#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
मूर्ति अथवा मंदिर की परिक्रमा करने से हमें क्या लाभ होता है?Murti Athva Mandir Ki Parikrama Karne Se Humein Kya Laabh Hota Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:01
मूर्ति अथवा मंदिर की परिक्रमा करने से हमें क्या लाभ होता है देखिए जब हम मंदिर जाते हैं तो भगवान की परिक्रमा जरूर लगाते हैं पर क्या कभी हमने सोचा है कि देव मूर्ति की परिक्रमा क्यों लगती जाती है शास्त्रों में लिखा है जिस स्थान पर मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हो गई हो उसके मध्य बिंदु से लेकर कुछ दूरी तक दिव्य प्रभा अथवा प्रभाव रहता है होने पर अधिक गहरा और दूर होने पर घटता जाता है इसलिए प्रतिमा के निकट परिक्रमा करने से देवी शक्ति के ज्योतिर मंडल से निकलने वाले तेज की सहज की प्राप्ति हो जाती है और इसके प्रभाव से हमें एक विशेष प्रकार की देवी ऊर्जा प्राप्त होती है ऐसी ऊर्जा जो हमें सभी प्रकार के नकारात्मक प्रभाव से दूर
Moorti athava mandir kee parikrama karane se hamen kya laabh hota hai dekhie jab ham mandir jaate hain to bhagavaan kee parikrama jaroor lagaate hain par kya kabhee hamane socha hai ki dev moorti kee parikrama kyon lagatee jaatee hai shaastron mein likha hai jis sthaan par moorti kee praan pratishtha ho gaee ho usake madhy bindu se lekar kuchh dooree tak divy prabha athava prabhaav rahata hai hone par adhik gahara aur door hone par ghatata jaata hai isalie pratima ke nikat parikrama karane se devee shakti ke jyotir mandal se nikalane vaale tej kee sahaj kee praapti ho jaatee hai aur isake prabhaav se hamen ek vishesh prakaar kee devee oorja praapt hotee hai aisee oorja jo hamen sabhee prakaar ke nakaaraatmak prabhaav se door

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
अघोरियों और नागा बाबाओं में क्या अंतर है?Aghoriyo Aur Naaga Baabao Mein Kya Antar Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:39
दवा ले गोरिया और नागा बाबाओं में क्या अंतर है देखिए अघोरी बाबाओं के संबंध में कहा जाता है कि यह जानवर के अतिरिक्त मानव मांस भी खाते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दें किसी भी प्रकार का अघोरी बनने के लिए किसी गुरु के निर्देशन की कोई आवश्यकता नहीं होती है जबकि नागा साधु अपने गुरु के देखरेख में शिक्षा दीक्षा ग्रहण करते हैं अघोरी भगवान भोलेनाथ को ही अपना गुरु मानते हैं जबकि नागा साधु भगवान भोलेनाथ को ही परमात्मा के रूप में पूजते हैं धन्यवाद
Dava le goriya aur naaga baabaon mein kya antar hai dekhie aghoree baabaon ke sambandh mein kaha jaata hai ki yah jaanavar ke atirikt maanav maans bhee khaate hain aapakee jaanakaaree ke lie bata den kisee bhee prakaar ka aghoree banane ke lie kisee guru ke nirdeshan kee koee aavashyakata nahin hotee hai jabaki naaga saadhu apane guru ke dekharekh mein shiksha deeksha grahan karate hain aghoree bhagavaan bholenaath ko hee apana guru maanate hain jabaki naaga saadhu bhagavaan bholenaath ko hee paramaatma ke roop mein poojate hain dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
महाशिवरात्रि क्यों मनाते हैं वास्तविक कारण बताइए?Mahashivratri Kyo Manate Hai Vastvik Karan Bataiye
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:45
कमाल है महाशिवरात्रि क्यों मनाते हैं वास्तविक कारण बताइए देखिए पौराणिक और धार्मिक मान्यता के अनुसार इन 3 कारणों से महाशिवरात्रि पर्व मनाया जाता है जिसमें शिव पार्वती का विवाह सबसे ज्यादा प्रचलित है इस कारण से महाशिवरात्रि को कई स्थानों पर रात्रि में शिव बारात भी निकाली जाती है महाशिवरात्रि इन तीनों वजह से मनाई जाती है माता पार्वती और भगवान शिव का विवाह फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को हुई थी इस तिथि को भगवान शिव और माता पार्वती के महामिलन के उत्सव के रूप में मनाते हैं महाशिवरात्रि के दिन शिव पार्वती का विवाह होने से इसका महत्व ज्यादा कहा जाता है कि इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से वह जल्द प्रसन्न होते हैं एक मान्यता यह भी है कि महाशिवरात्रि का व्रत रखने से विवाह में आ रही अड़चनें दूर होती हैं दुआ जल्द होता है महाशिवरात्रि का पर्व भारत के सभी प्रदेशों में धूमधाम से मनाया जाता है भारत के साथ नेपाल मॉरिशस सहित दुनिया के कई अन्य देशों में भी महाशिवरात्रि का पर्व उत्साह पूर्वक मनाया जाता है महाशिवरात्रि का व्रत फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को किया जाता है महाशिवरात्रि भगवान शिव का त्योहार है हिंदू पुराणों के अनुसार इसी दिन सृष्टि के आरंभ में मध्य रात्रि में भगवान शिव ब्रह्मा से रुद्र के रूप में प्रकट हुए थे इसीलिए इस दिन को महाशिवरात्रि कहा जाता है धन्यवाद
Kamaal hai mahaashivaraatri kyon manaate hain vaastavik kaaran bataie dekhie pauraanik aur dhaarmik maanyata ke anusaar in 3 kaaranon se mahaashivaraatri parv manaaya jaata hai jisamen shiv paarvatee ka vivaah sabase jyaada prachalit hai is kaaran se mahaashivaraatri ko kaee sthaanon par raatri mein shiv baaraat bhee nikaalee jaatee hai mahaashivaraatri in teenon vajah se manaee jaatee hai maata paarvatee aur bhagavaan shiv ka vivaah phaalgun maas kee krshn paksh kee chaturdashee tithi ko huee thee is tithi ko bhagavaan shiv aur maata paarvatee ke mahaamilan ke utsav ke roop mein manaate hain mahaashivaraatri ke din shiv paarvatee ka vivaah hone se isaka mahatv jyaada kaha jaata hai ki is din bhagavaan shiv kee pooja karane se vah jald prasann hote hain ek maanyata yah bhee hai ki mahaashivaraatri ka vrat rakhane se vivaah mein aa rahee adachanen door hotee hain dua jald hota hai mahaashivaraatri ka parv bhaarat ke sabhee pradeshon mein dhoomadhaam se manaaya jaata hai bhaarat ke saath nepaal morishas sahit duniya ke kaee any deshon mein bhee mahaashivaraatri ka parv utsaah poorvak manaaya jaata hai mahaashivaraatri ka vrat phaalgun maas kee krshn paksh kee trayodashee ko kiya jaata hai mahaashivaraatri bhagavaan shiv ka tyohaar hai hindoo puraanon ke anusaar isee din srshti ke aarambh mein madhy raatri mein bhagavaan shiv brahma se rudr ke roop mein prakat hue the iseelie is din ko mahaashivaraatri kaha jaata hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
चने का पानी पीने के क्या फायदे हैं?Chane Ka Paani Peene Ke Kya Fayde Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:50
