai dhanyavaad

#जीवन शैली

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
0:40
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्नों के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि एसएससी एमटीएस में फॉर्म रिजेक्ट होने के बाद परीक्षार्थियों के लिए कोई विकल्प बचता है कि मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं अगर आपका फॉर्म रिजेक्ट हो गया है उसके बाद आप अपने फोन में कुछ भी नहीं कर सकते आप पर आप उस साल का एग्जाम आपको ब्लॉक करना पड़ेगा अब तो फिर से तैयारी करनी पड़ेगी पूरे साल के लिए फिर जब आपको फॉर्म आएगा तभी आप उस सारी चीजों को नया फॉर्म भरकर आप एग्जाम दे सकते अगर आपका फॉर्म रिजेक्ट हुआ है तो आप सर उसको चेंज नहीं कर सकते और आपके पास कोई भी विकल्प नहीं बचता है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh apane prashnon ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki esesasee emateees mein phorm rijekt hone ke baad pareekshaarthiyon ke lie koee vikalp bachata hai ki main aapakee jaanakaaree ke lie bata doon agar aapaka phorm rijekt ho gaya hai usake baad aap apane phon mein kuchh bhee nahin kar sakate aap par aap us saal ka egjaam aapako blok karana padega ab to phir se taiyaaree karanee padegee poore saal ke lie phir jab aapako phorm aaega tabhee aap us saaree cheejon ko naya phorm bharakar aap egjaam de sakate agar aapaka phorm rijekt hua hai to aap sar usako chenj nahin kar sakate aur aapake paas koee bhee vikalp nahin bachata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या किसी को वाईफाई देने से भी मोबाइल हैक हो सकता है?Kya Kisi Ko Wifi Dene Se Bhe Mobile Hack Ho Sakta Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:11
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्नों के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है क्या किसी को वाईफाई देने से भी मोबाइल हैक हो सकता है जिस तरीके से हाकिम और जिस तरीके से टेक्नोलॉजी आगे बढ़ रही है कुछ भी हो सकता है जैसे अपनी अगर आप युवा मैन मेड थिंग्स है तो आप उसके प्रोग्रामिंग या फिर नॉर्मली ऐसे कुछ करके इन सारी चीजों को आप नॉर्मली हैक कर सकते इसमें कोई बहुत बड़ी चीज नहीं है बट अभी तक मेरे हिसाब से ऐसी कोई चीज है अभी तक कोई सुनाई नहीं दी भेज दी है या फिर ऐसा कुछ न्यूज़ में कभी देखा कि किसी के वाईफाई से मोबाइल हैक हुई है अगर कोई चीज है या फिर कोई ऐसी चीज है तो आप उसके प्रोग्रामिंग इन सारी चीजों से हो सकती यह बहुत बड़ी चीज नहीं है तो मेरे हिसाब से यह चीज होना संभव हो सकती है मुझे इस चीज की बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है कि आप हुई है कि नहीं हुई है बट हो सकती है यह कोई बहुत अपनी बात नहीं है लेकिन उसके लिए आपको बहुत ही हार्ड लेवल की प्रोग्रामिंग होनी चाहिए उन सारी चीजों के लिए उन सारी चीजों को आप पर बहुत वाकआउट करना पड़ता है तो हां लेकिन हो सकती है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh apane prashnon ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai kya kisee ko vaeephaee dene se bhee mobail haik ho sakata hai jis tareeke se haakim aur jis tareeke se teknolojee aage badh rahee hai kuchh bhee ho sakata hai jaise apanee agar aap yuva main med things hai to aap usake prograaming ya phir normalee aise kuchh karake in saaree cheejon ko aap normalee haik kar sakate isamen koee bahut badee cheej nahin hai bat abhee tak mere hisaab se aisee koee cheej hai abhee tak koee sunaee nahin dee bhej dee hai ya phir aisa kuchh nyooz mein kabhee dekha ki kisee ke vaeephaee se mobail haik huee hai agar koee cheej hai ya phir koee aisee cheej hai to aap usake