#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
बच्चों को इंग्लिश में टेबल आसानी से कैसे याद करायें?Bachho Ko English Mein Table Aasani Se Kaise Yaad Karaye
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
4:54

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अंग्रेजी में Might का प्रयोग कब करते हैं?Angreji Mein Might Ka Prayog Kab Karte Hain
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:33

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
प्रकाश परावर्तन किसे कहते हैं?Prakash Pravartan Kise Kahate Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:35

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
लोकेशन पता करने वाला ऐप कौन सा है?Location Pata Karne Wala App Kaun Sa Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:35

#जीवन शैली

bolkar speaker
ब्राह्मी लिपि को सर्वप्रथम पढ़ने में किसने सफलता प्राप्त किया?Brahmi Lipi Ko Sarvapratham Padhane Me Kisne Saphalata Prapt Kiya
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:50

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
उत्तराखंड राज्य की स्थापना कब हुई?Uttarakhand Rajya Kee Sthapna Kab Hui
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:04

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मोपला विद्रोह कब हुआ?Mopla Vidroh Kab Hua
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:13

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
atm ka full name?>
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:10

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
सिकंदर ने भारत पर कब आक्रमण किया?Sikandar Ne Bharat Par Kab Akraman Kiya
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:59

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
बूब्स ओर ब्रेस्ट मे क्या अंतर हैं?Boobs Or Breast Mei Kya Antar Hain
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:35