सवाली चने का पानी पीने के क्या फायदे हैं देखिए चने में विटामिन और मिलन की भरपूर मात्रा पाई जाती है या कार्बोहाइड्रेट प्रोटीन फाइबर और विटामिन डी का अच्छा स्रोत है इसका काम सिर्फ पेट भरने तक ही नहीं सीमित नहीं है बल्कि यह कई सारे लोगों में भी फायदेमंद है डॉक्टर की माने तो उबले चने का पानी पीने से दिल की बीमारियां दूर हो जाती है और कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम हो रहता है चने के पानी में कॉपर और जिंक की मात्रा मौजूद होती है जो बालों को झड़ने से बचाती है और चेहरे पर निखार लाती है इसके अलावा यह पानी में फाइबर की मात्रा मौजूद होती है जिससे वजन कंट्रोल में रहता है धन्यवाद
Savaalee chane ka paanee peene ke kya phaayade hain dekhie chane mein vitaamin aur milan kee bharapoor maatra paee jaatee hai ya kaarbohaidret proteen phaibar aur vitaamin dee ka achchha srot hai isaka kaam sirph pet bharane tak hee nahin seemit nahin hai balki yah kaee saare logon mein bhee phaayademand hai doktar kee maane to ubale chane ka paanee peene se dil kee beemaariyaan door ho jaatee hai aur kolestrol leval bhee kam ho rahata hai chane ke paanee mein kopar aur jink kee maatra maujood hotee hai jo baalon ko jhadane se bachaatee hai aur chehare par nikhaar laatee hai isake alaava yah paanee mein phaibar kee maatra maujood hotee hai jisase vajan kantrol mein rahata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हंगर हार्मोन क्या होता है?Hunger Harmone Kya Hota Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:31
वॉल हैंगर हार्मोन क्या होता है देखिए यह रैली ना नामक हार्मोन होता है यह हार्मोन को हंगर हार्मोन के नाम से भी जाना जाता है पेट से निकलने वाले हार्मोन का काम होता है जब लोगों को भूख लगे तो ब्रेन को सिग्नल देना खाली पेट शरीर में यह हार्मोन की अधिकता रहती है जबकि पेट भरे होने पर यह हार्मोन अपने आप कम हो जाता है धन्यवाद
Vol haingar haarmon kya hota hai dekhie yah railee na naamak haarmon hota hai yah haarmon ko hangar haarmon ke naam se bhee jaana jaata hai pet se nikalane vaale haarmon ka kaam hota hai jab logon ko bhookh lage to bren ko signal dena khaalee pet shareer mein yah haarmon kee adhikata rahatee hai jabaki pet bhare hone par yah haarmon apane aap kam ho jaata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मच्छर के काटने से हमें खुजली क्यों होती है?Macchar Ke Katne Se Hume Khujli Kyo Hoti Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:05
वाले मच्छर के काटने से हमें खुजली क्यों होती है दरअसल केवल मादा मच्छर की इंसानों का खून चुस्ती है और नर मच्छर ऐसा नहीं करते हैं मादा मच्छर अंडों की वजह से खुश होती है क्योंकि उन्हें किस की आवश्यकता होती है दुनिया भर में मच्छरों की करीब 3500 प्रजातियां पाई जाती हैं लेकिन इनमें से ज्यादातर नस्ले इंसानों को बिल्कुल परेशान नहीं करती है यह वह मच्छर है जो सिर्फ फलों और पौधों के रथ पर जिंदा रहते हैं दरअसल मच्छर अपनी सूर्या ढंग की सहायता से काटता है जिसकी वजह से इस स्कीम में छेद हो जाता है और रक्त वाहिका प्रभावित होती है अच्छे से खून पुस्तकें और उनके खून का थक्का न जान सके इसलिए वह शरीर में कुछ लाल छोड़ते हैं ऐसा कहा जा सकता है कि मच्छर काटने से जो खुजली होती है उस के पीछे मच्छर की लार में मौजूद रसायन के कारण होती है धन्यवाद
Vaale machchhar ke kaatane se hamen khujalee kyon hotee hai darasal keval maada machchhar kee insaanon ka khoon chustee hai aur nar machchhar aisa nahin karate hain maada machchhar andon kee vajah se khush hotee hai kyonki unhen kis kee aavashyakata hotee hai duniya bhar mein machchharon kee kareeb 3500 prajaatiyaan paee jaatee hain lekin inamen se jyaadaatar nasle insaanon ko bilkul pareshaan nahin karatee hai yah vah machchhar hai jo sirph phalon aur paudhon ke rath par jinda rahate hain darasal machchhar apanee soorya dhang kee sahaayata se kaatata hai jisakee vajah se is skeem mein chhed ho jaata hai aur rakt vaahika prabhaavit hotee hai achchhe se khoon pustaken aur unake khoon ka thakka na jaan sake isalie vah shareer mein kuchh laal chhodate hain aisa kaha ja sakata hai ki machchhar kaatane se jo khujalee hotee hai us ke peechhe machchhar kee laar mein maujood rasaayan ke kaaran hotee hai dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
शुभ काम में काले कपड़े क्यों नहीं पहनना चाहिए?Shubh Kaam Me Kaale Kapde Kyo Nahi Pehnna Chahiye
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:56
शुभ काम में काले कपड़े क्यों नहीं पहनना चाहिए देखिए हिंदू धर्म से जुड़ी अनेक परंपराएं हैं इसमें से कुछ परंपराओं के पीछे वैज्ञानिक और मनोवैज्ञानिक तथ्य दीक्षित ऐसी ही एक परंपरा है यह भी है कि कोई भी शुभ काम करते समय काले कपड़े नहीं पहनना चाहिए विशेषकर विवाह के दौरान दूल्हा और दुल्हन के काले कपड़े पहनने पर पूरी तरह से पाबंदी होती है कुछ लोग इसे अपशगुन मानते हैं इस परंपरा के पीछे न सिर्फ धार्मिक बल्कि मनोवैज्ञानिक तथ्य छिपा है मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखें तो काले रंग को निराशा का प्रतीक माना गया है जबकि लाल रंग को सौभाग्य का प्रतीक माना गया है इसलिए शादी आदि शुभकामनाओं में लाल पीली गुलाबी रंगों को अधिक मान्यता दी गई है धन्यवाद
Shubh kaam mein kaale kapade kyon nahin pahanana chaahie dekhie hindoo dharm se judee anek paramparaen hain isamen se kuchh paramparaon ke peechhe vaigyaanik aur manovaigyaanik tathy deekshit aisee hee ek parampara hai yah bhee hai ki koee bhee shubh kaam karate samay kaale kapade nahin pahanana chaahie visheshakar vivaah ke dauraan doolha aur dulhan ke kaale kapade pahanane par pooree tarah se paabandee hotee hai kuchh log ise apashagun maanate hain is parampara ke peechhe na sirph dhaarmik balki manovaigyaanik tathy chhipa hai manovaigyaanik drshtikon se dekhen to kaale rang ko niraasha ka prateek maana gaya hai jabaki laal rang ko saubhaagy ka prateek maana gaya hai isalie shaadee aadi shubhakaamanaon mein laal peelee gulaabee rangon ko adhik maanyata dee gaee hai dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या हम सिर्फ फल खाकर भी जिंदा रह सकते हैं?Kya Hum Sirf Phal Khakar Bhe Zinda Reh Sakte Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:56