prograaming in saaree cheejon se ho sakatee yah bahut badee cheej nahin hai to mere hisaab se yah cheej hona sambhav ho sakatee hai mujhe is cheej kee bahut jyaada jaanakaaree nahin hai ki aap huee hai ki nahin huee hai bat ho sakatee hai yah koee bahut apanee baat nahin hai lekin usake lie aapako bahut hee haard leval kee prograaming honee chaahie un saaree cheejon ke lie un saaree cheejon ko aap par bahut vaakaut karana padata hai to haan lekin ho sakatee hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:31
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या बेटा पैदा करने की कोई जड़ी बूटी होती है होती है या फिर दवाई होती है जिससे कि यश अदृश्य गारंटी होगी होने वाला संतान बेटा कि मैं यही कहना चाहता हूं कि धरती पर कोई ऐसी चीज बनी ही नहीं है जो चाहे वह दवा हो या फिर कोई भी चीज हो कि वह शत प्रतिशत गारंटी ठीक है अभी विज्ञान इतना आगे नहीं बढ़ा है कि कोई दवाई आपको लड़की से पैदा करा दिया फिर लड़की या लड़का पैदा करवा दें ठीक है इसका जो लिंग का निर्धारण होता है वह आपके क्रोमोसोम्स के कारण होता है आइए क्रोमोसोम्स चाहते हैं बेसिकली मेल के क्रोमोसोम्स यूज़ के लिए लिंग निर्धारण के लिए जिम्मेदार होते हैं ठीक है तो आप गलतफहमी में नहा रही है कि कोई भी जड़ी बूटी से आपके आपको केवल लड़का ही पैदा होगा या फिर आप कोई जड़ी बूटी ले लेती है तो लिया ले लेते हैं तो आप को लड़की पैदा होगी तो अभी तक ऐसी भी चीज से कुछ बनी नहीं है तो कृपा करके अगर आपको किसी ने यह सलाह दिया है या फिर किसी ने भी बताया है तो कृपा करके सारी चक्कर में ना पड़ें और पहली दूसरी बात बेटी और बेटियों में फर्क ना करें कभी फर्क ना करें ठीक है यह एक पाप है धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki kya beta paida karane kee koee jadee bootee hotee hai hotee hai ya phir davaee hotee hai jisase ki yash adrshy gaarantee hogee hone vaala santaan beta ki main yahee kahana chaahata hoon ki dharatee par koee aisee cheej banee hee nahin hai jo chaahe vah dava ho ya phir koee bhee cheej ho ki vah shat pratishat gaarantee theek hai abhee vigyaan itana aage nahin badha hai ki koee davaee aapako ladakee se paida kara diya phir ladakee ya ladaka paida karava den theek hai isaka jo ling ka nirdhaaran hota hai vah aapake kromosoms ke kaaran hota hai aaie kromosoms chaahate hain besikalee mel ke kromosoms yooz ke lie ling nirdhaaran ke lie jimmedaar hote hain theek hai to aap galataphahamee mein naha rahee hai ki koee bhee jadee bootee se aapake aapako keval ladaka hee paida hoga ya phir aap koee jadee bootee le letee hai to liya le lete hain to aap ko ladakee paida hogee to abhee tak aisee bhee cheej se kuchh banee nahin hai to krpa karake agar aapako kisee ne yah salaah diya hai ya phir kisee ne bhee bataaya hai to krpa karake saaree chakkar mein na paden aur pahalee doosaree baat betee aur betiyon mein phark na karen kabhee phark na karen theek hai yah ek paap hai dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
किसी के चरित्र पर शंका करना आजकल आम बात क्यों होने लगी है?Kisi Ke Charitra Par Shanka Karna Aajkal Aam Baat Kyon Hone Lagi Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:13
