#जीवन शैली

bolkar speaker
बेरंग लिफाफे पुस्तक के बारे में कुछ बताइएBerang Lifaafe Pustak Ke Baare Mein Kuchh Bataye
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
2:27

#जीवन शैली

bolkar speaker
आने वाले वर्षों में भारत में सरकारी नौकरी की क्या स्थिति होगी?Aane Vaale Varshon Mein Bhaarat Mein Sarakaaree Naukaree Kee Kya Sthiti Hogee
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
2:09

#जीवन शैली

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:49

#जीवन शैली

bolkar speaker
घर के बड़े लोग ऐसा क्यों कहते हैं कि हम लोगों को पहली नौकरी को ठोकर नहीं मारना चाहिए?ghar ke bade log aisa kyon kahate hain ki ham logon ko pahalee naukaree ko thokar nahin maarana chaahie
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:16

#जीवन शैली

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:31

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या अगली बार से रेलवे ग्रुप डी के लिए आईटीआई होना जरूरी होगा?Kya Agli Baar Se Railway Group D Ke Liye Iti Hona Jaroori Hoga
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:44

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपको कब महसूस हुआ कि अब नौकरी/व्यवसाय/जगह बदल लेनी चाहिए?Aapako Kab Mahasoos Hua Ki Ab Naukaree/vyavasaay/jagah Badal Lenee Chaahie
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:55

#जीवन शैली

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
2:05

#कुछ अलग

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:17

#कुछ अलग

bolkar speaker
हमारे पास ऐसा कौन सा धन है जिसे बेचना नहीं चाहिए यदि बेचते हैं तो उसका हमें कष्ट उठाना पड़ेगा?Hamaare Paas Aisa Kaun Sa Dhan Hai Jise Bechana Nahin Chaahie Yadi Bechate Hain To Usaka Hamen Kasht Uthaana Padega
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:49

#कुछ अलग

bolkar speaker
जो हुआ उसे भूलकर सभी पार्टियों को उत्तर प्रदेश के चुनाव में ध्यान देना चाहिए?Jo Hua Use Bhoolakar Sabhee Paartiyon Ko Uttar Pradesh Ke Chunaav Mein Dhyaan Dena Chaahie
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:42

#कुछ अलग

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:42

#कुछ अलग

bolkar speaker
बोलकर अप्प वालो ने सर्टिफिकेट आजतक नही भेजा है शायद धोखा दिया हैं जा इनको उचित नही हैं bichar हैं?Bolakar App Vaalo Ne Sartiphiket Aajatak Nahee Bheja Hai Shaayad Dhokha Diya Hain Ja Inako Uchit Nahee Hain Bichhar Hain
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:50

#कुछ अलग

bolkar speaker
दिल्ली के चीफ मिनिस्टर कौन है?Delhi Ke Chief Minister Kaun Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:37

#कुछ अलग

bolkar speaker
सरकारी भर्ती रद्द हो जाने पर आवेदकों द्वारा दिए गए आवेदन शुल्क का क्या होता है?Sarakaaree Bhartee Radd Ho Jaane Par Aavedakon Dvaara Die Gae Aavedan Shulk Ka Kya Hota Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:09

#कुछ अलग

bolkar speaker
बोलकर ऐप को गवर्नमेंट में बैन कर दिया है?Bolakar Aip Ko Gavarnament Mein Bain Kar Diya Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:35

#कुछ अलग

bolkar speaker
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के पीछे आपको किसकी गलती लगती है?Corona Virus Ke Badhte Mamalon Ke Piche Apko Kiski Galti Lagti Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:13

