#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
भारत में निवेशकों के लिए संभलने के समय के बारे में बताओ?Bhaarat Mein Niveshakon Ke Lie Sambhalane Ke Samay Ke Baare Mein Batao
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:25
नमस्कार मैं विजय सिंह बोलकर परिवार से हूं और आप सुन रहे हैं आपका पसंद का ऐप बोलकर जो आपसे जानकारी हमला कर रहा हूं जो ध्यान से सुने और अमल करें आपका प्रश्न का उत्तर यह है कि हमारे भारतीय शेयर बाजार में संसद का आया समान व्यवहार हमारे निवेशकों के सत्र करने के लिए बहुत ही पर्याप्त माना जाना चाहिए क्योंकि शुक्रवार के दिन 1939 एंड देने वाला सेंसेक्स में सोमवार के दिन हो 50 अंक के उछाल के मायने समझने की बहुत ही जरूरत है जब दुनिया के शेयर बाजार भी भारी उठापटक के दौर से गुजर रहे हैं और हमारे करो ना मामा जी के बाद दुनिया की अर्थव्यवस्था को लगे झटको से गाड़ी अभी पटरी पर नहीं आ पाई है हर जगह सरकारी खजाने से आमजन को राहत देने का सिलसिला अभी भी जारी है और किसी के भी कच्चे तेल के दामों में उतार-चढ़ाव और मुर्दा स्थिति की आशंका ने हमारे आर्थिक जगत को समझ में डाल दिया है पिछले शुक्रवार को सेंसेक्स में हुई गिरावट इतिहास की पांचवीं सबसे बड़ी गिरावट थी और पिछले साल मार्च में तीन कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स 9500 अंक नीचे खुला सबको याद है तरुण से दुनिया भर के शेयर बाजार धराशाई हो गए थे और फिर 11 महीनों में शेयर बाजार पूछ ले तो शाम को आश्चर्य में डाल दिया और इस अवधि के पेड़ में कुछ शेयरों के दाम 45 * तक भी बढ़ गए थे इनका कारण बड़े बड़े अर्थशास्त्री को भी नहीं समझ पाया न्यूज़ को की तो बात ही दूर शेयर बाजारों में ऐसे खेल के अक्षर होते रहते हैं जब तक हम आम निवेशक को इसकी जानकारी नहीं होगी तब तक वह ऐसे लूटते रहेंगे हमारी आर्थिक विश्लेषकों का मानना है कि सभी बड़े शेयर बाजार जरूरत से अधिक बढ़ गए हैं ऐसे में नेता बने रहना शेयर बाजारों को पिछले साल वाली मिलाया जा सकता है शेयर बाजारों का नियंत्रित करने वाली संस्थाओं से भी होती है जो रिजर्व बैंक भी इस हालात से परिचित हैं ऐसे में छोटे निवेशकों के लिए तो यह समय संभल कर चलने का ही है हमारे आर्मी उसको को आर्थिक तंत्र की बालिका का अंदाज नहीं होता है इसलिए उनके सामने आने चित्रा अधिक होती है पिछले 2 सप्ताह के भीतर कुछ राज्य में कोरोना के मामले बढ़ गए हैं और नए स्टैंड के सामने आने के बाद आ रही है यानी कोरोनावायरस भी तस्वीर भी साफ नहीं हो पाई है और यह धुंधली तस्वीर शेयर बाजार के भविष्य को भी आशंकाओं के घेरे में ले लेती है और पिछले शुक्रवार को शेयर बाजार में लगभग छह लाख करोड़ का नुकसान होने की आशंका है लाभ और हानि शेरवा धार के स्थाई अंग है लेकिन आने चिता के माहौल में अधिक जोखिम उठाने से हमें बचना चाहिए अमेरिकी बाजारों में लगातार बढ़ रहे हैं या एंड अमेरिका ईरान के बीच तनाव की खबरें चिंता बढ़ाने वाली होती है इसलिए कहा जाता है अगले 1 महीने नहीं उसको के लिए संभल कर रहने का है इसलिए सावधानी को ध्यान में रखें धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar main vijay sinh bolakar parivaar se hoon aur aap sun rahe hain aapaka pasand ka aip bolakar jo aapase jaanakaaree hamala kar raha hoon jo dhyaan se sune aur amal karen aapaka prashn ka uttar yah hai ki hamaare bhaarateey sheyar baajaar mein sansad ka aaya samaan vyavahaar hamaare niveshakon ke satr karane ke lie bahut hee paryaapt maana jaana chaahie kyonki shukravaar ke din 1939 end dene vaala senseks mein somavaar ke din ho 50 ank ke uchhaal ke maayane samajhane kee bahut hee jaroorat hai jab duniya ke sheyar baajaar bhee bhaaree uthaapatak ke daur se gujar rahe hain aur hamaare karo na maama jee ke baad duniya kee arthavyavastha ko lage jhatako se gaadee abhee pataree par nahin aa paee hai har jagah sarakaaree khajaane se aamajan ko raahat dene ka silasila abhee bhee jaaree hai aur kisee ke bhee kachche tel ke daamon mein utaar-chadhaav aur murda sthiti kee aashanka ne hamaare aarthik jagat ko samajh mein daal diya hai pichhale shukravaar ko senseks mein huee giraavat itihaas kee paanchaveen sabase badee giraavat thee aur pichhale saal maarch mein teen kaarobaaree satron mein senseks 9500 ank neeche khula sabako yaad hai tarun se duniya bhar ke sheyar baajaar dharaashaee ho gae the aur phir 11 maheenon mein sheyar baajaar poochh le to shaam ko aashchary mein daal diya aur is avadhi ke ped mein kuchh sheyaron ke daam 45 * tak bhee badh gae the inaka kaaran bade bade arthashaastree ko bhee nahin samajh paaya nyooz ko kee to baat hee door sheyar baajaaron mein aise khel ke akshar hote rahate hain jab tak ham aam niveshak ko isakee jaanakaaree nahin hogee tab tak vah aise lootate rahenge hamaaree aarthik vishleshakon ka maanana hai ki sabhee bade sheyar baajaar jaroorat se adhik badh gae hain aise mein neta bane rahana sheyar baajaaron ko pichhale saal vaalee milaaya ja sakata hai sheyar baajaaron ka niyantrit karane vaalee sansthaon se bhee hotee hai jo rijarv baink bhee is haalaat se parichit hain aise mein chhote niveshakon ke lie to yah samay sambhal kar chalane ka hee hai hamaare aarmee usako ko aarthik tantr kee baalika ka andaaj nahin hota hai isalie unake saamane aane chitra adhik hotee hai pichhale 2 saptaah ke bheetar kuchh raajy mein korona ke maamale badh gae hain aur nae staind ke saamane aane ke baad aa rahee hai yaanee koronaavaayaras bhee tasveer bhee saaph nahin ho paee hai aur yah dhundhalee tasveer sheyar baajaar ke bhavishy ko bhee aashankaon ke ghere mein le letee hai aur pichhale shukravaar ko sheyar baajaar mein lagabhag chhah laakh karod ka nukasaan hone kee aashanka hai laabh aur haani sherava dhaar ke sthaee ang hai lekin aane chita ke maahaul mein adhik jokhim uthaane se hamen bachana chaahie amerikee baajaaron mein lagaataar badh rahe hain ya end amerika eeraan ke beech tanaav kee khabaren chinta badhaane vaalee hotee hai isalie kaha jaata hai agale 1 maheene nahin usako ke lie sambhal kar rahane ka hai isalie saavadhaanee ko dhyaan mein rakhen dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
रात में ना दिखाई पड़ने का नेत्र संबंधित रोग कौन सा है?Raat Me Na Dikhaee Padane Ka Netr Sambandhit Rog Kon Sa Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:30
मतलब आप का सवाल है रात में ना दिखाई पड़ने का नेत्र संबंधित रोग कौन सा है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार रतंधी नामक का एक रोग है जो हमारी आंखों में होता है इस रोग के रोगी को दिन में तो अच्छी तरह दिखाई देता है लेकिन रात के समय किसी के भी ठीक से नहीं देख पाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Matalab aap ka savaal hai raat mein na dikhaee padane ka netr sambandhit rog kaun sa hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar ratandhee naamak ka ek rog hai jo hamaaree aankhon mein hota hai is rog ke rogee ko din mein to achchhee tarah dikhaee deta hai lekin raat ke samay kisee ke bhee theek se nahin dekh paata hai dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
मानवीय व्यवहार की कौन सी बातें हर व्यक्ति को हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए?Manviya Vyavahar Ki Kaun Si Baate Har Vyakti Ko Humesha Dhyan Mein Rakhni Chaiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:50
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है मानवीय व्यवहार की कौन सी बातें हर व्यक्ति को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है मानव व्यवहार को ध्यान में रखते हुए एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए और छोटे बड़े का ध्यान हमेशा अपने गुरुजनों और माता-पिता का आदर और सम्मान करना चाहिए और हमें एक सकारात्मक विचार को रखना चाहिए एक दूसरे का सम्मान करो कि आतंक सत्कार करना चाहिए यह हमारे माननीय जो हमेशा आपको एक अच्छा बनाते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal hai maanaveey vyavahaar kee kaun see baaten har vyakti ko hamesha dhyaan mein rakhana chaahie to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai maanav vyavahaar ko dhyaan mein rakhate hue ek doosare ka sammaan karana chaahie aur chhote bade ka dhyaan hamesha apane gurujanon aur maata-pita ka aadar aur sammaan karana chaahie aur hamen ek sakaaraatmak vichaar ko rakhana chaahie ek doosare ka sammaan karo ki aatank satkaar karana chaahie yah hamaare maananeey jo hamesha aapako ek achchha banaate hain dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
संगति का अर्थ क्या होता है?Sangati Ka Arth Kya Hota Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:18
