#कुछ अलग

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
4:59

#कुछ अलग

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
4:58

#कुछ अलग

bolkar speaker
क्या खोई हुई मान प्रतिष्ठा वापस मिल सकती है?Kya Khoee Huee Maan Pratishtha Vaapas Mil Sakatee Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
4:15

#कुछ अलग

bolkar speaker
मनुष्य जब मर जाता है। तब वह अपने साथ क्या लेकर जाता है?Manushya Jab Mar Jata Hai Tab Vah Apne Saath Kya Lekar Jata Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
5:00

#कुछ अलग

bolkar speaker
एक तरफा प्यार करके क्या आदमी नहीं जी सकता?Ek Tarfa Pyar Karke Kya Admi Nahi Jee Sakta
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
5:00

#कुछ अलग

bolkar speaker
don't worry about me को हिन्दी में क्या कहते हैं?Dont Worry About Me Ko Hindi Mein Kya Kehte Hain
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
0:49

#जीवन शैली

bolkar speaker
कभी-कभी सब छोड़-छाड़ कर भाग जाने का मन करे तो कहां जाए और क्या करें?Kabhi Kabhi Sab Chhod Chhad Kar Bhag Jane Ka Man Kare To Kaha Jaye Aur Kya Kare
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:58

#जीवन शैली

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:20

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या खोने से किसी को भी डरना चाहिए?Kya Khone Se Kisi Ko Bhi Darna Chahiye
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:58

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या भाग्य का लिखा कर्म से मिटाया जा सकता है?Kya Bhagya Ka Likha Karm Se Mitaya Ja Sakta Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:58

#जीवन शैली

bolkar speaker
जब कोई उदास हो तो क्या करना चाहिए?Jab Koi Udas Ho To Kya Karna Chahyie
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:58
नमस्कार आपके प्रश्न है कि जब कोई उदास हो तो क्या करना चाहिए कि मेरा मानना जब कोई उदास हो तो सबसे पहले तो साइकोलॉजिकल दृष्टि से देखें तो उसकी उदासी का कारण क्या है कुछ पूछने के बाद उसको उसका पॉजिटिव और नेगेटिव पॉइंट्स होता है उसे बताइए समझाइए कि आपके उदास होने से आपके परेशान होने से आपकी परेशानी का हल नहीं हो जाएगा आपको जीवन में बहुत कुछ करना है अगर माली जी उसको असफलता लगी हाथ में या विफल हो गया कहीं पर उसे यह समझाने का प्रयास करेंगे कि नहीं एक सफलता सफलता नहीं होती और विफलता विफलता नहीं होती है सच्चे खिलाड़ी तो वही होते हैं जो मैदान में उतरता है बाजी बाजी हारते में लेकिन उनके चेहरे पर कभी भी बलिंता नहीं आती है आपको मलिन होने की उदास होने की कोई जरूरत नहीं है पॉजिटिव सोच बहुत अच्छा होगा हो सकता है कि जो चीजें को सोच कर के आप उदास हो रहे हैं मैं उससे बटन मिलने वाला हूं तभी वह चीजें आपको नहीं मिली और जो हमारे लिए अच्छा होता है ना ईश्वर है वही देता है जो हमको अच्छा लगता है वह कभी नहीं मिलता है अभी जो हमको अच्छा लगता है करो मिले तो अच्छा ठीक होता है लेकिन जो ईश्वर हमको देता है और हमारे लिए अच्छा होता है थोड़ी नहीं था लंबे समय तक चलता है तो यदि आपको कुछ अच्छा पाना है कुछ अच्छा करना है छोटी-मोटी जो बाधाएं हैं उनसे आपको घबराना नहीं चाहिए परेशान नहीं होना चाहिए जिंदगी में मुस्कुरा कर देखना सभी का होता नहीं नसीब रोशन सितारों जैसी फुल पतझड़ में फूल फूल गुलशन बहार आ जाए उदास होने से उम्र और दिमाग दोनों ही कम होता है इसलिए उम्र में छोटा दिन ताना करें और यदि जीवन को लंबा जी ने लाइफ में लंबा रहना है अच्छा करना है तो भी आपको चिंता करने की उदास होने की जरूरत नहीं खुश रहिए मुस्कुराते रहिए हंसते रहिए और लोगों को हंसाते रहे उदास होने से किसी समस्या का समाधान नहीं होता खुशियों को दिल से लगाते हैं गले लगाते हैं खुशियां आती है तो खुश होते हैं तो को भी गले लगा कर दुख जाएगा लेकिन यह उदास भी खुश हो कर चला जाएगा
Namaskaar aapake prashn hai ki jab koee udaas ho to kya karana chaahie ki mera maanana jab koee udaas ho to sabase pahale to saikolojikal drshti se dekhen to usakee udaasee ka kaaran kya hai kuchh poochhane ke baad usako usaka pojitiv aur negetiv points hota hai use bataie samajhaie ki aapake udaas hone se aapake pareshaan hone se aapakee pareshaanee ka hal nahin ho jaega aapako jeevan mein bahut kuchh karana hai agar maalee jee usako asaphalata lagee haath mein ya viphal ho gaya kaheen par use yah samajhaane ka prayaas karenge ki nahin ek saphalata saphalata nahin hotee aur viphalata viphalata nahin hotee hai sachche khilaadee to vahee hote hain jo maidaan mein utarata hai baajee baajee haarate mein lekin unake chehare par kabhee bhee balinta nahin aatee hai aapako malin hone kee udaas hone kee koee jaroorat nahin hai pojitiv soch bahut achchha hoga ho sakata hai ki jo cheejen ko soch kar ke aap udaas ho rahe hain main usase batan milane vaala hoon tabhee vah cheejen aapako nahin milee aur jo hamaare lie achchha hota hai na eeshvar hai vahee deta hai jo hamako achchha lagata hai vah kabhee nahin milata hai abhee jo hamako achchha lagata hai karo mile to achchha theek hota hai lekin jo eeshvar hamako deta hai aur hamaare lie achchha hota hai thodee nahin tha lambe samay tak chalata hai to yadi aapako kuchh achchha paana hai kuchh achchha karana hai chhotee-motee jo baadhaen hain unase aapako ghabaraana nahin chaahie pareshaan nahin hona chaahie jindagee mein muskura kar dekhana sabhee ka hota nahin naseeb roshan sitaaron jaisee phul patajhad mein phool phool gulashan bahaar aa jae udaas hone se umr aur dimaag donon hee kam hota hai isalie umr mein chhota din taana karen aur yadi jeevan ko lamba jee ne laiph mein lamba rahana hai achchha karana hai to bhee aapako chinta karane kee udaas hone kee jaroorat nahin khush rahie muskuraate rahie hansate rahie aur logon ko hansaate rahe udaas hone se kisee samasya ka samaadhaan nahin hota khushiyon ko dil se lagaate hain gale lagaate hain khushiyaan aatee hai to khush hote hain to ko bhee gale laga kar dukh jaega lekin yah udaas bhee khush ho kar chala jaega

