#भारत की राजनीति

bolkar speaker
बीजेपी से राजनीति करने के लिए परिवारवाद और पैसा कितना महत्वपूर्ण है?Beejepee Se Raajaneeti Karane Ke Lie Parivaaravaad Aur Paisa Kitana Mahatvapoorn Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:12
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया कि के बीजेपी से राजनीति करने के लिए परिवारवाद और पैसा कितना महत्वपूर्ण है तो दोस्तों कोई भी राजनीति छोटी सी छोटी पार्टी का कर आपको टिकट चाहिए तो पैसा बहुत अहम भूमिका निभाता है आपके पैसा नहीं है तो आप राजनीति मैं जल्दी नहीं आ सकते हैं हां पैसे के बदले आपके पास कोई सकती हो या किसी आप विशेष पोस्ट पर थे जैसे हमारे मेट्रोमैन है शशिधरण जी उनको जो है देखिए बीजेपी प्रयोग कर रही है और या आपका पारिवारिक दबदबा कहीं हो राजनीति में तो भी टिकट मिल जाता है तो दोनों ही चीजें चाहिए पैसा बहुत मायने रखता है पैसे से टिकटें खरीदी जा सकती हैं पैसा नहीं है तो राजनीति में मेरे हिसाब से उसे आना नहीं चाहिए क्योंकि टिकट मिल भी जाए तो सारी आजकल राजनीति चलती है बिना पैसा खर्च किए ना रैलियां होती हैं ना ही कार्यकर्ता झुकते हैं क्योंकि उनको कार्यकर्ताओं को भी रैलियों में भीड़ इकट्ठी करने के लिए पैसे देने पड़ते हैं कई जगह से बसेर जाती हैं और मजदूरों को पकड़ पकड़ कर लाती है तो उनको दिहाड़ी तो देनी ही पड़ेगी तो यह राजनीति में आने के लिए पैसा बहुत अहम भूमिका निभाता है धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अपनी इंग्लिश को कैसे सुधारें?Apni English Ko Kaise Sudhare
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
3:01
मक्का दोस्तों बहुत ही अच्छा प्रश्न है अपनी इंग्लिश को कैसे सुधारें तो जो को देखो दोस्त में कई बार प्रश्न आ चुका है कि अंग्रेजों कैसे सुधारें बात करते हैं देखिए जो जिस जगह पर रहता है जिस भाषा के सानिध्य में आता है वह भाषा बोलने लग जाता है बात कर लेते हैं दक्षिण भारत के लोग जैसे कि दिल्ली में आते हैं अन्य राज्यों में आते हैं हिंदी आसानी से धीरे-धीरे टूटी फूटी बोल बोल कर हिंदी बोलने लग जाते हैं हम पंजाब में जो पंजाबी हो सकता है बोलने लग जाए तो यह भी इंग्लिश भी एक प्रकार से भाषा है अगर हम किसी इंग्लिश वाले राज्य में चले जाएं यहां सानिध्य या जहां किसी देश में चले जाए तो निश्चित रूप से अंग्रेजी सीख जाएंगे विडंबना की बात है कि और गर्व की बात है कि हमारे यहां भारत में अंग्रेजी इतनी ज्यादा नहीं बोली जाती है बस ऑफिस में या कुछ पढ़ाई लिखाई बोली जाती है हम क्या करते हैं कि अंग्रेजी भाषा से दूर भागते हैं और सोचते हैं इसे सीखने की बहुत सारे सेंटर अंग्रेजी कोर्स कराने वाले इसका फायदा भी लेते हैं तो बात है कि अंग्रेजी सी कैसे दोस्त से हमें सीखना है कुछ कि हम करीब आए तो निश्चित रूप से हमें कुछ सीखने को मिलने लगेगा सबसे पहले आई तो आप अंग्रेजी का अखबार लेने अंग्रेजी का समाचार सुनाइए जी का आप मूवीस देखें और कई बार ऐसे सीरियल साथिया रामायण भाग जिसमें कि आप हिंदी बोलते हो नीचे अंग्रेजी के टाइटल सारे होते हैं ऐसे आप देखेंगे तो निश्चित रूप से आपकी अंग्रेजी इंप्रूव हो सकती है आप अखबार में जैसे कि आप रोज एक वर्ड मीनिंग रिकवरी बढ़ाते हैं किस में शब्दों का खेल है कि कौन सा शब्द किसका बोलना है वह बोलेंगे जैसे कि तो एक शब्द का अब रोज आपकी पिक सम नहीं सकते हैं आजकल तो मोबाइल पर डिस्को क्लब है तो आपको 365.bet अभी 1 साल में याद हो सकती है थोड़ा फास्ट है आपको झिझक दूर करनी है तो आपको ही अंग्रेजी स्पीकिंग कोर्स भी कर सकते हैं वह आपको एक माहौल दे सकते हैं नहीं कोशिश करें कि धन से इंस्टिट्यूट से करें यहां पर अंग्रेजी स्प्रिंग वाले लोग आते हैं नहीं तो आप किसी अन्य भाषा के लोग हाथ में ज्यादा बोलना शुरू कर दीजिए आप चाहे तो रैपिडेक्स की किताब या कई सारी जीपीएस की किताब आती है इंग्लिश ग्रामर शब्द लीजिए तो अब हिंदी के शब्द को अंग्रेजी में रख लेंगे तो आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा और यह मन में निकालने कि मैं गलत बोल रहा हूं सही बोल रहा हूं जो हम ही बोल रहे होते तो हम ऐसा कुछ नहीं सोच रहे थे कि दूसरी भाषा बोल रहे होते तो हम सोचते हैं कि इसका क्या होगा तो इसको आप ध्यान रखेंगे और अगर आप बहुत ही सुंदर एंट्री नहीं बोल पाए तो कोई बात नहीं गम नहीं आप हिंदी को अच्छा कर लीजिए आज-कल आप देखेंगे कि विदेशों में हिंदी का चलन ज्यादा आ रहा है लोग ज्यादा इसके बारे में पढ़ रहे हैं और अपनी भाषा पर विश्वास रखिए निश्चित रूप से जैसा हिंदी वालों को अंग्रेजी माफ कीजिएगा अंग्रेजी वालों को सम्मान मिलता है उसी प्रकार हिंदी वालों को भी सम्मान मिलता है कि बड़े दुख की बात है कि शहरों में बहुत सारे लोग अंग्रेजी के पीछे भाग रहे हैं अंग्रेजी टूटी फूटी आज तो इंग्लिश में वजह इंग्लिश आ गई है जो कि मिक्स इंग्लिश और हिंदी का और हिंदी के भी सही से नहीं बोल पा रहे हैं जो कि यह चिंता का विषय है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
ज्यादा मोबाइल यूज करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताइए?Jyada Mobile Use Karne Se Hone Vale Nuksan Ke Baare Mein Btaiye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:48
नमस्कार दोस्तों प्रश्न बहुत ही अच्छा है ज्यादा ज्यादा मोबाइल यूज करने से होने वाले नुकसान के बारे में बताइए तो दोस्तों एक को सबसे बड़ा नुकसान है कि आप देखेंगे आंखों के नीचे गिरा बनता जा रहा है काला महिलाओं को देखेंगे बहुत गोली होती है लेकिन उनकी आंख में ऐसा नीचे काला घेरा हो जाता जैसे किसी ने पूछा मारा हुआ है मेरे कई रिश्तेदार है मैं मजाक में बोल भी देता हूं और वह जब मेकअप करती है तो उसको छुपाने की कोशिश करती हैं एक तो यह बहुत ज्यादा देखने को मिल रहा है या पुरुषों में भी ऐसा ही मिल रहा है बात है बच्चे की बच्चे के काम चहुमुखी विकास नहीं हो रहा उसे खेलना चाहिए ग्राउंड में तो एक ही घर में कैद हो जा रहा है और हम काल्पनिक दुनिया में इतने छोटे जा रहे हैं उससे चूचियां अपन ज्यादा आप देर तक प्रयोग करते जो चिड़ा पन आ जाता है और आप कहीं कार्य करने की इच्छा नहीं रखते हैं या कार्य में बाधा आती है पति-पत्नी के जो है संबंधों में दरार आ रहा है इससे और कहीं ना कहीं व्यवस्था की समस्याएं भी बढ़ती जा रही है एक तो दूर ही होती जा रही है तो मानसिक शारीरिक रूप से हम लोग कहीं ना कहीं इससे प्रभावित हो रहे हैं चाहे बच्चे हो चाहे व्यस्त हूं चाहे वृद्धि हुई चिंता का विषय है आपको इसके टाइमिंग बनाई है और कोशिश करिए कि एंड्राइड की जगह दूसरा फोन रखिए तो ज्यादा अच्छा महसूस करेगी हो सकता है कि आपका व्यापार किस पर निर्भर करता हूं आपका नौकरी दिलवा करती हो तो आप कुछ समय के लिए इसका रहे हैं लेकिन मिला तो ऐसी एडिक्शन है मैंने देखा है कि लोग बाइक चलाते हुए ही खाती है गाड़ी में चलाते हुए व्हाट्सएप या और सोशल साइट चेक कर रहे होते जो यह नहीं जानते या तो किसी दुर्घटना के लिए तैयार हो रहे हैं या तैयारी करवा रहे हैं क्योंकि एक चिंता का विषय है इसको बहुत ही गंभीरता से लेना चाहिए धन्यवाद

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
हमारे भारत में ही जातिवाद क्यों होता है?Humare Bharat Mein He Jaativaad Kyun Hota Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:31
उसका दोस्तों प्रश्न है कि हमारे भारत में ही जातिवाद क्यों होता है तो दोस्तों हमारे भारत में क्योंकि पहले जाति प्रथा थी अंग्रेजों ने इसका बहुत ही फायदा लिया और अंग्रेजों के ही तर्ज पर हमारे राजनीतिकरण करने वाले जो व्यक्ति है राजनीति से संबंधित लोग हैं वह इसको जानते हैं किस का कैसे लाभ दिया जा सकता है तो वह जाति में भेदभाव में विश्वास रखते हैं कोई अपनी राजनीति चमकाने की कोशिश करता है तो किसी एक जात को पकड़ लेता है कोई दूसरा व्यक्ति आगे बढ़ना चाहता दूसरी जात को पकड़ लेता है तो राजनीति करना हमारे नेता करते हैं और जो मासूम जनता जो कि हमारे पढ़े लिखे हो की संख्या कम है उसी राह पर चल जाती है और इसीलिए उनका शोषण होने लग जाता है और निरंतर होता ही रहेगा लेकिन धीरे-धीरे शहरों में जहां पढ़े-लिखे लोग आ गए हैं वहां अब भावनाओं से काम नहीं किया जाता हम बात कर लेते हैं दिल्ली की दिल्ली में लाख कोशिश की लोगों ने ध्रुवीकरण करने की धार्मिक गतिविधियां से आकर्षित करने की लेकिन देखिए जो पार्टी काम कर रही है तो लोग जाकर उसको ही चुन के जो है सदन में भेज रहे हैं धीरे-धीरे ऐसे पूरे भारत में भी आने लगेगा लेकिन जब तक कि राजनीति वाले जाति से नहीं हटेंगे या जैसे की हमारे अक्षर नहीं हटे गा तब तक जातिवाद रहेगी और इसको अकेला भी जाएगा धन्यवाद

#जीवन शैली

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:19
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया एक दोहा है बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो जग दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न कोई तो दोस्तों इसका अर्थ इससे ही दोहे नहीं साफ-साफ छुपा हुआ है यानी कोई व्यक्ति बुरा ढूंढने को चला किसी को बुरा ही किसी में ढूंढने के लिए देखने के लिए निकला तो से कोई बुरा व्यक्ति नहीं मिला और जब उसने दिल से किसी बुरे रखती को या किसी की बुराई देखने को कहीं भ्रमण किया उसने देखने की कोशिश की तो उसे पता चला कि मुझसे बुरा तो कोई है ही नहीं जाने कि हमें दूसरों में दोष होने से ज्यादा अच्छा है कि स्वयं अपने में जो हमारे यहां खामियां हैं जो हमारे में गलत चीजें हैं उसको हम दूर करें खोज किस को समाप्त करें उसमें सुधार करें तो इसी तर्ज पर दोहा बना हुआ है कि हम लोग क्या करते हैं दूसरे में पूरा ही खोजते रहते हैं यह नहीं है वह नहीं है और अपने बारे में हम जानने की या सुनने की शक्ति नहीं रखते हैं तो उसको करना है इसके अंदर धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मुझे सबसे ज्यादा आलस आता है मैं क्या करूं कोई उपाय बताइए?Muje Sabse Jyada Aalas Aata Hai Me Kya Karu Koi Upay Bataye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:12
