#जीवन शैली

Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:48
आपका सवाल है कि कुछ लोग जो काफी बुद्धिमान होते हैं वह अपनी लो प्रोफाइल क्यों रखते हैं मैं आपको बताना चाहता हूं कि लो प्रोफाइल और एक बंदे के पास टैलेंट से बहुत अंतर होता है क्योंकि उसे पता होता कि उसका जो टैलेंट है वही हर जगह काम करने वाला है फैशन हर जगह काम नहीं करता अगर आप देखेंगे मैं दो-तीन नाम आपको बताऊंगा इंडस्ट्री के तू सबसे पहला नाम अगर आप देखेंगे तो अर्जित सिंह शायद ही कोई है इंडिया में जिन्होंने उनके गाने नहीं सुने होंगे हर इंसान ही ज्यादा तरुण के गाने सुनें लेकिन आपने उनका स्टाइल देखा है पहनावा देखा है एक बिल्कुल सिंपल और एक अच्छा पहनावा वह चाहते तो वह एटीट्यूड भी दिखा सकते थे लेकिन मैं जो होता है अहंकार जो होता है वह दिन उतर जाता है और जो बंदे समझदार होते हैं जो अपने टैलेंटेड होते हैं वह कभी एटीट्यूट नहीं दिखाते वह अपनी प्रोफाइल खोलो ही रखना शुरू कर दे दूसरा नाम मैं बताना चाहूंगा महेंद्र सिंह धोनी का कि बंदे ने एक टिकट कलेक्टर की नौकरी से स्टार्टिंग की थी और आज वह बंदा उसके नाम को क्रिकेट इतिहास में सुनहरे पन्नों सुनहरी शब्दों में लिखा जाता है लेकिन कभी देखा कि वह किसी से कैसे बात करते हैं कितना सादा पहनावा रखते हैं वह कैसी फैमिली में रहते हैं बहुत ही बड़े-बड़े लोग बहुत ही छोटा में पहनावा ऐसी कोई बात नहीं है इंसान अपनी हम कितने बड़े इंसान बन जाए लेकिन हमें 2 गज जमीन की आवश्यकता पड़ती है और दो गज कफन की आवश्यकता पड़ती है तो अगर कोई इंसान इस याद रखेगा इस चीज को तो कभी उस समय का अभाव भी नहीं होने का मुझे इसी बात पर सोच रहा था कि यार इंसान पैसा कहा था कितनी मेहनत और जातक इतनी जल्दी है तो पैसा और माया और लक्ष्मी बहुत ज्यादा फर्क होता है जो माया को जानते हैं वह मैं दिखाते हैं और वह लक्ष्मी को जानते हो तो एक सादा जीवन व्यतीत करना पसंद करते हैं धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Aapaka savaal hai ki kuchh log jo kaaphee buddhimaan hote hain vah apanee lo prophail kyon rakhate hain main aapako bataana chaahata hoon ki lo prophail aur ek bande ke paas tailent se bahut antar hota hai kyonki use pata hota ki usaka jo tailent hai vahee har jagah kaam karane vaala hai phaishan har jagah kaam nahin karata agar aap dekhenge main do-teen naam aapako bataoonga indastree ke too sabase pahala naam agar aap dekhenge to arjit sinh shaayad hee koee hai indiya mein jinhonne unake gaane nahin sune honge har insaan hee jyaada tarun ke gaane sunen lekin aapane unaka stail dekha hai pahanaava dekha hai ek bilkul simpal aur ek achchha pahanaava vah chaahate to vah eteetyood bhee dikha sakate the lekin main jo hota hai ahankaar jo hota hai vah din utar jaata hai aur jo bande samajhadaar hote hain jo apane tailented hote hain vah kabhee eteetyoot nahin dikhaate vah apanee prophail kholo hee rakhana shuroo kar de doosara naam main bataana chaahoonga mahendr sinh dhonee ka ki bande ne ek tikat kalektar kee naukaree se staarting kee thee aur aaj vah banda usake naam ko kriket itihaas mein sunahare pannon sunaharee shabdon mein likha jaata hai lekin kabhee dekha ki vah kisee se kaise baat karate hain kitana saada pahanaava rakhate hain vah kaisee phaimilee mein rahate hain bahut hee bade-bade log bahut hee chhota mein pahanaava aisee koee baat nahin hai insaan apanee ham kitane bade insaan ban jae lekin hamen 2 gaj jameen kee aavashyakata padatee hai aur do gaj kaphan kee aavashyakata padatee hai to agar koee insaan is yaad rakhega is cheej ko to kabhee us samay ka abhaav bhee nahin hone ka mujhe isee baat par soch raha tha ki yaar insaan paisa kaha tha kitanee mehanat aur jaatak itanee jaldee hai to paisa aur maaya aur lakshmee bahut jyaada phark hota hai jo maaya ko jaanate hain vah main dikhaate hain aur vah lakshmee ko jaanate ho to ek saada jeevan vyateet karana pasand karate hain dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
किसान आंदोलन को किसानों का सहयोग क्यों नहीं मिल रहा है?Kisaan Andolan Ko Kisanon Ka Sahyog Kyun Nahin Mil Raha Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:21
नमस्कार आपको सवाल है कि किसान आंदोलन को किसानों का सहयोग क्यों नहीं मिल रहा है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि आज के समय में किसान इतना फ्री नहीं है कि वह बकवास की जगह जाएगा और किसान आंदोलन करेगा क्योंकि किसान खुद इस टाइम फ्री नहीं है किसान के गांव में अगर कोई दावत होती है कोई फंक्शन होता है तो किसान वहां भी नहीं जा पाता क्योंकि उसे फ़िक्र होती है कि पानी कौन करेगा मेरी फसल को और मेरी फसल काटेगा को तो मुझे जो बॉर्डर पर बैठे हैं यह अराजक तत्व है जो भारतीय राजनीति में एक धब्बा बन चुके हैं सभी राजनीतिक दल यहां रोटियां सेकने आ रहे हैं गरम चुनाव में मिल रहा है तो यह सब हो रहा है किसान आंदोलन एक तरह से पूरी तरह से फंडिंग के पीछे डिपेंडेंट है मैं सीधा बोलता हूं मैं नहीं डरता क्योंकि मैं इस देश का नागरिक हूं और मुझे अपनी बात रखने का हक है किसान को इतनी फुर्सत नहीं है कि वह अपनी बेटी को जाकर ससुराल से अपने घर ले आए वास्तव में मैं इसके लिए स्पेशल टाइम निकालते लोग तो धरने में क्यों जाएंगे भाई इस टाइम आप देखिए जनवरी फरवरी-मार्च और अप्रैल तक गन्ना मिल का सीजन होता है और किसान गन्ने की छिलाई करता है और गंदी को मेल पर पहुंचाता है तो किसान इतना फ्री नहीं होता कि सांझा के धरने पर बैठे गा और पंजाब के किसान है भाई धान काट कर उस को तूने खाली छोड़ रखे वहां पर खेत उनके बड़े-बड़े फॉर्म हैं वहां उनके काम करते हैं किसान छोटे-छोटे दो यह तो भाई कांग्रेसका वहां पर शासन है कांग्रेस पूरी तरह से सहयोग कर रही है रात एक बयान जारी हुआ भाई सुन रहा था कि पंजाब सरकार मदद करेगी दंगाइयों की मतलब वकीलों की टीमें बनाई जाएंगी जो किसानों का सहयोग करेंगे किसानों का केस लड़ेंगे और जो कि किसान लड़ते हो सही कह रहे हो भाई वह किताब नहीं है जो अभी तक वामपंथी थे धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapako savaal hai ki kisaan aandolan ko kisaanon ka sahayog kyon nahin mil raha hai to main aapako bataana chaahoonga ki aaj ke samay mein kisaan itana phree nahin hai ki vah bakavaas kee jagah jaega aur kisaan aandolan karega kyonki kisaan khud is taim phree nahin hai kisaan ke gaanv mein agar koee daavat hotee hai koee phankshan hota hai to kisaan vahaan bhee nahin ja paata kyonki use fikr hotee hai ki paanee kaun karega meree phasal ko aur meree phasal kaatega ko to mujhe jo bordar par baithe hain yah araajak tatv hai jo bhaarateey raajaneeti mein ek dhabba ban chuke hain sabhee raajaneetik dal yahaan rotiyaan sekane aa rahe hain garam chunaav mein mil raha hai to yah sab ho raha hai kisaan aandolan ek tarah se pooree tarah se phanding ke peechhe dipendent hai main seedha bolata hoon main nahin darata kyonki main is desh ka naagarik hoon aur mujhe apanee baat rakhane ka hak hai kisaan ko itanee phursat nahin hai ki vah apanee betee ko jaakar sasuraal se apane ghar le aae vaastav mein main isake lie speshal taim nikaalate log to dharane mein kyon jaenge bhaee is taim aap dekhie janavaree pharavaree-maarch aur aprail tak ganna mil ka seejan hota hai aur kisaan ganne kee chhilaee karata hai aur gandee ko mel par pahunchaata hai to kisaan itana phree nahin hota ki saanjha ke dharane par baithe ga aur panjaab ke kisaan hai bhaee dhaan kaat kar us ko toone khaalee chhod rakhe vahaan par khet unake bade-bade phorm hain vahaan unake kaam karate hain kisaan chhote-chhote do yah to bhaee kaangresaka vahaan par shaasan hai kaangres pooree tarah se sahayog kar rahee hai raat ek bayaan jaaree hua bhaee sun raha tha ki panjaab sarakaar madad karegee dangaiyon kee matalab vakeelon kee teemen banaee jaengee jo kisaanon ka sahayog karenge kisaanon ka kes ladenge aur jo ki kisaan ladate ho sahee kah rahe ho bhaee vah kitaab nahin hai jo abhee tak vaamapanthee the dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
वास्तव में किसान आंदोलन का मकसद क्या है?Vaastav Mein Kisaan Aandolan Ka Maksad Kya Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:36
नमस्कार आपका सवाल है वास्तव में किसान आंदोलन का क्या मकसद है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि वास्तव में किसान आंदोलन का मकसद है मोदी विरोध की राजनीति वह मोदी का विरोध कर रहे हैं आपने देखा होगा कि सच्चाई के साथ बहुत कम लोग खड़े होते हैं और बुराई के साथ बहुत ज्यादा लोग खड़े हो जाते हैं प्रधानमंत्री मोदी ने सोच समझ के यह सब किया है खुद मोदी जी तो कानून नहीं बनाते कानून बनाते हैं कमेटी और बहुत सारी कमेटियां मिलकर कानून बनाती है तो मोदी जी ने तो ए कानून नहीं बनाया तो यह किसानों की सलाह पर ही कानून बनाया गया होगा तू आंदोलन का मकसद है मोदी जी की राजनीति की छवि को खराब करना जो नया वोटर है जो किसान वोटर है उसे किसान मोदी सरकार से तोड़ना क्योंकि उनका जो कमीशन है वह खत्म हो गया है जो दलाल बैठे थे ना पहले सरकार में उनका कमीशन खत्म हो गया है तो उनसे वह बातें नहीं बच रही है तीसरा कि पाकिस्तान परेशान है मोदी सरकार से किस तरह से उधर से थोड़ा सा भी अगर काम को कोई फर्क पड़ता है तो मोदी सरकार एकदम से जवाब देती है तो मौत पाकिस्तान भी इसके पीछे फंडिंग कर रहा है और खालिस्तान भी उसके पीछे फंडिंग कर रहा है चतुर्दशी दूसरा कि आपने देखा होगा कि आज के समय में किसान को इतनी फुर्सत नहीं है किसान इतना फ्री नहीं है कि वह जाकर के किसी धर्म में बैठेगा कोई टाइम है गन्ना छिलाई का टाइम है आलू की खुदाई का टाइम है इस टाइम आलू की खुदाई होती है और आपने वहां बॉर्डर पर पंजाब के किसान ज्यादा बैठे पंजाब के किसान तो भाई फ्री स्टाइल पूछो क्यों फ्री है क्योंकि वह मुंडी काट के धान काट के वहां झूमो के आए हैं और यूपी पश्चिम उत्तर प्रदेश सचिव किसान है जो पूरी यूपी का किसान है वह भी गंदा हो जा रहा है खेत से गन्ना निकाल रहा है उसे इतनी फुर्सत नहीं