#कुछ अलग

bolkar speaker
लौंग की खेती कहां पर होती है?Laung Ki Kheti Kahaan Par Hoti Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:57
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है लोंग की खेती कहां पर होती है दोस्तों भारत में लोन का प्रयोग बहुत बहुत पुराने समय से किया जाता है रहा है कि घरों में मसालों के रूप में इस्तेमाल होता है इसलिए भारतीय पूजा और खरीदने की विशेष स्थान रखता है लोन और जो लोग होता है वह औषधीय तत्वों से भी भरपूर है और इनका उपयोग से ज्यादा किया जाता है क्योंकि लोगों की तासीर गर्म होती है यह सदाबहार एक पेड़ है दोस्तों उसकी खास बात तो यह है कि एक पौधा एक बार लगाने के बाद कई सालों तक चलता है देश के सभी हिस्सों में लोन की खेती होती है लेकिन इसकी खेती तकिया रेतीले इलाकों में नहीं हो सकती तो वहीं इसकी सफलता पूर्वक खेती केरल की लाल मिट्टी और पश्चिमी घाट के पर्वत वाले इलाके में होती है अतः दोस्तों लोन की खेती केरल में होती है धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
1 साल में कितने सेकंड होते हैं?1 Saal Mein Kitne Second Hote Hain
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:33
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है 1 साल में कितने सेकंड होते हैं दोस्तों 1 साल में हमें पहले 2 घंटे मंटू को देखना होगा क्योंकि 1 दिन में 10 दिन और रात में 24 घंटे होते हैं तो 1 साल में कितने घंटे हो जाते हैं क्योंकि दोस्तों 24 घंटों का 1 दिन और रात होता है तो 1 साल में 365 दिन हो जाते हैं तो 365 दिनों में 24 घंटे करने पर 365 को * 24 से कर देंगे जिससे कि हमारा उत्तर आएगा 8760 तो 8760 तो हमारे पास 100 घंटे हो गए तो इतने घंटों में सेकंड पहुंची है आपने तो 8760 घंटों में यानी कि 365 दिनों में और यानी कि 1 साल में जो सेकंड होते हैं वह होते हैं तीन करोड़ 1500000 और 36000 सेकंड एक बार फिर से बता देते हैं 1 साल यानी कि 8760 घंटों में 2 सेकंड होते हैं होते हैं 31536000 दोस्तों 8900 8760 जो है वह 1 साल के घंटे हैं और उनको गुना क्योंकि 1 घंटे में 36 सेकंड होते हैं तो उनको 36 से गुणा किया गया धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
1 घंटे में कितने सेकंड होते हैं?1 Ghante Mein Kitne Second Hote Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:43
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है 1 घंटे में कितने सेकंड होते हैं तो 1 घंटे में 36 सेकंड होते हैं 3600 दोस्त और 1 घंटे में मिनट होती है 60 और 1 मिनट में सेकंड होते हैं काट दो तो एक ही मिनट में 60 सेकंड होते हैं तो 60 मिनट में कितने सेकंड होंगे तो इसके लिए हमें 760 से गुणा करना पड़ेगा 60 मिनट और * साथ ही सेकंड उनके अनुसार 60 से गुणा करने पर हमें 36 व प्राप्त होते हैं 3600 सेकंड हो जाती है तो इसका मतलब है 1 घंटे में 36 सेकंड होती है धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
8760 घंटे में कितने सेकंड होते हैं?8760 Ghante Mein Kitne Second Hote Hain
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:25
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है 8760 घंटे में कितने सेकंड होते हैं तो दोस्तों इस सवाल को समझने के लिए हमें घंटा मिनट और सेकंड का ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है आवश्यक है दोस्तों हमारे पास घंटे है 8760 दोस्तों 1 घंटे में मिनट होती है 60 दोस्तों 60 मिनट 1 मिनट में 60 सेकंड होती है तो 60 मिनट में सेकंड कितनी हो जाएगी तो इसके लिए 760 से गुणा कर देंगे तो 760 से गुणा करेंगे तो हमारे उत्तर आते हैं 360 3600 सेकंड इसका मतलब हुआ कि 1 घंटे में हमारे पास सेकंड हो जाती है 3,600 तो ऐसे ही आपने 1 घंटे पूछे हैं 8760 घंटे में कितने सेकंड होते हैं तो दोस्तों 8760 छत्तीसगढ़ से यदि हम गुणा करते हैं इन्हीं 1 घंटे में सेकंड हो गई 36 हो तो 8660 घंटे में हो जाएगी 31536000 सेकंड में दोस्तों 8760 घंटे में सेकंड हो जाएगी 31536000 सेकंड धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता मैं गेम ज्यादा खेलता हूं मैं क्या करूं?Mera Padhayi Mein Man Nahi Lagata Main Game Jyada Khelta Hu Main Kya Karu
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
3:22
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है कि मेरा लड़ाई में मन नहीं लगता है मैं गेम ज्यादा खेलता हूं मैं क्या कहूं तो दोस्तों आपको कौन सी पढ़ाई कर रही है बोर्ड के एग्जाम की पढ़ाई कर रही है या फिर उसके राव कंपटीशन की पढ़ाई कर रही है तो पहले तो आपको यह समझना पड़ेगा कि बोर्ड की पढ़ाई हो चाय कंपटीशन की पढ़ाई हो कितनी जरूरी है आपके लिए दोस्तों सभी जानते हैं हम कि भविष्य में अपना कैरियर बनाने के लिए या अपने भविष्य को संवारने के लिए और हम कोर्स की तैयारी कर रहे होते हैं या फिर किसी कंपटीशन तैयारियों को देख रही होते हैं तो दोस्तों इन सभी को ध्यान में रखते हुए हमें टाइम टेबल बनाना बहुत ही जरूरी है टाइम टेबल बनाकर और तरह-तरह पदों पर 3 साल टाइम टेबल बना दिवारी है हमारी चाहे वह रसोईघर हो क्या आप हमेशा इनके को बैठक अशोक वहां पर दो-तीन जगह पर आप सेम टाइम टेबल बना कर डाल दीजिए फोन पर समय लिख दीजिए कि मैं अभी इस वक्त यह भी सर पढ़ लूंगा और इस वक्त यह भी सर फोड़ दूंगा और मेरा खेलने का मेरा खाने का सुनाइए है मेरे उठने का समय यह है पूर्णतया आप अपनी दिनचर्या को लिख लीजिए और तीन चार दीवारों पर जहां आप बहुत ही ज्यादा बैठते हैं घूमते फिरते हैं रहते हैं तो अपनी नजर के सामने बार बार उसको आने दे टांग में जब बार-बार आंखों के सामने आएगा तो उसको आप लिखे हुए को वैसा ही करने की कोशिश करेंगे और धीरे-धीरे जो आपके एक खेलने की आदत है गेम खेलने की आदत या बेकार में समय गंवाने की जो आदत है वह छूट जाएगी और आप पढ़ाई में मन लगाओ गे और दो तो कभी कबार सुविचार हमें पढ़ लेना चाहिए महापुरुषों की 128 भाग जीवनी जो है वह पढ़ लेना चाहिए 2424 दिनों में यदि एक बार ऐसी कुछ चीजें पढ़ लेते हैं या हम देख लेते हैं तो हमारे मन की जो पूछा है वह वापस आ जाती है नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं होता है हमें अंदर से एक विशेष ऊर्जा का संचार मिलता है जिससे कि हम अगर शक होने में काफी सहायता मिलती है हमारे मन को दोस्तों अपने आप को समझाएं अपने आपके अंदर जान करके देखें कि हमें क्या करना है जिस वक्त जो कार्य करना चाहिए वही करना चाहिए तो दोस्तों जो आपका पढ़ाई का समय आ गया है तो आपको पढ़ाई करनी चाहिए यह आप अपने आप से सवाल कीजिए आप क्यों इधर-उधर के में समय व्यतीत कर रहे हैं आपको क्या करना चाहिए और इसको कर लेने से क्या आपको फायदा होगा तो आप ऐसे अपने आप से 2000 साल करेंगे तो फिर अपने आप ही आपके अंदर अंतर्मन जो है वह कहेगा कि वही तू बैठ के और पढ़ना शुरू कर दें क्योंकि खेलने के लिए पूरी जिंदगी पड़ी है हम अच्छे से खेल सकते यदि अच्छे से हम लाएंगे पड़ेंगे अच्छा टाइम टेबल बनाकर और सुबह-शाम खूब अच्छे से मिलने करें धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai ki mera ladaee mein man nahin lagata hai main gem jyaada khelata hoon main kya kahoon to doston aapako kaun see padhaee kar rahee hai bord ke egjaam kee padhaee kar rahee hai ya phir usake raav kampateeshan kee padhaee kar rahee hai to pahale to aapako yah samajhana padega ki bord kee padhaee ho chaay kampateeshan kee padhaee ho kitanee jarooree hai aapake lie doston sabhee jaanate hain ham ki bhavishy mein apana kairiyar banaane ke lie ya apane bhavishy ko sanvaarane ke lie aur ham kors kee taiyaaree kar rahe hote hain ya phir kisee kampateeshan taiyaariyon ko dekh rahee hote hain to doston in sabhee ko dhyaan mein rakhate hue hamen taim tebal banaana bahut hee jarooree hai taim tebal banaakar aur tarah-tarah padon par 3 saal taim tebal bana divaaree hai hamaaree chaahe vah rasoeeghar ho kya aap hamesha inake ko baithak ashok vahaan par do-teen jagah par aap sem taim tebal bana kar daal deejie phon par samay likh deejie ki main abhee is vakt yah bhee sar padh loonga aur is vakt yah bhee sar phod doonga aur mera khelane ka mera khaane ka sunaie hai mere uthane ka samay yah hai poornataya aap apanee dinacharya ko likh leejie aur teen chaar deevaaron par jahaan aap bahut hee jyaada baithate hain ghoomate phirate hain rahate hain to apanee najar ke saamane baar baar usako aane de taang mein jab baar-baar aankhon ke saamane aaega to usako aap likhe hue ko vaisa hee karane kee koshish karenge aur dheere-dheere jo aapake ek khelane kee aadat hai gem khelane kee aadat ya bekaar mein samay ganvaane kee jo aadat hai vah chhoot jaegee aur aap padhaee mein man lagao ge aur do to kabhee kabaar suvichaar hamen padh lena chaahie mahaapurushon kee 128 bhaag jeevanee jo hai vah padh lena chaahie 2424 dinon mein yadi ek baar aisee kuchh cheejen padh lete hain ya ham dekh lete hain to hamaare man kee jo poochha hai vah vaapas aa jaatee hai nakaaraatmak oorja ka pravesh nahin hota hai hamen andar se ek vishesh oorja ka sanchaar milata hai jisase ki ham agar shak hone mein kaaphee sahaayata milatee hai hamaare man ko doston apane aap ko samajhaen apane aapake andar jaan karake dekhen ki hamen kya karana hai jis vakt jo kaary karana chaahie vahee karana chaahie to doston jo aapaka padhaee ka samay aa gaya hai to aapako padhaee karanee chaahie yah aap apane aap se savaal keejie aap kyon idhar-udhar ke mein samay vyateet kar rahe hain aapako kya karana chaahie aur isako kar lene se kya aapako phaayada hoga to aap aise apane aap se 2000 saal karenge to phir apane aap hee aapake andar antarman jo hai vah kahega ki vahee too baith ke aur padhana shuroo kar den kyonki khelane ke lie pooree jindagee padee hai ham achchhe se khel sakate yadi achchhe se ham laenge padenge achchha taim tebal banaakar aur subah-shaam khoob achchhe se milane karen dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
वाणी कब विष के समान हो जाती है?Vani Kab Vish Ke Samaan Ho Jati Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:02
नमस्कार दोस्तों आप का प्रेस रेवाड़ी कब विष के समान हो जाते हैं दोस्तों जमाने से हम कोई अपशब्द निकालते हैं या गालियां बकते हैं बुरा बोलते हैं दुकान पर यह नहीं लगता है किसी को भी और वह हर तरीके से देखा जाए तो गलत ही होता है तो ऐसी वाणी जो होती है वह जहर के समान मानी गई है इन्हीं वाक्य जो नहीं बोलते हैं और दूसरों को कान टोचना चोदने वाला यदि हम अपशब्द बोलना शुरू कर देते हैं तो दोस्तों वह जवानी है वह विष के समान वाणी हो जाती है बल्कि दूसरों के साथ सभी बोले तो मधुर ही बोलना चाहिए अन्यथा नहीं बोलना चाहिए लेकिन दोस्तों से बोलते वक्त है हम अपशब्द बार-बार में निकालते हैं गालियां बकते हैं तो दोस्तों ऐसे 100 शब्द है ऐसी वाणी जो है वह विष के समान समझी जा
Namaskaar doston aap ka pres revaadee kab vish ke samaan ho jaate hain doston jamaane se ham koee apashabd nikaalate hain ya gaaliyaan bakate hain bura bolate hain dukaan par yah nahin lagata hai kisee ko bhee aur vah har tareeke se dekha jae to galat hee hota hai to aisee vaanee jo hotee hai vah jahar ke samaan maanee gaee hai inheen vaaky jo nahin bolate hain aur doosaron ko kaan tochana chodane vaala yadi ham apashabd bolana shuroo kar dete hain to doston vah javaanee hai vah vish ke samaan vaanee ho jaatee hai balki doosaron ke saath sabhee bole to madhur hee bolana chaahie anyatha nahin bolana chaahie lekin doston se bolate vakt hai ham apashabd baar-baar mein nikaalate hain gaaliyaan bakate hain to doston aise 100 shabd hai aisee vaanee jo hai vah vish ke samaan samajhee ja