#कुछ अलग

bolkar speaker
क्या दिल्ली में अभी लॉकडाउन के दौरान होम ट्यूशन का काम चल रहा है?Kya Delhi Me Abhi Lockdown Ke Dauran Home Tuition Ka Kaam Chal Raha Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:45
नमस्कार आपका प्रश्न है कि दिल्ली में अभी लॉकडाउन के दौरान होम ट्यूशन का काम चल रहा है कि वर्तमान में दिल्ली में लगभग सब कुछ खोला जा चुका है आप कोई योगदान नहीं है हां कोरोना के संबंध में जो आवश्यक दिशा निर्देशों है पूरी तरह से रिश्ता को सख्ती से लागू किए जाते हैं जो पोस्ट को वेट जो भी ग्रुप वालों है वह फॉलो किया जाता है अब रही बात होम ट्यूशन की तो होम ट्यूशन आपके ऊपर है यदि आपके और टीचर की ट्यूनिंग बेहतर है आप बुलाना चाहता तो बिल्कुल बोला इसमें कोई सरकार की तरफ से रोक नहीं है आपको जो ठीक लगे वह आप कर सकते हैं ऐसे तो लगभग सभी जगह लोगों ने आना-जाना भी शुरू कर ही दिया है तो बिल्कुल आपको यदि लगता है तो आप बुला सकती है सरकार का रोकने का कोई रोल नहीं है बस ध्यान रखें जो ही कोर्ट प्रोटोकॉल फॉलो है पोस्ट को वेट करो पर कॉल उनको फॉलो करें धन्यवाद

#मनोरंजन

bolkar speaker
उत्तर भारतीयों को 'दक्षिण भारत'की फिल्में ज्यादा पसंद क्यों है?Uttar Bharateyo Ko Dakshin Bharat Ki Filme Jayada Pasand Kyo Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:12
नमस्कार आपको प्रश्न का उत्तर भारतीयों को दक्षिण भारत की फिल्में ज्यादा पसंद किया है पिछले कुछ वर्षों में हम देखें तो निश्चित रूप से दक्षिण भारत की फिल्में काफी लोकप्रिय हुई हैं भारत में इसके कई कारण है सबसे पहला कारण तो यही है कि वह फिल्में हिंदी में डब होकर आने लगी हैं पहले कम आती थी तो जब अवेलेबिलिटी होगी तो निश्चित रूप से ना देखा जाएगा दूसरा कारण है उत्तर दक्षिण भारत की फिल्में सभी यूट्यूब पर फ्री में अवेलेबल रहती हैं जबकि उत्तर भारत की नहीं होती तो इस कारण ही उन्हें देखा जाता है तीसरा जो कारण है वह है कि उत्तर भारत दक्षिण भारत में कई अलग-अलग इंस्टिट्यूट है जैसे आप बॉलीवुड है वैसी बात दक्षिण महत्तम अलग तेलुगु वाला मलयालम में कई प्रकार के प्रति कल याद किए जाते हैं और बेहतर में दी जाती है तो जनता कुछ अलग हटके देखना चाहती है जिसके कारण भी दक्षिण भारतीय फिल्में लोगों को पसंद है इसके अलावा दक्षिण भारतीय कुछ फिल्में ऐसी हैं जो कि बहुत ज्यादा फेमस हुई चाहे बाहुबली हो या कोई अन्य कारण भी दक्ष भारत की तरफ लोगों का रुझान बढ़ा है और एक कारण यह भी एक उत्तर भारत के हीरो और उनकी मूल्यों को देख देखकर लोग बोर हो गए हैं अलग देखना चाहता हूं उसमें दक्षिण भारत की मूवी लोगों को पसंद आने लगी धन्यवाद