है कि वह जाकर धरने में बैठेगा किसान को इतनी फुर्सत तो होती थी कि वह अपने गांव में एक दावत में चला जाए वह धरने में चला जाएगा तो भाई थोड़ी सोच बदलो देश बदलेगा धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai vaastav mein kisaan aandolan ka kya makasad hai to main aapako bataana chaahoonga ki vaastav mein kisaan aandolan ka makasad hai modee virodh kee raajaneeti vah modee ka virodh kar rahe hain aapane dekha hoga ki sachchaee ke saath bahut kam log khade hote hain aur buraee ke saath bahut jyaada log khade ho jaate hain pradhaanamantree modee ne soch samajh ke yah sab kiya hai khud modee jee to kaanoon nahin banaate kaanoon banaate hain kametee aur bahut saaree kametiyaan milakar kaanoon banaatee hai to modee jee ne to e kaanoon nahin banaaya to yah kisaanon kee salaah par hee kaanoon banaaya gaya hoga too aandolan ka makasad hai modee jee kee raajaneeti kee chhavi ko kharaab karana jo naya votar hai jo kisaan votar hai use kisaan modee sarakaar se todana kyonki unaka jo kameeshan hai vah khatm ho gaya hai jo dalaal baithe the na pahale sarakaar mein unaka kameeshan khatm ho gaya hai to unase vah baaten nahin bach rahee hai teesara ki paakistaan pareshaan hai modee sarakaar se kis tarah se udhar se thoda sa bhee agar kaam ko koee phark padata hai to modee sarakaar ekadam se javaab detee hai to maut paakistaan bhee isake peechhe phanding kar raha hai aur khaalistaan bhee usake peechhe phanding kar raha hai chaturdashee doosara ki aapane dekha hoga ki aaj ke samay mein kisaan ko itanee phursat nahin hai kisaan itana phree nahin hai ki vah jaakar ke kisee dharm mein baithega koee taim hai ganna chhilaee ka taim hai aaloo kee khudaee ka taim hai is taim aaloo kee khudaee hotee hai aur aapane vahaan bordar par panjaab ke kisaan jyaada baithe panjaab ke kisaan to bhaee phree stail poochho kyon phree hai kyonki vah mundee kaat ke dhaan kaat ke vahaan jhoomo ke aae hain aur yoopee pashchim uttar pradesh sachiv kisaan hai jo pooree yoopee ka kisaan hai vah bhee ganda ho ja raha hai khet se ganna nikaal raha hai use itanee phursat nahin hai ki vah jaakar dharane mein baithega kisaan ko itanee phursat to hotee thee ki vah apane gaanv mein ek daavat mein chala jae vah dharane mein chala jaega to bhaee thodee soch badalo desh badalega dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मोबाइल के बैटरी को अधिक समय तक चलाने के लिए हमें क्या करना चाहिए?Mobile Ke Battery Ko Adhik Samay Tak Chalane Ke Lie Hume Kya Karna Chaiye
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:50
स्टार आपका सवाल है कि मोबाइल की बैटरी को अधिक समय तक चलाने के लिए हमें क्या करना चाहिए तो मैं आपको बताना चाहता हूं कि आज की पिक जरूरत क्या है एक मोबाइल फोन और मोबाइल फोन की बैटरी बहुत जल्दी खत्म हो जाती है आजकल के जमाने में सबसे पहले तो मैं सलाह देना चाहूंगा कि अगर आपके पास कोई बैटरी बैंक है तो बैटरी बैंक का बिल्कुल इस्तेमाल ना करें बैटरी बैंक हमारी बैटरी को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है और मैंने खुद भी अपनी मोबाइल फोन की बैटरी का नुकसान किया है वह ज्यादा बिल्कुल नया फोन खरीद के लाया था मैं के ट्रेवल पर गया था तुम्हें अपना चार्जिंग बैंक साथ में ले गया था तो उससे क्या हुआ कि मेरी बैटरी का जो बैकअप था वह बहुत ज्यादा कट गया तो दूसरा कि हम फोन इनवर्टर से चार्ज करते हैं सबसे ज्यादा प्रॉब्लम वाली बात की है हम लाइट से चार्ज नहीं करते हैं फोन इनवर्टर से चार्ज कर लेते हैं एक अपने घर में एक ऐसा पॉइंट बनाई है जहां पर विद्युत बिजली मतलब जो बिजली घर से बिजली आ रही है उसे ही अपना फोन चार्ज करें तो आपसे बैटरी बैकअप बहुत अच्छा चलेगा तीसरा फोन को कभी 70 पर्सेंट डाउन हो गया अस्सी परसेंट डाउन हो गया तो उस पर एकदम से चार्ज ना लगाएं उससे कम से कम 30 परसेंट तक खाली करें और तीस परसेंट खाली करने के बाद में उस पर चार्जिंग लगाएं क्योंकि जब तक एक सीमा से नीचे बैठी नहीं जाएगी बैटरी इससे काम नहीं करती उसमें नई उर्जा भरी जाती है बहुत सारे ऐसे ही सी बातें हैं धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Staar aapaka savaal hai ki mobail kee baitaree ko adhik samay tak chalaane ke lie hamen kya karana chaahie to main aapako bataana chaahata hoon ki aaj kee pik jaroorat kya hai ek mobail phon aur mobail phon kee baitaree bahut jaldee khatm ho jaatee hai aajakal ke jamaane mein sabase pahale to main salaah dena chaahoonga ki agar aapake paas koee baitaree baink hai to baitaree baink ka bilkul istemaal na karen baitaree baink hamaaree baitaree ko bahut jyaada nukasaan pahunchaata hai aur mainne khud bhee apanee mobail phon kee baitaree ka nukasaan kiya hai vah jyaada bilkul naya phon khareed ke laaya tha main ke treval par gaya tha tumhen apana chaarjing baink saath mein le gaya tha to usase kya hua ki meree baitaree ka jo baikap tha vah bahut jyaada kat gaya to doosara ki ham phon inavartar se chaarj karate hain sabase jyaada problam vaalee baat kee hai ham lait se chaarj nahin karate hain phon inavartar se chaarj kar lete hain ek apane ghar mein ek aisa point banaee hai jahaan par vidyut bijalee matalab jo bijalee ghar se bijalee aa rahee hai use hee apana phon chaarj karen to aapase baitaree baikap bahut achchha chalega teesara phon ko kabhee 70 parsent daun ho gaya assee parasent daun ho gaya to us par ekadam se chaarj na lagaen usase kam se kam 30 parasent tak khaalee karen aur tees parasent khaalee karane ke baad mein us par chaarjing lagaen kyonki jab tak ek seema se neeche baithee nahin jaegee baitaree isase kaam nahin karatee usamen naee urja bharee jaatee hai bahut saare aise hee see baaten hain dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या किसानों को इतनी छूट देना सही है?Kya Kisano Ko Itni Chut Dena Sahi Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:48
नमस्कार आपका सवाल है क्या किसानों को इतनी छूट देनी सही है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि मैं हमार वर्मा जिसे हम कहते हैं उस देश में लोकतंत्र का हनन हो गया है लोकतंत्र ध्वस्त हो गया है और भारत में उसी लोकतंत्र जैसा वह लोकतंत्र था वह जो लोकतंत्र का साजन चला 10 से 12 साल चला और भारत में तो बहुत दिन से चलता रहा है तो आप हालत देखी वहां के और यहां के यहां लोकतंत्र को कुछ नहीं समझा रहा था और वहां लोकतंत्र है ही नहीं तो आने वाले समय में हमें अपने लोकतंत्र को बचाने के लिए बहुत से कदम उठाने पड़ेंगे और यह लोकतंत्र की हानि ही है जो आज के साथ कर रहे हैं मैं तुम्हें हक तो दे दिया लड़ाई के लिए धरने हक तो दे दिया लेकिन उसमें कैसा धरना तुम दे रहे हो लोगों की चीजें टूटे हुए लोगों को पीट रहे हो मार रहे हो काट रहे हो तो यह लोकतंत्र नहीं है लोकतंत्र अगर अपने किसी को वोट दिया है अगर किसी की सरकार आई है उनके तो उसका उस सरकार का का हमें सहयोग करना चाहिए और सरकार के साथ हमें हर टाइम खड़ा रहना चाहिए क्योंकि हमने उस सरकार को चुना है 5 साल के लिए काम कर रहे तो वह चाहे अच्छे काम कर रही है मैं मानता हूं कि हां मोदी सरकार अच्छे काम कर रही है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai kya kisaanon ko itanee chhoot denee sahee hai to main aapako bataana chaahoonga ki main hamaar varma jise ham kahate hain us desh mein lokatantr ka hanan ho gaya hai lokatantr dhvast ho gaya hai aur bhaarat mein usee lokatantr jaisa vah lokatantr tha vah jo lokatantr ka saajan chala 10 se 12 saal chala aur bhaarat mein to bahut din se chalata raha hai to aap haalat dekhee vahaan ke aur yahaan ke yahaan lokatantr ko kuchh nahin samajha raha tha aur vahaan lokatantr hai hee nahin to aane vaale samay mein hamen apane lokatantr ko bachaane ke lie bahut se kadam uthaane padenge aur yah lokatantr kee haani hee hai jo aaj ke saath kar rahe hain main tumhen hak to de diya ladaee ke lie dharane hak to de diya lekin usamen kaisa dharana tum de rahe ho logon kee cheejen toote hue logon ko peet rahe ho maar rahe ho kaat rahe ho to yah lokatantr nahin hai lokatantr agar apane kisee ko vot diya hai agar kisee kee sarakaar aaee hai unake to usaka us sarakaar ka ka hamen sahayog karana chaahie aur sarakaar ke saath hamen har taim khada rahana chaahie kyonki hamane us sarakaar ko chuna hai 5 saal ke lie kaam kar rahe to vah chaahe achchhe kaam kar rahee hai main maanata hoon ki haan modee sarakaar achchhe kaam kar rahee hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या ज्यादा पढ़ने से ही व्यक्ति पागल हो सकता है?Kya Jyada Padhne Se He Vyakti Pagal Ho Sakta Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:20
