#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या चेहरा देख कर प्यार करना सही है?Kya Chehra Dekh Kar Pyaar Karna Sahi Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:07
पहली बात चेहरा देखकर कभी प्यार नहीं होता चेहरा देखकर वास्ता जागती है या चेहरा देखकर आकर्षण होता है प्यार और आकर्षण और वासना में बहुत अंतर है यह समझिए आप यह बॉलीवुड हिंदी फिल्में देख देख कर इसकी तरफ इंक्लाइंड ना होए यह समझ ले कि इसमें बहुत बड़ा अंतर है क्योंकि यदि आप किसी से प्यार करते हैं तो प्यार आपको किसी के चेहरे पर एसिड नहीं पिक वाता प्यार किसी का रेप नहीं करवाता प्यार किसी के चरित्र को ठेस नहीं पहुंचा था किसी लड़की को चरित्रहीन नहीं कहलाता यह आकर्षण और वासना होती है जो यह सिद्ध कर दिया है कि यदि यह मुझे नहीं मिली तो मैं उसको किसी का नहीं होने दूंगा अगर यह मुझे नहीं मिली तो मैं इसको बदनाम कर दूंगा वह प्यार नहीं होता प्यार आप अपने कुत्ते से कर सकते हैं प्यार हम अपने माता-पिता से कर सकते हो एक अलग तरीके प्यार होता है जो आप अपने प्रेमी से करते हैं यह समझना बहुत जरूरी है इस में अंतर समझाइए
Pahalee baat chehara dekhakar kabhee pyaar nahin hota chehara dekhakar vaasta jaagatee hai ya chehara dekhakar aakarshan hota hai pyaar aur aakarshan aur vaasana mein bahut antar hai yah samajhie aap yah boleevud hindee philmen dekh dekh kar isakee taraph inklaind na hoe yah samajh le ki isamen bahut bada antar hai kyonki yadi aap kisee se pyaar karate hain to pyaar aapako kisee ke chehare par esid nahin pik vaata pyaar kisee ka rep nahin karavaata pyaar kisee ke charitr ko thes nahin pahuncha tha kisee ladakee ko charitraheen nahin kahalaata yah aakarshan aur vaasana hotee hai jo yah siddh kar diya hai ki yadi yah mujhe nahin milee to main usako kisee ka nahin hone doonga agar yah mujhe nahin milee to main isako badanaam kar doonga vah pyaar nahin hota pyaar aap apane kutte se kar sakate hain pyaar ham apane maata-pita se kar sakate ho ek alag tareeke pyaar hota hai jo aap apane premee se karate hain yah samajhana bahut jarooree hai is mein antar samajhaie