नमस्कार दोस्तों प्रार्थना कि मुझे सबसे ज्यादा आलसी आता है तो दोस्तों यह प्रश्न होना चाहिए आलस से आता है मैं क्या करूं कोई उपाय बताइए तो दोस्तों बहुत ही उपाय सरल है एक तो आपको ड्रिंक संकल्प होना लेना पड़ेगा कि मेरे को यह कार्य करना है और थोड़ा सा आपको शारीरिक गतिविधियों को बढ़ाना पड़ेगा यानी कि फिजिकल एक्टिविटी आपको ज्यादा करनी पड़ेगी कोशिश करेंगे आप टाइम से सो जाएं मोबाइल का प्रयोग कम करें या टीवी का भी आप लोग कम करें कंप्यूटर उसका प्रयोग कम करें रात को जल्दी सो जाएं और कोशिश करेंगे सवेरे आप युवा करें योग नहीं करना चाहते प्राणायाम करें प्रणाम नहीं करना चाहते तो कम से कम लिस्ट वाकिंग तेज दौड़ ही ले अगर किसी खेल में रुचि रखने तो खेल कर ले तो आपको पूरा दिन आपको ऐसा लगेगा कि स्कूटी से भरा हुआ है चेहरे पर रौनक आएगी और आलस्य दूर हो जाएगा इसके अंदर और तली चीजें जाता ना खाएं क्योंकि उससे भी या हैवी फूड जैसे मसाले वाले ना खाएं क्योंकि इससे भी काफी अलग किया जाता है निश्चित रूप से ऐसा करेंगे तो आप को देखेंगे कि आप बहुत ही आनंद आएगा और चेहरे पर निश्चित रूप से लालिमा आने लगेगी आपकी और आप फटाफट काम करते रहेंगे और स्कूटी उमंग बिल्कुल आप में भर जाएगी धन्यवाद

#भारत की राजनीति

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:30
नमस्कार दोस्तों प्रश्न कि आगे बजाज ईएमआई कार्ड और एसडीवीएम आई कार्ड में से दोनों में से किसके बेनिफिट ज्यादा है मैं किस के प्रोडक्ट फाइनेंस किस से प्रोडक्ट फाइनेंस करानी चाहिए तो दोस्तों में बताना चाहता हूं बात है फाइनेंस की तो जैसे कि ज्यादातर जोक अंजू में और बूट्स हैं जो आपके टीवी हो गया प्लीज हो गया लैपटॉप हो गया कंप्यूटर सो गए मोबाइल सो गए तो जाकर इस पर 0% चार्ज होता है कोई ब्याज नहीं होता है लेकिन आरबीआई की गाइडलाइंस है कि अब जीरो परसेंट नहीं कर सकते तो आपसे कुछ चाय लेते हैं प्रोसेसिंग चार्ज के नाम पर कुछ फाइल चार्ज के नाम पर लेते हैं और कुछ रेट ऑफ इंटरेस्ट बहुत मामूली सा होता है या ना के बराबर ही होता है प्रश्न है कि दो ईएमआई कार्ड में से कौन सा ले तो दोस्तों आपको वैसे ही ईएमआई कार्ड की जरूरत नहीं होती है या माई कार्ड कंपनी वाले बनाकर आपको दे देते हैं वह आपको कोई फाइनेंस कराएंगे तो बजाज वाला जाएगा ईएमआई कार्ड बनवाना पड़ेगा आपको क्योंकि इसके टारगेट सोते हैं उन लोगों के अभिन्न आई एम आई कार्ड के लिए फाइनेंस करा सकते हैं कंपनी का ही रहता है यह फाइनेंस कार्ड देकर रखेंगे तो कभी ना कभी कस्टमर आसानी से इसे कुछ खरीदेगा मेन है प्रश्न है कि एक तो हर साल आपके चार्जेस लगेंगे जैसे आपके डेबिट कार्ड के जरिए लगते हैं वैसे इसके लगेंगे लगभग 100 से ₹200 के बीच में कंपनियां करती है अब बात है बेनिफिट की तो आपको ही तो देखना है कि ईयरली चार्जेस कितने हैं कार्ड बनाने के उजाला नहीं होंगे निश्चित रूप से दोनों में और दोनों का स्थिति में कौन-कौन सी आती रहती हैं जैसे सबसे ज्यादा जो फेमस है पहले सबसे ज्यादा ही है माई कार्ड जो लांच किए हैं वह बजाज ने की है तो निश्चित रूप से बजाज ईएमआई कार्ड का अनुभव ज्यादा होगा लोगों को और ज्यादा बेनिफिट देते होंगे दूसरे कार्ड का भी देख सकते हैं जो आपने यह दूसरा कार्ड बोला है यह तो सुना भी नहीं हुआ है अभी ज्यादा चला नहीं हुआ है नहीं बजाज ईएमआई कार्ड लोग ज्यादातर धारण करते हैं अगर आपको कभी कबार लोन लेना होता होगा तो आप कार्ड ना लेने कोई कार्ड की लगते रहेंगे आपको आगे आपको कई कंफर्टेबिलिटी रखनी है कि आपको कोई ना कोई चीज बीच में लेते रहना है या स्कीम्स का आए तो फायदा लेना है तो आप कार्ड बनवा सकते हैं जो महंगा सौदा नहीं लेकिन आपने बस ब्याज देखना है इसके अंदर ब्याज मैंने आपको पहले ही बताया कि 0% पर जाकर कंज्यूमर गुड्स होते हैं तो आप दोनों में से कोई कार्ड बनवा सकते हैं लेकिन प्रेफरेंस में दूंगा कि अब बजाज का बनवाए तो ज्यादा अच्छा रहेगा धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
खुद से सकारात्मक बातें करने के क्या फायदे होते हैं?Khud Se Sakaratmak Baate Karne Ke Kya Fayde Hote Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:12
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया खुद से सकारात्मक बातें करने के क्या फायदे होते हैं तो दोस्तों सकारात्मक अगर आप बातें खुद ही करते हैं सकारात्मक कोई किताबें पढ़ते हैं सकारात्मक कोई चलचित्र देखते हैं सकारात्मक लोगों के सानिध्य में रहते हैं सकारात्मक कोई चीजें सुनते हैं तो निश्चित रूप से आप भी सकारात्मक रहेंगे इसके विपरीत आप नकारात्मक व्यक्तियों की बातें सुने के नकारात्मक नकारात्मक चलचित्र देखेंगे नकारात्मक हो सकता है कि आप दुखी होंगे आप नकारात्मकता की तरफ जा रहे होंगे लेकिन बहुत सारी चीजें सकारात्मकता निश्चित रूप से आती है तो इसका सबसे बड़ा फायदा है और बोल कर आप भी एक सकारात्मक दृष्टि से आप देख सकते हैं उसको आप इसमें बहुत सारे जो हमारे वक्ता हैं जो आप को प्रेरित करते रहते हैं सकारात्मक बातें करते रहते हैं उससे भी सुन के ज्ञान प्राप्त हो सकता है और आप कभी अपने आपको अकेला महसूस कर दुखी महसूस करें तो उसमें आप अपना प्रश्न डाल सकते हैं जो कि गुप्त होता है और निश्चित रूप से आपको इसका हल मिलेगा नकारात्मकता की राह दिखाई जाएगी और आप को सफल बनाने के लिए आपका दुख अंत करने के लिए कोई ना कोई धर्म आप कोई से बताया जाएगा तो मस्त रहें प्रसन्न रहें धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya khud se sakaaraatmak baaten karane ke kya phaayade hote hain to doston sakaaraatmak agar aap baaten khud hee karate hain sakaaraatmak koee kitaaben padhate hain sakaaraatmak koee chalachitr dekhate hain sakaaraatmak logon ke saanidhy mein rahate hain sakaaraatmak koee cheejen sunate hain to nishchit roop se aap bhee sakaaraatmak rahenge isake vipareet aap nakaaraatmak vyaktiyon kee baaten sune ke nakaaraatmak nakaaraatmak chalachitr dekhenge nakaaraatmak ho sakata hai ki aap dukhee honge aap nakaaraatmakata kee taraph ja rahe honge lekin bahut saaree cheejen sakaaraatmakata nishchit roop se aatee hai to isaka sabase bada phaayada hai aur bol kar aap bhee ek sakaaraatmak drshti se aap dekh sakate hain usako aap isamen bahut saare jo hamaare vakta hain jo aap ko prerit karate rahate hain sakaaraatmak baaten karate rahate hain usase bhee sun ke gyaan praapt ho sakata hai aur aap kabhee apane aapako akela mahasoos kar dukhee mahasoos karen to usamen aap apana prashn daal sakate hain jo ki gupt hota hai aur nishchit roop se aapako isaka hal milega nakaaraatmakata kee raah dikhaee jaegee aur aap ko saphal banaane ke lie aapaka dukh ant karane ke lie koee na koee dharm aap koee se bataaya jaega to mast rahen prasann rahen dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Kaaran Hai Aajakal Choree Aur Dakaitee Badhatee Hee Ja Rahee Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:59
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया कि क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है तो दोस्तों जैसा कि आप साथ में बच्चों को पढ़ाया जाता है कि आय की असमानता तो सबसे ज्यादा जो है दोस्तों हमारे यहां आय की असमानता भारत में चरम सीमा पर है बात करें सरकारी नौकरी वालों की तो दिन पर दिन इस खेल बढ़ते जाते हैं लाख-लाख रुपए की सैलरी हो चुकी है गरीब आदमी गरीब मजदूर 8 से ₹10000 में कमाई कर रहा है तो दोस्त मानता है काफी बीच में गड्ढा हो जाता है तो मान लो किसी के पास खाने को नहीं है तो उसके पास कोई ऑप्शन नहीं आया तो वह तड़प तड़प के मर जाए या लूट के खा ले उसके खाने में मजा आता है तो बहुत ही मजा आने लग जाता है मैंने दिल्ली शहर में देखा देखा है कि लोगों की काफी आमदनी बढ़ गई है या चाय सरकारी के रूप में हो चाहे व्यापार से बड़ी हो चेन स्नेचिंग आम बात हो जाती है लेकिन कोई कंप्लेंट भी लिखवाता है क्योंकि उसकी परचेसिंग पावर काफी बढ़ चुकी होती है उसको वह होता है क्या पुलिस के 44 की कोई बात नहीं आ जाएगी तो निश्चित रूप से अपराध बढ़ेंगे और इस में निश्चित रूप से पुलिस का रवैया भी हम नकार नहीं सकते आजकल साइबर फ्रॉड हो रहे हैं आप देख रहे होंगे एक प्रकार का डकैती से भी ज्यादा बड़ा फ्रॉड है लेकिन सी कंप्लेंट ही नहीं लिखी जाती है उसको फ्रॉड को पकड़ना भारत में कहीं पैसा उसमें ट्रांसफर कराया है तो तुरंत एक्शन ले कर उसको पकड़ा जा सकता है ब्रॉड करने नहीं पता है कि हमारे कानूनी व्यवस्था चरमराई हुई है आधे लोग तो कंप्लेंट भी नहीं लिख पाते जो कमरे लिखवाने जाते हैं उनकी लिखी नहीं जाती है कोई शक्तिशाली व्यक्ति होता है तो एक दो परसेंट लिख दी जाती है उसके शिकार ऐसा नहीं होता कि पुलिस वाले नहीं होते वह भी शिकार होते हैं तंत्र अच्छा रहेगा तो अंकुश लगाया जा सकता है लेकिन आय की असमानता को सरकार का काम नहीं करेगी विकास बस दिखाएगी की अमीरों का ही विकास हो रहा है तो उससे भी भयावह स्थिति आगे हो सकती है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ki kya kaaran hai aajakal choree aur dakaitee badhatee hee ja rahee hai to doston jaisa ki aap saath mein bachchon ko padhaaya jaata hai ki aay kee asamaanata to sabase jyaada jo hai doston hamaare yahaan aay kee asamaanata bhaarat mein charam seema par hai baat karen sarakaaree naukaree vaalon kee to din par din is khel badhate jaate hain laakh-laakh rupe kee sailaree ho chukee hai gareeb aadamee gareeb majadoor 8 se ₹10000 mein kamaee kar raha hai to dost maanata hai kaaphee beech mein gaddha ho jaata hai to maan lo kisee ke paas khaane ko nahin hai to usake paas koee opshan nahin aaya to vah tadap tadap ke mar jae ya loot ke kha le usake khaane mein maja aata hai to bahut hee maja aane lag jaata hai mainne dillee shahar mein dekha dekha hai ki logon kee kaaphee aamadanee badh gaee hai ya chaay sarakaaree ke roop mein ho chaahe vyaapaar se badee ho chen sneching aam baat ho jaatee hai lekin koee kamplent bhee likhavaata hai kyonki usakee parachesing paavar kaaphee badh chukee hotee hai usako vah hota hai kya pulis ke 44 kee koee baat nahin aa jaegee to nishchit roop se aparaadh badhenge aur is mein nishchit roop se pulis ka ravaiya bhee ham nakaar nahin sakate aajakal saibar phrod ho rahe hain aap dekh rahe honge ek prakaar ka dakaitee se bhee jyaada bada phrod hai lekin see kamplent hee nahin likhee jaatee hai usako phrod ko pakadana bhaarat mein kaheen paisa usamen traansaphar karaaya hai to turant ekshan le kar usako pakada ja sakata hai brod karane nahin pata hai ki hamaare kaanoonee vyavastha charamaraee huee hai aadhe log to kamplent bhee nahin likh paate jo kamare likhavaane jaate hain unakee likhee nahin jaatee hai koee shaktishaalee vyakti hota hai to ek do parasent likh dee jaatee hai usake shikaar aisa nahin hota ki pulis vaale nahin hote vah bhee shikaar hote hain tantr achchha rahega to ankush lagaaya ja sakata hai lekin aay kee asamaanata ko sarakaar ka kaam nahin karegee vikaas bas dikhaegee kee ameeron ka hee vikaas ho raha hai to usase bhee bhayaavah sthiti aage ho sakatee hai dhanyavaad