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपका LIFE का सबसे बड़ा GOAL क्या है और क्या आप उसे achieve करने के लिए हर दिन समय दे पा रहे हो?Aapka Life Ka Sabse Bada Goal Kya Hai Or Kya Aap Use Achhiaivai Karane Ke Liye Har Din Samay De Pa Rahe Ho
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:52
नमस्कार आपका प्रश्न है कि आपका लाइफ का सबसे बड़ा गुण क्या है और क्या आप उसे अजीब करने के लिए हर दिन समय दे पा रहे हैं तो लाइफ का सबसे बड़ा चौक गोल है वह तो यही है हमारी दिनचर्या बहुत अच्छी हो लेकिन बाकी में अगर फ्यूचर को देखा जाए तो उसके हिसाब से मेरी लाइफ का सबसे बड़ा पुल की है कि मैं यूनिवर्सिटी का इलेक्शन उसके लिए मैं हर संभव प्रयास भी करती हूं और बात रही समय देने की तो समय तो निकालना ही पड़ता है अगर आप एंबीशंस रखते हो तो उसके कोडिंग आपको वर्क भी करना पड़ता है और करना हमारे हाथ में है लेकिन जो वर्क का रिजल्ट हमारे कंपनी करता है जिस तरह से नाराज ऐसा करने का उसके अनुसार में फल मिलेगा तो गोल को देखिए गोल तो है उसके लिए हर संभव प्रयास करते हैं उसको अचीव कर पाना है ना कर माली कोई बड़ी बात नहीं यह हमारी मदद कोई मायने नहीं रखता अगर आसिफ कर लिया तो बहुत अच्छा है और नहीं कर पाए तो उसका भी कोई दुख नहीं है क्योंकि सफलता हो या सफलता कोई जरूरी नहीं है कि हम सफल हो करके बहुत कुछ सीखते हैं और सफल होकर के भी बहुत कुछ सीखते हैं और वह तो मिलता है तो अगर अचीव कर पाए तो बहुत बेस्ट है नहीं ऐसी कृपा हमें अनुभव मिलेगा अनुभव मिलेगा तो प्यार करेंगे प्यार करेंगे तो जाहिर सी बात है लेकिन आपने दक्ष को अवश्य प्राप्त कर लेने की कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती है तुझे कोशिश करते हैं उनकी हार कभी भी नहीं होती है तो मैं भी कोशिश कर रही हूं और मैं यह आप लोगों को भी बताना चाहते हो कहना चाहते हो कि अपने जीवन में कोई भी लक्ष्य कर रखते हैं कोई भी लक्ष्य निर्धारित करते हैं वह को प्राप्त करना चाहते हैं तो उसके लिए हर संभव प्रयास करें और इतना बेहतर करिए कि शायद ही फॉरवर्ड कुछ रहेगी ना जान हमको यह न लगे कि हमने कहा कि अगर थोड़ी और मेहनत कर दी होती तो हम पास प्राप्त कर लेते ऐसा कुछ ना हो उसे बेहतर के लिए और उस रास्ते में कठिनाइयां तो बहुत आएंगे लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि कठिनाइयों से डर कर के हम अपने लक्ष्य को लक्ष्य विमुख हो जाए मुख से कभी भी हार नहीं मानी से हार में बिजी थे और जितने भी हार हम परेशान करते हैं ना उस का आनंद ही कुछ और और हमारे बनाए हुए रास्ते पर लोग चलने के लिए तत्पर रहते हैं लक्ष्मी वही अच्छा होता है जिसमें हम बहुत कठिनाइयों से परीक्षण से प्राप्त करते हैं
Namaskaar aapaka prashn hai ki aapaka laiph ka sabase bada gun kya hai aur kya aap use ajeeb karane ke lie har din samay de pa rahe hain to laiph ka sabase bada chauk gol hai vah to yahee hai hamaaree dinacharya bahut achchhee ho lekin baakee mein agar phyoochar ko dekha jae to usake hisaab se meree laiph ka sabase bada pul kee hai ki main yoonivarsitee ka ilekshan usake lie main har sambhav prayaas bhee karatee hoon aur baat rahee samay dene kee to samay to nikaalana hee padata hai agar aap embeeshans rakhate ho to usake koding aapako vark bhee karana padata hai aur karana hamaare haath mein hai lekin jo vark ka rijalt hamaare kampanee karata hai jis tarah se naaraaj aisa karane ka usake anusaar mein phal milega to gol ko dekhie gol to hai usake lie har sambhav prayaas karate hain usako acheev kar paana hai na kar maalee koee badee baat nahin yah hamaaree madad koee maayane nahin rakhata agar aasiph kar liya to bahut achchha hai aur nahin kar pae to usaka bhee koee dukh nahin hai kyonki saphalata ho ya saphalata koee jarooree nahin hai ki ham saphal ho karake bahut kuchh seekhate hain aur saphal hokar ke bhee bahut kuchh seekhate hain aur vah to milata hai to agar acheev kar pae to bahut best hai nahin aisee krpa hamen anubhav milega anubhav milega to pyaar karenge pyaar karenge to jaahir see baat hai lekin aapane daksh ko avashy praapt kar lene kee koshish karane vaalon kee kabhee haar nahin hotee hai tujhe koshish karate hain unakee haar kabhee bhee nahin hotee hai to main bhee koshish kar rahee hoon aur main yah aap logon ko bhee bataana chaahate ho kahana chaahate ho ki apane jeevan mein koee bhee lakshy kar rakhate hain koee bhee lakshy nirdhaarit karate hain vah ko praapt karana chaahate hain to usake lie har sambhav prayaas karen aur itana behatar karie ki shaayad hee phoravard kuchh rahegee na jaan hamako yah na lage ki hamane kaha ki agar thodee aur mehanat kar dee hotee to ham paas praapt kar lete aisa kuchh na ho use behatar ke lie aur us raaste mein kathinaiyaan to bahut aaenge lekin isaka matalab yah nahin ki kathinaiyon se dar kar ke ham apane lakshy ko lakshy vimukh ho jae mukh se kabhee bhee haar nahin maanee se haar mein bijee the aur jitane bhee haar ham pareshaan karate hain na us ka aanand hee kuchh aur aur hamaare banae hue raaste par log chalane ke lie tatpar rahate hain lakshmee vahee achchha hota hai jisamen ham bahut kathinaiyon se pareekshan se praapt karate hain

