#कुछ अलग

bolkar speaker
व्हाट इज मदर सन रिलेशनशिप?Vhaat Ij Madar San Rileshanaship
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:29

#कुछ अलग

bolkar speaker
राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष का नाम बताओ?Raashtreey Yuva Kaangres Ke Adhyaksh Ka Naam Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:30

#कुछ अलग

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:42

#कुछ अलग

bolkar speaker
खेतड़ी किस लिए प्रसिद्ध है और कहां पर है?Khetri Kis Liye Prasiddh Hai Aur Kaha Par Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:30
कर्नल आपका सवाल है खेतड़ी किस लिए प्रसिद्ध है और कहां पर है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है खेतड़ी झुंझुनू जिले में है जो हमारे राजस्थान राज्य के अंदर है एक निश्चित है मुंबई की सबसे बड़ी खान है और जो हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड के नाम से जाना जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
जल प्रदूषण के नियंत्रण के उपाय बताए?Jal Pradushan Ke Niyantran Ke Upay Bataye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:24
नमस्कार आप सुन रहे हैं आपका पसंद का प्लेटफार्म बोल कर आया था जो आज हम जल प्रदूषण के नियंत्रण के कुछ उपाय आपको बताएंगे तो आज का आपका सवाल का उत्तर यह है कि कुछ ऐसे उपाय होते हैं जिनसे जल को प्रदूषित होने से रोका जा सकता है जल प्रदूषण को कम कर सकते हैं घरेलू के प्रयोग जल को सीधे जलाशयों में ने मिला दिया जाए शिवराज या घटक दल को अलग नालियों द्वारा एक ही जगह पर या सीवरेज उपचार संयंत्र द्वारा उसे उपचार के बाद ही कृषि अधिकारियों ने किया जाए आप किस पदार्थ का जलाशय में निस्तारण नहीं किया जाए और मरे हुए पशुपति किसी जलाशय में विसर्जित ना करें जलाशय ना ना या कपड़ा धोना मल मूत्र त्याग ना आदि नहीं करना चाहिए परसों को जलाशय में नहीं मैं लाना चाहिए ट्रक और ट्रैक्टर आदि की धुलाई जलाशय में नहीं करना चाहिए यह जल के स्रोत के चारों तरफ कोई सीमा या दीवार बनाकर उसमें ठोस अपशिष्ट पदार्थों का मिलने से रोकना चाहिए कृषि कार्यों में कम से कम कितना तक गर्मी ना चलता है वह को मिलाना चाहिए खनन के क्षेत्र औद्योगिक क्षेत्र या आवासीय बस्तियों से दूरी पर होना चाहिए प्रदूषण के कारण हुआ रोकने के उपाय हमारे जनसाधारण को अवगत कराते रहना चाहिए वह देवकी के अपशिष्ट को बिना उपचार पानी में नहीं बहाना चाहिए और हमारे राष्ट्रीय सेवा योजना एनएसएस एनसीसी आदि की कैंपों में जलाशय के रखरखाव उन्हें दवाएं यदि कार्य करवाना चाहिए प्रदूषण नियंत्रण कानूनों को सख्ती से पालन करना चाहिए हमारे स्कूल कॉलेज कॉलेज खासकर ग्रामीण क्षेत्र में जल प्रदूषण के बारे में हमारे को जानकारी देना चाहिए और हमारे गांव को जागरूक करना चाहिए जिनसे हम जल प्रदूषण पर नियंत्रण पा सकते हैं लेने दो धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar aap sun rahe hain aapaka pasand ka pletaphaarm bol kar aaya tha jo aaj ham jal pradooshan ke niyantran ke kuchh upaay aapako bataenge to aaj ka aapaka savaal ka uttar yah hai ki kuchh aise upaay hote hain jinase jal ko pradooshit hone se roka ja sakata hai jal pradooshan ko kam kar sakate hain ghareloo ke prayog jal ko seedhe jalaashayon mein ne mila diya jae shivaraaj ya ghatak dal ko alag naaliyon dvaara ek hee jagah par ya seevarej upachaar sanyantr dvaara use upachaar ke baad hee krshi adhikaariyon ne kiya jae aap kis padaarth ka jalaashay mein nistaaran nahin kiya jae aur mare hue pashupati kisee jalaashay mein visarjit na karen jalaashay na na ya kapada dhona mal mootr tyaag na aadi nahin karana chaahie parason ko jalaashay mein nahin main laana chaahie trak aur traiktar aadi kee dhulaee jalaashay mein nahin karana chaahie yah jal ke srot ke chaaron taraph koee seema ya deevaar banaakar usamen thos apashisht padaarthon ka milane se rokana chaahie krshi kaaryon mein kam se kam kitana tak garmee na chalata hai vah ko milaana chaahie khanan ke kshetr audyogik kshetr ya aavaaseey bastiyon se dooree par hona chaahie pradooshan ke kaaran hua rokane ke upaay hamaare janasaadhaaran ko avagat karaate rahana chaahie vah devakee ke apashisht ko bina upachaar paanee mein nahin bahaana chaahie aur hamaare raashtreey seva yojana eneses enaseesee aadi kee kaimpon mein jalaashay ke rakharakhaav unhen davaen yadi kaary karavaana chaahie pradooshan niyantran kaanoonon ko sakhtee se paalan karana chaahie hamaare skool kolej kolej khaasakar graameen kshetr mein jal pradooshan ke baare mein hamaare ko jaanakaaree dena chaahie aur hamaare gaanv ko jaagarook karana chaahie jinase ham jal pradooshan par niyantran pa sakate hain lene do dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
वायु प्रदूषण नियंत्रण करने के उपाय बताओ?Vaayu Pradushan Niyantran Krne Ke Upay Btao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:32
नमस्कार आप सुन रहे हैं आपका पसंद का प्लेटफार्म कॉल करें जो आज हम वायु प्रदूषण के नियंत्रण के उपाय आपको बताएंगे तो इनका उत्तर यह है कि हमें कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है वायु प्रदूषण को पूर्णत समाप्त तो नहीं कर सकते लेकिन हम कुछ नियंत्रित कर सकते हैं इसमें प्रत्येक नागरिक का योगदान होना बहुत ही जरूरी है निर्धन के रूप में यह कुछ स्रोत है जैसे गोबर गैस बायोगैस यह में प्राकृतिक गैस एलपीजी आती को अपनाकर यह भवनों को सुरक्षित रख कर यह वहां पर वृक्षारोपण करके वाहनों का विवेकपूर्ण उपयोग या इंजन के नियमित रूप से जांच करवा कर और ईंधन का बुरा चल रहा है या नहीं बिना लेट पेट्रोल उपयोग में लाकर और सिगरेट तंबाकू को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए जिनसे भी हमारा वायु प्रदूषण होता है उद्योगों में फिल्टर का उपयोग किया जाना चाहिए वृक्षारोपण में वृद्धि की जानी चाहिए और श्लोक के अपशिष्ट समुचित तरीके से प्रबंधन धान की पराली के जलाए जाने प्रवृत्ति पर रोक होना चाहिए तभी हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित कर सकते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar aap sun rahe hain aapaka pasand ka pletaphaarm kol karen jo aaj ham vaayu pradooshan ke niyantran ke upaay aapako bataenge to inaka uttar yah hai ki hamen kuchh baaton ka dhyaan rakhana bahut hee jarooree hai vaayu pradooshan ko poornat samaapt to nahin kar sakate lekin ham kuchh niyantrit kar sakate hain isamen pratyek naagarik ka yogadaan hona bahut hee jarooree hai nirdhan ke roop mein yah kuchh srot hai jaise gobar gais baayogais yah mein praakrtik gais elapeejee aatee ko apanaakar yah bhavanon ko surakshit rakh kar yah vahaan par vrkshaaropan karake vaahanon ka vivekapoorn upayog ya injan ke niyamit roop se jaanch karava kar aur eendhan ka bura chal raha hai ya nahin bina let petrol upayog mein laakar aur sigaret tambaakoo ko pratibandhit kiya jaana chaahie jinase bhee hamaara vaayu pradooshan hota hai udyogon mein philtar ka upayog kiya jaana chaahie vrkshaaropan mein vrddhi kee jaanee chaahie aur shlok ke apashisht samuchit tareeke se prabandhan dhaan kee paraalee ke jalae jaane pravrtti par rok hona chaahie tabhee ham vaayu pradooshan ko niyantrit kar sakate hain dhanyavaad doston khush raho