#रिश्ते और संबंध

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:19
यदि आपकी पत्नी आपको बदसूरत समझती है और आपके साथ रहना पसंद नहीं करती तो एक बार दो बार तीन बार पर यह समझ लो कि आपका अपना भी एक स्वाभिमान है जो आपके चेहरे से आपके शरीर के दिखावे से और आपकी फिजिकल एक्टिविटी उससे बिल्कुल अलग है उसका इन सब चीजों से कोई लेना-देना है आपका स्वाभिमान आकर ह्रदय में बसता है जिसको हम उनको कहते हैं और यह हर किसी के अंदर होना चाहिए और यदि आपके स्वाभिमान पर बार-बार हमला हो रहा है तो यह आपका कर्तव्य बनता है कि उस हमले को रोका जाए उसे बचा जाए और अगर बचा नहीं जा सकता तो उल्टा वार किया जाए क्योंकि हर किसी की एक सीमा होती है और चाहे वह पति पत्नी हो माता पिता हो एक सीमा होली बहुत जरूरी है पर अगर वह सीमा बार-बार बाढ़ की जा रही है तो यह बहुत आवश्यक हो जाता है कि आप उस मांगने वाले को डट कर समझाएं इसका अर्थ यह नहीं है कि आप अपने दिल पर हाथ उठाने लग जाएंगे वह गलत है वह कानून की नजरों में भी गलत है और मानव मूल्यों की फिल्मों में भी गलत है लेकिन एक तरीका है समझाने का प्रभु जी यह है कि अब उनके सामने गिड़गिड़ाना छोड़ दीजिए जैसे बंदा वह आपके साथ कर रही हैं या तो आप उसको लेकर और कठोर बन जाए या तो आप उस बर्ताव का जवाब देना सीख जाए इसके विपरीत और कोई रास्ता नहीं है क्योंकि जितना जितना आप के स्वाभिमान परमार होता है इंसान अंदर ही अंदर से उतने टूटता जाता है वह अपने बारे में गलत सोचने लगता ही नहीं था सोच में आता है आप नीचे नहीं है आप जहां होने चाहिए वहां है और वहां खुश रहिए अपना स्वाभिमान किसी को भी अनुमति ना दें कि वह उपस्थित पहुंचा सके क्योंकि यदि किसी ने स्वाभिमान को ठेस पहुंचाई तो हमारे इतिहास में स्वाभिमान के लिए इतनी युद्ध हो गए यह क्या चीज है अपने स्वाभिमान की रक्षा करनी सबको आनी चाहिए
Yadi aapakee patnee aapako badasoorat samajhatee hai aur aapake saath rahana pasand nahin karatee to ek baar do baar teen baar par yah samajh lo ki aapaka apana bhee ek svaabhimaan hai jo aapake chehare se aapake shareer ke dikhaave se aur aapakee phijikal ektivitee usase bilkul alag hai usaka in sab cheejon se koee lena-dena hai aapaka svaabhimaan aakar hraday mein basata hai jisako ham unako kahate hain aur yah har kisee ke andar hona chaahie aur yadi aapake svaabhimaan par baar-baar hamala ho raha hai to yah aapaka kartavy banata hai ki us hamale ko roka jae use bacha jae aur agar bacha nahin ja sakata to ulta vaar kiya jae kyonki har kisee kee ek seema hotee hai aur chaahe vah pati patnee ho maata pita ho ek seema holee bahut jarooree hai par agar vah seema baar-baar baadh kee ja rahee hai to yah bahut aavashyak ho jaata hai ki aap us maangane vaale ko dat kar samajhaen isaka arth yah nahin hai ki aap apane dil par haath uthaane lag jaenge vah galat hai vah kaanoon kee najaron mein bhee galat hai aur maanav moolyon kee philmon mein bhee galat hai lekin ek tareeka hai samajhaane ka prabhu jee yah hai ki ab unake saamane gidagidaana chhod deejie jaise banda vah aapake saath kar rahee hain ya to aap usako lekar aur kathor ban jae ya to aap us bartaav ka javaab dena seekh jae isake vipareet aur koee raasta nahin hai kyonki jitana jitana aap ke svaabhimaan paramaar hota hai insaan andar hee andar se utane tootata jaata hai vah apane baare mein galat sochane lagata hee nahin tha soch mein aata hai aap neeche nahin hai aap jahaan hone chaahie vahaan hai aur vahaan khush rahie apana svaabhimaan kisee ko bhee anumati na den ki vah upasthit pahuncha sake kyonki yadi kisee ne svaabhimaan ko thes pahunchaee to hamaare itihaas mein svaabhimaan ke lie itanee yuddh ho gae yah kya cheej hai apane svaabhimaan kee raksha karanee sabako aanee chaahie