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
शकरकंद पौधा किस भाग से प्राप्त होता है?Shakarakand Paudha Kis Bhaag Se Praapt Hota Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:29
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न सरकर का मंदिर का पौधा किस भाग से प्राप्त होता है दोस्तों शत्रुघ्न का जड़ वाला भाग खाया जाता है इसकी जड़ का रंग लाल बाबू का होता है एवं यह अपने अंदर भोजन संग्रहण करती है तो सो शकरकंद का वैज्ञानिक नाम लिखो माया बताता बताता कौन बोलूं बे लेजी है दोस्तों यह एक और सी पौधा है कोई अनुकूल परिस्थिति में गोवर शिक्षा विभाग कर सकता है यह से पुष्पक पौधा ऊर्जा उत्पादक आहार इसमें अनेक विटामिन रहते हैं विटामिन ए और सी की मात्रा सर्वाधिक है इसमें आलू की अपेक्षा अधिक स्टोर्स रहता है उबालकर या आग में पकाकर खाया जाता है कच्चा भी खाया जा सकता है सूखे में यह खाद्यान्न का स्थान ले सकता है इसे स्ट्रॉस और अल्कोहल भी तैयार होता है और दोस्तों इस के पौधों को लगाने के लिए जो इसकी डेंटल होती है या जो उसकी डालियां होती है तो डेंटल के बाद से इन को सही तरीके से और रईस के समय अनुसार मिट्टी में लगाया जाता है जिसके बावजूद इसके कॉन्प्लेक्स फिर से आने लगती है और यह मिट्टी में जन्मा वो अपना बना है जो जड़ है वह भाग खाया जाता है और वही जड़ मानी जाती है धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn sarakar ka mandir ka paudha kis bhaag se praapt hota hai doston shatrughn ka jad vaala bhaag khaaya jaata hai isakee jad ka rang laal baaboo ka hota hai evan yah apane andar bhojan sangrahan karatee hai to so shakarakand ka vaigyaanik naam likho maaya bataata bataata kaun boloon be lejee hai doston yah ek aur see paudha hai koee anukool paristhiti mein govar shiksha vibhaag kar sakata hai yah se pushpak paudha oorja utpaadak aahaar isamen anek vitaamin rahate hain vitaamin e aur see kee maatra sarvaadhik hai isamen aaloo kee apeksha adhik stors rahata hai ubaalakar ya aag mein pakaakar khaaya jaata hai kachcha bhee khaaya ja sakata hai sookhe mein yah khaadyaann ka sthaan le sakata hai ise stros aur alkohal bhee taiyaar hota hai aur doston is ke paudhon ko lagaane ke lie jo isakee dental hotee hai ya jo usakee daaliyaan hotee hai to dental ke baad se in ko sahee tareeke se aur raees ke samay anusaar mittee mein lagaaya jaata hai jisake baavajood isake konpleks phir se aane lagatee hai aur yah mittee mein janma vo apana bana hai jo jad hai vah bhaag khaaya jaata hai aur vahee jad maanee jaatee hai dhanyavaad