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष अपने प्रश्नों के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है किसी के चरित्र पर शंका करना आजकल आम बात क्यों होने लगी है तो देखिए एक जैसा कि हम मनुष्य की यह फितरत है कि हम अपने अंदर झांक कर दूसरों के बारे में बहुत ज्यादा ही सोचते हैं आप अगर कोई चीज कर रहे होते तो आपको वह चीज अच्छी लगती है अगर वह चीज वहीद कोई दूसरा व्यक्ति कर रहा होता है तो आपको वही उसे बुरी लगती है और हम दूसरों के चेहरे तो पहले बहुत ही जजमेंटल होते हैं कि वह व्यक्ति ऐसा काम कर रहा है वह व्यक्ति ऐसा काम कर रहे हैं ठीक है पहली बात तो इसमें आपको अपने गिरेबान में पहले झांक कर देखना चाहिए ठीक है आप दूसरों के बारे में थोड़ा सा जजमेंटल होना छोड़ दें ठीक है क्योंकि नॉर्मली देखते हुए लोग दूसरों के बारे में सोचते हैं वह ऐसा कर रहे हो वह ऐसा कर रहा है आपको हानि किसी भी अगर आपको जाता है तो वह चीज बिल्कुल भी गलत नहीं है ठीक है वह अंडल ऑनलाइन स्वस्थ हो या फिर कोई भी चीज हो अगर वह सार्वजनिक रूप से आपको किसी भी तरीके से आप की आजादी में खलल नहीं डाल रहा है तो हर चीज है सही है और रही बात पर आप किसी के चरित्र पर सवाल उठाते हैं तो आप उसको पूरी तरीके अच्छे तरीके से जानते नहीं है उसके व्यवहार को अच्छी तरीके से नहीं जानते हैं ठीक है और आप उसके ऊपर इतना विश्वास और भरोसा नहीं करते हैं यह इसकी सच्चाई है जिसके कारण हम एक दूसरे के चरित्र पर बार-बार सवाल उठाते हैं और हम उन परिस्थितियों को भी समस्या नहीं चाहते हैं अगर माली जी कोई कुछ कर रहा है तो आप उसके परिस्थितियों के अंदर के बारे में अंदर तक नहीं सोच कर देखेंगे बस आप हम तुरंत ही जजमेंटल हो जाता है और तुरंत ही जजबंकर डिसीजन देते थे ना वह कैसा है थोड़ा सा आप अपने दिमाग को ठंडा रखें थोड़ा उसके बारे में सोचें उसके परिस्थितियों के बारे में सोचो वह व्यक्ति ऐसा क्यों कर रहा है अगर कुछ कर रहा है तू ऐसा क्यों कर रहा है कुछ तो पीछे मजबूर रही होगी या फिर कुछ तो रहा होगा तो उसे हमेशा पूछने की कोशिश करें अगर आप किसी भी चीज की मैडम अगर जल्दबाजी में जाएंगे तो वह भी हर चीज में हमेशा गलत ही होती हैं धन्यवाद मित्रों
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh apane prashnon ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai kisee ke charitr par shanka karana aajakal aam baat kyon hone lagee hai to dekhie ek jaisa ki ham manushy kee yah phitarat hai ki ham apane andar jhaank kar doosaron ke baare mein bahut jyaada hee sochate hain aap agar koee cheej kar rahe hote to aapako vah cheej achchhee lagatee hai agar vah cheej vaheed koee doosara vyakti kar raha hota hai to aapako vahee use buree lagatee hai aur ham doosaron ke chehare to pahale bahut hee jajamental hote hain ki vah vyakti aisa kaam kar raha hai vah vyakti aisa kaam kar rahe hain theek hai pahalee baat to isamen aapako apane girebaan mein pahale jhaank kar dekhana chaahie theek hai aap doosaron ke baare mein thoda sa jajamental hona chhod den theek hai kyonki normalee dekhate hue log doosaron ke baare mein sochate hain vah aisa kar rahe ho vah aisa kar raha hai aapako haani kisee bhee agar aapako jaata hai to vah cheej bilkul bhee galat nahin hai theek hai vah andal onalain svasth ho ya phir koee bhee cheej ho agar vah saarvajanik roop se aapako kisee bhee tareeke se aap kee aajaadee mein khalal nahin daal raha hai to har cheej hai sahee hai aur rahee baat par aap kisee ke charitr par savaal uthaate hain to aap usako pooree tareeke achchhe tareeke se jaanate nahin hai usake vyavahaar ko achchhee tareeke se nahin jaanate hain theek hai aur aap usake oopar itana vishvaas aur bharosa nahin karate hain yah isakee sachchaee hai jisake kaaran ham ek doosare ke charitr par baar-baar savaal uthaate hain aur ham un paristhitiyon ko bhee samasya nahin chaahate hain agar maalee jee koee kuchh kar raha hai to aap usake paristhitiyon ke andar ke baare mein andar tak nahin soch kar dekhenge bas aap ham turant hee jajamental ho jaata hai aur turant hee jajabankar diseejan dete the na vah kaisa hai thoda sa aap apane dimaag ko thanda rakhen thoda usake baare mein sochen usake paristhitiyon ke baare mein socho vah vyakti aisa kyon kar raha hai agar kuchh kar raha hai too aisa kyon kar raha hai kuchh to peechhe majaboor rahee hogee ya phir kuchh to raha hoga to use hamesha poochhane kee koshish karen agar aap kisee bhee cheej kee maidam agar jaldabaajee mein jaenge to vah bhee har cheej mein hamesha galat hee hotee hain dhanyavaad mitron