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या ऐसा कोई तरीका है जिसमें नेताओं और उनके को भी कानून के दायरे में लाकर सजा दिलवाई जा सके?Kya Aisa Koee Tareeka Hai Jisamen Netao Aur Unake Khandan Ko Bhee Kanun Ke Daayare Mein Laakar Saja Dilavaee Ja Sake
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:22
आपका प्रश्न है कि एक ऐसा कोई तरीका है जिसमें नेताओं और उनके खानदान को भी कानून के दायरे में लाकर सजा दिलवाई जा सकते हैं कि कानून के हिसाब से कोई भी नेता और कोई भी खानदान अलग नहीं है ना ही उनके लिए कोई अलग से कानून है उनके लिए भी वही कानून है जो आप सबके लिए हमारे सब के लिए किसी भी प्रकार का प्रधान देख ले अभी ट्रैफिक सिग्नल पर आपकी गाड़ी सिग्नल क्रॉस करती है कैमरे में चलाना आना है तो वह नेता को भी आना है और आम आदमी कब जाना है किसी ने कोई जुर्म किया है तो उसकी सजा अनीता कोई मिलने आम आदमी कोई मिल जाए ऐसे नेताओं को सजा नहीं मिलती तो बड़े-बड़े नेता जेल में जो हम देख रहे हैं ऐसा कभी नहीं हो पाता अगर होते हैं उनके पास संसाधन होते हैं उनके बेहतर वकील होते हैं पैसा खर्च करने की क्षमता होती है तो उस के दम पर वे कानून को थोड़ा सा घुमा लेते हैं अपनी सजा को कुछ समय के लिए टाल देते हैं संसाधन की दम पर अपनी एप्रोच की दम पर लेकिन ऐसा नहीं होता क्यों ना कभी कोई सजा मिली ही ना पाए और यह सब भी बताओ जब कानून किस बारे में में फंसे हैं यदि कोई बहुत संगीन जुर्म में फसाया तो वह नेता 2 दिन भी अपनी सजा नहीं बचा पाता और यदि कोई मामूली राजनीतिक जो महत्व है उसके एक दो साल टाल भी सकते हैं वह सब जुर्म के नाम पर भी निर्भर करता है सामने वाली पार्टी के ऊपर ही निर्भर करता है कई चीजों पर निर्भर करता है पर हम यह नहीं कह सकते कि कोई नेता सभी कानून के दायरे में नहीं रहता