नमस्कार आपका सवाल है ज्यादा पढ़ने से व्यक्ति पागल हो सकता है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि पागल तो नहीं हो सकता है लेकिन कुछ नुकसान अभी देखने के लिए बोल कर बात करते हैं कि पढ़ाई को और बेहतरीन बनाने के तरीके क्या है अगर उन पर बात की जाए तो सबसे पहले कि हम लगातार ना पड़े अगर इस चीज से हमें बचना है तो हमें लगातार पढ़ना खत्म करना होगा हमें गैपिंग देकर पढ़ना होगा वह लोग कैसे हम आधा घंटा पढ़ें और बीच में 5 से 6 मिनट का ब्रेक ले क्योंकि हमारा जो दिमाग है हमारा जो मस्जिद है वह एक अलग तरह से काम करता है किस तरह से मैं आपको समझा देता हूं अगर आप कोई काम करने पर बैठे हैं कोई काम कर रहे हैं तो दिमाग कोशिश करता है माइंड कोशिश करता है कि उस जगह से मुझे घटना है वह जगह से मुझे यह दिमाग एकदम हारमोंस प्रोडक्ट करता है इसी वजह से हमें लगता है कि हम बोर हो रहे हैं बहुत ज्यादा और हम उस जगह से खड़े हो जाते हैं इसीलिए आधे घंटे में पढ़ाई में ब्रेक लेकिन आप बहुत जरूरी है लगातार पढ़ने से कोई फायदा नहीं है आप लगातार पड़ रहे करने में पढ़ ही रहे हैं उससे नुकसान होता है क्योंकि हम एक ही जगह काम करने तीसरा मैं आपको बताना चाहूंगा कि इन्वायरमेंट वातावरण और मौसम कैसा है यह निर्भर करता है हमारी पढ़ाई के क्योंकि हम जैसे वातावरण में रहेंगे जैसे हालात में रहेंगे हमारा तरीका पढ़ने का वैसा ही हो जाएगा अपनी कॉपी पेंसिल जो किताबें हैं जहां भी आप पढ़ते हैं उसे एक रूल के हिसाब से रखे जमा कर रखे अच्छे से रखें उससे हमारे दिमाग में बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता है दूसरा कि अगर आप उन्हें फैला कर रखेंगे इधर-उधर फेंक देंगे तो उसका बहुत बुरा प्रभाव हमारे दिमाग पर दिखाई देता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai jyaada padhane se vyakti paagal ho sakata hai to main aapako bataana chaahoonga ki paagal to nahin ho sakata hai lekin kuchh nukasaan abhee dekhane ke lie bol kar baat karate hain ki padhaee ko aur behatareen banaane ke tareeke kya hai agar un par baat kee jae to sabase pahale ki ham lagaataar na pade agar is cheej se hamen bachana hai to hamen lagaataar padhana khatm karana hoga hamen gaiping dekar padhana hoga vah log kaise ham aadha ghanta padhen aur beech mein 5 se 6 minat ka brek le kyonki hamaara jo dimaag hai hamaara jo masjid hai vah ek alag tarah se kaam karata hai kis tarah se main aapako samajha deta hoon agar aap koee kaam karane par baithe hain koee kaam kar rahe hain to dimaag koshish karata hai maind koshish karata hai ki us jagah se mujhe ghatana hai vah jagah se mujhe yah dimaag ekadam haaramons prodakt karata hai isee vajah se hamen lagata hai ki ham bor ho rahe hain bahut jyaada aur ham us jagah se khade ho jaate hain iseelie aadhe ghante mein padhaee mein brek lekin aap bahut jarooree hai lagaataar padhane se koee phaayada nahin hai aap lagaataar pad rahe karane mein padh hee rahe hain usase nukasaan hota hai kyonki ham ek hee jagah kaam karane teesara main aapako bataana chaahoonga ki invaayarament vaataavaran aur mausam kaisa hai yah nirbhar karata hai hamaaree padhaee ke kyonki ham jaise vaataavaran mein rahenge jaise haalaat mein rahenge hamaara tareeka padhane ka vaisa hee ho jaega apanee kopee pensil jo kitaaben hain jahaan bhee aap padhate hain use ek rool ke hisaab se rakhe jama kar rakhe achchhe se rakhen usase hamaare dimaag mein bahut achchha prabhaav padata hai doosara ki agar aap unhen phaila kar rakhenge idhar-udhar phenk denge to usaka bahut bura prabhaav hamaare dimaag par dikhaee deta hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
क्या संगीत किसी भी तरह की बीमारियों को ठीक कर सकता है?Kya Sangeet Kisi Bhi Tarah Ki Bimariyo Ko Thik Kar Sakta Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:47
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या संगीत किसी भी तरह की बीमारी को ठीक कर सकता है तू हां मैं कहता हूं कि संगीत किसी भी तरह की बीमारी को ठीक कर सकता है संगीत नहीं आपकी आवाज भी किसी भी बीमारी को ठीक कर सकती है किस तरह से वह मैंने अध्यक्ष की आशिक पर बहुत दिनों से इसी चीज पर अध्ययन कर रहा हूं कि बिना दवाई के इंसान को कैसे ठीक किया जाए मानसिक संतुलन को कैसे बनाया जाए कम से कम 3 साल हो गए किसी काम को करते करते तो मैंने कई लोगों पर एक्सपेरिमेंट किया जो लोग बहुत ज्यादा टेंशन में थे या बहुत ही ज्यादा डिप्रेस्ड डिप्रैस हो चुके थे तो लोगों पर मैंने किया कि वह बात करने से अगर उनके मुताबिक आप बात करते संगीत नहीं बात करने से भी बीमारी ठीक होती है अभी इस पॉइंट पर बोलने के लिए बहुत टाइम चाहिए तो इतना टाइम तो है नहीं तो संगीत पर बात करते हैं संगीत में आपने सुना होगा कि शुरू होते शो सा रे गा मा पा धा नि सा रे गा मा पा यह आपने सुना होगा तो दूसरों पर निर्भर करता है कि बीमारी कैसी है और उसे हम किस तरह से ठीक करते हैं अगर आप आध्यात्मिक म्यूजिक सुनते हैं संगीत सुनते हैं तो आपकी दो भावनाएं वह एक आध्यात्मिक अगर आप देशभक्ति का म्यूजिक सुनते हैं तो आपकी भावनाएं देशभक्ति जैसे म्यूजिक के ऊपर डिपेंड करता है और आपके सोचने की क्षमताओं के ऊपर डिपेंड करता है क्योंकि पूर्णिमा और अमावस्या के दिन क्या होता है कि एक ऐसी ऊर्जा उत्पन्न होती है जिसका हम फायदा नहीं उठा पाते अगर हम इन विचारों को सीख ले कि भाई पूर्णिमा अमावस्या के दिन हमें गंगा स्नान क्यों करना चाहिए इसके बीच की साइंस है बहुत बहुत बड़ी साइंस भाई अगर हम इन्हें सीख ले तो हम बीमार नहीं पड़ेंगे और आप देखते हैं कि यह जो सूर्य है सूर्य भगवान है यह हमारे डीएनए को तोड़ते हैं और डीएनए कमजोर होता है लेने में बदलाव आते हैं हम उसी वजह से बीमारियां होती हैं अगर हम नियंत्रित तरीके से योग विज्ञान को सीख लेंगे योग को पा लेंगे तुम किसी भी बीमारी को हरा सकते हैं धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya sangeet kisee bhee tarah kee beemaaree ko theek kar sakata hai too haan main kahata hoon ki sangeet kisee bhee tarah kee beemaaree ko theek kar sakata hai sangeet nahin aapakee aavaaj bhee kisee bhee beemaaree ko theek kar sakatee hai kis tarah se vah mainne adhyaksh kee aashik par bahut dinon se isee cheej par adhyayan kar raha hoon ki bina davaee ke insaan ko kaise theek kiya jae maanasik santulan ko kaise banaaya jae kam se kam 3 saal ho gae kisee kaam ko karate karate to mainne kaee logon par eksaperiment kiya jo log bahut jyaada tenshan mein the ya bahut hee jyaada dipresd diprais ho chuke the to logon par mainne kiya ki vah baat karane se agar unake mutaabik aap baat karate sangeet nahin baat karane se bhee beemaaree theek hotee hai abhee is point par bolane ke lie bahut taim chaahie to itana taim to hai nahin to sangeet par baat karate hain sangeet mein aapane suna hoga ki shuroo hote sho sa re ga ma pa dha ni sa re ga ma pa yah aapane suna hoga to doosaron par nirbhar karata hai ki beemaaree kaisee hai aur use ham kis tarah se theek karate hain agar aap aadhyaatmik myoojik sunate hain sangeet sunate hain to aapakee do bhaavanaen vah ek aadhyaatmik agar aap deshabhakti ka myoojik sunate hain to aapakee bhaavanaen deshabhakti jaise myoojik ke oopar dipend karata hai aur aapake sochane kee kshamataon ke oopar dipend karata hai kyonki poornima aur amaavasya ke din kya hota hai ki ek aisee oorja utpann hotee hai jisaka ham phaayada nahin utha paate agar ham in vichaaron ko seekh le ki bhaee poornima amaavasya ke din hamen ganga snaan kyon karana chaahie isake beech kee sains hai bahut bahut badee sains bhaee agar ham inhen seekh le to ham beemaar nahin padenge aur aap dekhate hain ki yah jo soory hai soory bhagavaan hai yah hamaare deeene ko todate hain aur deeene kamajor hota hai lene mein badalaav aate hain ham usee vajah se beemaariyaan hotee hain agar ham niyantrit tareeke se yog vigyaan ko seekh lenge yog ko pa lenge tum kisee bhee beemaaree ko hara sakate hain dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
अदरक के फायदे बताइए?Adrak Ke Fayde Bataye
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:55
नमस्कार आपका सवाल है कि अदरक के फायदे बताइए तो मैं आपको बताना चाहता हूं कि अदरक के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन आजकल की जो मुख्य समस्या है तो क्या कि हम कमजोर हैं हम कमजोर देखते हैं हम पतले दिखते हैं हम ऐसे क्यों हैं तो उनके लिए मैं अदरक का फायदा बताऊंगा तो अंदर क्या काम करता है जो अदरक काम करता है अगर हमारी पेट में कब्ज है और कब्ज की वजह से हमारी आंखों के अंदर इक्लेयर बन जाता है उसे हटाने का काम करता है और दूसरा फायदा जैसे कि प्लस सिंह का फायदा मतलब अगर आप एक रोटी खा रहे हैं और आप अदरक का इस्तेमाल कर रहे हैं वह अदरक का इस्तेमाल करने का तरीका अलग से मैं आपको बताऊंगा ऐसे नहीं कि आप कितना ही अदरक खा ले उसकी एक लिमिट होती है तो उसका अलग अलग तरीके से अलग अलग से उसके बताए गए हैं तो आप एक रोटी खा रहे हैं और उस एक रोटी का फायदा आपको दो रोटी हमें मिले दो रोटियों का फायदा मिले एक रोटी में तो ऐसा अदरक काम करता है कैसे मैं आपको बताता हूं कि सबसे पहले आप सुबह उठकर गर्म पानी का एक गिलास ले लीजिए अदरक को अदरक ले लीजिए आप करीबन करीबन 1 इंच का टुकड़ा पधार कर लीजिए और उसका रस निकाल लीजिए कि टुकड़े का और उसको आप कुछ गरम पानी के अंदर डालकर पिएंगे तो आप जो भोजन कर रहे हैं उसे वह उस भोजन को एक्टिवेट करेगा तो मतलब उसका फायदा आपके शरीर को लगना स्टार्ट हो जाएगा अगर किसी को भूख कम लगती है तो भूख बहुत ज्यादा मात्रा में लगने लगेगी धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki adarak ke phaayade bataie to main aapako bataana chaahata hoon ki adarak ke bahut saare phaayade hain lekin aajakal kee jo mukhy samasya hai to kya ki ham kamajor hain ham kamajor dekhate hain ham patale dikhate hain ham aise kyon hain to unake lie main adarak ka phaayada bataoonga to andar kya kaam karata hai jo adarak kaam karata hai agar hamaaree pet mein kabj hai aur kabj kee vajah se hamaaree aankhon ke andar ikleyar ban jaata hai use hataane ka kaam karata hai aur doosara phaayada jaise ki plas sinh ka phaayada matalab agar aap ek rotee kha rahe hain aur aap adarak ka istemaal kar rahe hain vah adarak ka istemaal karane ka tareeka alag se main aapako bataoonga aise nahin ki aap kitana hee adarak kha le usakee ek limit hotee hai to usaka alag alag tareeke se alag alag se usake batae gae hain to aap ek rotee kha rahe hain aur us ek rotee ka phaayada aapako do rotee hamen mile do rotiyon ka phaayada mile ek rotee mein to aisa adarak kaam karata hai kaise main aapako bataata hoon ki sabase pahale aap subah uthakar garm paanee ka ek gilaas le leejie adarak ko adarak le leejie aap kareeban kareeban 1 inch ka tukada padhaar kar leejie aur usaka ras nikaal leejie ki tukade ka aur usako aap kuchh garam paanee ke andar daalakar pienge to aap jo bhojan kar rahe hain use vah us bhojan ko ektivet karega to matalab usaka phaayada aapake shareer ko lagana staart ho jaega agar kisee ko bhookh kam lagatee hai to bhookh bahut jyaada maatra mein lagane lagegee dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:50