नमस्कार मेरे वॉल पर परिवार के सभी मित्रों को प्रसन्न इस प्रकार से है संगति का अर्थ क्या होता है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से संग रहने की क्रिया या बाजा बजा कर खाने वाले के काम में गाकर सहायता देना क्या एक साथ हम उठा होते हैं और परमात्मा यह ईश्वर का नाम जपते हैं स्त्री आदि के साथ पुरुषार्थी का समागम होता है या किसी के साथ जुड़ा आया मेला लगा हुआ नाश्ता किया हुआ जो किसी वर्ग और जाति आगे होने के कारण उसके साथ रखना उठाया लगाया जा सके या जिसमें संगीति हो किसी के साथ काम करती वह एक बंधन से बंदा हो या साथ रहना या मोहब्बत यह संगति साथ रहने वाले का मंडली जगाने बजाने के साथ रहकर सारंगी तबला मंजीरा आदि बनाने का काम गाना बजाने वाला का दलिया मंडली के समिति का ही होता है
Namaskaar mere vol par parivaar ke sabhee mitron ko prasann is prakaar se hai sangati ka arth kya hota hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se sang rahane kee kriya ya baaja baja kar khaane vaale ke kaam mein gaakar sahaayata dena kya ek saath ham utha hote hain aur paramaatma yah eeshvar ka naam japate hain stree aadi ke saath purushaarthee ka samaagam hota hai ya kisee ke saath juda aaya mela laga hua naashta kiya hua jo kisee varg aur jaati aage hone ke kaaran usake saath rakhana uthaaya lagaaya ja sake ya jisamen sangeeti ho kisee ke saath kaam karatee vah ek bandhan se banda ho ya saath rahana ya mohabbat yah sangati saath rahane vaale ka mandalee jagaane bajaane ke saath rahakar saarangee tabala manjeera aadi banaane ka kaam gaana bajaane vaala ka daliya mandalee ke samiti ka hee hota hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
एक इंसान को सबसे ज्यादा किस पर भरोसा करना चाहिए?Ek Insaan Ko Sabse Jyada Kis Par Bharosa Karna Chahiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:51
नमस्कार दोस्तों आपका प्रसन्न है एक इंसान को सबसे ज्यादा किस पर भरोसा करना चाहिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर है एक इंसान को सबसे ज्यादा हमारे माता-पिता पर भरोसा करना चाहिए क्योंकि माता पिता हमारे मार्गदर्शक होते हैं और हमें अपना और बुरा के बारे में समझाते हैं और हमें एक अच्छा इंसान बनाते हैं इसलिए हमारे पास हमारे माता-पिता पर होना चाहिए और इन्हें के साथ-साथ हमारे गुरुजन हैं उनका भी सुरभि वरुण धवन जी धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka prasann hai ek insaan ko sabase jyaada kis par bharosa karana chaahie to doston aapake savaal ka uttar hai ek insaan ko sabase jyaada hamaare maata-pita par bharosa karana chaahie kyonki maata pita hamaare maargadarshak hote hain aur hamen apana aur bura ke baare mein samajhaate hain aur hamen ek achchha insaan banaate hain isalie hamaare paas hamaare maata-pita par hona chaahie aur inhen ke saath-saath hamaare gurujan hain unaka bhee surabhi varun dhavan jee dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
खाली पेट चुकंदर खाने के क्या फायदे हैं?Khali Pet Chukandar Khane Ke Kya Fayade Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:20
मतलब सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आपका सवाल बहुत ही अच्छा है जो हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ बर्तन है खाली पेट चुकंदर खाने के क्या फायदे हैं तो आपके सवाल का उत्तर है खाली पेट चुकंदर खाने चाहिए मोगली प्रकार की बीमारियों में फायदा देता है हिमोग्लोबिन बढ़ाने में करेगा मदद का कार्य कैंसर की बीमारी से चुकंदर खाने से बचाव होता है का उत्साह हमारी त्वचा को चमकदार बनाने का बहुत ही अच्छा है हमारे शरीर में मुंह में दांत और हड्डियों के लिए चुकंदर के बहुत ही फायदे हैं ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद का कार्य करता है चुकंदर और बालों के लिए भी बहुत ही पिछले खाली पेट चुकंदर खाने के बहुत फायदे हैं और हमारा स्वास्थ्य है वह अच्छा रहता है रोगों से लड़ने की एंट्री सिस्टम मजबूत होती है धन्यवाद उनको खुश रहो
Matalab sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aapaka savaal bahut hee achchha hai jo hamaare svaasthy se juda hua bartan hai khaalee pet chukandar khaane ke kya phaayade hain to aapake savaal ka uttar hai khaalee pet chukandar khaane chaahie mogalee prakaar kee beemaariyon mein phaayada deta hai himoglobin badhaane mein karega madad ka kaary kainsar kee beemaaree se chukandar khaane se bachaav hota hai ka utsaah hamaaree tvacha ko chamakadaar banaane ka bahut hee achchha hai hamaare shareer mein munh mein daant aur haddiyon ke lie chukandar ke bahut hee phaayade hain blad preshar ko kam karane mein madad ka kaary karata hai chukandar aur baalon ke lie bhee bahut hee pichhale khaalee pet chukandar khaane ke bahut phaayade hain aur hamaara svaasthy hai vah achchha rahata hai rogon se ladane kee entree sistam majaboot hotee hai dhanyavaad unako khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
किसी भी व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए कितना पैसा कमाने की जरूरत है?Kisi Bhe Vyakti Ko Santusht Hone Ke Lie Kitna Paisa Kamane Ki Jarurat Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:21
नमस्कार साथियों आज आपका स्वागत है किसी भी व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए कितना पैसा कमाने की जरूरत है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है व्यक्ति को संतुष्ट होने के लिए पैसे की अनिवार्य नहीं है कितना पैसा कमाए तभी संतुष्ट हो क्योंकि आप जितना पैसे कमाएंगे तब हमारी और भी इच्छा होती रहती है कि हम इससे भी कुछ ज्यादा कमाई इसलिए वेकेशन तुम नहीं हो पाता है संतोष नहीं होता है और जिस व्यक्ति में संतोष नहीं होता है वह कितना भी पैसा क्यों नहीं कमा ले उनमें वही कामना रहती है कि हम और कमाए इसलिए संतुष्ट है पैसे से बहुत ही कम लोग होते हैं जो अपना घर खर्चा चल जाता है या अपने माता पिता की सेवा सही ढंग से हो जाए कुछ लोग ही होते हैं जो कमा लेते हैं उसमें संतोष कर लेते हैं लेकिन ज्यादातर लोग उनकी इच्छा होती है ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाए तब भी संतुष्ट नहीं हो पाते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon aaj aapaka svaagat hai kisee bhee vyakti ko santusht hone ke lie kitana paisa kamaane kee jaroorat hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai vyakti ko santusht hone ke lie paise kee anivaary nahin hai kitana paisa kamae tabhee santusht ho kyonki aap jitana paise kamaenge tab hamaaree aur bhee ichchha hotee rahatee hai ki ham isase bhee kuchh jyaada kamaee isalie vekeshan tum nahin ho paata hai santosh nahin hota hai aur jis vyakti mein santosh nahin hota hai vah kitana bhee paisa kyon nahin kama le unamen vahee kaamana rahatee hai ki ham aur kamae isalie santusht hai paise se bahut hee kam log hote hain jo apana ghar kharcha chal jaata hai ya apane maata pita kee seva sahee dhang se ho jae kuchh log hee hote hain jo kama lete hain usamen santosh kar lete hain lekin jyaadaatar log unakee ichchha hotee hai jyaada se jyaada paise kamae tab bhee santusht nahin ho paate hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हम डेरी फार्मिग का व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते हैं?Ham Dairy Farming Ka Vyavasay Kaise Shuru Kar Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:37
नमस्कार सभी बोलकर परिवार की मित्रों को आपका बाल बहुत ही अच्छा है जो हमारे कच्चे क्षेत्र से भी जुड़ाव है और हमारे भाई साहब से भी जुड़ा हुआ है जो बर्तन इस प्रकार से है डेरी फार्मिंग का व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते हैं तो मित्रों आप डेयरी फार्मिंग का व्यवसाय शुरू कर सकते हो इनमें कोई दिक्कत नहीं है आप इनको छोटे स्तर पर भी शुरू कर सकते हो जो शुरू करने के लिए हमें पांच या छह बसों की कम से कम जरूरत होती है या अंक आए कविता सकते हैं अच्छी नस्ल की जो नस्ल अच्छी होनी चाहिए और नस्ल जो कम से कम 1 दिन के अंदर 10 लीटर से लेकर 20 या 30 लीटर दूध देने गाय हो या भेजूं आप जा सकते हो अपने डेरी खोल सकते हो टैक्टर बैटरी कॉल करें लगभग 50 से ₹7000 पर महीने आप कमा सकते हैं और इनसे रोजगार का विसर्जन होगा जो किसी दूसरे को भी आप रोजगार दे सकते हो इसलिए हमारे देश में डेयरी फार्मिंग का बहुत ज्यादा डिमांड है आप इंवेसिको कर सकते हो धन्यवाद साथियों
Namaskaar sabhee bolakar parivaar kee mitron ko aapaka baal bahut hee achchha hai jo hamaare kachche kshetr se bhee judaav hai aur hamaare bhaee saahab se bhee juda hua hai jo bartan is prakaar se hai deree phaarming ka vyavasaay kaise shuroo kar sakate hain to mitron aap deyaree phaarming ka vyavasaay shuroo kar sakate ho inamen koee dikkat nahin hai aap inako chhote star par bhee shuroo kar sakate ho jo shuroo karane ke lie hamen paanch ya chhah bason kee kam se kam jaroorat hotee hai ya ank aae kavita sakate hain achchhee nasl kee jo nasl achchhee honee chaahie aur nasl jo kam se kam 1 din ke andar 10 leetar se lekar 20 ya 30 leetar doodh dene gaay ho ya bhejoon aap ja sakate ho apane deree khol sakate ho taiktar baitaree kol karen lagabhag 50 se ₹7000 par maheene aap kama sakate hain aur inase rojagaar ka visarjan hoga jo kisee doosare ko bhee aap rojagaar de sakate ho isalie hamaare desh mein deyaree phaarming ka bahut jyaada dimaand hai aap invesiko kar sakate ho dhanyavaad saathiyon

