#undefined

bolkar speaker
मस्तिष्क पर चंदन क्यू लगाते है?Mastishk Par Chandan Kyoo Lagaate Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:07
मस्जिद पर चंदन क्यों लगाते हैं तो दोस्तों हमारे मस्तक के बीचो-बीच केंद्र बिंदु है जो की कुंडली का केंद्र बिंदु है यह भी आदेश और प्रिया में उत्पन्न होती है और माथे पर चंदन लगाने से या चंदन का तिलक लगाने से विश्वास को बल मिलता है मस्तक में थकावट आती है उदासी दूर होती है सिरदर्द की समस्या नहीं रहती सौभाग्य में बढ़ोतरी होती है कई तरीके की मानसिक बीमारियों से भी बचा जा सकता है तिलक चार प्रकार के हमारे शरीर को काफी फायदा देते हैं कुमकुम केसर चंदन भस्म चंदन लगाने की परंपरा कई हजार वर्षों से चली आ रही है जब राजा युद्ध पर जाते थे तो विजय तिलक लगाया जाता था वह तिलक उनको कुछ विजय की याद दिला कर उनके आत्मविश्वास को बल देता था कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है चंदन के तिलक से हमारा मस्तक ठंडा और शांत रहता है ठंडे और शांत मन से किया हुआ विचार ही उत्तम विचार होता है जवाब सुनने के लिए धन्यवाद