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारतीय संविधान पर अन्य देशों से ग्रहण किए गए स्रोतों का विवरण बताओ?Bharatiya Sanvidhan Par Any Desho Se Grahan Kiye Gaye Sroto Ka Vivaran Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:13
नमस्कार आप सुन रहे हैं आप का प्रथम का प्लेटफार्म बोलकर जो आज हम भारतीय सविधान पर अन्य देशों से ग्रहण किए गए शोधों का विवरण के बारे में बताएंगे तो ब्रिटेन से कुछ प्रावधान दिए गए हैं हमारे संविधान में जो संसदीय शासन प्रणाली संसदीय विशेषाधिकार विधि का शासन संवैधानिक रूप से राष्ट्रपति की स्थिति विधाई प्रक्रिया एकल नागरिकता चुनाव में सर्वाधिक मत के आधार पर जीत की प्रक्रिया और मंत्रिमंडल बना ले और परम आदि कार्य और संयुक्त राज्य अमेरिका से हमें संविधान में दिए गए हैं मूल अधिकार न्यायिक पुनरावलोकन संविधान की सर्वोच्चता निर्वाचित राष्ट्रपति और महाभियोग और उपराष्ट्रपति का पद और कनाडा के सविधान से दिया गया है एक शिक्षक केंद्र के साथ आज संघ सरकार का भैरव अवशिष्ट शक्तियां केंद्र के पास और शक्ति विभाजन और राज्यपाल की नियुक्ति उच्च न्यायालय का परामर्श इंडियन और आयरलैंड के सिद्धांत एवं दिए हैं राज्य के नीति निर्देशक तत्व राष्ट्रपति द्वारा राज्यसभा में साहित्य कला विज्ञान समाज सेवा क्षेत्र का विकास नीतियों का मनोनयन और राष्ट्रपति के निर्वाचन संबंधी प्रक्रिया और दक्षिण अफ्रीका से लिया है संविधान के संशोधन की प्रक्रिया राज्यसभा सदस्यों के निर्वाचन प्रक्रिया से लिया है स्वतंत्रता समानता और बंधुत्व का सिद्धांत गणतंत्र रात में व्यवस्था ऑस्ट्रेलिया के संविधान से लिया है समवर्ती सूची का प्रावधान संसद के दोनों सदनों के संगठन जर्मनी भाई मैदान से लिया है आपातकाल के दौरान मूल सुविधाओं का निलंबन जापान से लिया है विधि द्वारा स्थापित प्रक्रिया पूर्व स्वयं लिया है मुंह करते हुए प्रस्तावना में सामाजिक और आर्थिक और राजनीतिक न्याय का आदर्श धन्यवाद दोस्तों आपके सवाल का आपको जवाब मिल गया धन्यवाद
Namaskaar aap sun rahe hain aap ka pratham ka pletaphaarm bolakar jo aaj ham bhaarateey savidhaan par any deshon se grahan kie gae shodhon ka vivaran ke baare mein bataenge to briten se kuchh praavadhaan die gae hain hamaare sanvidhaan mein jo sansadeey shaasan pranaalee sansadeey visheshaadhikaar vidhi ka shaasan sanvaidhaanik roop se raashtrapati kee sthiti vidhaee prakriya ekal naagarikata chunaav mein sarvaadhik mat ke aadhaar par jeet kee prakriya aur mantrimandal bana le aur param aadi kaary aur sanyukt raajy amerika se hamen sanvidhaan mein die gae hain mool adhikaar nyaayik punaraavalokan sanvidhaan kee sarvochchata nirvaachit raashtrapati aur mahaabhiyog aur uparaashtrapati ka pad aur kanaada ke savidhaan se diya gaya hai ek shikshak kendr ke saath aaj sangh sarakaar ka bhairav avashisht shaktiyaan kendr ke paas aur shakti vibhaajan aur raajyapaal kee niyukti uchch nyaayaalay ka paraamarsh indiyan aur aayaralaind ke siddhaant evan die hain raajy ke neeti nirdeshak tatv raashtrapati dvaara raajyasabha mein saahity kala vigyaan samaaj seva kshetr ka vikaas neetiyon ka manonayan aur raashtrapati ke nirvaachan sambandhee prakriya aur dakshin aphreeka se liya hai sanvidhaan ke sanshodhan kee prakriya raajyasabha sadasyon ke nirvaachan prakriya se liya hai svatantrata samaanata aur bandhutv ka siddhaant ganatantr raat mein vyavastha ostreliya ke sanvidhaan se liya hai samavartee soochee ka praavadhaan sansad ke donon sadanon ke sangathan jarmanee bhaee maidaan se liya hai aapaatakaal ke dauraan mool suvidhaon ka nilamban jaapaan se liya hai vidhi dvaara sthaapit prakriya poorv svayan liya hai munh karate hue prastaavana mein saamaajik aur aarthik aur raajaneetik nyaay ka aadarsh dhanyavaad doston aapake savaal ka aapako javaab mil gaya dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
संविधान सभा की संविधान निर्माण से संबंधित कार्य समिति के बारे में बताओ?Sanvidhan Sabha Ki Sanvidhan Nirman Se Sambandhit Karya Samiti Ke Baare Mein Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:35
नमस्कार आप सुन रहे हैं आपका पसंद का प्लेटफार्म कॉल करें जो आप हम आज से विधान सभा के प्रधान निर्माण से संबंधित कार्य समिति के बारे में बताएंगे जो निम्न प्रकार से हैं बड़ी समितियां और इनके अध्यक्ष संघ शक्ति समिति के अध्यक्ष थे जवाहरलाल नेहरू संविधान समिति के अध्यक्ष थे जवाहरलाल नेहरू प्रांतीय सविधान समिति के अध्यक्ष थे सरदार वल्लभभाई पटेल प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ बी आर अंबेडकर मूल अधिकारों एवं अल्प संख्या संबंधी परामर्श समिति के अध्यक्ष सरदार वल्लभभाई पटेल मूर्ति इन के अध्यक्ष थे जे बी कृपलानी बालक संख्या उप समिति इन के अध्यक्ष थे एचसी मुखर्जी प्रक्रिया नियम समिति इन के अध्यक्ष थे डॉ राजेंद्र प्रसाद जी राजू के लिए समिति राजू से समझौता करने वाले इन के अध्यक्ष थे जवाहरलाल नेहरू संचालन समिति के अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद समिति के अध्यक्ष विधानसभा के कार्य संबंधी समिति के अध्यक्ष तेज देवी मा फुल कर कार्य संचालन समिति इन के अध्यक्ष डॉक्टर के मुंशी सदन समिति के अध्यक्ष ने पटावे सीतारमैया राष्ट्रध्वज संबंधित तदर्थ समिति थी इनका अध्यक्षता डॉ राजेंद्र प्रसाद धन्यवाद साथियों खुश रहो

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
संविधान के प्रारूप समिति के सदस्य बताइए?Sanvidhan Ke Prarup Samiti Ke Sadasya Btaiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:32
नमस्कार आप सुन रहे हैं आपका वसंत का प्लेटफार्म बोलकर जो आप हम श्री राम के बारूद समिति के सदस्य के बारे में बताएंगे जो निम्न प्रकार से हैं डॉक्टर बी आर अंबेडकर अध्यक्ष मदन गोपाल स्वामी आयंगर अल्लादी कृष्णस्वामी अय्यर डाकू के एमसी शेर मोहम्मद सादुल्लाह एंड माधव राय और टीटी कृष्णमाचारी 1948 में विभिन्न प्रकार की मृत्यु के पश्चात अंबेडकर का प्रस्तुत द कॉन्स्टिट्यूशन एंड सेटल्ड बाय द असेंबली दीपक प्रस्ताव पारित किया गया इस प्रस्ताव को 26 नवंबर 1920 राजकुमारी त्यागी 26 नवंबर 1950 की अपना योगदान में प्रस्तावना 395 अनुच्छेद 22 भाग 886 प्रस्तावना को पूर्ण सरकार लागू होने 26 जनवरी 1950 के बाद लागू किया गया था भारतीय संविधान के पिता और हमारे आधुनिक मोनू की संज्ञा डॉक्टर बी आर अंबेडकर को दी जाती है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
महाशिवरात्रि व्रत के महत्व के बारे में बताइये?Mahashivaratri Vrat Ke Mahatv Ke Bare Mei Bataiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:02
नमस्कार साथियों आप सभी बोलकर परिवार का तहे दिल से स्वागत है आज हम महाशिवरात्रि व्रत के महत्व के बारे में बताएंगे महाशिवरात्रि का व्रत 11 मार्च को बृहस्पतिवार को आएगा महाशिवरात्रि के दिन शिव जी की पूजा की जाती है और किस दिन पूजा करने से हमारी सभी मनोकामनाएं पूरी होती है और हमारी मान्यता है इस दिन व्रत और पूजा करने से व्यक्ति को मनचाहे वर की प्राप्ति होती है अगर कन्या का विवाह काफी समय से नहीं हो रहा हो या किसी तरह की बाधा आ रही हो तो उसे महाशिवरात्रि का व्रत करना चाहिए और इस स्थिति के लिए वक्त बहुत ही फलदाई माना जाता है इस व्रत को करने से भगवान शिव का आशीर्वाद प्राप्त होता है हाथी हमें सुख और शांति और समृद्धि प्राप्ति होती है धन्यवाद साथियों खुश रहो