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है?Baarish Ke Pahle Badal Kala Kyo Ho Jata Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:32
नमस्कार साथियों आप का सवाल है बारिश के पहले बादल काला क्यों हो जाता है तो दोस्तों आज हम जानते हैं तो बादलों में पानी की एसएससी और छोटे गूंज होती है जो कुछ बादलों में हिंदुओं की संख्या ज्यादा होती है तो दूसरे में कम होती है कुछ बातों में सफेद रंग दिखाई देता है तो फिर से बाद में में पूरा रंग दिखाई देता है और जब बरसने वाले बादल होते हैं वह आमतौर पर काले ही होते हैं और जो बादलों का रंग है वह काला होता है जब किसी वस्तु पर सूर्य का प्रकाश बढ़ता है तो उसका कुछ भाग परावर्तित रिफ्लेक्ट हो जाता है और कुछ वस्तुओं के द्वारा अवशोषित कर ली चमकीले भोजपुरी अक्षरा अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को परावर्तित करते हैं यदि कोई वस्तु उस पर पड़ने वाले प्रकाश को पूरी तरह अवशोषित कर लेती है तो वह काले रंग दिखाई देने लग जाते हैं वास्तव में काला रंग कोई रंग नहीं है प्रकाश के साथ रंग जब किसी वस्तु का द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं तो वह स्वस्तिका रंग काला दिखाई देने लग जाता है जो हमारे बादल सूर्य के प्रकाश को परावर्तित कर देते हैं और वो सफेद दिखाई देने लग जाते हैं लेकिन जो प्रकाश को अवशोषित कर लेते हैं वह काले दिखाई देते हैं और जब बरसने वाले बादल में पानी की है संख्या खून होती है जो प्रकाश के सभी रंगों को अवशोषित कर लेती है इसलिए बसने वाले बादलों का रंग भी काला दिखाई देने लग जाता है आकाश में जैसे बादलों की संख्या अधिक होती है दिन में भी अंधकार छा जाता है क्योंकि यह बादल सूर्य प्रकाश को आश्वस्त कर लेते हैं और धरती पर नहीं आने देते हैं यह बालक बहुत कुछ सेटिंग दोनों में से मिलकर बने होते हैं उनकी ऊंचाई भी बहुत अधिक होती है वर्क के गण प्रकाश के लिए पारदर्शक होते हैं इसलिए काट के बात इनमें से प्रकाश आर-पार निकल आता है जो यह चमकीले भी दिखाई देते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon aap ka savaal hai baarish ke pahale baadal kaala kyon ho jaata hai to doston aaj ham jaanate hain to baadalon mein paanee kee esesasee aur chhote goonj hotee hai jo kuchh baadalon mein hinduon kee sankhya jyaada hotee hai to doosare mein kam hotee hai kuchh baaton mein saphed rang dikhaee deta hai to phir se baad mein mein poora rang dikhaee deta hai aur jab barasane vaale baadal hote hain vah aamataur par kaale hee hote hain aur jo baadalon ka rang hai vah kaala hota hai jab kisee vastu par soory ka prakaash badhata hai to usaka kuchh bhaag paraavartit riphlekt ho jaata hai aur kuchh vastuon ke dvaara avashoshit kar lee chamakeele bhojapuree akshara apane oopar padane vaale prakaash ko paraavartit karate hain yadi koee vastu us par padane vaale prakaash ko pooree tarah avashoshit kar letee hai to vah kaale rang dikhaee dene lag jaate hain vaastav mein kaala rang koee rang nahin hai prakaash ke saath rang jab kisee vastu ka dvaara avashoshit kar lie jaate hain to vah svastika rang kaala dikhaee dene lag jaata hai jo hamaare baadal soory ke prakaash ko paraavartit kar dete hain aur vo saphed dikhaee dene lag jaate hain lekin jo prakaash ko avashoshit kar lete hain vah kaale dikhaee dete hain aur jab barasane vaale baadal mein paanee kee hai sankhya khoon hotee hai jo prakaash ke sabhee rangon ko avashoshit kar letee hai isalie basane vaale baadalon ka rang bhee kaala dikhaee dene lag jaata hai aakaash mein jaise baadalon kee sankhya adhik hotee hai din mein bhee andhakaar chha jaata hai kyonki yah baadal soory prakaash ko aashvast kar lete hain aur dharatee par nahin aane dete hain yah baalak bahut kuchh seting donon mein se milakar bane hote hain unakee oonchaee bhee bahut adhik hotee hai vark ke gan prakaash ke lie paaradarshak hote hain isalie kaat ke baat inamen se prakaash aar-paar nikal aata hai jo yah chamakeele bhee dikhaee dete hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:50
नमस्कार साथियों का सवाल है सर्दियों के मौसम में गर्म पानी से नहाने से क्या क्या नुकसान हो सकते हैं तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है सर्दियों के मौसम में ज्यादा गर्म पानी से नहाना चाहिए हमें गुनगुना पानी से नहाना चाहिए जिनसे हमारे शरीर की त्वचा वह सही रहेगी अन्यथा ज्यादा गर्म पानी से हमारी त्वचा पर इंपैक्ट पड़ेगा जिससे हमारे शरीर में कुछ नुकसान होगा और हमारे स्वास्थ्य पर भी गलत प्रभाव पड़ेगा इसलिए हमें सर्दी के मौसम में ज्यादा गर्म से नहीं गुनगुना पानी चाहिए ना नाचनी धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar saathiyon ka savaal hai sardiyon ke mausam mein garm paanee se nahaane se kya kya nukasaan ho sakate hain to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai sardiyon ke mausam mein jyaada garm paanee se nahaana chaahie hamen gunaguna paanee se nahaana chaahie jinase hamaare shareer kee tvacha vah sahee rahegee anyatha jyaada garm paanee se hamaaree tvacha par impaikt padega jisase hamaare shareer mein kuchh nukasaan hoga aur hamaare svaasthy par bhee galat prabhaav padega isalie hamen sardee ke mausam mein jyaada garm se nahin gunaguna paanee chaahie na naachanee dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या गलतियां इंसान को सही मार्ग दिखाती है या सिर्फ नुकसान ही करती हैं?Kya Galtiyan Insaan Ko Sahi Maarg Dikhati Hai Ya Sirf Nuksan He Karti Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:58
मजबूर खान का सवाल है क्या गलतियां इंसान को सही मार्ग दिखाती है या सिर्फ नुकसान ही करती है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है मनुष्य में जो गलतियां होती है तो जरूर उनको एहसास होता है की गलतियों का जब उनके सामने परिणाम इंसान को सही और गलत की पहचान हो जाती है इसलिए वह गलतियां करने से इंसान अनुभव करता है कि अगर हमने गलत किया तो इसका परिणाम भी हमारे सामने है इसलिए नुकसान तो होता है लेकिन नुकसान होने के साथ-साथ वह कुछ सुधार भी होता है इंसान गलत है मारोगे जब उनके सामने आता है तो वह सही रास्ता अपने आप सुनने लग जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Majaboor khaan ka savaal hai kya galatiyaan insaan ko sahee maarg dikhaatee hai ya sirph nukasaan hee karatee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai manushy mein jo galatiyaan hotee hai to jaroor unako ehasaas hota hai kee galatiyon ka jab unake saamane parinaam insaan ko sahee aur galat kee pahachaan ho jaatee hai isalie vah galatiyaan karane se insaan anubhav karata hai ki agar hamane galat kiya to isaka parinaam bhee hamaare saamane hai isalie nukasaan to hota hai lekin nukasaan hone ke saath-saath vah kuchh sudhaar bhee hota hai insaan galat hai maaroge jab unake saamane aata hai to vah sahee raasta apane aap sunane lag jaata hai dhanyavaad doston khush raho