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
मूर्ति अथवा मंदिर की परिक्रमा करने से हमें क्या लाभ होता है?Murti Athva Mandir Ki Parikrama Karne Se Humein Kya Laabh Hota Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:05
मूर्ति अथवा मंदिर की परिक्रमा करने से हमें क्या लाभ होता है तो दोस्तों जब हम मूर्ति और मंदिर की परिक्रमा करते हैं तो मंदिरों में लगातार पूजा मंत्र और जाट होते रहते हैं घंटियां बजती है जिससे मंदिरों के आसपास सकारात्मक उर्जा का घेरा बन जाता है और एक बड़ा मंदिर के आसपास इकट्ठा होता है जो कि उत्तर से चलकर दक्षिण की ओर प्रवाहित होता है चारों तरफ के रूप में खट्टा होता है जब हम मंदिर की परिक्रमा करते हैं तो हम उस गोलार्ध में प्रवेश कर सकारात्मक ऊर्जा के संपर्क में आ जाते हैं कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है कि हम डायरेक्ट भगवान के संपर्क में चले जाते हैं और उस समय हमें कोई भी नकारात्मक भाव तनिक भी विचलित नहीं कर सकते क्योंकि रात में कूट-कूट पेट में भर जाते हैं कि नकारात्मक भाव कोई जगह नहीं रहती और हम उस समय भगवान की भक्ति में इतना दिन होते हैं हमें और कुछ ध्यान नहीं रहता है यह भाव परिक्रमा करने की वजह से उत्पन्न होते हैं क्योंकि उस समय शांति दे भगवान से स्थापित होता है जवाब सुनने के लिए धन्यवाद
Moorti athava mandir kee parikrama karane se hamen kya laabh hota hai to doston jab ham moorti aur mandir kee parikrama karate hain to mandiron mein lagaataar pooja mantr aur jaat hote rahate hain ghantiyaan bajatee hai jisase mandiron ke aasapaas sakaaraatmak urja ka ghera ban jaata hai aur ek bada mandir ke aasapaas ikattha hota hai jo ki uttar se chalakar dakshin kee or pravaahit hota hai chaaron taraph ke roop mein khatta hota hai jab ham mandir kee parikrama karate hain to ham us golaardh mein pravesh kar sakaaraatmak oorja ke sampark mein aa jaate hain kul milaakar kahane ka matalab yah hai ki ham daayarekt bhagavaan ke sampark mein chale jaate hain aur us samay hamen koee bhee nakaaraatmak bhaav tanik bhee vichalit nahin kar sakate kyonki raat mein koot-koot pet mein bhar jaate hain ki nakaaraatmak bhaav koee jagah nahin rahatee aur ham us samay bhagavaan kee bhakti mein itana din hote hain hamen aur kuchh dhyaan nahin rahata hai yah bhaav parikrama karane kee vajah se utpann hote hain kyonki us samay shaanti de bhagavaan se sthaapit hota hai javaab sunane ke lie dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:03
धर्म ग्रंथों के अनुसार परिक्रमा हमेशा दाहिने हाथ की ओर से ही क्यों की जाती है बाएं हाथ की ओर से क्यों नहीं इस कानून कारण यह होता है कि मंदिरों में लगातार पूजा मंत्र और जाट होते रहते हैं जिसकी वजह से मंदिर और प्रतिमा के आसपास सकारात्मक ऊर्जा का घेरा बन जाता है होता है जान लेना चाहिए ऊर्जा उत्तर से दक्षिण की ओर प्रवाहित होती है इस कारण वक्त दाहिने या सीधे हाथ की ओर से परिक्रमा को शुरू किया जाता है इसका मूल कारण यही होता है कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है लगातार पूजा मंत्र जाप और घंटियां बजने के कारण एक ऊर्जा का सकारात्मक घेरा तैयार होता है और ऊर्जा उत्तर से दक्षिण की ओर प्रवाहित होती है इसी कारण परिक्रमा किया जाता है धन्यवाद
Dharm granthon ke anusaar parikrama hamesha daahine haath kee or se hee kyon kee jaatee hai baen haath kee or se kyon nahin is kaanoon kaaran yah hota hai ki mandiron mein lagaataar pooja mantr aur jaat hote rahate hain jisakee vajah se mandir aur pratima ke aasapaas sakaaraatmak oorja ka ghera ban jaata hai hota hai jaan lena chaahie oorja uttar se dakshin kee or pravaahit hotee hai is kaaran vakt daahine ya seedhe haath kee or se parikrama ko shuroo kiya jaata hai isaka mool kaaran yahee hota hai kul milaakar kahane ka matalab yah hai lagaataar pooja mantr jaap aur ghantiyaan bajane ke kaaran ek oorja ka sakaaraatmak ghera taiyaar hota hai aur oorja uttar se dakshin kee or pravaahit hotee hai isee kaaran parikrama kiya jaata hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
इसबगोल ठंडा होता है या गरम?Isabagol Thanda Hota Hai Ya Garam
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:03
32 गोल्ड ठंडा होता है या गरम तो दोस्तों आयुर्वेद के अनुसार sat-isabgol की तासीर ठंडी होती है आज भी इसका प्रयोग होता है पुराने आओ 1033 मरोड़ होने पर उसको औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है उसको दहिया पेड़ों में मिलाकर खाने से आमदनी चीज में काफी कारगर साबित होता है आने की वजह से पेट में सूजन और जलन होने लगती है यह आंतों में सूजन जलन संबंधित सभी परेशानियों को ठीक करता है गोल की भूसी और इसके बीजों का प्रयोग किया जाता है कि ठंडी होने के कारण अगर पेट में किसी प्रकार की कोई भी दवाई खाने की वजह से अगर पेट में जलन या गर्मी बन गई है तो यह उसको जाकर ठंडी करती है और पेट को एकदम ठीक करती हैं अब तक अधिक दवाई खाने की वजह से भी पेट में गर्मी उत्पन्न हो जाती है इसलिए की तासीर ठंडी होने का कारण यह काफी कारगर साबित होती है सभी उपाय फेल हो जाते हैं तब भूखी बहुत अच्छा काम करती है धन्यवाद
32 gold thanda hota hai ya garam to doston aayurved ke anusaar sat-isabgol kee taaseer thandee hotee hai aaj bhee isaka prayog hota hai puraane aao 1033 marod hone par usako aushadhi ke roop mein prayog kiya jaata hai usako dahiya pedon mein milaakar khaane se aamadanee cheej mein kaaphee kaaragar saabit hota hai aane kee vajah se pet mein soojan aur jalan hone lagatee hai yah aanton mein soojan jalan sambandhit sabhee pareshaaniyon ko theek karata hai gol kee bhoosee aur isake beejon ka prayog kiya jaata hai ki thandee hone ke kaaran agar pet mein kisee prakaar kee koee bhee davaee khaane kee vajah se agar pet mein jalan ya garmee ban gaee hai to yah usako jaakar thandee karatee hai aur pet ko ekadam theek karatee hain ab tak adhik davaee khaane kee vajah se bhee pet mein garmee utpann ho jaatee hai isalie kee taaseer thandee hone ka kaaran yah kaaphee kaaragar saabit hotee hai sabhee upaay phel ho jaate hain tab bhookhee bahut achchha kaam karatee hai dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
नन्हा मुन्ना राही हूं किस फिल्म का गाना है?Nanha Munna Rahi Hu Kis Film Ka Gana Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:56
उसने नन्ना मुन्ना राही किस फिल्म का गाना है बेटा और काफी धमाकेदार थी लोगों ने इसको एक देश भक्ति गाने के बोल नन्हा मुन्ना राही हूं देश का सिपाही हूं इस पर काफी यह फिल्म चली और इसके गीतकार शकील बदायूं थे और संगीत नौशाद कथा और यह फिल्म खान द्वारा निर्देशित की गई थी गाना दिल में बसा हुआ है क्योंकि यह गाना देशभक्ति पर था और पूरी फिल्म की जान यह गाना था नन्ना मुन्ना राही हूं देश का सिपाही हूं बोलो मेरे संग जय हिंद जय हिंद जय हिंद जय हिंद जय हिंद
Usane nanna munna raahee kis philm ka gaana hai beta aur kaaphee dhamaakedaar thee logon ne isako ek desh bhakti gaane ke bol nanha munna raahee hoon desh ka sipaahee hoon is par kaaphee yah philm chalee aur isake geetakaar shakeel badaayoon the aur sangeet naushaad katha aur yah philm khaan dvaara nirdeshit kee gaee thee gaana dil mein basa hua hai kyonki yah gaana deshabhakti par tha aur pooree philm kee jaan yah gaana tha nanna munna raahee hoon desh ka sipaahee hoon bolo mere sang jay hind jay hind jay hind jay hind jay hind