#भारत की राजनीति

MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:35
नमस्कार आपका स्वागत है सरकार ने कुछ सरकारी बैंकों को प्राइवेट क्यों किया इसके पीछे क्या तर्क हो सकता है किसी भी सरकारी संस्था को प्राइवेट करने के पीछे यह तर्क हैं वह कॉमन से यही है सबसे पहला तो सरकार अपना बोझ कम करना चाहती है अपना खर्चा घटाना चाहती है कई ऐसी संस्थाएं सरकार को आवश्यक रूप से पैसे देने पड़ते हैं चाहे वे एंप्लॉई के नाम पर हो घर के नाम पर हो कि सरकार चाहती है ना कम किया था दूसरा उन्हें बेचेंगे तो सरकार को पैसा भी मिलेगा तो सरकार के माना जिस प्रकार की बीमारी हो जाती है इस बीमारी को हटा दिया सही कर दिया जाए कई बार कभी कभी कोई बीमारी ज्यादा फैल जाती तो कभी शरीर के उस हिस्से को काटना भी पड़ता है तो बिल्कुल उसी स्थिति के तहत सरकार इस प्रकार के निर्णय लिया गया निर्णय राजनीति से भी प्रेरित रहे थे कहीं भी गलत भी हो सकते कभी सही भी हो सकते पर सबसे पहला जो कारण है वह यही है सरकार अपना बोझ कम करना चाहती है दूसरा दो कारण है वह बस सर्विस आप खुद ही एचडीएफसी बैंक और एसबीआई बैंक की सर्विस का अंतर देखना है आपको पता चल जाएगा बताने की जरूरत नहीं है तो यही तो कारण है जिनको लेकर सरकार आगे बढ़ती है दूसरा सरकारी कंपटीशन के क्षेत्र में कंपटीशन पैदा करना चाहती है वह चाहती है कि बैंक आज के मार्केट के सबसे आगे बढ़ने की सरकारी बैंकों में चाहे कर्मचारी हूं एक संस्था पूरी उसका काम करने का तरीका बिल्कुल अलग है वहीं प्राइवेट का पूरी तरह से लागू होता है इन सब चीजों कारण सरकार कई बार कई चीजों को प्राइवेट करती है धन्यवाद
Namaskaar aapaka svaagat hai sarakaar ne kuchh sarakaaree bainkon ko praivet kyon kiya isake peechhe kya tark ho sakata hai kisee bhee sarakaaree sanstha ko praivet karane ke peechhe yah tark hain vah koman se yahee hai sabase pahala to sarakaar apana bojh kam karana chaahatee hai apana kharcha ghataana chaahatee hai kaee aisee sansthaen sarakaar ko aavashyak roop se paise dene padate hain chaahe ve emploee ke naam par ho ghar ke naam par ho ki sarakaar chaahatee hai na kam kiya tha doosara unhen bechenge to sarakaar ko paisa bhee milega to sarakaar ke maana jis prakaar kee beemaaree ho jaatee hai is beemaaree ko hata diya sahee kar diya jae kaee baar kabhee kabhee koee beemaaree jyaada phail jaatee to kabhee shareer ke us hisse ko kaatana bhee padata hai to bilkul usee sthiti ke tahat sarakaar is prakaar ke nirnay liya gaya nirnay raajaneeti se bhee prerit rahe the kaheen bhee galat bhee ho sakate kabhee sahee bhee ho sakate par sabase pahala jo kaaran hai vah yahee hai sarakaar apana bojh kam karana chaahatee hai doosara do kaaran hai vah bas sarvis aap khud hee echadeeephasee baink aur esabeeaee baink kee sarvis ka antar dekhana hai aapako pata chal jaega bataane kee jaroorat nahin hai to yahee to kaaran hai jinako lekar sarakaar aage badhatee hai doosara sarakaaree kampateeshan ke kshetr mein kampateeshan paida karana chaahatee hai vah chaahatee hai ki baink aaj ke maarket ke sabase aage badhane kee sarakaaree bainkon mein chaahe karmachaaree hoon ek sanstha pooree usaka kaam karane ka tareeka bilkul alag hai vaheen praivet ka pooree tarah se laagoo hota hai in sab cheejon kaaran sarakaar kaee baar kaee cheejon ko praivet karatee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारतीय कानून में वर्णित कौन से पद को लाभ के पद की श्रेणी में रखा जाता है?Bharateey Kaanoon Mein Varnit Kaun Se Pad Ko Laabh Ke Pad Ki Shreni Mein Rakha Jaata Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:48