वाले क्या हम सिर्फ फल खाकर भी जिंदा रह सकते हैं देखिए केवल फल खाकर जीवित रहना संभव है क्योंकि पहले युग में मनुष्य से ही जीवित रहता था पर अगर हम आज की जीवनशैली देखे तो यार थोड़ा मुश्किल सा लगता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है पर मेरे अनुसार से केवल फलों पर निर्भर रह कर हम इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में अपना काम नहीं कर सकते हैं क्योंकि कल हमें वहशत संतुष्टि नहीं दे सकते हैं जो संतुष्टि हमें गेहूं की रोटी चावल खाकर मिलती है और ना ही हल हमारे शरीर में ज्यादा समय तक उसको रह सकते हैं जिसके तुरंत बाद हमें खाने की जरूरत नहीं पड़ती है इसलिए मेरा अनुसार से जिंदा रहने के लिए तो काफी है पर कामकाजी जीवन के चलाने के लिए असंभव है
Vaale kya ham sirph phal khaakar bhee jinda rah sakate hain dekhie keval phal khaakar jeevit rahana sambhav hai kyonki pahale yug mein manushy se hee jeevit rahata tha par agar ham aaj kee jeevanashailee dekhe to yaar thoda mushkil sa lagata hai hamaare svaasthy ke lie laabhakaaree hai par mere anusaar se keval phalon par nirbhar rah kar ham is bhaag daud bharee jindagee mein apana kaam nahin kar sakate hain kyonki kal hamen vahashat santushti nahin de sakate hain jo santushti hamen gehoon kee rotee chaaval khaakar milatee hai aur na hee hal hamaare shareer mein jyaada samay tak usako rah sakate hain jisake turant baad hamen khaane kee jaroorat nahin padatee hai isalie mera anusaar se jinda rahane ke lie to kaaphee hai par kaamakaajee jeevan ke chalaane ke lie asambhav hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
एड़ियां क्यों फट जाती है इसका कोई घरेलू उपचार है?Ediyan Kyun Phat Jaati Hai Iska Koi Gharelu Upchaar Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:41
चिड़िया क्यों फट जाती है इसका कोई घरेलू उपचार है देखिए अक्सर ऐसा होता है कि हम अपने चेहरे को निखारने पर तो पूरा ध्यान देते हैं लेकिन पैरों की केयर नहीं करते हैं इसी वजह से फटी एड़ियों की शिकायत हो जाती है अक्सर अनियमित खानपान विटामिन ई की कमी कैल्शियम आयरन की पर्याप्त मात्रा ना मिल पाने के कारण चिड़िया फट जाती है यूट्यूब बाजार में कई ऐसी क्रीम मौजूद है जो फटी एड़ियों को ठीक करने का दावा करती है लेकिन इसका जितना घरेलू उपचार किया जाए उतना बेहतर रहता है रात को सोने से पहले एक बड़ा चम्मच नारियल तेल लेकर उसे फटी हुई एड़ियों पर लगाए चाहे तो इसे हल्का गर्म भी कर सकती हैं इसकी मसाज से थकान भी कम होगी उसके बाद मुझे पहन कर सो जाएं सुबह उठकर पैरों को पानी से धो लें करीब दर्द इंटर की सुपर को लगातार करने से एरिया मुलायम हो जाएंगी इसके अलावा ग्रीस्लीन और गुलाब जल ज्यादा फटी एड़ियों के लिए यह बेहतरीन अपन दोनों ही चीजें एड़ियों के कोने में देकर कोमल बनाती है तीन चौथाई मात्रा में गुलाब जल और एक चौथाई मात्रा में लेकर मिश्रण बनाएं और कुछ देर तक वीडियो पर लगा रहने दें और उसके बाद गुनगुने पानी से उसे साफ कर ले कुछ दिनों तक ऐसा करने के बाद आपको फर्क दिखना शुरू हो जाएगा धन्यवाद
Chidiya kyon phat jaatee hai isaka koee ghareloo upachaar hai dekhie aksar aisa hota hai ki ham apane chehare ko nikhaarane par to poora dhyaan dete hain lekin pairon kee keyar nahin karate hain isee vajah se phatee ediyon kee shikaayat ho jaatee hai aksar aniyamit khaanapaan vitaamin ee kee kamee kailshiyam aayaran kee paryaapt maatra na mil paane ke kaaran chidiya phat jaatee hai yootyoob baajaar mein kaee aisee kreem maujood hai jo phatee ediyon ko theek karane ka daava karatee hai lekin isaka jitana ghareloo upachaar kiya jae utana behatar rahata hai raat ko sone se pahale ek bada chammach naariyal tel lekar use phatee huee ediyon par lagae chaahe to ise halka garm bhee kar sakatee hain isakee masaaj se thakaan bhee kam hogee usake baad mujhe pahan kar so jaen subah uthakar pairon ko paanee se dho len kareeb dard intar kee supar ko lagaataar karane se eriya mulaayam ho jaengee isake alaava greesleen aur gulaab jal jyaada phatee ediyon ke lie yah behatareen apan donon hee cheejen ediyon ke kone mein dekar komal banaatee hai teen chauthaee maatra mein gulaab jal aur ek chauthaee maatra mein lekar mishran banaen aur kuchh der tak veediyo par laga rahane den aur usake baad gunagune paanee se use saaph kar le kuchh dinon tak aisa karane ke baad aapako phark dikhana shuroo ho jaega dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
दूध पीने से शरीर में क्या बदलाव होते हैं?Doodh Peene Se Shareer Mein Kya Badalaav Hote Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:34
दूध पीने से शरीर में क्या बदलाव होते हैं देखिए दूध पीने से शरीर में ताजगी और स्फूर्ति आती है साथ ही साथ दूध पीने से शरीर को सारी पौष्टिक तत्वों की पूर्ति हो जाती है हल्दी मिलाकर दूध पीने से शरीर में इनकी पावर बढ़ता है चेहरे पर चमक के साथ-साथ निखार भी आता है इसके साथ ही शरीर में बंद बढ़ता है और बुद्धि तीव्र होती है शरीर सुंदर और सुडौल बनता है निमित्त दूध पीने से बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ हैं धन्यवाद
Doodh peene se shareer mein kya badalaav hote hain dekhie doodh peene se shareer mein taajagee aur sphoorti aatee hai saath hee saath doodh peene se shareer ko saaree paushtik tatvon kee poorti ho jaatee hai haldee milaakar doodh peene se shareer mein inakee paavar badhata hai chehare par chamak ke saath-saath nikhaar bhee aata hai isake saath hee shareer mein band badhata hai aur buddhi teevr hotee hai shareer sundar aur sudaul banata hai nimitt doodh peene se bahut saare svaasthy laabh hain dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
शरीर को कितने विटामिन की जरूरत होती है?Shareer Ko Kitne Vitamin Ki Jarurat Hoti Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:00
शरीर को कितने विटामिन की जरूरत होती है शरीर के लिए बेहद जरूरी है यह 7 पोषक तत्व विटामिन बी विटामिन B12 विटामिन बी सिक्स विटामिन सी विटामिन फोलिक एसिड प्रोटीन विटामिन ए सहित कई पोषक तत्वों की जरूरत पड़ती है विटामिन ए प्रमुख पोषक तत्वों में से एक माना जाता है और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए कई प्रकार से लाभदायक होता है विटामिन सी का सेवन शरीर के उचित विकास और अन्य कार्यों की सुविधा के लिए महत्वपूर्ण है दरअसल विटामिंस का प्रमुख कार्य भोजन को ईंधन में बदलना है जिससे शरीर में खाया हुआ खाना ठीक से पढ़ सके और शरीर को सही रूप से एनर्जी मिल सके ऐसे में प्रोटीन सहित यह साथ जरूरी विटामिन है जो शरीर के कार्यों को प्रभावी ढंग से करने के लिए आवश्यक है
