#भारत की राजनीति

bolkar speaker
हमारे देश में जिस तरह बलात्कार और मर्डर हो रहे हैं क्या हमारे देश को भी सऊदी अरब की तरह कानून लाना चाहिए?Hamaare Desh Mein Jis Tarah Balaatkaar Aur Mardar Ho Rahe Hain Kya Hamaare Desh Ko Bhee Saoodee Arab Kee Tarah Kaanoon Laana Chaahie
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:50

#जीवन शैली

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:59

#जीवन शैली

bolkar speaker
अगर कोई इंसान अच्छा काम करता है तब भी लोग उसके खिलाफ क्यों होते हैं क्या आप मुझे बता सकते हैं?Agar Koee Insaan Achchha Kaam Karata Hai Tab Bhee Log Usake Khilaaph Kyon Hote Hain Kya Aap Mujhe Bata Sakate Hain
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:46

#रिश्ते और संबंध

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:48

#रिश्ते और संबंध

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:24
लिखिए प्रश्न है मेरी पत्नी बार-बार मुझे यह सब करवाती है कि मैं देखने में अच्छा नहीं हूं मैं काफी अपसेट करा होते जा रहा हूं क्या करूं इसका आपकी वाइफ को नहीं कहना चाहिए क्योंकि आप दोनों का शादी हो गई है अगर वह शादी से पहले आप को रिजेक्ट करता तो ठीक रहता पर शादी के बाद बार-बार आपको नीचा दिखाना सही नहीं है क्योंकि वो आपकी पति है और उसके साथ आप साथ जन्म के लिए बंद हो बंद हो चुके हैं तो सब सुख दुख में सब परिस्थितियों में आपको उनका साथ देना चाहिए तो अब इससे पहले आप अपनी पत्नी को यह समझाया कि सूरत से विचार मैच नहीं करती अगर सूरत सबका सुंदर और हैंडसम देखकर हम शादी करेंगे तो यह तो नहीं है कि कोई खूबसूरत है इतना सुंदर है उसका भीतर सुंदर हो तो तो इसलिए चेहरा देखकर कभी उस इंसानियत का इंसानियत नहीं मापा जाता आप शादी कर चुके हैं तो इसलिए आप अपने पत्नी को यह समझा जाए कि आप हमसे कितना प्यार करते हैं और जीवन भर आप उनका साथ देंगे तो पहले आप उनको यह एहसास दिलाएं और उनको समझने की कोशिश करें
Likhie prashn hai meree patnee baar-baar mujhe yah sab karavaatee hai ki main dekhane mein achchha nahin hoon main kaaphee apaset kara hote ja raha hoon kya karoon isaka aapakee vaiph ko nahin kahana chaahie kyonki aap donon ka shaadee ho gaee hai agar vah shaadee se pahale aap ko rijekt karata to theek rahata par shaadee ke baad baar-baar aapako neecha dikhaana sahee nahin hai kyonki vo aapakee pati hai aur usake saath aap saath janm ke lie band ho band ho chuke hain to sab sukh dukh mein sab paristhitiyon mein aapako unaka saath dena chaahie to ab isase pahale aap apanee patnee ko yah samajhaaya ki soorat se vichaar maich nahin karatee agar soorat sabaka sundar aur haindasam dekhakar ham shaadee karenge to yah to nahin hai ki koee khoobasoorat hai itana sundar hai usaka bheetar sundar ho to to isalie chehara dekhakar kabhee us insaaniyat ka insaaniyat nahin maapa jaata aap shaadee kar chuke hain to isalie aap apane patnee ko yah samajha jae ki aap hamase kitana pyaar karate hain aur jeevan bhar aap unaka saath denge to pahale aap unako yah ehasaas dilaen aur unako samajhane kee koshish karen

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या दूध में तुलसी के पत्ते उबालकर पीना फायदेमंद होता है?Kya Doodh Mein Tulsi Ke Patte Ubalkar Peena Faydemand Hota Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:42
प्रश्न है दूध में तुलसी के पत्ते उबालकर पीना फायदेमंद होता है या नहीं लिखिए दूध जिसमें बहुत सब प्रकार का विटामिन होता है जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही अच्छा है और तुझसे क्या पता जो होता है वह एक औषधीय उसमें गुण होता है और तुलसी पत्ता अगर जुखाम सर्दी खांसी हो तो तुलसी पत्ते खाने से बहुत ही आराम मिलता है तो इसलिए गर्म दूध में तुलसी पत्ता उबालकर पिएंगे तो हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद है और उसे पीना भी जरूरत है ताकि हमारे शरीर को अंदर से वह निरोग रखेगा और हम खुश रहेंगे
Prashn hai doodh mein tulasee ke patte ubaalakar peena phaayademand hota hai ya nahin likhie doodh jisamen bahut sab prakaar ka vitaamin hota hai jo hamaare shareer ke lie bahut hee achchha hai aur tujhase kya pata jo hota hai vah ek aushadheey usamen gun hota hai aur tulasee patta agar jukhaam sardee khaansee ho to tulasee patte khaane se bahut hee aaraam milata hai to isalie garm doodh mein tulasee patta ubaalakar pienge to hamaare shareer ke lie bahut hee phaayademand hai aur use peena bhee jaroorat hai taaki hamaare shareer ko andar se vah nirog rakhega aur ham khush rahenge

#जीवन शैली

bolkar speaker
किन लोगों को अपनी किस्मत पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए?Kin Logon Ko Apni Kismat Par Bilkul Bhi Bharosa Nahi Karna Chahiye
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:54
इस तरह के लोगों को अपने किस्मत पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए मैं यह कहना चाहती हूं कि जो लोग इमानदार है जो लोग परिश्रम है खुद ज्यादा परिश्रम करके अपने लिए और अपने परिवार के लिए कमाई करते हैं उस लोगों को किस्मत पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए क्योंकि उनको सिर्फ अपने बल पर और अपने मेहनत पर भरोसा करना चाहिए आप सब कुछ करें ऊपर वाले के ऊपर सब कुछ छोड़ देंगे भाग्य और कर अगर ऐसा होगा तो जरूर आप सफल होंगे तो पहले आप परिश्रम करें अब मेहनत करें क्योंकि मेहनत जो करते हैं उनके फल रंग लाता है इसलिए मेहनत करें फल का बिल्कुल भी ना करें क्योंकि भगवान आपका उचित समय पर आपको फल देगा
Is tarah ke logon ko apane kismat par bilkul bhee bharosa nahin karana chaahie main yah kahana chaahatee hoon ki jo log imaanadaar hai jo log parishram hai khud jyaada parishram karake apane lie aur apane parivaar ke lie kamaee karate hain us logon ko kismat par bilkul bhee bharosa nahin karana chaahie kyonki unako sirph apane bal par aur apane mehanat par bharosa karana chaahie aap sab kuchh karen oopar vaale ke oopar sab kuchh chhod denge bhaagy aur kar agar aisa hoga to jaroor aap saphal honge to pahale aap parishram karen ab mehanat karen kyonki mehanat jo karate hain unake phal rang laata hai isalie mehanat karen phal ka bilkul bhee na karen kyonki bhagavaan aapaka uchit samay par aapako phal dega

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
जिस से हम सबसे ज्यादा प्यार करते है वो हमारी कदर क्यों नहीं करते ?Jis Se Hum Subse Jyada Pyar Karte Hai Wo Humari Kadar Kyo Nahi Karate
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:16
प्रश्न है जिससे हम सबसे ज्यादा प्यार करते हैं वह हमारी कदर क्यों नहीं करते देखे जाते हैं तो आपके अंदर उस व्यक्ति पर प्यार ज्यादा आता है इज्जत ज्यादा बढ़ता है और आप उसका ख्याल ज्यादा रखते हैं तो अगर हम ऐसा नहीं है कि सब लोग समान है तब ऐसे लड़के हैं जिससे आप ज्यादा प्यार देते हो सलमान देते हो इज्जत देते हैं वह आपके कदर ही नहीं करते आपको पीछे मुड़ कर भी नहीं देखते इसलिए दुनिया में ऐसे लोग एक समान सब लोग एक समान नहीं होते क्योंकि अगर हम किसी को प्यार करते हैं ज्यादा तो उसको पता होता है कि यह लड़का यह लड़की मुझसे ज्यादा प्यार करता है तो वह आपको प्यार आपका सम्मान करता है आप को इज्जत देता है पर हर लड़का लड़के ऐसे नहीं है ज्यादा नखरे करते हैं अगर आप उससे ज्यादा ख्याल रखते हैं ज्यादा प्यार करते हैं तो सब कुछ भूल जाते हैं
Prashn hai jisase ham sabase jyaada pyaar karate hain vah hamaaree kadar kyon nahin karate dekhe jaate hain to aapake andar us vyakti par pyaar jyaada aata hai ijjat jyaada badhata hai aur aap usaka khyaal jyaada rakhate hain to agar ham aisa nahin hai ki sab log samaan hai tab aise ladake hain jisase aap jyaada pyaar dete ho salamaan dete ho ijjat dete hain vah aapake kadar hee nahin karate aapako peechhe mud kar bhee nahin dekhate isalie duniya mein aise log ek samaan sab log ek samaan nahin hote kyonki agar ham kisee ko pyaar karate hain jyaada to usako pata hota hai ki yah ladaka yah ladakee mujhase jyaada pyaar karata hai to vah aapako pyaar aapaka sammaan karata hai aap ko ijjat deta hai par har ladaka ladake aise nahin hai jyaada nakhare karate hain agar aap usase jyaada khyaal rakhate hain jyaada pyaar karate hain to sab kuchh bhool jaate hain