नमस्कार आपका सवाल है भारतीय कानून में वर्णित कौन से पद को लाभ के पद की श्रेणी में रखा जाता है पिछले कुछ वर्षों में लाभ के पद की कई बार व्याख्या की गई है 30 पद को लेकर कई जगह सरकारों में विधायकों को सांसदों को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा है लाभ का पद पद माना जाता है जहां किसी भी व्यक्ति को इस पद पर रहने के दौरान कुछ सुविधाएं वेतन भत्ते के रूप में नगद मिलती हूं उस स्थिति में उसे लाभ का पद माना जाता है जहां भी नगद आपको कुछ मिल रहा है वह पद लाभ का पद माना जाता है तो कोई भी पद हो सकता है किसी भी डिपार्टमेंट के डायरेक्टर में आया चेयरमैन में जहां इसमें सिम मिल रही है वह लाभ का पद माना जा सकता है धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai bhaarateey kaanoon mein varnit kaun se pad ko laabh ke pad kee shrenee mein rakha jaata hai pichhale kuchh varshon mein laabh ke pad kee kaee baar vyaakhya kee gaee hai 30 pad ko lekar kaee jagah sarakaaron mein vidhaayakon ko saansadon ko apane pad se isteepha dena pada hai laabh ka pad pad maana jaata hai jahaan kisee bhee vyakti ko is pad par rahane ke dauraan kuchh suvidhaen vetan bhatte ke roop mein nagad milatee hoon us sthiti mein use laabh ka pad maana jaata hai jahaan bhee nagad aapako kuchh mil raha hai vah pad laabh ka pad maana jaata hai to koee bhee pad ho sakata hai kisee bhee dipaartament ke daayarektar mein aaya cheyaramain mein jahaan isamen sim mil rahee hai vah laabh ka pad maana ja sakata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
Sardar patel stadium का नया नाम क्या है?Sardar Patel Stadium Ka Naya Naam Kya Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:38
नमस्कार आपका प्रश्न है सरदार पटेल स्टेडियम का नया नाम क्या है हाल ही में गुजरात में इस स्टेडियम का उद्घाटन हुआ था जिसका नाम हमारे देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नाम पर है वह स्टेडियम पहले सरदार पटेल स्टेडियम के नाम से ही जाना चाहता था लेकिन जिसे अब विश्व का सबसे बड़ा स्टेडियम में कन्वर्ट कर दिया गया है और उसका नाम नरेंद्र मोदी जी के नाम पर रखा गया है गुजरात के कई वर्ष मुख्यमंत्री रहे और गुजरात के एक बड़े नेता के रूप में जाने जाते हैं इसलिए वहां की सरकार ने उनके नाम पर स्टेडियम करने का एक फैसला लिया है धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai saradaar patel stediyam ka naya naam kya hai haal hee mein gujaraat mein is stediyam ka udghaatan hua tha jisaka naam hamaare desh ke vartamaan pradhaanamantree narendr modee jee ke naam par hai vah stediyam pahale saradaar patel stediyam ke naam se hee jaana chaahata tha lekin jise ab vishv ka sabase bada stediyam mein kanvart kar diya gaya hai aur usaka naam narendr modee jee ke naam par rakha gaya hai gujaraat ke kaee varsh mukhyamantree rahe aur gujaraat ke ek bade neta ke roop mein jaane jaate hain isalie vahaan kee sarakaar ne unake naam par stediyam karane ka ek phaisala liya hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
सिर्फ मोबाइल नंबर से ही किसी व्यक्ति के बारे में कैसे पता करे?Sirf Mobile Number Se Hi Kisi Vyakti Ke Baare Mein Kaise Pata Kare
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:40
नमस्कार आपको पसंद है सिर्फ मोबाइल नंबर से ही किसी व्यक्ति के बारे में कैसे पता करें मोबाइल नंबर के जरिए आप सिर्फ मोबाइल नंबर से किसी व्यक्ति बारे में ऐसे पता नहीं चला सकते हालांकि अब सोशल मीडिया के जरिए जहां भी मोबाइल के द्वारा उसके अकाउंट में उनके जरिए उसके सोशल मीडिया अकाउंट्स को पता कर उसकी डिटेल ले सकते हैं कि वह कौन है अगर भाई जब मोबाइल से एड्रेस पता चलाया जा सकता है पर आप उस व्यक्ति के बारे में कैसे पता नहीं चला पाएंगे मेरी मोबाइल से लिंक उसका भी सोशल मीडिया अकाउंट है तो जरूर आपको जानकारी मिल सकती है जितनी सोशल मीडिया अकाउंट पर उपलब्ध होगी वही जानकारी आप उसे हासिल कर पाएंगे
Namaskaar aapako pasand hai sirph mobail nambar se hee kisee vyakti ke baare mein kaise pata karen mobail nambar ke jarie aap sirph mobail nambar se kisee vyakti baare mein aise pata nahin chala sakate haalaanki ab soshal meediya ke jarie jahaan bhee mobail ke dvaara usake akaunt mein unake jarie usake soshal meediya akaunts ko pata kar usakee ditel le sakate hain ki vah kaun hai agar bhaee jab mobail se edres pata chalaaya ja sakata hai par aap us vyakti ke baare mein kaise pata nahin chala paenge meree mobail se link usaka bhee soshal meediya akaunt hai to jaroor aapako jaanakaaree mil sakatee hai jitanee soshal meediya akaunt par upalabdh hogee vahee jaanakaaree aap use haasil kar paenge