#रिश्ते और संबंध

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:56
नमस्कार आपका प्रश्न है कि जिस लड़के से प्यार करोगे उससे मेरी शादी नहीं हुई कहीं और हो गई मेरी बीवी मुझ पर शक करती है किसी लड़की से बात करते हैं ठीक है जो आपका प्रश्न आपने पूछा आपने खुद ही क्लेरिफाई कर दिया कि आप उस लड़की का फोन आता है आप उससे बात करते हैं आप उसे भूलना चाहते हैं भूल नहीं पाते हैं क्योंकि उसका फोन आता है तो देखें इसमें शक की बात ही नहीं लेकिन प्रत्यक्ष के लिए प्रमाण की कोई जरूरत नहीं होती आपने प्रत्यक्ष तो दिखाई दे या ना बता ही रहे हैं क्या बात करते हैं बीवी से कहां करती हो तो सही कह रही है ना अगर आपको बात ही करना था क्या आप इसे उससे मिलना ही था प्यार ही करना था तो आप ने शादी क्यों नहीं की क्योंकि आप तो किसी लड़की की लाइफ बर्बाद करो आप गलत और अब आपके लिए एक ही है उस लड़की का फोन आता है तो आप साफ साफ मना कर दीजिए कि मेरी शादी हो गई अब मैं तुमसे बात नहीं मैं तुम्हारे रिलेशन में नहीं रह सकता मैं किसी लड़की की जिंदगी नहीं बात कर सकता और आप जो प्यार उसको देते हैं आप अपने दीदी को दीजिए तो शायद आपकी लाइफ अच्छी हो किसी भी प्यार जो विश्वास रिश्ता होता है ना उसकी नहीं विश्वास होता तो आप कहते हैं कि आप अपनी पत्नी के साथ विश्वासघात कर रहे हैं आप ना तो अपनी पत्नी की बंद कर रहा है पा रहे हैं ऑनलाइन उस लड़की तो मेरा तो मानना यही है कि जवाब की शादी किसी और से ना कर ही दी गई है और उसे आप अपनी बीवी मांग रहे हैं जो लड़की आपके साथ रह रही है जिससे आपकी शादी हुई तो आप हंड्रेड परसेंट अब उसे दिल दिमाग से अपना ही लीजिए कि मेरी वाइफ है कि मुझे छोड़कर कहीं नहीं जा सकती और मुझे भी जाना नहीं अगर शादी करना ही था बात करना है उसे था तो उसी लड़की से शादी करते हैं मेरा तो गलती आपने यहां की और जबरदस्ती कर शादी कर ही दी गई तो आज जो आपके सामने हैं आप उसे स्वीकार की थी उसे प्यार दीजिए उस लड़की का क्या लड़की का और अपना दोनों का घर पर बात कर रहे हैं कल तो उसकी शादी हो जाएगा उसका हस्बैंड भी उसके साथ वैसा ही करेगा अपनी पत्नी के साथ कर रहे हैं तो आपको कैसा लगेगा इसलिए मेरा मानना है कि आप अपने में सुधार लाएंगे भूल जाइए उनका फोन रिसीव नहीं कर रही है सिम तोड़ कर फेंक दीजिए दूसरी सिम मेरी नहीं है तू फोन करेगी नहीं अगर करती भी है तो आप उसको रिसीव ना करें अगर आप चाहेंगे तो इस समस्या से निजात पा सकते नहीं जाएंगे ऐसे ही हमेशा परेशानियों का सामना करते रहेंगे थैंक यू सो मच
Namaskaar aapaka prashn hai ki jis ladake se pyaar karoge usase meree shaadee nahin huee kaheen aur ho gaee meree beevee mujh par shak karatee hai kisee ladakee se baat karate hain theek hai jo aapaka prashn aapane poochha aapane khud hee kleriphaee kar diya ki aap us ladakee ka phon aata hai aap usase baat karate hain aap use bhoolana chaahate hain bhool nahin paate hain kyonki usaka phon aata hai to dekhen isamen shak kee baat hee nahin lekin pratyaksh ke lie pramaan kee koee jaroorat nahin hotee aapane pratyaksh to dikhaee de ya na bata hee rahe hain kya baat karate hain beevee se kahaan karatee ho to sahee kah rahee hai na agar aapako baat hee karana tha kya aap ise usase milana hee tha pyaar hee karana tha to aap ne shaadee kyon nahin kee kyonki aap to kisee ladakee kee laiph barbaad karo aap galat aur ab aapake lie ek hee hai us ladakee ka phon aata hai to aap saaph saaph mana kar deejie ki meree shaadee ho gaee ab main tumase baat nahin main tumhaare rileshan mein nahin rah sakata main kisee ladakee kee jindagee nahin baat kar sakata aur aap jo pyaar usako dete hain aap apane deedee ko deejie to shaayad aapakee laiph achchhee ho kisee bhee pyaar jo vishvaas rishta hota hai na usakee nahin vishvaas hota to aap kahate hain ki aap apanee patnee ke saath vishvaasaghaat kar rahe hain aap na to apanee patnee kee band kar raha hai pa rahe hain onalain us ladakee to mera to maanana yahee hai ki javaab kee shaadee kisee aur se na kar hee dee gaee hai aur use aap apanee beevee maang rahe hain jo ladakee aapake saath rah rahee hai jisase aapakee shaadee huee to aap handred parasent ab use dil dimaag se apana hee leejie ki meree vaiph hai ki mujhe chhodakar kaheen nahin ja sakatee aur mujhe bhee jaana nahin agar shaadee karana hee tha baat karana hai use tha to usee ladakee se shaadee karate hain mera to galatee aapane yahaan kee aur jabaradastee kar shaadee kar hee dee gaee to aaj jo aapake saamane hain aap use sveekaar kee thee use pyaar deejie us ladakee ka kya ladakee ka aur apana donon ka ghar par baat kar rahe hain kal to usakee shaadee ho jaega usaka hasbaind bhee usake saath vaisa hee karega apanee patnee ke saath kar rahe hain to aapako kaisa lagega isalie mera maanana hai ki aap apane mein sudhaar laenge bhool jaie unaka phon riseev nahin kar rahee hai sim tod kar phenk deejie doosaree sim meree nahin hai too phon karegee nahin agar karatee bhee hai to aap usako riseev na karen agar aap chaahenge to is samasya se nijaat pa sakate nahin jaenge aise hee hamesha pareshaaniyon ka saamana karate rahenge thaink yoo so mach

#रिश्ते और संबंध

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
3:00
नमस्ते आपका प्रेग्नेंट है जिससे हम शादी करना चाहते हैं क्या उसी हमें अपने पुराने रिलेशनशिप के बारे में बताना चाहिए या चाहे कुछ भी हो जाए छुपा कर रखी थी आपको पुरानी बातों को बताना या ना बताना कोई मायने नहीं रखता है बताने से कोई फायदा और बता कर भी कोई फायदा हम बस इतना जरूर है मैं जानती हूं कि जो कुछ भी ना आप उसके बारे में पूछो पुरानी बातें ना अपनी पुरानी बातें बताओ सिंपल सा तरीका है कि आप जो हो प्रजेंट टाइम में उसका फ्यूचर प्रेजेंट और शिव चर्चा होना चाहिए आज क्या था क्या नहीं था उससे कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए अगर आप रिलेशन में हो क्या शादी कर रहे हो प्रजनन क्या है आपकी पत्नी है पति दोनों एक दूसरे पर विश्वास रखो अपनी बातों को जो प्रजेंट में आपकी लाइफ में चल रही है आने वाली प्लानिंग जो करते हैं उनके विषय में सोचो तो ज्यादा अच्छा होगा क्योंकि कभी-कभी क्या होता है कि आप अपनी बातें तो बता देते हो बाद में एक दूसरे में कितनी होती है नोकझोंक होने लगती तकरार होने पिक्चर पुरानी बातों को याद आ जाता है ना आप पूछो ना बताओ आप जरूर है क्या है ऐसे हैं जो उनके साथ गए बाकी कुछ बचा सकता मेरा मानना है कि आप एक सफल जिंदगी ने पति को छोड़कर वर्तमान में जो हमारा अतीत की यादें हो या बुरी हूं जैसी भी हो सर की शुद्धता करके अपनी इज्जत वाराणसी लाइव अधिक जाना है आनंद पूर्वक जाना है अपना पेमेंट देखे चोरी की बेहतरीन एक दूसरे को अच्छी बॉन्डिंग विश्वास और आपका रिश्ता बेहतर से बेहतर से नहीं किसी की चुन्नी होती है विश्वास करती है विश्वास से मजबूती आती है दूसरे पर ट्रस्ट करें तभी होगा जब आप तो जनता उसी को देख एक दूसरे के पास में घुसने की कोशिश करें तो खाली बात बनेगी तकरार हो नो सॉरी और लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी अच्छी जिंदगी नहीं जी पाएंगे या नहीं है कि आपकी
Namaste aapaka pregnent hai jisase ham shaadee karana chaahate hain kya usee hamen apane puraane rileshanaship ke baare mein bataana chaahie ya chaahe kuchh bhee ho jae chhupa kar rakhee thee aapako puraanee baaton ko bataana ya na bataana koee maayane nahin rakhata hai bataane se koee phaayada aur bata kar bhee koee phaayada ham bas itana jaroor hai main jaanatee hoon ki jo kuchh bhee na aap usake baare mein poochho puraanee baaten na apanee puraanee baaten batao simpal sa tareeka hai ki aap jo ho prajent taim mein usaka phyoochar prejent aur shiv charcha hona chaahie aaj kya tha kya nahin tha usase koee phark nahin padana chaahie agar aap rileshan mein ho kya shaadee kar rahe ho prajanan kya hai aapakee patnee hai pati donon ek doosare par vishvaas rakho apanee baaton ko jo prajent mein aapakee laiph mein chal rahee hai aane vaalee plaaning jo karate hain unake vishay mein socho to jyaada achchha hoga kyonki kabhee-kabhee kya hota hai ki aap apanee baaten to bata dete ho baad mein ek doosare mein kitanee hotee hai nokajhonk hone lagatee takaraar hone pikchar puraanee baaton ko yaad aa jaata hai na aap poochho na batao aap jaroor hai kya hai aise hain jo unake saath gae baakee kuchh bacha sakata mera maanana hai ki aap ek saphal jindagee ne pati ko chhodakar vartamaan mein jo hamaara ateet kee yaaden ho ya buree hoon jaisee bhee ho sar kee shuddhata karake apanee ijjat vaaraanasee laiv adhik jaana hai aanand poorvak jaana hai apana pement dekhe choree kee behatareen ek doosare ko achchhee bonding vishvaas aur aapaka rishta behatar se behatar se nahin kisee kee chunnee hotee hai vishvaas karatee hai vishvaas se majabootee aatee hai doosare par trast karen tabhee hoga jab aap to janata usee ko dekh ek doosare ke paas mein ghusane kee koshish karen to khaalee baat banegee takaraar ho no soree aur laiph inshyorens polisee achchhee jindagee nahin jee paenge ya nahin hai ki aapakee