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या हर समय नर्म होना सही है?Kya Har Samay Namr Hona Sahi Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:12
बिल्कुल भी नहीं यदि हर चीज नरम रहकर निपट सकती थी तो ना महाभारत होता ना श्री राम और रावण का युद्ध होता और ना जितने युद्ध हमने कलयुग में देखे हैं चाहे वह हल्दीघाटी का युद्ध हो चाहे वह प्लासी का युद्ध हो जितने भी युद्ध है जो भी हुए हैं विश्व में वह नहीं होते क्योंकि हर चीज से नरमी से निपटा नहीं जा सकता नरमी से अनुरोध किया जा सकता है इच्छा प्रकट की जा सकती है पर यदि धर्म के लिए खड़ा रहना पड़े और धर्म से मेरा मतलब मजहब नहीं है बंद नहीं है ढंग से मेरा मतलब धर्म है अपना कर्तव्य धर्म के लिए अधर्म से लड़ने के लिए आपको विद्युत करना पड़ेगा और युद्ध में नरमी नहीं होती कुछ चीजें होती हैं अगर आपको अपने बिगड़ते बेटे को या अपनी बिगड़ती बेटी को रोकना है तो आपको नरमी छोड़कर गर्मागर्म का इस्तेमाल करना पड़ेगा चाहे वह आपको अच्छा लगे या ना मां माता पिता को भी अपने बच्चों पर हाथ उठाना पड़ता है क्योंकि उन्हें पता है यहां पर अगर यदि नरमी बरत दी हो तो इसके अंदर कहा उन्हें खत्म हो जाएगा उसके अंदर का भी खत्म हो गया तो यह अपने मूल्यों को त्याग देगा अपने मूल्य भूल जाएगा पर एक अच्छा जीवन ना कर गलत आदतों में पड़ जाएगा कुछ चीजें हैं जहां पर नरमी काम आ जाती है लेकिन जहां गर्मी से काम ना बने वहां पर गर्व होना बहुत आवश्यक हो जाता है और एक ही है क्योंकि यदि हर चीज नरमी से निपट जाती तो इतना भयंकर इतने भयंकर युद्ध खून खराबा नहीं होता माता-पिता को अपने बच्चों को मारना नहीं पड़ता अध्यापकों को अपने शिष्यों को मारने की नौबत नहीं आती भटकने से रोकने के लिए आपको कहीं ना कहीं रुकावट लानी पड़ती है अब रुकावट बच्चा कैसे समझता है वह आपके ऊपर है पर नरमी हर जगह काम नहीं आती क्योंकि जैसा जवाब जैसा सवाल पूछते हैं आपको जवाब वैसा ही मिलेगा यह दुनिया का नियम है
Bilkul bhee nahin yadi har cheej naram rahakar nipat sakatee thee to na mahaabhaarat hota na shree raam aur raavan ka yuddh hota aur na jitane yuddh hamane kalayug mein dekhe hain chaahe vah haldeeghaatee ka yuddh ho chaahe vah plaasee ka yuddh ho jitane bhee yuddh hai jo bhee hue hain vishv mein vah nahin hote kyonki har cheej se naramee se nipata nahin ja sakata naramee se anurodh kiya ja sakata hai ichchha prakat kee ja sakatee hai par yadi dharm ke lie khada rahana pade aur dharm se mera matalab majahab nahin hai band nahin hai dhang se mera matalab dharm hai apana kartavy dharm ke lie adharm se ladane ke lie aapako vidyut karana padega aur yuddh mein naramee nahin hotee kuchh cheejen hotee hain agar aapako apane bigadate bete ko ya apanee bigadatee betee ko rokana hai to aapako naramee chhodakar garmaagarm ka istemaal karana padega chaahe vah aapako achchha lage ya na maan maata pita ko bhee apane bachchon par haath uthaana padata hai kyonki unhen pata hai yahaan par agar yadi naramee barat dee ho to isake andar kaha unhen khatm ho jaega usake andar ka bhee khatm ho gaya to yah apane moolyon ko tyaag dega apane mooly bhool jaega par ek achchha jeevan na kar galat aadaton mein pad jaega kuchh cheejen hain jahaan par naramee kaam aa jaatee hai lekin jahaan garmee se kaam na bane vahaan par garv hona bahut aavashyak ho jaata hai aur ek hee hai kyonki yadi har cheej naramee se nipat jaatee to itana bhayankar itane bhayankar yuddh khoon kharaaba nahin hota maata-pita ko apane bachchon ko maarana nahin padata adhyaapakon ko apane shishyon ko maarane kee naubat nahin aatee bhatakane se rokane ke lie aapako kaheen na kaheen rukaavat laanee padatee hai ab rukaavat bachcha kaise samajhata hai vah aapake oopar hai par naramee har jagah kaam nahin aatee kyonki jaisa javaab jaisa savaal poochhate hain aapako javaab vaisa hee milega yah duniya ka niyam hai