#मनोरंजन

bolkar speaker
परिणति किसके द्वारा रचित कहानी है?Parineeti Kiske Dvaara Rachit Kahani Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:27
नीति किसके द्वारा रचित कहानी है तो दोस्तों पड़ी थी एक अनूठी प्रणय कहानी है जिसको शरद चंद उपाध्याय ने लिखा है और यह दहेज प्रथा की भयावह कथा है और उसका उन्होंने चित्र बहुत ही अच्छे ढंग से किया है सरत चंद्र चट्टोपाध्याय द्वारा रचित कहानी है धन्यवाद
Neeti kisake dvaara rachit kahaanee hai to doston padee thee ek anoothee pranay kahaanee hai jisako sharad chand upaadhyaay ne likha hai aur yah dahej pratha kee bhayaavah katha hai aur usaka unhonne chitr bahut hee achchhe dhang se kiya hai sarat chandr chattopaadhyaay dvaara rachit kahaanee hai dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या दूध में तुलसी के पत्ते उबालकर पीना फायदेमंद होता है?Kya Doodh Mein Tulsi Ke Patte Ubalkar Peena Faydemand Hota Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:39
सजनी के दूध में तुलसी के पत्ते उबालकर पीना फायदेमंद होता है तुलसी वाला दूध पीने से कई बीमारियों का रामबाण इलाज है तीन-चार पत्तियां उबलते हुए दूध में डालकर पीने से कई रोग दूर होते हैं जैसे फ्लोर तनाव कैंसर किडनी स्टोन कोल्ड की समस्या सिरदर्द तुलसी में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं कई शारीरिक रोग भी दूर होते हैं तुलसी पूजन होने के साथ-साथ काफी लाभप्रद है इसलिए तुलसी की पत्तियों का सेवन हमारे लिए काफी हितकर है चाय में भी डाल कर आप इसका प्रयोग कर सकते हैं जवाब सुनने के लिए धन्यवाद
Sajanee ke doodh mein tulasee ke patte ubaalakar peena phaayademand hota hai tulasee vaala doodh peene se kaee beemaariyon ka raamabaan ilaaj hai teen-chaar pattiyaan ubalate hue doodh mein daalakar peene se kaee rog door hote hain jaise phlor tanaav kainsar kidanee ston kold kee samasya siradard tulasee mein enteebaikteeriyal gun pae jaate hain kaee shaareerik rog bhee door hote hain tulasee poojan hone ke saath-saath kaaphee laabhaprad hai isalie tulasee kee pattiyon ka sevan hamaare lie kaaphee hitakar hai chaay mein bhee daal kar aap isaka prayog kar sakate hain javaab sunane ke lie dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
क्या फल खाने से बीमार होते हैं?Kya Phal Khaane Se Beemaar Hote Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:56
उसने क्या फल खाने से बीमार होते हैं वहां दोस्तों पर खाने से व्यक्ति बीमार भी हो सकता है मान लीजिए आपके शुक्र है और आप मीठे फल खा रहे हैं तो आपको काफी दिक्कत हो सकती है इसमें शुगर बढ़ सकता है आप बीमार हो सकते हैं और फल का अधिक सेवन करना भी हानिकारक साबित हो सकता है कुछ ऐसे हैं जो कि सीमित मात्रा में ही खाना चाहिए इनमें विटामिन और प्रोटीन अधिक होते हैं इसलिए उनका केवल एक या दो ही पर्याप्त है अधिक खाने से शरीर को कोई ना कोई साइड इफेक्ट हो सकता है पेट खराब हो सकता है बधाई हो सकती है कुल मिलाकर कहने का मतलब है हम बीमार भी हो सकते हैं इसलिए अत्यधिक सेवन इसका काफी हानिकारक साबित होता है
Usane kya phal khaane se beemaar hote hain vahaan doston par khaane se vyakti beemaar bhee ho sakata hai maan leejie aapake shukr hai aur aap meethe phal kha rahe hain to aapako kaaphee dikkat ho sakatee hai isamen shugar badh sakata hai aap beemaar ho sakate hain aur phal ka adhik sevan karana bhee haanikaarak saabit ho sakata hai kuchh aise hain jo ki seemit maatra mein hee khaana chaahie inamen vitaamin aur proteen adhik hote hain isalie unaka keval ek ya do hee paryaapt hai adhik khaane se shareer ko koee na koee said iphekt ho sakata hai pet kharaab ho sakata hai badhaee ho sakatee hai kul milaakar kahane ka matalab hai ham beemaar bhee ho sakate hain isalie atyadhik sevan isaka kaaphee haanikaarak saabit hota hai