#भारत की राजनीति

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:22
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है या अन्ना हजारे का लोकपाल आंदोलन पाकिस्तान प्रायोजित था या आरक्षक प्राइवेट था तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से अन्ना हजारे एक बहुत ही अच्छा लेकिन थांतुना हजारी ने हमारे देश में जो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई बहुत ही सराहनीय के पात्र हैं अन्ना हजारे एक वर्ग और एक समाज सेवक है जिसने लोकपाल की मांग उठाई और कांग्रेस की सरकार ने उनकी मांग को स्वीकार किया यह आपको निर्णय करना है कि यह पाकिस्तान प्रायोजित था यह राक्षस का प्रायोजित था लेकिन मेरे को तो नहीं लगता लेकिन किसी को अगर लगता है तो सकता है लेकिन मेरे हिसाब से तो यह ना जा रे एक समाज चेक थे जिसने हमारे देश के सामाजिक बुराइयों को खत्म करने का जो बीड़ा उठाया बहुत ही चलाने के पात्र थे धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal hai ya anna hajaare ka lokapaal aandolan paakistaan praayojit tha ya aarakshak praivet tha to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se anna hajaare ek bahut hee achchha lekin thaantuna hajaaree ne hamaare desh mein jo bhrashtaachaar ke khilaaph aavaaj uthaee bahut hee saraahaneey ke paatr hain anna hajaare ek varg aur ek samaaj sevak hai jisane lokapaal kee maang uthaee aur kaangres kee sarakaar ne unakee maang ko sveekaar kiya yah aapako nirnay karana hai ki yah paakistaan praayojit tha yah raakshas ka praayojit tha lekin mere ko to nahin lagata lekin kisee ko agar lagata hai to sakata hai lekin mere hisaab se to yah na ja re ek samaaj chek the jisane hamaare desh ke saamaajik buraiyon ko khatm karane ka jo beeda uthaaya bahut hee chalaane ke paatr the dhanyavaad doston khush raho

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
सूरज और चंद्रमा का आपस में क्या संबंध हैं?Suraj Aur Chandrma Ka Apas Mein Kya Sambandh Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:53
सभी बोलकर परिवार की सभी मित्रों को आपका प्रसन्न है सूरज और चंद्रमा का आपस में क्या संबंध है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है सूर्य और चंद्रमा की दृष्टि संबंध से एक प्रबल मानसिक शक्ति और चंद्रपुर में शुभ फल प्राप्त होता है जैसे ग्रह गोचर के समय चंद्र सूर्य से दूर होता जाता है वैसे वैसे ही चंद्र की शक्ति और सुख में वृद्धि होती रहती है सूर्य चंद्र की युति संबंध से ज्यादा सूर्य चंद्र का दृष्टि संबंध शुभ फल माना जाता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Sabhee bolakar parivaar kee sabhee mitron ko aapaka prasann hai sooraj aur chandrama ka aapas mein kya sambandh hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai soory aur chandrama kee drshti sambandh se ek prabal maanasik shakti aur chandrapur mein shubh phal praapt hota hai jaise grah gochar ke samay chandr soory se door hota jaata hai vaise vaise hee chandr kee shakti aur sukh mein vrddhi hotee rahatee hai soory chandr kee yuti sambandh se jyaada soory chandr ka drshti sambandh shubh phal maana jaata hai dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यापार की सफलता का रहस्य क्या है?Vyapar Ki Safalta Ka Rahasya Kya Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:47
मतलब सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आपका सवाल इस प्रकार से है वह पार की सफलता का रहस्य क्या है तो पहले तो सभी मित्रों को मेरी तरफ से हार्दिक हार्दिक नमस्कार बधाइयां क्योंकि आपका सवाल बहुत ही अच्छा है जो हमारी परीक्षा से संबंधित प्रश्न जो आपका मित्रों सवाल का उत्तर इस प्रकार से बहुत सारे लोग व्यापार करने की सोचते हैं करते भी हैं परंतु कुछ सफल हो जाते हैं और कुछ असफल हो जाते हैं वह व्यक्ति बुद्धिमान कहलाता है तो उस समय पर व्यवसाय की सफलता के रहस्य को जान लेता है और आपकी उम्र में से एक हो सकते हो वह पार्षद अपने आप में एक बार पथ है इनके अंदर इमानदारी और पूर्ण निष्ठा और समय का पाबंद होना बहुत ही आवश्यक है पर मैं यह बहुत ही होना भी जरूरी है वही लोग व्यापार में सफल हो पाते हैं जो समय के साथ अपने व्यापार विहार को बदल लेते हैं और जो व्यापारी बार-बार अपना पैसा को बदलता रहता है वह कभी खत्म नहीं हो सकता है वक्त के उस समय के संग वफा के बदले तरीके देखना चाहिए जिसमें पहले ऑफलाइन बिजनेस होता था अब ऑनलाइन का भी जमाना है तो समय के अनुरूप अपने व्यापार को भी बदलना चाहिए कुछ बातें कागज के पन्नों को पढ़कर नहीं सीखी जाती है अभी तो अपने अनुभव से सिखाती है और व्यापार को अच्छी तरीके से हैंडल करना चाहिए तभी आपका व्यापार सफल हो सकता है धन्यवाद दोस्तों को शुरू
Matalab sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aapaka savaal is prakaar se hai vah paar kee saphalata ka rahasy kya hai to pahale to sabhee mitron ko meree taraph se haardik haardik namaskaar badhaiyaan kyonki aapaka savaal bahut hee achchha hai jo hamaaree pareeksha se sambandhit prashn jo aapaka mitron savaal ka uttar is prakaar se bahut saare log vyaapaar karane kee sochate hain karate bhee hain parantu kuchh saphal ho jaate hain aur kuchh asaphal ho jaate hain vah vyakti buddhimaan kahalaata hai to us samay par vyavasaay kee saphalata ke rahasy ko jaan leta hai aur aapakee umr mein se ek ho sakate ho vah paarshad apane aap mein ek baar path hai inake andar imaanadaaree aur poorn nishtha aur samay ka paaband hona bahut hee aavashyak hai par main yah bahut hee hona bhee jarooree hai vahee log vyaapaar mein saphal ho paate hain jo samay ke saath apane vyaapaar vihaar ko badal lete hain aur jo vyaapaaree baar-baar apana paisa ko badalata rahata hai vah kabhee khatm nahin ho sakata hai vakt ke us samay ke sang vapha ke badale tareeke dekhana chaahie jisamen pahale ophalain bijanes hota tha ab onalain ka bhee jamaana hai to samay ke anuroop apane vyaapaar ko bhee badalana chaahie kuchh baaten kaagaj ke pannon ko padhakar nahin seekhee jaatee hai abhee to apane anubhav se sikhaatee hai aur vyaapaar ko achchhee tareeke se haindal karana chaahie tabhee aapaka vyaapaar saphal ho sakata hai dhanyavaad doston ko shuroo