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
प्लेटिनम से क्या बनाया जाता है?Platinum Se Kya Banaya Jata Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:50
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न प्लेटिनम से क्या बना सकते हैं तो दोस्तों प्लैटिनम चांदी के सामान्य को बिजली चमकी लिए घातक होती है इसकी परमाणु संख्या 10 तथा उसके पांच समस्थानिक पाए जाते हैं जिनके परमाणु भार 192 194 195 196 तथा 198 है इसका घनत्व 21 पॉइंट 45 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर है इसकी कठोरता चार से 4 पॉइंट 5 के बीच है इसका गलनांक 1669 डिग्री सेल्सियस है जो तू प्लैटिनम हमलों से प्रभावित नहीं होता है और वह काफी उच्च तापमान सहन कर सकता है और इस गुण के कारण प्लैटिनम का उपयोग बंद काल के संचालन हेतु किया जाता है प्लैटिनेट दर्पण में लेकर आने से यह अपारदर्शी हो जाता है और अन्य धर्मों की बनती इसमें प्रति भी देखा जा सकता है तू तो उच्च तापमान नापने वाले थर्मामीटर में प्लेटिनम का उपयोग किया जाता है प्लैटिनम थर्मामीटर सिद्धांत पर मनाया जाता है कि गर्म करने पर प्लैटिनम का विद्युत प्रतिरोध तापमान के अनुसार एक निश्चित क्रम में बढ़ता जाता है ईशा के क्षेत्र में भी प्लैटिनम का योगदान काफी महत्वपूर्ण है प्लैटिनम विशेष प्रकार के लिए ट्रोल को किसी रोगी की रक्त वाहिनी में घुसा कर विभिन्न प्रकार के रोगों का निदान किया जाता है इस विधि को प्लैटिनम हाइड्रोजन निदान भी कहा जाता है तो प्लेटिनम से बने आभूषण काफी सुंदर तथा आंखों को चकाचौंध करने वाले होते हैं यह आभूषण काफी लंबे समय तक मिले नहीं होते क्योंकि इन पर हवा का प्रभाव नहीं पड़ता है धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn pletinam se kya bana sakate hain to doston plaitinam chaandee ke saamaany ko bijalee chamakee lie ghaatak hotee hai isakee paramaanu sankhya 10 tatha usake paanch samasthaanik pae jaate hain jinake paramaanu bhaar 192 194 195 196 tatha 198 hai isaka ghanatv 21 point 45 graam prati ghan senteemeetar hai isakee kathorata chaar se 4 point 5 ke beech hai isaka galanaank 1669 digree selsiyas hai jo too plaitinam hamalon se prabhaavit nahin hota hai aur vah kaaphee uchch taapamaan sahan kar sakata hai aur is gun ke kaaran plaitinam ka upayog band kaal ke sanchaalan hetu kiya jaata hai plaitinet darpan mein lekar aane se yah apaaradarshee ho jaata hai aur any dharmon kee banatee isamen prati bhee dekha ja sakata hai too to uchch taapamaan naapane vaale tharmaameetar mein pletinam ka upayog kiya jaata hai plaitinam tharmaameetar siddhaant par manaaya jaata hai ki garm karane par plaitinam ka vidyut pratirodh taapamaan ke anusaar ek nishchit kram mein badhata jaata hai eesha ke kshetr mein bhee plaitinam ka yogadaan kaaphee mahatvapoorn hai plaitinam vishesh prakaar ke lie trol ko kisee rogee kee rakt vaahinee mein ghusa kar vibhinn prakaar ke rogon ka nidaan kiya jaata hai is vidhi ko plaitinam haidrojan nidaan bhee kaha jaata hai to pletinam se bane aabhooshan kaaphee sundar tatha aankhon ko chakaachaundh karane vaale hote hain yah aabhooshan kaaphee lambe samay tak mile nahin hote kyonki in par hava ka prabhaav nahin padata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
भारत में मताधिकार के लिए निर्धारित न्यूनतम आयु कितनी है?Bharat Me Mataadhikaar Ke Liye Nirdhaarit Nyunatam Aayu Kitni Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:39
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है भारत में मताधिकार के लिए निर्धारित न्यूनतम आयु कितनी है तो दोस्तों पहले मताधिकार की जो न्यूनतम आयु थी 21 हुआ करती थी लेकिन दोस्तों को 61 में संविधान संशोधन के अनुसार भारत में व्यस्त मताधिकार की आयु 21 से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई और दोस्तों मताधिकार की आयु 21 से घटाकर 18 वर्ष सन 1989 में की गई थी धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
टमाटर लाल दिखाई देता है किसके कारण?Tamatar Laal Dikhayi Deta Hai Kiske Kaaran
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:50
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है टमाटर लाल दिखाई देता है तो वह किसके कारण दिखाई देता है तो दूसरे टमाटर का रंग लाइकोपीन के कारण लाल होता है टमाटर विश्व में सबसे ज्यादा प्रयोग होने वाली सब्जी है इसका पुराना वानस्पतिक नाम लाइकोपर्सिकों एस्क्यूलेंटम मिल है वर्तमान समय में इसे सोलेनम लाइकोपर्सिकम कहते हैं बहुत से लोग तो ऐसे हैं जो बिना टमाटर के खाना बनाने की कल्पना भी नहीं कर सकते इसकी उत्पत्ति दक्षिण अमेरिकी एंडीज में हुआ व्यक्ति को में इसका भोजन के रूप में प्रयोग हुआ आरंभ हुआ और अमेरिका के स्पेनिश उपनिवेश से होते हुए विश्व भर में फैल गया धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai tamaatar laal dikhaee deta hai to vah kisake kaaran dikhaee deta hai to doosare tamaatar ka rang laikopeen ke kaaran laal hota hai tamaatar vishv mein sabase jyaada prayog hone vaalee sabjee hai isaka puraana vaanaspatik naam laikoparsikon eskyoolentam mil hai vartamaan samay mein ise solenam laikoparsikam kahate hain bahut se log to aise hain jo bina tamaatar ke khaana banaane kee kalpana bhee nahin kar sakate isakee utpatti dakshin amerikee endeej mein hua vyakti ko mein isaka bhojan ke roop mein prayog hua aarambh hua aur amerika ke spenish upanivesh se hote hue vishv bhar mein phail gaya dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
विज्ञान के जनक किसे माना जाता है?Vigyan Ke Janak Kise Maana Jaata Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:40
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है विज्ञान के जनक किसे माना जाता है दोस्तों विज्ञान के जनक गैलीलियो गैलरी को विज्ञान का जनक माना जाता है जिनका जन्म 15 फरवरी 1564 में हुआ था वह एक इटालियन S9 महान गणितज्ञ और फिरोज पर थे उन्होंने विज्ञान के जगत में महत्वपूर्ण योगदान दिया है उनकी मृत्यु 8 जनवरी 1642 में हुई थी धन्यवाद