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
2 साल का बच्चा अगर जिद्दी हो तो उसे कैसे समझाना चाहिए?2 Saal Ka Bacha Agar Jidi Ho To Use Kese Samjhana Chayia
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:43
कैसी है 2 साल का बच्चा का जिद्दी हो तो उसे कैसे समझाना चाहिए देखिए बच्चों तो मन के सच्चे होते हैं ईश्वर का रूप होता है तो बच्चों आज कल का जो बच्चे हैं वह बहुत ही बिजी होते हैं वह लेंगे यह लेंगे यह करेंगे वह करेंगे तो हम उसे मारकर या आंख दिखाकर उसे समझाने की कोशिश करते हैं पर ऐसा नहीं करना चाहिए अगर बच्चा किस देकर आए तो आप उसे प्यार से समझाएं और क्या वह मांग रहा है क्या चाह रहा है उसको पहले समझे उसके साथ अच्छे से बात कीजिए ताकि अच्छे से बोल समझ समझ जाएं और क्या वह दीदी कर रहा है उसको उस दीदी से कैसे बाहर लाएंगे यह आपको सोचना है उसका मन कैसे बदल ले बदला बदला जा सकता है यह आपको सोचना है तो आप बच्चे के साथ नरमी से पेश आए उसका ना उसको उस पर हाथ ना उठाएं कि उसे ना डालें अगर उसे आप डांटे के बार-बार मारेंगे तो उसका जिद्दी है जो बहुत धीरे-धीरे बढ़ जाएगा क्योंकि हमारे नानी याद आदि के जमाने में उनके बच्चे जन्म लेते थे वह आठ नौ दस किसी का 11 किसी का 12 सा बच्चा होते थे और सब इससे आजकल जो बच्चे इतनी जिद्दी होते हैं वही जमाने में नहीं होता है तो उन्होंने हमें सनम को समझते हैं कि आजकल का बच्चा बहुत ही जिद्दी हो हो जाते हैं एक बच्चा अगर किसी का भी हो जाए तो उसको बड़ा करने में बहुत ही कष्ट होता है
Kaisee hai 2 saal ka bachcha ka jiddee ho to use kaise samajhaana chaahie dekhie bachchon to man ke sachche hote hain eeshvar ka roop hota hai to bachchon aaj kal ka jo bachche hain vah bahut hee bijee hote hain vah lenge yah lenge yah karenge vah karenge to ham use maarakar ya aankh dikhaakar use samajhaane kee koshish karate hain par aisa nahin karana chaahie agar bachcha kis dekar aae to aap use pyaar se samajhaen aur kya vah maang raha hai kya chaah raha hai usako pahale samajhe usake saath achchhe se baat keejie taaki achchhe se bol samajh samajh jaen aur kya vah deedee kar raha hai usako us deedee se kaise baahar laenge yah aapako sochana hai usaka man kaise badal le badala badala ja sakata hai yah aapako sochana hai to aap bachche ke saath naramee se pesh aae usaka na usako us par haath na uthaen ki use na daalen agar use aap daante ke baar-baar maarenge to usaka jiddee hai jo bahut dheere-dheere badh jaega kyonki hamaare naanee yaad aadi ke jamaane mein unake bachche janm lete the vah aath nau das kisee ka 11 kisee ka 12 sa bachcha hote the aur sab isase aajakal jo bachche itanee jiddee hote hain vahee jamaane mein nahin hota hai to unhonne hamen sanam ko samajhate hain ki aajakal ka bachcha bahut hee jiddee ho ho jaate hain ek bachcha agar kisee ka bhee ho jae to usako bada karane mein bahut hee kasht hota hai

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
किसी समस्या को इग्नोर करने से क्या वह समस्या बढ़ेगी अथवा नष्ट हो जाएगी?Kisi Samasya Ko Ignore Karne Se Kya Vah Samasya Badhegi Athva Nasht Ho Jaegi
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:29
प्रश्न है कि से समस्या को इग्नोर करने से क्या वह समस्या बढ़ेगी अथवा नष्ट हो जाएगी देखिए जीवन में समस्या सबके आते हैं पर उस समस्या को हम को साफ करना पड़ता है अगर हम उसको इग्नोर करेंगे तो वही समस्या धीरे-धीरे बढ़ जाएगा हमारे जीवन में इसलिए हमको पहले देखना यह है कि समस्या क्या है क्या उसका हाल है अगर हम खुद उत्सव पर सकते हैं तो ठीक है यह हम किसी का सहारा ले सकते हैं उसको साफ करने में तो समस्या को आप हल्का मत लीजिए अगर कोई पैसों के मामले का समस्या हो किसी का लव लाइफ का हो किसको फैमिली को लेकर हो किसी के बच्चों को लेकर हो आपको समस्या में अगर पड़ जाते हैं तो बिल्कुल भी आप टेंशन ना ले अगर आप यह सोचे कि वह समस्या कैसे दूर हो सकता है आप किसी का मदद ले सकते हैं क्योंकि दुनिया में अभी भी अच्छे लोग हैं जो आपका हेल्प करेंगे तो पहले आप उस समस्या का हल निकाले कोशिश करें और वह धीरे-धीरे आपसे दूर हो जाएगा इसलिए किसी समस्या को इग्नोर मत कीजिए अगर वह समस्या छोटी है तो आप खुद उसको सब करने की कोशिश करें अगर कोई बड़े समस्या है तो आप कोशिश करें कि यह समस्या अब किसके साथ प्यार करेंगे और आपको किसके साथ बांटने से आपको उसका हाल होगा
Prashn hai ki se samasya ko ignor karane se kya vah samasya badhegee athava nasht ho jaegee dekhie jeevan mein samasya sabake aate hain par us samasya ko ham ko saaph karana padata hai agar ham usako ignor karenge to vahee samasya dheere-dheere badh jaega hamaare jeevan mein isalie hamako pahale dekhana yah hai ki samasya kya hai kya usaka haal hai agar ham khud utsav par sakate hain to theek hai yah ham kisee ka sahaara le sakate hain usako saaph karane mein to samasya ko aap halka mat leejie agar koee paison ke maamale ka samasya ho kisee ka lav laiph ka ho kisako phaimilee ko lekar ho kisee ke bachchon ko lekar ho aapako samasya mein agar pad jaate hain to bilkul bhee aap tenshan na le agar aap yah soche ki vah samasya kaise door ho sakata hai aap kisee ka madad le sakate hain kyonki duniya mein abhee bhee achchhe log hain jo aapaka help karenge to pahale aap us samasya ka hal nikaale koshish karen aur vah dheere-dheere aapase door ho jaega isalie kisee samasya ko ignor mat keejie agar vah samasya chhotee hai to aap khud usako sab karane kee koshish karen agar koee bade samasya hai to aap koshish karen ki yah samasya ab kisake saath pyaar karenge aur aapako kisake saath baantane se aapako usaka haal hoga

#जीवन शैली

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:14
किसने असर सीधे साधे स्वभाव वाले लोग अपनी बुराई सुनने के बाद इतने तरह में क्यों आ जाते हैं लेकिन तो सीधे-साधे लोग होते हैं वह मन की बहुत ही सच्चे होते हैं कि वह किसी झंझट में नहीं पड़ना चाहते थे या कुछ कहा अगर कोई हो रहा है कुछ गलत तो वह वहां नहीं जाते उसमें नहीं पढ़ते तो वह खुद अपने आप के बारे में सोचकर हमेशा चुप रहते हैं ताकि उनके ऊपर कोई आंच ना आए तो सीधे-साधे लोग होते हैं उनके लाइट चल भी बहुत सीधे होते हैं वह किसी के साथ है आप बुरे बर्ताव नहीं कर पाते हैं या जोर से या बहुत रूठ कर उठ कर नहीं बोलते ताकि किसी को तकलीफ में पहुंचे तो अगर वही लोग इतना अच्छे होने के बावजूद कोई बुरे सुने उनके बारे में तो उनको बहुत ही झटका लगता है कोई ऐसा सोचता है कि मैं उससे हूं मैं कि नहीं बोलती मैं किसी के बारे में बुरा नहीं बोलता तो मैं मेरे बारे में लोकेशन कैसे बोल सकते हैं तो यह सोच कर बहुत तनाव में आ जाते हैं जल्दी
Kisane asar seedhe saadhe svabhaav vaale log apanee buraee sunane ke baad itane tarah mein kyon aa jaate hain lekin to seedhe-saadhe log hote hain vah man kee bahut hee sachche hote hain ki vah kisee jhanjhat mein nahin padana chaahate the ya kuchh kaha agar koee ho raha hai kuchh galat to vah vahaan nahin jaate usamen nahin padhate to vah khud apane aap ke baare mein sochakar hamesha chup rahate hain taaki unake oopar koee aanch na aae to seedhe-saadhe log hote hain unake lait chal bhee bahut seedhe hote hain vah kisee ke saath hai aap bure bartaav nahin kar paate hain ya jor se ya bahut rooth kar uth kar nahin bolate taaki kisee ko takaleeph mein pahunche to agar vahee log itana achchhe hone ke baavajood koee bure sune unake baare mein to unako bahut hee jhataka lagata hai koee aisa sochata hai ki main usase hoon main ki nahin bolatee main kisee ke baare mein bura nahin bolata to main mere baare mein lokeshan kaise bol sakate hain to yah soch kar bahut tanaav mein aa jaate hain jaldee