#जीवन शैली

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:24
आज मेरे सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आज का सवाल हमारा वेतन से संबंधित है सवाल नंबर एक बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे तू कर सकते हैं तो आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है पत्रक पालन करना एक नहीं बल्कि बहुत ही फायदे निया में कई देश ऐसे हैं जहां बस को का इस्तेमा अमित जितेन के बाद अंडा मांस उत्पादन के लिए दूसरे नंबर पर है माना जाता है कोई भी किसान या बुधनी या छोटे व्यापारी दोनों स्तर को शुरू कर सकता है यहां तक छोटे स्तर की बात करें तो घर के पिछवाड़े दूधिया इत्यादि के साथ भी किया जा सकता है पालन के मौत से फायदे हैं बस पालन को आप एक सफल और कर भी शुरू कर सकते हो जिसके कारण से वह एक बेहतरीन को शुरू कर सकते हो और कम खर्चे में कर सकते हो बता क्यों भेज दी मजबूत पक्ष होते हैं और बत्तख के अधिकतर सुबह शाम को अंडे देते हैं बदक पालन के लिए गाने की तुलना में कम जगह की ही आवश्यकता होती है और सामान्य रोगों के लिए बच्चों को सही प्रतिरोधी होते हैं जिसके चलते यह बीमार भी बहुत कम होते हैं यह दुनिया यह बता क्या बताएं बहुत ही अच्छा है बतख पालन एक ही स्थाई रोजगार का साधन भी हो सकता है इसलिए मेरे शरीर रोजगार भाइयों के लिए बहुत ही अच्छा है जो शिक्षित नौजवान इस बिजनेस को कर सकते हैं और अपना रोजगार का जरिया बना सकते हैं और बत्तख के पालन के लिए किस प्रकार से शुरुआत करें पोपट को के लिए आवास होना चाहिए बतख पालन के फायदों के बारे में हम बात करते हैं समय हम यह भी जानते हैं बस को के लिए आवाज बड़ी आसानी से बना जाता है यह जगह इसकी ऊंची नीची दिल्ली सुखी जगह आसानी से इनको पाला जा सकता है और इनके नकल के चुनाव किस प्रकार से करें उतनी के द्वारा बिना आवाज के लिए प्रबंध करने लेने के बाद वह जो नस्ल होती है उनका चुनाव करना चाहिए ताकि एक अच्छी उत्पादकता वाली नस्ल को अपनी बताकर पालन में अपना हिस्सा बना पाए और अपना एक अच्छा व्यवसाय को कामयाब कर सकती है इसलिए पूरे विश्व में बात को कहने की प्रजातियां पाई जाती है लेकिन हुआ था कि तुम पर बात करते हैं कमाई करने के लिए बंदूकों की सभी प्रजातियां उपयोगिता नहीं होती है कुछ बताती है ऐसी होती है जिनको अंडे देने के उद्देश्य से पाला जा सकता है कुछ ऐसी होती है जिनका पालन मीठी उत्पादन के लिए किया जाता है इसलिए अगर हम देखे तो बस को रतिया मुख्य तौर पर तीन भागों में विभाजित कर सकते हैं और इनमें सभी की क्वालिटी को हमें अपने बताओ वाकई में शामिल कर सकते हैं जिन्हें आप बता परंतु महेंद्र जी आप एक अच्छा रोजगार सर्जन कर सकते हैं और आपके जो रोजगार भाइयों को भी आप रोजगार दे सकते हो धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Aaj mere sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aaj ka savaal hamaara vetan se sambandhit hai savaal nambar ek battakh paalan vyavasaay kya hai ise kaise too kar sakate hain to aapake savaal ka uttar is prakaar se hai patrak paalan karana ek nahin balki bahut hee phaayade niya mein kaee desh aise hain jahaan bas ko ka istema amit jiten ke baad anda maans utpaadan ke lie doosare nambar par hai maana jaata hai koee bhee kisaan ya budhanee ya chhote vyaapaaree donon star ko shuroo kar sakata hai yahaan tak chhote star kee baat karen to ghar ke pichhavaade doodhiya ityaadi ke saath bhee kiya ja sakata hai paalan ke maut se phaayade hain bas paalan ko aap ek saphal aur kar bhee shuroo kar sakate ho jisake kaaran se vah ek behatareen ko shuroo kar sakate ho aur kam kharche mein kar sakate ho bata kyon bhej dee majaboot paksh hote hain aur battakh ke adhikatar subah shaam ko ande dete hain badak paalan ke lie gaane kee tulana mein kam jagah kee hee aavashyakata hotee hai aur saamaany rogon ke lie bachchon ko sahee pratirodhee hote hain jisake chalate yah beemaar bhee bahut kam hote hain yah duniya yah bata kya bataen bahut hee achchha hai batakh paalan ek hee sthaee rojagaar ka saadhan bhee ho sakata hai isalie mere shareer rojagaar bhaiyon ke lie bahut hee achchha hai jo shikshit naujavaan is bijanes ko kar sakate hain aur apana rojagaar ka jariya bana sakate hain aur battakh ke paalan ke lie kis prakaar se shuruaat karen popat ko ke lie aavaas hona chaahie batakh paalan ke phaayadon ke baare mein ham baat karate hain samay ham yah bhee jaanate hain bas ko ke lie aavaaj badee aasaanee se bana jaata hai yah jagah isakee oonchee neechee dillee sukhee jagah aasaanee se inako paala ja sakata hai aur inake nakal ke chunaav kis prakaar se karen utanee ke dvaara bina aavaaj ke lie prabandh karane lene ke baad vah jo nasl hotee hai unaka chunaav karana chaahie taaki ek achchhee utpaadakata vaalee nasl ko apanee bataakar paalan mein apana hissa bana pae aur apana ek achchha vyavasaay ko kaamayaab kar sakatee hai isalie poore vishv mein baat ko kahane kee prajaatiyaan paee jaatee hai lekin hua tha ki tum par baat karate hain kamaee karane ke lie bandookon kee sabhee prajaatiyaan upayogita nahin hotee hai kuchh bataatee hai aisee hotee hai jinako ande dene ke uddeshy se paala ja sakata hai kuchh aisee hotee hai jinaka paalan meethee utpaadan ke lie kiya jaata hai isalie agar ham dekhe to bas ko ratiya mukhy taur par teen bhaagon mein vibhaajit kar sakate hain aur inamen sabhee kee kvaalitee ko hamen apane batao vaakee mein shaamil kar sakate hain jinhen aap bata parantu mahendr jee aap ek achchha rojagaar sarjan kar sakate hain aur aapake jo rojagaar bhaiyon ko bhee aap rojagaar de sakate ho dhanyavaad doston khush raho