#कुछ अलग

bolkar speaker
हैलो को हिंदी में क्या कहते हैं?Hello Ko Hindi Me Kya Kahte Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:54
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है हेलो को हिंदी में क्या कहा जाता है दोस्तों जब भी हम किसी से मिलना चाहते हैं या किसी को बुलाते हैं तो हम सामान्य तौर पर हेलो कहते हैं लेकिन हम कई लोग यह नहीं जानते हैं कि हेलो शब्द की उत्पत्ति कैसे हुई इसका अर्थ क्या है तो दोस्तों भारत में हेलो शब्द का जो हिंदी में अर्थ है वह है नमस्कार नमस्ते या सलाम दोस्तों केवल भारत में विदेशों में हेलो शब्द का प्रयोग नहीं किया जाता है दोस्तों इसी प्रकार से जब हेलो की जगह हाय लिखते हैं तो हाय का भी अर्थ हिंदी में जान लेते हैं इसका भी अर्थ है नमस्ते होता है और नमस्कार होता है लेकिन यहां सबसे महत्वपूर्ण और जाने वाली बात ही है कि हाई शब्द को पूरे विश्व में बोलने और समझने का अर्थ और वह नमस्ते या नमस्कार धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
परेशान मन को मिनटों में कैसे शांत करें?Pareshan Man Ko Minto Me Kaise Shant Kare
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:34
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है परेशान मन को मिनटों में कैसे साफ करें दोस्तों यदि आपका मन परेशान है बहुत ज्यादा तो आप ज्यादा से ज्यादा यह सोचिए कि आपके साथ क्या हो सकता है तो ज्यादा से ज्यादा सोचेंगे तो कोई भी ज्यादा से ज्यादा कोई अनहोनी आप सोचेंगे तो उस अनहोनी को आप बिल्कुल ही हल्के से लीजिए बिल्कुल ही हल्के से ली थी उसके बारे में आप चिंता मत कीजिए और यह सोचे कि ज्यादा से ज्यादा यह हो जाएगा तुम्हारे साथ और यह हो जाने से क्या बिगड़ जाएगा तुम्हारा अर्थात जैसे कि मनुष्य इस दुनिया में थोड़े से में गुजारा कर के और संतोष कर लेते हैं उसी प्रकार आपके मन में यदि पहचानती है तो यह सोच कर के और संतोष कर लीजिए कि जो भी चल रहा है जो सब कुछ चल रहा है वह सब कुछ ठीक है और जो हो रहा है जो कुछ अनहोनी है वह तो 1 दिन होनी ही होती है इस प्रकार से अपने मन को खुद ही सांत्वना देते हुए आप अशांत मन को मिनटों में शांत कर सकते हैं या इसके अलावा आपके पास यदि एंड्राइड फोन है मोबाइल है तो अच्छे-अच्छे सुविचार ग्रहण कीजिए अच्छे-अच्छे सुविचार ओं को पढ़िए ऐप डाउनलोड कर लीजिए किसी अच्छे बहुत ही अच्छे सुविचार ओं को का ऐप डाउनलोड कीजिए या फिर अच्छी कहानियों का ऐप डाउनलोड कर लीजिए या फिर आजकल जो रेडियो ऐप है उसमें बहुत सारे ऐसे चैनल्स देखने को मिल जाएंगे जिससे कि एक प्रकार से आपका दूसरा साथी साबित होगा रेडियो ऐप जिससे कि आप अपना म्यूजिक सुनेंगे या कहानियां सुनेंगे या चुटकुले सुनना पसंद करेंगे कुछ भी हो तो एक दूसरा साथी आपके पास होना जरूरी होता है मन को शांत करने के लिए शांति को दूर भगाने के लिए तो ऐसा कुछ कीजिए कि जिससे आपका आपका मन तो है वह खाली समय में केवल है शांति वाली बातें सोच में सोच कर के और शांत रहने के तरीके खोजें और उन को अपनाने के लिए आगे अग्रसर हो तो ऐसे आप अपना और मन को शांत रखने के लिए आप और शांत वातावरण में रहे और सकारात्मक सोचें और जो कुछ कोई आपके साथ में घटित हो कोई किसी भी तरह का स्ट्रेस है परेशान है आप तो उसको ज्यादा दिल पर नहीं लेते हुए आप बिजी हो जाए ऐसे काम में जिसे की कोई मन मन का यह जो आप परेशानी रिकी अब हल्का हो जाए या इसे अपना कोई सच्चा मित्र हो तो उसके साथ बातें शेयर कर सकते हैं या कोई ऐसे लोगों पर विश्वास नहीं है तो आप किसी मोबाइल का जैसे कि मैंने बताया बताया शुभ विचारों का आयात की कहानियों का चुटकुलों का सहारा ले सकते हैं वह आज की दुनिया में एक अकेले व्यक्ति का सच्चा साथी के समान होता है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
साइबरसिक्योरिटी और साइबर क्राइम में क्या अंतर है?Cybersecurity Aur Cyber Crime Mein Kya Antar Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:35
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है साइबर सिक्योरिटी और साइबर क्राइम में क्या अंतर है दोस्तों आइए जानते हैं साइबर क्राइम क्या होता है 200 साइबरक्राइम एक ऐसी कलेक्टिविटी है जिसमें अपराध को अंजाम देने के लिए डिजिटल टेक्नोलॉजी को यूज में लिया गया हो इन साइबर क्राइम से किसी प्रश्न या नेशन की सिक्योरिटी को फॉर फाइनेंशियल हेल्थ को बड़ा स्वीट हो सकता है साइबर अपराधियों में विभिन्न टाइप की क्रिमिनल एक्टिविटी शामिल होती है जिसमें आईडेंटिफाई आइडेंटिटी प्रोडक्ट वायरस अटैक ऑनलाइन फ्रॉड चाइल्ड पोर्नोग्राफी इत्यादि इंक्लूडेड इन क्राइम्स को करने वाले अपराधियों को साइबर क्राइम प्रीमीनेंस कहते हैं यह कंप्यूटिंग डिवाइस को यूज में ले कर किसी व्यक्ति की पर्सनल इंफॉर्मेशन सीक्रेट बिजनेस इनफॉरमेशन ओं र गवर्नमेंट इंफॉर्मेशन को एक्सेस करने की कोशिश करते हैं कि एक आम व्यक्ति भी जाने अनजाने इंटरनेट पर साइबर क्राइम कर सकता है यदि आप साइबर क्राइम के प्रभाव से बचना चाहते हैं तो आपके लिए उन लोगों के लिए गर्ल एक्टिविटीज फॉर एडल्ट्स फाई करना बेहद इंपॉर्टेंट है और दोस्तों साइबर सिक्योरिटी यानी कि साइबर सुरक्षा की बात करें तो यह कैसी एक तरह की सुरक्षा है जोक इंटरनेट से जुड़े हुए सिस्टम अकेली होती है इसमें हार्डवेयर सॉफ्टवेयर डाटा को साइबर अपराध से बचाने का भी काम किया जाता है साइबर सुरक्षा और सुरक्षा फोर्स दोनों ही डेटा की सुरक्षा के लिए रखे जाते हैं जिससे कि किसी भी तरह से डाटा की चोरी ना हो और सभी डॉक्यूमेंट और फाइल सुरक्षित रहें बड़े-बड़े कंप्यूटर विशेषज्ञ और आईटी के प्रशिक्षित लोग इस तरह के काम करने में समर्थ होते हैं धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हमारा इंटरनेट कैसे चलता है और कंपनी पैसा किस चीज का लेती है?Hamara Internet Kaise Chalta Hai Aur Company Paisa Kis Chij Ka Leti Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:21