Shareer ko kitane vitaamin kee jaroorat hotee hai shareer ke lie behad jarooree hai yah 7 poshak tatv vitaamin bee vitaamin b12 vitaamin bee siks vitaamin see vitaamin pholik esid proteen vitaamin e sahit kaee poshak tatvon kee jaroorat padatee hai vitaamin e pramukh poshak tatvon mein se ek maana jaata hai aur yah hamaare svaasthy ke lie kaee prakaar se laabhadaayak hota hai vitaamin see ka sevan shareer ke uchit vikaas aur any kaaryon kee suvidha ke lie mahatvapoorn hai darasal vitaamins ka pramukh kaary bhojan ko eendhan mein badalana hai jisase shareer mein khaaya hua khaana theek se padh sake aur shareer ko sahee roop se enarjee mil sake aise mein proteen sahit yah saath jarooree vitaamin hai jo shareer ke kaaryon ko prabhaavee dhang se karane ke lie aavashyak hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यायाम क्यों लाभदायक है?Vyayam Kyo Labhadayak Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:28
उन्हें व्यायाम क्यों लाभदायक है कि नियमित रूप से व्यायाम करने से मेटाबॉलिक बेहतर होने के साथ ही कैलोरी भी तेजी से बल होती है और वजन नियंत्रण में रहता है नियमित व्यायाम शरीर ही नहीं बल्कि दिमाग को भी तेज रखने में उपयोगी साबित होता है तनाव सिरदर्द और अवसाद जैसी कई समस्याओं को नियमित व्यायाम की मदद से कमियां ठीक किया जा सकता है धन्यवाद
Unhen vyaayaam kyon laabhadaayak hai ki niyamit roop se vyaayaam karane se metaabolik behatar hone ke saath hee kailoree bhee tejee se bal hotee hai aur vajan niyantran mein rahata hai niyamit vyaayaam shareer hee nahin balki dimaag ko bhee tej rakhane mein upayogee saabit hota hai tanaav siradard aur avasaad jaisee kaee samasyaon ko niyamit vyaayaam kee madad se kamiyaan theek kiya ja sakata hai dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
बवासीर क्यों होती है कारण क्या है ?Bawasir Kyo Hoti Hai Karan Kya Hai Bawasir Hone Ke
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:45
वाले बवासीर क्यों होती है कारण क्या है बवासीर होने के देखिए डॉक्टर की माने तो बवासीर एक ऐसी बीमारी है जिसमें पीड़ित व्यक्ति के एस के अंदर और बाहरी हिस्से में सूजन हो जाती है जिसकी वजह से काफी दर्द होता है यह दर्द अंदरूनी हिस्से में इसकी जमकर मलका निकलने के कारण होती है मलिक याग्निक के समय जब पीड़ित व्यक्ति जोर लगाता है तो यह मुझ से बाहर आ जाते हैं और खून निकलने लगता है बवासीर एक ऐसी बीमारी है जो बेहद तकलीफ दे होती मैक्स एलोपैथिक की अपेक्षा आयुर्वेद के द्वारा बवासीर और भगंदर का इलाज ज्यादा कारगर साबित होता है धन्यवाद
Vaale bavaaseer kyon hotee hai kaaran kya hai bavaaseer hone ke dekhie doktar kee maane to bavaaseer ek aisee beemaaree hai jisamen peedit vyakti ke es ke andar aur baaharee hisse mein soojan ho jaatee hai jisakee vajah se kaaphee dard hota hai yah dard andaroonee hisse mein isakee jamakar malaka nikalane ke kaaran hotee hai malik yaagnik ke samay jab peedit vyakti jor lagaata hai to yah mujh se baahar aa jaate hain aur khoon nikalane lagata hai bavaaseer ek aisee beemaaree hai jo behad takaleeph de hotee maiks elopaithik kee apeksha aayurved ke dvaara bavaaseer aur bhagandar ka ilaaj jyaada kaaragar saabit hota hai dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या खाना खाते हुए पानी पीना सही है?Kya Khana Khate Hue Pani Peena Sahi Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:57
कव्वाली खाना खाते हुए पानी पीना चाहिए देखे कई लोगों का यह भी कहना है कि खाने के साथ पानी पीने से शरीर में ताकत जमा हो जाते हैं जो कई बीमारियों को न्योता दे सकते हैं हेल्थ एक्सपर्ट की मानें तो खाने के दौरान पानी पीने से सेहत को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है बल्कि सभी को खाना खाते समय जरूर पानी पीना चाहिए इससे खाना जल्दी डाइजेस्ट हो जाता है हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि पानी एक अच्छी सेहत के लिए बेहद महत्वपूर्ण होता है शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए डॉक्टरों के मुताबिक कुछ भी खाने के दौरान पानी पीना बिल्कुल सुरक्षित होता है लेकिन सभी को खाने के फौरन बाद पानी पीने से बचना चाहिए धन्यवाद
Kavvaalee khaana khaate hue paanee peena chaahie dekhe kaee logon ka yah bhee kahana hai ki khaane ke saath paanee peene se shareer mein taakat jama ho jaate hain jo kaee beemaariyon ko nyota de sakate hain helth eksapart kee maanen to khaane ke dauraan paanee peene se sehat ko koee nukasaan nahin pahunchata hai balki sabhee ko khaana khaate samay jaroor paanee peena chaahie isase khaana jaldee daijest ho jaata hai helth eksapart ka kahana hai ki paanee ek achchhee sehat ke lie behad mahatvapoorn hota hai shareer ko haidret rakhane ke lie jyaada se jyaada paanee peena chaahie doktaron ke mutaabik kuchh bhee khaane ke dauraan paanee peena bilkul surakshit hota hai lekin sabhee ko khaane ke phauran baad paanee peene se bachana chaahie dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या सर्दी जुखाम भी एक बीमारी है?Kya Sardi Jukham Bhi Ek Bimari Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:41
मालिक के सर्दी जुकाम भी एक बीमारी है देखिए फ्लू के विपरीत जुकाम अलग-अलग तरह के वायरस के कारण हो सकता है यह आमतौर पर हानि रहित होता है और 2 सप्ताह के भीतर लक्षण आमतौर पर खत्म हो जाते हैं यह आमतौर पर अधिकतम मौसम के बदलाव के चलते आसानी से फैलता है आमतौर पर इसका कुछ इलाज किया जा सकता है आमतौर पर इसका खुद पता लगाया जा सकता है इसका पता लगाने के लिए प्रयोगशाला में जांच इस तरह वगैरह की जरूरत नहीं होती है कुछ समय के लिए कुछ दिनों के लिए कुछ हफ्ते में भी कभी खुशी सत्ता ही ठीक हो जाता है अपने निवास
Maalik ke sardee jukaam bhee ek beemaaree hai dekhie phloo ke vipareet jukaam alag-alag tarah ke vaayaras ke kaaran ho sakata hai yah aamataur par haani rahit hota hai aur 2 saptaah ke bheetar lakshan aamataur par khatm ho jaate hain yah aamataur par adhikatam mausam ke badalaav ke chalate aasaanee se phailata hai aamataur par isaka kuchh ilaaj kiya ja sakata hai aamataur par isaka khud pata lagaaya ja sakata hai isaka pata lagaane ke lie prayogashaala mein jaanch is tarah vagairah kee jaroorat nahin hotee hai kuchh samay ke lie kuchh dinon ke lie kuchh haphte mein bhee kabhee khushee satta hee theek ho jaata hai apane nivaas

#मनोरंजन

bolkar speaker
दुख भरे गाने आपके दिमाग को किस तरह प्रभावित करते हैं?Dukh Bare Gane Apke Dimag Ko Kis Tarah Prabhavit Karate Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:47