#रिश्ते और संबंध

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
1:55
नमस्कार आपका सवाल है कि अगर आपके घरवाले आपको बोलनी थी आपको या काम करना है आप उस समय मैं बिजी नहीं रहते हैं तो आप दूसरे काम मेरे से होते हैं तो आप कैसे करें क्या करें मेरे कि मेरा मानना है कि अगर हमारे घर पर उसे बोलते हैं कि आप कोई काम करना है और मेरा मन नहीं है फिर भी उनकी इच्छा के मुताबिक उनका नाम रखने के लिए उस काम को करने की कोशिश करूंगी और नहीं हो पाएगा अगर बाई चांस मेरे को काम मेरे से नहीं हो पाता है बोल दूंगी काम में करने की कोशिश कर रहे हो मेरे से नहीं हो रहा है काम तो दूसरा काम जो मेरे पसंद का काम था उसको मैं बोलूंगा अगर इस तरह का काम कोई होता तो मैं अवश्य कर लेती जैसी बात है कि वह मेरे को दे दो जी को देखते हुए वह मुझसे अवश्य देंगे फिर से आंखों में काम करो क्योंकि इस तरह से देखें उनका काम तो उनकी बातों से मिलना भी नहीं कर रही और अपना काम भी कर रहे हो जो मुझ में रुचि मैं जिस में रखती हूं तो मेरा मानना है कि हर किसी को अपने घर वालों की बात माननी चाहिए आपकी मर्जी हो या ना हो उसे कोशिश करो कितनी कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती तो तुम कोशिश करेंगे तो कार्य असंभव काम भी कारण ही संभव हो तो कोई भी कार्य संभव नहीं होता है और रुचि की बात रहेगी अपनी पसंद की कोई जरूरी नहीं है कि आपकी जो रुचि का ध्यान आपके माता-पिता की घरवाली ना रखी है काम आप कर लीजिए मुझे लगता है कि हम सभी को ऐसा ही करना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki agar aapake gharavaale aapako bolanee thee aapako ya kaam karana hai aap us samay main bijee nahin rahate hain to aap doosare kaam mere se hote hain to aap kaise karen kya karen mere ki mera maanana hai ki agar hamaare ghar par use bolate hain ki aap koee kaam karana hai aur mera man nahin hai phir bhee unakee ichchha ke mutaabik unaka naam rakhane ke lie us kaam ko karane kee koshish karoongee aur nahin ho paega agar baee chaans mere ko kaam mere se nahin ho paata hai bol doongee kaam mein karane kee koshish kar rahe ho mere se nahin ho raha hai kaam to doosara kaam jo mere pasand ka kaam tha usako main boloonga agar is tarah ka kaam koee hota to main avashy kar letee jaisee baat hai ki vah mere ko de do jee ko dekhate hue vah mujhase avashy denge phir se aankhon mein kaam karo kyonki is tarah se dekhen unaka kaam to unakee baaton se milana bhee nahin kar rahee aur apana kaam bhee kar rahe ho jo mujh mein ruchi main jis mein rakhatee hoon to mera maanana hai ki har kisee ko apane ghar vaalon kee baat maananee chaahie aapakee marjee ho ya na ho use koshish karo kitanee koshish karane vaalon kee kabhee haar nahin hotee to tum koshish karenge to kaary asambhav kaam bhee kaaran hee sambhav ho to koee bhee kaary sambhav nahin hota hai aur ruchi kee baat rahegee apanee pasand kee koee jarooree nahin hai ki aapakee jo ruchi ka dhyaan aapake maata-pita kee gharavaalee na rakhee hai kaam aap kar leejie mujhe lagata hai ki ham sabhee ko aisa hee karana chaahie dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या किसी लड़की द्वारा तीसरी शादी करना उसके चरित्र को दागदार करता है?Kya Kisi Ladki Dvara Teesri Shadi Karna Uske Charitr Ko Daagdaar Karta Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
3:00
नमस्कार आपको किसने क्या किसी लड़की से शादी करना कि पुत्र को दागदार करते हैं मेरा मानना है कि किसी लड़की तीसरी या चौथी शादी करो उस पिक्चर की दाल की दाल दाल मानो या ना मानो तो अलग की बात है एक लड़का शादी करता है उसके चरित्र को दाग नहीं जाता है कि नहीं कहा जा सकता तो किसी लड़की द्वारा तीसरी शादी है दूसरी शादी करना उसके चरित्र के लिए तलवार कैसे होता है अगर लड़की के लिए नहीं मिलेगी के लिए भी नहीं हर किसी की अपनी मजबूरी होती होगी कोई लड़की और लड़का होती तो झूमती पहचान तो शादी नहीं करना चाहता हूं कुछ पैसे नहीं देंगे हम बिना सोचे समझे ना जाने किसी के लायक नहीं लगा सकते को बढ़ाने के लिए कितनी उम्र होती है उतना लगा देता है इसलिए किसी भी द्वारा लड़कियों की शादी करना उसके चरित्र को दर्शाता है सामाजिक राजनीतिक विश्लेषण आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप कैसे दिखते हैं और बुरी निगाह से देखेंगे तो बुरा इंसान में गुण और अवगुण दोनों निहित होते जाने की इतनी सफाई होती बुराई बुराई हमारे चरित्र का निर्माण होता है अच्छा नहीं होता है ज्यादा नहीं तो थोड़ी बुराई में रहती हो रहती है इसलिए पुरुष प्रधान समाज तो लड़कियों पर लांछन लगाना तो 100 घंटे में अगर कोई लड़की किसी लड़के की तरफ देख लेती तो क्या तुम लड़की लड़के को देख रही है या छोटे कपड़े पहन रखी जाती है बहुत ध्यान से देखते हैं और उसी लड़की का कहीं पर कुछ हो जाता है तो सबकी आंखें बंद हो जाती है तब कोई यह नहीं कहता है कि लड़की के साथ गलत हुआ क्या हुआ आप गलत होते भी देख ले
Namaskaar aapako kisane kya kisee ladakee se shaadee karana ki putr ko daagadaar karate hain mera maanana hai ki kisee ladakee teesaree ya chauthee shaadee karo us pikchar kee daal kee daal daal maano ya na maano to alag kee baat hai ek ladaka shaadee karata hai usake charitr ko daag nahin jaata hai ki nahin kaha ja sakata to kisee ladakee dvaara teesaree shaadee hai doosaree shaadee karana usake charitr ke lie talavaar kaise hota hai agar ladakee ke lie nahin milegee ke lie bhee nahin har kisee kee apanee majabooree hotee hogee koee ladakee aur ladaka hotee to jhoomatee pahachaan to shaadee nahin karana chaahata hoon kuchh paise nahin denge ham bina soche samajhe na jaane kisee ke laayak nahin laga sakate ko badhaane ke lie kitanee umr hotee hai utana laga deta hai isalie kisee bhee dvaara ladakiyon kee shaadee karana usake charitr ko darshaata hai saamaajik raajaneetik vishleshan aapake oopar dipend karata hai ki aap kaise dikhate hain aur buree nigaah se dekhenge to bura insaan mein gun aur avagun donon nihit hote jaane kee itanee saphaee hotee buraee buraee hamaare charitr ka nirmaan hota hai achchha nahin hota hai jyaada nahin to thodee buraee mein rahatee ho rahatee hai isalie purush pradhaan samaaj to ladakiyon par laanchhan lagaana to 100 ghante mein agar koee ladakee kisee ladake kee taraph dekh letee to kya tum ladakee ladake ko dekh rahee hai ya chhote kapade pahan rakhee jaatee hai bahut dhyaan se dekhate hain aur usee ladakee ka kaheen par kuchh ho jaata hai to sabakee aankhen band ho jaatee hai tab koee yah nahin kahata hai ki ladakee ke saath galat hua kya hua aap galat hote bhee dekh le