कर दो सोना का प्रश्न है हमारा इंटरनेट कैसे चलता है और कंपनी पैसा किस चीज का लेती है वही दोस्तों जानते हैं मैं hindi.com चेक पोस्ट के अनुसार दोस्तों दोस्तों आप में से कुछ लोग यह सोचते होंगे कि हमारे ऊपर कोई बादल है जिसके अंदर इंटरनेट के सारे डाटास्टोर रहते हैं और वहीं से इंटरनेट चलता है लेकिन हम आपको बता दें कि ऐसा कुछ नहीं है पूरा इंटरनेट हमारे द्वारा छोड़े गए उपग्रह से भी नहीं चलता है पूरा से पहले चलता था लेकिन यह तकनीक बहुत पुरानी हो चुकी है और इसमें डाटा भी लोग लोड होता था लेकिन हमारी इंजीनियर्स नहीं ऐसी तकनीक खोज निकाली जिसे हम आज फास्ट इंटरनेट यूज कर रहे हैं यह तकनीक ऑप्टिकल फाइबर केबल से होती है तू तो यह बात सच है कि हमने 800000 किलोमीटर से भी ज्यादा लंबाई वाले ऑप्टिकल फाइबर केबल को समुद्र में बिछाए हैं जिससे हमारे इंटरनेट का 90 परसेंट यूज होता है समुद्र में वही ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाए जाते हैं जिसमें कम नुकसान और कम लागत क्योंकि केवल को समुद्र में बिछाया जाता है जिससे बड़े बड़े जहाज भी चलते हैं और कभी-कभी जहाज के लंगर सेवी ऑप्टिकल फाइबर केबल को नुकसान पहुंचाता है ऐसा ही कुछ 13 जनवरी 2008 को ही जीव आईपीटी में हुआ था जिसके कारण ईटीवी बाय पीटी का 70 परसेंट इंटरनेट बंद हो गया था धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
चेहरे के रंग को गोरा कैसे करें?Chehre Ke Rang Ko Gora Kaise Kare
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
3:31
उसका दोस्तों आपका प्रश्न है चेहरे के रंग को गोरा कैसे करें तो दोस्तों आइए जानते हैं भास्कर डॉट कॉम की एक पोस्ट के अनुसार कुछ उपाय दोस्तों हल्दी और दूध को मिक्स करें और इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं कुछ देर यूं ही रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें आप दे दो या तीन बार ऐसा करने से धीरे-धीरे चेहरे का रंग गोरा हो जाएगा आलू को नेचुरल स्किन लाइटिंग माना जाता है इसलिए आलू के दो टुकड़े करें और उन्हें चेहरे की मालिश करें तेरी 15 मिनट आलू को चेहरे पर रगड़ने के बाद कुछ देर यूं ही रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो दें रोजाना तब तक ऐसा करें तब तक स्क्रीन का रंग निखर रहा जाए मसूर की दाल भी गोरी रंगत पाने के लिए बड़ा ही कारगर उपाय है इसके लिए मसूर की दाल ले और उसे पीसकर उसमें अंडे की जर्दी मिला ले थोड़ा सा शहद और दही भी मिला है अब इसका एकमात्र बनाकर चेहरे पर अच्छी तरह से लगाएं और सूखने दें जब यह हल्का हल्का सूखने लगे तो धीरे-धीरे हाथों से मसाज करें फिर गुनगुने पानी से धो दें हफ्ते में कम से कम 3 बार यह तरीका अपनाएं तो फिर देखिए कैसा चमत्कार होता है जो नींबू और टमाटर फिर स्किन पाने के लिए रामबाण है दरअसल इसमें विटामिन सी होता है और यही एलिमेंट रंग को साफ कर देता है इसके लिए टमाटर और एक नींबू के जूस को साथ में मिलाकर चेहरे पर लगाने और फिर सूखने दें इसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें चेहरे का रंग निखारने का सबसे आसान तरीका है दोस्तों भाप लेना सबसे आसान तरीका है इसके लिए रोजाना थोड़ी देर के लिए भाप ले और फिर तो लिए चैनल के हल्का-हल्का चेहरे को दबाएं और इससे दो फायदे होंगे एक तो कील मुहांसों की परेशानी दूर होगी और दूसरा फायदा यह की चेहरे की सारी गंदगी गहराई से साफ हो जाएगी दोस्तों आंवला खाने से भी चेहरे का रंग साफ होता है इसके लिए आप आमला किसी भी फोन में खा सकते हैं या तो आंवला मुरब्बा के फॉर्म में खाएं या फिर अचार के रूप में खाने में शामिल करें रोजाना आंवला खाने से धीरे-धीरे चेहरे का रंग साफ होने लगेगा दोस्तों दूध रंग गोरा करने के लिए सबसे ज्यादा मददगार है खासकर कच्चा दूध इसके लिए रुई के फाहे को कच्चे दूध में भिगोकर चेहरे पर लगाएं और हल्के हल्के हाथ से चेहरे की मालिश करें रोजाना ऐसा करने से कुछ ही दिन में रंग साफ हो जाएगा और पपीते का गूदा निकालकर उसे अच्छी तरह से मैच कर के चेहरे पर लगाएं रोजाना ऐसा करेंगे तो वह सर जरूर दिखेगा दोस्तों गोरे रंग और शासन के लिए तरबूज और खीरा भी काफी कारगर है इसके लिए या तो खीरे और तरबूज के टुकड़ों को बांट कर दे दिए चेहरे की मालिश करें या फिर खेती और तरबूज का जूस निकालने और उसमें थोड़ा-सा नींबू मिलाएं नींबू में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट है प्रॉपर्टी होती है और इस मिश्रण को चेहरे पर अच्छी तरह से मिलाकर लगा ले थोड़ी देर बाद थोड़ी देर सूखने दें फिर गुनगुने पानी से धो लें इस तकनीक को हफ्ते में तीन से चार बार अपनाएं और फिर करिश्मा देखें दोस्तों ध्यान देवें कि किसी भी पाया तरीके से रंग गोरा चुटकियों में नहीं मिल जाता है इसके लिए काफी मेहनत हो डेडीकेशन की जरूरत होती है दोस्तों मैंने जो बताए हैं उपाय रंग को साफ और गोरा करने में काफी हद तक मदद करते हैं लेकिन मैं थोड़ा वक्त लगता है 1 या 2 दिन में ही नहीं हो जाता है धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
शादी में अड़चन आ रही है तो कोन सा पुजा या बर्त करने से सारी बधाऐ दुर हो जायेगी?Shaadi Mein Adchane Aa Rahi Hai To Kon Sa Puja Ya Bart Karne Se Saare Badhaye Dur Ho Jaayegi
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
3:46