दुख भरे गाने आपके दिमाग को किस तरह प्रभावित करते हैं देखिए अनेकों बार हमारी जिंदगी में जो घटित होता है वह चीज हम गानों से अनुभव कर पाते और अपना दुख उस संगीत के समान पाते हैं हम गानों में सुर ताल आवाज ढूंढते हैं गाना रोमांटिक हो खुशी का हो या दुख का हमको अलग अलग स्वर्गवास शब्दों से प्रभावित करता है भारत के फिल्म जगत में एक दौर था पुराने दर्द भरे गीतों का जिसमें हमारी भावनाओं को हमारी जज्बातों का मिलाजुला संगम हुआ करता था पर आज के समय के गीत ना जाने क्यों मेरी समझ से परे है धन्यवाद
Dukh bhare gaane aapake dimaag ko kis tarah prabhaavit karate hain dekhie anekon baar hamaaree jindagee mein jo ghatit hota hai vah cheej ham gaanon se anubhav kar paate aur apana dukh us sangeet ke samaan paate hain ham gaanon mein sur taal aavaaj dhoondhate hain gaana romaantik ho khushee ka ho ya dukh ka hamako alag alag svargavaas shabdon se prabhaavit karata hai bhaarat ke philm jagat mein ek daur tha puraane dard bhare geeton ka jisamen hamaaree bhaavanaon ko hamaaree jajbaaton ka milaajula sangam hua karata tha par aaj ke samay ke geet na jaane kyon meree samajh se pare hai dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
धूप एलर्जी के लिए सबसे अच्छी दवा क्या है?Dhoop Allergy Ke Liye Sabse Acchi Dava Kya Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:53
वाले धूप लड़की के लिए सबसे अच्छी दवा क्या है लेकिन कभी धूप तो कभी बारिश की उम्र स्वामी की स्थितियां बनती हैं जोकि हमारी त्वचा के लिए हानिकारक है जलन खुजली एलर्जी लाल जी के और खुशियां इस मौसम में आम बीमारियों की तरह हो जाती है पैरों की उंगलियों में खुजली के लिए क्राइम जेल लगाएं इसके अलावा रोजाना साबुन और शैंपू से नहाए कपड़े धुले हुए पहले पानी खूब पिए नींबू वाले साथी दूध दही डालकर सेवन करें एंटी एजिंग क्रीम सुबह शाम लगाएं उड़द की दाल खाना बंद कर दी धूल मिट्टी से बचें ब्लड टेस्ट करवा ही किसी विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श लें
Vaale dhoop ladakee ke lie sabase achchhee dava kya hai lekin kabhee dhoop to kabhee baarish kee umr svaamee kee sthitiyaan banatee hain joki hamaaree tvacha ke lie haanikaarak hai jalan khujalee elarjee laal jee ke aur khushiyaan is mausam mein aam beemaariyon kee tarah ho jaatee hai pairon kee ungaliyon mein khujalee ke lie kraim jel lagaen isake alaava rojaana saabun aur shaimpoo se nahae kapade dhule hue pahale paanee khoob pie neemboo vaale saathee doodh dahee daalakar sevan karen entee ejing kreem subah shaam lagaen udad kee daal khaana band kar dee dhool mittee se bachen blad test karava hee kisee visheshagy doktar se paraamarsh len

#मनोरंजन

bolkar speaker
पैरों की पिंडलियों में दर्द से कैसे बचे?Pairo Ki Pindliyo Me Dard Se Kaise Bache
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:27
वाले पैरों की पिंडलियों में दर्द से कैसे बचे पैरों की पिंडलियों के दर्द से राहत पाने के लिए आप हर रोज गर्म पानी से पैरों की सिकाई कर सकते हैं इसके लिए गर्म पानी को बाल्टी में भरकर उसमें समुद्री नमक मिलाने पर ऊपर सरसों का तेल लगाने के बाद कम से कम 20 मिनट के लिए गर्म पानी में पैरों को भिगो कर बैठ जाए आपको तुरंत राहत मिलेगी धन्यवाद
Vaale pairon kee pindaliyon mein dard se kaise bache pairon kee pindaliyon ke dard se raahat paane ke lie aap har roj garm paanee se pairon kee sikaee kar sakate hain isake lie garm paanee ko baaltee mein bharakar usamen samudree namak milaane par oopar sarason ka tel lagaane ke baad kam se kam 20 minat ke lie garm paanee mein pairon ko bhigo kar baith jae aapako turant raahat milegee dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
दुकान पर ग्राहक लाने के 10 उपाय क्या है?Dukan Par Grahak Lane Ke 10 Upay Kya Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:50
वाले दुकान पर ग्राहक लाने के 10 उपाय क्या है देखिए अच्छे बाजार में दुकान होने के बाद भी अगर व्यापार में लाभ के अवसर कम मिल रहे हैं तो कहीं वास्तुदोष के लिए जिम्मेदार तो नहीं है ऐसे में दुकान है सो रुम की व्यवस्था पर अवश्य ध्यान दें दुकान हमारा कार्य स्थल है जहां वस्तु पर होना बहुत आवश्यक है दुकान को हमेशा सोच रखे दुकान में प्रवेश द्वार पर चौखट ना बनाएं दुकान के ठीक सामने बिजली या फोन का खंभा पेरियाची ही नहीं होना चाहिए दुकान की सफाई करते समय कूड़ा सड़क पर ना डालें नहीं इसे किसी दूसरी दुकान की ओर बढ़े दुकान में बैठते समय अपना मुख सदैव उत्तर या पूर्व की ओर करके बैठे सुबह शाम दुकान में कपूर जलाएं ऐसा करने से नकारात्मकता दूर हो जाती है दुकान में प्रयुक्त होने वाले उपकरण अग्नि कोण मेरा खेत दुकान मालिक को पश्चिम दिशा में बैठना चाहिए तिजोरी की जगह के ऊपर कोई बिन नहीं होना चाहिए तिजोरी में कुबेर यंत्र श्री यंत्र अवश्य रखें नगर पालिका को कभी खाली न रखें गद्दी पर बैठ कर कभी भोजन ना करें नहीं तो इमेज पर पैर रखकर कभी न बैठे दुकान खोलते समय और शाम को बिजली जलाने के बाद दान न दें दुकान में कुल देवी या इष्ट देवी देवता की तस्वीर लगाई दुकान के प्रवेश द्वार पर भगवान श्री गणेश की मूर्ति लगाएं यह मूर्ति दीवार के आगे पीछे दोनों तरफ लगाए सूर्य यंत्र भी लगा सकते हैं धन्यवाद
Vaale dukaan par graahak laane ke 10 upaay kya hai dekhie achchhe baajaar mein dukaan hone ke baad bhee agar vyaapaar mein laabh ke avasar kam mil rahe hain to kaheen vaastudosh ke lie jimmedaar to nahin hai aise mein dukaan hai so rum kee vyavastha par avashy dhyaan den dukaan hamaara kaary sthal hai jahaan vastu par hona bahut aavashyak hai dukaan ko hamesha soch rakhe dukaan mein pravesh dvaar par chaukhat na banaen dukaan ke theek saamane bijalee ya phon ka khambha periyaachee hee nahin hona chaahie dukaan kee saphaee karate samay kooda sadak par na daalen nahin ise kisee doosaree dukaan kee or badhe dukaan mein baithate samay apana mukh sadaiv uttar ya poorv kee or karake baithe subah shaam dukaan mein kapoor jalaen aisa karane se nakaaraatmakata door ho jaatee hai dukaan mein prayukt hone vaale upakaran agni kon mera khet dukaan maalik ko pashchim disha mein baithana chaahie tijoree kee jagah ke oopar koee bin nahin hona chaahie tijoree mein kuber yantr shree yantr avashy rakhen nagar paalika ko kabhee khaalee na rakhen gaddee par baith kar kabhee bhojan na karen nahin to imej par pair rakhakar kabhee na baithe dukaan kholate samay aur shaam ko bijalee jalaane ke baad daan na den dukaan mein kul devee ya isht devee devata kee tasveer lagaee dukaan ke pravesh dvaar par bhagavaan shree ganesh kee moorti lagaen yah moorti deevaar ke aage peechhe donon taraph lagae soory yantr bhee laga sakate hain dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हाइड्रोजन गैस बनाने की उपविधि क्या है?Hydrogen Gas Bnane Ki Upvidhi Kya Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:43