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
राष्ट्रीय महिला दिवस पर अपने विचार बताओ?Raashtreey Mahila Diwas Par Apne Vichaar Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:05
नमस्कार आज सभी बोलकर परिवार के सभी साथियों को आज 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं महिला दिवस का होती थी तब तक प्रमाणित नहीं होता जब तक कि सच्चे अर्थों में महिलाओं की दशा नहीं सुधरती जब तक उनके अधिकार प्राप्त हो रहे हैं वह पिक्चर तिगरण तो तभी होगा जब महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होगी और उनमें कुछ करने का आत्मविश्वास लगेगा और हमारे देश में महिला शोषण से निजात मिलेगी और हमारे मनुस्मृति में उल्लेख है जहां स्त्रियों का सम्मान होता है वहां देवता निवास करते हैं वैसे तो नारी को विश्व भर में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है भारत में महिलाओं ने भारत का गौरव बढ़ाया है जो भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी और भारतीय प्रथम महिला राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल भारत की प्रथम महिला लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमारी भारत की प्रथम महिला राज्यपाल सरोजनी नायडू और भारतीय प्रथम महिला मुख्यमंत्री सुचेता कृपलानी अंतरिक्ष में जाने वाली प्रथम भारतीय महिला कल्पना चावला और कभी भूलकर परिवार के महिलाओं को हार्दिक शुभकामनाएं आया हमें उठो तुम नारी युग निर्माण तुम्हें करना है आजादी की खुद ही नियम में तुम्हें प्रगति पत्थर भरना है अपने को कमजोर न समझो धनी हो संपूर्ण जगत की गौरव हो अपनी संस्कृति की बात हो शरणागत कि तुम्हें नया इतिहास देश का अपने कर मुझसे रचना है धन्यवाद साथियों खुश रहो

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
शिक्षा के उद्देश्य बताओ?Shiksha Ke Uddeshya Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:04
नमस्ते आप सुन रहे हैं आपका पसंद का बोलकर प्लेटफार्म जो पूरी विजय सिंह का जवाब शिक्षा के उद्देश्य के बारे में वीजा अथवा शिक्षा वही है जो हमें आजादी दिलाती है और यह आजादी हमें यह ज्ञान से और अंधकार से अकर्मण्यता से बालक जब जन्म लेकर जीवन पर्यंत कुछ न कुछ सीखता रहता है लेकिन औपचारिक शिक्षा भारती का उद्देश्य के सामने टेक्स्ट होना आवश्यक है आज हमारी शिक्षा नीति के वन्य जीवन निर्वाह की शिक्षा व्यवस्था ही दे रही है जबकि होना यह चाहिए शिक्षा जीवन निर्वाह किया पिक्चर हमारा जीवन निर्माण का उद्देश्य पूरा करें किसी भी राष्ट्र का एक मेरुदंड कही जा सकती है जो हमें संस्कारवान वस्तुनिष्ठ संस्कृत लिस्ट साक्षी और कुशल नागरिक का निर्माण कर चुके पिछले शिक्षा के एक तरफ व्यक्ति निर्माण का कार्य करती है और दूसरी तरफ राष्ट्र का निर्माण को अप्रत्यक्ष रूप से कार्य करती है यदि किसी राष्ट्र का समुचित विकास उसके नागरिकों का शहीदी व्यक्तित्व निर्माण करना है तो उसकी शिक्षा का उद्देश्य होना बहुत ही जरूरी है शिक्षा वस्तुतः कोई प्रतिक्रिया डिग्री प्राप्त करने का नहीं है बल्कि हमारे जीवन में सदस्य लगातार चलने वाली प्रक्रिया है जो कुछ न कुछ सिखाती रहती है शिक्षा से ही व्यक्ति और राष्ट्र का चरित्र का निर्माण होता है यदि किसी देश की शिक्षा अच्छी होगी तो उसके नागरिक का चरित्र भी अच्छा होगा हमारे महात्मा गांधी जी की शिक्षा को चरित्र के लिए अलमारी मानते हैं वह कहते थे शिक्षा का सहयोग देते चरित्र निर्माण होना चाहिए वर्तमान शिक्षा का स्वरूप शिक्षा प्रणाली में आई गिरावट के कारण अपने संगीत ज्ञान का देश के महान परंपराओं के प्रति उपेक्षा का भाव माता-पिता और हमारे गुरु जनों के प्रति आदर के भाव में कमी आई है जो विलास था और सुविधाओं का बढ़ता आकर्षण प्रदर्शन प्रियता उपभोक्तावाद आदि का प्रभाव जैन में बढ़ रहा है हमें सत्य और अहिंसा और करुणा अपरिग्रह चश्मा उतार इमानदारी उदारता जैसे महान मानवीय मूल्य जीवन में लुप्त होने वाली नहीं है जो हमें की बल्कि शिक्षा वह है जो हमें योग्यता के समान दूसरा नेत्र नहीं है शिक्षा ही वह नृत्य है जो हमें जीवन संघर्ष को जूता दिखाएं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत में भाजपा की दमनकारी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाने वाले नेता का नाम बताओ?Bharat Mein Bhaajpa Ki Damankari Neetiyon Ke Khilaf Awaaz Uthane Wale Neta Ka Naam Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:28
नमस्कार आप सुन रहे हैं विजय सिंह बोलकर परिवार का प्रिय साथी आज हम भारत के सभी साथियों को भाजपा की दमनकारी नीतियों के बारे में जानकारी दे रहे हैं जो आप ध्यान से सुने और अमल करें भारत में अनेक पार्टियों की सरकार रही लेकिन वर्तमान की सरकार के भाजपा ने तो हद ही कर दी जो भारत को बनाने में कई साल लगे उनको थोड़े ही समय में ही बर्बाद कर दिया जो भारत की जीडीपी का गिरना और नोटबंदी जीएसटी भारत के रुपए डॉलर से कमजोर हो जाना और भारत के लोग बेरोजगार हो ना और भारत की बढ़ती महंगाई और तेल और डीजल पेट्रोल के भाव आसमान को छूना और गैस सब्सिडी का खत्म करना किसानों के लिए खराब कानून बनाना और हमारे देश के अंद आंदोलन जीव कहना और हमारे देश के अन्नदाता ओके दिल्ली आंदोलन करना जिसे 250 के लगभग किसानों ने अपने वतन के लिए आदत दे दी लेकिन हमारे देश की सरकार किसानों के शहीद परिवारों को श्रद्धांजलि नहीं देना यह हमारे देश की सरकार का अहंकार को दर्शाता है और हमारे देश की सरकार उपक्रम को निजीकरण की तरह से खेलना यह हमारे देश की सरकार की दमनकारी नीतियों के खिलाफ जो विपक्ष में एकमात्र नेता श्री राहुल गांधी जी उठा रहे हैं जो कांग्रेसी राज्य सरकार ने किसानों के हित में बिल पास करवाने और संसद में राहुल गांधी ने शहीद किसानों के लिए मौन धारण करना और किसानों के हित में खड़ा होना और हमारे देश के युवा बेरोजगारों के साथ खड़ा होना और हमारे देश के लाखों करोड़ों की आवाज को उठाना यह सिर्फ राहुल गांधी ही कर रहे हैं कोरोना के दौरान हमारे देश को पहले जगाने वाला श्री राहुल गांधी जी थे जो आप गरीब किसान और जवान युवा बेरोजगारों की आवाज को उठाने वाला श्री राहुल गांधी जी हैं जय जवान जय किसान आओ मिलकर दमनकारी सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करो जय भारत माता की