#18+

bolkar speaker
लोग टाइम्स सेक्स करने का तरीका क्या है?Log Taims Seks Karane Ka Tareeka Kya Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:53
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि लोंग टाइम सेक्स करने का तरीका क्या है तो दोस्तों में बताना चाहता हूं कि आपको पहले बहुत सारे ऐसे युवक हैं जो जोश में आकर मात्र भेदन करने पर विश्वास करते हैं तो दोस्तों भेदन सबसे आखरी कदम होता है जब तक कि कोई कन्या भेदन के लिए मजबूर ना हो जाए तो आपने पहले आलिंगन करना है चुंबन करना है इन सब चीजों का प्रयोग करना है कि शाम 4:00 प्लेन बोलते हैं या ओरल सेक्स भी बोलते हैं तो इससे क्या होता है कि लड़की में भी उत्तेजना आ जाती है लेकिन सबसे उत्तेजित करने वाली जगह होती हैं लड़की के कान का चुंबन कर सकते हो कंधे पर चुंबन कर सकते हो इस तन का चुंबन कर सकते हो और भी गुप्तांग चुंबन करके पैरों के अंगूठे को चुंबन कर सकते हो अपने नाखूनों का हल्के हल्के प्रयोग करके चला सकते हो तो लड़की में काफी उत्तेजना से भाग जाती है तो वह एक प्रकार से बेचैन हो जाती है वेतन करने के लिए तब आप देखेंगे कि आपकी संतुष्टि और आपके साथी की संतुष्टि अच्छी होएगी और जब भेदन करने का समय आपको लगेगा कि बहुत अच्छा रहा तो इसी प्रकार से लॉन्ग टाइम लिया जा सकता है बहुत सारे युवा हमारे गोलियों का भी सहारा ले रहे हैं देश के साइड इफेक्ट्स भी होते हैं लेकिन अगर ना हो मजबूरी हो तभी दवाइयां लेनी चाहिए अन्यथा ओरल सेक्स मैं भी बहुत अच्छा मजा आ सकता है दोनों पार्टनर रोको धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki long taim seks karane ka tareeka kya hai to doston mein bataana chaahata hoon ki aapako pahale bahut saare aise yuvak hain jo josh mein aakar maatr bhedan karane par vishvaas karate hain to doston bhedan sabase aakharee kadam hota hai jab tak ki koee kanya bhedan ke lie majaboor na ho jae to aapane pahale aalingan karana hai chumban karana hai in sab cheejon ka prayog karana hai ki shaam 4:00 plen bolate hain ya oral seks bhee bolate hain to isase kya hota hai ki ladakee mein bhee uttejana aa jaatee hai lekin sabase uttejit karane vaalee jagah hotee hain ladakee ke kaan ka chumban kar sakate ho kandhe par chumban kar sakate ho is tan ka chumban kar sakate ho aur bhee guptaang chumban karake pairon ke angoothe ko chumban kar sakate ho apane naakhoonon ka halke halke prayog karake chala sakate ho to ladakee mein kaaphee uttejana se bhaag jaatee hai to vah ek prakaar se bechain ho jaatee hai vetan karane ke lie tab aap dekhenge ki aapakee santushti aur aapake saathee kee santushti achchhee hoegee aur jab bhedan karane ka samay aapako lagega ki bahut achchha raha to isee prakaar se long taim liya ja sakata hai bahut saare yuva hamaare goliyon ka bhee sahaara le rahe hain desh ke said iphekts bhee hote hain lekin agar na ho majabooree ho tabhee davaiyaan lenee chaahie anyatha oral seks main bhee bahut achchha maja aa sakata hai donon paartanar roko dhanyavaad

#18+

bolkar speaker
क्या लिंग वृद्धि करने की कोई दवाई आती है?Kya Ling Vriddhi Karne Ki Koi Davai Aati Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:43
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि क्या लिंग वृद्धि कर देगी कोई दवाई आती है तो दोस्तों में बताना चाहता हूं आपको प्रतापगढ़ में पोस्ट कई सारे दिख जाएंगे कि लिंग वृद्धि करें लेकिन दोस्तों बताना चाहता हूं ऐसी कोई भी दवाई नहीं बनिया जिससे कि लिंग वृद्धि हो सके हां कुछ समय के लिए लिंग में इजाफा हो सकता है लेकिन वृद्धि नहीं हो सकती है लेकिन नवयुवक आजकल उस इतिहास को देखकर झोलाछाप डॉक्टरों के पास जाते हैं और उनका वह शोषण करते हैं आर्थिक रूप से मानसिक रूप से दोस्तों ऐसी कोई दवाई नहीं है जिससे कि लिंग बड़ा हो जाए ना ही किसी लक्ष्य की हाइट बढ़ सकती है इसके अंदर तो हमेशा दूर रहें और जैसा भी नहीं होता है वह टेक्स्ट की संतुष्टि करने में सक्षम होता है तो घबराएं नहीं मस्त रहें धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki kya ling vrddhi kar degee koee davaee aatee hai to doston mein bataana chaahata hoon aapako prataapagadh mein post kaee saare dikh jaenge ki ling vrddhi karen lekin doston bataana chaahata hoon aisee koee bhee davaee nahin baniya jisase ki ling vrddhi ho sake haan kuchh samay ke lie ling mein ijaapha ho sakata hai lekin vrddhi nahin ho sakatee hai lekin navayuvak aajakal us itihaas ko dekhakar jholaachhaap doktaron ke paas jaate hain aur unaka vah shoshan karate hain aarthik roop se maanasik roop se doston aisee koee davaee nahin hai jisase ki ling bada ho jae na hee kisee lakshy kee hait badh sakatee hai isake andar to hamesha door rahen aur jaisa bhee nahin hota hai vah tekst kee santushti karane mein saksham hota hai to ghabaraen nahin mast rahen dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:27
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया कि अगर आज के आधुनिक युग में हम टेक्नोलॉजी का यूज करना बंद करते हैं या फिर यूज़ करे तो उसके क्या फायदे और क्या नुकसान हो सकते हैं तो दोस्तों सब टेक्नोलॉजी नहीं आई थी तो भी मदद से जीवन इससे भी हो सकता है आप देखेंगे मानसिक शारीरिक रूप से बहुत अच्छा चल रहा था टेक्नॉलॉजी आई अच्छी बात है लेकिन इसके दुष्परिणाम भी काफी होते हैं बहुत सारे लोग बेरोजगार बेरोजगार हो जाते हैं 111 कहने का मतलब है कि एक समुदाय के व्यक्ति बेरोजगार होते हैं कुछ लोग उसके बदले रोजगार प्राप्त कर लेते हैं और इसके कुछ शारीरिक दोस्त भी हैं आंखों की प्रॉब्लम डिप्रेशन की प्रॉब्लम बहुत काम आसान भी हो गए हैं तो लेकिन इसमें इसका संतुलन बना कर रखना वह ज्यादा जरूरी है टेक्नोलॉजी को सकारात्मक रूप में प्रयोग करना स्कोर देखना है लेकिन हम आजकल टेक्नोलॉजी के चक्कर में घर के अंदर घुसते जा रहे हैं सामाजिक दुनिया खत्म करते जा रहे हैं और इसका अति प्रयोग कर रहे हैं जो कि काफी नुकसानदायक है और आगे इसके दुष्परिणाम निश्चित रूप से देखने को मिल भी रहे हैं और आगे भी भयावह परेशानियां देखने को मिल सकती है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ki agar aaj ke aadhunik yug mein ham teknolojee ka yooj karana band karate hain ya phir yooz kare to usake kya phaayade aur kya nukasaan ho sakate hain to doston sab teknolojee nahin aaee thee to bhee madad se jeevan isase bhee ho sakata hai aap dekhenge maanasik shaareerik roop se bahut achchha chal raha tha teknolojee aaee achchhee baat hai lekin isake dushparinaam bhee kaaphee hote hain bahut saare log berojagaar berojagaar ho jaate hain 111 kahane ka matalab hai ki ek samudaay ke vyakti berojagaar hote hain kuchh log usake badale rojagaar praapt kar lete hain aur isake kuchh shaareerik dost bhee hain aankhon kee problam dipreshan kee problam bahut kaam aasaan bhee ho gae hain to lekin isamen isaka santulan bana kar rakhana vah jyaada jarooree hai teknolojee ko sakaaraatmak roop mein prayog karana skor dekhana hai lekin ham aajakal teknolojee ke chakkar mein ghar ke andar ghusate ja rahe hain saamaajik duniya khatm karate ja rahe hain aur isaka ati prayog kar rahe hain jo ki kaaphee nukasaanadaayak hai aur aage isake dushparinaam nishchit roop se dekhane ko mil bhee rahe hain aur aage bhee bhayaavah pareshaaniyaan dekhane ko mil sakatee hai dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक लड़का किसी लड़की से मन भर जाने पर, किस तरह की हरकतों से उससे पीछा छुड़ाने का प्रयास करता है?Ek Ladaka Kisee Ladakee Se Man Bhar Jaane Par Kis Tarah Kee Harakaton Se Usase Peechha Chhudaane Ka Prayaas Karata Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:51