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
एक स्त्री किस हद तक शक्तिशाली हो सकती है?Ek Stree Kis Had Tak Shaktishali Ho Sakti Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:25
प्रश्न एक स्त्री के साथ शक्तिशाली हो सकती है नारी माता के रूप होते हैं नारी भगवान जब नारी को सूचित किया था तो नारी केवल पुरुष के चरणों के तेल नहीं समझना चाहिए क्योंकि नारी बहुत ही शक्तिशाली होता है दुर्गा मां का रूप होता है नारी क्योंकि नारी सब सा होता है सब कुछ देती है और उनके बहुत सारे रूप है जिसे स्त्री मां जाया भगिनी इससे बहुत सारे रूप होते और वह सब के किरदारों में बहुत ही अच्छी तरह से निभाते हैं इसलिए उस पर जब आ जाएगा वह माता काली का रूप धारण कर सकते हैं और सारा सृष्टि को नष्ट कर सकते हैं उनकी आंखों का जो अश्रु है अगर जरा इसे घर पर तो वह घर बर्बाद हो जाएगा किसी नारी पर अजब अत्याचार होता है या किसी घर के नारी के ऊपर जब कोई पुरुष हाथ उठाता है उसका घर में दरिद्रता बात करता है लक्ष्मी हमेशा के लिए रूट होकर चले जाते हैं नारी सर्वदा पूजनीय होते हैं इसलिए नारी को सम्मान करना बहुत ही जरूरत होता है
Prashn ek stree ke saath shaktishaalee ho sakatee hai naaree maata ke roop hote hain naaree bhagavaan jab naaree ko soochit kiya tha to naaree keval purush ke charanon ke tel nahin samajhana chaahie kyonki naaree bahut hee shaktishaalee hota hai durga maan ka roop hota hai naaree kyonki naaree sab sa hota hai sab kuchh detee hai aur unake bahut saare roop hai jise stree maan jaaya bhaginee isase bahut saare roop hote aur vah sab ke kiradaaron mein bahut hee achchhee tarah se nibhaate hain isalie us par jab aa jaega vah maata kaalee ka roop dhaaran kar sakate hain aur saara srshti ko nasht kar sakate hain unakee aankhon ka jo ashru hai agar jara ise ghar par to vah ghar barbaad ho jaega kisee naaree par ajab atyaachaar hota hai ya kisee ghar ke naaree ke oopar jab koee purush haath uthaata hai usaka ghar mein daridrata baat karata hai lakshmee hamesha ke lie root hokar chale jaate hain naaree sarvada poojaneey hote hain isalie naaree ko sammaan karana bahut hee jaroorat hota hai

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
गुलाब के फायदे क्या है?Gulab Ke Fayde Kya Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:39
प्रश्न है गुलाब के फायदे क्या है गुलाब दिखने में जितना खूबसूरत है उनकी स्मेल भी बहुत ही खूबसूरत है और हम गुलाब को प्यार के प्रतीक के रूप में हम देखते हैं तो गुलाब हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद हैं हमारे स्किन के लिए गुलाब के जो पकड़िया उससे हम पेश कर अपने फेस पर लगा सकते हैं क्या उसको हम गुलाब जल घर में कृपया करके गुलाब जल जैसा हमारे फेस पर लगा सकते हैं इसलिए गुलाब जो है वह बहुत ही फायदेमंद होता है हमारी स्किन के लिए
Prashn hai gulaab ke phaayade kya hai gulaab dikhane mein jitana khoobasoorat hai unakee smel bhee bahut hee khoobasoorat hai aur ham gulaab ko pyaar ke prateek ke roop mein ham dekhate hain to gulaab hamaare lie bahut hee phaayademand hain hamaare skin ke lie gulaab ke jo pakadiya usase ham pesh kar apane phes par laga sakate hain kya usako ham gulaab jal ghar mein krpaya karake gulaab jal jaisa hamaare phes par laga sakate hain isalie gulaab jo hai vah bahut hee phaayademand hota hai hamaaree skin ke lie

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या आज के दिन वैलेंटाइन डे मनाना सही है?Kya Aaj Ke Din Valentine Day Manana Sahi Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:59
प्रश्न है क्या आज के दिन वैलेंटाइन डे मनाना चाहिए देखिए वैलेंटाइन डे जो होता है उसको हम प्यार के ध्वज कहते हैं जिसको हम प्यार करते हैं उनके लिए हम है मेंटल से मनाए इसे सब सोचते हैं पर वैलेंटाइन डे का मतलब यह नहीं तो हम सिर्फ हमारे हस्बैंड के साथ या वाइफ के साथ यह हमारी गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड के साथ मनाए वैलेंटाइन डे हमें हमारी फैमिली के साथ भी बिता सकते हैं हमारी मां पापा भाई बहन जो भी हम हमें ज्यादा पसंद करते हैं हमें उसको ज्यादा प्यार करते हैं हमें उनके साथ वैलेंटाइन डे मनाना है तो वैलेंटाइन का मतलब हमें प्यार सब को देना है प्यार पाना है जिससे हम वैलेंटाइन डे ऐसे ही बनाए तो हमको बहुत ही अच्छा लगता है तो वैलेंटाइन डे में हर बात तो मैं मेरी माता पिता और मेरी बहन भाई को हमेशा डेडिकेट करते हो फालतू से उनको करती हूं तो उसके बाद में मेरे हस्बैंड को करती हूं क्योंकि मेरी मां बापा ही मेरे लिए वैलेंटाइन डे वैलेंटाइन है इसलिए आज के दिन में ज्यादा खास नहीं बनाते क्योंकि आज के दिन हमारे जो देश के वीर जवानों शहीद हुए थे तो उनके लिए मैं ज्यादा सेलिब्रेट नहीं करता कि उनको भी मैं याद करती हूं क्योंकि वही असली हीरो होते हैं जो उनकी फैमिली के साथ नहीं रह कर हमारे देश की सुरक्षा के लिए हमेशा खड़े होते हैं हम को सुरक्षा देने के लिए वह अपने जीवन को बलिदान देते हैं इसलिए मैं ज्यादा में सेलिब्रेट नहीं करती सिर्फ मेरी हस्बैंड को मेरी फैमिली को मैं मिस करती हूं और उस दिन को मैं याद करती हूं
Prashn hai kya aaj ke din vailentain de manaana chaahie dekhie vailentain de jo hota hai usako ham pyaar ke dhvaj kahate hain jisako ham pyaar karate hain unake lie ham hai mental se manae ise sab sochate hain par vailentain de ka matalab yah nahin to ham sirph hamaare hasbaind ke saath ya vaiph ke saath yah hamaaree garlaphrend boyaphrend ke saath manae vailentain de hamen hamaaree phaimilee ke saath bhee bita sakate hain hamaaree maan paapa bhaee bahan jo bhee ham hamen jyaada pasand karate hain hamen usako jyaada pyaar karate hain hamen unake saath vailentain de manaana hai to vailentain ka matalab hamen pyaar sab ko dena hai pyaar paana hai jisase ham vailentain de aise hee banae to hamako bahut hee achchha lagata hai to vailentain de mein har baat to main meree maata pita aur meree bahan bhaee ko hamesha dediket karate ho phaalatoo se unako karatee hoon to usake baad mein mere hasbaind ko karatee hoon kyonki meree maan baapa hee mere lie vailentain de vailentain hai isalie aaj ke din mein jyaada khaas nahin banaate kyonki aaj ke din hamaare jo desh ke veer javaanon shaheed hue the to unake lie main jyaada selibret nahin karata ki unako bhee main yaad karatee hoon kyonki vahee asalee heero hote hain jo unakee phaimilee ke saath nahin rah kar hamaare desh kee suraksha ke lie hamesha khade hote hain ham ko suraksha dene ke lie vah apane jeevan ko balidaan dete hain isalie main jyaada mein selibret nahin karatee sirph meree hasbaind ko meree phaimilee ko main mis karatee hoon aur us din ko main yaad karatee hoon