मिस्टर दोस्त आपका सवाल है क्या लंबे बाल होने से आदमी बुद्धिमान होता है इतिहास तो यही कहता है क्या आप कहते हैं लेकिन मैं आपको 2:00 तक इसमें दूंगा कि भारतीय संस्कृति है गुरुकुल जो संस्कृति है गुरुकुल पद्धति जो है उसमें आपने देखा होगा कि उसके बाद लगभग लगभग 3 या 4 या 5 इंच के रहते हैं जो वाक्य आचार्य और पर है बड़े बड़े लोग होते हैं उनके जो बाल होते हो 3344 इंच के होते हैं पूरा विश्व प्रमाण देता है कि जो वेद पद्धति है वह सब से कार्य करती है आप किसी भी चीज में ले लीजिए कि किस तरह से उन्होंने चीजों को तैयार किया किस तरह से उन्होंने चीजों को बनाया उर्दू बहुत बारीकी से काट लिया तो उनके लंबे बाल नहीं थे धारणा है कि लंबे बाल रखने से यू जाता है और लंबे बालक ने तो यह हो जाता है देखो भाई हमारे घर में लेडीस होती है औरतें हैं मेरी मम्मी है मेरी बहन है उनके बहुत बहुत लंबे बाल है तो ऐसा कुछ नहीं सोच और विचार के ऊपर निर्भर करता है कि हम क्या कर रहे हम किस चीज को कैसे देखें मैं सोचने लगी भाई मेरे बाल इतने लंबे बहुत ज्यादा लंबे कहां बाल कम ही रखनी चाहिए मैं तो साला यह दूंगा अगर अब अपना अपना नजरिया है किस तरह से आप देखते हैं चीजों को वह आपके ऊपर निर्भर करता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Mistar dost aapaka savaal hai kya lambe baal hone se aadamee buddhimaan hota hai itihaas to yahee kahata hai kya aap kahate hain lekin main aapako 2:00 tak isamen doonga ki bhaarateey sanskrti hai gurukul jo sanskrti hai gurukul paddhati jo hai usamen aapane dekha hoga ki usake baad lagabhag lagabhag 3 ya 4 ya 5 inch ke rahate hain jo vaaky aachaary aur par hai bade bade log hote hain unake jo baal hote ho 3344 inch ke hote hain poora vishv pramaan deta hai ki jo ved paddhati hai vah sab se kaary karatee hai aap kisee bhee cheej mein le leejie ki kis tarah se unhonne cheejon ko taiyaar kiya kis tarah se unhonne cheejon ko banaaya urdoo bahut baareekee se kaat liya to unake lambe baal nahin the dhaarana hai ki lambe baal rakhane se yoo jaata hai aur lambe baalak ne to yah ho jaata hai dekho bhaee hamaare ghar mein ledees hotee hai auraten hain meree mammee hai meree bahan hai unake bahut bahut lambe baal hai to aisa kuchh nahin soch aur vichaar ke oopar nirbhar karata hai ki ham kya kar rahe ham kis cheej ko kaise dekhen main sochane lagee bhaee mere baal itane lambe bahut jyaada lambe kahaan baal kam hee rakhanee chaahie main to saala yah doonga agar ab apana apana najariya hai kis tarah se aap dekhate hain cheejon ko vah aapake oopar nirbhar karata hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या भारत की वैक्सीन सचमुच हर किसी के लिए असरदार है?Kya Bharat Ki Vaccine Sachmuch Har Kisi Ke Lie Asardaar Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:42
नमस्कार आपका सवाल है क्या भारत की व्यक्ति सचमुच हर किसी पर के लिए असर दायक है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि व्यक्ति विकी हम किसी भी चीज का निर्माण करते हैं आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है जब हमें एक वायरस मिला हमको रोना है हमें आवश्यकता पड़ी कि हम एक वैक्सीन बना दिया तुमने कोविड-19 पर रिसर्च स्टार्ट की और कुछ वैक्सीन को तैयार कर दिया तो अलग-अलग लोगों के अलग-अलग विचार है कोई लाल मिर्च खाना पसंद करता है और कोई लाल मिर्च नहीं खाता कुछ दिखा खाना पसंद करता है कोई नहीं था क्योंकि जब हम तीखा खाना खाते हैं तो हमारे पेट में जलन निश्चित होती मेरी बात समझने का प्रयास करें आप सभी लोग अगर हम ज्यादा तीखा खाना खाते हैं जो हमने कभी खाया नहीं तो जलन महसूस होती है लेकिन वही जलन कुछ समय बाद शांत भी हो जाती है ऐसे ही यह वैक्सीन काम करता है एंटीबॉडी बनाता है जब हमारी शरीर शारीरिक संरचना में अपने आप ही बदलाव आते हैं तो हमें कुछ सिर दर्द चक्कर वगैरह आते हैं थोड़े बहुत ज्यादा नहीं वैक्सीन जरूर थोड़ा बहुत है विपरीत असर दिखाती है तो इसमें कुछ ज्यादा बड़ी बात नहीं है सरकार शत-प्रतिशत है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai kya bhaarat kee vyakti sachamuch har kisee par ke lie asar daayak hai to main aapako bataana chaahoonga ki vyakti vikee ham kisee bhee cheej ka nirmaan karate hain aavashyakata hee aavishkaar kee jananee hai jab hamen ek vaayaras mila hamako rona hai hamen aavashyakata padee ki ham ek vaikseen bana diya tumane kovid-19 par risarch staart kee aur kuchh vaikseen ko taiyaar kar diya to alag-alag logon ke alag-alag vichaar hai koee laal mirch khaana pasand karata hai aur koee laal mirch nahin khaata kuchh dikha khaana pasand karata hai koee nahin tha kyonki jab ham teekha khaana khaate hain to hamaare pet mein jalan nishchit hotee meree baat samajhane ka prayaas karen aap sabhee log agar ham jyaada teekha khaana khaate hain jo hamane kabhee khaaya nahin to jalan mahasoos hotee hai lekin vahee jalan kuchh samay baad shaant bhee ho jaatee hai aise hee yah vaikseen kaam karata hai enteebodee banaata hai jab hamaaree shareer shaareerik sanrachana mein apane aap hee badalaav aate hain to hamen kuchh sir dard chakkar vagairah aate hain thode bahut jyaada nahin vaikseen jaroor thoda bahut hai vipareet asar dikhaatee hai to isamen kuchh jyaada badee baat nahin hai sarakaar shat-pratishat hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
ध्यान करते वक्त सांस की गति बिल्कुल धीमी क्यों हो जाती है?Dhyaan Karte Vaqt Sans Ki Gati Bilkul Dhemi Kyun Ho Jati Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:32
नमस्कार आपका सवाल है ध्यान करते वक्त सांस की गति धीमी क्यों हो जाती है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि ध्यान करते वक्त हमारी जो स्वास है वह क्यों धीमी हो जाती है पहले तो हम किसी कार्य पर लगातार ध्यान रख रहे थे ऊर्जा को इस्तेमाल कर रहे थे क्योंकि शहर रियली ऊर्जा और बाकी और जा में बहुत फर्क होता है क्योंकि जब हम कार्य करते हैं उसमें ऊर्जा जो होती है वह खर्च होती है आंतरिक कार्य होते हैं उसमें बहुत कम ऊर्जा खर्च होती है अब्बा ही कार्य करते वक्त अब अगर हम दौड़ के आ रहे हैं तो हमारी साथ जरूर मिलेगी हमारे साथ की जो गाती है वह बहुत तेज बढ़ेगी अगर हम कहीं आराम कर रहे हैं बैठकर जल्द कर रहे हैं या कंसंट्रेट कर रहे हैं ध्यान और कंसंट्रेट एक ही बिंदु है तो इसमें ध्यान के वक्त जो हमारी स्वास होती है उसका धीमा होना निश्चित है इसमें कोई बड़ी बात नहीं है अब कहीं भी आराम करते हैं थके हारे आते हैं तो जो भी विश्वास को महसूस होती है कि वह हां मुझे शायद अगर आपको मेरा जवाब वाक्य में ही अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai dhyaan karate vakt saans kee gati dheemee kyon ho jaatee hai to main aapako bataana chaahoonga ki dhyaan karate vakt hamaaree jo svaas hai vah kyon dheemee ho jaatee hai pahale to ham kisee kaary par lagaataar dhyaan rakh rahe the oorja ko istemaal kar rahe the kyonki shahar riyalee oorja aur baakee aur ja mein bahut phark hota hai kyonki jab ham kaary karate hain usamen oorja jo hotee hai vah kharch hotee hai aantarik kaary hote hain usamen bahut kam oorja kharch hotee hai abba hee kaary karate vakt ab agar ham daud ke aa rahe hain to hamaaree saath jaroor milegee hamaare saath kee jo gaatee hai vah bahut tej badhegee agar ham kaheen aaraam kar rahe hain baithakar jald kar rahe hain ya kansantret kar rahe hain dhyaan aur kansantret ek hee bindu hai to isamen dhyaan ke vakt jo hamaaree svaas hotee hai usaka dheema hona nishchit hai isamen koee badee baat nahin hai ab kaheen bhee aaraam karate hain thake haare aate hain to jo bhee vishvaas ko mahasoos hotee hai ki vah haan mujhe shaayad agar aapako mera javaab vaaky mein hee achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या पूजा करने के लिए भी कोई नियम होते हैं?Kya Pooja Karne Ke Lie Bhe Koi Niyam Hote Hain
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:40
नमस्कार आपका सवाल है क्या पूजा करने के लिए कोई नियम होता है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि हिंदू धर्म में अपने रीति-रिवाजों अनुसार पूजा की जाती है मुस्लिम धर्म में अपने रीति रिवाज अनुसार पूजा की जाती है अलग-अलग धर्म में अपने अपने धार्मिक विचारों के आधार पर और धार्मिक पुस्तकों के आधार पर पूजा की जाती है बात करते हैं पूजा करने का कोई नहीं होता है या नहीं तो आपने देखा होगा कि आप अपने घर पर आपके घर पर नल लगा हुआ है तो आप उसका पानी पीते हैं आप कहीं बाहर रिलेशन में जाते हैं रिश्तेदारी में जाते हैं रिलेटिव के पास जाते हैं तो आप वहां भी वही पानी पीते हैं जो आपके घर में पानी का कोई ढंग बदल गया नहीं बदला तो यही है परमात्मा एक है निराकार है और वह बहुत ही शक्तिशाली है वह सब जगह एक जैसा है और सब के लिए एक जैसा काम करता है क्योंकि अब अलग-अलग विशेषज्ञ अलग-अलग अपनी बातें कह रहे हैं तो उन के अकॉर्डिंग अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग मान्यताओं के आधार पर पूजा के नियम बना दिए थे नंबर एक सांस्कृतिक पूजा के नियम या वैदिक पूजा के नियम या आर्य पूजा के नियम या मुस्लिम पूजा पद्धति बहुत सारी हैं अलग अलग अलग अलग जगहों पर अलग-अलग नाम से जाना जाता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai kya pooja karane ke lie koee niyam hota hai to main aapako bataana chaahoonga ki hindoo dharm mein apane reeti-rivaajon anusaar pooja kee jaatee hai muslim dharm mein apane reeti rivaaj anusaar pooja kee jaatee hai alag-alag dharm mein apane apane dhaarmik vichaaron ke aadhaar par aur dhaarmik pustakon ke aadhaar par pooja kee jaatee hai baat karate hain pooja karane ka koee nahin hota hai ya nahin to aapane dekha hoga ki aap apane ghar par aapake ghar par nal laga hua hai to aap usaka paanee peete hain aap kaheen baahar rileshan mein jaate hain rishtedaaree mein jaate hain riletiv ke paas jaate hain to aap vahaan bhee vahee paanee peete hain jo aapake ghar mein paanee ka koee dhang badal gaya nahin badala to yahee hai paramaatma ek hai niraakaar hai aur vah bahut hee shaktishaalee hai vah sab jagah ek jaisa hai aur sab ke lie ek jaisa kaam karata hai kyonki ab alag-alag visheshagy alag-alag apanee baaten kah rahe hain to un ke akording alag-alag jagahon par alag-alag maanyataon ke aadhaar par pooja ke niyam bana die the nambar ek saanskrtik pooja ke niyam ya vaidik pooja ke niyam ya aary pooja ke niyam ya muslim pooja paddhati bahut saaree hain alag alag alag alag jagahon par alag-alag naam se jaana jaata hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