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
आप लड़की होने के नाते लड़कों को क्या सलाह देना चाहेंगे?Ap Ladki Hone Ke Nate Ladko Ko Kya Salah Dena Chahenge
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:35
नमस्कार आपका फेस नहीं कि आप लड़की होने के नाते लड़कों को फंसाना देना चाहो तो मैं बता दूं लड़की होने के नाते मैं लड़कों को और लड़की दोनों की सलाह देना चाहते हैं कि किसी भी रिश्ते अगर आप निभाना चाहते हैं तो विश्वास के साथ में रिश्ते में विश्वास किसी भी रिश्ते की जो तू होती है मजबूती मुझे विश्वास है कि मुझे तो विश्वास नहीं आपका कोई भी रिश्ता नहीं कुछ अच्छी नहीं बन सकता है इसलिए लड़के और लड़कियों को हम सभी को विश्वास के साथ ईमानदारी से हर रिश्ते को निभाना चाहिए कोई जरूरी नहीं है कि लड़का है भाई बहुत ईमानदारी से सच्चाई से अपने प्रेम को मैरिज लड़कियां कैसे होती है कि लड़कों को धोखा देती है उनकी शादी चलकर तारीफ करते हैं दिखाओ सकते हैं तो मेरा मानना है टीचर जैसा को तैसा से लड़कियों के लड़का बड़ा धोखा दे रहे हो तो धोखा पाओगे यदि आप ईमानदारी से रहो इमानदारी से रिश्ते को निभाना तो हम जैसों को देते हैं कितना चालू करके मिलता इसलिए हमेशा याद रखें कि आप जो बोलेंगे वही मेरे साथ अच्छा देंगे अच्छा मिलेगा बुरा नहीं है बुरा मिलेगा और डबल मिले इसलिए हमेशा अपने रिश्ते के प्रति वफादार देने कि मामला केवल लड़की लड़का दोनों दोनों को दर्द होता है किसी एक को लड़कियों के पास अगर दिल है तो लड़कों के पास दे दर्द लड़कियों को होता है तो लड़कों को भी होते हैं ऐसा नहीं तुम को दर्द नहीं होता उनके दिल टूटने नहीं या वह ईमानदार नहीं होता ईमानदार भी बच्चे भी होते हैं वह हजारों साल लड़की करके देखो इस लड़की में लड़की दोनों को अपने रिश्ते को बाघों की इमानदारी से कोई भी रिश्ता होता है हर रिश्ते में प्यार हो जो जो टूटने पर है रिश्ते में हम दिल में दर्द होता है किसी को नहीं होता है उनकी सोच
Namaskaar aapaka phes nahin ki aap ladakee hone ke naate ladakon ko phansaana dena chaaho to main bata doon ladakee hone ke naate main ladakon ko aur ladakee donon kee salaah dena chaahate hain ki kisee bhee rishte agar aap nibhaana chaahate hain to vishvaas ke saath mein rishte mein vishvaas kisee bhee rishte kee jo too hotee hai majabootee mujhe vishvaas hai ki mujhe to vishvaas nahin aapaka koee bhee rishta nahin kuchh achchhee nahin ban sakata hai isalie ladake aur ladakiyon ko ham sabhee ko vishvaas ke saath eemaanadaaree se har rishte ko nibhaana chaahie koee jarooree nahin hai ki ladaka hai bhaee bahut eemaanadaaree se sachchaee se apane prem ko mairij ladakiyaan kaise hotee hai ki ladakon ko dhokha detee hai unakee shaadee chalakar taareeph karate hain dikhao sakate hain to mera maanana hai teechar jaisa ko taisa se ladakiyon ke ladaka bada dhokha de rahe ho to dhokha paoge yadi aap eemaanadaaree se raho imaanadaaree se rishte ko nibhaana to ham jaison ko dete hain kitana chaaloo karake milata isalie hamesha yaad rakhen ki aap jo bolenge vahee mere saath achchha denge achchha milega bura nahin hai bura milega aur dabal mile isalie hamesha apane rishte ke prati vaphaadaar dene ki maamala keval ladakee ladaka donon donon ko dard hota hai kisee ek ko ladakiyon ke paas agar dil hai to ladakon ke paas de dard ladakiyon ko hota hai to ladakon ko bhee hote hain aisa nahin tum ko dard nahin hota unake dil tootane nahin ya vah eemaanadaar nahin hota eemaanadaar bhee bachche bhee hote hain vah hajaaron saal ladakee karake dekho is ladakee mein ladakee donon ko apane rishte ko baaghon kee imaanadaaree se koee bhee rishta hota hai har rishte mein pyaar ho jo jo tootane par hai rishte mein ham dil mein dard hota hai kisee ko nahin hota hai unakee soch

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
अगर शादी होने के बावजूद भी बॉयफ्रेंड की साथ ना छोड़े तो क्या करना चाहिए?Agar Shadi Hone Ke Bavjud Bhe Boyfriend Ki Sath Na Chode To Kya Karna Chaiye
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:01
नमस्कार आपका प्रश्न है कि बरसात होने के बावजूद बॉयफ्रेंड का साथ ना छोड़े तो क्या करूं मेरा मानना है कि वे शादी होने के बावजूद भी कोई लड़की अपने बॉयफ्रेंड के साथ नहीं छोड़ती है उसके पति तो उसकी इज्जत करनी चाहिए वही बात हमको बुला करके उस लड़की की शादी उस लड़की से करो कि दोनों खुशी-खुशी अपना जीवन यापन कर सकें लेकिन शादी तो आपकी पत्नी मां अपने बच्चे से क्या बात करती है उसका साथ नहीं छोड़ती है तो शरीर उसकी आपकी बात से सहमत हूं उसी के पास ऐसे रिश्ते से क्या फायदा शादी एक अटूट बंधन एक पवित्र बंधन हमारी हिंदी में इस पवित्र बंधन को जन्म बंदना ना जटाशंकर के दर्शन नहीं कर सकती मेरे कहने का मतलब है कि लंदन ऐसा होता है कोई हंसता है कोई भी इस संबंध में तो विश्वास पर टिका होता है जब आप के संबंध में आप की रोशनी को विश्वास ही नहीं है और झूठ है फरेब है ऐसे अकेले रहने दे यार कुछ रिश्ते से क्या फिर से संबंध विच्छेद का संधि विच्छेद के बाद अपनी लाइफ में खुश रहो अपनी लाइफ में खुश आप अपनी लाइफ में आगे बढ़ी ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है जिसके साथ रहना चाहता है वह उसके साथ रहें खुश रहें इसमें सबसे अच्छी और ठीक बात नहीं है कि आप उसकी असली बॉयफ्रेंड से शादी करा दे
Namaskaar aapaka prashn hai ki barasaat hone ke baavajood boyaphrend ka saath na chhode to kya karoon mera maanana hai ki ve shaadee hone ke baavajood bhee koee ladakee apane boyaphrend ke saath nahin chhodatee hai usake pati to usakee ijjat karanee chaahie vahee baat hamako bula karake us ladakee kee shaadee us ladakee se karo ki donon khushee-khushee apana jeevan yaapan kar saken lekin shaadee to aapakee patnee maan apane bachche se kya baat karatee hai usaka saath nahin chhodatee hai to shareer usakee aapakee baat se sahamat hoon usee ke paas aise rishte se kya phaayada shaadee ek atoot bandhan ek pavitr bandhan hamaaree hindee mein is pavitr bandhan ko janm bandana na jataashankar ke darshan nahin kar sakatee mere kahane ka matalab hai ki landan aisa hota hai koee hansata hai koee bhee is sambandh mein to vishvaas par tika hota hai jab aap ke sambandh mein aap kee roshanee ko vishvaas hee nahin hai aur jhooth hai phareb hai aise akele rahane de yaar kuchh rishte se kya phir se sambandh vichchhed ka sandhi vichchhed ke baad apanee laiph mein khush raho apanee laiph mein khush aap apanee laiph mein aage badhee jyaada sochane kee jaroorat nahin hai jisake saath rahana chaahata hai vah usake saath rahen khush rahen isamen sabase achchhee aur theek baat nahin hai ki aap usakee asalee boyaphrend se shaadee kara de