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या किसी को वाईफाई देने से भी मोबाइल हैक हो सकता है?Kya Kisi Ko Wifi Dene Se Bhe Mobile Hack Ho Sakta Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:50
नमस्कार आपका सवाल है क्या किसी को वाईफाई देने से भी मोबाइल है हो सकता है कि बाई फाई से आमतौर पर मोबाइल है कि नहीं किया जा सकता हालांकि इनकी बहुत ज्यादा एक्स्ट्राऑर्डिनरी है क्या तो फिर वह किसी भी तरीके से कर लेगा उसको फिर बिना वाईफाई के भी हैक करने के तरीके आते हैं क्योंकि नॉर्मल है भाई सही से मोबाइल है नहीं करना जब तक कि आप खुद कोई ना कोई गलती करके अपने मोबाइल का एड्रेस उसे ना वैसे आप निश्चिंत रहें ऐसे आसपास मारे रहने वाले लोगों में इतना आसान नहीं होता कि हैक करने वाला हूं कहने वाले कई लोग हो सकते हैं लेकिन हैक करना इतनी आसान चीज नहीं होती तो आप ऐसे अनावश्यक द रहना इस तरीके से नहीं होगा धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai kya kisee ko vaeephaee dene se bhee mobail hai ho sakata hai ki baee phaee se aamataur par mobail hai ki nahin kiya ja sakata haalaanki inakee bahut jyaada ekstraordinaree hai kya to phir vah kisee bhee tareeke se kar lega usako phir bina vaeephaee ke bhee haik karane ke tareeke aate hain kyonki normal hai bhaee sahee se mobail hai nahin karana jab tak ki aap khud koee na koee galatee karake apane mobail ka edres use na vaise aap nishchint rahen aise aasapaas maare rahane vaale logon mein itana aasaan nahin hota ki haik karane vaala hoon kahane vaale kaee log ho sakate hain lekin haik karana itanee aasaan cheej nahin hotee to aap aise anaavashyak da rahana is tareeke se nahin hoga dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
वास्कोडिगामा भारत कब आया था ?Vaaskodigaama Bhaarat Kab Aaya Tha
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:20
आपका प्रश्न है वास्कोडिगामा भारत कब पहुंचा था वास्कोडिगामा भारत कब पहुंचा था वास्कोडिगामा मई 1498 मई 149 1498 में भारत में पहुंचा था धन्यवाद
Aapaka prashn hai vaaskodigaama bhaarat kab pahuncha tha vaaskodigaama bhaarat kab pahuncha tha vaaskodigaama maee 1498 maee 149 1498 mein bhaarat mein pahuncha tha dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
वास्कोडिगामा भारत कब आया था?Vaaskodigaama Bhaarat Kab Aaya Tha
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:29
नमस्कार आपका प्रश्न है वास्कोडिगामा भारत कब पहुंचा था वास्कोडिगामा भारत कब पहुंचा था वास्कोडिगामा इंडिया में 1498 149 8 मई में 1498 में भारत पहुंचा था यह पश्चिम भारत में बंदरगाह वह आपके पास से होते हुए भारत में आया था मई 1498 धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai vaaskodigaama bhaarat kab pahuncha tha vaaskodigaama bhaarat kab pahuncha tha vaaskodigaama indiya mein 1498 149 8 maee mein 1498 mein bhaarat pahuncha tha yah pashchim bhaarat mein bandaragaah vah aapake paas se hote hue bhaarat mein aaya tha maee 1498 dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
सरकारी नौकरी प्राप्त करने के लिए कौनसे टोटके करने चाहिए?Sarkari Naukri Praapt Karne Ke Liye Kaunse Totke Karne Chahiye