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
आत्मनिर्भरता के अर्थ के बारे में बताओ?Aatmnirbharta Ke Arth Ke Baare Mein Btao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:30
नमस्कार मेरे सभी बोलकर परिवार के सभी सदस्यों को आप सुन रहे हैं आपका प्रिय सदस्य विजय सिंह का जवाब आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है आत्मनिर्भरता का अर्थ अपने ऊपर निर्भर रहना जो व्यक्ति दूसरे के मुंह को नहीं सकता है और वही आता निर्भर होता है आत्मविश्वास के बल पर जो कार्य करता है और अपने आप पर आत्मनिर्भर रहता है और आतम निर्भरता का अर्थ है समाज और हमारे राष्ट्र की आवश्यकताओं की पूर्ति करना व्यक्ति और समाज महाराष्ट्र में आत्मविश्वास की भावना आत्मनिर्भरता की पूर्ति को करना व्यक्ति और समाज और राष्ट्र में आत्मविश्वास की भावना भावना करता भाई प्रतीक माना जाता है और स्वयं भी जीवन की सफलता की पहली सिटी सफलता प्राप्त करने के लिए व्यक्ति को स्वावलंबी होना चाहिए स्वालंबन व्यक्ति समाज और राष्ट्र के जीवन में सर्वागीण सफलता प्राप्ति का महामंत्र है स्वयं भी जीवन का अमूल्य आभूषण होता है और वीर और कर्म योगा का एक देश माना जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
भारत में निवेशकों के लिए संभलने के समय के बारे में बताओ?Bharat Mein Niveshakon Ke Liye Sambhalne Ke Samay Ke Baare Mein Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:25
नमस्कार मैं विजय सिंह बोलकर परिवार से हूं और आप सुन रहे हैं आपका पसंद का ऐप बोलकर जो आपसे जानकारी हमला कर रहा हूं जो ध्यान से सुने और अमल करें आपका प्रश्न का उत्तर यह है कि हमारे भारतीय शेयर बाजार में संसद का आया समान व्यवहार हमारे निवेशकों के सत्र करने के लिए बहुत ही पर्याप्त माना जाना चाहिए क्योंकि शुक्रवार के दिन 1939 एंड देने वाला सेंसेक्स में सोमवार के दिन हो 50 अंक के उछाल के मायने समझने की बहुत ही जरूरत है जब दुनिया के शेयर बाजार भी भारी उठापटक के दौर से गुजर रहे हैं और हमारे करो ना मामा जी के बाद दुनिया की अर्थव्यवस्था को लगे झटको से गाड़ी अभी पटरी पर नहीं आ पाई है हर जगह सरकारी खजाने से आमजन को राहत देने का सिलसिला अभी भी जारी है और किसी के भी कच्चे तेल के दामों में उतार-चढ़ाव और मुर्दा स्थिति की आशंका ने हमारे आर्थिक जगत को समझ में डाल दिया है पिछले शुक्रवार को सेंसेक्स में हुई गिरावट इतिहास की पांचवीं सबसे बड़ी गिरावट थी और पिछले साल मार्च में तीन कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स 9500 अंक नीचे खुला सबको याद है तरुण से दुनिया भर के शेयर बाजार धराशाई हो गए थे और फिर 11 महीनों में शेयर बाजार पूछ ले तो शाम को आश्चर्य में डाल दिया और इस अवधि के पेड़ में कुछ शेयरों के दाम 45 * तक भी बढ़ गए थे इनका कारण बड़े बड़े अर्थशास्त्री को भी नहीं समझ पाया न्यूज़ को की तो बात ही दूर शेयर बाजारों में ऐसे खेल के अक्षर होते रहते हैं जब तक हम आम निवेशक को इसकी जानकारी नहीं होगी तब तक वह ऐसे लूटते रहेंगे हमारी आर्थिक विश्लेषकों का मानना है कि सभी बड़े शेयर बाजार जरूरत से अधिक बढ़ गए हैं ऐसे में नेता बने रहना शेयर बाजारों को पिछले साल वाली मिलाया जा सकता है शेयर बाजारों का नियंत्रित करने वाली संस्थाओं से भी होती है जो रिजर्व बैंक भी इस हालात से परिचित हैं ऐसे में छोटे निवेशकों के लिए तो यह समय संभल कर चलने का ही है हमारे आर्मी उसको को आर्थिक तंत्र की बालिका का अंदाज नहीं होता है इसलिए उनके सामने आने चित्रा अधिक होती है पिछले 2 सप्ताह के भीतर कुछ राज्य में कोरोना के मामले बढ़ गए हैं और नए स्टैंड के सामने आने के बाद आ रही है यानी कोरोनावायरस भी तस्वीर भी साफ नहीं हो पाई है और यह धुंधली तस्वीर शेयर बाजार के भविष्य को भी आशंकाओं के घेरे में ले लेती है और पिछले शुक्रवार को शेयर बाजार में लगभग छह लाख करोड़ का नुकसान होने की आशंका है लाभ और हानि शेरवा धार के स्थाई अंग है लेकिन आने चिता के माहौल में अधिक जोखिम उठाने से हमें बचना चाहिए अमेरिकी बाजारों में लगातार बढ़ रहे हैं या एंड अमेरिका ईरान के बीच तनाव की खबरें चिंता बढ़ाने वाली होती है इसलिए कहा जाता है अगले 1 महीने नहीं उसको के लिए संभल कर रहने का है इसलिए सावधानी को ध्यान में रखें धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar main vijay sinh bolakar parivaar se hoon aur aap sun rahe hain aapaka pasand ka aip bolakar jo aapase jaanakaaree hamala kar raha hoon jo dhyaan se sune aur amal karen aapaka prashn ka uttar yah hai ki hamaare bhaarateey sheyar baajaar mein sansad ka aaya samaan vyavahaar hamaare niveshakon ke satr karane ke lie bahut hee paryaapt maana jaana chaahie kyonki shukravaar ke din 1939 end dene vaala senseks mein somavaar ke din ho 50 ank ke uchhaal ke maayane samajhane kee bahut hee jaroorat hai jab duniya ke sheyar baajaar bhee bhaaree uthaapatak ke daur se gujar rahe hain aur hamaare karo na maama jee ke baad duniya kee arthavyavastha ko lage jhatako se gaadee abhee pataree par nahin aa paee hai har jagah sarakaaree khajaane se aamajan ko raahat dene ka silasila abhee bhee jaaree hai aur kisee ke bhee kachche tel ke daamon mein utaar-chadhaav aur murda sthiti kee aashanka ne hamaare aarthik jagat ko samajh mein daal diya hai pichhale shukravaar ko senseks mein huee giraavat itihaas kee paanchaveen sabase badee giraavat thee aur pichhale saal maarch mein teen kaarobaaree satron mein senseks 9500 ank neeche khula sabako yaad hai tarun se duniya bhar ke sheyar baajaar dharaashaee ho gae the aur phir 11 maheenon mein sheyar baajaar poochh le to shaam ko aashchary mein daal diya aur is avadhi ke ped mein kuchh sheyaron ke daam 45 * tak bhee badh gae the inaka kaaran bade bade arthashaastree ko bhee nahin samajh paaya nyooz ko kee to baat hee door sheyar baajaaron mein aise khel ke akshar hote rahate hain jab tak ham aam niveshak ko isakee jaanakaaree nahin hogee tab tak vah aise lootate rahenge hamaaree aarthik vishleshakon ka maanana hai ki sabhee bade sheyar baajaar jaroorat se adhik badh gae hain aise mein neta bane rahana sheyar baajaaron ko pichhale saal vaalee milaaya ja sakata hai sheyar baajaaron ka niyantrit karane vaalee sansthaon se bhee hotee hai jo rijarv baink bhee is haalaat se parichit hain aise mein chhote niveshakon ke lie to yah samay sambhal kar chalane ka hee hai hamaare aarmee usako ko aarthik tantr kee baalika ka andaaj nahin hota hai isalie unake saamane aane chitra adhik hotee hai pichhale 2 saptaah ke bheetar kuchh raajy mein korona ke maamale badh gae hain aur nae staind ke saamane aane ke baad aa rahee hai yaanee koronaavaayaras bhee tasveer bhee saaph nahin ho paee hai aur yah dhundhalee tasveer sheyar baajaar ke bhavishy ko bhee aashankaon ke ghere mein le letee hai aur pichhale shukravaar ko sheyar baajaar mein lagabhag chhah laakh karod ka nukasaan hone kee aashanka hai laabh aur haani sherava dhaar ke sthaee ang hai lekin aane chita ke maahaul mein adhik jokhim uthaane se hamen bachana chaahie amerikee baajaaron mein lagaataar badh rahe hain ya end amerika eeraan ke beech tanaav kee khabaren chinta badhaane vaalee hotee hai isalie kaha jaata hai agale 1 maheene nahin usako ke lie sambhal kar rahane ka hai isalie saavadhaanee ko dhyaan mein rakhen dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
रात में ना दिखाई पड़ने का नेत्र संबंधित रोग कौन सा है?Raat Me Na Dikhaee Padane Ka Netr Sambandhit Rog Kon Sa Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:30
मतलब आप का सवाल है रात में ना दिखाई पड़ने का नेत्र संबंधित रोग कौन सा है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार रतंधी नामक का एक रोग है जो हमारी आंखों में होता है इस रोग के रोगी को दिन में तो अच्छी तरह दिखाई देता है लेकिन रात के समय किसी के भी ठीक से नहीं देख पाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Matalab aap ka savaal hai raat mein na dikhaee padane ka netr sambandhit rog kaun sa hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar ratandhee naamak ka ek rog hai jo hamaaree aankhon mein hota hai is rog ke rogee ko din mein to achchhee tarah dikhaee deta hai lekin raat ke samay kisee ke bhee theek se nahin dekh paata hai dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
मानवीय व्यवहार की कौन सी बातें हर व्यक्ति को हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए?Manviya Vyavahar Ki Kaun Si Bate Har Vyakti Ko Humesha Dhyan Mein Rakhni Chahiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:50
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है मानवीय व्यवहार की कौन सी बातें हर व्यक्ति को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है मानव व्यवहार को ध्यान में रखते हुए एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए और छोटे बड़े का ध्यान हमेशा अपने गुरुजनों और माता-पिता का आदर और सम्मान करना चाहिए और हमें एक सकारात्मक विचार को रखना चाहिए एक दूसरे का सम्मान करो कि आतंक सत्कार करना चाहिए यह हमारे माननीय जो हमेशा आपको एक अच्छा बनाते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal hai maanaveey vyavahaar kee kaun see baaten har vyakti ko hamesha dhyaan mein rakhana chaahie to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai maanav vyavahaar ko dhyaan mein rakhate hue ek doosare ka sammaan karana chaahie aur chhote bade ka dhyaan hamesha apane gurujanon aur maata-pita ka aadar aur sammaan karana chaahie aur hamen ek sakaaraatmak vichaar ko rakhana chaahie ek doosare ka sammaan karo ki aatank satkaar karana chaahie yah hamaare maananeey jo hamesha aapako ek achchha banaate hain dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