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या एक कामयाब आदमी के पीछे सच में औरत का हाथ होता है?Kya Ek Kamyab Admi Ke Piche Sach Mein Aurat Ka Hath Hota Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:51
यह जरूरी नहीं है एक कामयाब आदमी के पीछे उसका खुद का भी हाथ होता है उसके दोस्तों का भी हाथ हो सकता है उसके माता-पिता का भी हाथ हो सकता है उसके शुभचिंतकों का भी हाथ हो सकता है और औरत का भी हाथ हो सकता है और जब माता-पिता की बात आ गई तो माता तो औरत होती ही है तो औरत का हाथ है ही अगर माता-पिता का हाथ है सफलता में तो औरत का हाथ है क्योंकि आप औरत का जरूरी मतलब नहीं है कि आपकी बीवी की होनी चाहिए आपकी बहन हो सकती है आपकी बेटी हो सकती है आपकी माता हो सकती है आपकी कोई दोस्त हो सकती है तो हां पर मैं यह कहता हूं कि यह जो बात है कि एक औरत का हाथ मर्द की सफलता के पीछे होता है कि गलत नहीं है लेकिन यही एक अकेला सत्य नहीं है मैं यह नहीं कहूंगा कि यह क्योंकि मैं इस चीज को नहीं मानता यह नहीं है तो इस वाक्य को या इस मुहावरे को गलत साबित कर दिया जाए मेरा यह कहना है हां यह एक सच्चाई है और अनेक सच्चाई या और भी है दोस्त का हाथ हो सकता है मित्र का हाथ हो सकता है सहयोगी का हाथ हो सकता है पिता का हाथ हो सकता है बूढ़े बड़ों का हाथ हो सकता है शुभचिंतकों का हाथ हो सकता किसी का भी और सबसे जरूरी उसका खुद का अपना हाथ हो सकता है यह कहना कि सिर्फ औरत का हाथ है यह गलत है पर यह कहना कि हां औरत का हाथ होता है और भी लोगों का हो सकता है वह ठीक है मैं इसी को अपने जीवन शैली में मान कर चलता हूं और यही मांग लूंगा और मेरी सफलता में भी किसी ना किसी औरत का हाथ होगा लेकिन औरत के साथ साथ किसी न किसी पुरुष का भी हाथ होगा अब वह मित्र के रुप में हो पिता के रूप में हो शुभ चिंतक के रूप में हो या भाई के रूप में कुछ भी हो सकता है
Yah jarooree nahin hai ek kaamayaab aadamee ke peechhe usaka khud ka bhee haath hota hai usake doston ka bhee haath ho sakata hai usake maata-pita ka bhee haath ho sakata hai usake shubhachintakon ka bhee haath ho sakata hai aur aurat ka bhee haath ho sakata hai aur jab maata-pita kee baat aa gaee to maata to aurat hotee hee hai to aurat ka haath hai hee agar maata-pita ka haath hai saphalata mein to aurat ka haath hai kyonki aap aurat ka jarooree matalab nahin hai ki aapakee beevee kee honee chaahie aapakee bahan ho sakatee hai aapakee betee ho sakatee hai aapakee maata ho sakatee hai aapakee koee dost ho sakatee hai to haan par main yah kahata hoon ki yah jo baat hai ki ek aurat ka haath mard kee saphalata ke peechhe hota hai ki galat nahin hai lekin yahee ek akela saty nahin hai main yah nahin kahoonga ki yah kyonki main is cheej ko nahin maanata yah nahin hai to is vaaky ko ya is muhaavare ko galat saabit kar diya jae mera yah kahana hai haan yah ek sachchaee hai aur anek sachchaee ya aur bhee hai dost ka haath ho sakata hai mitr ka haath ho sakata hai sahayogee ka haath ho sakata hai pita ka haath ho sakata hai boodhe badon ka haath ho sakata hai shubhachintakon ka haath ho sakata kisee ka bhee aur sabase jarooree usaka khud ka apana haath ho sakata hai yah kahana ki sirph aurat ka haath hai yah galat hai par yah kahana ki haan aurat ka haath hota hai aur bhee logon ka ho sakata hai vah theek hai main isee ko apane jeevan shailee mein maan kar chalata hoon aur yahee maang loonga aur meree saphalata mein bhee kisee na kisee aurat ka haath hoga lekin aurat ke saath saath kisee na kisee purush ka bhee haath hoga ab vah mitr ke rup mein ho pita ke roop mein ho shubh chintak ke roop mein ho ya bhaee ke roop mein kuchh bhee ho sakata hai