कठिन समय में अपने दिमाग को कैसे शांत करें?Kathin Samay Mein Apne Dimag Ko Kaise Shant Karein
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:25
नमस्कार आपका सवाल है कि कठिन समय में अपने दिमाग को कैसे शांत रखें तो मैं आपको बताना चाहता हूं कि दो-तीन तरह का समय होता है एक दुख का समय होता है और एक गुस्से का समय होता है तो इसमें क्या होता कि हमारा जो दिमाग है वह अनियंत्रित हो जाता है बहुत सारे फिर हमारे दिमाग चंद्र विचार आते हैं कि हम यह कर ले वह कर ले ऐसा कर ले ना करें तो ऐसे समय पर ऐसा है कि अगर दुख का समय है तो दुख को ज्यादा से ज्यादा पाटने का प्रयास करें मतलब उसे सेंड करने का प्रयास करें दूसरा है गुस्सा अगर आपको गुस्सा आता है तो आप किसी किसी पंच बैंक पर गुस्सा निकाल सकते हैं यह आप जहां पर लड़ाई चल रही है गुस्सा वाली जगह है जहां गुस्से शक करना ही है तो उस जगह से अलग हटने की कोशिश करें दूसरा है ध्यान मन आत्मा पर चिंतन करें और इससे क्योंकि अगर जो इंसान ध्यान करता है पूजा पाठ करता है उससे हमारा जो गुस्सा है वह बहुत हद तक शांत हो जाता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki kathin samay mein apane dimaag ko kaise shaant rakhen to main aapako bataana chaahata hoon ki do-teen tarah ka samay hota hai ek dukh ka samay hota hai aur ek gusse ka samay hota hai to isamen kya hota ki hamaara jo dimaag hai vah aniyantrit ho jaata hai bahut saare phir hamaare dimaag chandr vichaar aate hain ki ham yah kar le vah kar le aisa kar le na karen to aise samay par aisa hai ki agar dukh ka samay hai to dukh ko jyaada se jyaada paatane ka prayaas karen matalab use send karane ka prayaas karen doosara hai gussa agar aapako gussa aata hai to aap kisee kisee panch baink par gussa nikaal sakate hain yah aap jahaan par ladaee chal rahee hai gussa vaalee jagah hai jahaan gusse shak karana hee hai to us jagah se alag hatane kee koshish karen doosara hai dhyaan man aatma par chintan karen aur isase kyonki agar jo insaan dhyaan karata hai pooja paath karata hai usase hamaara jo gussa hai vah bahut had tak shaant ho jaata hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या लॉक-डाउन की वजह से भारत 10 से 20 साल पीछे चला गया है?Kya Lockdown Ki Wajah Se Bharat 10 Se 20 Saal Piche Chala Gya Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:32
सर आपका सवाल है क्या लॉक डाउन की वजह से भारत ने 10 या 20 साल पीछे चला गया है तो मैं आपको बताना चाहता हूं ऐसा कुछ भी नहीं है और 10 साल या 20 साल पीछे चला जाना 40 या 90 दिनों के अंदर कोई ऐसी बड़ी बात नहीं बात करते हैं टॉपिक के ऊपर तो देखिए किसी भी चीज को आप रोक लीजिए चाहे आपके घर में कोई वाहन है उसे आप 3 साल के लिए बंद कर दीजिए या 4 साल के लिए बंद कर दीजिए उस में दिक्कत आ जाती है परेशानी है उसमें आने लगती है तो ऐसे ही हमारा देश है अगर हमने थोड़ी देर के लिए बंद किया है वह मतलब उसकी हमें सर्विस भी करनी होगी हमें उसे वे एक अच्छे मित्र को दिखाना होगा मतलब वर्कर को दिखाना होगा तभी बाइक अच्छे से चलती है तो ऐसे ही हमारा देश में इतना ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है कि जितना लोग लगा रहे हैं 10 या 20 साल पीछे चला गया आप यह देखिए अगर आप इस समय में कांग्रेस का राज होता या कांग्रेस शासन देश के ऊपर कर रही होती तो आज देश की अवस्था कुछ और उन में जितने मरीज मिले हैं लगभग 1 से अधिक संख्या में मौतों का धारा जाता मतलब लोगों की देहात गोपी मोदी सरकार ने बहुत ही अच्छा लॉक डाउन की नीतियों को अपनाया टाइम साथ और लोगों को बचाया धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Sar aapaka savaal hai kya lok daun kee vajah se bhaarat ne 10 ya 20 saal peechhe chala gaya hai to main aapako bataana chaahata hoon aisa kuchh bhee nahin hai aur 10 saal ya 20 saal peechhe chala jaana 40 ya 90 dinon ke andar koee aisee badee baat nahin baat karate hain topik ke oopar to dekhie kisee bhee cheej ko aap rok leejie chaahe aapake ghar mein koee vaahan hai use aap 3 saal ke lie band kar deejie ya 4 saal ke lie band kar deejie us mein dikkat aa jaatee hai pareshaanee hai usamen aane lagatee hai to aise hee hamaara desh hai agar hamane thodee der ke lie band kiya hai vah matalab usakee hamen sarvis bhee karanee hogee hamen use ve ek achchhe mitr ko dikhaana hoga matalab varkar ko dikhaana hoga tabhee baik achchhe se chalatee hai to aise hee hamaara desh mein itana jyaada nukasaan nahin hua hai ki jitana log laga rahe hain 10 ya 20 saal peechhe chala gaya aap yah dekhie agar aap is samay mein kaangres ka raaj hota ya kaangres shaasan desh ke oopar kar rahee hotee to aaj desh kee avastha kuchh aur un mein jitane mareej mile hain lagabhag 1 se adhik sankhya mein mauton ka dhaara jaata matalab logon kee dehaat gopee modee sarakaar ne bahut hee achchha lok daun kee neetiyon ko apanaaya taim saath aur logon ko bachaaya dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या आप इंटरनेट की स्पीड बढ़ाने का कोई तरीका बता सकते हैं?kya aap intaranet kee speed badhaane ka koee tareeka bata sakate hain
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:48
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या आप इंटरनेट की स्पीड बढ़ाने का कोई तरीका बता सकते हैं तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि इंटरनेट की स्पीड कई चीजों पर निर्भर करती है आईएस बात पर चर्चा करते हैं सबसे पहले कि हमारे पास कैसा फोन है फोन का प्रोसेसर कैसा है रैम कितनी है और रॉन्ग मतलब चलने लायक है या नहीं अब मालिक 332 फोन का यूज कर रहे हैं यानी कि 32 मेमोरी 32जीबी मेमोरी 3जीबी रैम तो उस फोन में आप चाहे कितने अच्छे नेटवर्क में है थोड़ा स्लो चलेगा ही नेट क्योंकि उसके पास थोड़ा जो उसकी सोचने की क्षमता है वह बहुत कम है थोड़ी कम है अगर आपके पास 4G सेट है यानी कि 4 रैम और 64GB मेमोरी फोन बहुत अच्छे से बात करेगा उससे बैटरी काम करेगा क्योंकि उसका सॉफ्टवेयर सिस्टम अच्छा है दूसरा में एक और चीज के ऊपर बोलना चाहता हूं जैसे मेरे घर में क्या है कि इंटरनेट की स्पीड को बेस्ट करने के लिए अगर आपके घर में 10 बंदे हैं और 10 में से आठ जिओ की सिम का इस्तेमाल करते हैं वाली जिसमें से आठ जिओ की सिम का इस्तेमाल करते हैं उन दो बंदे एयरटेल या अनदर कंपनी किसी का सिम यूज कर रहे हैं वहां पर जिओ के नेटवर्क बहुत अच्छा आएंगे क्योंकि यह जो कंप्यूटर रूल होता है नियम होता कि जहां पर हमारे कंजूमर बहुत ज्यादा होंगे तो वहां पर नेटवर्क उसी कंपनी की ज्यादा हो गई जिस कंपनी की हमारे पास सिम है चाहे वह कोई सी कंपनी हो आप देख सकते हैं आज ऐसी कौन सी कंपनी की ज्यादा सिम जहां पर होंगे उसी हिसाब से उस नेटवर्क बनाते हैं धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya aap intaranet kee speed badhaane ka koee tareeka bata sakate hain to main aapako bataana chaahoonga ki intaranet kee speed kaee cheejon par nirbhar karatee hai aaeees baat par charcha karate hain sabase pahale ki hamaare paas kaisa phon hai phon ka prosesar kaisa hai raim kitanee hai aur rong matalab chalane laayak hai ya nahin ab maalik 332 phon ka yooj kar rahe hain yaanee ki 32 memoree 32jeebee memoree 3jeebee raim to us phon mein aap chaahe kitane achchhe netavark mein hai thoda slo chalega hee net kyonki usake paas thoda jo usakee sochane kee kshamata hai vah bahut kam hai thodee kam hai agar aapake paas 4g set hai yaanee ki 4 raim aur 64gb memoree phon bahut achchhe se baat karega usase baitaree kaam karega kyonki usaka sophtaveyar sistam achchha hai doosara mein ek aur cheej ke oopar bolana chaahata hoon jaise mere ghar mein kya hai ki intaranet kee speed ko best karane ke lie agar aapake ghar mein 10 bande hain aur 10 mein se aath jio kee sim ka istemaal karate hain vaalee jisamen se aath jio kee sim ka istemaal karate hain un do bande eyaratel ya anadar kampanee kisee ka sim yooj kar rahe hain vahaan par jio ke netavark bahut achchha aaenge kyonki yah jo kampyootar rool hota hai niyam hota ki jahaan par hamaare kanjoomar bahut jyaada honge to vahaan par netavark usee kampanee kee jyaada ho gaee jis kampanee kee hamaare paas sim hai chaahe vah koee see kampanee ho aap dekh sakate hain aaj aisee kaun see kampanee kee jyaada sim jahaan par honge usee hisaab se us netavark banaate hain dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
ऐसा कौन सा काम है जिससे करने पर आदमी कभी नहीं पछताता?Aisa Kaun Sa Kaam Hai Jisse Karne Par Aadmi Kabhi Nahin Pachtaata
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:49