#मनोरंजन

bolkar speaker
दूध में देसी घी मिलाकर पीने के क्या फायदे हैं?Doodh Mein Desi Ghee Milakar Peene Ke Kya Fayde Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:47
दूध में देसी घी मिलाकर पीने के क्या फायदे हैं तो दोस्तों दूध में पोषक तत्व और पौष्टिकता तो पाई जाती है साथ में अगर देसी घी मिल जाए तो फिर क्या कहना सोने पर सुहागा कितने एक्सीडेंट गुण होते हैं यह तारीख मजबूती प्रदान करेगा ही साथ में शरीर की यमुना पावर को भी बढ़ाएगा यानि कहने का मतलब रितेश मजबूती प्रदान करेगा बिल्कुल महसूस नहीं होने देगा और कैंसर आदि बीमारियों का खतरा भी बिल्कुल नहीं रहेगा शरीर में हल्का महसूस होगा और ताजगी बनी रहेगी विशेष निखार उत्पन्न होगा मैंने चेहरा सुंदर और काफी सुडौल मालूम देगा ज्यादा बेहतर यह होगा कि आप गाय का देसी घी दूध में मिलाकर यूज करें धन्यवाद मित्रों
Doodh mein desee ghee milaakar peene ke kya phaayade hain to doston doodh mein poshak tatv aur paushtikata to paee jaatee hai saath mein agar desee ghee mil jae to phir kya kahana sone par suhaaga kitane ekseedent gun hote hain yah taareekh majabootee pradaan karega hee saath mein shareer kee yamuna paavar ko bhee badhaega yaani kahane ka matalab ritesh majabootee pradaan karega bilkul mahasoos nahin hone dega aur kainsar aadi beemaariyon ka khatara bhee bilkul nahin rahega shareer mein halka mahasoos hoga aur taajagee banee rahegee vishesh nikhaar utpann hoga mainne chehara sundar aur kaaphee sudaul maaloom dega jyaada behatar yah hoga ki aap gaay ka desee ghee doodh mein milaakar yooj karen dhanyavaad mitron

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
महाशिवरात्रि क्यों मनाते हैं वास्तविक कारण बताइए?Mahashivratri Kyo Manate Hai Vastvik Karan Bataiye
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:26
रजनी महाशिवरात्रि क्यों मनाते हैं वास्तविक कारण बताइए महाशिवरात्रि भगवान शिव का त्यौहार है हिंदू पुराणों के अनुसार किसी दिन सृष्टि के आरंभ में मध्यरात्रि के दौरान भगवान शिव ब्रह्मा से रूद्र रूप में प्रकट हुए थे इसलिए इस दिन को महाशिवरात्रि कहा जाता है और उसकी अभी बात है कि इसी दिन भगवान शिव और पार्वती का विवाह हुआ था धन्यवाद
Rajanee mahaashivaraatri kyon manaate hain vaastavik kaaran bataie mahaashivaraatri bhagavaan shiv ka tyauhaar hai hindoo puraanon ke anusaar kisee din srshti ke aarambh mein madhyaraatri ke dauraan bhagavaan shiv brahma se roodr roop mein prakat hue the isalie is din ko mahaashivaraatri kaha jaata hai aur usakee abhee baat hai ki isee din bhagavaan shiv aur paarvatee ka vivaah hua tha dhanyavaad

#जीवन शैली

bolkar speaker
कुछ लोगों के हाथ ठंडे है या गर्म क्यों होते हैं?Kuch Logo Ke Haath Thande Hai Ya Garm Kyo Hote Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:45
बस मैं कुछ लोगों के हाथ पैर ठंडे या गर्म क्यों हो जाते हैं अगर आपके हाथ पैर ठंडे थोड़ा गर्म है इसका मतलब ब्लड सरकुलेशन ठीक से काम नहीं कर रहा इसलिए शरीर में कुछ जगह पर आती हूं सही से नहीं पहुंच पा रही है घबराने की जरूरत नहीं है अक्सर ऐसा हो जाता है अगर हां ठंडे होते हैं तो कुछ शारीरिक समस्या भी हो सकती है जैसे एनीमिया या लगातार थकान किसी काम का ज्यादा देर तक करते रहना हाथी गर्म होते हैं तो शरीर में हल्का बुखार होने की संभावना भी हो सकती है इसलिए हमारा मथुरा है आप डॉक्टर से संपर्क करें और इस समस्या को बताकर इस्तरी जाता है धन्यवाद
Bas main kuchh logon ke haath pair thande ya garm kyon ho jaate hain agar aapake haath pair thande thoda garm hai isaka matalab blad sarakuleshan theek se kaam nahin kar raha isalie shareer mein kuchh jagah par aatee hoon sahee se nahin pahunch pa rahee hai ghabaraane kee jaroorat nahin hai aksar aisa ho jaata hai agar haan thande hote hain to kuchh shaareerik samasya bhee ho sakatee hai jaise eneemiya ya lagaataar thakaan kisee kaam ka jyaada der tak karate rahana haathee garm hote hain to shareer mein halka bukhaar hone kee sambhaavana bhee ho sakatee hai isalie hamaara mathura hai aap doktar se sampark karen aur is samasya ko bataakar istaree jaata hai dhanyavaad