#रिश्ते और संबंध

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:19
देखो भाई मैं कुंडली का तो नहीं कह सकता क्योंकि मैं जैसे पला बढ़ा हूं मेरे यहां कुंडली देखना देखने का रिवाज एक तरीके से खत्म सा होने लगा है मैं यह समझता हूं कि कुंडली जरूर दिखाओ उंगली जरूर दिखाओ लेकिन अगर कोई दोस्त है तो उसको दूर करने की कोशिश की जाए और अगर दूर नहीं हो सकता और अगर आप उस लड़की से प्यार करते हैं तो मैं तो यही कहूंगा कि शाम साथ में डटे रहिए चुनौतियों का सामना कीजिए क्योंकि अगर प्यार सच्चा है और दोस्त भी है तू जो दोस्त रह जाएगा तो प्यार रह जाएगा दोनों साथ में नहीं रह सकते मेरा यही मानना है कि हां कि अगर हम भी कुंडली ना देखना बंद कर दिया तो यह एक तरीके से हमारी संस्कृति की हार है क्योंकि कुंडली देखना संस्कृति की मान्यता है एक प्रथा है तो अगर आप उसे फर्क नहीं भी पड़ता है तो कम से कम पूर्णिया निकलवाया कीजिए बीए संस्कृति की बात है बाकी निर्भर तो यही चीज करती है अपने साथ किस तरीके से संबंध में में रहते हैं और वे दोनों एक-दूसरे के लिए कहते हैं अगर वह दोनों ठीक है तो कुंडली जैसी भी हो जीवन कट ही जाएगा
Dekho bhaee main kundalee ka to nahin kah sakata kyonki main jaise pala badha hoon mere yahaan kundalee dekhana dekhane ka rivaaj ek tareeke se khatm sa hone laga hai main yah samajhata hoon ki kundalee jaroor dikhao ungalee jaroor dikhao lekin agar koee dost hai to usako door karane kee koshish kee jae aur agar door nahin ho sakata aur agar aap us ladakee se pyaar karate hain to main to yahee kahoonga ki shaam saath mein date rahie chunautiyon ka saamana keejie kyonki agar pyaar sachcha hai aur dost bhee hai too jo dost rah jaega to pyaar rah jaega donon saath mein nahin rah sakate mera yahee maanana hai ki haan ki agar ham bhee kundalee na dekhana band kar diya to yah ek tareeke se hamaaree sanskrti kee haar hai kyonki kundalee dekhana sanskrti kee maanyata hai ek pratha hai to agar aap use phark nahin bhee padata hai to kam se kam poorniya nikalavaaya keejie beee sanskrti kee baat hai baakee nirbhar to yahee cheej karatee hai apane saath kis tareeke se sambandh mein mein rahate hain aur ve donon ek-doosare ke lie kahate hain agar vah donon theek hai to kundalee jaisee bhee ho jeevan kat hee jaega

#रिश्ते और संबंध

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:00

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
भारतीय समाज में गर्लफ्रेंड होना गलत बात है क्यों?Bhartiya Samaaj Mein Girlfriennd Hona Galat Baat Hai Kyun
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:24