#जीवन शैली

bolkar speaker
महिलाओं के किस अंग को शुभ माना जाता है?Mahilaon Ke Kis Ang Ko Shubh Mana Jata Hai
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
1:08
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष इतने प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि महिलाओं के किस अंग को शुभ माना जाता है तो देखिए मेरी अगर मेरी राय देख लिया तो और मेरी सोचते कि जाए अगर आप भारत समाज में रह रहे हैं तो आप लोग देखते हैं कि महिला को देवी का रूप माना जाता है और बीवी वैसे भी पूरी नहीं होती है किसी भी किसी भी आप जगह पर चले जाएं और उनके गॉड होते हैं या फिर उनकी गॉडेस होती है वह हमेशा पूजनीय होती है और भारत में महिलाओं को वैसे भी देवी का स्थान दिया जाता है तो मेरे हिसाब से पूरी महिला रूप ही देवी का स्वरूप है अगर वह महिला मां के रूप में इतना अच्छा कार्य करती है कि अगर आप उनका आशीर्वाद लेते हैं उनके अनुभवों से सीखते हैं तो वह सारी चीजें ही शुभ होती है तो पूरी महिला ही सुबह 1:00 कोई स्पेशल उनके अंग नहीं बस में इस प्रश्न के उत्तर में इतना ही कहना चाहता हूं धन्यवाद मित्र
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh itane prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki mahilaon ke kis ang ko shubh maana jaata hai to dekhie meree agar meree raay dekh liya to aur meree sochate ki jae agar aap bhaarat samaaj mein rah rahe hain to aap log dekhate hain ki mahila ko devee ka roop maana jaata hai aur beevee vaise bhee pooree nahin hotee hai kisee bhee kisee bhee aap jagah par chale jaen aur unake god hote hain ya phir unakee godes hotee hai vah hamesha poojaneey hotee hai aur bhaarat mein mahilaon ko vaise bhee devee ka sthaan diya jaata hai to mere hisaab se pooree mahila roop hee devee ka svaroop hai agar vah mahila maan ke roop mein itana achchha kaary karatee hai ki agar aap unaka aasheervaad lete hain unake anubhavon se seekhate hain to vah saaree cheejen hee shubh hotee hai to pooree mahila hee subah 1:00 koee speshal unake ang nahin bas mein is prashn ke uttar mein itana hee kahana chaahata hoon dhanyavaad mitr

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
हम पढ़ने के बाद भूल जाते हैं ऐसा क्यों इसका कुछ उपाय बताइए?Ham Padhne Ke Baad Bhul Jate Hain Aisa Kyun Iska Kuch Upay Bataie
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:15
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक फिर से उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ जैसा कि आपका प्रश्न है कि हम पढ़ने के बाद भूल जाते हैं और ऐसा क्यों होता है और इसका कुछ उपाय बताएं लेकिन असल में वह चीज से हमारे सामने तुरंत होती है तो हमें लगता है कि वह सारी चीज का ईजाद हो जाएंगी लेकिन जब आप किसी भी चीज को पढ़ते हैं तो यह सारी चीजें आपके दिमाग में यह सबकॉन्शियस माइंड में चली जाती है तो आपको मतलब यह शायरी के लिए थोड़ा सा दूसरी जगह चोर हो जाती है और आपको लगता है यह सारी चीज है याद होती है लेकिन जब आप इन चीजों को बार बार बार बार बार बार रोज दोहराएंगे अगर आप कोई भी चीज पढ़ रहे हैं तो अगर उसके आप नोट्स बनाए उस नोच को बनाकर जैसे छोटे-छोटे जैसे