#मनोरंजन

Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:53
रस्टम 2 की जबरदस्त समीक्षा के बाद क्या बॉलीवुड शायरी में कराने की योजना बना रहा है दृश्यम की हिंदी रिमिक्स 2015 में रिलीज हुई थी और इसे निशीकांत कामत निर्देशित किया था सुना जा रहा है दृश्यम टू का हिंदी रीमेक बनने जा रहा है फिल्म के पहले भाग में मोहनलाल की भूमिका अजय देवगन नजर आए थे जिसने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा बिजनेस किया अध्यक्ष चंदू के रीमेक में भी अजय देवगन मलयाली एक्टर मोहनलाल का रोल निभाएंगे और तब्बू भी नजर आएंगी निर्देशित करें अब यह कुछ क्लियर नहीं है क्योंकि हैदराबाद के एक अस्पताल में निशिकांत कामत का निधन हो गया है जिन्होंने पहले निर्देशित किया था बनेगी जरूर यह कुछ तय नहीं है कि कब बनेगी अभी काफी समय लगेगा धन्यवाद
Rastam 2 kee jabaradast sameeksha ke baad kya boleevud shaayaree mein karaane kee yojana bana raha hai drshyam kee hindee rimiks 2015 mein rileej huee thee aur ise nisheekaant kaamat nirdeshit kiya tha suna ja raha hai drshyam too ka hindee reemek banane ja raha hai philm ke pahale bhaag mein mohanalaal kee bhoomika ajay devagan najar aae the jisane boks ophis par achchha bijanes kiya adhyaksh chandoo ke reemek mein bhee ajay devagan malayaalee ektar mohanalaal ka rol nibhaenge aur tabboo bhee najar aaengee nirdeshit karen ab yah kuchh kliyar nahin hai kyonki haidaraabaad ke ek aspataal mein nishikaant kaamat ka nidhan ho gaya hai jinhonne pahale nirdeshit kiya tha banegee jaroor yah kuchh tay nahin hai ki kab banegee abhee kaaphee samay lagega dhanyavaad