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
शादी के बाद लड़की के घर में उसके माता-पिता का दखल देना कितना सही है?Shadi Ke Baad Ladki Ke Ghar Mein Uske Mata Pita Ka Dakhal Dena Kitna Sahi Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:14

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
लड़की को कैसे इंप्रेस करें?Ladki Ko Kaise Impress Kare
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:43

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक शादीशुदा औरत किसी गैर मर्द से बात करती है तो उसको क्या समझे हम?Ek Shaadishuda Aurat Kisi Gair Mard Se Baat Karti Hai To Usko Kya Samjhe Ham
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:22

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
सालों तक साथ रहने के बाद भी ब्रेकअप क्यों होते हैं?Salon Tak Saath Rehne Ke Baad Bhe Breakup Kyun Hote Hain
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:22

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या आप बता सकते हैं कि शादी से पहले कौन कौन सी ऐसी चीज है जो कर लेना चाहिए?Kya Aap Bta Sakte Hain Ki Shadi Se Pehle Kaun Kaun Si Aisi Cheej Hai Jo Kar Lena Chaiye
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:21

#रिश्ते और संबंध

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:24

#भारत की राजनीति

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:10

#भारत की राजनीति

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:21

#मनोरंजन

bolkar speaker
आपकी पसंदीदा मूवी कौन सी है?Apki Pasandeeda Movie Kaun Si Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:45

#मनोरंजन

bolkar speaker
बॉलीवुड में देशभक्ति फिल्मे ज्यादा क्यों नहीं बनती ?Bollywood Mein Deshbhakti Films Jyada Kyun Nahin Banti
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:26

#मनोरंजन

bolkar speaker
बॉलीवुड में प्रतिभाशाली अभिनेताओं के पास काम की कमी क्यों है?Bollywood Mein Pratibhashali Abhinetao Ke Paas Kaam Ki Kami Kyun Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:28

#मनोरंजन

bolkar speaker
लड़कियों को क्यों कमजोर समझा जाता है?Ladkiyo Ko Kyun Kamjor Samjha Jata Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:28

#मनोरंजन

Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:28

#मनोरंजन

bolkar speaker
वह कौन है, जिसे आप पहले बहुत पसंद करते थे, लेकिन अब आपकी नजरों से गिर गया है?Vah Kaun Hai Jise Aap Pehle Bahut Pasand Karte The Lekin Ab Apki Najro Se Gir Gaya Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:28

#मनोरंजन

bolkar speaker
कियू भारत में बॉलीवुड वाले साउथ मूवी की कॉपी करते है?Kyun Bharat Mein Bollywood Vale Sauth Movie Ki Copy Karte Hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:27

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या आप भविष्य में भारत में फेसबुक पर भी बैन लग सकता है?kya aap bhavishy mein bhaarat mein phesabuk par bhee bain lag sakata hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:34

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या भारत ने गुलामी के समय ज्यादा तरक्की की थी?kya bhaarat ne gulaamee ke samay jyaada tarakkee kee thee
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:47

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मोबाइल हमारे जीवन के लिए कितना इंपोर्टेंट क्यों है बताइए?mobail hamaare jeevan ke lie kitana importent kyon hai bataie
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
0:58

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
राजीव गांधी के पिता का क्या नाम था?raajeev gaandhee ke pita ka kya naam tha
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
0:53

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
बौद्ध धर्म की स्थापना किसने की?bauddh dharm kee sthaapana kisane kee
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
2:25

#जीवन शैली

bolkar speaker
किस घर को स्वर्ग कहा जाता है?kis ghar ko svarg kaha jaata hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:03

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
राहुल गाँधी आपको क्या बनते नजर आ रहे हैं?raahul gaandhee aapako kya banate najar aa rahe hain
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:46

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
उद्धव ठाकरे कौन है?uddhav thaakare kaun hai
Hiten Sethi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hiten जी का जवाब
Student
1:59
URL copied to clipboard