नमस्कार आपका सवाल है ऐसा कौन सा काम है जिसे करने पर आदमी कभी नहीं पता था तुम्हें आपको बताना चाहूंगा ज्यादातर तुम्हें अपनी जिंदगी के उदाहरण यहां पर शेयर करता हूं से प्लेटफार्म पर तू हम एक बार की बात है परीक्षित गढ़ से मेरठ के लिए हम निकले थे जो मेरा क्षेत्र पड़ता है वह परीक्षितगढ़ मेरठ के बीच का क्षेत्र पड़ता है तू हम दो दोस्त रास्ते में से जा रहे थे बाइक पर तुमने देखा कि रास्ते में कुत्ता उसका आधा हिस्सा दुद्धी को राधा जोश का हिस्सा था वह गाड़ी से कुचला हुआ था मुझे वह मर गया था वह डेड हो गई डेड हो गया पैसे तुम्हारे देखा यार इतनी दुनिया है हम इंसान है अमित दूसरे की कितनी केयर करते हैं कितना मांगते लोगों को अगर हमें हमारा कोई इंसान मर जाए खत्म हो जाए अगर किसी का इंतकाल हो जाए तो हम उसे कितने प्यार से दफनाते हैं या उसका अंतिम संस्कार करते हैं उसे पंचतत्व में विलीन करते हैं पर हम इनका कुछ नहीं करते अगर कोई ऑनरोड कुत्ता है बिल्ली मर गया तू मैंने क्या काम किया कि वहां किसान खेत में काम कर रहा था उससे मैं कसला मांग कर लाया फावड़ा और मिनी माइक बना है बहुत गहरा और पास से ही एक नमक की थैली ली और उसको देखो उस गड्ढे में दबा के उसका संस्कार करके आज उसकी गति थी वह बनेगी क्योंकि उसका तो दुनिया में कोई नहीं था मुझे मेरे दिल को इस काम को कर बहुत शांति के लिए मैंने बहुत बार मुझे कोई बिल्ली मिल जाती है कुत्ता मिल जाता है चिड़िया मिल जाती है तुम्हें नहीं पढ़ा है तो पढ़ा है नहीं यार हम इंसान हैं हमें प्रकृति के कुछ नियमों के अनुसार चलना होगा तो इन छोटे-छोटे कामों की वजह से इंसान पर कोई फर्क नहीं पड़ता है मैं हमेशा यही कहता हूं लोगों को अगर कोई आपको मृत्यु जी वजह से कुत्ता बिल्ली कोई भी भर जाता है सड़क पर तब उसे दबाने की कोशिश करें लाइफ में कुछ चीजें हमें बहुत कुछ सिखाती है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें आपका छोटा भाई आकाश चौधरी धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai aisa kaun sa kaam hai jise karane par aadamee kabhee nahin pata tha tumhen aapako bataana chaahoonga jyaadaatar tumhen apanee jindagee ke udaaharan yahaan par sheyar karata hoon se pletaphaarm par too ham ek baar kee baat hai pareekshit gadh se merath ke lie ham nikale the jo mera kshetr padata hai vah pareekshitagadh merath ke beech ka kshetr padata hai too ham do dost raaste mein se ja rahe the baik par tumane dekha ki raaste mein kutta usaka aadha hissa duddhee ko raadha josh ka hissa tha vah gaadee se kuchala hua tha mujhe vah mar gaya tha vah ded ho gaee ded ho gaya paise tumhaare dekha yaar itanee duniya hai ham insaan hai amit doosare kee kitanee keyar karate hain kitana maangate logon ko agar hamen hamaara koee insaan mar jae khatm ho jae agar kisee ka intakaal ho jae to ham use kitane pyaar se daphanaate hain ya usaka antim sanskaar karate hain use panchatatv mein vileen karate hain par ham inaka kuchh nahin karate agar koee onarod kutta hai billee mar gaya too mainne kya kaam kiya ki vahaan kisaan khet mein kaam kar raha tha usase main kasala maang kar laaya phaavada aur minee maik bana hai bahut gahara aur paas se hee ek namak kee thailee lee aur usako dekho us gaddhe mein daba ke usaka sanskaar karake aaj usakee gati thee vah banegee kyonki usaka to duniya mein koee nahin tha mujhe mere dil ko is kaam ko kar bahut shaanti ke lie mainne bahut baar mujhe koee billee mil jaatee hai kutta mil jaata hai chidiya mil jaatee hai tumhen nahin padha hai to padha hai nahin yaar ham insaan hain hamen prakrti ke kuchh niyamon ke anusaar chalana hoga to in chhote-chhote kaamon kee vajah se insaan par koee phark nahin padata hai main hamesha yahee kahata hoon logon ko agar koee aapako mrtyu jee vajah se kutta billee koee bhee bhar jaata hai sadak par tab use dabaane kee koshish karen laiph mein kuchh cheejen hamen bahut kuchh sikhaatee hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen aapaka chhota bhaee aakaash chaudharee dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:33
नमस्कार आपका सवाल है क्या लड़कियों को भारतीय संस्कृति के कपड़े पहनना अच्छा नहीं लगता जींस पैंट टी-शर्ट पहनते हैं और विकी मैं सबसे पहले आपको एक सलाह दूंगा कि कोई भी बोलकर ऐप पर सवाल पूछता है तू एक स्पष्टता के साथ प्रश्न करें मतलब अपने शब्दों को पूरा रखने का प्रयास करें क्योंकि आप अधूरे शब्द रखते हैं तो उसमें हमें जवाब देने में समस्या होती है तो मैं आपके सवाल की तरफ आता हूं तो देखी हर आप फोन चलाते हैं मोबाइल फोन आप इस्तेमाल करते हैं और उसमें आप एप्लीकेशन यूज करते हैं वह भी समय-समय पर अपडेट मांगता है 3 महीने 4 महीने 15 दिन 20 दिन में जरूर एक बार अपडेट मांगता है क्योंकि उसके पीछे एक कारण है क्योंकि अगर हम एक चीज के ऊपर निर्भर रहेंगे एक चीज के पीछे हम निर्भर रहेंगे तो जो जनरेशन गैप होगा वह बहुत बड़ा हो जाएगा कुछ टी शर्ट पहनता है कोई सूट पहनता है कोई धामन पहनता है तो फर्क कुछ नहीं है फर्क इंसानों की सोच का है मनुष्य की सोच का है कि इंसान के साथ होता भाई लड़कियां तो चलो मैंने मान लिया जींस पहनती है फुल लड़की भी तो जींस पहनते हैं लड़कों की दो कुर्ते पजामे पहननी चाहिए क्वालिटी की बात करो ना कुछ नहीं कि नहीं कि लड़कियां लड़की जींस क्यों पहनती है लड़कियां सूट सलवार क्यों नहीं पहनती तो भाई लड़के जूस क्यों पहनते हैं लड़कों को पजामा पहना हो उड़ता पहनाओ तू ही फूटा मैं आज की मानसिकता का बहुत छोटा सा वाली से मान लूंगा कि अगर हम लड़की को नहीं कह सकते तो हमें लड़की को कहने का अधिकार नहीं है अभी तुम जींस क्यों पहन रहे हो तो मैं भी जींस पहनता हूं मेरे घर में लड़कियां जिंस बैंक नहीं है मुझे पता है की जनरेशन क्या है उस दिन क्या चाहती है कुछ लोगों को या कुछ लोगों के कहने से जनरेशन दौलत नहीं होती है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें और इस सवाल पर अगर आपको अच्छा लगा हो तो कमेंट जरूर करें धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai kya ladakiyon ko bhaarateey sanskrti ke kapade pahanana achchha nahin lagata jeens paint tee-shart pahanate hain aur vikee main sabase pahale aapako ek salaah doonga ki koee bhee bolakar aip par savaal poochhata hai too ek spashtata ke saath prashn karen matalab apane shabdon ko poora rakhane ka prayaas karen kyonki aap adhoore shabd rakhate hain to usamen hamen javaab dene mein samasya hotee hai to main aapake savaal kee taraph aata hoon to dekhee har aap phon chalaate hain mobail phon aap istemaal karate hain aur usamen aap epleekeshan yooj karate hain vah bhee samay-samay par apadet maangata hai 3 maheene 4 maheene 15 din 20 din mein jaroor ek baar apadet maangata hai kyonki usake peechhe ek kaaran hai kyonki agar ham ek cheej ke oopar nirbhar rahenge ek cheej ke peechhe ham nirbhar rahenge to jo janareshan gaip hoga vah bahut bada ho jaega kuchh tee shart pahanata hai koee soot pahanata hai koee dhaaman pahanata hai to phark kuchh nahin hai phark insaanon kee soch ka hai manushy kee soch ka hai ki insaan ke saath hota bhaee ladakiyaan to chalo mainne maan liya jeens pahanatee hai phul ladakee bhee to jeens pahanate hain ladakon kee do kurte pajaame pahananee chaahie kvaalitee kee baat karo na kuchh nahin ki nahin ki ladakiyaan ladakee jeens kyon pahanatee hai ladakiyaan soot salavaar kyon nahin pahanatee to bhaee ladake joos kyon pahanate hain ladakon ko pajaama pahana ho udata pahanao too hee phoota main aaj kee maanasikata ka bahut chhota sa vaalee se maan loonga ki agar ham ladakee ko nahin kah sakate to hamen ladakee ko kahane ka adhikaar nahin hai abhee tum jeens kyon pahan rahe ho to main bhee jeens pahanata hoon mere ghar mein ladakiyaan jins baink nahin hai mujhe pata hai kee janareshan kya hai us din kya chaahatee hai kuchh logon ko ya kuchh logon ke kahane se janareshan daulat nahin hotee hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen aur is savaal par agar aapako achchha laga ho to kament jaroor karen dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
दिल की तेज धड़कन किसका संकेत है?Dil Ki Tej Dhadkan Kiska Sanket Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:38
नमस्कार आपका सवाल है कि दिल की धड़कन का संकेत है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि जो आप का सवाल है वह किस प्रकार से हमें आपका जवाब देने का प्रयत्न करूंगा कि सबसे पहले आप कहीं से बहुत ज्यादा दूर से चलकर आए हैं आपको थकावट है तो आपका दिल जो है वह तेज पंप करेगा फास्ट पंपिंग करेगा और दिल बहुत तेज झड़ते दूसरा अगर आप देखें कि अगर आप किसी को मोहब्बत प्यार करते हैं लाइक करते हैं और 1 साल आपके सामने अचानक से आ गए तो हा लगेगा क्यों इंसान मेरा है लेकिन रियलिटी ही नहीं होती कि वो इंसान हमारा हम शांत को देख सकते हैं विहार सकते हैं बहुत समय तक लेकिन हम शाम को छू नहीं सकते दो पहलू होते हैं चांद को छूने के लिए चांद जैसा बनना पड़ता है चांद जैसी मेहनत करनी पड़ती है जो इंसान समझने वाली होंगी वह समझ जाएंगे और जो नहीं समझने वाले होंगे उन नहीं समझेंगे तो हां मैं भी किसी को लाइक करने लग गया हूं ऐसी बात नहीं है पर मैं कभी नहीं कह पाऊंगा सुनसान से कि मेरी दिल की धड़कन जो तड़पती है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब वाक्य में ही अच्छा लगा हो तो आप लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki dil kee dhadakan ka sanket hai to main aapako bataana chaahoonga ki jo aap ka savaal hai vah kis prakaar se hamen aapaka javaab dene ka prayatn karoonga ki sabase pahale aap kaheen se bahut jyaada door se chalakar aae hain aapako thakaavat hai to aapaka dil jo hai vah tej pamp karega phaast pamping karega aur dil bahut tej jhadate doosara agar aap dekhen ki agar aap kisee ko mohabbat pyaar karate hain laik karate hain aur 1 saal aapake saamane achaanak se aa gae to ha lagega kyon insaan mera hai lekin riyalitee hee nahin hotee ki vo insaan hamaara ham shaant ko dekh sakate hain vihaar sakate hain bahut samay tak lekin ham shaam ko chhoo nahin sakate do pahaloo hote hain chaand ko chhoone ke lie chaand jaisa banana padata hai chaand jaisee mehanat karanee padatee hai jo insaan samajhane vaalee hongee vah samajh jaenge aur jo nahin samajhane vaale honge un nahin samajhenge to haan main bhee kisee ko laik karane lag gaya hoon aisee baat nahin hai par main kabhee nahin kah paoonga sunasaan se ki meree dil kee dhadakan jo tadapatee hai dhanyavaad agar aapako mera javaab vaaky mein hee achchha laga ho to aap laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