#मनोरंजन

bolkar speaker
बवासीर क्यों होती है कारण क्या है ?Bawasir Kyo Hoti Hai Karan Kya Hai Bawasir Hone Ke
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:55
बवासीर क्यों होती है कारण क्या है एक ऐसी बीमारी है जिसमें पीड़ित व्यक्ति ऐनक के अंदर और बारिश तो में सूजन आ जाती है जिसकी वजह से तैनात अंदरूनी हिस्से या बाहर के हिस्से में जमा होकर जैसी बन जाती है और इसमें से कई बार खून निकलने के साथ ही दर्द भी होता है बवासीर की समस्या आजकल आम हो गई है और इसकी सबसे बड़ी वजह है एक्सरसाइज ना करना और जंक फूड का ज्यादा सेवन करना दरअसल गलत जीवनशैली के कारण ही पायल की समस्या बढ़ जा रही है यदि आप हेल्दी लाइफ़स्टाइल अपना लें अपने खान-पान का ध्यान रखें तो इस बीमारी से बच सकते हैं पाए जाने पर कुछ घरेलू तरीके आजमा कर आप इस बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं बहुत ही बेस्ट है जो हम आपको बता रहे हैं और सुनील कैप्सूल कैप्सूल का लगातार सेवन करने से यह समस्या दूर हो सकती है धन्यवाद
Bavaaseer kyon hotee hai kaaran kya hai ek aisee beemaaree hai jisamen peedit vyakti ainak ke andar aur baarish to mein soojan aa jaatee hai jisakee vajah se tainaat andaroonee hisse ya baahar ke hisse mein jama hokar jaisee ban jaatee hai aur isamen se kaee baar khoon nikalane ke saath hee dard bhee hota hai bavaaseer kee samasya aajakal aam ho gaee hai aur isakee sabase badee vajah hai eksarasaij na karana aur jank phood ka jyaada sevan karana darasal galat jeevanashailee ke kaaran hee paayal kee samasya badh ja rahee hai yadi aap heldee laifastail apana len apane khaan-paan ka dhyaan rakhen to is beemaaree se bach sakate hain pae jaane par kuchh ghareloo tareeke aajama kar aap is beemaaree se chhutakaara pa sakate hain bahut hee best hai jo ham aapako bata rahe hain aur suneel kaipsool kaipsool ka lagaataar sevan karane se yah samasya door ho sakatee hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
दुकान पर ग्राहक लाने के 10 उपाय क्या है?Dukan Par Grahak Lane Ke 10 Upay Kya Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:04
उसने दुकान पर ग्राहक लाने के 10 उपाय क्या हैं दुकान में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए गंदगी कूड़े को इकट्ठा ना होने दें ग्राहक से नरम और जी ने चोर में बात करें ग्रहण की पूरी बात को सुने और उस को समझें और उसकी पसंद नापसंद का ख्याल रखें आपकी दुकान में सामान पूर्ण रूप से होना चाहिए ग्राहक को लौटना नहीं चाहिए ग्राहक के मोलभाव करने पर अपनी क्वालिटी के आधार पर उसको समझा है खुद भी सोच रहे हैं दुकान के कारीगर और नौकर भी स्वच्छ होनी चाहिए मैंने उनके कपड़े भी साफ होने चाहिए ज्यादातर सामान ताजा ऑर्गन देने की कोशिश करें बाकी सामान को सुनना है अपने सामान का उचित दाम बताएं ग्राहक को जल्दी अटेंड करें नेचर व्यवहार और उधारी इसको पार्टी नियम से नोट करें वरना आपका झगड़ा हो सकता है ग्राहक को ज्यादा देर दुकान में ना रोके उसको तुरंत सामान देकर विदा करें फालतू बातों में समय उन्होंने सब बातों का ध्यान रखें
Usane dukaan par graahak laane ke 10 upaay kya hain dukaan mein saaph saphaee ka vishesh dhyaan rakhana chaahie gandagee koode ko ikattha na hone den graahak se naram aur jee ne chor mein baat karen grahan kee pooree baat ko sune aur us ko samajhen aur usakee pasand naapasand ka khyaal rakhen aapakee dukaan mein saamaan poorn roop se hona chaahie graahak ko lautana nahin chaahie graahak ke molabhaav karane par apanee kvaalitee ke aadhaar par usako samajha hai khud bhee soch rahe hain dukaan ke kaareegar aur naukar bhee svachchh honee chaahie mainne unake kapade bhee saaph hone chaahie jyaadaatar saamaan taaja organ dene kee koshish karen baakee saamaan ko sunana hai apane saamaan ka uchit daam bataen graahak ko jaldee atend karen nechar vyavahaar aur udhaaree isako paartee niyam se not karen varana aapaka jhagada ho sakata hai graahak ko jyaada der dukaan mein na roke usako turant saamaan dekar vida karen phaalatoo baaton mein samay unhonne sab baaton ka dhyaan rakhen

#भारत की राजनीति

Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:45
उसने मुझे अंदर से बुखार जैसा लगता है लेकिन मापने पर 9697 ही रहता है हम नहाने में ज्यादा लगती है क्या समस्या हो सकती है इस प्रकार की समस्या बता रहे लक्ष्मण मलेरिया में बताए जाते हैं कहने का मतलब है कि मलेरिया में ठंड नहीं लगती बुखार भी बना रहता है दवाई का कोई असर नहीं होता क्योंकि जब तक आप मलेरिया का पूरा कोर्स नहीं लेंगे तब तक आप का बुखार और ठंड नहीं जाएगी हमारी सलाह है आप डॉक्टर को बताएं और मलेरिया का पूरा कोर्स में आपने मच्छरों का कोई उपाय नहीं किया इस वजह से आपको मलेरिया हो सकती है क्योंकि मलेरिया में ठंड और बुखार जाने का नाम नहीं लेते जब तक मलेरिया का कोर्स न लिया जाए धन्यवाद
Usane mujhe andar se bukhaar jaisa lagata hai lekin maapane par 9697 hee rahata hai ham nahaane mein jyaada lagatee hai kya samasya ho sakatee hai is prakaar kee samasya bata rahe lakshman maleriya mein batae jaate hain kahane ka matalab hai ki maleriya mein thand nahin lagatee bukhaar bhee bana rahata hai davaee ka koee asar nahin hota kyonki jab tak aap maleriya ka poora kors nahin lenge tab tak aap ka bukhaar aur thand nahin jaegee hamaaree salaah hai aap doktar ko bataen aur maleriya ka poora kors mein aapane machchharon ka koee upaay nahin kiya is vajah se aapako maleriya ho sakatee hai kyonki maleriya mein thand aur bukhaar jaane ka naam nahin lete jab tak maleriya ka kors na liya jae dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
दूध पीने से शरीर में क्या बदलाव होते हैं?Doodh Peene Se Shareer Mein Kya Badalaav Hote Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:40
दूध पीने से शरीर में क्या बदलाव होते हैं दूध से हमारे शरीर को कई पोषक तत्व विटामिन मिलते हैं जैसे प्रोटीन कैल्शियम राइबोफ्लेविन विटामिन बी विटामिन ए विटामिन बी विटामिन के विटामिन ई के साथ-साथ फॉस्फोरस मैग्नीशियम आयोडीन वाकई खनिज तथा ऊर्जा भी मिलती है दूध हमारे शरीर को पौष्टिक मजबूत और ताकतवर बनाता है दूध पीने से हमारा शरीर हष्ट पुष्ट ताकतवर और चेहरे पर निखार आता है कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है दूध पीने से हमारे शरीर को काफी बल मिलता है धन्यवाद
Doodh peene se shareer mein kya badalaav hote hain doodh se hamaare shareer ko kaee poshak tatv vitaamin milate hain jaise proteen kailshiyam raibophlevin vitaamin bee vitaamin e vitaamin bee vitaamin ke vitaamin ee ke saath-saath phosphoras maigneeshiyam aayodeen vaakee khanij tatha oorja bhee milatee hai doodh hamaare shareer ko paushtik majaboot aur taakatavar banaata hai doodh peene se hamaara shareer hasht pusht taakatavar aur chehare par nikhaar aata hai kul milaakar kahane ka matalab yah hai doodh peene se hamaare shareer ko kaaphee bal milata hai dhanyavaad