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि एक लड़का किसी लड़की से मन भर जाने पर किस तरह की हरकतों से उस से पीछा छुड़ाने का प्रयास करता है तो दोस्तों या तो जो लड़की साथ रहती है उसको इसका आभास होने लग जाता है वह आंखो द्वारा हो जाता है उसके व्यवहार से हो जाता है कई बार ऐसा होता है कि लड़का पीछा छुड़ाना चाहता है तो वह नजरअंदाज करने लग जाता है तेज आवाज ही बोलता है उसका ध्यान नहीं देता है पहले गिफ्ट दिया करता था उपहार नहीं देता है ऐसे तो यही एक चीजें हैं जिसका लड़की को आभास हो जाता है वह हर व्यक्ति को इन सब चीजों का आभास हो जाता है शब्दों से ही पता चल जाता है कि व्यक्ति हमें चाहता है या नहीं चाहता है जीवन में आप कितने लोगों से मिलेंगे आप को सब पता चल जाता है वैसे ही लड़की को भी निश्चित रूप से पता चल जाता है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki ek ladaka kisee ladakee se man bhar jaane par kis tarah kee harakaton se us se peechha chhudaane ka prayaas karata hai to doston ya to jo ladakee saath rahatee hai usako isaka aabhaas hone lag jaata hai vah aankho dvaara ho jaata hai usake vyavahaar se ho jaata hai kaee baar aisa hota hai ki ladaka peechha chhudaana chaahata hai to vah najarandaaj karane lag jaata hai tej aavaaj hee bolata hai usaka dhyaan nahin deta hai pahale gipht diya karata tha upahaar nahin deta hai aise to yahee ek cheejen hain jisaka ladakee ko aabhaas ho jaata hai vah har vyakti ko in sab cheejon ka aabhaas ho jaata hai shabdon se hee pata chal jaata hai ki vyakti hamen chaahata hai ya nahin chaahata hai jeevan mein aap kitane logon se milenge aap ko sab pata chal jaata hai vaise hee ladakee ko bhee nishchit roop se pata chal jaata hai dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:11
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया अधिकतर लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरफ अट्रैक्शन क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है जबकि वह सच्चा लव भी करते हैं तो भी अन्य लड़कियों के साथ अटैच हो जाते हैं तो दोस्तों में बताना चाहता हूं कि यह आकर्षण जो है मनुष्य में चाहे स्त्री हो या पुरुष स्तर प्रदत्त है अगर आकर्षण नहीं आई होगा तो सृष्टि नहीं चलेगी तो विपरीत सेक्स के प्रति आकर्षण बनाया गया है तो लड़का है लड़कियों की सुंदरता के प्रति आकर्षित हो जाता है उसके व्यवहार से आकर्षित हो जाता है उसकी सारी की स्थिति को देखकर आकर्षित हो जाता है ऐसी लड़कियां भी आकर्षित होती है लेकिन लड़कियां को खुलकर बोलने की जैसे भारत में आजादी नहीं रही थी अब धीरे-धीरे शहरों में लड़कियां भी खुल कर बोल रही है लड़कियों के अपने भी मित्र बहुत सारे हैं वह भी आकर्षित होती है तो उत्तर प्रदेश है आकर्षण बना रहेगा तभी प्यार होगा तो यह प्राकृतिक चीज है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya adhikatar ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee taraph atraikshan kyon hota hai isake peechhe kya reejan hai jabaki vah sachcha lav bhee karate hain to bhee any ladakiyon ke saath ataich ho jaate hain to doston mein bataana chaahata hoon ki yah aakarshan jo hai manushy mein chaahe stree ho ya purush star pradatt hai agar aakarshan nahin aaee hoga to srshti nahin chalegee to vipareet seks ke prati aakarshan banaaya gaya hai to ladaka hai ladakiyon kee sundarata ke prati aakarshit ho jaata hai usake vyavahaar se aakarshit ho jaata hai usakee saaree kee sthiti ko dekhakar aakarshit ho jaata hai aisee ladakiyaan bhee aakarshit hotee hai lekin ladakiyaan ko khulakar bolane kee jaise bhaarat mein aajaadee nahin rahee thee ab dheere-dheere shaharon mein ladakiyaan bhee khul kar bol rahee hai ladakiyon ke apane bhee mitr bahut saare hain vah bhee aakarshit hotee hai to uttar pradesh hai aakarshan bana rahega tabhee pyaar hoga to yah praakrtik cheej hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या आपको लगता है कि बीजेपी की लोकप्रियता कम हो गई है और किसान विरोध के कारण विपक्षी दल उठ गए हैं?Kya Aapako Lagata Hai Ki Beejepee Kee Lokapriyata Kam Ho Gaee Hai Aur Kisaan Virodh Ke Kaaran Vipakshee Dal Uth Gae Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:33
नमस्कार दोस्तों प्लस नहीं क्या आपको लगता है कि बीजेपी की लोकप्रियता कम हो गई है और किसान विरोध के कारण विपक्षी दल उठ गए हैं तो दोस्तों में बताना चाहता हूं कि जो किसान विरोध कर रहे हैं वह चंद मुट्ठी भर के किसान हैं पूरे देश के किसान नहीं है बड़ा हरियाणा से और पंजाब से कुछ किसान है जो कि किसान बहुत बड़े हैं जो कि कभी खेती करा करते थे लेकिन अब बस वसूली करते हैं छोटे किसानों से कार्य कराते हैं बाद में लोकप्रियता की तो दोस्तों लोकप्रियता कम ज्यादा होती रहती है लेकिन सारा खेल होता है कि जब चुनाव आते हैं उस समय क्या हवा चल रही है जिसे हम राजनीतिक भाषा में लहर भी बोलते हैं जैसे कि जब इलेक्शन हुआ अभी पीछे तो ऐसा लग रहा था कि मोदी सरकार की हालत बारी काफी खराब है लेकिन जैसी सर्जिकल स्ट्राइक हुआ पाकिस्तान पर सारी मनोदशा लोगों की बदल गई और देश के प्रति लोगों की श्रद्धा उमड़ पड़ी और बीजेपी को पूर्ण रूप से वोट मिले और विजई बनाया जनता ने ऐसे ही जब चुनाव होता है उसके ऊपर काफी निर्भर करता है कई बार हमने देखा दिल्ली में मात्र पंजाब प्याज के रेट के उछाल से ही बीजेपी की सरकार चली गई और अब उसके बाद कभी नहीं आ पाई तो उसके ऊपर निर्भर करता है कि क्या अभी चल रहा है क्या नहीं चल रहा है लोकप्रियता बहुत दिनों तक लोग याद नहीं रखते या उससे नाराज नहीं रहते हैं तो यह तो चुनाव ही बताएगा धन्यवाद
Namaskaar doston plas nahin kya aapako lagata hai ki beejepee kee lokapriyata kam ho gaee hai aur kisaan virodh ke kaaran vipakshee dal uth gae hain to doston mein bataana chaahata hoon ki jo kisaan virodh kar rahe hain vah chand mutthee bhar ke kisaan hain poore desh ke kisaan nahin hai bada hariyaana se aur panjaab se kuchh kisaan hai jo ki kisaan bahut bade hain jo ki kabhee khetee kara karate the lekin ab bas vasoolee karate hain chhote kisaanon se kaary karaate hain baad mein lokapriyata kee to doston lokapriyata kam jyaada hotee rahatee hai lekin saara khel hota hai ki jab chunaav aate hain us samay kya hava chal rahee hai jise ham raajaneetik bhaasha mein lahar bhee bolate hain jaise ki jab ilekshan hua abhee peechhe to aisa lag raha tha ki modee sarakaar kee haalat baaree kaaphee kharaab hai lekin jaisee sarjikal straik hua paakistaan par saaree manodasha logon kee badal gaee aur desh ke prati logon kee shraddha umad padee aur beejepee ko poorn roop se vot mile aur vijee banaaya janata ne aise hee jab chunaav hota hai usake oopar kaaphee nirbhar karata hai kaee baar hamane dekha dillee mein maatr panjaab pyaaj ke ret ke uchhaal se hee beejepee kee sarakaar chalee gaee aur ab usake baad kabhee nahin aa paee to usake oopar nirbhar karata hai ki kya abhee chal raha hai kya nahin chal raha hai lokapriyata bahut dinon tak log yaad nahin rakhate ya usase naaraaj nahin rahate hain to yah to chunaav hee bataega dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं को आत्मनिर्भर बनाने की ओर बढ़ रही है?Bjp Apane Karyakartaon Ko Aatmanirbhar Bnane Ki Or Badh Rahi Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:04
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं को आत्मनिर्भर बनाने की ओर बढ़ रही है तो दोस्तों यह प्रश्न राजनीति में आत्मनिर्भरता का कोई फायदा नहीं होता है यहां पर चापलूसी यहां पर धन और यहां पर आपका कितना दबदबा है कितनी ऊपर सेटिंग है उसके ऊपर निर्भर करता है और ज्यादातर जो क्षेत्र में आगे बढ़ पाते हैं वह स्वयं पहले से ही आत्मनिर्भर होते हैं तो ऐसा नहीं है कि वह आत्म निर्भरता की ओर बढ़ रहे हैं वह सारे ऐसे लोग हैं जो जीते हुए भी ज्यादातर हैं तो वह मोदी जी के नाम पर जीते में उन्हें पता है कि अपना हमारा कोई अस्तित्व नहीं है अगर हम इलेक्शन में खड़े होंगे तो जीत भी नहीं पाएंगे पैसे भी बेकार हो जाएंगे तो यह प्रश्न आत्मनिर्भरता का मेरे को नहीं लगता कि यह किसी राजनीतिक पार्टी के लिए सही है क्योंकि भारत में जो कुख्यात होता है जिसके बाद पैसा बहुत ज्यादा होता है राजनीति में आसानी से अपनी पैठ बना पाता है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki beejepee apane kaaryakartaon ko aatmanirbhar banaane kee or badh rahee hai to doston yah prashn raajaneeti mein aatmanirbharata ka koee phaayada nahin hota hai yahaan par chaapaloosee yahaan par dhan aur yahaan par aapaka kitana dabadaba hai kitanee oopar seting hai usake oopar nirbhar karata hai aur jyaadaatar jo kshetr mein aage badh paate hain vah svayan pahale se hee aatmanirbhar hote hain to aisa nahin hai ki vah aatm nirbharata kee or badh rahe hain vah saare aise log hain jo jeete hue bhee jyaadaatar hain to vah modee jee ke naam par jeete mein unhen pata hai ki apana hamaara koee astitv nahin hai agar ham ilekshan mein khade honge to jeet bhee nahin paenge paise bhee bekaar ho jaenge to yah prashn aatmanirbharata ka mere ko nahin lagata ki yah kisee raajaneetik paartee ke lie sahee hai kyonki bhaarat mein jo kukhyaat hota hai jisake baad paisa bahut jyaada hota hai raajaneeti mein aasaanee se apanee paith bana paata hai dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:09