संगति का अर्थ क्या होता है?Sangati Ka Arth Kya Hota Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:18
नमस्कार मेरे वॉल पर परिवार के सभी मित्रों को प्रसन्न इस प्रकार से है संगति का अर्थ क्या होता है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से संग रहने की क्रिया या बाजा बजा कर खाने वाले के काम में गाकर सहायता देना क्या एक साथ हम उठा होते हैं और परमात्मा यह ईश्वर का नाम जपते हैं स्त्री आदि के साथ पुरुषार्थी का समागम होता है या किसी के साथ जुड़ा आया मेला लगा हुआ नाश्ता किया हुआ जो किसी वर्ग और जाति आगे होने के कारण उसके साथ रखना उठाया लगाया जा सके या जिसमें संगीति हो किसी के साथ काम करती वह एक बंधन से बंदा हो या साथ रहना या मोहब्बत यह संगति साथ रहने वाले का मंडली जगाने बजाने के साथ रहकर सारंगी तबला मंजीरा आदि बनाने का काम गाना बजाने वाला का दलिया मंडली के समिति का ही होता है
Namaskaar mere vol par parivaar ke sabhee mitron ko prasann is prakaar se hai sangati ka arth kya hota hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se sang rahane kee kriya ya baaja baja kar khaane vaale ke kaam mein gaakar sahaayata dena kya ek saath ham utha hote hain aur paramaatma yah eeshvar ka naam japate hain stree aadi ke saath purushaarthee ka samaagam hota hai ya kisee ke saath juda aaya mela laga hua naashta kiya hua jo kisee varg aur jaati aage hone ke kaaran usake saath rakhana uthaaya lagaaya ja sake ya jisamen sangeeti ho kisee ke saath kaam karatee vah ek bandhan se banda ho ya saath rahana ya mohabbat yah sangati saath rahane vaale ka mandalee jagaane bajaane ke saath rahakar saarangee tabala manjeera aadi banaane ka kaam gaana bajaane vaala ka daliya mandalee ke samiti ka hee hota hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
एक इंसान को सबसे ज्यादा किस पर भरोसा करना चाहिए?Ek Insaan Ko Sabse Jyada Kis Par Bharosa Karna Chahiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:51
नमस्कार दोस्तों आपका प्रसन्न है एक इंसान को सबसे ज्यादा किस पर भरोसा करना चाहिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर है एक इंसान को सबसे ज्यादा हमारे माता-पिता पर भरोसा करना चाहिए क्योंकि माता पिता हमारे मार्गदर्शक होते हैं और हमें अपना और बुरा के बारे में समझाते हैं और हमें एक अच्छा इंसान बनाते हैं इसलिए हमारे पास हमारे माता-पिता पर होना चाहिए और इन्हें के साथ-साथ हमारे गुरुजन हैं उनका भी सुरभि वरुण धवन जी धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka prasann hai ek insaan ko sabase jyaada kis par bharosa karana chaahie to doston aapake savaal ka uttar hai ek insaan ko sabase jyaada hamaare maata-pita par bharosa karana chaahie kyonki maata pita hamaare maargadarshak hote hain aur hamen apana aur bura ke baare mein samajhaate hain aur hamen ek achchha insaan banaate hain isalie hamaare paas hamaare maata-pita par hona chaahie aur inhen ke saath-saath hamaare gurujan hain unaka bhee surabhi varun dhavan jee dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
खाली पेट चुकंदर खाने के क्या फायदे हैं?Khali Pet Chukandar Khane Ke Kya Fayade Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:20
मतलब सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आपका सवाल बहुत ही अच्छा है जो हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ बर्तन है खाली पेट चुकंदर खाने के क्या फायदे हैं तो आपके सवाल का उत्तर है खाली पेट चुकंदर खाने चाहिए मोगली प्रकार की बीमारियों में फायदा देता है हिमोग्लोबिन बढ़ाने में करेगा मदद का कार्य कैंसर की बीमारी से चुकंदर खाने से बचाव होता है का उत्साह हमारी त्वचा को चमकदार बनाने का बहुत ही अच्छा है हमारे शरीर में मुंह में दांत और हड्डियों के लिए चुकंदर के बहुत ही फायदे हैं ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद का कार्य करता है चुकंदर और बालों के लिए भी बहुत ही पिछले खाली पेट चुकंदर खाने के बहुत फायदे हैं और हमारा स्वास्थ्य है वह अच्छा रहता है रोगों से लड़ने की एंट्री सिस्टम मजबूत होती है धन्यवाद उनको खुश रहो
Matalab sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aapaka savaal bahut hee achchha hai jo hamaare svaasthy se juda hua bartan hai khaalee pet chukandar khaane ke kya phaayade hain to aapake savaal ka uttar hai khaalee pet chukandar khaane chaahie mogalee prakaar kee beemaariyon mein phaayada deta hai himoglobin badhaane mein karega madad ka kaary kainsar kee beemaaree se chukandar khaane se bachaav hota hai ka utsaah hamaaree tvacha ko chamakadaar banaane ka bahut hee achchha hai hamaare shareer mein munh mein daant aur haddiyon ke lie chukandar ke bahut hee phaayade hain blad preshar ko kam karane mein madad ka kaary karata hai chukandar aur baalon ke lie bhee bahut hee pichhale khaalee pet chukandar khaane ke bahut phaayade hain aur hamaara svaasthy hai vah achchha rahata hai rogon se ladane kee entree sistam majaboot hotee hai dhanyavaad unako khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
किसी भी व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए कितना पैसा कमाने की जरूरत है?Kisi Bhe Vyakti Ko Santusht Hone Ke Lie Kitna Paisa Kamane Ki Jarurat Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:21
नमस्कार साथियों आज आपका स्वागत है किसी भी व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए कितना पैसा कमाने की जरूरत है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए पैसे की अनिवार्य नहीं है कितना पैसा कमाए तभी संतुष्ट हो क्योंकि आप जितना पैसे कमाएंगे तब हमारी और भी इच्छा होती रहती है कि हम इससे भी कुछ ज्यादा कमाई इसलिए वेकेशन तुम नहीं हो पाता है संतोष नहीं होता है और जिस व्यक्ति में संतोष नहीं होता है वह कितना भी पैसा क्यों नहीं कमा ले उनमें वही कामना रहती है कि हम और कमाए इसलिए संतुष्ट है पैसे से बहुत ही कम लोग होते हैं जो अपना घर खर्चा चल जाता है या अपने माता पिता की सेवा सही ढंग से हो जाए कुछ लोग ही होते हैं जो कमा लेते हैं उसमें संतोष कर लेते हैं लेकिन ज्यादातर लोग उनकी इच्छा होती है ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाए तब भी संतुष्ट नहीं हो पाते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon aaj aapaka svaagat hai kisee bhee vyakti ko santusht hone ke lie kitana paisa kamaane kee jaroorat hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai vyakti ko santusht hone ke lie paise kee anivaary nahin hai kitana paisa kamae tabhee santusht ho kyonki aap jitana paise kamaenge tab hamaaree aur bhee ichchha hotee rahatee hai ki ham isase bhee kuchh jyaada kamaee isalie vekeshan tum nahin ho paata hai santosh nahin hota hai aur jis vyakti mein santosh nahin hota hai vah kitana bhee paisa kyon nahin kama le unamen vahee kaamana rahatee hai ki ham aur kamae isalie santusht hai paise se bahut hee kam log hote hain jo apana ghar kharcha chal jaata hai ya apane maata pita kee seva sahee dhang se ho jae kuchh log hee hote hain jo kama lete hain usamen santosh kar lete hain lekin jyaadaatar log unakee ichchha hotee hai jyaada se jyaada paise kamae tab bhee santusht nahin ho paate hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हम डेरी फार्मिग का व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते हैं?Ham Dairy Farming Ka Vyavasay Kaise Shuru Kar Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:37
नमस्कार सभी बोलकर परिवार की मित्रों को आपका बाल बहुत ही अच्छा है जो हमारे कच्चे क्षेत्र से भी जुड़ाव है और हमारे भाई साहब से भी जुड़ा हुआ है जो बर्तन इस प्रकार से है डेरी फार्मिंग का व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते हैं तो मित्रों आप डेयरी फार्मिंग का व्यवसाय शुरू कर सकते हो इनमें कोई दिक्कत नहीं है आप इनको छोटे स्तर पर भी शुरू कर सकते हो जो शुरू करने के लिए हमें पांच या छह बसों की कम से कम जरूरत होती है या अंक आए कविता सकते हैं अच्छी नस्ल की जो नस्ल अच्छी होनी चाहिए और नस्ल जो कम से कम 1 दिन के अंदर 10 लीटर से लेकर 20 या 30 लीटर दूध देने गाय हो या भेजूं आप जा सकते हो अपने डेरी खोल सकते हो टैक्टर बैटरी कॉल करें लगभग 50 से ₹7000 पर महीने आप कमा सकते हैं और इनसे रोजगार का विसर्जन होगा जो किसी दूसरे को भी आप रोजगार दे सकते हो इसलिए हमारे देश में डेयरी फार्मिंग का बहुत ज्यादा डिमांड है आप इंवेसिको कर सकते हो धन्यवाद साथियों
Namaskaar sabhee bolakar parivaar kee mitron ko aapaka baal bahut hee achchha hai jo hamaare kachche kshetr se bhee judaav hai aur hamaare bhaee saahab se bhee juda hua hai jo bartan is prakaar se hai deree phaarming ka vyavasaay kaise shuroo kar sakate hain to mitron aap deyaree phaarming ka vyavasaay shuroo kar sakate ho inamen koee dikkat nahin hai aap inako chhote star par bhee shuroo kar sakate ho jo shuroo karane ke lie hamen paanch ya chhah bason kee kam se kam jaroorat hotee hai ya ank aae kavita sakate hain achchhee nasl kee jo nasl achchhee honee chaahie aur nasl jo kam se kam 1 din ke andar 10 leetar se lekar 20 ya 30 leetar doodh dene gaay ho ya bhejoon aap ja sakate ho apane deree khol sakate ho taiktar baitaree kol karen lagabhag 50 se ₹7000 par maheene aap kama sakate hain aur inase rojagaar ka visarjan hoga jo kisee doosare ko bhee aap rojagaar de sakate ho isalie hamaare desh mein deyaree phaarming ka bahut jyaada dimaand hai aap invesiko kar sakate ho dhanyavaad saathiyon

