#जीवन शैली

bolkar speaker
सफलता प्राप्त करने के लिए क्या किया जा सकता है?Safalta Praapt Karne Ke Liye Kya Kiya Ja Sakta Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:53

#जीवन शैली

bolkar speaker
मस्तिष्क और मन में क्या अंतर है?Mastishk Aur Man Mein Kya Antar Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:06

#जीवन शैली

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:44

#जीवन शैली

bolkar speaker
मन कभी-कभी पागलपंती क्यों करता है?Man Kabhi Kabhi Pagalpanti Kyun Karta Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:52

#जीवन शैली

bolkar speaker
जीवन में समस्या का एहसास होने पर भी हमारा समस्या को हल ना कर पाने का क्या कारण है?Jeevan Mein Samasya Ka Ehsaas Hone Par Bhe Humara Samasya Ko Hal Na Kar Pane Ka Kya Karan Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:10

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
जिंदगी को आसान बनाने के लिए क्या करना चाहिए?Zindagi Ko Asan Banane Ke Liye Kya Karna Chahiye
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
3:00

#कुछ अलग

bolkar speaker
कोरोना को लेकर आप लोगों को क्या सलाह देना चाहेंगे?Corona Ko Lekar Aap Logon Ko Kya Salah Dena Chahenge
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:38

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
झूठे प्रेम का आखिरी पड़ाव क्या है जो कि ज्यादातर लड़के करते हैं?Jhute Prem Ka Akhri Padaav Kya Hai Jo Ki Jyadatar Ladke Kerate Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:53

#जीवन शैली

bolkar speaker
काल करे सो आज कर आज करे सो अब इसे से क्या तात्पर्य है?Kaal Kare So Aaj Kar Aaj Kare So Ab Ise Se Kya Tatparya Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:32

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या बड़ा बनने के लिए बड़ी सोच रखना जरूरी है?Kya Bada Banane Ke Liye Badi Soch Rakhana Jaruri Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:39
ने पूछा कि क्या बड़ा बनने के लिए बड़ी सोच रखना जरूरी है कि इंसान की सोच अच्छी होनी चाहिए मैं तो यही कहूंगा सोच बड़ी होनी चाहिए क्योंकि छोटी सोच और पांव में मोच इंसान खुद की कभी आगे नहीं बढ़ने देता और मैं आपको सुनाऊं तो घर बुराई तो देखिए छोटी सोच वाले इंसान करते हैं बड़ी सोच वाले तो देखिए माफ कर दे जिस दिन आपने अपनी सोच बड़ी कर ली बड़े-बड़े लोग देखिए आपके लिए सोचना शुरु कर देंगे आज हम जिस भी हाल में हमारी प्रस्थिति के कारण प्रकृति हमारी सोच पर निर्भर है अगर हमारी सोच होती है तो छोटी सी समस्या बड़ी चुनौती और सोच बड़ी होती तो बड़ी समस्या छोटी दिखाई देती है समस्या का छोटा करना है तो सोच को बड़ा करना चाहिए तो किसी भी इंसान को देखिए आगे बढ़ना उसकी सोच पर निर्भर करता है जब तक वह कुछ पढ़ा नहीं सोचेगा वह देखे कभी आगे नहीं बढ़ पाएगा सोच इंसान को आगे ले जाता है जब जब किसी इंसान पति की मुसीबत आती है किसी प्रकार के देखिए कर्जे का टेंशन रहता तो वह देखिए अपने खर्चे कम करने लगता है या अपने देखिए शौक की जरूरतों को मारकर बचत करने लगता है लेकिन कर्जा कभी कम नहीं होता उसके आगे बढ़ने के रास्ते जरूर बंद हो जाते हैं तो इस स्थिति में देखे इंसान को खर्चे कम ना करते हुए कमाई के नए सोच खोजने चाहिए यह करना दिखे थोड़ा कठिन होता पर नामुमकिन नहीं अगर आप यह कर जाते हो तो दिखे जिंदगी में कभी भी आप नीचे नहीं आएंगे जय हिंद जय भारत