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है मेरी पत्नी बार-बार मुझे अहसास करवाती है कि मैं दिखने में अच्छा नहीं हूं मैं काफी अवसाद ग्रस्त होते जा रहा हूं क्या करूं दोस्तों बात करने की है तो कई बार ऐसा होता है कि वह हृदय से ऐसा नहीं कह रही होती है वह आपसे ठिठोली कर सकती है मजाक कर सकती है क्योंकि हो सकता है कि आप भी मुझसे कभी ऐसा मजाक करते होंगे अगर ऐसा नहीं भी है तो आप अपने पर विश्वास रखें अपने में आत्मविश्वास जागृत करें और अपनी पत्नी को बताएं मैं लाखों में से एक हूं जिससे तुम्हारे परिवार वालों ने मुझे पसंद करके विवाह किया है और अपने में नकारात्मक का नाम है हर व्यक्ति सुंदर होता है भगवान ने रचना की है बस समय समय का फेर होता है पहचानने वाले शक्ति होती है कई बार देखा होगा कि बहुत ही जो अमीर व्यक्ति हो जाते हैं ऐसा आ जाता है नाम आ जाता है यार कोई फेल हो जाता है इसमें रंग रूप कोई नहीं देखता कही आप देखेंगे जो सफल व्यक्ति हैं उनका रंग रूम हो सकता है आप से भी खराब हो लेकिन लोगों को चाहते हैं पूजा करते हैं उनकी तो आपको घबराने वाली बात नहीं है आप अपने विश्वास रखिए इसको ज्यादा गंभीरता से ना लें कई बार स्त्रियां मजाक करती रहती है पति भी कर लेते हैं मजाक तो आप भी मजाक में उससे उसके बारे में कुछ बता सकते हैं कि तेरा मेरी यह कमी है तो सुंदर नहीं है बात है मजाक की लेकिन आप अपने विश्वास रखिए निश्चित रूप से आपकी पत्नी मेरा मानना है कि वह वैसे आपका सम्मान करती होगी आदर करती होगी वह एक मजाक का ही पात्र है उसे गंभीरता से ना लें धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai meree patnee baar-baar mujhe ahasaas karavaatee hai ki main dikhane mein achchha nahin hoon main kaaphee avasaad grast hote ja raha hoon kya karoon doston baat karane kee hai to kaee baar aisa hota hai ki vah hrday se aisa nahin kah rahee hotee hai vah aapase thitholee kar sakatee hai majaak kar sakatee hai kyonki ho sakata hai ki aap bhee mujhase kabhee aisa majaak karate honge agar aisa nahin bhee hai to aap apane par vishvaas rakhen apane mein aatmavishvaas jaagrt karen aur apanee patnee ko bataen main laakhon mein se ek hoon jisase tumhaare parivaar vaalon ne mujhe pasand karake vivaah kiya hai aur apane mein nakaaraatmak ka naam hai har vyakti sundar hota hai bhagavaan ne rachana kee hai bas samay samay ka pher hota hai pahachaanane vaale shakti hotee hai kaee baar dekha hoga ki bahut hee jo ameer vyakti ho jaate hain aisa aa jaata hai naam aa jaata hai yaar koee phel ho jaata hai isamen rang roop koee nahin dekhata kahee aap dekhenge jo saphal vyakti hain unaka rang room ho sakata hai aap se bhee kharaab ho lekin logon ko chaahate hain pooja karate hain unakee to aapako ghabaraane vaalee baat nahin hai aap apane vishvaas rakhie isako jyaada gambheerata se na len kaee baar striyaan majaak karatee rahatee hai pati bhee kar lete hain majaak to aap bhee majaak mein usase usake baare mein kuchh bata sakate hain ki tera meree yah kamee hai to sundar nahin hai baat hai majaak kee lekin aap apane vishvaas rakhie nishchit roop se aapakee patnee mera maanana hai ki vah vaise aapaka sammaan karatee hogee aadar karatee hogee vah ek majaak ka hee paatr hai use gambheerata se na len dhanyavaad

#भारत की राजनीति

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:49
नमस्कार दोस्तों प्रार्थना है कि आज का सवाल है कि हम हैं हमारे संस्कृत डॉक्यूमेंट को कैसे जी को रख सकते हैं ऐसे कौन से तरीके हैं प्लीज विस्तार से कहिए तो दोस्तों बहुत सारे ऐसे जो डाक्यूमेंट्स है जैसे कि ड्राइविंग लाइसेंस हो गया पॉलिसी की कॉपी हो गई या आरती की कॉपी हो गई जो सरकार नहीं जाता दस्तावेज हैं तो सरकार ने आपको एक सुविधा दिए डीजी लॉकर कि आप उस ऐप पर जाकर या वेबसाइट पर जाकर वहां पर आप लॉगइन आईडी बना सकते हैं या आधार ओटीपी ओटीपी से भी वह आसानी से बन जाता है तो उसमें यह सारे जरूरी दस्तावेज रख सकते हैं और कई जगह उसकी कॉपी डिजी लॉकर की माननी होती है अभी सुनने में आएगी पासपोर्ट भी इसके जरिए इस में रखा जा सकता है और भी आपके जो डाक्यूमेंट्स हैं जैसे सीबीएससी की मां सीट है याद रेशम के मार्कशीट जाए तो उसका आप स्कैन कर ले स्कैन करके मोबाइल में या कंप्यूटर में आप रख सकते हैं किसी पेन ड्राइव में रख सकते हैं जितनी ज्यादा जगह रखेंगे उतना अगर कहीं खो जाए या कोई कारण से कहीं भूल जाएं तो आसानी से उसकी आंखों की रख सकते हैं और अपने डॉक्यूमेंट को सुरक्षित रखने के लिए बहुत सारे लोगों के पास बैंक के लॉकर की भी होते हैं ब्लॉक में भी आप रख सकते हैं भी तो घर में आप सुरक्षित तो रखी सकते हैं लेकिन जो एडीजी आप मैंने बताया जो सरकार का एक ही सेटिंग है उसमें बहुत सारी सुविधाएं आ गई है आप बहुत सारे दोहे डॉक्यूमेंट हूं उसको आप एक बार चेक कर ले उसमें रखने का प्रावधान है धन्यवाद
Namaskaar doston praarthana hai ki aaj ka savaal hai ki ham hain hamaare sanskrt dokyooment ko kaise jee ko rakh sakate hain aise kaun se tareeke hain pleej vistaar se kahie to doston bahut saare aise jo daakyooments hai jaise ki draiving laisens ho gaya polisee kee kopee ho gaee ya aaratee kee kopee ho gaee jo sarakaar nahin jaata dastaavej hain to sarakaar ne aapako ek suvidha die deejee lokar ki aap us aip par jaakar ya vebasait par jaakar vahaan par aap login aaeedee bana sakate hain ya aadhaar oteepee oteepee se bhee vah aasaanee se ban jaata hai to usamen yah saare jarooree dastaavej rakh sakate hain aur kaee jagah usakee kopee dijee lokar kee maananee hotee hai abhee sunane mein aaegee paasaport bhee isake jarie is mein rakha ja sakata hai aur bhee aapake jo daakyooments hain jaise seebeeesasee kee maan seet hai yaad resham ke maarkasheet jae to usaka aap skain kar le skain karake mobail mein ya kampyootar mein aap rakh sakate hain kisee pen draiv mein rakh sakate hain jitanee jyaada jagah rakhenge utana agar kaheen kho jae ya koee kaaran se kaheen bhool jaen to aasaanee se usakee aankhon kee rakh sakate hain aur apane dokyooment ko surakshit rakhane ke lie bahut saare logon ke paas baink ke lokar kee bhee hote hain blok mein bhee aap rakh sakate hain bhee to ghar mein aap surakshit to rakhee sakate hain lekin jo edeejee aap mainne bataaya jo sarakaar ka ek hee seting hai usamen bahut saaree suvidhaen aa gaee hai aap bahut saare dohe dokyooment hoon usako aap ek baar chek kar le usamen rakhane ka praavadhaan hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
लेक्चर बनने के लिए क्या करना होगा?Lecturer Banne Ke Liye Kya Karna Hoga
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:53
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि लेक्चरर बनने के लिए क्या करना होगा तो दोस्तों अगर आप किसी सरकारी संस्थान में या किसी अच्छे संस्थान में आप लेक्चरर बनना चाहते हैं तो वहां पर जाकर आप से पोस्ट डेक्कन की डिग्री मांगी जाती है चाबी से कोई भी हो चाहे कॉमर्स को कहने दो एमकॉम हो सकता है ऐसा हो सकता है एमसी हो सकता है कई जगह तो इस आधार पर बनाया जाता है और कई जगह जो मापक होता है लेक्चरर बनने का वहां पर एमफिल क्वालिफाइड व्यक्ति होना चाहिए जो नेट से आप एग्जाम देंगे और या पीएचडी उस व्यक्ति ने किया होता है तो ऐसे मापदंड रखे गए हैं जो कदम रखे गए हैं योग्यता रखी गई है जिसके आधार पर आप लेक्चरर बन सकते हैं धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki lekcharar banane ke lie kya karana hoga to doston agar aap kisee sarakaaree sansthaan mein ya kisee achchhe sansthaan mein aap lekcharar banana chaahate hain to vahaan par jaakar aap se post dekkan kee digree maangee jaatee hai chaabee se koee bhee ho chaahe komars ko kahane do emakom ho sakata hai aisa ho sakata hai emasee ho sakata hai kaee jagah to is aadhaar par banaaya jaata hai aur kaee jagah jo maapak hota hai lekcharar banane ka vahaan par emaphil kvaaliphaid vyakti hona chaahie jo net se aap egjaam denge aur ya peeechadee us vyakti ne kiya hota hai to aise maapadand rakhe gae hain jo kadam rakhe gae hain yogyata rakhee gaee hai jisake aadhaar par aap lekcharar ban sakate hain dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्यों एक लड़की सच्चे लड़के की फीलिंग को समझ नहीं पाती?Kyun Ek Ladki Sache Ladke Ki Felling Ko Samajh Nahin Pati
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:53
नमस्कार मित्रों प्रश्न है कि क्यों एक लड़की सेक्सी लड़की की फीलिंग को समझ नहीं पाती तो दोस्तों ऐसा नहीं है जैसे लड़के का हिंदुत्व है वैसे लड़कियों का भी जुड़े हैं उनकी भावनाएं हैं लेकिन कई बार ऐसा होता है कि लड़के की तरफ से एक तरफा प्यार हो जाता है तो एक तरफ से प्यार जब ऐसा होता है तो उसे सब चीज ऐसा लगता है कि लड़की मेरी सारी बात मानेगी मेरा प्रपोजल अशक्त करेगी लेकिन ऐसा नहीं होता है लड़की फिलिंग समझती है लेकिन उसके साथ में कई सारी चाहिए जुड़ी होती है उसकी साथ में लॉक लग जा और माता-पिता का डर परिवार का डर और बात है फीलिंग की तो अगर ऐसा प्रश्न पूछ रहे हैं कि लड़के की फीलिंग नहीं समझते तो उस लड़के को भी असमय नाच आप भी उस लड़की की फीलिंग नहीं समझ रहे हैं हो सकता है कि वह आपके साथ लंबा ना जाना चाहती हो या आपका जो प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करना चाह रही हो वह हो सकता है कोई भी कारणों से होता है कोई मानसिक दबाव पारिवारिक दबाव पारिवारिक दबाव हो सकते हैं तो आपको ही फीलिंग समझने चाहिए और यह एक आकर्षण भी होता है मात्र वह धीरे-धीरे समय के अनुसार खत्म भी होता रहता है तो आपको ही फीलिंग समझनी चाहिए लड़कियों की फिल्म समझती ऐसा कुछ नहीं है दोनों समान है बस थोड़ा समाज का दबाव होता है लड़कियों को इतना खुलापन नहीं दिया गया है तो ऐसा लगता है लड़कों को यह लड़की कुछ भी कर लेते हैं लड़कियां नहीं कर रही है फिर भी नहीं समझ रही है लेकिन ऐसा नहीं है धन्यवाद