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:32
नमस्कार साथियों आप का सवाल है बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है तो दोस्तों आज हम जानते हैं तो बादलों में पानी की एसएससी और छोटे गूंज होती है जो कुछ बादलों में हिंदुओं की संख्या ज्यादा होती है तो दूसरे में कम होती है कुछ बातों में सफेद रंग दिखाई देता है तो फिर से बाद में में पूरा रंग दिखाई देता है और जब बरसने वाले बादल होते हैं वह आमतौर पर काले ही होते हैं और जो बादलों का रंग है वह काला होता है जब किसी वस्तु पर सूर्य का प्रकाश बढ़ता है तो उसका कुछ भाग परावर्तित रिफ्लेक्ट हो जाता है और कुछ वस्तुओं के द्वारा अवशोषित कर ली चमकीले भोजपुरी अक्षरा अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को परावर्तित करते हैं यदि कोई वस्तु उस पर पड़ने वाले प्रकाश को पूरी तरह अवशोषित कर लेती है तो वह काले रंग दिखाई देने लग जाते हैं वास्तव में काला रंग कोई रंग नहीं है प्रकाश के साथ रंग जब किसी वस्तु का द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं तो वह स्वस्तिका रंग काला दिखाई देने लग जाता है जो हमारे बादल सूर्य के प्रकाश को परावर्तित कर देते हैं और वो सफेद दिखाई देने लग जाते हैं लेकिन जो प्रकाश को अवशोषित कर लेते हैं वह काले दिखाई देते हैं और जब बरसने वाले बादल में पानी की है संख्या खून होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को अवशोषित कर लेती है इसलिए बसने वाले बादलों का रंग भी काला दिखाई देने लग जाता है आकाश में जैसे बादलों की संख्या अधिक होती है दिन में भी अंधकार छा जाता है क्योंकि यह बादल सूर्य प्रकाश को आश्वस्त कर लेते हैं और धरती पर नहीं आने देते हैं यह बालक बहुत कुछ सेटिंग दोनों में से मिलकर बने होते हैं उनकी ऊंचाई भी बहुत अधिक होती है वर्क के गण प्रकाश के लिए पारदर्शक होते हैं इसलिए काट के बात इनमें से प्रकाश आर-पार निकल आता है जो यह चमकीले भी दिखाई देते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon aap ka savaal hai baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaata hai to doston aaj ham jaanate hain to baadalon mein paanee kee esesasee aur chhote goonj hotee hai jo kuchh baadalon mein hinduon kee sankhya jyaada hotee hai to doosare mein kam hotee hai kuchh baaton mein saphed rang dikhaee deta hai to phir se baad mein mein poora rang dikhaee deta hai aur jab barasane vaale baadal hote hain vah aamataur par kaale hee hote hain aur jo baadalon ka rang hai vah kaala hota hai jab kisee vastu par soory ka prakaash badhata hai to usaka kuchh bhaag paraavartit riphlekt ho jaata hai aur kuchh vastuon ke dvaara avashoshit kar lee chamakeele bhojapuree akshara apane oopar padane vaale prakaash ko paraavartit karate hain yadi koee vastu us par padane vaale prakaash ko pooree tarah avashoshit kar letee hai to vah kaale rang dikhaee dene lag jaate hain vaastav mein kaala rang koee rang nahin hai prakaash ke saath rang jab kisee vastu ka dvaara avashoshit kar lie jaate hain to vah svastika rang kaala dikhaee dene lag jaata hai jo hamaare baadal soory ke prakaash ko paraavartit kar dete hain aur vo saphed dikhaee dene lag jaate hain lekin jo prakaash ko avashoshit kar lete hain vah kaale dikhaee dete hain aur jab barasane vaale baadal mein paanee kee hai sankhya khoon hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko avashoshit kar letee hai isalie basane vaale baadalon ka rang bhee kaala dikhaee dene lag jaata hai aakaash mein jaise baadalon kee sankhya adhik hotee hai din mein bhee andhakaar chha jaata hai kyonki yah baadal soory prakaash ko aashvast kar lete hain aur dharatee par nahin aane dete hain yah baalak bahut kuchh seting donon mein se milakar bane hote hain unakee oonchaee bhee bahut adhik hotee hai vark ke gan prakaash ke lie paaradarshak hote hain isalie kaat ke baat inamen se prakaash aar-paar nikal aata hai jo yah chamakeele bhee dikhaee dete hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:50
नमस्कार साथियों का सवाल है सर्दियों के मौसम में गर्म पानी से नहाने से क्या क्या नुकसान हो सकते हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है सर्दियों के मौसम में ज्यादा गर्म पानी से नहाना चाहिए हमें गुनगुना पानी से नहाना चाहिए जिनसे हमारे शरीर की त्वचा वह सही रहेगी अन्यथा ज्यादा गर्म पानी से हमारी त्वचा पर इंपैक्ट पड़ेगा जिससे हमारे शरीर में कुछ नुकसान होगा और हमारे स्वास्थ्य पर भी गलत प्रभाव पड़ेगा इसलिए हमें सर्दी के मौसम में ज्यादा गर्म से नहीं गुनगुना पानी चाहिए ना नाचनी धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon ka savaal hai sardiyon ke mausam mein garm paanee se nahaane se kya kya nukasaan ho sakate hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai sardiyon ke mausam mein jyaada garm paanee se nahaana chaahie hamen gunaguna paanee se nahaana chaahie jinase hamaare shareer kee tvacha vah sahee rahegee anyatha jyaada garm paanee se hamaaree tvacha par impaikt padega jisase hamaare shareer mein kuchh nukasaan hoga aur hamaare svaasthy par bhee galat prabhaav padega isalie hamen sardee ke mausam mein jyaada garm se nahin gunaguna paanee chaahie na naachanee dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या गलतियां इंसान को सही मार्ग दिखाती है या सिर्फ नुकसान ही करती हैं?Kya Galtiyan Insaan Ko Sahi Maarg Dikhati Hai Ya Sirf Nuksan He Karti Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:58
मजबूर खान का सवाल है क्या गलतियां इंसान को सही मार्ग दिखाती है या सिर्फ नुकसान ही करती है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है मनुष्य में जो गलतियां होती है तो जरूर उनको एहसास होता है की गलतियों का जब उनके सामने परिणाम इंसान को सही और गलत की पहचान हो जाती है इसलिए वह गलतियां करने से इंसान अनुभव करता है कि अगर हमने गलत किया तो इसका परिणाम भी हमारे सामने है इसलिए नुकसान तो होता है लेकिन नुकसान होने के साथ-साथ वह कुछ सुधार भी होता है इंसान गलत है मारोगे जब उनके सामने आता है तो वह सही रास्ता अपने आप सुनने लग जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Majaboor khaan ka savaal hai kya galatiyaan insaan ko sahee maarg dikhaatee hai ya sirph nukasaan hee karatee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai manushy mein jo galatiyaan hotee hai to jaroor unako ehasaas hota hai kee galatiyon ka jab unake saamane parinaam insaan ko sahee aur galat kee pahachaan ho jaatee hai isalie vah galatiyaan karane se insaan anubhav karata hai ki agar hamane galat kiya to isaka parinaam bhee hamaare saamane hai isalie nukasaan to hota hai lekin nukasaan hone ke saath-saath vah kuchh sudhaar bhee hota hai insaan galat hai maaroge jab unake saamane aata hai to vah sahee raasta apane aap sunane lag jaata hai dhanyavaad doston khush raho