#जीवन शैली

bolkar speaker
हम कुछ भी करने से पहले हजार बार क्यों सोचते हैं?Hum Kuch Bhi Karne Se Pahle Hazar Baar Kyo Sochte Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:49
हम कुछ भी करने से पहले हजार बार खुश होते लेकिन मैं भी जब कुछ नया करने का सोचता हूं तो उसके पीछे भी देखे कई बार जानने की कोशिश करता हूं कि करूंगा तो सही होगा कि नहीं होगा तो सही बुरे का देखिए हर इंसान को समझ होना चाहिए क्योंकि कभी-कभी जल्दी बाजी से इंसान वह कर जाता है जो नहीं करना चाहिए क्योंकि जल्दी बाजी से करने का वजह क्या है कि आप जल्दी बाजी तो कर दोगे उस चीज के लिए लेकिन नुकसान आपको ही बनना पड़ेगा इसीलिए नहीं कोई मैसेज जल्दी बाजी ना करें सोचे समझे और मैं तुझे क्यों लूंगा अगर आपकी मेहनत लगन और आप उस चीज को कर सकते हो जो आपका दिल कहता है मन कहता कि आप उस चीज को कर लोगे लेकिन जो चीज में कर लेता हूं जो मुझे अंदर ही अंदर बता देता क्या इस चीज को तुम कर लोगे मैं करता जरूर और एक बात यह भी लिखी होती है कि जीवन भर अफसोस करने से अच्छा है कि कुछ सोच लिया जाए वरना बाद में गलत फैसला देने के बाद भी कितनी बार सोच में पड़े रहने का कोई फायदा नहीं मर्जी चुनाव आपका आप खुद के साथ अपनी जिंदगी के साथ क्या सलूक करना चाहते हैं क्योंकि करने के पहले कुछ भी बदला जा सकता है करने के बाद दिखे कुछ नहीं किया जा सकता एक कमान से निकला तीर वापस नहीं आ सकता बहुत सारी बातों को और उनके हो जाने के बाद बदला नहीं जा सकता और निकले उनके द्वारा उत्पन्न प्रभाव को खासतौर से विपरीत हो नकारात्मक बातों को तो कभी-कभी देखिए कुछ चीजें होती हैं इनको करने हजार बार सोचना पड़ता है जय हिंद जय भारत

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
कार के अंदर मास्क लगाकर रखने का क्या उद्देश्य है?Car Ke Andar Mask Lagakar Rakhne Ka Kya Uddeshya Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:05

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
गोली लगने के कितनी देर बाद इंसान की मृत्यु हो जाती है ?Goli Lagne Ke Kitni Der Baad Insan Ki Mrityu Ho Jati Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:41
गोली लगने के कितनी देर बाद इंसान की मौत हो जाती है कि गोली लगने की बात करें तो गोली लगने से शरीर में से खून का रिसाव होता है और शरीर में से ज्यादा खून बह जाने से अधिकतर मौतें होती हैं गोली दिमाग याद दिल में लगने से मौत की पूरी दिखे संभावना है लिखे जो गोली होती है उनके दो भाग होते हैं एकता बुलेट गोली की सबसे आगे का भाग को बुलेट कहते हैं मीडिया शीशे का बना होता है जोकि देखी एक जहरीला पदार्थ है लेकिन इससे मौत होने की संभावना बहुत कम होती दूसरा होता खोखा बुलेट में पीछे का भाग खोखा यह पुलिस केस होता है जिसमें की गन पाउडर भरा होता है और मैं आपको बता दूं गोली के लास्ट में एक पिंप्वाइंट होता है जिस पर प्रहार किया जाता है उसे प्रेम कहते हैं बंदूक का टिकट देकर दबाया जाता तो इसके दौरा बुलेट की जो प्राइम पर जोर धातु को टकरा जाता और इस टक्कर से बुलेट के स्नेह चिंगारी उत्पन्न होती और खोखे में उपस्थित गन पाउडर में आग लग जाती है इससे उत्पन्न गर्मी में खोखे की बुलेट पर से पकड़ कमजोर हो जाती है वह गन पाउडर से देखें उत्पन्न हुए जबरदस्त बलिया त्रस्त बुलेट को आगे की ओर धक्का देता है और घूमते हुए तेजी से निशानी की तरफ बढ़ती है तो गोली में जहर भी होता लेकिन इस शहर से ना के बराबर देखो मौत होती है प्रमुख रूप से देखिए गोली लगने से शरीर में से खून का रिसाव होता है शरीर में जैसे ज्यादा खून बह जाता है तो मौत हो जाती है जय हिंद जय भारत