नमस्कार दोस्तों आपका फ्रेंड है शादी में अड़चनें आ रही है तो कौन सी पूजा व्रत करने से सारी बाधाएं दूर हो जाती है तो दोस्तों patrika.com की एक पोस्ट के अनुसार आइए जान लेते हैं अगर आपकी शादी में रुकावट आ रही है जिसके कारण आपकी शादी में देर हो रही है तो शादी की बात बनते बनते बिगड़ जाती है निराश ना हो दोस्तों भोपाल के ज्योतिषी पंडित जगदीश शर्मा के द्वारा बताए गए कुछ उपाय हैं जो विवाह में आने वाली हर बाधा को दूर करेंगे जैसे दोस्तों चांदी का एक चौकोर टुकड़ा जेल में रखने से भी शादी है शादी में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती है जब लड़के वाले लड़की को देखने आए तो कन्या को लाल रंग के कपड़े पहन आएंगे तो बात को सकारात्मक रूप से आगे बढ़ने लगेगी किसी रिश्तेदार की लड़की की शादी में जाएं तो मेहंदी की रस्म में जरूर शामिल होना चाहिए खासकर लड़कियों को दुल्हन के हाथों से थोड़ी सी मेहंदी लगवा लेना चाहिए कि बेहद शुभ माना गया है इसे विवाह जल्दी हो जाता है विवाह योग्य युवक-युवतियों के बिस्तर के नीचे सोफिया लोहे की रॉड नहीं रखने की जाना चाहिए यदि रिश्ते के लिए युवक-युवतियों को मिलाया जाए तो दक्षिण दिशा का सामना करते हुए बैठना चाहिए गुरुवार के दिन गुरु की पूजा और व्रत करने से विवाह बंधन की ओर मार्ग प्रशस्त होने लगता है तो तू गुरुवार के दिन केले के वृक्ष की पूजा करनी चाहिए लेकिन कहने को खाना नहीं चाहिए ऐसा करने पर कुछ भी अब तो मैं आपका रिश्ता बन जाएगा और नहाने के पानी में एक चुटकी हल्दी मिलाकर स्नान करें तो विवाह योग्य युवक और युवतियों के विवाह जल्दी सो जाते हैं उसको विवाह योग्य युवक-युवतियों को एकदम नए कपड़े अपने पास रखने चाहिए तीन गुरुवार तक लगातार शाम को पांच प्रकार के मीठे व्यंजन हरी इलायची की जोड़ी के साथ केले के पेड़ को जल चढ़ाना चाहिए साथ ही शुद्ध घी का दिया जलाना चाहिए इससे भी जल्द योग बन जाते हैं और इस दिल ने गौमाता को हरा चारा खिलाना चाहिए शादी होने तक हर सोमवार को 12:30 सौ ग्राम पीली दाल और 2 लीटर कितना दूध दान करना चाहिए पूर्णिमा की एक रात को बरगद के पेड़ के चारों तरफ 108 चक्कर लगाने से शादी की सभी बाधाएं दूर हो जाती है और लड़की शुक्रवार को सफेद गुरुवार को पीले कपड़े पहने तो शादी की बात बनने के बेहतर माना जाता है इससे शादी में आने वाली बाधाएं दूर होती है मात्र एक माह तक ऐसा करके देखें दोस्तों रामचरितमानस का रोज पाठ करें खासकर बालकांड में शिव और पार्वती के विवाह से संबंधित अध्याय पढ़ने से विवाह की बाधाएं दूर हो जाएगी बृहस्पतिवार के दिन गाय को गेहूं के आटे से बनी रोटी दो रोटी गुड़ के साथ अपने हाथों से खिलाने से शादी जल्दी हो जाती है ओम नमः शिवाय का जाप का जाप हर सोमवार को करना चाहिए और शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए इसे विवाह योग्य युवक-युवतियों पर शिव की कृपा हो जाती है दोस्तों हर रोज 108 बार ओम नमः शिवाय का जाप रुद्राक्ष की माला से करें तो शादी में आने वाली हर बाधा दूर हो जाती है शिव पार्वती हर रोज पूजा करने से पूर्व में बेलपत्र कच्चा दूध चढ़ाने चावल के दाने और सिंदूर चढ़ाने से विवाह के रास्ते जल्दी भूल जाते हैं अपने शरीर में कोई ना कोई पीला कपड़ा संपर्क में रखे आप चाहे तो कोई पीला रंग का कपड़ा पहन सकते हैं या फिर पीला रुमाल भी अपने पास रख सकते हैं जब कहीं भी शादी की बात करने जा रहे हो तो घर से निकलने से पहले गुड़ खाकर निकले उससे बात बनने की संभावनाएं बढ़ जाती है धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्योग किन्हें कहा जाता है?Sukshm Laghu Aur Madhyam Udyog Kinhe Kaha Jata Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:20
नमस्कार दोस्तों आप का प्रेस में सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्योग ने कहा जाता है दोस्तों सूक्ष्म लघु मध्यम उद्योग क्षेत्र पिछले पांच दशकों में भारतीय अर्थव्यवस्था में का अत्यधिक जीवंत एवं गतिशील क्षेत्र के रूप में उभरा है इस क्षेत्र ने भारत की अर्थव्यवस्था को आर्थिक मंदी के समय में फंसने से बचाया था कुल मिलाकर यह क्षेत्र देश की अर्थव्यवस्था के लिए रीड की हड्डी जैसा है सरकार द्वारा इसकी जो परिभाषा दी गई है 2020 के अनुसार वह इस प्रकार से वर्गीकरण किया गया है सूक्ष्म उद्योग होते हैं को निवेश एक करोड़ से कम होता है और टन और इनका 5 करोड से कम होता है और जो लघु उद्योग होते हैं वह में निवेश किया जाता है 10 करोड़ से कम का डॉन और जो मिलता है वह 50 करोड से कम तक का लघु उद्योगों में मिलता है और जो मध्यम घर के लोग होते हैं उनमें निवेश 20 करोड़ तक किया जा सकता है 20 करोड से कम जबकि टर्न और जो मिलता है वह 100 करोड़ से कम काम होना चाहिए इस प्रकार से सरकार द्वारा इसकी परिभाषा दी गई है तो सूक्ष्म उद्योग लघु उद्योग और मध्यम उद्योग इन को बजट के आधार पर इनको बांटा गया है धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
कच्चे फलों को पकाने के लिए कौन सी गैस का उपयोग किया जाता है?Kache Phalon Ko Pakane Ke Liye Kaun Si Gas Ka Upyog Kiya Jata Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:03
नमस्कार दोस्तों आपका फेस नहीं करते फलों को पकाने के लिए कौन सी गैस का प्रयोग किया जाता है दोस्तों विशेषज्ञों के अनुसार कैलशियम कार्बाईड में 8 सैनिक और पासपोर्ट पाए जाते हैं पुणे यह वातावरण में मौजूद नमी से प्रतिक्रिया करके एसिटिलीन गैस बनाता है जिसे आम बोलचाल में कार्बाईड कहते गैस कहते हैं दोस्तों यह कैंसर फलों को पकाने में एथिलीन की तरह ही काम आती है टेंशन ऑफ फूड एडल्टरेशन रूल 1955 की धारा 448 के तहत एसिटिलीन गैस से फलों को पकाने पर प्रतिबंध है लेकिन कानून के सही ढंग से क्रियान्वयन नहीं होने और विकल्पों के अभाव में इसका इस्तेमाल धड़ल्ले से हो रहा है दोस्तों फलों को पकाने में इस्तेमाल होने वाला कैल्शियम कार्बाइड का दिमाग स्नायु तंत्र फेफड़ों पर बुरा असर पड़ता है केला और आम जैसे फलों को कृत्रिम रूप से पकाने के लिए कैल्शियम कार बेड का प्रयोग इस्तेमाल करते हैं यह रसायन नबी के साथ प्रतिक्रिया करके कार्बाइड गैस बनाता है जो साथ रखे गए कच्चे फलों के ढेर को पका देती है सिंह ने बताया कि दोस्तों दोस्तों भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के फल एवं बागवानी विभाग के प्रमुख डॉ एके सिंह के द्वारा कहना है कि महाराज महाराष्ट्र में कुछ व्यापारी एथिलीन का इस्तेमाल कर रहे हैं और जल्द ही देश के अन्य हिस्सों में इसके उपयोग की उम्मीद है और दोस्तों जो एथिलीन गैस है वह सही मानी जा रही है कच्चे फलों को पकाने के लिए इसका प्रयोग जारी है दोस्तों एथिलीन गैस के इस्तेमाल के लिए नियंत्रित तापमान वाले चेंबर या कोठरिया बनाई जाती है दिन में पकने वाली फिल्म को रखकर एथिलीन का इस्तेमाल किया जाता है कोटरी निर्माण पर बागवानी बोर्ड सब्सिडी देता है तो दोस्तों इस प्रकार से एथिलीन जो गए हैं वह कच्चे फलों को पकाने के लिए उपयोग की जाने धन्यवाद