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
उपन्यास लिखने के लिए व्यक्ति में क्या योग्यताएं होनी चाहिए?Upnyas Likhne Ke Liye Vyakti Mein Kya Yogyataen Honi Chaiye
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:08
नमस्कार आपका प्रश्न है उपन्यास लिखने के लिए व्यक्ति ने क्या योग्यताएं होनी चाहिए तो उपाय उपन्यास लिखने के लिए व्यक्ति में ऐसी कोई विशेष योग्यता की जरूरत नहीं होती है फिर भी मानसिक योग्यता का होना बहुत ही जरूरी है अपनी बात है क्या आपको लिखना आना चाहिए लिखने लिखना पसंद करते हो तो जब भी आपके दिमाग में कोई भी बातें आए तो आप उसे लिख डाले और कॉपी हमें कोई विचार है जैसे दिया है उसे लेखनी बंद करते चले जाइए बाद में उसको देखी क्या आपने क्या लिखा है कैसे लिखा है मैं किस तरीके से क्योंकि जो सोता हूं कल्पना पर आधारित होता है काल्पनिक होता है जितना भी आप अच्छे कल्पना कर ले जाएंगे जितने आप ही कल्पना शक्ति ज्यादा होगी उतना ही अच्छे से उपन्यास आप लिख पाएंगे और लिखते समय यह कभी भी अपने माइंड में बातें ना लगे कि जो हम लिख रहे हैं लोग सुनेंगे देखेंगे पड़ेंगे तो हमें क्या कहे कोई कुछ नहीं कहेगा कहेगा भी तो आपकी रचनात्मक शैली है जरा जरा नरेश ना करने की जो कला है उसमें उन्नति है होगा क्योंकि कोई दिखावा करता है हमारे लेखन कला की आलोचना करता है लेख की आलोक आलोचना करता है और उस कमी को दूर करने का हम भरपूर प्रयास करते हैं इसमें बुरा मानने की या खराब लगने की कोई बात नहीं है प्रयास करने से ही प्रयत्न करने सब कुछ आता है सब कुछ इंसान सीखता है इसलिए उपन्यास लिखने के लिए आप में कल्पनाशीलता लिखने का ढंग से लिखो तो इस तरह की इन सब बातों का ध्यान रखना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai upanyaas likhane ke lie vyakti ne kya yogyataen honee chaahie to upaay upanyaas likhane ke lie vyakti mein aisee koee vishesh yogyata kee jaroorat nahin hotee hai phir bhee maanasik yogyata ka hona bahut hee jarooree hai apanee baat hai kya aapako likhana aana chaahie likhane likhana pasand karate ho to jab bhee aapake dimaag mein koee bhee baaten aae to aap use likh daale aur kopee hamen koee vichaar hai jaise diya hai use lekhanee band karate chale jaie baad mein usako dekhee kya aapane kya likha hai kaise likha hai main kis tareeke se kyonki jo sota hoon kalpana par aadhaarit hota hai kaalpanik hota hai jitana bhee aap achchhe kalpana kar le jaenge jitane aap hee kalpana shakti jyaada hogee utana hee achchhe se upanyaas aap likh paenge aur likhate samay yah kabhee bhee apane maind mein baaten na lage ki jo ham likh rahe hain log sunenge dekhenge padenge to hamen kya kahe koee kuchh nahin kahega kahega bhee to aapakee rachanaatmak shailee hai jara jara naresh na karane kee jo kala hai usamen unnati hai hoga kyonki koee dikhaava karata hai hamaare lekhan kala kee aalochana karata hai lekh kee aalok aalochana karata hai aur us kamee ko door karane ka ham bharapoor prayaas karate hain isamen bura maanane kee ya kharaab lagane kee koee baat nahin hai prayaas karane se hee prayatn karane sab kuchh aata hai sab kuchh insaan seekhata hai isalie upanyaas likhane ke lie aap mein kalpanaasheelata likhane ka dhang se likho to is tarah kee in sab baaton ka dhyaan rakhana chaahie dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
ये सच है क्या कि सफल लोग किताबें खूब पढ़ते हैं?ye sach hai kya ki saphal log kitaaben khoob padhate hain
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
3:00
आपका स्नेह है कि यह सच है कि सफल लोग किताबे खूब करते हैं किताबे खूब जी कोई बहुत बड़ी बात नहीं है किताबों में क्या लिखा है किस तरह का लिखा है कैसे लिखा है वह अपने जीवन में उतारना है कि बहुत बड़ी बात होती तो लोग सफल हुए किताबे पढ़कर के आगे नहीं बढ़ने किताबों में लिखा हुआ उस सिद्धांतों को उसको उन्होंने अपना नाम और अपना घर के आगे बढ़े हैं जैसे कि एपीजे अब्दुल कलाम शाह ने लिखा कि यदि आपको सूर्य की तरह से अगर आपको चमकना है तो आपको सबसे पहले सूर्य की तरह से चलना चाहिए और जो अपने आप देखें हमेशा खुली आंखों से देख आंखों से नहीं बंद आंखों में जो सपने होते हैं वह कभी मिलता नहीं और खुली आंखों से जो सपना देखा जाता है वह कभी हमें सोने नहीं देती है एक तरह की आग पैदा होती है और वह आज हमें कभी भी सोने नहीं देती है हमेशा प्रयास के लिए कोशिश करने के लिए प्रेरित करती है और जो लोग कोशिश करते हैं वह करते हैं उनको अपनी जिंदगी और सफलता तुम्हारे कदमों को तभी सुनते हैं जब हम अपने अंदर चित्र में अवश्य करें और असफलता से हम निराश नहीं होते कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती लहरों से डरकर नौका कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती कोशिश करता है प्यार करता है इतिहास कभी भी नहीं होते हैं सच तो यह है कि जो लोग परेशान करते हैं प्यार करते हैं और आगे बढ़ते हैं किताब पढ़ ले बहुत सारी किताबों में लिखा हुआ क्या है उसे अपनी जिंदगी भी जो लोग डालते हैं जहां से शुरू होती है आप जहां खड़े होते वहां से मैच शुरू होने से मैं आपकी फोटो देख कर के रास्ता चुने नहीं आपका जो मन करें आपकी नजर को सबसे कठिन रास्ता हमेशा के लिए
Aapaka sneh hai ki yah sach hai ki saphal log kitaabe khoob karate hain kitaabe khoob jee koee bahut badee baat nahin hai kitaabon mein kya likha hai kis tarah ka likha hai kaise likha hai vah apane jeevan mein utaarana hai ki bahut badee baat hotee to log saphal hue kitaabe padhakar ke aage nahin badhane kitaabon mein likha hua us siddhaanton ko usako unhonne apana naam aur apana ghar ke aage badhe hain jaise ki epeeje abdul kalaam shaah ne likha ki yadi aapako soory kee tarah se agar aapako chamakana hai to aapako sabase pahale soory kee tarah se chalana chaahie aur jo apane aap dekhen hamesha khulee aankhon se dekh aankhon se nahin band aankhon mein jo sapane hote hain vah kabhee milata nahin aur khulee aankhon se jo sapana dekha jaata hai vah kabhee hamen sone nahin detee hai ek tarah kee aag paida hotee hai aur vah aaj hamen kabhee bhee sone nahin detee hai hamesha prayaas ke lie koshish karane ke lie prerit karatee hai aur jo log koshish karate hain vah karate hain unako apanee jindagee aur saphalata tumhaare kadamon ko tabhee sunate hain jab ham apane andar chitr mein avashy karen aur asaphalata se ham niraash nahin hote koshish karane vaalon kee kabhee haar nahin hotee laharon se darakar nauka koshish karane vaalon kee kabhee haar nahin hotee koshish karata hai pyaar karata hai itihaas kabhee bhee nahin hote hain sach to yah hai ki jo log pareshaan karate hain pyaar karate hain aur aage badhate hain kitaab padh le bahut saaree kitaabon mein likha hua kya hai use apanee jindagee bhee jo log daalate hain jahaan se shuroo hotee hai aap jahaan khade hote vahaan se maich shuroo hone se main aapakee photo dekh kar ke raasta chune nahin aapaka jo man karen aapakee najar ko sabase kathin raasta hamesha ke lie