हाइड्रोजन गैस बनाने की विधि क्या है देखिए यदि आपके पास गैस बनाने बहुत चंगा करने के साधन है तो हाइड्रोजन गैस बनाने के लिए आपको 670 गंधक का हम लिखते जाव कथा जस्ते की आवश्यकता होगी आपको करना केवल या है कि गैस बनाने वाले उपकरण में पहले जींस के छोटे-छोटे टुकड़े डालकर उसमें बिल्कुल हल्का गंधक का तेजाब कितनी मात्रा में डाले की जीत के टुकड़े हुए उसने पूरी तरह से डूब जाए और तेजाब जिंक के टुकड़ों से कम से कम एक अंगूठा ऊपर रहे ऐसा करने से गैस बनना तुरंत आरंभ हो जाएगा धन्यवाद
Haidrojan gais banaane kee vidhi kya hai dekhie yadi aapake paas gais banaane bahut changa karane ke saadhan hai to haidrojan gais banaane ke lie aapako 670 gandhak ka ham likhate jaav katha jaste kee aavashyakata hogee aapako karana keval ya hai ki gais banaane vaale upakaran mein pahale jeens ke chhote-chhote tukade daalakar usamen bilkul halka gandhak ka tejaab kitanee maatra mein daale kee jeet ke tukade hue usane pooree tarah se doob jae aur tejaab jink ke tukadon se kam se kam ek angootha oopar rahe aisa karane se gais banana turant aarambh ho jaega dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:46
वाले सर्दियों के मौसम में गर्म पानी से नहाने से क्या क्या नुकसान हो सकते हैं देखिए गर्म पानी से नहाने पर आपकी हेल्प और इन दोनों को नुकसान होता है जब आप लगातार गर्म पानी से नहाते हैं तो इससे स्किन का रूखापन काफी बढ़ने लगता है जिससे गंभीर खुजली की समस्या उत्पन्न होती है इसके अलावा गर्म पानी आपके चेहरे वही स्क्रीन की चमक को छीन लेता है जो लोग लगातार गर्म पानी से नहाते हैं उनकी त्वचा पर झुर्रियां भी जल्द नजर आती है और वह जलते जो की तरफ बढ़ते हैं वही गर्म पानी को सिर में डालने से बालों की जड़ें कमजोर होती है इससे आपको रूसी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है धन्यवाद
Vaale sardiyon ke mausam mein garm paanee se nahaane se kya kya nukasaan ho sakate hain dekhie garm paanee se nahaane par aapakee help aur in donon ko nukasaan hota hai jab aap lagaataar garm paanee se nahaate hain to isase skin ka rookhaapan kaaphee badhane lagata hai jisase gambheer khujalee kee samasya utpann hotee hai isake alaava garm paanee aapake chehare vahee skreen kee chamak ko chheen leta hai jo log lagaataar garm paanee se nahaate hain unakee tvacha par jhurriyaan bhee jald najar aatee hai aur vah jalate jo kee taraph badhate hain vahee garm paanee ko sir mein daalane se baalon kee jaden kamajor hotee hai isase aapako roosee kee samasya ka saamana karana pad sakata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
LPG सिलेंडर के दाम इतना क्यों बढ़ रहा है?Lpg Cylinder Ke Daam Itna Kyun Badh Raha Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:54
एलपीजी सिलेंडर के दाम इतना क्यों बढ़ रहा है देखिए भारत में रसोई गैस के कुल 27.6 करोड़ यूजर है इसमें से करीब दो करोड़ झरोखों गैस सब्सिडी नहीं मिलती है भारत में एलपीजी सिलेंडर की कीमत दो चीजों पर निर्भर करती है इसमें पहला है यह पीजी का इंटरनेशनल मार्केट और दूसरा है यूएस डॉलर और रुपए का एक्सचेंज रेट इन दोनों चीजों के भाव में उतार-चढ़ाव की वजह से गैस सिलेंडर के भाव में बदलाव आता है पिछले महीने तक सब्सिडी वाली कुकिंग गैस के दाम पिछले 6 महीने में 13 सीट भी बड़े हैं केंद्र सरकार की तरफ फूल सब्सिडी में कटौती करने के बाद आयल कंपनियों ने कीमत की जानकारी देना बंद कर दिया है धन्यवाद
Elapeejee silendar ke daam itana kyon badh raha hai dekhie bhaarat mein rasoee gais ke kul 27.6 karod yoojar hai isamen se kareeb do karod jharokhon gais sabsidee nahin milatee hai bhaarat mein elapeejee silendar kee keemat do cheejon par nirbhar karatee hai isamen pahala hai yah peejee ka intaraneshanal maarket aur doosara hai yooes dolar aur rupe ka eksachenj ret in donon cheejon ke bhaav mein utaar-chadhaav kee vajah se gais silendar ke bhaav mein badalaav aata hai pichhale maheene tak sabsidee vaalee kuking gais ke daam pichhale 6 maheene mein 13 seet bhee bade hain kendr sarakaar kee taraph phool sabsidee mein katautee karane ke baad aayal kampaniyon ne keemat kee jaanakaaree dena band kar diya hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या अहंकार की सीमा होती है?Kya Ahankaar Ki Seema Hoti Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:10
अहंकार की सीमा होती है देखिए अहंकार एक एहसास है जितने व्यक्ति की ऐसी सोच हो जाती है कि बहुत कुछ हमारे कंट्रोल में है मैं समर्थन जारी व्यक्ति गुब्बारे की तरह फूलता ही रहता है रंकार का सबसे बड़ा अरबिया है कि अहंकारी व्यक्ति अपनों से तो दूर होता ही जाता है गुजरते समय के साथ हुआ अपने आप से भी दूर हो जाता है जब आप किसी ऐसी स्थिति में पहुंच जाते हैं जहां ना आपका पैसा आपकी मदद कर पाए और ना आप का रुतबा जैसे कि किसी को कोई लाइलाज बीमारी हो जाए कोई बाढ़ में फंस जाए या भूचाल आ जाए ऐसी स्थिति में व्यक्ति को एहसास होता है कि उनको कितना आता है कुछ भी उसके बस में नहीं है प्राकृतिक आपदा ऐसी विषम परिस्थितियों में जब व्यक्ति को यह एहसास होता है कि दरअसल कुछ भी उसके कंट्रोल में नहीं है उसका अधिकार लुप्त हो जाता है धन्यवाद
Ahankaar kee seema hotee hai dekhie ahankaar ek ehasaas hai jitane vyakti kee aisee soch ho jaatee hai ki bahut kuchh hamaare kantrol mein hai main samarthan jaaree vyakti gubbaare kee tarah phoolata hee rahata hai rankaar ka sabase bada arabiya hai ki ahankaaree vyakti apanon se to door hota hee jaata hai gujarate samay ke saath hua apane aap se bhee door ho jaata hai jab aap kisee aisee sthiti mein pahunch jaate hain jahaan na aapaka paisa aapakee madad kar pae aur na aap ka rutaba jaise ki kisee ko koee lailaaj beemaaree ho jae koee baadh mein phans jae ya bhoochaal aa jae aisee sthiti mein vyakti ko ehasaas hota hai ki unako kitana aata hai kuchh bhee usake bas mein nahin hai praakrtik aapada aisee visham paristhitiyon mein jab vyakti ko yah ehasaas hota hai ki darasal kuchh bhee usake kantrol mein nahin hai usaka adhikaar lupt ho jaata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या भारत में पोल्ट्री फार्म एक लाभदायक व्यवसाय?Kya Bharat Mein Poultry Farm Ek Laabhdayak Vyavsay