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
किसी के चरित्र पर शंका करना आजकल आम बात क्यों होने लगी है?Kisi Ke Charitra Par Shanka Karna Aajkal Aam Baat Kyo Hone Lagi Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
2:03
पीछे के चरित्र पर शंका का ना आजकल आम बात क्यों होने लगी है देखिए यह जो है आजकल ज्यादा दिख रहा है क्योंकि अगर कोई लड़का किसी लड़की से बात कर रहा है तो लोग समझते हैं उसके भीतर कुछ रिश्ता है उनके और इन दोनों के भीतर कोई रिश्ता है अरे कैसे हो सकता है अगर आप किसी लड़का या कोई लड़का किसी लड़की से बात कर रहा है तो वह भी उसका फ्रेंड हो सकता है सिर्फ एक लड़का लड़के बात करें तो लोग समझते हैं आइए इस लड़की के भीतर कुछ संबंध है या यह इसी को प्यार करता है इससे जहां चार यार फैला देते हैं इसे सुनकर हमारी फैमिली में हमारे माता-पिता के ऊपर क्या बीती होगी उनको क्या थोड़ी पता है बदनाम करने के लिए लोग तो हमेशा रेडी ही रहते हैं उनके घर की उनकी आंखों में खुद को भी देखनी चाहिए ना कि हम दूसरों को क्यों बोले अपने आप को पहले से देखो ना पहले दूसरों को बोलना अगर कोई किसी के घर में जाता है अगर कुछ काम है या कोई एक है कि कोई अकेला लड़की घर में होता है अगर कोई लड़का उसके घर जाता है या कोई उसका संबंधी कोई भाई भाई होता है अगर उससे मिलने भी जाता है तो पड़ोसियों को देखना अरे यह तो हर दिन उसके पास जाता है क्या करता है अंदर एक थोड़ी ना ऐसा होता है जो आंखें सब आंखें दिखाएं सब आंखें दिखाई देने सत्य नहीं होता उसके भीतर हम को समझना है क्यों जा रहा है बोलता पर्सनल मेटर है आपको क्या वैसे रहे हो उस से पर्सनल मैटर में दखल देना है या आजकल लोगों का एक हावित हो गया है दूसरों को बदनाम करने का
Peechhe ke charitr par shanka ka na aajakal aam baat kyon hone lagee hai dekhie yah jo hai aajakal jyaada dikh raha hai kyonki agar koee ladaka kisee ladakee se baat kar raha hai to log samajhate hain usake bheetar kuchh rishta hai unake aur in donon ke bheetar koee rishta hai are kaise ho sakata hai agar aap kisee ladaka ya koee ladaka kisee ladakee se baat kar raha hai to vah bhee usaka phrend ho sakata hai sirph ek ladaka ladake baat karen to log samajhate hain aaie is ladakee ke bheetar kuchh sambandh hai ya yah isee ko pyaar karata hai isase jahaan chaar yaar phaila dete hain ise sunakar hamaaree phaimilee mein hamaare maata-pita ke oopar kya beetee hogee unako kya thodee pata hai badanaam karane ke lie log to hamesha redee hee rahate hain unake ghar kee unakee aankhon mein khud ko bhee dekhanee chaahie na ki ham doosaron ko kyon bole apane aap ko pahale se dekho na pahale doosaron ko bolana agar koee kisee ke ghar mein jaata hai agar kuchh kaam hai ya koee ek hai ki koee akela ladakee ghar mein hota hai agar koee ladaka usake ghar jaata hai ya koee usaka sambandhee koee bhaee bhaee hota hai agar usase milane bhee jaata hai to padosiyon ko dekhana are yah to har din usake paas jaata hai kya karata hai andar ek thodee na aisa hota hai jo aankhen sab aankhen dikhaen sab aankhen dikhaee dene saty nahin hota usake bheetar ham ko samajhana hai kyon ja raha hai bolata parsanal metar hai aapako kya vaise rahe ho us se parsanal maitar mein dakhal dena hai ya aajakal logon ka ek haavit ho gaya hai doosaron ko badanaam karane ka

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
ब्रेकअप के बाद आगे कैसे बढ़े मुझे लग रहा है इस गम में पागल हो जाऊंगी?Breakup Ke Baad Aage Kaise Badhe Mujhe Lag Raha Hai Is Gam Me Pagal Ho Jaungi
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
2:10
कैसे ब्रेकअप के बाद आगे कैसे बढ़े मुझे लग रहा है इस जब मैं पागल हो जाओगे देख कर यह बिल्कुल भी नहीं है क्यों पागल हो जाएंगे आप आज कल तो सब प्यार करते हैं पर वो प्यार को निभाते नहीं है आगे नहीं ले जा पा रहे हैं कोई किसी का दौलत धन दौलत लेकर प्यार करता है कोई किसी का रूप देकर प्यार करता है इसे थोड़ा प्यार होता है प्यार तो साक्षात ईश्वर है जिस प्यार में स्वार्थ नहीं होता है पवित्र होता है वही प्यार आगे चलता है जीवन भर साथ निभाता है तो इसीलिए अगर आपको किसी कारण से ब्रेकअप हो गया है तो ठीक है इसमें शैलेश चलने की वजह से आपकी और हो आपकी तरफ से हो या उनकी तरफ से हो अगर ब्रेकअप हो गया बिल्कुल भी ना टूटे क्योंकि भगवान जो करते हैं वो अच्छे के लिए ही करते हैं अगर वह लड़का या लड़की आपके नसीब में नहीं है तो एक न एक दिन आपके जीवन में और कोई आएगा जो उस लड़की से या लड़के से ज्यादा आपको बेहतर प्यार करेगा और भगवान की इशारा को समझे और अपने जीवन को आगे बढ़े और अगर आपको वह लड़का या लड़की यादों में आ रहा है आप उसके बारे में ज्यादा सोच रहे तो पहले आप उसको बुलाने की कोशिश करें आप अपने मनपसंद पसंदीदा गीत सुने मन पसंदीदा स्थान में जाकर घर में एक जगह पर आप वहां बैठे अपनी फैमिली के साथ टाइम स्पेंड करें और दिखेगा धीरे धीरे धीरे धीरे धीरे धीरे आप उस दिन में बाहर आ जाएंगे अपने आप को हर काम में व्यस्त रखो कोई भी आपको परेशानी नहीं लेना है बस उस यादों को मिटा देना है और अपने जीवन को आगे बढ़ाना है ऐसी ही समझदारी है आपके लिए उसके लिए आप अपने को क्यों दोस्त से रहे और अपने को क्यों इतना कष्ट दे रहे हैं
Kaise brekap ke baad aage kaise badhe mujhe lag raha hai is jab main paagal ho jaoge dekh kar yah bilkul bhee nahin hai kyon paagal ho jaenge aap aaj kal to sab pyaar karate hain par vo pyaar ko nibhaate nahin hai aage nahin le ja pa rahe hain koee kisee ka daulat dhan daulat lekar pyaar karata hai koee kisee ka roop dekar pyaar karata hai ise thoda pyaar hota hai pyaar to saakshaat eeshvar hai jis pyaar mein svaarth nahin hota hai pavitr hota hai vahee pyaar aage chalata hai jeevan bhar saath nibhaata hai to iseelie agar aapako kisee kaaran se brekap ho gaya hai to theek hai isamen shailesh chalane kee vajah se aapakee aur ho aapakee taraph se ho ya unakee taraph se ho agar brekap ho gaya bilkul bhee na toote kyonki bhagavaan jo karate hain vo achchhe ke lie hee karate hain agar vah ladaka ya ladakee aapake naseeb mein nahin hai to ek na ek din aapake jeevan mein aur koee aaega jo us ladakee se ya ladake se jyaada aapako behatar pyaar karega aur bhagavaan kee ishaara ko samajhe aur apane jeevan ko aage badhe aur agar aapako vah ladaka ya ladakee yaadon mein aa raha hai aap usake baare mein jyaada soch rahe to pahale aap usako bulaane kee koshish karen aap apane manapasand pasandeeda geet sune man pasandeeda sthaan mein jaakar ghar mein ek jagah par aap vahaan baithe apanee phaimilee ke saath taim spend karen aur dikhega dheere dheere dheere dheere dheere dheere aap us din mein baahar aa jaenge apane aap ko har kaam mein vyast rakho koee bhee aapako pareshaanee nahin lena hai bas us yaadon ko mita dena hai aur apane jeevan ko aage badhaana hai aisee hee samajhadaaree hai aapake lie usake lie aap apane ko kyon dost se rahe aur apane ko kyon itana kasht de rahe hain