आपको बहुत एक लंबे पैराग्राफ पी लेते हैं किताबों में तो उसमें उस समय क्या करें मुझे जो छोटे-छोटे नोट्स में बनाया और उसको बाहर बार रोज-रोज थोड़ा तो एक ही बार दो-दो बार देखें अगर आप इस चीज को बार बार देखेंगे तो आपको यह सारी चीजें हमेशा याद रहेगी ऐसे में क्या होता है ना जो हमारा माइंड होता है वह चीजों को थोड़ा कम याद रखता है मतलब वह सबकॉन्शियस माइंड में चला जाता है वह हमारी कहीं ना कहीं दिमाग में रहता है लेकिन वह सबकॉन्शियस माइंड में चला जाता है इसका एक ही उपाय है कि आप चीजों को दोहराना सीखे रोज-रोज द्वारा ना आपने हमारे लिए आज कुछ पढ़ा तो उसे कल दौरा ही है परसो तो रही थी आज इतना ही दौर आते रहेंगे वह चीज आपके दिमाग में बनी रहेगी और यह स्पेशल आपके साथ ही नहीं होता है यह सब के साथ होता है तो दोहराने की कला अपने आप को चीजें याद रहेंगे हमेशा कोई भी व्यक्ति इतना इंटेलिजेंट नहीं होता है कि वह एक बार कोई भी चीज पढ़ ले और वह हमेशा उसको याद हो जाए ऐसे लोग बहुत ही कम होते हैं इसलिए मैं आपसे यह कहना चाहता हूं कि दोहराने की कला केंद्र स्थापित करें चीजें अवस्थी अपने रूप से आपको याद होने लगेंगे धन्यवाद आशा है कि आप को मेरे प्रश्न का उत्तर पसंद आया होगा तो कृपया करके मुझे बोलकर एप्लीकेशन पर फॉलो करें और मेरे उत्तर को लाइक अवश्य करें धन्यवाद
Namaskaar mitron main sachin paathak phir se upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath jaisa ki aapaka prashn hai ki ham padhane ke baad bhool jaate hain aur aisa kyon hota hai aur isaka kuchh upaay bataen lekin asal mein vah cheej se hamaare saamane turant hotee hai to hamen lagata hai ki vah saaree cheej ka eejaad ho jaengee lekin jab aap kisee bhee cheej ko padhate hain to yah saaree cheejen aapake dimaag mein yah sabakonshiyas maind mein chalee jaatee hai to aapako matalab yah shaayaree ke lie thoda sa doosaree jagah chor ho jaatee hai aur aapako lagata hai yah saaree cheej hai yaad hotee hai lekin jab aap in cheejon ko baar baar baar baar baar baar roj doharaenge agar aap koee bhee cheej padh rahe hain to agar usake aap nots banae us noch ko banaakar jaise chhote-chhote jaise aapako bahut ek lambe pairaagraaph pee lete hain kitaabon mein to usamen us samay kya karen mujhe jo chhote-chhote nots mein banaaya aur usako baahar baar roj-roj thoda to ek hee baar do-do baar dekhen agar aap is cheej ko baar baar dekhenge to aapako yah saaree cheejen hamesha yaad rahegee aise mein kya hota hai na jo hamaara maind hota hai vah cheejon ko thoda kam yaad rakhata hai matalab vah sabakonshiyas maind mein chala jaata hai vah hamaaree kaheen na kaheen dimaag mein rahata hai lekin vah sabakonshiyas maind mein chala jaata hai isaka ek hee upaay hai ki aap cheejon ko doharaana seekhe roj-roj dvaara na aapane hamaare lie aaj kuchh padha to use kal daura hee hai paraso to rahee thee aaj itana hee daur aate rahenge vah cheej aapake dimaag mein banee rahegee aur yah speshal aapake saath hee nahin hota hai yah sab ke saath hota hai to doharaane kee kala apane aap ko cheejen yaad rahenge hamesha koee bhee vyakti itana intelijent nahin hota hai ki vah ek baar koee bhee cheej padh le aur vah hamesha usako yaad ho jae aise log bahut hee kam hote hain isalie main aapase yah kahana chaahata hoon ki doharaane kee kala kendr sthaapit karen cheejen avasthee apane roop se aapako yaad hone lagenge dhanyavaad aasha hai ki aap ko mere prashn ka uttar pasand aaya hoga to krpaya karake mujhe bolakar epleekeshan par pholo karen aur mere uttar ko laik avashy karen dhanyavaad
URL copied to clipboard