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
एड़ियां क्यों फट जाती है इसका कोई घरेलू उपचार है?Ediyan Kyun Phat Jaati Hai Iska Koi Gharelu Upchaar Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:07
उसने इंडिया क्यों फट जाती है इसका कोई घरेलू उपचार है तो दोस्तों अक्सर हम मुंह हाथ पैर और बालों में साबुन लगाते हैं कभी-कभी हम पैरों की एड़ियों में साबुन बहुत कम लगाते हैं इस वजह से इसमें मिट्टी और धूल जमा होने की वजह से यह एरिया पड़ जाती है यह चप्पल कम पहनना ज्यादा तो जमीन पर चलना इससे पर के पिछले हिस्से में मिट्टी और मैल जमा होता रहता है इसलिए फट जाती है इसको ठीक करने का बैटर उपाय अंकुर का तेल 50 ग्राम 20 ग्राम सत्यानाशी पाउडर 10 ग्राम शुद्ध देसी घी 50 ग्राम काली रात को सोते समय पर लगाएं इससे काफी लाभ होगा दूसरा तरीका शहद और पके केले का पेस्ट बना लें इससे भी काफी लाभ होगा तीसरा आप हल्की मलाई भी लगा सके अगर क्रीम की बात करें तो क्रेक क्रीम और वादी हर्बल क्रीम भी आप यूज कर सकते हैं धन्यवाद मित्र
Usane indiya kyon phat jaatee hai isaka koee ghareloo upachaar hai to doston aksar ham munh haath pair aur baalon mein saabun lagaate hain kabhee-kabhee ham pairon kee ediyon mein saabun bahut kam lagaate hain is vajah se isamen mittee aur dhool jama hone kee vajah se yah eriya pad jaatee hai yah chappal kam pahanana jyaada to jameen par chalana isase par ke pichhale hisse mein mittee aur mail jama hota rahata hai isalie phat jaatee hai isako theek karane ka baitar upaay ankur ka tel 50 graam 20 graam satyaanaashee paudar 10 graam shuddh desee ghee 50 graam kaalee raat ko sote samay par lagaen isase kaaphee laabh hoga doosara tareeka shahad aur pake kele ka pest bana len isase bhee kaaphee laabh hoga teesara aap halkee malaee bhee laga sake agar kreem kee baat karen to krek kreem aur vaadee harbal kreem bhee aap yooj kar sakate hain dhanyavaad mitr