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
रामचरितमानस की कौन सी चौपाई आपके मन-मस्तिष्क और हृदय में बस गई है?Ramacharitmanas Ki Kaun Si Chaupai Aapke Man Mastishk Aur Hriday Mein Bas Gayi Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
1:59
नमस्कार आपका प्रश्न है कि रामचरितमानस की कौन सी चौपाई आप की मेंबरशिप और सेंड कर दो जो हमारे हृदय को छू जाती है लेकिन 19222 ऐसे हैं जो मुझे याद मुझे बहुत अच्छा लगता गोस्वामी तुलसीदास ने अवधी भाषा में रामचरितमानस को लेकर प्रवेश प्रवेश नगर कीजे सब काजा हृदय राखी कौशलपुर दूसरी दीन दयाल विरद संभारी हरहु नाथ मम संकट यह दोनों बहुत ही अच्छी लगती दिला देना किस तरह से बाबा तुलसीदास का निराकरण किया और एक और लाइन है मुझे याद आती है इंग्लिश तेरा की कहानी तुलसी रांची तहत सिंह मिक्स धनुख विकार पुणे आवत जावत नहीं दे सका रविवार कहते हैं पुलिस मीरा के तहत इस तुलसीदास जी जब राम नाम मेरा कहते हैं क्या कहते हैं तो हमारे मन के कितने में बिका होते हैं वहां के उच्चारण से ही बहाना है और जैसे ही बाहर से दूर विचार हमारे अंदर मन में मस्तिष्क में आने की कोशिश करते हैं ऐसे मां शब्द कह कर के बंद हो जाते हैं
Namaskaar aapaka prashn hai ki raamacharitamaanas kee kaun see chaupaee aap kee membaraship aur send kar do jo hamaare hrday ko chhoo jaatee hai lekin 19222 aise hain jo mujhe yaad mujhe bahut achchha lagata gosvaamee tulaseedaas ne avadhee bhaasha mein raamacharitamaanas ko lekar pravesh pravesh nagar keeje sab kaaja hrday raakhee kaushalapur doosaree deen dayaal virad sambhaaree harahu naath mam sankat yah donon bahut hee achchhee lagatee dila dena kis tarah se baaba tulaseedaas ka niraakaran kiya aur ek aur lain hai mujhe yaad aatee hai inglish tera kee kahaanee tulasee raanchee tahat sinh miks dhanukh vikaar pune aavat jaavat nahin de saka ravivaar kahate hain pulis meera ke tahat is tulaseedaas jee jab raam naam mera kahate hain kya kahate hain to hamaare man ke kitane mein bika hote hain vahaan ke uchchaaran se hee bahaana hai aur jaise hee baahar se door vichaar hamaare andar man mein mastishk mein aane kee koshish karate hain aise maan shabd kah kar ke band ho jaate hain

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
आपकी दृष्टी में हिन्दी भाषा के उत्थान में किस लेखक का योगदान सर्वोपरि है?aapakee drshtee mein hindee bhaasha ke utthaan mein kis lekhak ka yogadaan sarvopari hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
3:00
नमस्कार आपका प्रश्न है कि आपकी दृष्टि हिंदी भाषा के उत्थान में किस लेखक का योगदान सर्वोपरि है तो हिंदी भाषा के उत्थान के लिए अगर देखा जाए तो भारतेंदु हरिश्चंद्र जी का सबसे महत्वपूर्ण योगदान रहा है उन्होंने हिंदी भाषा के उत्थान के लिए एक छोटी सी में पंक्तियां बताना चाहते मत डाउन की पंक्ति बताना चाहती हूं मैंने कहा कि निज भाषा उन्नति अहै सब भाषा के मूल बिन निज भाषा ज्ञान के मीटिंग है कि सुभाष अपनी भाषा को आगे बढ़ाने के लिए कभी भी चीज किसी की इज्जत ना नहीं चाहिए कि हम को अंग्रेजी नहीं आती हम तो हिंदी बोलते हैं लोग क्या समझेंगे अरे हमको अपनी मातृभाषा अपनी माता को माता कहने में किस तरह तरह की शर्मिंदगी किसी से बात करते आपने हिंदी में बात कर हिंदी भाषा में बात करिए और हिंदी भाषा में जब आप बात करेंगे तो हमारा जो हमारी भाषा का जो उत्थान है जो हमारी भाई साहब वह स्थान की तरफ जाएगी उसका पता नहीं होता होगा लेकिन बड़े ही दुख के साथ कहना पड़ता है कि आज के हमारे युवक हिंदी बोलने से डरते हैं उनको बड़ी शर्म आती है इंग्लिश ना आए तू हिंदी में नहीं बोलेंगे क्योंकि उनकी बेजती हो जाएगी तुमको लगता है कि हिंदी बोलना हिंदी में हमको अंग्रेजी नहीं आती है तुमको कोई भी भाषा होती है हिंदी अंग्रेजी अगर आपको अंग्रेजी आती है और अंग्रेजी आप बोल नहीं सामने वाला आपकी भाषा को आपकी बात को नहीं समझ पा रहा है आपको बोलने बेकार है ना इससे कोई फायदा तो नहीं है इसलिए मेरा मानना यही कि हिंदी को ज्यादा से ज्यादा भाग दिया जाए और कामकाज को हिंदी में किया जाए और भारतेंदु हरिश्चंद्र जी ने तो कहा है कि कुछ भी करके आप अगर कोई भी भाषा पढ़ कर के आप पंडित प्रकांड विद्वान बन जाइए लेकिन आपको अपनी मातृभाषा अपनी भाषा अगर आपको नहीं आती है तो आप हमेशा आजीवन उम्र गरीब की गरीबी रहेगी इसलिए अपनी मातृभाषा का सम्मान करें उसके उत्थान के लिए आप दो कदम आगे बढ़ाएं
Namaskaar aapaka prashn hai ki aapakee drshti hindee bhaasha ke utthaan mein kis lekhak ka yogadaan sarvopari hai to hindee bhaasha ke utthaan ke lie agar dekha jae to bhaaratendu harishchandr jee ka sabase mahatvapoorn yogadaan raha hai unhonne hindee bhaasha ke utthaan ke lie ek chhotee see mein panktiyaan bataana chaahate mat daun kee pankti bataana chaahatee hoon mainne kaha ki nij bhaasha unnati ahai sab bhaasha ke mool bin nij bhaasha gyaan ke meeting hai ki subhaash apanee bhaasha ko aage badhaane ke lie kabhee bhee cheej kisee kee ijjat na nahin chaahie ki ham ko angrejee nahin aatee ham to hindee bolate hain log kya samajhenge are hamako apanee maatrbhaasha apanee maata ko maata kahane mein kis tarah tarah kee sharmindagee kisee se baat karate aapane hindee mein baat kar hindee bhaasha mein baat karie aur hindee bhaasha mein jab aap baat karenge to hamaara jo hamaaree bhaasha ka jo utthaan hai jo hamaaree bhaee saahab vah sthaan kee taraph jaegee usaka pata nahin hota hoga lekin bade hee dukh ke saath kahana padata hai ki aaj ke hamaare yuvak hindee bolane se darate hain unako badee sharm aatee hai inglish na aae too hindee mein nahin bolenge kyonki unakee bejatee ho jaegee tumako lagata hai ki hindee bolana hindee mein hamako angrejee nahin aatee hai tumako koee bhee bhaasha hotee hai hindee angrejee agar aapako angrejee aatee hai aur angrejee aap bol nahin saamane vaala aapakee bhaasha ko aapakee baat ko nahin samajh pa raha hai aapako bolane bekaar hai na isase koee phaayada to nahin hai isalie mera maanana yahee ki hindee ko jyaada se jyaada bhaag diya jae aur kaamakaaj ko hindee mein kiya jae aur bhaaratendu harishchandr jee ne to kaha hai ki kuchh bhee karake aap agar koee bhee bhaasha padh kar ke aap pandit prakaand vidvaan ban jaie lekin aapako apanee maatrbhaasha apanee bhaasha agar aapako nahin aatee hai to aap hamesha aajeevan umr gareeb kee gareebee rahegee isalie apanee maatrbhaasha ka sammaan karen usake utthaan ke lie aap do kadam aage badhaen