मनुष्य सबसे कमजोर कब होता है?Manushya Sabse Kamjor Kab Hota Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
2:06
नमस्कार आपका सवाल है मनुष्य सबसे कमजोर कब होता है तुम्हें मैं आपको बता दूं मनुष्य सबसे कमजोर यानी कि इंसान सबसे कमजोर जब होता है अगर वह किसी इंसान को लाइक करता है पसंद करता है और से प्यार करता है और वह इंसान से छोड़कर चला जाए उस कंडीशन में इंसान सबसे कम होता है दूसरी कंडीशन है हमने मेहनत बहुत ज्यादा कि हमें यकीन था कि हम जीतेंगे हम पास होंगे लेकिन हम पास नहीं होते हम फेल हो जाते हैं वह हमें पता होता कि हमने मेहनत इतनी ज्यादा की है तब इंसान अंदर से टूट जाता है कमजोर हो जाता है लाइफ में ही दो तीन चीज है अगर वह किसी को सच्चे मन से प्यार लगन से करता है और वो इंसान उसे छोड़कर चला जाए ऐन वक्त पर जो इंसान जब सबसे ज्यादा कमजोर दिल करता है एक छोटी सी कंडीशन के माध्यम से मैं आप को समझाने का प्रयास करूंगा कि आपने आर्मी की भर्ती देखी होगी बच्चे रिश्तो लगा लेते हैं लेकिन डॉक्टरी में निकल जाते हैं तो बच्चों को कितना दुख होता होगा अभी मैंने इतनी मेहनत की है और मैं यहां तक आया और मैं आर्मी भर्ती हूं तो इंसान कमजोर होता है इंसान अपनी कमजोरियों को देखकर कमजोर होता है कि मेरा चेहरा ऐसा भगवान ने क्यों बनाया शकर भगवान ऐसे क्यों कन्हैया मेरा परिवार ऐसा क्यों है इन सब चीजों को देखकर इंसान कमजोर पड़ता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai manushy sabase kamajor kab hota hai tumhen main aapako bata doon manushy sabase kamajor yaanee ki insaan sabase kamajor jab hota hai agar vah kisee insaan ko laik karata hai pasand karata hai aur se pyaar karata hai aur vah insaan se chhodakar chala jae us kandeeshan mein insaan sabase kam hota hai doosaree kandeeshan hai hamane mehanat bahut jyaada ki hamen yakeen tha ki ham jeetenge ham paas honge lekin ham paas nahin hote ham phel ho jaate hain vah hamen pata hota ki hamane mehanat itanee jyaada kee hai tab insaan andar se toot jaata hai kamajor ho jaata hai laiph mein hee do teen cheej hai agar vah kisee ko sachche man se pyaar lagan se karata hai aur vo insaan use chhodakar chala jae ain vakt par jo insaan jab sabase jyaada kamajor dil karata hai ek chhotee see kandeeshan ke maadhyam se main aap ko samajhaane ka prayaas karoonga ki aapane aarmee kee bhartee dekhee hogee bachche rishto laga lete hain lekin doktaree mein nikal jaate hain to bachchon ko kitana dukh hota hoga abhee mainne itanee mehanat kee hai aur main yahaan tak aaya aur main aarmee bhartee hoon to insaan kamajor hota hai insaan apanee kamajoriyon ko dekhakar kamajor hota hai ki mera chehara aisa bhagavaan ne kyon banaaya shakar bhagavaan aise kyon kanhaiya mera parivaar aisa kyon hai in sab cheejon ko dekhakar insaan kamajor padata hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या ज्यादा सोना शरीर के लिए हानिकारक और नुकसानदायक हो सकता है?Kya Jyada Sona Shareer Ke Liye Haanikaarak Aur Nuksandayak Ho Sakta Hain
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:04
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या ज्यादा सोना शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है या नुकसानदायक हो सकता है तो मैं आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करूंगा तू आप कोई भी कार्य अगर आप जागते ज्यादा देर हैं तो आपको इनके ज्यादा देर हो सोएंगे ज्यादा देर तक जागेंगे याद आते तो अगर हम कोई भी कार्य है अगर अपनी क्षमता से ज्यादा झड़ते हैं यह उसके विरुद्ध जाते हैं नियमों के विरुद्ध जाते हैं तो वह हमें उल्टा असर उनका हमारे ऊपर दिखाई दे हमें ज्यादा सोने से शरीर को क्या नुकसान होगा जो रिपेयरिंग होती है मतलब जो कैलोरी है उसे नष्ट करना बहुत जरूरी है जो सोने के बाद में नया तंत्र शरीर को मिला है उसे नष्ट करना बहुत जरूरी है तो वह नष्ट नहीं होगा तो उनसे ज्यादा होगी शरीर में और ज्यादा दोगी तो बीमारियों का बहुत सारा कारण बनेगा धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya jyaada sona shareer ke lie haanikaarak ho sakata hai ya nukasaanadaayak ho sakata hai to main aapake savaal ka javaab dene ka prayaas karoonga too aap koee bhee kaary agar aap jaagate jyaada der hain to aapako inake jyaada der ho soenge jyaada der tak jaagenge yaad aate to agar ham koee bhee kaary hai agar apanee kshamata se jyaada jhadate hain yah usake viruddh jaate hain niyamon ke viruddh jaate hain to vah hamen ulta asar unaka hamaare oopar dikhaee de hamen jyaada sone se shareer ko kya nukasaan hoga jo ripeyaring hotee hai matalab jo kailoree hai use nasht karana bahut jarooree hai jo sone ke baad mein naya tantr shareer ko mila hai use nasht karana bahut jarooree hai to vah nasht nahin hoga to unase jyaada hogee shareer mein aur jyaada dogee to beemaariyon ka bahut saara kaaran banega dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
किसी इंसान को कैसे परखे?Kisi Insaan Ko Kaise Parkhe
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:24
आपका सवाल है कि इंसान को कैसे पके तो मैं आपको बताना चाहूंगा मेरे पास एक सीधा सा फार्मूला है इंसान को समझने के लिए जरा तो उस इंसान के पास है जो इंसान को परखना चाहते जिस इंसान को परखना करो तो आप ग्लासी पानी ले रहे हो तुम क्लास छोटा एक बताना होता है पानी का एक गिलास पानी डीजे होती तुम सोच के ऊपर डाल दीजिए अगर उसने गुस्सा किया अगर उसने गुस्सा किया इंसान को आपसे प्यार नहीं करता और उसमें गुस्सा नहीं किया तो इंसान आपसे बहुत प्यार करते हैं मतलब रिएक्शन तुरंत आपको मिल जाए तुरंत अगर एकदम से अगर वो इंसान आप पर गुस्सा करता है अपने उसके ऊपर पानी डालो ओर एकदम से आपके ऊपर गुस्सा करता है तू इंसान आपसे प्यार नहीं करता आप से मोहब्बत नहीं करता अगर वह इंसान रिएक्ट नहीं करता वह आपसे शत-प्रतिशत प्यार करता है आपको चाहता है क्योंकि वह आपकी खुशी में खुशी देखना है कि बहुत छोटी सी बात है अगर इस छोटी सी बात को आप समझ जाएंगे अगर इसका अध्ययन कर लेंगे और इन बातों को सालों को समझ जाएंगे तो आपको बहुत सारी जानकारी धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो आप लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Aapaka savaal hai ki insaan ko kaise pake to main aapako bataana chaahoonga mere paas ek seedha sa phaarmoola hai insaan ko samajhane ke lie jara to us insaan ke paas hai jo insaan ko parakhana chaahate jis insaan ko parakhana karo to aap glaasee paanee le rahe ho tum klaas chhota ek bataana hota hai paanee ka ek gilaas paanee deeje hotee tum soch ke oopar daal deejie agar usane gussa kiya agar usane gussa kiya insaan ko aapase pyaar nahin karata aur usamen gussa nahin kiya to insaan aapase bahut pyaar karate hain matalab riekshan turant aapako mil jae turant agar ekadam se agar vo insaan aap par gussa karata hai apane usake oopar paanee daalo or ekadam se aapake oopar gussa karata hai too insaan aapase pyaar nahin karata aap se mohabbat nahin karata agar vah insaan riekt nahin karata vah aapase shat-pratishat pyaar karata hai aapako chaahata hai kyonki vah aapakee khushee mein khushee dekhana hai ki bahut chhotee see baat hai agar is chhotee see baat ko aap samajh jaenge agar isaka adhyayan kar lenge aur in baaton ko saalon ko samajh jaenge to aapako bahut saaree jaanakaaree dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to aap laik aur sabsakraib jaroor karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
प्रेम का शुरुआत किसने किया था मानव या प्रकृति ने?Prem Ka Shuruat Kisne Kiya Tha Manav Ya Prakriti Ne
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:15
नमस्कार आपका सवाल है कि प्रेम का शुरुआत किसने किया था मानव या प्रकृति तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रेम की शुरुआत प्रकृति ने कि जैसे कि आप किसी भी चीज में ले लीजिए प्रकृति हमेशा जीवन से प्रेम करती है उदारता यानी कि को देना चाहती है और देता कौन है जो प्रेम करता है वही इंसान देता है जो प्रेम करता है आगे राम एक दूसरे पर हमेशा डाउट रखेंगे छोटी-छोटी बातों पर हम कमियां निकाल लेंगे लोगों में किसी भी पॉइंट पर ले ली है तो प्रेम नहीं होता प्रेम तो निर्भर होता है मतलब किस में कोई धर्म नहीं होता है मतलब नहीं होता है शर्मा ने बदला तो लोगों के दांतों को मिटाना प्रेम नहीं होता है बस प्रेम के राज में खो जाना प्रेम होता है प्रेम को समझने के लिए प्रेम अब मैं होना पड़ता है और प्रेम में होने के लिए एक दूसरे का होना पड़ता है धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो जरूर लाइक करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki prem ka shuruaat kisane kiya tha maanav ya prakrti to main aapako bataana chaahoonga ki prem kee shuruaat prakrti ne ki jaise ki aap kisee bhee cheej mein le leejie prakrti hamesha jeevan se prem karatee hai udaarata yaanee ki ko dena chaahatee hai aur deta kaun hai jo prem karata hai vahee insaan deta hai jo prem karata hai aage raam ek doosare par hamesha daut rakhenge chhotee-chhotee baaton par ham kamiyaan nikaal lenge logon mein kisee bhee point par le lee hai to prem nahin hota prem to nirbhar hota hai matalab kis mein koee dharm nahin hota hai matalab nahin hota hai sharma ne badala to logon ke daanton ko mitaana prem nahin hota hai bas prem ke raaj mein kho jaana prem hota hai prem ko samajhane ke lie prem ab main hona padata hai aur prem mein hone ke lie ek doosare ka hona padata hai dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to jaroor laik karen