#जीवन शैली

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
2:16
प्रश्न है आधुनिक मानव जीवन में रिश्तो का अंत क्यों हो जाता है क्या इसके पीछे कोई खास वजह है देखिए रिश्तो का अंत अभी ज्यादा हो रहा है कोई रिश्ते का महत्व नहीं समझ पा रहे कि एक हमारे भीतर एकता कितना इंपॉर्टेंट है इस सब समझते हैं पर समझ कर भी नहीं समझते हम एक शामली में रहते हैं अगर हमारे साथ कोई बुरा हो जाता है या कोई मुसीबत आए तो हमारे साथ जो खड़ा रहेगा वह है हमारी फैमिली और आजकल तो सारे रिश्ते जैसे टूट जाते हैं जिसे देखिए पति पत्नी का रिश्ता एक अटूट रिश्ता होता है पर आजकल शादी या 1 साल तक भी नहीं टिकती जल्दी से डिवोर्स हो जाते इतना डिवोर्स लेने की जल्दी क्यों है उनमें शादी कोई बच्चों का गुड़ियों का खेल नहीं है यह पवित्र बंधन है तब भी लोग अंडरस्टैंडिंग खेतमे वजह से या अगर कुछ हां पति पत्नी में झगड़ा हो जाए तो आसानी से रिमोट कैसे ले सकते हैं कुछ भी नहीं समझते हैं कोई जिस मां बाप ने अपने बच्चों को इतना पढ़ा लिखा कर इतना बड़ा किया बुढ़ापे में वह उनको ही छोड़ देते हैं वृद्धाश्रम में उनके हाथ को छोड़ देते हैं ऐसा क्यों होता है रिश्ते को कोई क्यों नहीं समझता दुनिया में सब कोई करता ही नहीं कि हम असर बताएं यही पर रह जाए हमको रिश्तो को समझना है क्योंकि मृत्यु एक मात्र दो सकते हैं पर जिससे समय जिसे दिन भगवान हमको धरती पर है जिसके लिए भेजा है बस हम वही काम करेंगे पहले अपने मां बाप को पहले अपने माता-पिता को खुश रखें दूसरों का हेल्प करें और अपने अपनों के साथ जैसे भी रिश्ता है उसको बाहर से रखिए कभी न टूटने वाला रिश्ता बनाइए जो कि हर मुसीबत में आपका साथ देगा
Prashn hai aadhunik maanav jeevan mein rishto ka ant kyon ho jaata hai kya isake peechhe koee khaas vajah hai dekhie rishto ka ant abhee jyaada ho raha hai koee rishte ka mahatv nahin samajh pa rahe ki ek hamaare bheetar ekata kitana importent hai is sab samajhate hain par samajh kar bhee nahin samajhate ham ek shaamalee mein rahate hain agar hamaare saath koee bura ho jaata hai ya koee museebat aae to hamaare saath jo khada rahega vah hai hamaaree phaimilee aur aajakal to saare rishte jaise toot jaate hain jise dekhie pati patnee ka rishta ek atoot rishta hota hai par aajakal shaadee ya 1 saal tak bhee nahin tikatee jaldee se divors ho jaate itana divors lene kee jaldee kyon hai unamen shaadee koee bachchon ka gudiyon ka khel nahin hai yah pavitr bandhan hai tab bhee log andarastainding khetame vajah se ya agar kuchh haan pati patnee mein jhagada ho jae to aasaanee se rimot kaise le sakate hain kuchh bhee nahin samajhate hain koee jis maan baap ne apane bachchon ko itana padha likha kar itana bada kiya budhaape mein vah unako hee chhod dete hain vrddhaashram mein unake haath ko chhod dete hain aisa kyon hota hai rishte ko koee kyon nahin samajhata duniya mein sab koee karata hee nahin ki ham asar bataen yahee par rah jae hamako rishto ko samajhana hai kyonki mrtyu ek maatr do sakate hain par jisase samay jise din bhagavaan hamako dharatee par hai jisake lie bheja hai bas ham vahee kaam karenge pahale apane maan baap ko pahale apane maata-pita ko khush rakhen doosaron ka help karen aur apane apanon ke saath jaise bhee rishta hai usako baahar se rakhie kabhee na tootane vaala rishta banaie jo ki har museebat mein aapaka saath dega

#जीवन शैली

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:08
अपने है गैस की समस्या होने पर शरीर फूल क्यों जाता है इसे ठीक करने का अच्छा उपाय क्या है लेकिन क्या से आमतौर पर आजकल सबके में होता है क्या होता है प्रॉब्लम जात का प्रॉब्लम होता है यह हमारे खाना पीना ठीक होने के ना होने की वजह से यह क्या प्रॉब्लम हो रहे हैं हम अगर खाना नहीं खाते तो गैस की समस्या शुरू हो जाता है या ज्यादा हम ऑइली फूड खाते हैं या स्पाइसी फूड खाते हैं या फास्ट फूड खाते इससे हमारी समस्या ज्यादा पड़ता है इसलिए बेहतर होगा आप ठीक टाइम पर खाना खाइए सुबह एक्सरसाइज कीजिए और सब पर्सेंट पानी पिए और अच्छे अन हेल्थी खाना खाइए दिखेगा आपकी क्या धीरे-धीरे काम हो जाएगा और आप सुबह बेलपत्र और ब्लॉक पेपर हाई-फाई प्ले कर आप खाली पेट से चबाकर खाएं लेकिन जरूर ऊपर सब मिलेगा
Apane hai gais kee samasya hone par shareer phool kyon jaata hai ise theek karane ka achchha upaay kya hai lekin kya se aamataur par aajakal sabake mein hota hai kya hota hai problam jaat ka problam hota hai yah hamaare khaana peena theek hone ke na hone kee vajah se yah kya problam ho rahe hain ham agar khaana nahin khaate to gais kee samasya shuroo ho jaata hai ya jyaada ham oilee phood khaate hain ya spaisee phood khaate hain ya phaast phood khaate isase hamaaree samasya jyaada padata hai isalie behatar hoga aap theek taim par khaana khaie subah eksarasaij keejie aur sab parsent paanee pie aur achchhe an helthee khaana khaie dikhega aapakee kya dheere-dheere kaam ho jaega aur aap subah belapatr aur blok pepar haee-phaee ple kar aap khaalee pet se chabaakar khaen lekin jaroor oopar sab milega

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
इस बार वैलेंटाइन डे कैसे मनाए?Is Baar Valentine Day Kaise Mnae
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:44
ईश्वर वैलेंटाइन डे कैसे बनाएं देखे वैलेंटाइन डे जो है उसको प्यार का दिवस कहते हैं वैलेंटाइन डे हमारे देश की संस्कृति परंपरा ने पाश्चात्य संस्कृति के बाहर देश से हमारी स्टेट तो हमारे देश को आया है तो इस प्यार के दीपक का मतलब यह नहीं कि हम सिर्फ हमारी गर्लफ्रेंड के साथ या बॉयफ्रेंड या हसबैंड वाइफ के साथ हम मनाया वैलेंटाइन डे अपने फैमिली के साथ मनाया जिससे आप प्यार करते हो उसके साथ अपने वैलेंटाइन डे बनाए वैलेंटाइन डे का मतलब होता है सिर्फ वह वाला प्यार नहीं आप जिसे अपने दिल से जिसको प्यार करते हैं उसके साथ आ वैलेंटाइन डे बनाया
Eeshvar vailentain de kaise banaen dekhe vailentain de jo hai usako pyaar ka divas kahate hain vailentain de hamaare desh kee sanskrti parampara ne paashchaaty sanskrti ke baahar desh se hamaaree stet to hamaare desh ko aaya hai to is pyaar ke deepak ka matalab yah nahin ki ham sirph hamaaree garlaphrend ke saath ya boyaphrend ya hasabaind vaiph ke saath ham manaaya vailentain de apane phaimilee ke saath manaaya jisase aap pyaar karate ho usake saath apane vailentain de banae vailentain de ka matalab hota hai sirph vah vaala pyaar nahin aap jise apane dil se jisako pyaar karate hain usake saath aa vailentain de banaaya

#जीवन शैली

bolkar speaker
व्यवसाय की सफलता में कौन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है धन या भाग्य?Vyavsay Ki Safalta Mein Kaun Mehtvpurn Bhumika Nibhata Hai Dhan Ya Bhagya
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:11
प्रश्न है बिपाशा की सफलता में कौन महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं धन या भाग्य एक ही धन और भाग्य यह तो सब पर नहीं होता किसी के पास धन होता है अगर भाग्य उसका साथ नहीं देता तो वह कुछ नहीं हो सकता ऐसा नहीं है कि हम कर्म करना भूल जाए और भाग्य के ऊपर सब छोड़ दे ऐसा नहीं है हमको अगर किसी बिजनेस करना है अगर कोई व्यवसाय हम करते हैं तो उनमें लाभ खेती यह होता रहता है कोई आगे बढ़ जाता है कोई पीछे रह जाता है पर हमको मेहनत करना है और भगवान के ऊपर सब कुछ छोड़ छोड़ देना है क्योंकि अब हमारा साथ देगा वह बता नहीं अगर भाग्य भी साथ दे देगा भगवान के आशीर्वाद से तो हम जरूर ऊपर उठ जाएंगे तो व्यवसाय हम छोटे थे जब स्टार्ट करते हैं अगर मेहनत हमारा रंग लाएगा महालक्ष्मी प्रसन्न हुए तो व्यवसाय बहुत ही आगे बढ़ता है इसलिए भाग्य के ऊपर भी भरोसा करना है और खुद के धर्म के ऊपर भी भरोसा में करना है
Prashn hai bipaasha kee saphalata mein kaun mahatvapoorn bhoomika nibhaate hain dhan ya bhaagy ek hee dhan aur bhaagy yah to sab par nahin hota kisee ke paas dhan hota hai agar bhaagy usaka saath nahin deta to vah kuchh nahin ho sakata aisa nahin hai ki ham karm karana bhool jae aur bhaagy ke oopar sab chhod de aisa nahin hai hamako agar kisee bijanes karana hai agar koee vyavasaay ham karate hain to unamen laabh khetee yah hota rahata hai koee aage badh jaata hai koee peechhe rah jaata hai par hamako mehanat karana hai aur bhagavaan ke oopar sab kuchh chhod chhod dena hai kyonki ab hamaara saath dega vah bata nahin agar bhaagy bhee saath de dega bhagavaan ke aasheervaad se to ham jaroor oopar uth jaenge to vyavasaay ham chhote the jab staart karate hain agar mehanat hamaara rang laega mahaalakshmee prasann hue to vyavasaay bahut hee aage badhata hai isalie bhaagy ke oopar bhee bharosa karana hai aur khud ke dharm ke oopar bhee bharosa mein karana hai