#रिश्ते और संबंध

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:36
नमस्कार आपका प्रश्न है कि बच्चों को किताबी कीड़ा बनाना क्या सही है क्या आप नहीं चाहते कि आपके बच्चे किताबी ज्ञान के सामाजिक ज्ञान को सीखी है जाने दो मैं बता दूं कि बच्चों को किताबी कीड़ा बनाना किसी हद तक अच्छा है और कभी भी कोई भी मामा भी नहीं चाहता है कि उसका बच्चा किताबी किया मैंने मेरे ख्याल से इस बच्चे को जितना किताब के साथ समय बिताना है उससे कहीं ज्यादा वह प्रकृति अपने बड़े बूढ़े माता-पिता के साथ भी पीता है क्योंकि जो प्रैक्टिकल होता है नॉलेज को ज्यादा दिन तक टिका रहता है और बच्चों को सामाजिक तौर पर जिम्मेदार नागरिक बनाने के लिए उसे आर्थिक सामाजिक राजनीतिक धार्मिक भौगोलिक सांस्कृतिक आज सारी बातों का भी ज्ञान होना जरूरी है जोकि फिर बातें आपको किताबों में नहीं मिल सकते अगर मिलती भी है तो हम उस पर ज्यादा काम नहीं करते हैं जहां तक हो अर्थात जीवन भारती ज्ञान देना चाहिए मैंने प्रैक्टिकल और छोरी दोनों अगर गद्दारी करें थोड़ा सा सीखता है तो आप यह मान कर चलिए प्रैक्टिकल में कुछ ज्यादा ही देखेगा बहुत अच्छा एक्सपेरिमेंट का होगा इसलिए मुझे लगता है कि किसी भी बच्चे से ज्यादा से ज्यादा किताबों से ज्यादा तो प्रैक्टिकल नॉलेज की छोरी ज्यादा काम नहीं आती है कितना प्रैक्टिकल एक्सपीरियंस बच्चे को ज्यादा ही देखते हैं यदि किसी भी चीज को अगर आप पढ़ते हैं बार-बार पड़ता है अब या तो कर लेंगे लेकिन उसको अगर सामने से जा करके देखते हैं सुनते हैं समझते तो आपका ज्यादा दिन तक का क्या हमेशा हमेशा के लिए आपके दिमाग में बना रहेगा इसलिए मेरा मानना है कि बच्चों को हर वो पर्यावरण से हर माहौल से अवगत कराइए जिससे सबसे पहले हुए एक सामाजिक प्राणी बन सके अच्छा इंसान बन सके एक जिम्मेदार नागरिक
Namaskaar aapaka prashn hai ki bachchon ko kitaabee keeda banaana kya sahee hai kya aap nahin chaahate ki aapake bachche kitaabee gyaan ke saamaajik gyaan ko seekhee hai jaane do main bata doon ki bachchon ko kitaabee keeda banaana kisee had tak achchha hai aur kabhee bhee koee bhee maama bhee nahin chaahata hai ki usaka bachcha kitaabee kiya mainne mere khyaal se is bachche ko jitana kitaab ke saath samay bitaana hai usase kaheen jyaada vah prakrti apane bade boodhe maata-pita ke saath bhee peeta hai kyonki jo praiktikal hota hai nolej ko jyaada din tak tika rahata hai aur bachchon ko saamaajik taur par jimmedaar naagarik banaane ke lie use aarthik saamaajik raajaneetik dhaarmik bhaugolik saanskrtik aaj saaree baaton ka bhee gyaan hona jarooree hai joki phir baaten aapako kitaabon mein nahin mil sakate agar milatee bhee hai to ham us par jyaada kaam nahin karate hain jahaan tak ho arthaat jeevan bhaaratee gyaan dena chaahie mainne praiktikal aur chhoree donon agar gaddaaree karen thoda sa seekhata hai to aap yah maan kar chalie praiktikal mein kuchh jyaada hee dekhega bahut achchha eksaperiment ka hoga isalie mujhe lagata hai ki kisee bhee bachche se jyaada se jyaada kitaabon se jyaada to praiktikal nolej kee chhoree jyaada kaam nahin aatee hai kitana praiktikal eksapeeriyans bachche ko jyaada hee dekhate hain yadi kisee bhee cheej ko agar aap padhate hain baar-baar padata hai ab ya to kar lenge lekin usako agar saamane se ja karake dekhate hain sunate hain samajhate to aapaka jyaada din tak ka kya hamesha hamesha ke lie aapake dimaag mein bana rahega isalie mera maanana hai ki bachchon ko har vo paryaavaran se har maahaul se avagat karaie jisase sabase pahale hue ek saamaajik praanee ban sake achchha insaan ban sake ek jimmedaar naagarik

#खेल कूद

bolkar speaker
क्या हार जीत भाग्य से मिलती है या कर्म से?Kya Haar Jeet Bhagya Se Milti Hai Ya Karam Se
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:28

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक शादीशुदा औरत किसी गैर मर्द से बात करती है तो उसको क्या समझे हम?Ek Shaadishuda Aurat Kisi Gair Mard Se Baat Karti Hai To Usko Kya Samjhe Ham
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:27

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
लड़कियों को अपनी मां से ज्यादा लगाव क्यों होता है?Ladkiyo Ko Apni Maan Se Jyaada Lagav Kyun Hota Hai
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:07

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
प्रेम और आत्म सम्मान में किसी एक को चुनना पड़े तो क्या करें?Prem Aur Aatm Sammaan Mein Kisi Ek Ko Chunna Pade To Kya Kare
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
1:41

#जीवन शैली

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:17

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या वजह होती है कि जिसे हम ज्यादा चाहते हैं वही हमें ज्यादा तकलीफ देते हैं?Kya Wajah Hoti Hai Ki Jise Hum Jyada Chahte Hain Wahi Humein Jyada Takleef Dete Hain
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
2:04

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन के कुछ बदसूरत सत्य क्या है जिन्हें हर किसी को स्वीकार करना होगा?Jeevan Ke Kuch Badsurat Satya Kya Hai Jinhe Har Kisi Ko Sveekaar Karna Hoga
Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Assistant professor
1:35
URL copied to clipboard