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
डीएनए का फुल फॉर्म क्या है?Dna Ka Full Form Kya Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:44
अभी बोल कर के सभी परिवार जनों को आज आपका सवाल बहुत ही अच्छा है सवाल एक प्रकार से हैं फुल फॉर्म ऑफ डीएनए दो साथियों आपका सवाल का उत्तर इस प्रकार के डीएनए का फुल फॉर्म हिंदी में भी ऑक्सी राइबो न्यूक्लिक अम्ल होता है जो तब तू नमो अनु को जिंदा कोशिका के गुणसूत्र में पाया जाता है कोर्ट देने का संबंध हमारे जीवित कोशिकाओं से होता है धन्यवाद दोस्तों खुद
Abhee bol kar ke sabhee parivaar janon ko aaj aapaka savaal bahut hee achchha hai savaal ek prakaar se hain phul phorm oph deeene do saathiyon aapaka savaal ka uttar is prakaar ke deeene ka phul phorm hindee mein bhee oksee raibo nyooklik aml hota hai jo tab too namo anu ko jinda koshika ke gunasootr mein paaya jaata hai kort dene ka sambandh hamaare jeevit koshikaon se hota hai dhanyavaad doston khud

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक प्यार मोहब्बत की शायरी सुनाइए?Ek Pyaar Mohabbat Ki Shayari Sunaie
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:43
नमस्कार मेरे सभी बोलकर प्रिय साथियों को आप का सवाल है एक प्यार मोहब्बत की शायरी सुनाइए तो मित्रों आपको बहुत ही अच्छी प्यार भरी एक शायरी सुना रहा हूं शायरी इस प्रकार से है किसी के दीदार को तरसता है किसी के इंतजार में तड़पता है यह दिल भी क्या अजीब चीज है जो होता है खुद का मगर किसी और के लिए धड़कता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar mere sabhee bolakar priy saathiyon ko aap ka savaal hai ek pyaar mohabbat kee shaayaree sunaie to mitron aapako bahut hee achchhee pyaar bharee ek shaayaree suna raha hoon shaayaree is prakaar se hai kisee ke deedaar ko tarasata hai kisee ke intajaar mein tadapata hai yah dil bhee kya ajeeb cheej hai jo hota hai khud ka magar kisee aur ke lie dhadakata hai dhanyavaad doston khush raho

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
सीधे सिर पर पानी डालकर नहाना क्या हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है?Seedhe Sir Par Paani Daalkar Nahana Kya Humare Sharir Ke Liye Nuksandayak Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:45
नमस्कार ठाकुर आपका पर्सनल है सीधे सिर पर पानी डालकर नहाना हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर है कि हमें सीधे सिर पर पानी नहीं डालना चाहिए क्योंकि सीधे पानी डालने से हमारा खून का सरकुलेशन है ही नहीं रहता है जिनकी वजह से सिर पर पानी नहीं डालना चाहिए और हमारे शरीर के लिए भी घातक होता है इसलिए हमें सीधे सिर पर पानी नहीं डालना चाहिए और नीचे से हम दोनों की तरफ से पानी को डालते हुए आगे ऊपर तक है जाना चाहिए धन्यवाद दोस्तों शुरू
Namaskaar thaakur aapaka parsanal hai seedhe sir par paanee daalakar nahaana hamaare shareer ke lie nukasaanadaayak hai to doston aapake savaal ka uttar hai ki hamen seedhe sir par paanee nahin daalana chaahie kyonki seedhe paanee daalane se hamaara khoon ka sarakuleshan hai hee nahin rahata hai jinakee vajah se sir par paanee nahin daalana chaahie aur hamaare shareer ke lie bhee ghaatak hota hai isalie hamen seedhe sir par paanee nahin daalana chaahie aur neeche se ham donon kee taraph se paanee ko daalate hue aage oopar tak hai jaana chaahie dhanyavaad doston shuroo

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:05
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल इस प्रकार के युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी रहती है तो दोस्तों आपके सवाल बहुत ही अच्छा है क्योंकि हमारे देश में ज्यादातर नवयुवक बेरोजगार हैं जो डिप्रेशन के शिकार हैं क्योंकि उनको यह चिंता सता रही है कब हमें रोजगार मिलेगा कब हम काबिल बनेंगे इसलिए ज्यादातर युवाओं में यह आक्रोश होने की वजह से ज्यादातर हो तुम और पानी की ओर अग्रसर हो रही है तो हमारे देश से का युवाओं का भविष्य बहुत ही खतरे में है एक तो हमारे देश के युवाओं को जॉब नहीं मिल पा रहा है दूसरा वह गलत संगति में पढ़ रहे हैं जिससे हमारे देश का बहुत ही ज्यादा नुकसान हो रहा है और उनको यह सोचना चाहिए अगर जॉब नहीं मिल रहा है तो खुद अपना चयन का कुछ वैसा करना चाहिए और अपने खुद में आतंकवाद को मजबूत बनाना चाहिए ना कि हम धूम्रपान की लत मैं बड़े इससे हमारा परिवार और हमारा खुद का नुकसान होगा इसलिए मेरा तो यह कहना है कि हमारे देश के युवाओं को धूम्रपान की लत से दूर जाना चाहिए और हमें एक अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना चाहिए धूम्रपान बहुत ही जानलेवा है जिससे मनुष्य की जान जा सकती है और इनसे पैसों का भी नुकसान और हमारा स्वास्थ्य का भी नुकसान है इसलिए हमारे देश के युवाओं को धूम्रपान से मिलना चाहिए और एक अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना चाहिए और भी अपने पड़ोसी मित्रों को भी जागरूक करना चाहिए और धूम्रपान से हमारे मानसिक शक्ति होती है इसलिए हमें धूम्रपान से दूर भगाना चाहिए धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal is prakaar ke yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee rahatee hai to doston aapake savaal bahut hee achchha hai kyonki hamaare desh mein jyaadaatar navayuvak berojagaar hain jo dipreshan ke shikaar hain kyonki unako yah chinta sata rahee hai kab hamen rojagaar milega kab ham kaabil banenge isalie jyaadaatar yuvaon mein yah aakrosh hone kee vajah se jyaadaatar ho tum aur paanee kee or agrasar ho rahee hai to hamaare desh se ka yuvaon ka bhavishy bahut hee khatare mein hai ek to hamaare desh ke yuvaon ko job nahin mil pa raha hai doosara vah galat sangati mein padh rahe hain jisase hamaare desh ka bahut hee jyaada nukasaan ho raha hai aur unako yah sochana chaahie agar job nahin mil raha hai to khud apana chayan ka kuchh vaisa karana chaahie aur apane khud mein aatankavaad ko majaboot banaana chaahie na ki ham dhoomrapaan kee lat main bade isase hamaara parivaar aur hamaara khud ka nukasaan hoga isalie mera to yah kahana hai ki hamaare desh ke yuvaon ko dhoomrapaan kee lat se door jaana chaahie aur hamen ek achchhe svaasthy ke prati jaagarook rahana chaahie dhoomrapaan bahut hee jaanaleva hai jisase manushy kee jaan ja sakatee hai aur inase paison ka bhee nukasaan aur hamaara svaasthy ka bhee nukasaan hai isalie hamaare desh ke yuvaon ko dhoomrapaan se milana chaahie aur ek achchhe svaasthy ke prati jaagarook rahana chaahie aur bhee apane padosee mitron ko bhee jaagarook karana chaahie aur dhoomrapaan se hamaare maanasik shakti hotee hai isalie hamen dhoomrapaan se door bhagaana chaahie dhanyavaad doston khush raho