Namaskaar mitron prashn hai ki kyon ek ladakee seksee ladakee kee pheeling ko samajh nahin paatee to doston aisa nahin hai jaise ladake ka hindutv hai vaise ladakiyon ka bhee jude hain unakee bhaavanaen hain lekin kaee baar aisa hota hai ki ladake kee taraph se ek tarapha pyaar ho jaata hai to ek taraph se pyaar jab aisa hota hai to use sab cheej aisa lagata hai ki ladakee meree saaree baat maanegee mera prapojal ashakt karegee lekin aisa nahin hota hai ladakee philing samajhatee hai lekin usake saath mein kaee saaree chaahie judee hotee hai usakee saath mein lok lag ja aur maata-pita ka dar parivaar ka dar aur baat hai pheeling kee to agar aisa prashn poochh rahe hain ki ladake kee pheeling nahin samajhate to us ladake ko bhee asamay naach aap bhee us ladakee kee pheeling nahin samajh rahe hain ho sakata hai ki vah aapake saath lamba na jaana chaahatee ho ya aapaka jo prastaav ko sveekaar nahin karana chaah rahee ho vah ho sakata hai koee bhee kaaranon se hota hai koee maanasik dabaav paarivaarik dabaav paarivaarik dabaav ho sakate hain to aapako hee pheeling samajhane chaahie aur yah ek aakarshan bhee hota hai maatr vah dheere-dheere samay ke anusaar khatm bhee hota rahata hai to aapako hee pheeling samajhanee chaahie ladakiyon kee philm samajhatee aisa kuchh nahin hai donon samaan hai bas thoda samaaj ka dabaav hota hai ladakiyon ko itana khulaapan nahin diya gaya hai to aisa lagata hai ladakon ko yah ladakee kuchh bhee kar lete hain ladakiyaan nahin kar rahee hai phir bhee nahin samajh rahee hai lekin aisa nahin hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
स्टॉप लोस्स क्या है और क्यों है जरूरी?Stop Loss Kya Hai Aur Kyon Hai Jaroori
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:39
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया कि स्टॉपलॉस क्या है और क्यों है जरूरी तो दोस्तों स्टॉपलॉस जो शब्द प्रयोग किया जाता है ज्यादातर शेयर मार्केट में ट्रेडिंग में किया जाता है यानी कि आप उदाहरण के तौर पर कोई एक शेयर लेते हैं जिसकी कीमत ₹100 चल रही है इस समय तो आपने परचेस कर लिया उसको और आप को उम्मीद है कि वह 110 105 120 जितना भी अपने टारगेट रखा है इतने में भेजूंगा लेकिन मार्केट में उथल पुथल होती रहती है और आपने स्टॉपलॉस लगा दिया कि ₹95 का स्टॉपलॉस अगर ₹95 आ जाएगा तो मैसेज भेज दूंगा या ऑटोमेटिक सॉफ्टवेयर भेज देता अगर अपने स्टॉपलॉस लगाया तो उसको स्टॉपलॉस बोलते हैं वह एक कदम जहां तक आप जो है जोखिम ले सकते हैं उसको स्टॉप लॉक खोला जाता है तो उसके लगाया जाता है कि आपको नुकसान ना हो आपका पैसा पूरा नाम तुम्हे ज्यादा नुकसान ना हो और आफत ना जाए तो आप स्टॉपलॉस लगाकर फिर आप किसी दूसरे शेयर में पैसा लगा सकते हैं तो स्टॉपलॉस जो ट्रेडर्स होते हैं बहुत जरूरी होता है जो नए नए खिलाड़ी होते हैं तो ब्लॉक नहीं लगाते हैं और वह ट्रेडिंग के नाम पर आते हैं और एक इन्वेस्टर बन जाते हैं कई बार ऐसा होता है उठापटक होती है कि सो वाला शेयर ₹50 आ जाता है और कभी सो नहीं जाता है तो हमेशा आपको यह ट्रेडिंग करनी है अगर इन्वेस्टमेंट से नहीं कर रहे हैं परपस से आप तो स्टॉपलॉस लगाकर करें कि आपका नुकसान कम से कम हो और उसे में फंसे ना और आप कहीं और से लगाकर पैसे कमा सके धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ki stopalos kya hai aur kyon hai jarooree to doston stopalos jo shabd prayog kiya jaata hai jyaadaatar sheyar maarket mein treding mein kiya jaata hai yaanee ki aap udaaharan ke taur par koee ek sheyar lete hain jisakee keemat ₹100 chal rahee hai is samay to aapane paraches kar liya usako aur aap ko ummeed hai ki vah 110 105 120 jitana bhee apane taaraget rakha hai itane mein bhejoonga lekin maarket mein uthal puthal hotee rahatee hai aur aapane stopalos laga diya ki ₹95 ka stopalos agar ₹95 aa jaega to maisej bhej doonga ya otometik sophtaveyar bhej deta agar apane stopalos lagaaya to usako stopalos bolate hain vah ek kadam jahaan tak aap jo hai jokhim le sakate hain usako stop lok khola jaata hai to usake lagaaya jaata hai ki aapako nukasaan na ho aapaka paisa poora naam tumhe jyaada nukasaan na ho aur aaphat na jae to aap stopalos lagaakar phir aap kisee doosare sheyar mein paisa laga sakate hain to stopalos jo tredars hote hain bahut jarooree hota hai jo nae nae khilaadee hote hain to blok nahin lagaate hain aur vah treding ke naam par aate hain aur ek investar ban jaate hain kaee baar aisa hota hai uthaapatak hotee hai ki so vaala sheyar ₹50 aa jaata hai aur kabhee so nahin jaata hai to hamesha aapako yah treding karanee hai agar investament se nahin kar rahe hain parapas se aap to stopalos lagaakar karen ki aapaka nukasaan kam se kam ho aur use mein phanse na aur aap kaheen aur se lagaakar paise kama sake dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
बुखार आ जाए तो तुरंत कौन सा घरेलू उपाय किया जा सकता है?Bukhar Aa Jaye To Turant Kon Sa Gharelu Upay Kiya Ja Sakta Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:11
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया कि अगर एकदम बुखार आ जाए तो तुरंत कौन सा घरेलू उपाय किया जा सकता है तो दोस्तों अगर बुखार ज्यादा है तो आप थर्मामीटर का प्रयोग कर सकते हैं घर में है अगर बदन ज्यादा गरम उस व्यक्ति का लग रहा है तो उसके पर आप गर्म पट्टी रख सकते हैं जैसा कि आपने पिक्चरों में भी देखा होगा कई लोग करते हैं गर्म पट्टी जिससे कि माथे पर ज्यादा गर्माहट ना होए और बुखार का असर कम हो जाए और बहुत सारे केस में कई लोगों को नहलाया भी जाता है डॉक्टर कमेंट करते हैं लेकिन सबसे सरल उपाय घर में है कि अगर आपके पास काढ़ा पी सकते हैं अगर है सुविधा तो नहीं हो तो आसानी से उपलब्ध होने वाली बोली है पेरासिटामोल वह ले ले लेकिन बहुत सारे लोग इसको नहीं लेना चाहते गोलियों को तो आप बेड रेस्ट करें और कोशिश करें ज्यादा अगर टेंपरेचर हो रहा है बुखार हो रहा है तो गोली ले नहीं तो किसी चिकित्सक से दवाई ले आए तो ज्यादा अच्छा रहेगा धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya ki agar ekadam bukhaar aa jae to turant kaun sa ghareloo upaay kiya ja sakata hai to doston agar bukhaar jyaada hai to aap tharmaameetar ka prayog kar sakate hain ghar mein hai agar badan jyaada garam us vyakti ka lag raha hai to usake par aap garm pattee rakh sakate hain jaisa ki aapane pikcharon mein bhee dekha hoga kaee log karate hain garm pattee jisase ki maathe par jyaada garmaahat na hoe aur bukhaar ka asar kam ho jae aur bahut saare kes mein kaee logon ko nahalaaya bhee jaata hai doktar kament karate hain lekin sabase saral upaay ghar mein hai ki agar aapake paas kaadha pee sakate hain agar hai suvidha to nahin ho to aasaanee se upalabdh hone vaalee bolee hai peraasitaamol vah le le lekin bahut saare log isako nahin lena chaahate goliyon ko to aap bed rest karen aur koshish karen jyaada agar temparechar ho raha hai bukhaar ho raha hai to golee le nahin to kisee chikitsak se davaee le aae to jyaada achchha rahega dhanyavaad

#भारत की राजनीति

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:55
नमस्कार दोस्तों प्रश्न क्या बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी की छवि को बिगाड़ कर उन्हें मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने का प्रयास किया है इसका इस प्रकार का अपराध कोई कानूनी अपराध तो नहीं आए तो दोस्तों यह राजनीति है किसी को भी बोलने का अधिकार है स्वतंत्रता है हमारे देश में बोलने की भी स्वतंत्रता है बस वह तरीका नहीं होना चाहिए तो राहुल गांधी कांग्रेस के बीच में अच्छे पद पर बैठे थे या नौटंकी कर रहे थे या अप्रत्यक्ष रूप से भी नेता कांग्रेस के सबसे बड़े भाई हैं तो एक प्रकार से बीजेपी के प्रतिनिधि हुए और प्रतिद्वंदिता में शब्दों का चयन या उनके बारे में जानना है तो निश्चित रूप से वह छूटे नहीं रह सकते कोई उनकी हरकतें के बाद का तोड़ मरोड़ निकाला जाता है सबको अपने राजनीतिक लाभ लेने हैं तो उसमें कानूनी कार्यवाही की तो कोई बात ही नहीं आती है जब आप राजनीति में हैं अपनी किताब में है तो प्रतिद्वंदी तो आपको मिलेंगे और आपको सामना करना है आप जितनी आसानी से सामना कर सकते हैं उसका वह भी है उस पर विजय प्राप्त कर सकते हैं तो यह अच्छा कोई केस नहीं बनता है इसके अंदर और राहुल गांधी जी भी उनकी छवि अच्छी है लेकिन वह कई बार ऐसी चीजें बोल जाते हैं या ऐसी हरकतें कर देते हैं ऐसे मजाक का कारण बन जाता है तो उनको जो भाषण बोलते हैं जिन्होंने लिखा है तो पहले उनको एक बार पढ़ लेना चाहिए और थोड़ा आत्मविश्वास को जागृत करना चाहिए तो निश्चित रूप से यह कोई समस्या नहीं है यह सब समाधान इसका आसानी से हो सकता है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kya beejepee ke kaaryakartaon ne raahul gaandhee kee chhavi ko bigaad kar unhen maanasik taur par prataadit karane ka prayaas kiya hai isaka is prakaar ka aparaadh koee kaanoonee aparaadh to nahin aae to doston yah raajaneeti hai kisee ko bhee bolane ka adhikaar hai svatantrata hai hamaare desh mein bolane kee bhee svatantrata hai bas vah tareeka nahin hona chaahie to raahul gaandhee kaangres ke beech mein achchhe pad par baithe the ya nautankee kar rahe the ya apratyaksh roop se bhee neta kaangres ke sabase bade bhaee hain to ek prakaar se beejepee ke pratinidhi hue aur pratidvandita mein shabdon ka chayan ya unake baare mein jaanana hai to nishchit roop se vah chhoote nahin rah sakate koee unakee harakaten ke baad ka tod marod nikaala jaata hai sabako apane raajaneetik laabh lene hain to usamen kaanoonee kaaryavaahee kee to koee baat hee nahin aatee hai jab aap raajaneeti mein hain apanee kitaab mein hai to pratidvandee to aapako milenge aur aapako saamana karana hai aap jitanee aasaanee se saamana kar sakate hain usaka vah bhee hai us par vijay praapt kar sakate hain to yah achchha koee kes nahin banata hai isake andar aur raahul gaandhee jee bhee unakee chhavi achchhee hai lekin vah kaee baar aisee cheejen bol jaate hain ya aisee harakaten kar dete hain aise majaak ka kaaran ban jaata hai to unako jo bhaashan bolate hain jinhonne likha hai to pahale unako ek baar padh lena chaahie aur thoda aatmavishvaas ko jaagrt karana chaahie to nishchit roop se yah koee samasya nahin hai yah sab samaadhaan isaka aasaanee se ho sakata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