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
0:40
आपका प्रश्न है सरकारी नौकरी प्राप्त करने के लिए कौन से टोटके करने चाहिए कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करने के लिए सबसे बेहतर एक टोटका है जिससे आप हर जगह सफल हो सकते हैं वह है मेहनत मेहनत प्रेक्टिस लगातार करें आपको सफलता जरूर मिलेगी जिस चीज का पैगाम देना चाहते हैं उसके पहले थोड़ा सा जानकारी हासिल करें कि क्या पैटर्न है कैसे पेपर आते हैं पुराने पेपर क्या रहे हैं और आप लगातार प्रैक्टिस करें ऐसा हो ही नहीं सकता कि आपको सफलता ना मिले यही एक सबसे मेन टोटका है जिसको आप अपना है आप जरूर सरकारी जॉब में पहुंचेंगे धन्यवाद
Aapaka prashn hai sarakaaree naukaree praapt karane ke lie kaun se totake karane chaahie koee bhee sarakaaree naukaree praapt karane ke lie sabase behatar ek totaka hai jisase aap har jagah saphal ho sakate hain vah hai mehanat mehanat prektis lagaataar karen aapako saphalata jaroor milegee jis cheej ka paigaam dena chaahate hain usake pahale thoda sa jaanakaaree haasil karen ki kya paitarn hai kaise pepar aate hain puraane pepar kya rahe hain aur aap lagaataar praiktis karen aisa ho hee nahin sakata ki aapako saphalata na mile yahee ek sabase men totaka hai jisako aap apana hai aap jaroor sarakaaree job mein pahunchenge dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या सरकारी नोकरी अच्छी है या खुद का करोड़ों का बिज़नेस?Kya Sarkari Noukari Achi Hai Ya Khud Ka Karodo Ka Bisuness
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:10
नमस्कार आपका प्रश्न है कि सरकारी नौकरी अच्छी है या खुद का करोड़ों का बिजनेस भी दोनों ही जगह दोनों ही चीजें अपनी जगह भीतर है अब किसी भी चीज से देश और समाज में योगदान दे सकते हैं लोगों का बेहतर कर सकते हैं यदि हम सिर्फ पैसे ग्रुप से बात करा तो निश्चित रूप से बिजनेस ज्यादा बेहतर है जो इनकम ज्यादा है यदि आप ग्रुप के रूप में बात करें तो दोनों जगह अपनी अपनी ग्रोथ हैं सरकारी ओं में अलग बिजनेसमैन पर यदि आप बिजनेस को किसी बड़ी सरकारी जॉब से कम प्यार करें तो निश्चित रूप से उसमें आपको ज्यादा फोर्स नहीं मिलती है अब ज्यादा बेहतर कर पाते हैं वहां पूरे देश समाज का बदलाव कर सकते हैं बेहतर बना सकते हैं लेकिन बिजनेस में भी दिया बड़ी बिजनेसमैन बनते हैं तो वहां भी आप ही कर सकते हैं तो दोनों ही चीजें बेहतर है दोनों ही विकल्प है बस बात यह है कि आप इसमें से किस विकल्प को उपयोग करना चाहते हैं आप किस विकल्प के जरिए आगे बढ़ना चाहते हैं सभी विकल्प बेहतर होते हैं यह आपके ऊपर निर्भर है आपकी चॉइस क्या है आपका फैशन किस चीज में है आपको क्या अच्छा लगता है आप उसको फॉलो करें धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai ki sarakaaree naukaree achchhee hai ya khud ka karodon ka bijanes bhee donon hee jagah donon hee cheejen apanee jagah bheetar hai ab kisee bhee cheej se desh aur samaaj mein yogadaan de sakate hain logon ka behatar kar sakate hain yadi ham sirph paise grup se baat kara to nishchit roop se bijanes jyaada behatar hai jo inakam jyaada hai yadi aap grup ke roop mein baat karen to donon jagah apanee apanee groth hain sarakaaree on mein alag bijanesamain par yadi aap bijanes