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
सफल किसे कहते हैं?Safal Kise Kehte Hain
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:51
नमस्कार आपका सवाल है कि सफलता किसे कहते हैं ठीक है तो मैं आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करूंगा अगर आपको समझ आए तो जब आपको पूरा सुने क्योंकि जब भी लोगों को समझ आता कि जवाब नहीं किस तरह से गिरा है सबसे पहले सफल जो हमारा पहला अक्षर है उसे हम उठाएंगे यानी कि साहब जो हमने साहस दिखाया है तुम ने सफलता पाई है पहला शब्द आप ले लीजिए से सब्जी अंकित साहस और दूसरा है पल जो हमने साहस दिखाकर फल पाया है लगन के साथ ले लो दो तो वह है सफलता हमेशा हर दिखाया है उसका फल हमें मिला है और लगन के साथ हमने सारा कार्य किया है कल को हमने लगन से लगाया है तो हमें सफलता मिली जीवन में हर एक व्यक्ति के किसी भी भाग में आप ले लीजिए सर मिल जाती है आप कोई भी क्षेत्र ले लीजिए सरकारी नौकरी ले लीजिए बिजनेस ले ली लेकिन इंसान का पेट कभी नहीं भरता हो जाता है कि मैं सभी वेस्ट प्रोडक्ट हूं मैं खुद खुद इस काम को कर लूंगा आपको मैं बता तूने यह बैटर है तुझसे बैठो मुझे चाहिए अगर मेरी आवाज इतनी अच्छी है तो मुझे अपनी आवाज को और वेस्ट करने के लिए क्या करना पड़ेगा अपने शब्दों को सुधारने के लिए मुझे क्या प्रयास करने पड़ेंगे बहुत सारी चीजें सफलता की कहानी की साहस का जो फल हमें मिला है जो अपने साहस दिखाया है सफलता को पाने के लिए उसका फल हमें मिला है और लगन के साथ में धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki saphalata kise kahate hain theek hai to main aapake savaal ka javaab dene ka prayaas karoonga agar aapako samajh aae to jab aapako poora sune kyonki jab bhee logon ko samajh aata ki javaab nahin kis tarah se gira hai sabase pahale saphal jo hamaara pahala akshar hai use ham uthaenge yaanee ki saahab jo hamane saahas dikhaaya hai tum ne saphalata paee hai pahala shabd aap le leejie se sabjee ankit saahas aur doosara hai pal jo hamane saahas dikhaakar phal paaya hai lagan ke saath le lo do to vah hai saphalata hamesha har dikhaaya hai usaka phal hamen mila hai aur lagan ke saath hamane saara kaary kiya hai kal ko hamane lagan se lagaaya hai to hamen saphalata milee jeevan mein har ek vyakti ke kisee bhee bhaag mein aap le leejie sar mil jaatee hai aap koee bhee kshetr le leejie sarakaaree naukaree le leejie bijanes le lee lekin insaan ka pet kabhee nahin bharata ho jaata hai ki main sabhee vest prodakt hoon main khud khud is kaam ko kar loonga aapako main bata toone yah baitar hai tujhase baitho mujhe chaahie agar meree aavaaj itanee achchhee hai to mujhe apanee aavaaj ko aur vest karane ke lie kya karana padega apane shabdon ko sudhaarane ke lie mujhe kya prayaas karane padenge bahut saaree cheejen saphalata kee kahaanee kee saahas ka jo phal hamen mila hai jo apane saahas dikhaaya hai saphalata ko paane ke lie usaka phal hamen mila hai aur lagan ke saath mein dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik aur sheyar jaroor karen

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
आरक्षण से भारत को कितना नुकसान होता है?Aarakshan Se Bharat Ko Kitna Nuksan Hota Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:25
मिस्टर मेकर चौधरी आपका सवाल है कि आरक्षण से भारत को क्या नुकसान है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि आरक्षण से बहुत सारे नुकसान है जातिवाद प्रथा का एक अंग है और कैसे मैं आपको बताता हूं क्यों गुर्जर है तू जाट है कोई मुस्लिम है कोई अल्पसंख्यक सभा रफीक आईएस की तैयारी कर रहे हैं किसी की रैंक बहुत अच्छी आकर भी उसे नहीं मिला ई-मेल पारिवारिक और किसी को बहुत नीची रैंक मिलकर भी बहुत अच्छी नौकरी मिलती है तो जिस चीज की जरूरत थी वह आरक्षण किस लिए बनाया गया था कि जो निचले तबके के लोग हैं ऐसी जो है उसे ऊपर की ऊपर में ऊपर जगह मिल जाए तो भाई आज के जमाने में 63% एक सर्वे के अनुसार करे शत प्रतिशत पीके लड़की बड़ी नौकरियां कर रहे हो काम खत्म हो गया जिस काम के लिए हमने आरक्षण बनाया था कार्य अब आरक्षण को बंद करो भाई आरक्षण से ही ऊंच-नीच भेदभाव भारत में बहुत ज्यादा हो तो आरक्षण से बहुत सारे इंसान हैं आप बहुत ही सारे नुकसान है अगर आपको मेरा जवाब समझ आया हो तो लाइक और सब्सक्राइब जरूर करें
Mistar mekar chaudharee aapaka savaal hai ki aarakshan se bhaarat ko kya nukasaan hai to main aapako bataana chaahoonga ki aarakshan se bahut saare nukasaan hai jaativaad pratha ka ek ang hai aur kaise main aapako bataata hoon kyon gurjar hai too jaat hai koee muslim hai koee alpasankhyak sabha rapheek aaeees kee taiyaaree kar rahe hain kisee kee raink bahut achchhee aakar bhee use nahin mila ee-mel paarivaarik aur kisee ko bahut neechee raink milakar bhee bahut achchhee naukaree milatee hai to jis cheej kee jaroorat thee vah aarakshan kis lie banaaya gaya tha ki jo nichale tabake ke log hain aisee jo hai use oopar kee oopar mein oopar jagah mil jae to bhaee aaj ke jamaane mein 63% ek sarve ke anusaar kare shat pratishat peeke ladakee badee naukariyaan kar rahe ho kaam khatm ho gaya jis kaam ke lie hamane aarakshan banaaya tha kaary ab aarakshan ko band karo bhaee aarakshan se hee oonch-neech bhedabhaav bhaarat mein bahut jyaada ho to aarakshan se bahut saare insaan hain aap bahut hee saare nukasaan hai agar aapako mera javaab samajh aaya ho to laik aur sabsakraib jaroor karen

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या अंग्रेजी फिल्में अंग्रेजी सीखने में मदद करती है?Kya Angreji Films Angreji Seekhne Mein Madad Karti Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:36
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या अंग्रेजी फिल्म अंग्रेजी सीखने में मदद करती है तो जी हां बिल्कुल अब आप मान लीजिए कि आप भारत में रहते हैं भारत में हर एक नागरिक ज्यादातर हिंदी बोलने वाले हैं तो आप देखते होंगे कि हम हिंदी बहुत जल्दी से आ सकते हैं अगर आप भारत में निचले राज्यों में चले जाएंगे इसके अलावा कर्नाटका इसमें क्या है कि ज्यादातर वहां पर इंग्लिश बोली जाती है तो वहां पर ज्यादातर लोगों को इंग्लिश बोलने की आदत बन जाती है वैज्ञानिक सिद्धांत फ्री है कि आप जैसे हालात में रहेंगे आपको वैसा ही बनना पड़ेगा अब देखिए ठंड में डालने के लिए इंसान को गर्मी मतलब आदमी को डरना पड़ता है अवस्था के अनुसार ऐसे ही हमारी लाइफ है अगर हम ज्यादातर इंग्लिश बोलेंगे इंग्लिश सीखने की कोशिश करेंगे तो हमसे इंग्लिश बहुत जल्दी आएगी खासकर इंग्लिश न्यूज़ पेपर से अगर हमारे घर पर इंग्लिश में न्यूज़ पेपर आता है तो हम इंग्लिश सीखने में बहुत आसान है उसे दूसरा आपने पूछा कि मूवी अब ज्यादातर मूवी में देखने वाली डाउन लाइन आती है ना ऑनलाइन आती है वह इंग्लिश में लिखी हुई थी और उससे इंग्लिश सीखने में बहुत ज्यादा मदद से लोगों को मिलती है और बहुत जल्दी इंग्लिश लिखी हुई नात इंसान जैसी परिस्थिति में रहता है वैसे ही इंग्लिश बहुत जल्दी सीखता है और किसी भी चीज में आप ले लीजिए धन्यवाद अगर आपको मेरा जवाब अच्छा लगा हो तो लाइक जरूर करें
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya angrejee philm angrejee seekhane mein madad karatee hai to jee haan bilkul ab aap maan leejie ki aap bhaarat mein rahate hain bhaarat mein har ek naagarik jyaadaatar hindee bolane vaale hain to aap dekhate honge ki ham hindee bahut jaldee se aa sakate hain agar aap bhaarat mein nichale raajyon mein chale jaenge isake alaava karnaataka isamen kya hai ki jyaadaatar vahaan par inglish bolee jaatee hai to vahaan par jyaadaatar logon ko inglish bolane kee aadat ban jaatee hai vaigyaanik siddhaant phree hai ki aap jaise haalaat mein rahenge aapako vaisa hee banana padega ab dekhie thand mein daalane ke lie insaan ko garmee matalab aadamee ko darana padata hai avastha ke anusaar aise hee hamaaree laiph hai agar ham jyaadaatar inglish bolenge inglish seekhane kee koshish karenge to hamase inglish bahut jaldee aaegee khaasakar inglish nyooz pepar se agar hamaare ghar par inglish mein nyooz pepar aata hai to ham inglish seekhane mein bahut aasaan hai use doosara aapane poochha ki moovee ab jyaadaatar moovee mein dekhane vaalee daun lain aatee hai na onalain aatee hai vah inglish mein likhee huee thee aur usase inglish seekhane mein bahut jyaada madad se logon ko milatee hai aur bahut jaldee inglish likhee huee naat insaan jaisee paristhiti mein rahata hai vaise hee inglish bahut jaldee seekhata hai aur kisee bhee cheej mein aap le leejie dhanyavaad agar aapako mera javaab achchha laga ho to laik jaroor karen

#मनोरंजन

bolkar speaker
भारत और पाकिस्तान के बीच क्या अंतर है?Bharat Aur Pakistan Ke Beech Kya Antar Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:08

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
कहानी और एकांकी में क्या अंतर होता है?Kahani Aur Ekanki Mein Kya Antar Hota Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
0:48

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक नई शादीशुदा औरत का मनोबल कब गिर जाता है?Ek Nayi Shadishuda Aurat Ka Manobal Kab Gir Jata Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:17

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
1857 की क्रांति असफल होने के मुख्य कारण क्या थे?1857 Kee Kranti Asafal Hone Ke Mukhya Karan Kya The
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:48

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
आज का परिवारिक रिश्ते टूटने की सबसे बड़ी वजह क्या है?Aaj Ka Parivarik Rishte Tutne Ki Sabse Badi Vajah Kya Hai
Akash Chaudhary  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akash जी का जवाब
Motivational speaker
1:42
URL copied to clipboard