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:28
सवाल है क्या भारत में पोल्ट्री फार्म एक लाभदायक व्यवसाय में देखिए पोल्ट्री फार्म भारत में उभरता हुआ स्वरोजगार है भारत में अंडा और चिकन मीट की डिमांड बहुत तेजी से बढ़ रही है जल्दी पैसे कमाने का सपना पूरा करने के लिए पोल्ट्री फार्म स्वरोजगार का एक अच्छा विकल्प है पोल्ट्री फार्म से कम लागत में अधिक लाभ कमा सकते हैं धन्यवाद
Savaal hai kya bhaarat mein poltree phaarm ek laabhadaayak vyavasaay mein dekhie poltree phaarm bhaarat mein ubharata hua svarojagaar hai bhaarat mein anda aur chikan meet kee dimaand bahut tejee se badh rahee hai jaldee paise kamaane ka sapana poora karane ke lie poltree phaarm svarojagaar ka ek achchha vikalp hai poltree phaarm se kam laagat mein adhik laabh kama sakate hain dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या भलाई करने से भलाई मिलती है?Kya Bhalai Karne Se Bhalai Milti Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:43
वाली क्या भलाई करने से भलाई मिलती है देखिए किसी के निस्वार्थ और आदमी त्याग द्वारा की गई भलाई की परोपकार है इसलिए दूसरों की भलाई करने वाला मनुष्य अपने और पराए का भेद नहीं करता है सच्चे महीने में की गई भलाई फल को सोचकर नहीं की जाती है यह तो वह खुशी है जो दूसरों के साथ खुश होने से मिलती है किसी के साथ भलाई करते समय या नहीं सोचना चाहिए कि हमारे साथ भी भला होगा निसंदेह जब आप किसी के साथ मलाई करेंगे तो आपके साथ अच्छा ही होगा मनुष्य के द्वारा किए गए परोपकार भलाई हमेशा उसके साथ ही रहती है धन्यवाद
Vaalee kya bhalaee karane se bhalaee milatee hai dekhie kisee ke nisvaarth aur aadamee tyaag dvaara kee gaee bhalaee kee paropakaar hai isalie doosaron kee bhalaee karane vaala manushy apane aur parae ka bhed nahin karata hai sachche maheene mein kee gaee bhalaee phal ko sochakar nahin kee jaatee hai yah to vah khushee hai jo doosaron ke saath khush hone se milatee hai kisee ke saath bhalaee karate samay ya nahin sochana chaahie ki hamaare saath bhee bhala hoga nisandeh jab aap kisee ke saath malaee karenge to aapake saath achchha hee hoga manushy ke dvaara kie gae paropakaar bhalaee hamesha usake saath hee rahatee hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
कटहल के फायदे उपयोग और नुकसान क्या है?Kathal Ke Fayade Upyog Or Nuksaan Kya Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:02
वाले के टेल के फायदे उपयोग और नुकसान क्या है देखिए कटहल में कैलोरी नहीं होती है यह दिल के रोगियों के लिए उपयोगी माना जाता है कटहल में पोटेशियम पाया जाता है जो कि दिल की हर समस्या को दूर करता है क्योंकि यह ब्लड प्रेशर को कम कर देता है कटहल काफी लेते दार होता है और इसमें भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है कल का क्या होता है तब उसे सब्जी के रूप में खाया जाता है पटेल के पकने पर उसके अंदर का कुआं को निकालकर फल के रूप में खाया जाता है दीपक के लिए कटहल के बीजों को भी खाया जाता है और उसके बीच वाले भाग को सब्जी के रूप में खाया जाता है इसके अलावा कटहल का अचार भी बनाया जाता है जो कि बहुत ही गुणकारी होता है कटहल का अचार पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में कारगर साबित होता है धन्यवाद
Vaale ke tel ke phaayade upayog aur nukasaan kya hai dekhie katahal mein kailoree nahin hotee hai yah dil ke rogiyon ke lie upayogee maana jaata hai katahal mein poteshiyam paaya jaata hai jo ki dil kee har samasya ko door karata hai kyonki yah blad preshar ko kam kar deta hai katahal kaaphee lete daar hota hai aur isamen bharapoor maatra mein aayaran paaya jaata hai kal ka kya hota hai tab use sabjee ke roop mein khaaya jaata hai patel ke pakane par usake andar ka kuaan ko nikaalakar phal ke roop mein khaaya jaata hai deepak ke lie katahal ke beejon ko bhee khaaya jaata hai aur usake beech vaale bhaag ko sabjee ke roop mein khaaya jaata hai isake alaava katahal ka achaar bhee banaaya jaata hai jo ki bahut hee gunakaaree hota hai katahal ka achaar paachan kriya ko durust rakhane mein kaaragar saabit hota hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
सीधे सिर पर पानी डालकर नहाना क्या हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है?Seedhe Sir Par Paani Daalkar Nahana Kya Humare Sharir Ke Liye Nuksandayak Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:45
माली डीजे सिर पर पानी डालकर नहाना क्या हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है बी के सिर पर पहले पानी डालने का नुकसान यह होता है कि पूरे शरीर से ब्लड आपके सिर तक पहुंचता है जिससे आपको चक्कर महसूस हो सकता है विशेषज्ञों का कहना है कि ब्लड सरकुलेशन ऊपर से नीचे यानी सिर से पैर की तरफ होता है सिर्फ ठंडा पानी पड़ने की वजह से मस्तिष्क की रक्त वाहिकाएं चुप उड़ जाते हैं और फिर भी ठंडा होने लगता है इसलिए स्नान करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए सबसे पहले हाथ पैर धोना चाहिए उसके बाद ही सिर पर पानी डालना चाहिए धन्यवाद
Maalee deeje sir par paanee daalakar nahaana kya hamaare shareer ke lie nukasaanadaayak hai bee ke sir par pahale paanee daalane ka nukasaan yah hota hai ki poore shareer se blad aapake sir tak pahunchata hai jisase aapako chakkar mahasoos ho sakata hai visheshagyon ka kahana hai ki blad sarakuleshan oopar se neeche yaanee sir se pair kee taraph hota hai sirph thanda paanee padane kee vajah se mastishk kee rakt vaahikaen chup ud jaate hain aur phir bhee thanda hone lagata hai isalie snaan karate samay is baat ka vishesh dhyaan rakhana chaahie sabase pahale haath pair dhona chaahie usake baad hee sir par paanee daalana chaahie dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
अगर टेस्टोस्टेरोन की कमी हो जाए तो उसे कैसे बढ़ाया जा सकता है?Agar Testosterone Ki Kami Ho Jaye To Use Kaise Badhaya Ja Sakta Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:52
अगर टेस्टोस्टेरोन की कमी हो जाए तो उसे कैसे बढ़ाया जा सकता है देखिए किट्टू स्टेशन की कमी होने पर अपनी दिनचर्या में तत्काल सुधार करना चाहिए ज्यादा मानसिक तनाव नहीं लेना चाहिए इसके कारण शरीर के मेटाबॉलिज्म में ज्यादा उतार-चढ़ाव हो सकते हैं जिस कारण थकान महसूस हो सकती है इसके अलावा निमित्त 40 मिनट तक व्यायाम जरूर करना चाहिए इसके अलावा खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए हरे पत्तेदार सब्जियां फल दूध दा लेकिन को अपने भोजन में नियमित शामिल करें और भोजन सही समय से यह समय भोजन करने से अपने आप उनको बचा है मैंने