ko kisee badee sarakaaree job se kam pyaar karen to nishchit roop se usamen aapako jyaada phors nahin milatee hai ab jyaada behatar kar paate hain vahaan poore desh samaaj ka badalaav kar sakate hain behatar bana sakate hain lekin bijanes mein bhee diya badee bijanesamain banate hain to vahaan bhee aap hee kar sakate hain to donon hee cheejen behatar hai donon hee vikalp hai bas baat yah hai ki aap isamen se kis vikalp ko upayog karana chaahate hain aap kis vikalp ke jarie aage badhana chaahate hain sabhee vikalp behatar hote hain yah aapake oopar nirbhar hai aapakee chois kya hai aapaka phaishan kis cheej mein hai aapako kya achchha lagata hai aap usako pholo karen dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
एलपीजी के फुल फॉर्म क्या होता है?Lpg Ke Full Form Kya Hota Hai
MANISH BHARGAVA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए MANISH जी का जवाब
Author
1:05
नमस्कार आपका सवाल है एलपीजी का फुल फॉर्म क्या होता है एलपीजी जोटम है या यह जो शब्द है वह दो जगह है यूज़ किया जाता है एक आर्थिक शब्दावली में और एक नॉर्मल जो हम गैस यूज करते हैं उस के संदर्भ में कल के वर्तमान में यह दोनों हीटर में लगातार हमें हर जगह सुनने को मिल रहे हैं इसका जो नॉर्मल गैस सिलेंडर ग्रुप में जो न्यूज़ करते हैं एलपीजी सिलेंडर उसका फुल फॉर्म में लिखकर फाइट पेट्रोलियम के एक सिंपल स्वेटर में है जिसको एमएलपीजी कहते हैं लिखकर फाइट पेट्रोलियम के अधिकांश न्यूज़पेपर या बड़ी जगह पर जो एलपीजी सब यूज किया जाता है आर्थिक शब्दावली में ज्यादा यूज किया जाता है इस एलपीजी का फुल फॉर्म आफ लिबरलाइजेशन प्राइवेटाइजेशन ग्लोबलाइजेशन निजीकरण उदारीकरण और वैश्वीकरण इसी संदर्भ में 99 शब्द अपनाया गया था भारत सरकार द्वारा और उसके बाद इसे इसी संदर्भ में आर्थिक शब्दावली में या रिपोर्ट में यूज किया जाता है तो हो सकता अपने दोनों में से जैसे वैसे ही पूछा मैंने दोनों ही आपके अर्थ बताने की कोशिश की है धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai elapeejee ka phul phorm kya hota hai elapeejee jotam hai ya yah jo shabd hai vah do jagah hai yooz kiya jaata hai ek aarthik shabdaavalee mein aur ek normal jo ham gais yooj karate hain us ke sandarbh mein kal ke vartamaan mein yah donon heetar mein lagaataar hamen har jagah sunane ko mil rahe hain isaka jo normal gais silendar grup mein jo nyooz karate hain elapeejee silendar usaka phul phorm mein likhakar phait petroliyam ke ek simpal svetar mein hai jisako emelapeejee kahate hain likhakar phait petroliyam ke adhikaansh nyoozapepar ya badee jagah par jo elapeejee sab yooj kiya jaata hai aarthik shabdaavalee mein jyaada yooj kiya jaata hai is elapeejee ka phul phorm aaph libaralaijeshan praivetaijeshan globalaijeshan nijeekaran udaareekaran aur vaishveekaran isee sandarbh mein 99 shabd apanaaya gaya tha bhaarat sarakaar dvaara aur usake baad ise isee sandarbh mein aarthik shabdaavalee mein ya riport mein yooj kiya jaata hai to ho sakata apane donon mein se jaise vaise hee poochha mainne donon hee aapake arth bataane kee koshish kee hai dhanyavaad
URL copied to clipboard