#भारत की राजनीति

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:22
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है या अन्ना हजारे का लोकपाल आंदोलन पाकिस्तान प्रायोजित था या आरक्षक प्राइवेट था तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से अन्ना हजारे एक बहुत ही अच्छा लेकिन थांतुना हजारी ने हमारे देश में जो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई बहुत ही सराहनीय के पात्र हैं अन्ना हजारे एक वर्ग और एक समाज सेवक है जिसने लोकपाल की मांग उठाई और कांग्रेस की सरकार ने उनकी मांग को स्वीकार किया यह आपको निर्णय करना है कि यह पाकिस्तान प्रायोजित था यह राक्षस का प्रायोजित था लेकिन मेरे को तो नहीं लगता लेकिन किसी को अगर लगता है तो सकता है लेकिन मेरे हिसाब से तो यह ना जा रे एक समाज चेक थे जिसने हमारे देश के सामाजिक बुराइयों को खत्म करने का जो बीड़ा उठाया बहुत ही चलाने के पात्र थे धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal hai ya anna hajaare ka lokapaal aandolan paakistaan praayojit tha ya aarakshak praivet tha to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se anna hajaare ek bahut hee achchha lekin thaantuna hajaaree ne hamaare desh mein jo bhrashtaachaar ke khilaaph aavaaj uthaee bahut hee saraahaneey ke paatr hain anna hajaare ek varg aur ek samaaj sevak hai jisane lokapaal kee maang uthaee aur kaangres kee sarakaar ne unakee maang ko sveekaar kiya yah aapako nirnay karana hai ki yah paakistaan praayojit tha yah raakshas ka praayojit tha lekin mere ko to nahin lagata lekin kisee ko agar lagata hai to sakata hai lekin mere hisaab se to yah na ja re ek samaaj chek the jisane hamaare desh ke saamaajik buraiyon ko khatm karane ka jo beeda uthaaya bahut hee chalaane ke paatr the dhanyavaad doston khush raho

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
सूरज और चंद्रमा का आपस में क्या संबंध हैं?Suraj Aur Chandrma Ka Apas Mein Kya Sambandh Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:53
सभी बोलकर परिवार की सभी मित्रों को आपका प्रसन्न है सूरज और चंद्रमा का आपस में क्या संबंध है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है सूर्य और चंद्रमा की दृष्टि संबंध से एक प्रबल मानसिक शक्ति और चंद्रपुर में शुभ फल प्राप्त होता है जैसे ग्रह गोचर के समय चंद्र सूर्य से दूर होता जाता है वैसे वैसे ही चंद्र की शक्ति और सुख में वृद्धि होती रहती है सूर्य चंद्र की युति संबंध से ज्यादा सूर्य चंद्र का दृष्टि संबंध शुभ फल माना जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Sabhee bolakar parivaar kee sabhee mitron ko aapaka prasann hai sooraj aur chandrama ka aapas mein kya sambandh hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai soory aur chandrama kee drshti sambandh se ek prabal maanasik shakti aur chandrapur mein shubh phal praapt hota hai jaise grah gochar ke samay chandr soory se door hota jaata hai vaise vaise hee chandr kee shakti aur sukh mein vrddhi hotee rahatee hai soory chandr kee yuti sambandh se jyaada soory chandr ka drshti sambandh shubh phal maana jaata hai dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यापार की सफलता का रहस्य क्या है?Vyapar Ki Safalta Ka Rahasya Kya Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:47
मतलब सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आपका सवाल इस प्रकार से है वह पार की सफलता का रहस्य क्या है तो पहले तो सभी मित्रों को मेरी तरफ से हार्दिक हार्दिक नमस्कार बधाइयां क्योंकि आपका सवाल बहुत ही अच्छा है जो हमारी परीक्षा से संबंधित प्रश्न जो आपका मित्रों सवाल का उत्तर इस प्रकार से बहुत सारे लोग व्यापार करने की सोचते हैं करते भी हैं परंतु कुछ सफल हो जाते हैं और कुछ असफल हो जाते हैं वह व्यक्ति बुद्धिमान कहलाता है तो उस समय पर व्यवसाय की सफलता के रहस्य को जान लेता है और आपकी उम्र में से एक हो सकते हो वह पार्षद अपने आप में एक बार पथ है इनके अंदर इमानदारी और पूर्ण निष्ठा और समय का पाबंद होना बहुत ही आवश्यक है पर मैं यह बहुत ही होना भी जरूरी है वही लोग व्यापार में सफल हो पाते हैं जो समय के साथ अपने व्यापार विहार को बदल लेते हैं और जो व्यापारी बार-बार अपना पैसा को बदलता रहता है वह कभी खत्म नहीं हो सकता है वक्त के उस समय के संग वफा के बदले तरीके देखना चाहिए जिसमें पहले ऑफलाइन बिजनेस होता था अब ऑनलाइन का भी जमाना है तो समय के अनुरूप अपने व्यापार को भी बदलना चाहिए कुछ बातें कागज के पन्नों को पढ़कर नहीं सीखी जाती है अभी तो अपने अनुभव से सिखाती है और व्यापार को अच्छी तरीके से हैंडल करना चाहिए तभी आपका व्यापार सफल हो सकता है धन्यवाद दोस्तों को शुरू
Matalab sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aapaka savaal is prakaar se hai vah paar kee saphalata ka rahasy kya hai to pahale to sabhee mitron ko meree taraph se haardik haardik namaskaar badhaiyaan kyonki aapaka savaal bahut hee achchha hai jo hamaaree pareeksha se sambandhit prashn jo aapaka mitron savaal ka uttar is prakaar se bahut saare log vyaapaar karane kee sochate hain karate bhee hain parantu kuchh saphal ho jaate hain aur kuchh asaphal ho jaate hain vah vyakti buddhimaan kahalaata hai to us samay par vyavasaay kee saphalata ke rahasy ko jaan leta hai aur aapakee umr mein se ek ho sakate ho vah paarshad apane aap mein ek baar path hai inake andar imaanadaaree aur poorn nishtha aur samay ka paaband hona bahut hee aavashyak hai par main yah bahut hee hona bhee jarooree hai vahee log vyaapaar mein saphal ho paate hain jo samay ke saath apane vyaapaar vihaar ko badal lete hain aur jo vyaapaaree baar-baar apana paisa ko badalata rahata hai vah kabhee khatm nahin ho sakata hai vakt ke us samay ke sang vapha ke badale tareeke dekhana chaahie jisamen pahale ophalain bijanes hota tha ab onalain ka bhee jamaana hai to samay ke anuroop apane vyaapaar ko bhee badalana chaahie kuchh baaten kaagaj ke pannon ko padhakar nahin seekhee jaatee hai abhee to apane anubhav se sikhaatee hai aur vyaapaar ko achchhee tareeke se haindal karana chaahie tabhee aapaka vyaapaar saphal ho sakata hai dhanyavaad doston ko shuroo