#रिश्ते और संबंध

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:42
आजकल पढ़े-लिखे लड़के लड़कियों के रिश्ते क्यों नहीं हो पा रहे किसी के भी रिश्तेदार लिखता करवाने में उससे ज्यादा क्यों नहीं दिखाते क्यों जाती हूं कि आजकल इतना हमें हमारा समाज आगे बढ़ गया है हम पढ़े-लिखे इतने ज्यादा करें तो आजकल हम मोबाइल से इंटरनेट का जो भी हो गया है तो हर दम हम सोशल मीडिया में एक्टिव रहते हैं किसी किसी को तो वह सोशल मीडिया से ही अपने रिश्ते को ढूंढ लेते हैं पर प्यार हो जाए फिर शादी के बाद वहीं से आगे लाइन शुरू हो जाते हैं तो हमारे उस जमाने में तो मध्य मस्ती हमारे लिए जो थे वह हमारे लिए रिश्ता लेकर घर में आते थे आजकल बोलो हो गया है लड़का हो या लड़की को खुद अपने लिए रिश्ता ढूंढ कर लाते हैं या खुद लव मैरिज करते हैं अरेंज मैरेज जैसे कम हो गए हैं जैसे सोशल मीडिया में जैसे हमारी वेबसाइट सब आ रहा है जैसे shaadi.com यह जैसे तो हम उससे सहारा लेकर हमारे मन पसंदीदा लड़का वहां से छू लेते हैं तब चुनने के वक्त हमको थोड़ा सावधानियां भी लेना चाहिए क्योंकि फोर्ड भी उस में होते हैं तो मस्ती से जो मैरिज होते थे वह कुछ सब कुछ हम देखते हैं उसका घर परिवार लड़का क्या करता है यह सब देखकर उनके मर्जी से होते हैं पर आज कल जब यह वेबसाइट सब निकल रहा है तो आजकल लड़का लड़की उनमें से ही अपने मनपसंद का लड़का चुन लेते हैं
Aajakal padhe-likhe ladake ladakiyon ke rishte kyon nahin ho pa rahe kisee ke bhee rishtedaar likhata karavaane mein usase jyaada kyon nahin dikhaate kyon jaatee hoon ki aajakal itana hamen hamaara samaaj aage badh gaya hai ham padhe-likhe itane jyaada karen to aajakal ham mobail se intaranet ka jo bhee ho gaya hai to har dam ham soshal meediya mein ektiv rahate hain kisee kisee ko to vah soshal meediya se hee apane rishte ko dhoondh lete hain par pyaar ho jae phir shaadee ke baad vaheen se aage lain shuroo ho jaate hain to hamaare us jamaane mein to madhy mastee hamaare lie jo the vah hamaare lie rishta lekar ghar mein aate the aajakal bolo ho gaya hai ladaka ho ya ladakee ko khud apane lie rishta dhoondh kar laate hain ya khud lav mairij karate hain arenj mairej jaise kam ho gae hain jaise soshal meediya mein jaise hamaaree vebasait sab aa raha hai jaise shaadi.chom yah jaise to ham usase sahaara lekar hamaare man pasandeeda ladaka vahaan se chhoo lete hain tab chunane ke vakt hamako thoda saavadhaaniyaan bhee lena chaahie kyonki phord bhee us mein hote hain to mastee se jo mairij hote the vah kuchh sab kuchh ham dekhate hain usaka ghar parivaar ladaka kya karata hai yah sab dekhakar unake marjee se hote hain par aaj kal jab yah vebasait sab nikal raha hai to aajakal ladaka ladakee unamen se hee apane manapasand ka ladaka chun lete hain

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हम ज्यादा समय एक जगह पर ठहर नहीं सकते हैं तो फिर रात में एक जगह पर कैसे सो सकते हैं?Hum Jyada Samay Ek Jagah Par Thehr Nahin Sakte Hain To Phir Raat Mein Ek Jagah Par Kaise So Sakte Hain
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:13
प्रश्न है हम ज्यादा समय एक जगह पर ठहर नहीं करते तो फिर आप में एक जगह पर कैसे सो सकते हैं इसलिए अंधेरे को सब का डर होता है जब हम दिन में काम से टक्कर घर में आते हैं तो हमारे बड़े को प्रेस चाहिए होते जो कि रात के समय अच्छा रहता है कि हम थोड़ा विश्राम ले एक ही जगह पर हम सोते हैं ताकि हमारा जो हम दिन भर जो परिश्रम करते हैं उसको थोड़ा रिलैक्स हमको महसूस करने के महसूस चाहिए होते हैं इसलिए हम को रात के समय सही समय होता है कि हम खुद अपने बॉडी को रिलैक्स से तो इसीलिए रात के समय में अंधेरा होता है चारों ओर बहुत कोई भी लोग नहीं होते हम को डर लगता है रात को शामिल करना भी अच्छा नहीं है तो इसीलिए दिल में जो दिन के उजाले में हमको घूमना अच्छा लगता है और भीड़ रहता है हम शॉपिंग बगैरा करते हैं काम पर जाते हैं इसलिए वहीं से हमको परिश्रम करके जो हम काम करके घर लौटते हैं तो हम रात को ही पहचान लेते हैं
Prashn hai ham jyaada samay ek jagah par thahar nahin karate to phir aap mein ek jagah par kaise so sakate hain isalie andhere ko sab ka dar hota hai jab ham din mein kaam se takkar ghar mein aate hain to hamaare bade ko pres chaahie hote jo ki raat ke samay achchha rahata hai ki ham thoda vishraam le ek hee jagah par ham sote hain taaki hamaara jo ham din bhar jo parishram karate hain usako thoda rilaiks hamako mahasoos karane ke mahasoos chaahie hote hain isalie ham ko raat ke samay sahee samay hota hai ki ham khud apane bodee ko rilaiks se to iseelie raat ke samay mein andhera hota hai chaaron or bahut koee bhee log nahin hote ham ko dar lagata hai raat ko shaamil karana bhee achchha nahin hai to iseelie dil mein jo din ke ujaale mein hamako ghoomana achchha lagata hai aur bheed rahata hai ham shoping bagaira karate hain kaam par jaate hain isalie vaheen se hamako parishram karake jo ham kaam karake ghar lautate hain to ham raat ko hee pahachaan lete hain

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्यों उबले पानी में सफेद पदार्थ जमा हो जाता है क्या यह हानिकारक हैं?Kyun Uble Pani Mein Safed Pdarth Jma Ho Jata Hai Kya Yah Hanikarak Hain
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:21
क्यों बोले पानी में सफेद पत्थर जमा हो जाता है क्या यह हानिकारक है उबले हुए पानी में जो सफेद का जो चीज बैठकर जमा होता है वह कुछ और नहीं बल्कि जहरीला पदार्थ नाइट्रेट और आर्सेनिक की मात्रा अधिक होने के कारण वश में जमा हो जाती है पानी में
Kyon bole paanee mein saphed patthar jama ho jaata hai kya yah haanikaarak hai ubale hue paanee mein jo saphed ka jo cheej baithakar jama hota hai vah kuchh aur nahin balki jahareela padaarth naitret aur aarsenik kee maatra adhik hone ke kaaran vash mein jama ho jaatee hai paanee mein

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
व्यायाम आपके शरीर को कैसे स्वस्थ बनाता है?Vyayam Aapke Shareer Ko Kaise Swasth Banata Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:50
आजकल सब एक्सरसाइज कर रहे हैं खुद को फिट रखते हैं और जिम जाते हैं ताकि उनकी बड़ी-बड़ी जो है वह ठीक रहे फिट रहे आजकल जो बीमार सब हो रहे हैं तो एक खानपान को लेकर भी बीमार होते हैं तो इसीलिए हम को फिट रहना है हमको सुबह आप अगर चिम्मी न जाते तो सुबह शाम हुआ कीजिए और साइज करने से हमारे ब्लड सरकुलेशन अच्छे से होता है ठीक से और हमारे तन मन अच्छा अच्छा रहता है तो यह नंबर हमारे बड़े को फिट रखता है इसलिए सुबह हो शाम हो आप एक्सरसाइज थोड़ा करिए एक्सरसाइज करने से और जो हमारी एक किडनी है हाथ है वह ठीक रहेगा
Aajakal sab eksarasaij kar rahe hain khud ko phit rakhate hain aur jim jaate hain taaki unakee badee-badee jo hai vah theek rahe phit rahe aajakal jo beemaar sab ho rahe hain to ek khaanapaan ko lekar bhee beemaar hote hain to iseelie ham ko phit rahana hai hamako subah aap agar chimmee na jaate to subah shaam hua keejie aur saij karane se hamaare blad sarakuleshan achchhe se hota hai theek se aur hamaare tan man achchha achchha rahata hai to yah nambar hamaare bade ko phit rakhata hai isalie subah ho shaam ho aap eksarasaij thoda karie eksarasaij karane se aur jo hamaaree ek kidanee hai haath hai vah theek rahega