Agar testosteron kee kamee ho jae to use kaise badhaaya ja sakata hai dekhie kittoo steshan kee kamee hone par apanee dinacharya mein tatkaal sudhaar karana chaahie jyaada maanasik tanaav nahin lena chaahie isake kaaran shareer ke metaabolijm mein jyaada utaar-chadhaav ho sakate hain jis kaaran thakaan mahasoos ho sakatee hai isake alaava nimitt 40 minat tak vyaayaam jaroor karana chaahie isake alaava khaan-paan par vishesh dhyaan dena chaahie hare pattedaar sabjiyaan phal doodh da lekin ko apane bhojan mein niyamit shaamil karen aur bhojan sahee samay se yah samay bhojan karane se apane aap unako bacha hai mainne

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
एलर्जी किस कारण से होती है इससे कैसे बचें?Allergy Kis Kaaran Se Hoti Hai Isse Kaise Bachen
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
2:58
एलर्जी किस कारण से होती है इससे कैसे बचें देखिए एलर्जी होने की कोई एक वजह नहीं है कई कारण हो सकते हैं दुनिया भर में लोगों में एलर्जी होना एक आम बात है एलर्जी वास्तव में हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का ऐसा असर है जिसकी वजह से हमारे शरीर के संपर्क में आने वाले कुछ पदार्थ और रसायनों के प्रति संवेदनशीलता बहुत तेजी से दिखती है और कई बार की संवेदनशीलता का असर काफी लंबे समय तक दिखाई देता है जिस वजह से रसायन की वजह से शरीर में एलर्जी होती है उसे क्या कहा जाता है और एलबेल्स कहीं भी पढ़े जा सकते हैं भोजन पेय पदार्थों से लेकर पेड़ पौधों और यहां तक कि दवाइयों में भी इन्हें देखा जा सकता है ज्यादातर एल्बम्स हानिकारक नहीं होते हैं या यह कहा जा सकता है कि अधिकांश लोगों को इन असर नहीं होता है लेकिन जिनका शरीर एजेंट के प्रति संवेदनशील होता है उनके लिए एलर्जी की समस्या बेहद घातक हो सकती है यदि आपका सही एंड जेंट्स के प्रति संवेदनशील है तो इसका अर्थ यह है कि आपका रोग प्रतिरोधक तंत्र किसी भी सामान्य जेल के आपके शरीर में प्रवेश के बाद उसे घातक मान बैठता है और उस पर आक्रमण कर देता है उसे तहत महसूस करना चाहता है इसी आक्रमण की वजह से शरीर पर लाल धब्बे सूजन या चक्रों का बंगला दिखाई देता है दुनिया भर में लोगों में एलर्जी होना एक आम बात है माना जाता है कि लगभग 15 से 20% लोग अपने जीवन काल में किसी न किसी तरह की एलर्जी से ग्रसित होते हैं या उन्हें एलर्जी के निवारण के लिए इलाज की जरूरत पड़ती है ऐसे में एलर्जी को और बेहतर समझना जरूरी है ब्लड टेस्ट स्क्रीन का टेस्ट और टेस्ट आदि के द्वारा किसी खास व्यक्ति में किसी खास वस्तु से होने वाली एलर्जी का पता लगाया जा सकता अपने खान-पान और आसपास के घटनाक्रम के आधार पर भी कई बार पता चल जाता है कि हमें किस वजह से एलर्जी हो रही है कई बार हमारे घर के आस-पास लगे पेड़ फॉक्स और हर मौसम में फूल आने पर भी एलर्जी हो सकती है सही तरीकों से खानपान और रहन-सहन में बदलाव और हमारी सूझबूझ और समझते भी काफी हद तक यह समस्या का निदान हो सकता है धन्यवाद
Elarjee kis kaaran se hotee hai isase kaise bachen dekhie elarjee hone kee koee ek vajah nahin hai kaee kaaran ho sakate hain duniya bhar mein logon mein elarjee hona ek aam baat hai elarjee vaastav mein hamaare shareer kee rog pratirodhak kshamata ka aisa asar hai jisakee vajah se hamaare shareer ke sampark mein aane vaale kuchh padaarth aur rasaayanon ke prati sanvedanasheelata bahut tejee se dikhatee hai aur kaee baar kee sanvedanasheelata ka asar kaaphee lambe samay tak dikhaee deta hai jis vajah se rasaayan kee vajah se shareer mein elarjee hotee hai use kya kaha jaata hai aur elabels kaheen bhee padhe ja sakate hain bhojan pey padaarthon se lekar ped paudhon aur yahaan tak ki davaiyon mein bhee inhen dekha ja sakata hai jyaadaatar elbams haanikaarak nahin hote hain ya yah kaha ja sakata hai ki adhikaansh logon ko in asar nahin hota hai lekin jinaka shareer ejent ke prati sanvedanasheel hota hai unake lie elarjee kee samasya behad ghaatak ho sakatee hai yadi aapaka sahee end jents ke prati sanvedanasheel hai to isaka arth yah hai ki aapaka rog pratirodhak tantr kisee bhee saamaany jel ke aapake shareer mein pravesh ke baad use ghaatak maan baithata hai aur us par aakraman kar deta hai use tahat mahasoos karana chaahata hai isee aakraman kee vajah se shareer par laal dhabbe soojan ya chakron ka bangala dikhaee deta hai duniya bhar mein logon mein elarjee hona ek aam baat hai maana jaata hai ki lagabhag 15 se 20% log apane jeevan kaal mein kisee na kisee tarah kee elarjee se grasit hote hain ya unhen elarjee ke nivaaran ke lie ilaaj kee jaroorat padatee hai aise mein elarjee ko aur behatar samajhana jarooree hai blad test skreen ka test aur test aadi ke dvaara kisee khaas vyakti mein kisee khaas vastu se hone vaalee elarjee ka pata lagaaya ja sakata apane khaan-paan aur aasapaas ke ghatanaakram ke aadhaar par bhee kaee baar pata chal jaata hai ki hamen kis vajah se elarjee ho rahee hai kaee baar hamaare ghar ke aas-paas lage ped phoks aur har mausam mein phool aane par bhee elarjee ho sakatee hai sahee tareekon se khaanapaan aur rahan-sahan mein badalaav aur hamaaree soojhaboojh aur samajhate bhee kaaphee had tak yah samasya ka nidaan ho sakata hai dhanyavaad

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
कौन से विषाणु और जीवाणु मनुष्य के लिए लाभदायक होते हैं?Kaun Se Vishanu Aur Jeevanu Manushya Ke Liye Laabhdayak Hote Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:34
वाले कौन से विचारों और जीवाणु मनुष्य के लिए लाभदायक होते हैं लेकिन कुछ व्यक्ति या ऐसे होते हैं जो पाचन और 4 तारीख में लाभदायक है लाखों में 40 जोड़ी के प्रोबायोटिक्स पेट के लिए वरदान है इनके बिना पाचन और पाचन तंत्र अधूरा है जीव धारियों के शरीर में भोजन को शरीर में सूचित करने और पोषण चक्र की अंतिम कड़ी तक बैक्टीरिया चकरी रहते हैं और पाचन क्रिया में अहम भूमिका निभाते हैं धन्यवाद
Vaale kaun se vichaaron aur jeevaanu manushy ke lie laabhadaayak hote hain lekin kuchh vyakti ya aise hote hain jo paachan aur 4 taareekh mein laabhadaayak hai laakhon mein 40 jodee ke probaayotiks pet ke lie varadaan hai inake bina paachan aur paachan tantr adhoora hai jeev dhaariyon ke shareer mein bhojan ko shareer mein soochit karane aur poshan chakr kee antim kadee tak baikteeriya chakaree rahate hain aur paachan kriya mein aham bhoomika nibhaate hain dhanyavaad
URL copied to clipboard