गर्मियों में मास्क लगाने के क्या फायदे हैं?Garmiyon Mein Mask Lgane Ke Kya Fayde Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:17
नमस्कार दोस्तों प्रार्थना की गर्मियों मास्क लगाने के क्या फायदे हैं तो दोस्तों अभी हम कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं इसलिए गया था कि डॉक्टरों का निर्देश है कि मास्क लगाने से हमें प्रणाम महामारी से बचाव हो सकता है सोशल डिस्टेंसिंग से हो सकता है वह हाथ धोने से हो सकता है तो उनमें से एक हाथ लगाने का भी है तो हमें माफ तो एक तो बीमारी से बचाव के लिए भी लगाना चाहिए अगर हम शहरों में हैं या ग्रामीण क्षेत्रों में कहीं बाहर जा रहे हैं तो धूल ज्यादा उड़ती है या जिसे आप वायु प्रदूषण भी कहते हैं तो एक तो उससे भी कुछ हमें बचाव हो सकता है इसका फायदा है इसके अंदर आपको कोई रंगों से यार ऐसी गंदी एलर्जी है तो जो रंग जैसे कि से गंध जो आती है जैसे कि कोई लोग तो पेंट हैं उसमें काफी ज्यादा गंदा आती है रंग नहीं है यहां कई दिन से गंध आती है तो उससे भी कुछ आप को राहत मिल सकती है और सबसे बड़ी राहत तुझे बताया आपको तिकोना महामारी से राहत मिलेगी प्रदूषण से मिलेगी तो यह इसके फायदे हैं धन्यवाद
Namaskaar doston praarthana kee garmiyon maask lagaane ke kya phaayade hain to doston abhee ham korona mahaamaaree se joojh rahe hain isalie gaya tha ki doktaron ka nirdesh hai ki maask lagaane se hamen pranaam mahaamaaree se bachaav ho sakata hai soshal distensing se ho sakata hai vah haath dhone se ho sakata hai to unamen se ek haath lagaane ka bhee hai to hamen maaph to ek to beemaaree se bachaav ke lie bhee lagaana chaahie agar ham shaharon mein hain ya graameen kshetron mein kaheen baahar ja rahe hain to dhool jyaada udatee hai ya jise aap vaayu pradooshan bhee kahate hain to ek to usase bhee kuchh hamen bachaav ho sakata hai isaka phaayada hai isake andar aapako koee rangon se yaar aisee gandee elarjee hai to jo rang jaise ki se gandh jo aatee hai jaise ki koee log to pent hain usamen kaaphee jyaada ganda aatee hai rang nahin hai yahaan kaee din se gandh aatee hai to usase bhee kuchh aap ko raahat mil sakatee hai aur sabase badee raahat tujhe bataaya aapako tikona mahaamaaree se raahat milegee pradooshan se milegee to yah isake phaayade hain dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
सेल्स रिप्रेजेन्टेटिव कौन होता है और उसका क्या काम होता है?Sales Representative Kaun Hota Hai Aur Uska Kya Kaam Hota Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:44
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया कि खेल फिर परसेंटेज कौन होता है और उसका क्या काम होता है तो दोस्तों मैं आपको बताना चाहता हूं कि सेल्स रिप्रेजेंटेटिव का मतलब होता है कि विक्रय प्रतिनिधि व किसी कंपनी का प्रतिनिधित्व करता है बिक्री करने के लिए सम्मान की तो देखा होगा आपने दुकानों पर या केमिस्ट की दुकानों पर कई लोग टाई लगाकर या ऐसे भी आते हैं वह या तो आप दुकानदार जो पुराने चीजों का तेल कर रहे हैं तो कमाल का माल का आर्डर लेते हैं उनकी शिकायतें सुनते हैं दुकानदारों की कि कस्टमर ने क्या बोला या कोई नया माल आता है तो उसके बारे में दुकानदारों को जानकारी देते हैं केमिस्ट्री को दवाई के बारे में देखा होगा जानकारी देते हैं कि यह रखिए बिक रहा है आजकल या आजकल डॉक्टरों से भी मिलते हैं जो सेल्स रिप्रेजेंटेटिव ओएमआर बोलते हैं मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव तो बताते हैं हमारी दवाइयों के बारे में क्या फायदा है हमारे यह नुकसान है यह बहुत ही अच्छा करेगा तो वह प्रेरित करते हैं दुकानदार को चाय प्रोफेशनल्स को कि उस कंपनी का माल वह लिखें या बताएं लोगों को अपनी दुकान पर रखें अपनी विंडो में सजा के रखे तो सेल्स रिप्रेजेंटेटिव का यही काम होता है कि कंपनी का ज्यादा से ज्यादा माल विकेट और ग्राहकों तक पहुंचे और यह प्रतियोगिता वाले प्रोडक्ट है उनके प्रतियोगी हैं उनसे आगे ज्यादा अपना सामान भेज सकें धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ki khel phir parasentej kaun hota hai aur usaka kya kaam hota hai to doston main aapako bataana chaahata hoon ki sels riprejentetiv ka matalab hota hai ki vikray pratinidhi va kisee kampanee ka pratinidhitv karata hai bikree karane ke lie sammaan kee to dekha hoga aapane dukaanon par ya kemist kee dukaanon par kaee log taee lagaakar ya aise bhee aate hain vah ya to aap dukaanadaar jo puraane cheejon ka tel kar rahe hain to kamaal ka maal ka aardar lete hain unakee shikaayaten sunate hain dukaanadaaron kee ki kastamar ne kya bola ya koee naya maal aata hai to usake baare mein dukaanadaaron ko jaanakaaree dete hain kemistree ko davaee ke baare mein dekha hoga jaanakaaree dete hain ki yah rakhie bik raha hai aajakal ya aajakal doktaron se bhee milate hain jo sels riprejentetiv oemaar bolate hain medikal riprejentetiv to bataate hain hamaaree davaiyon ke baare mein kya phaayada hai hamaare yah nukasaan hai yah bahut hee achchha karega to vah prerit karate hain dukaanadaar ko chaay propheshanals ko ki us kampanee ka maal vah likhen ya bataen logon ko apanee dukaan par rakhen apanee vindo mein saja ke rakhe to sels riprejentetiv ka yahee kaam hota hai ki kampanee ka jyaada se jyaada maal viket aur graahakon tak pahunche aur yah pratiyogita vaale prodakt hai unake pratiyogee hain unase aage jyaada apana saamaan bhej saken dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
नेगेटिव विचार आने के क्या कारण हैं और ऐसे विचारों से कैसे दूर रहा जाए?Negative Vichar Aane Ke Kya Karan Hain Aur Aise Vicharon Se Kaise Door Raha Jaaye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:56
नमस्कार मित्रों प्रश्न किया गया कि इंसान को नेगेटिव विचार क्यों आता है क्या इसका कोई उपाय है कि जिंदगी में कभी भी नेगेटिव विचार ना आए तो दोस्तों कोई व्यक्ति ऐसा अछूता नहीं है जिसको की नकदी विचार ना आए नकारात्मक विचार ना आए लेकिन उसको नकारात्मक को सकारात्मक करने की शक्ति हमारे मनुष्य के हृदय नहीं होती है कोई भी आप कार्य करें उसके आपको प्लस पॉइंट और नेगेटिव प्वाइंट माइंड में आएंगे कई लोग नेगेटिव माइंड नेगेटिव पॉइंट्स को ज्यादा अहमियत देते हैं और कई लोग सकारात्मक बिंदुओं को ज्यादा मानते हैं तो आपको सकारात्मकता की तरफ चल रहा है तो उसमें आप में आत्मविश्वास होना चाहिए और आत्मविश्वास कैसे बढ़ेगा कैसे लगे ड्यूटी खत्म होगी इसके लिए आपको अच्छी पुस्तकों का अध्ययन करना पड़ेगा धार्मिक पुस्तक हो सकती है प्रोत्साहित करने वाली पुस्तकें हो सकती हैं आप धारावाहिक देखते हैं कोई मोटिवेशनल मूवी देख सकते हैं मोटिवेशनल व्यक्तियों के विचार सुन सुन सकते हैं सकारात्मक व्यक्तियों के सानिध्य में रह सकते हैं तो निश्चित रूप से उससे नकारात्मकता कम होगी तो ड्यूटी कम आपके दिमाग में आएगी और कुछ रंगो द्वारा भी नकली पति को खत्म किया जा सकता है जैसे कि आप लाल धागा बांधे मूली वाले और पीला कड़ा पहनें या पीला पेन का प्रयोग करें या आप सफेद वस्त्र धारण करें या सफेद बेड पर चयन करें चादर भी सफेद कपड़े गीले और सुबह प्राणायाम योगा करें कोई खेल में रुचि है तो खेल करें भागे दौड़े और कई बार ऐसा होता है कि जब नकारात्मकता आती है तो आप सकारात्मक व्यक्ति से राय ले तो निश्चित रूप से आपके जीवन में कभी भी नकली उठी विचार नहीं आएंगे आएंगे लेकिन उस पर आप की सकारात्मकता बेकाबू कर लेगी उसने के डिप्टी को धन्यवाद
Namaskaar mitron prashn kiya gaya ki insaan ko negetiv vichaar kyon aata hai kya isaka koee upaay hai ki jindagee mein kabhee bhee negetiv vichaar na aae to doston koee vyakti aisa achhoota nahin hai jisako kee nakadee vichaar na aae nakaaraatmak vichaar na aae lekin usako nakaaraatmak ko sakaaraatmak karane kee shakti hamaare manushy ke hrday nahin hotee hai koee bhee aap kaary karen usake aapako plas point aur negetiv pvaint maind mein aaenge kaee log negetiv maind negetiv points ko jyaada ahamiyat dete hain aur kaee log sakaaraatmak binduon ko jyaada maanate hain to aapako sakaaraatmakata kee taraph chal raha hai to usamen aap mein aatmavishvaas hona chaahie aur aatmavishvaas kaise badhega kaise lage dyootee khatm hogee isake lie aapako achchhee pustakon ka adhyayan karana padega dhaarmik pustak ho sakatee hai protsaahit karane vaalee pustaken ho sakatee hain aap dhaaraavaahik dekhate hain koee motiveshanal moovee dekh sakate hain motiveshanal vyaktiyon ke vichaar sun sun sakate hain sakaaraatmak vyaktiyon ke saanidhy mein rah sakate hain to nishchit roop se usase nakaaraatmakata kam hogee to dyootee kam aapake dimaag mein aaegee aur kuchh rango dvaara bhee nakalee pati ko khatm kiya ja sakata hai jaise ki aap laal dhaaga baandhe moolee vaale aur peela kada pahanen ya peela pen ka prayog karen ya aap saphed vastr dhaaran karen ya saphed bed par chayan karen chaadar bhee saphed kapade geele aur subah praanaayaam yoga karen koee khel mein ruchi hai to khel karen bhaage daude aur kaee baar aisa hota hai ki jab nakaaraatmakata aatee hai to aap sakaaraatmak vyakti se raay le to nishchit roop se aapake jeevan mein kabhee bhee nakalee uthee vichaar nahin aaenge aaenge lekin us par aap kee sakaaraatmakata bekaaboo kar legee usane ke diptee ko dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्लाइंट और कस्टमर में क्या अंतर होता है क्या आप उदाहरण देकर समझा सकते हैं?Client Aur Customer Mein Kya Antar Hota Hai Kya Aap Udaharan Dekar Samjha Sakte Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:22