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मैं मोह माया में जल्दी फस जाता हूं निकलने का कोई ठोस उपाय बताइए?Me Moh Maaya Me Jaldi Phas Jaata Ho Nikalne Ki Koi Thos Upaaye Batye
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:52
प्रश्न है मैं मोह माया में जल्दी फंस जाता हूं निकलने की कोई ठोस उपाय बताएं लिखिए आजकल तो सब मोह माया है क्योंकि हम यह सब जानते हैं कि मृत्यु ध्रुव सकते हम इस धरती में आए हैं तो कुछ काम करके हमको वापस इस दुनिया को छोड़ कर जाना है हम अगर जाते हैं तो हमारे पीछे कोई नहीं जाएगा हम जैसे खाली हाथ आए थे वैसे ही खाली हाथों में जाएंगे जो पीछे पड़ा रहेगा आपकी धन दौलत जो भी आप कमाए थे अपने जीवन में वह सब पीछे पड़ कर रह जाएगा आप कुछ साल से अपने साथ नहीं लेकर जाएंगे तो यह सब मोह माया है तो इसीलिए हम को भगवान ने धरती में जन्म लिए सांसारिक बनाया है तो हमारी माता के भीतर हमारे पिता के लिए हमारे भाई के लिए बहन के लिए हमारे स्नेह और भाई जो लाभ रहेगा जब तक हम इस दुनिया को छोड़कर छोड़कर नहीं जाते तब तक हमारी उनके लिए प्यार रहेगा सब के सब के बंधन में हम बंदे हैं भगवान ऐसा दिया है तो ज्यादा मोह माया में फस नहीं चाहिए अगर आपने शादीशुदा नहीं किया कर किसी से शादी की है तो उसके साथ आप लवली थी रखिए और आजकल तो एक शादी होकर बाद में आप किसी के साथ आख्या कर देते हैं तो यह सब मोह माया है जो आपके लिए भगवान से ही जो लड़के या लड़का आपके लिए भगवान ने चुना है उसके साथ अब समय देता है और हमको तो नहीं पता हमारे साथ क्या हो हो जाता है रास्ते में हमारी आयु कितना है तू जितने दिन हम धरती पर रहेंगे बस सुख शांति से और अच्छा काम करके हमसे जाना है ताकि लोग हमको याद रखे हमेशा
Prashn hai main moh maaya mein jaldee phans jaata hoon nikalane kee koee thos upaay bataen likhie aajakal to sab moh maaya hai kyonki ham yah sab jaanate hain ki mrtyu dhruv sakate ham is dharatee mein aae hain to kuchh kaam karake hamako vaapas is duniya ko chhod kar jaana hai ham agar jaate hain to hamaare peechhe koee nahin jaega ham jaise khaalee haath aae the vaise hee khaalee haathon mein jaenge jo peechhe pada rahega aapakee dhan daulat jo bhee aap kamae the apane jeevan mein vah sab peechhe pad kar rah jaega aap kuchh saal se apane saath nahin lekar jaenge to yah sab moh maaya hai to iseelie ham ko bhagavaan ne dharatee mein janm lie saansaarik banaaya hai to hamaaree maata ke bheetar hamaare pita ke lie hamaare bhaee ke lie bahan ke lie hamaare sneh aur bhaee jo laabh rahega jab tak ham is duniya ko chhodakar chhodakar nahin jaate tab tak hamaaree unake lie pyaar rahega sab ke sab ke bandhan mein ham bande hain bhagavaan aisa diya hai to jyaada moh maaya mein phas nahin chaahie agar aapane shaadeeshuda nahin kiya kar kisee se shaadee kee hai to usake saath aap lavalee thee rakhie aur aajakal to ek shaadee hokar baad mein aap kisee ke saath aakhya kar dete hain to yah sab moh maaya hai jo aapake lie bhagavaan se hee jo ladake ya ladaka aapake lie bhagavaan ne chuna hai usake saath ab samay deta hai aur hamako to nahin pata hamaare saath kya ho ho jaata hai raaste mein hamaaree aayu kitana hai too jitane din ham dharatee par rahenge bas sukh shaanti se aur achchha kaam karake hamase jaana hai taaki log hamako yaad rakhe hamesha

#जीवन शैली

bolkar speaker
झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है?Jhooth Bolne Vala Insaan Dar Kyun Jata Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:01
प्रश्न है झूठ बोलने वाला इंसान डर क्यों जाता है क्योंकि देखिए आप एक सच को छुपाने के लिए झूठ बोलते हैं झूठ से बार-बार बार-बार आप झूठ बोलते हैं जो लोग झूठ बोलते हैं सफेद झूठ जिसको कहते हैं जो झूठ बोलते हैं वह बार-बार डर जाता है ताकि वह सच किसी को ना पता चले इसलिए आप सच बोलने की हिम्मत रखिए सच बोलने की हिम्मत रखिए सच-सच बोलिए जो सेट जोर झूठे झूठ बोले फैशन कोई नहीं है कि जीवन में कभी भी झूठ नहीं बोला है आप झूठ बोलिए सर जी झूठ से कोई भी किसी का नुकसान नहीं पहुंचा वह भी झूटा बोलिए एक सच को छुपाने के लिए बार-बार बार-बार झूठ बोलना बंद करो और हमेशा सच का साथ दें और जो भी अगर आप से गलती हो गई है भूल हो गई है तो आप अपने मां को या पापा को या किसी जिसके साथ आपके रिलेशन अच्छा हो उससे आप प्यार करें और बोलने की कोशिश करें
Prashn hai jhooth bolane vaala insaan dar kyon jaata hai kyonki dekhie aap ek sach ko chhupaane ke lie jhooth bolate hain jhooth se baar-baar baar-baar aap jhooth bolate hain jo log jhooth bolate hain saphed jhooth jisako kahate hain jo jhooth bolate hain vah baar-baar dar jaata hai taaki vah sach kisee ko na pata chale isalie aap sach bolane kee himmat rakhie sach bolane kee himmat rakhie sach-sach bolie jo set jor jhoothe jhooth bole phaishan koee nahin hai ki jeevan mein kabhee bhee jhooth nahin bola hai aap jhooth bolie sar jee jhooth se koee bhee kisee ka nukasaan nahin pahuncha vah bhee jhoota bolie ek sach ko chhupaane ke lie baar-baar baar-baar jhooth bolana band karo aur hamesha sach ka saath den aur jo bhee agar aap se galatee ho gaee hai bhool ho gaee hai to aap apane maan ko ya paapa ko ya kisee jisake saath aapake rileshan achchha ho usase aap pyaar karen aur bolane kee koshish karen

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या बेरोजगार होने की वजह से एक इंसान मानसिक तनाव में आ सकता है?Kya Berojgar Hone Ki Vajah Se Ek Insaan Mansik Tanaav Mein Aa Sakta Hai
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:55
प्रश्न है क्या बेरोजगार होने के वजह से एक इंसान मानसिक तनाव में आ सकता है बिल्कुल भी आ सकता है क्योंकि लोग कहते हैं कि जो इंसान के पास विशेषकर लड़के लोग के पास पॉकेट में अगर पैसा नहीं होता है तो वह बहुत ही टेंशन में होता है क्योंकि वही घर को और ज्यादातर सबके घर में मुख्य होती है घर चलाने के लिए लड़की भी बराबर होते हैं पर लड़कों करके पिकपॉकेट पर पैसा रहना बहुत ही जरूरत होती है क्योंकि घर को एक लड़का ही संभालती है लड़की तो आज है कल वह ससुराल चली जाएगी पर लड़का आजकल का जो कि बेरोजगार सब होते हैं ज्यादातर युवाओं जो बेरोजगार में घर में बैठते हैं तो ज्यादातर मानसिक तनाव में आते हैं पैसों के लिए खराब का रास्ता अपनाते हैं चोरी डकायती मर्डर जैसी ऐसे कार्य में लिप्त होता है इसलिए आप बिल्कुल भी नौकरी के लिए इंतजार मत करिए क्योंकि आपको पैसा कमाने के बहुत सारा रास्ता आपके पास पड़ा है आप छोटे-मोटे बिजनेस कर सकते हैं जिससे आपको तरक्की पा सकते हैं ऊपर बहुत ही जान सकते हैं इसलिए भगवान आप को सही सलामत हाथ दो हाथ दो पैर दिया है और हम किसके दिया है जो कि आप सोच समझकर अपने घर को आप खुद का है तो वह आपके घर को आप खुद चला सकते हैं आपके परिवार को चला सकते हैं तो पहले आप छोटे हो या बड़ा काम कोई भी छोटा बड़ा काम नहीं होता है आपके सक्षम में आपके शिक्षा में जो भी काम है अब वह काम करें इस मानसिकता अगर समय होता तो आज बेरोजगार युवाओं में बेरोजगार होकर घर में नहीं बैठती और मानसिक तनाव में वह चले जाते हैं
Prashn hai kya berojagaar hone ke vajah se ek insaan maanasik tanaav mein aa sakata hai bilkul bhee aa sakata hai kyonki log kahate hain ki jo insaan ke paas visheshakar ladake log ke paas poket mein agar paisa nahin hota hai to vah bahut hee tenshan mein hota hai kyonki vahee ghar ko aur jyaadaatar sabake ghar mein mukhy hotee hai ghar chalaane ke lie ladakee bhee baraabar hote hain par ladakon karake pikapoket par paisa rahana bahut hee jaroorat hotee hai kyonki ghar ko ek ladaka hee sambhaalatee hai ladakee to aaj hai kal vah sasuraal chalee jaegee par ladaka aajakal ka jo ki berojagaar sab hote hain jyaadaatar yuvaon jo berojagaar mein ghar mein baithate hain to jyaadaatar maanasik tanaav mein aate hain paison ke lie kharaab ka raasta apanaate hain choree dakaayatee mardar jaisee aise kaary mein lipt hota hai isalie aap bilkul bhee naukaree ke lie intajaar mat karie kyonki aapako paisa kamaane ke bahut saara raasta aapake paas pada hai aap chhote-mote bijanes kar sakate hain jisase aapako tarakkee pa sakate hain oopar bahut hee jaan sakate hain isalie bhagavaan aap ko sahee salaamat haath do haath do pair diya hai aur ham kisake diya hai jo ki aap soch samajhakar apane ghar ko aap khud ka hai to vah aapake ghar ko aap khud chala sakate hain aapake parivaar ko chala sakate hain to pahale aap chhote ho ya bada kaam koee bhee chhota bada kaam nahin hota hai aapake saksham mein aapake shiksha mein jo bhee kaam hai ab vah kaam karen is maanasikata agar samay hota to aaj berojagaar yuvaon mein berojagaar hokar ghar mein nahin baithatee aur maanasik tanaav mein vah chale jaate hain