#जीवन शैली

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:24
आज मेरे सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आज का सवाल हमारा वेतन से संबंधित है सवाल नंबर एक बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे तू कर सकते हैं तो आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है पत्रक पालन करना एक नहीं बल्कि बहुत ही फायदे निया में कई देश ऐसे हैं जहां बस को का इस्तेमा अमित जितेन के बाद अंडा मांस उत्पादन के लिए दूसरे नंबर पर है माना जाता है कोई भी किसान या बुधनी या छोटे व्यापारी दोनों स्तर को शुरू कर सकता है यहां तक छोटे स्तर की बात करें तो घर के पिछवाड़े दूधिया इत्यादि के साथ भी किया जा सकता है पालन के मौत से फायदे हैं बस पालन को आप एक सफल और कर भी शुरू कर सकते हो जिसके कारण से वह एक बेहतरीन को शुरू कर सकते हो और कम खर्चे में कर सकते हो बता क्यों भेज दी मजबूत पक्ष होते हैं और बत्तख के अधिकतर सुबह शाम को अंडे देते हैं बदक पालन के लिए गाने की तुलना में कम जगह की ही आवश्यकता होती है और सामान्य रोगों के लिए बच्चों को सही प्रतिरोधी होते हैं जिसके चलते यह बीमार भी बहुत कम होते हैं यह दुनिया यह बता क्या बताएं बहुत ही अच्छा है बतख पालन एक ही स्थाई रोजगार का साधन भी हो सकता है इसलिए मेरे शरीर रोजगार भाइयों के लिए बहुत ही अच्छा है जो शिक्षित नौजवान इस बिजनेस को कर सकते हैं और अपना रोजगार का जरिया बना सकते हैं और बत्तख के पालन के लिए किस प्रकार से शुरुआत करें पोपट को के लिए आवास होना चाहिए बतख पालन के फायदों के बारे में हम बात करते हैं समय हम यह भी जानते हैं बस को के लिए आवाज बड़ी आसानी से बना जाता है यह जगह इसकी ऊंची नीची दिल्ली सुखी जगह आसानी से इनको पाला जा सकता है और इनके नकल के चुनाव किस प्रकार से करें उतनी के द्वारा बिना आवाज के लिए प्रबंध करने लेने के बाद वह जो नस्ल होती है उनका चुनाव करना चाहिए ताकि एक अच्छी उत्पादकता वाली नस्ल को अपनी बताकर पालन में अपना हिस्सा बना पाए और अपना एक अच्छा व्यवसाय को कामयाब कर सकती है इसलिए पूरे विश्व में बात को कहने की प्रजातियां पाई जाती है लेकिन हुआ था कि तुम पर बात करते हैं कमाई करने के लिए बंदूकों की सभी प्रजातियां उपयोगिता नहीं होती है कुछ बताती है ऐसी होती है जिनको अंडे देने के उद्देश्य से पाला जा सकता है कुछ ऐसी होती है जिनका पालन मीठी उत्पादन के लिए किया जाता है इसलिए अगर हम देखे तो बस को रतिया मुख्य तौर पर तीन भागों में विभाजित कर सकते हैं और इनमें सभी की क्वालिटी को हमें अपने बताओ वाकई में शामिल कर सकते हैं जिन्हें आप बता परंतु महेंद्र जी आप एक अच्छा रोजगार सर्जन कर सकते हैं और आपके जो रोजगार भाइयों को भी आप रोजगार दे सकते हो धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Aaj mere sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aaj ka savaal hamaara vetan se sambandhit hai savaal nambar ek battakh paalan vyavasaay kya hai ise kaise too kar sakate hain to aapake savaal ka uttar is prakaar se hai patrak paalan karana ek nahin balki bahut hee phaayade niya mein kaee desh aise hain jahaan bas ko ka istema amit jiten ke baad anda maans utpaadan ke lie doosare nambar par hai maana jaata hai koee bhee kisaan ya budhanee ya chhote vyaapaaree donon star ko shuroo kar sakata hai yahaan tak chhote star kee baat karen to ghar ke pichhavaade doodhiya ityaadi ke saath bhee kiya ja sakata hai paalan ke maut se phaayade hain bas paalan ko aap ek saphal aur kar bhee shuroo kar sakate ho jisake kaaran se vah ek behatareen ko shuroo kar sakate ho aur kam kharche mein kar sakate ho bata kyon bhej dee majaboot paksh hote hain aur battakh ke adhikatar subah shaam ko ande dete hain badak paalan ke lie gaane kee tulana mein kam jagah kee hee aavashyakata hotee hai aur saamaany rogon ke lie bachchon ko sahee pratirodhee hote hain jisake chalate yah beemaar bhee bahut kam hote hain yah duniya yah bata kya bataen bahut hee achchha hai batakh paalan ek hee sthaee rojagaar ka saadhan bhee ho sakata hai isalie mere shareer rojagaar bhaiyon ke lie bahut hee achchha hai jo shikshit naujavaan is bijanes ko kar sakate hain aur apana rojagaar ka jariya bana sakate hain aur battakh ke paalan ke lie kis prakaar se shuruaat karen popat ko ke lie aavaas hona chaahie batakh paalan ke phaayadon ke baare mein ham baat karate hain samay ham yah bhee jaanate hain bas ko ke lie aavaaj badee aasaanee se bana jaata hai yah jagah isakee oonchee neechee dillee sukhee jagah aasaanee se inako paala ja sakata hai aur inake nakal ke chunaav kis prakaar se karen utanee ke dvaara bina aavaaj ke lie prabandh karane lene ke baad vah jo nasl hotee hai unaka chunaav karana chaahie taaki ek achchhee utpaadakata vaalee nasl ko apanee bataakar paalan mein apana hissa bana pae aur apana ek achchha vyavasaay ko kaamayaab kar sakatee hai isalie poore vishv mein baat ko kahane kee prajaatiyaan paee jaatee hai lekin hua tha ki tum par baat karate hain kamaee karane ke lie bandookon kee sabhee prajaatiyaan upayogita nahin hotee hai kuchh bataatee hai aisee hotee hai jinako ande dene ke uddeshy se paala ja sakata hai kuchh aisee hotee hai jinaka paalan meethee utpaadan ke lie kiya jaata hai isalie agar ham dekhe to bas ko ratiya mukhy taur par teen bhaagon mein vibhaajit kar sakate hain aur inamen sabhee kee kvaalitee ko hamen apane batao vaakee mein shaamil kar sakate hain jinhen aap bata parantu mahendr jee aap ek achchha rojagaar sarjan kar sakate hain aur aapake jo rojagaar bhaiyon ko bhee aap rojagaar de sakate ho dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
डीएनए का फुल फॉर्म क्या है?Dna Ka Full Form Kya Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:44
अभी बोल कर के सभी परिवार जनों को आज आपका सवाल बहुत ही अच्छा है सवाल एक प्रकार से हैं फुल फॉर्म ऑफ डीएनए दो साथियों आपका सवाल का उत्तर इस प्रकार के डीएनए का फुल फॉर्म हिंदी में भी ऑक्सी राइबो न्यूक्लिक अम्ल होता है जो तब तू नमो अनु को जिंदा कोशिका के गुणसूत्र में पाया जाता है कोर्ट देने का संबंध हमारे जीवित कोशिकाओं से होता है धन्यवाद दोस्तों खुद
Abhee bol kar ke sabhee parivaar janon ko aaj aapaka savaal bahut hee achchha hai savaal ek prakaar se hain phul phorm oph deeene do saathiyon aapaka savaal ka uttar is prakaar ke deeene ka phul phorm hindee mein bhee oksee raibo nyooklik aml hota hai jo tab too namo anu ko jinda koshika ke gunasootr mein paaya jaata hai kort dene ka sambandh hamaare jeevit koshikaon se hota hai dhanyavaad doston khud
URL copied to clipboard