नमस्कार दोस्तों प्लस नहीं क्लाइंटो कस्टमर में क्या अंतर होता है क्या उदाहरण देकर समझा सकते हैं तो दोस्तों क्लाइंट का मतलब भी ग्राहक होता है और कस्टमर का मतलब ही ग्राहक होता है अंतर यह है कि जो सामान लेता है हमसे उसे हम ज्यादा कस्टमर कहते हैं और सेवाओं के क्षेत्र में जो प्रोफेशनल सोते हैं जो अपनी सेवाएं देते हैं वह अपने आपको फ्रेंड बोलते हैं जिस प्रकार से किसी वकील के लिए जो उसका एक ग्राहक है उससे जो काम करा रहा है वह क्लाइंट है किसी प्रोफेशनल्स के लिए आईटी इंजीनियर के लिए कोई कंपनी है या कोई व्यक्ति है उसके लिए क्लाइंट है क्लाइंट जाता इसलिए बोला जाता है कि उसका जो जुड़ा होता है लंबे समय तक होता है जैसे वकील लंबे समय तक केस लड़ता है या एक इंजीनियर एएमसी ले लेता है ठेका ले लेता है अन्यथा वह भी एक कस्टमर ही है दोनों का भाव अलग-अलग है जैसे डॉक्टर अपने जो है ग्राहकों को कस्टमर भी नहीं बोलता है क्लाइंट भी नहीं बोलता वह पेशेंट बोलता है और कई कंपनियों से टाइप होता है कहीं वहां विजिट करता है तो वह क्लाइंट भी उसको बोलता है तो बस यही अंतर है अन्यथा दोनों समान है धन्यवाद
Namaskaar doston plas nahin klainto kastamar mein kya antar hota hai kya udaaharan dekar samajha sakate hain to doston klaint ka matalab bhee graahak hota hai aur kastamar ka matalab hee graahak hota hai antar yah hai ki jo saamaan leta hai hamase use ham jyaada kastamar kahate hain aur sevaon ke kshetr mein jo propheshanal sote hain jo apanee sevaen dete hain vah apane aapako phrend bolate hain jis prakaar se kisee vakeel ke lie jo usaka ek graahak hai usase jo kaam kara raha hai vah klaint hai kisee propheshanals ke lie aaeetee injeeniyar ke lie koee kampanee hai ya koee vyakti hai usake lie klaint hai klaint jaata isalie bola jaata hai ki usaka jo juda hota hai lambe samay tak hota hai jaise vakeel lambe samay tak kes ladata hai ya ek injeeniyar eemasee le leta hai theka le leta hai anyatha vah bhee ek kastamar hee hai donon ka bhaav alag-alag hai jaise doktar apane jo hai graahakon ko kastamar bhee nahin bolata hai klaint bhee nahin bolata vah peshent bolata hai aur kaee kampaniyon se taip hota hai kaheen vahaan vijit karata hai to vah klaint bhee usako bolata hai to bas yahee antar hai anyatha donon samaan hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
एटीएम मशीन में error code 60 आने पर क्या करें?Eteeem Masheen Mein Airror Chodai 60 Aane Par Kya Karen
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:03
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि एटीएम मशीन में एरर कोड 10 आने पर क्या करें तो दोस्तों यह बताना चाहता हूं कि एटीएम मशीन से आपको कोई छेड़छाड़ नहीं करना है वह सर्वर डाउन हो सकता है कंप्यूटर अपनी भाषा में अगर बताता है वह बैंक वाले ही या उसको चलाने वाले इंजीनियर इंजीनियर की समझ सकते हैं तो आप 6 साल से ना करें किसी और एटीएम में जाकर पैसे निकालने क्योंकि जान के भी आपको कुछ पता नहीं चलेगा कोई केस नहीं निकलेगा क्योंकि जो एयरपोर्ट होते हैं वह उनके और होते हैं उसका मतलब निश्चित रूप से होता है जैसे कि हम लोग टेली क्या करते हो उसमें अरल सी लिस्ट है अगर कोई अगर आता है तो हम लोग बता देते हैं लोग हमसे पूछते हैं तो क्या इसका मतलब है लेकिन ऐसे हरामखोर जो कि हमें नहीं पता चलेंगे और पता चला कर भी हम उसके बारे में कुछ पता नहीं कर सकते कुछ कार्य नहीं कर सकते तो आपको एयरपोर्ट पता करना है तो नेट पर आप चेक कर सकते हो उसमें इसके बारे में कुछ आ जाए धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki eteeem masheen mein erar kod 10 aane par kya karen to doston yah bataana chaahata hoon ki eteeem masheen se aapako koee chhedachhaad nahin karana hai vah sarvar daun ho sakata hai kampyootar apanee bhaasha mein agar bataata hai vah baink vaale hee ya usako chalaane vaale injeeniyar injeeniyar kee samajh sakate hain to aap 6 saal se na karen kisee aur eteeem mein jaakar paise nikaalane kyonki jaan ke bhee aapako kuchh pata nahin chalega koee kes nahin nikalega kyonki jo eyaraport hote hain vah unake aur hote hain usaka matalab nishchit roop se hota hai jaise ki ham log telee kya karate ho usamen aral see list hai agar koee agar aata hai to ham log bata dete hain log hamase poochhate hain to kya isaka matalab hai lekin aise haraamakhor jo ki hamen nahin pata chalenge aur pata chala kar bhee ham usake baare mein kuchh pata nahin kar sakate kuchh kaary nahin kar sakate to aapako eyaraport pata karana hai to net par aap chek kar sakate ho usamen isake baare mein kuchh aa jae dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
एजुकेशन लोन से पढ़ाई करते समय यदि नौकरी लग जाए तो लोन को रोक सकते हैं क्या?Education Loan Se Padhai Karte Samay Yadi Naukari Lag Jae To Lon Ko Rok Sakate Hain Kya
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:56
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया एजुकेशन लोन से पढ़ाई करते समय यदि नौकरी लग जाए तो लोन को रोक सकते हैं क्या तो दोस्तों यह जो आपने लोन लिया होगा तो उसमें आपको बताया गया होगा कई जगह ऐसा क्या होता है की सुविधा बैंक आजकल दे रहे हैं कि आप जो है लोन पहले भी चुकता कर सकते हैं लेकिन बहुत सारे ऐसे बैंक हैं जो सऊदी पर चुकता करने से अगर आप देते हैं तो कोई आपको लाभ नहीं देते या बल्कि पेनल्टी लगा देते हैं हम तो आपको ही देखना होगा कि ज्यादातर ऐसा होता है कि जैसे कोई 5 साल का कोर्स है 4 साल पढ़ाई करता है 5 साल में कैंपस प्लेसमेंट लग जाती है तो उसको ठीक ठाक चल रही अगर मिलने लग जाती है वह तो नौकरी कर लेता है तो वह लोन खत्म करना चाहता है लेकिन वह अपने जो शर्ते हैं उसके पता करे की क्या शर्ते हैं तो अगर खत्म करना चाहे तो हो भी सकती है आप उसको खत्म भी कर सकते हैं लेकिन वह आपको बैंकों की शर्तों को देखना होगा धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ejukeshan lon se padhaee karate samay yadi naukaree lag jae to lon ko rok sakate hain kya to doston yah jo aapane lon liya hoga to usamen aapako bataaya gaya hoga kaee jagah aisa kya hota hai kee suvidha baink aajakal de rahe hain ki aap jo hai lon pahale bhee chukata kar sakate hain lekin bahut saare aise baink hain jo saoodee par chukata karane se agar aap dete hain to koee aapako laabh nahin dete ya balki penaltee laga dete hain ham to aapako hee dekhana hoga ki jyaadaatar aisa hota hai ki jaise koee 5 saal ka kors hai 4 saal padhaee karata hai 5 saal mein kaimpas plesament lag jaatee hai to usako theek thaak chal rahee agar milane lag jaatee hai vah to naukaree kar leta hai to vah lon khatm karana chaahata hai lekin vah apane jo sharte hain usake pata kare kee kya sharte hain to agar khatm karana chaahe to ho bhee sakatee hai aap usako khatm bhee kar sakate hain lekin vah aapako bainkon kee sharton ko dekhana hoga dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या एक वकील को न्यायालय में कानून की सभी धाराएं याद रखनी पड़ती है?Kya Ek Wakeel Ko Nyaylay Me Kanun Ki Sabi Dharaye Yaad Rakhne Padati Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:12
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है क्या एक वकील को न्यायालय में कानून की सभी धाराएं याद रखनी पड़ती हैं तो दोस्तों धाराएं बहुत ज्यादा होती हैं लेकिन वकील को तैयारी करके जानी पड़ती है कि जिस प्रकार का केस लड़ने जा रहा है उससे संबंधित उसको धाराएं पता होनी चाहिए क्योंकि जब वह जज के सामने बातें रखता है तो धाराएं भी बतानी पड़ती है बिना धाराओं के कोई चीज नहीं लिखी जाती किताबों में नाइस की बहस की जाती है तो निश्चित रूप से अच्छे वकील होते हैं जो अनुभवी वकीलों के इनको धारा इधर चुकी होती है लेकिन धाराएं बहुत ज्यादा होती है कई बार इस विभिन्न प्रकार के आते रहते अलग अलग तरीके के तो देखते होगे क्या बड़े से बड़ा वकील तैयारी करके जाता है धाराओं एक बार नजर में दोहरा लेता है फिर जाता है तो निश्चित रूप से आप किसी भी प्रोफेशन में जा रहे हैं तो उसके बारे में पूर्ण रूप से आपको जानकारी होनी चाहिए आपको कोई पूछ ले इसके बारे में तो इसके आपको नजर चुकानी पड़ सकती है तो निश्चित रूप से याद होना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai kya ek vakeel ko nyaayaalay mein kaanoon kee sabhee dhaaraen yaad rakhanee padatee hain to doston dhaaraen bahut jyaada hotee hain lekin vakeel ko taiyaaree karake jaanee padatee hai ki jis prakaar ka kes ladane ja raha hai usase sambandhit usako dhaaraen pata honee chaahie kyonki jab vah jaj ke saamane baaten rakhata hai to dhaaraen bhee bataanee padatee hai bina dhaaraon ke koee cheej nahin likhee jaatee kitaabon mein nais kee bahas kee jaatee hai to nishchit roop se achchhe vakeel hote hain jo anubhavee vakeelon ke inako dhaara idhar chukee hotee hai lekin dhaaraen bahut jyaada hotee hai kaee baar is vibhinn prakaar ke aate rahate alag alag tareeke ke to dekhate hoge kya bade se bada vakeel taiyaaree karake jaata hai dhaaraon ek baar najar mein dohara leta hai phir jaata hai to nishchit roop se aap kisee bhee propheshan mein ja rahe hain to usake baare mein poorn roop se aapako jaanakaaree honee chaahie aapako koee poochh le isake baare mein to isake aapako najar chukaanee pad sakatee hai to nishchit roop se yaad hona chaahie dhanyavaad
URL copied to clipboard