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
लोग हेलमेट पहनने से क्यों बचते हैं?Log Helmet Pehnne Se Kyun Bachte Hain
itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:06
प्रश्न है लोग हेलमेट पहनने से क्यों बातें मुझे भी नहीं पता लोग हेलमेट पहनने से क्यों ऐसे टकराते हैं क्योंकि हमको पता है कि हेलमेट हमारी हमको सुरक्षा देगी जब हम रास्ते पर जाते हैं किसी गाड़ी में जाते हैं और कार का तो है मिटा नहीं सकता होता है पर अगर हम बाइक में जाते हैं स्कूटर में जाते हैं या स्कूटी पर जाते हैं तो हमको या साइकिल पर भी हम जाए हम घर से बाहर जब निकले हम हेलमेट ही रहना बहुत जरूरी है वह हमारे लिए बहुत ही जरूरत होता है पर आजकल ऐसा में मनमाने मुझे लगता है लोग के अंदर जब मन माने मैं वह नहीं पहन रहे हो कौन बैठे चलो यहां से या हम जाएंगे वैसे आप क्यों हेलमेट पहने यह हमारी जीवन के लिए एक सुरक्षा कवच है हमारी मस्तिष्क को यह सुरक्षित रखता है तो प्लीज मैं सबको रिक्वेस्ट करें हूं जब बिना बाहर जाए अब हेलमेट जरूर पहने क्योंकि दिवस से मूल्यवान कुछ भी नहीं होता है
Prashn hai log helamet pahanane se kyon baaten mujhe bhee nahin pata log helamet pahanane se kyon aise takaraate hain kyonki hamako pata hai ki helamet hamaaree hamako suraksha degee jab ham raaste par jaate hain kisee gaadee mein jaate hain aur kaar ka to hai mita nahin sakata hota hai par agar ham baik mein jaate hain skootar mein jaate hain ya skootee par jaate hain to hamako ya saikil par bhee ham jae ham ghar se baahar jab nikale ham helamet hee rahana bahut jarooree hai vah hamaare lie bahut hee jaroorat hota hai par aajakal aisa mein manamaane mujhe lagata hai log ke andar jab man maane main vah nahin pahan rahe ho kaun baithe chalo yahaan se ya ham jaenge vaise aap kyon helamet pahane yah hamaaree jeevan ke lie ek suraksha kavach hai hamaaree mastishk ko yah surakshit rakhata hai to pleej main sabako rikvest karen hoon jab bina baahar jae ab helamet jaroor pahane kyonki divas se moolyavaan kuchh bhee nahin hota hai

#रिश्ते और संबंध

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
0:38
प्रश्न है कभी-कभी मेरे बातें दूसरों को सही नहीं लगती है ऐसी स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए ठीक है अगर आप के बात किसी को अच्छा नहीं लग रहा है आप अपने बात किसी के सामने मत रखो आप साइलेंट हो रहे अगर आपसे कोई पूछे जब तक ना पूछे तब तक आप किसी को किसी के आगे अपने बाप ना रखें अगर कोई आपके सलाह नहीं लेना चाहता तो आप क्यों ऐसे आपने बात रखेंगे अगर आपकी बात किसी को अच्छा नहीं लग रहा है तो मैटर है आप साइलेंट ही रहे
Prashn hai kabhee-kabhee mere baaten doosaron ko sahee nahin lagatee hai aisee sthiti mein mujhe kya karana chaahie theek hai agar aap ke baat kisee ko achchha nahin lag raha hai aap apane baat kisee ke saamane mat rakho aap sailent ho rahe agar aapase koee poochhe jab tak na poochhe tab tak aap kisee ko kisee ke aage apane baap na rakhen agar koee aapake salaah nahin lena chaahata to aap kyon aise aapane baat rakhenge agar aapakee baat kisee ko achchha nahin lag raha hai to maitar hai aap sailent hee rahe

#टेक्नोलॉजी

itishree Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए itishree जी का जवाब
Unknown
1:38
प्रश्न है मैं बहुत डिप्रेशन में हूं क्योंकि मेरे पास पैसों की कमी है और जरूरत बहुत ज्यादा है मुझे क्या करना चाहिए लेकिन डिप्रेशन होना ठीक नहीं है छोटे-छोटे बातें पर या पैसों की कमी हो जाए या कोई लाभ में फेल हो जाते हैं तो इस डिप्रेशन में चले जाते हैं पहले आप अपने प्रॉब्लम को आपकी फैमिली के साथ शेयर करें आपकी जो बेस्ट फ्रेंड है उसके साथ आप शेयर करें ताकि आपको कुछ कहां से भी मदद मिल जाए अगर आपको पैसों की कमी है तो पहले आप पैसों के अरेंजमेंट करें खुद का कुछ से छोटा मोटा बिजनेस स्टार्ट करें जितने भी आपके पास पैसा है आप छोटा मोटा बिजनेस स्टार्ट करें लोग कितना मेहनत करते हैं जिनके पास बहुत सारे पैसों की कमी होते हैं फिर भी बोर और साइट पर छोटा-मोटा कुछ भी कर अपना परिवार चलाते हैं तो आप डिप्रेशन में क्यों चले जाते अगर आपके पास पैसों की कमी है तो आप पहले खुद माइनस्ट्रोन कीजिए कि ताकि मैं क्या करूं ताकि मुझे वह पैसों की कमी ना हो मेरी फैमिली को मैं कैसे चलाओगे इसलिए पहले आप आपके सामने मेंबर के साथ बैठकर आपसे समस्या बताएं और उसे सलाह दीजिए अगर आप बड़े हैं तो आपके ऊपर भी तो कोई बड़ा होगा ना आपके भाई हो आपके पिताजी हो तो उनसे आप चला लीजिए और आप एक छोटा मोटा बिजनेस स्टार्ट करें वहीं से कुछ आपको हेल्प मिल जाएगा
Prashn hai main bahut dipreshan mein hoon kyonki mere paas paison kee kamee hai aur jaroorat bahut jyaada hai mujhe kya karana chaahie lekin dipreshan hona theek nahin hai chhote-chhote baaten par ya paison kee kamee ho jae ya koee laabh mein phel ho jaate hain to is dipreshan mein chale jaate hain pahale aap apane problam ko aapakee phaimilee ke saath sheyar karen aapakee jo best phrend hai usake saath aap sheyar karen taaki aapako kuchh kahaan se bhee madad mil jae agar aapako paison kee kamee hai to pahale aap paison ke arenjament karen khud ka kuchh se chhota mota bijanes staart karen jitane bhee aapake paas paisa hai aap chhota mota bijanes staart karen log kitana mehanat karate hain jinake paas bahut saare paison kee kamee hote hain phir bhee bor aur sait par chhota-mota kuchh bhee kar apana parivaar chalaate hain to aap dipreshan mein kyon chale jaate agar aapake paas paison kee kamee hai to aap pahale khud mainastron keejie ki taaki main kya karoon taaki mujhe vah paison kee kamee na ho meree phaimilee ko main kaise chalaoge isalie pahale aap aapake saamane membar ke saath baithakar aapase samasya bataen aur use salaah deejie agar aap bade hain to aapake oopar bhee to koee bada hoga na aapake bhaee ho aapake pitaajee ho to unase aap chala leejie aur aap ek chhota mota bijanes staart karen vaheen se kuchh aapako help mil jaega
URL copied to clipboard