#जीवन शैली

bolkar speaker
जब नहाने से शरीर साफ हो जाता है तो तौलिया क्यों गंदी हो जाती है?Jab Nahane Se Shareer Saf Ho Jata Hai To Tauliya Kyu Gandi Ho Jati Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:03
उसका दोस्त हूं आपका प्रश्न है जब नहाने से शरीर साफ हो जाता है तो तो लिया क्यों गंदा हो जाता है दोस्तों वाकई यही बात होती है जब हम आते हैं तो नहाने के दौरान हमारा शरीर साफ हो जाता है लेकिन तो लिया धंधा हो जाता है इसलिए होता है क्योंकि जब हम नाते हैं 9:00 के बाद में हमारे शरीर पर थोड़ा बहुत पानी होता है और दोस्तों जैसे जैसे हम तौलिए से अपने शरीर को समझते हैं तो फोन स्नेह के साथ-साथ अपने शरीर पर जो भी कुछ थोड़ा बहुत मेल होता है थोड़ा पसीना होता है या चमड़ी के ऊपर जो भी जमी धूल जो कि बाद में नहाने के दौरान नहीं उतरी थी बाद में वह कल के बाद में उतरती है दोस्तों को तो लिए के चित्र जाता है दोस्तों जब हम आते हैं तो साबुन से नहाने के बाद एक बार तो हमें ही लगता है कि हमारे शरीर पर कुछ नहीं है बल्कि एकदम साफ हो गया है लेकिन जैसे ही एक 2 मिनट तक हम शरीर को गिला रखते हैं तो शरीर की चमड़ी से शरीर पर से पुराना को ईमेल धूल जमी हुई गूगल जाती है और वह कच्ची होकर के गल करके और वह तो उन्हीं के साथ में उतरती जाती है ऐसे ही हम तो लिया जो कानों में फिरते हैं और पीछे कमर की तरफ घूम आते हैं अपनी पीठ की तरफ ले जाती हैं कुछ ऐसी जगह होती है जिन पर दोस्तों थोड़ा थोड़ा मेल जमा हो जाता है मेरी अली की दूर वगैरह मिट्टी वगैरह काफी दिनों से जब भी जाती है और हमारी लापरवाही की वजह से हम उसे रोज साफ नहीं करते हैं बल्कि नहाने के तुरंत दो-चार मिनट बाद में देखते हैं तो मेल की पत्तियां कूलर नहीं लगती है इस वजह से दोस्तों जब नहाने के बाद में तो लिए स्वयं पहुंचते हैं तो उनका गंदा हो जाता है और शरीर तो हमें दिखता है धन्यवाद
URL copied to clipboard