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
भगवान कहां रहते हैं? क्या किसी ने भगवान को देखा है?Bhagwan Kahan Rehte Hain Kya Kisi Ne Bhagwan Ko Dekha Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:39
उसने पूछा क्योंकि भगवान कहां रहते हैं क्या किसी ने भगवान को देखा है देखिए मैंने तो भगवान को देखा है मैं रोज अपने भगवान से देखिए अपने घर में मिलता हूं और वह मेरे माता पिता हम सभी के देखे माता-पिता इस धरती में सिर्फ भगवान ही नहीं भगवान से बढ़कर है हमारे माता-पिता हमारा तब तक साथ देते हैं जब कोई नहीं देता जब भगवान भी हमारा साथ छोड़ देते हैं तब भी हमारे माता पिता हमारे साथ होते हैं और हमारा साथ नहीं छोड़ते तो मेरे लिए तो देखिए मेरे माता पिता ही भगवान है जय हिंद जय भारत

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
नम्र व्यवहार से आप क्या समझते हैं?Namr Vyavhar Se Aap Kya Samajhte Hain
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:18
लगेगी नम्र व्यवहार से आप क्या समझते थे कि नम्र व्यवहार की बात करें तो हमारे व्यवहार का लचीलापन अर्थात किसी का व्यवहार अगर हमारे प्रति कठोर है और हमें लगता है कि हमारे साथ रहने से भलाई है चुप रह जाना ही बेहतर है क्योंकि कभी-कभी हमारा शालीन व्यवहार ही अगले व्यक्ति के व्यवहार को बदलने का रास्ता बन जाता है मैं यह नहीं कहता कि हर जगह सहनशीलता उचित है परंतु अगर कहीं हमारे थोड़ा सा नंबर होने से कोई विवाद रुक जाता है मन को शांति और सुकून मिलता है तो कहीं ना कहीं देखे यह हमारे सेहत के लिए और हमारे समाज में हमारे सम्मान के लाभदायक होगा क्योंकि देखिए जैसा को तैसा तो फल मिलता ही है हम उस को दंड देने का अधिकार कहां से हुआ हम उस को दंड देने का अधिकार कहां से हुआ घर में अगर हम परिवार में रहते हैं हमारे बड़े बुजुर्ग हमें सही रास्ता दिखाने के लिए कुछ ना कुछ सिखाते रहते हैं उनकी सीट उचित होती है और कभी उनकी पुरानी सोच के कारण अनुच्छेद भी हो सकता है परंतु उनकी बातों को सुन लेना और उचित बातों को स्वीकार कर लेना किसी प्रकार का जवाब तलब ना करना विनम्रता कार्य की एक उदाहरण है जय हिंद जय भारत