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या इंसान मां-बाप से ज्यादा जानवर से प्यार कर सकता है?Kya Insaan Maan-baap Se Jyaada Jaanavar Se Pyaar Kar Sakata Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:26
आपका सवाल है क्या इंसान मां-बाप से ज्यादा जानवर से प्यार कर सकता है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है यह इंसान पर निर्भर करता है कि मां-बाप से ज्यादा जानवर से प्यार करना है या अपने माता-पिता से यह मनुष्य सभी प्रकार के एक नहीं होते हैं हर इंसान की अलग अलग सोच होती है जिसकी जैसी सोच होती है वह वैसा ही कार्य करता है जिस इंसान की मां बाप के प्रति प्यार है तो मां-बाप से ज्यादा कॉल करेगा और जिनकी सोच जानवर तक की है तो जानवर से ज्यादा प्यार करेगा यह तो मेरा तो मानना है इंसान को मां बाप से भी प्यार करना चाहिए और जानवरों से भी प्यार करना चाहिए क्योंकि इंसान और का धर्म होता है कि सभी जीव जंतुओं का प्यार उनका सम्मान करना चाहिए ना कि उनसे कहना करना चाहिए हमें हमारा माता पिता है तभी प्यार करना चाहिए और जानवर से भी करना चाहिए अन्यथा ऐसा नहीं कि हम जानवर से प्यार करें और माता-पिता से नहीं करें क्योंकि हमें सभी से ही करना चाहिए लेकिन माता-पिता से ज्यादा करना चाहिए धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Aapaka savaal hai kya insaan maan-baap se jyaada jaanavar se pyaar kar sakata hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai yah insaan par nirbhar karata hai ki maan-baap se jyaada jaanavar se pyaar karana hai ya apane maata-pita se yah manushy sabhee prakaar ke ek nahin hote hain har insaan kee alag alag soch hotee hai jisakee jaisee soch hotee hai vah vaisa hee kaary karata hai jis insaan kee maan baap ke prati pyaar hai to maan-baap se jyaada kol karega aur jinakee soch jaanavar tak kee hai to jaanavar se jyaada pyaar karega yah to mera to maanana hai insaan ko maan baap se bhee pyaar karana chaahie aur jaanavaron se bhee pyaar karana chaahie kyonki insaan aur ka dharm hota hai ki sabhee jeev jantuon ka pyaar unaka sammaan karana chaahie na ki unase kahana karana chaahie hamen hamaara maata pita hai tabhee pyaar karana chaahie aur jaanavar se bhee karana chaahie anyatha aisa nahin ki ham jaanavar se pyaar karen aur maata-pita se nahin karen kyonki hamen sabhee se hee karana chaahie lekin maata-pita se jyaada karana chaahie dhanyavaad doston khush raho

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
आवश्यक अमीनो एसिड क्या होते हैं?Aavashyak Amino Acid Kya Hote Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:46
रेसिपी बोलकर परिवार के सभी मित्र जनों को आपका प्रश्न है आवश्यक अमीनो एसिड क्या होते हैं तो मित्रों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है एमिनो एसिड जो अंग या अंगों ग्रंथियां और अंदर गमलों के कार्य पर प्रभाव होता है यह उपचार गांव उसको की मरम्मत और मांसपेशियां और हमारी मर्जी हो तब सा और बालों के साथ चाय पत्ती की सूचना में उत्पन्न सभी प्रकार के अपशिष्ट जमाव को हटाने के लिए बहुत ही आवश्यक होते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Resipee bolakar parivaar ke sabhee mitr janon ko aapaka prashn hai aavashyak ameeno esid kya hote hain to mitron aapake savaal ka uttar is prakaar se hai emino esid jo ang ya angon granthiyaan aur andar gamalon ke kaary par prabhaav hota hai yah upachaar gaanv usako kee marammat aur maansapeshiyaan aur hamaaree marjee ho tab sa aur baalon ke saath chaay pattee kee soochana mein utpann sabhee prakaar ke apashisht jamaav ko hataane ke lie bahut hee aavashyak hote hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या कोई ऐसा व्यापार है जो मेरी पैसिव इनकम बढ़ा सकता है?Kya Koi Aisa Vyapar Hai Jo Mere Paisiv Income Badha Sakta Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:15
नमस्कार दोस्तों आपको ऐसी इनकम के बारे में जानकारी बता रहे हैं आप जानते भी होंगे नहीं जानते हैं तो आपको बता रहे हैं जो डायरेक्ट सेलिंग और नेटवर्क मार्केटिंग से बेहतर कोई अन्य विकल्प नजर नहीं आता है जो कंपनी आरसीएम है जो भारत की डायरेक्ट सेलिंग कंपनी है जो सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक है इनकी थोड़ी बहुत ही साफ-सुथरी और प्रोडक्ट बेस कंपनी है कंपनी के डायरेक्ट सेलिंग से आप जोड़ सकते हैं जोड़ने का कोई चार्ज नहीं है यह कैसी कंपनी है जिसके साथ काम करके आप अच्छा महसूस करेंगे अधिक जानकारी के लिए संपर्क 856 2733 80 5627 6693 पर आप जानकारी साझा कर सकते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapako aisee inakam ke baare mein jaanakaaree bata rahe hain aap jaanate bhee honge nahin jaanate hain to aapako bata rahe hain jo daayarekt seling aur netavark maarketing se behatar koee any vikalp najar nahin aata hai jo kampanee aaraseeem hai jo bhaarat kee daayarekt seling kampanee hai jo sarakaar ke gaidalain ke mutaabik hai inakee thodee bahut hee saaph-sutharee aur prodakt bes kampanee hai kampanee ke daayarekt seling se aap jod sakate hain jodane ka koee chaarj nahin hai yah kaisee kampanee hai jisake saath kaam karake aap achchha mahasoos karenge adhik jaanakaaree ke lie sampark 856 2733 80 5627 6693 par aap jaanakaaree saajha kar sakate hain dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या बगैर मास प्रोटीन से खाए बिना बॉडी बनाना संभव है?Kya Bagair Mass Protein Se Khaye Bina Body Bnana Sambhav Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:43
हम तो चुनरिया बगल में होटल से आए बिना रोटी बनाना संभव हो तो आपके सवाल का उत्तर इसका कारण मनुष्य बगैर मार्क्स आए भी अपनी अच्छी बॉडी बना सकता है वह सूखे मेवा बादाम किसमिस काजू के अध्यक्ष अपने शरीर की अच्छी बॉडी बना सकता है और अपने शरीर को चुस्त-दुरुस्त लगता है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Ham to chunariya bagal mein hotal se aae bina rotee banaana sambhav ho to aapake savaal ka uttar isaka kaaran manushy bagair maarks aae bhee apanee achchhee bodee bana sakata hai vah sookhe meva baadaam kisamis kaajoo ke adhyaksh apane shareer kee achchhee bodee bana sakata hai aur apane shareer ko chust-durust lagata hai dhanyavaad doston khush raho

#टेक्नोलॉजी

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:38
उसको बोल दो आपको अपने क्रोध पर काबू करने के लिए दवाइयां विवेक दोनों में क्या होता है और वह कौन सी युक्ति से क्रोध पर काबू करता है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से क्रोध पर काबू करने के लिए दोहे से अच्छा हमारा विवेक होता है तो यह के माध्यम से हमें अच्छा और बुरे की पहचान करवाता है और हमारे अंदर कितना भी गुस्सा क्यों ना जाए इतना भी तो हम उस पर हमारे विवेक के माध्यम से हम काबू कर सकते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Usako bol do aapako apane krodh par kaaboo karane ke lie davaiyaan vivek donon mein kya hota hai aur vah kaun see yukti se krodh par kaaboo karata hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se krodh par kaaboo karane ke lie dohe se achchha hamaara vivek hota hai to yah ke maadhyam se hamen achchha aur bure kee pahachaan karavaata hai aur hamaare andar kitana bhee gussa kyon na jae itana bhee to ham us par hamaare vivek ke maadhyam se ham kaaboo kar sakate hain dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:52
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है ऐसी स्थिति में कि आज जब आपको पता है कि जो आप लोग कर रहे हैं तो गलत है क्या सोचकर आप अपने आप को संतुष्ट कर पाते हैं तो दोस्तों यह आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है जगह अगर व्यक्ति जो भी कोई गलत कार्य करता है और उनको पता है यह गलत कार्य करने से हमें उनका नुकसान होगा लेकिन फिर भी वह गलती कर देते हैं लेकिन संतोष तो नहीं हो पाते लेकिन वह अपने आप को संतुष्ट कर लेते हैं क्योंकि उनका काम ऐसा ही होता है क्योंकि वह नासमझ लोग होते हैं और वह समझदार लोग नहीं होते हैं जिनकी वजह से वह गलत कार्य करते हैं वह आगे और पीछे की नहीं सोचते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal hai aisee sthiti mein ki aaj jab aapako pata hai ki jo aap log kar rahe hain to galat hai kya sochakar aap apane aap ko santusht kar paate hain to doston yah aapake savaal ka uttar is prakaar se hai jagah agar vyakti jo bhee koee galat kaary karata hai aur unako pata hai yah galat kaary karane se hamen unaka nukasaan hoga lekin phir bhee vah galatee kar dete hain lekin santosh to nahin ho paate lekin vah apane aap ko santusht kar lete hain kyonki unaka kaam aisa hee hota hai kyonki vah naasamajh log hote hain aur vah samajhadaar log nahin hote hain jinakee vajah se vah galat kaary karate hain vah aage aur peechhe kee nahin sochate hain dhanyavaad doston khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्यों कुछ लोग जरूरत से अधिक पैसा होने पर भी हाय पैसा करते रहते हैं?Kyon Kuch Log Jarurat Se Adhik Paisa Hone Par Bhe Haay Paisa Karte Rehte Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:30
अमरकंटक यू आपका सवाल है क्यों कुछ लोग जरूर से अधिक पैसा होने पर भी हाय पैसा करते रहते हैं तो दोस्तों वह ऐसे प्रवृत्ति के लोग होते हैं लालची होते हैं जिनको पैसे चाहिए ज्यादा मोहब्बत होती है ऐसे लोग ही ज्यादातर पैसे के लिए हाय तौबा करते रहते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Amarakantak yoo aapaka savaal hai kyon kuchh log jaroor se adhik paisa hone par bhee haay paisa karate rahate hain to doston vah aise pravrtti ke log hote hain laalachee hote hain jinako paise chaahie jyaada mohabbat hotee hai aise log hee jyaadaatar paise ke lie haay tauba karate rahate hain dhanyavaad doston khush raho

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:57
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल इस प्रकार ने सांप्रदायिक दंगे हम खुद को कैसे बता सकते हैं तो दोस्तों सांप्रदायिक जो ताकते होती है उनकी वजह से सांप्रदायिक दंगे होते हैं जो जातिवाद छुआछूत या धर्म के आधार पर या ट्विटर के माध्यम से जो सांप्रदायिक दंगे होते हैं उनको शांति से सामना करना चाहिए ना कि हम सांप्रदायिक दंगे की वजह से हमें अपने आप को नहीं जोड़ना चाहिए जब तक हमें तहकीकात का पता नहीं लगा लेते तब तक हम इन सांप्रदायिक दंगों से नजदीक नहीं जाना चाहिए और सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal is prakaar ne saampradaayik dange ham khud ko kaise bata sakate hain to doston saampradaayik jo taakate hotee hai unakee vajah se saampradaayik dange hote hain jo jaativaad chhuaachhoot ya dharm ke aadhaar par ya tvitar ke maadhyam se jo saampradaayik dange hote hain unako shaanti se saamana karana chaahie na ki ham saampradaayik dange kee vajah se hamen apane aap ko nahin jodana chaahie jab tak hamen tahakeekaat ka pata nahin laga lete tab tak ham in saampradaayik dangon se najadeek nahin jaana chaahie aur saampradaayik taakaton ke khilaaph aavaaj uthaana chaahie dhanyavaad doston khush raho

#भारत की राजनीति

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:54
आपका सवाल है ना उसे तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हर क्षण 17 तरह के तनाव को रोका जा सकता है दोस्तों जरूर रोका जा सकता है तनाव हम किसी बात की चिंता कर लेते हैं तब हमारे दिमाग में तनाव आ जाता है इसलिए हमें कोई बात की चिंता नहीं करनी चाहिए हमें यह देखना चाहिए हमारी जिंदगी में जो परेशानी है उसको हम सात सुरों का सामना करना है और जिंदगी में कभी सुख और दुख में हमेशा आते रहते हैं तो कभी भी हमें परेशानियों से घबराना नहीं चाहिए अब 17 जून तनाव को रोक सकते हैं धन्यवाद और लोग खुश रहो
Aapaka savaal hai na use turant mukti paana sambhav hai kya har kshan 17 tarah ke tanaav ko roka ja sakata hai doston jaroor roka ja sakata hai tanaav ham kisee baat kee chinta kar lete hain tab hamaare dimaag mein tanaav aa jaata hai isalie hamen koee baat kee chinta nahin karanee chaahie hamen yah dekhana chaahie hamaaree jindagee mein jo pareshaanee hai usako ham saat suron ka saamana karana hai aur jindagee mein kabhee sukh aur dukh mein hamesha aate rahate hain to kabhee bhee hamen pareshaaniyon se ghabaraana nahin chaahie ab 17 joon tanaav ko rok sakate hain dhanyavaad aur log khush raho

#जीवन शैली

bolkar speaker
जब आप बिल्कुल तन्हा और उदास होते हैं तो आप क्या करते हैं?Jab Aap Bilkul Tanha Aur Udas Hote Hain To Aap Kya Karte Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:22
आपका सवाल का जवाब बिल्कुल तन्हा और उदास होते हैं तो आप क्या करते हैं तो दोस्तों अगर मैं तन्हा उदास होता हूं तो मैं आ जाता हूं और अपने आप से बातें करने लगी क्योंकि मेरे अंदर यह तन्हा उदास क्यों होता है यह डिप्रेशन की वजह से होता है इसीलिए हमें हमारे डिप्रेशन किशोर समस्या होती है हमें मनोचिकित्सक से राय मशवरा देना चाहिए और हमारे अंदर तन्हा और उदास की भावना पनपती है उसको डिप्रेशन को हम मनुष्य किसी के माध्यम से दूर कर दे या हमारे खान-पान में कुछ सुधार करके भी हम इंतजार दाग से बाल बढ़ते हैं और हमें सकारात्मक विचार को बनाए रखना चाहिए जिससे आपके दिमाग में कभी तन्हा उदास की भावना नहीं होगी धन्यवाद और तो कुछ
Aapaka savaal ka javaab bilkul tanha aur udaas hote hain to aap kya karate hain to doston agar main tanha udaas hota hoon to main aa jaata hoon aur apane aap se baaten karane lagee kyonki mere andar yah tanha udaas kyon hota hai yah dipreshan kee vajah se hota hai iseelie hamen hamaare dipreshan kishor samasya hotee hai hamen manochikitsak se raay mashavara dena chaahie aur hamaare andar tanha aur udaas kee bhaavana panapatee hai usako dipreshan ko ham manushy kisee ke maadhyam se door kar de ya hamaare khaan-paan mein kuchh sudhaar karake bhee ham intajaar daag se baal badhate hain aur hamen sakaaraatmak vichaar ko banae rakhana chaahie jisase aapake dimaag mein kabhee tanha udaas kee bhaavana nahin hogee dhanyavaad aur to kuchh

#जीवन शैली

bolkar speaker
अमेरिका जैसे विकसित देशों में भिखारी क्यों नहीं होते हैं?Amerika Jaise Viksit Deshon Mein Bhikhari Kyun Nahin Hote Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:45
नमक हलाल का सवाल है अमेरिका जैसे विकसित देशों में से है थारी चुनरी तो दोस्तों आपका स्वागत ही अच्छा है अमेरिका जैसे विकसित देशों में भिखारी क्यों नहीं होते इनका कारण कारण यह है कि अमेरिका कि देखते ही लोग वेलफेयर पर है यानी वह सरकार से पहचान लेते हैं वह भी ठीक ही है सरकार के रास्ते से किया गया है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namak halaal ka savaal hai amerika jaise vikasit deshon mein se hai thaaree chunaree to doston aapaka svaagat hee achchha hai amerika jaise vikasit deshon mein bhikhaaree kyon nahin hote inaka kaaran kaaran yah hai ki amerika ki dekhate hee log velapheyar par hai yaanee vah sarakaar se pahachaan lete hain vah bhee theek hee hai sarakaar ke raaste se kiya gaya hai dhanyavaad doston khush raho
URL copied to clipboard