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
चीटियां आते जाते वक्त रुक कर एक दूसरे से क्या बात करती होगी ?Cheetiyaan Aate Jaate Waqt Ruk Kar Ek Dusre Se Kya Baat Karti Hogi
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:43
प्रज्ञा की सीटी आते जाते वक्त रुक कर एक दूसरे से क्या बात करती हूं यदि के चिड़िया जब आते जाते वक्त में एक दूसरे तरीके वह बात नहीं करती चिट्टियां देखिए खास महक के जरिए एक दूसरे से कम्युनिकेट करती है यह महक होती है कि खास केमिकल फेरोमोंस की खाने की तलाश में आगे जाने वाली जो चिट्टियां है वह खाना मिलते ही वापसी में अपनी कॉलोनी तक फेरोमोंस की एक लिखे लकीर छोड़ती हुई वापस आती हैं तो इस की महक के सारे दिखे जो वर्कर सोते हैं चिड़िया वहां तक पहुंचाती है और उस खाने को टुकड़ों में देखे तोड़कर धीरे-धीरे लाने लगती है तो साथ ही क्या है कि हर चिट्ठी अगली चीटियों के लिए फेरोमोंस भी छोड़ दी जाती हैं तो दीदी खाना खत्म हो जाता है तो यह फेरोमोन सोना बंद कर देती और चीटियों का जो सफर वह रुक जाता है जब किसी चींटी को कहीं भी खतरा महसूस होता तो यह किसी वजह से दिखती रास्ते पर घायल हो जाती है तो वह खास तरह का दिखे केमिकल अलार्म की तरह छूटती है जिसे सुनकर बाकी चीटियां उस तरफ जाना छोड़ देती है चीटी दीदी के रहने की जगह अंधेरी सीलन से देखे भरी होती है जहां पर बैक्टीरियल फंगल इंफेक्शन होने के पूरे मौके होते हैं तो कहने का मतलब देखिए मेरा यह कि चीटियां आपस में कोई बात नहीं करती उनका क्या है कि वे एक दूसरे को सुनकर फेरूमन जो मतलब रसायन की सहायता अनेक सूचनाओं का आदान प्रदान करती है जय हिंद जय भारत

#भारत की राजनीति

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
3:25

#जीवन शैली

bolkar speaker
आपके लिए खुशी क्या है ?Aapke Liye Khushi Kya Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:55

#जीवन शैली

bolkar speaker
अपना दुख भूल कर किसी की मदद करने से क्या हमारे दुख कम हो सकते हैं?Apna Dukh Bhool Kar Kisi Ki Madad Karne Se Kya Humare Dukh Kam Ho Sakte Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
3:00

#जीवन शैली

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:44

#मनोरंजन

bolkar speaker
अभिनेता देवानंद को काले कपड़े पहनने से क्यों मना किया गया था?Abhineta Devanand Ko Kale Kapde Pehnne Se Kyun Mana Kiya Gaya Tha
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:52

#जीवन शैली

bolkar speaker
गुस्सा करते समय इंसान के चेहरे का हाव भाव क्यों बदल जाता है?Gussa Karte Samay Insaan Ke Chehre Ka Haav Bhaav Kyon Badal Jaata Hain
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:26

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या कर्ज के कारण मुझे अपना जीवन समाप्त कर लेना चाहिए?Kya Karz Ke Karan Mujhe Apna Jeevan Samapt Kar Lena Chahiye
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:52

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
प्यार करने की कोई उम्र होती है क्या?Pyaar Karne Ki Koi Umar Hoti Hai Kya
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:10

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
सच्ची मोहब्बत किसे कहते हैं?Sachi Mohabbat Kise Kehte Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:43

#जीवन शैली

bolkar speaker
झूठ कैसे बोले कि कोई विश्वास कर ले?Jhooth Kaise Bole Ki Koi Vishwas Kar Le
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:41

#जीवन शैली

bolkar speaker
अपने आपको उन लोगों की नजर में कैसे साबित करें जो आपको पसंद नहीं करते हैं?Apane Aapko Un Logon Kee Najar Mein Kaise Saabit Karen Jo Aapko Pasand Nahin Karate Hain
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:13

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
सच्चा प्यार और झूठा प्यार के बीच क्या अंतर है?Sacha Pyaar Aur Jhootha Pyaar Ke Beech Kya Antar Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:43

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या लड़कियां भी लड़कों को देखना पसंद करती है?Kya Ladkiyan Bhi Ladkon Ko Dekhna Psand Karti Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:16

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
लड़कियों को कम समय में इंप्रेस कैसे करें?Ladkiyo Ko Kam Samay Mein Impress Kaise Kare
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
0:52
URL copied to clipboard