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
पैर छूने के पीछे वैज्ञानिक या धार्मिक क्या कारण है?Pair Chune Ke Piche Vaigyanik Ya Dharmik Kya Karan Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:37
10 मिनट पैर छूने के पीछे वैज्ञानिक या धार्मिक क्या कारण है काफी पुरानी परंपरा है और यह सदियों से चली आ रही है कि राजा महाराजा भी पैर छूकर अपने गुरुओं के चरणों कर उनका सम्मान और आशीर्वाद प्राप्त करते थे जो व्यक्ति पर नहीं छूटे थे उनको अच्छा अच्छा वाला व्यक्ति नहीं समझा जाता था यदि गुरु का सम्मान अपने से बड़ों का सम्मान नहीं करता है उसको भी हमारे बड़े बुजुर्ग सम्मान देने से कतराते हैं हमने तो बढ़ती है साथ ही हमारे शरीर को नई ऊर्जा मिलती है सकारात्मक भाव उत्पन्न होते हैं दूसरे की संचित की हुई शक्ति हमारे शरीर में प्रवेश करती है पैर छूने का सही तरीका यह है कि आप पैर छू रहे हैं उसके पैर के नाखून को स्पष्ट करना चाहिए दूसरा साइंटिफिक कारण यह है कि हमारी रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है यदि झुकने से हमारी रीढ़ की हड्डी का होता है और यह हमारे पैर छूने की वजह से उत्पन्न होता है कि हमारी जीत की पूरी कसरत हो जाती है और यह मजबूत होती है जिसकी रीड की हड्डी मजबूत है वह अपने से दोगुना वजन अपनी पेट पर लात सकता है इसलिए हमें अपने बड़े बुजुर्गों का पैर छूकर उनका आशीर्वाद लेना चाहिए इसी में हमारा फायदा है और आप सम्मानित भी साबित होंगे धन्यवाद मित्र
10 minat pair chhoone ke peechhe vaigyaanik ya dhaarmik kya kaaran hai kaaphee puraanee parampara hai aur yah sadiyon se chalee aa rahee hai ki raaja mahaaraaja bhee pair chhookar apane guruon ke charanon kar unaka sammaan aur aasheervaad praapt karate the jo vyakti par nahin chhoote the unako achchha achchha vaala vyakti nahin samajha jaata tha yadi guru ka sammaan apane se badon ka sammaan nahin karata hai usako bhee hamaare bade bujurg sammaan dene se kataraate hain hamane to badhatee hai saath hee hamaare shareer ko naee oorja milatee hai sakaaraatmak bhaav utpann hote hain doosare kee sanchit kee huee shakti hamaare shareer mein pravesh karatee hai pair chhoone ka sahee tareeka yah hai ki aap pair chhoo rahe hain usake pair ke naakhoon ko spasht karana chaahie doosara saintiphik kaaran yah hai ki hamaaree reedh kee haddee majaboot hotee hai yadi jhukane se hamaaree reedh kee haddee ka hota hai aur yah hamaare pair chhoone kee vajah se utpann hota hai ki hamaaree jeet kee pooree kasarat ho jaatee hai aur yah majaboot hotee hai jisakee reed kee haddee majaboot hai vah apane se doguna vajan apanee pet par laat sakata hai isalie hamen apane bade bujurgon ka pair chhookar unaka aasheervaad lena chaahie isee mein hamaara phaayada hai aur aap sammaanit bhee saabit honge dhanyavaad mitr

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
जरूरत से ज्यादा पौधों को पानी देने से क्या क्या नुकसान होते है?Jarurat Se Jyada Paudho Ko Paani Dene Se Kya Kya Nuksan Hote Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:37
जरूरत से ज्यादा पौधों को पानी देने से क्या क्या नुकसान होते हैं पौधों को हरा-भरा रखने के लिए सुबह और शाम पानी देना चाहिए परंतु कुछ लोग दोपहर में डालते पौधा खेला जाता है और उसकी पत्नी सूख जाती हैं यानी कुल मिलाकर ट्रेन मुरझा जाता है और जरूरत से ज्यादा पेड़ को पानी नहीं डालना चाहिए इससे पौधे में अधिक पानी पहुंचने की वजह से वह जोड़ों में जाकर जल को चढ़ाकर पेड़ को समाप्त कर सकता है यह ज्यादा मिट्टी गीली होने की वजह से लड़की पकड़ ढीली हो जाएगी और पेड़ सूख जाएगा धन्यवाद मित्र
Jaroorat se jyaada paudhon ko paanee dene se kya kya nukasaan hote hain paudhon ko hara-bhara rakhane ke lie subah aur shaam paanee dena chaahie parantu kuchh log dopahar mein daalate paudha khela jaata hai aur usakee patnee sookh jaatee hain yaanee kul milaakar tren murajha jaata hai aur jaroorat se jyaada ped ko paanee nahin daalana chaahie isase paudhe mein adhik paanee pahunchane kee vajah se vah jodon mein jaakar jal ko chadhaakar ped ko samaapt kar sakata hai yah jyaada mittee geelee hone kee vajah se ladakee pakad dheelee ho jaegee aur ped sookh jaega dhanyavaad mitr

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती?Kya Kala Teeka Lagane Se Najar Nahin Lagti
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:47
क्या काला टीका लगाने से नजर नहीं लगती दोस्तों पुरानी मान्यताओं के आधार पर बच्चे को काला टीका लगाया जाता है कहा जाता है इससे बच्चे को नजर नहीं लगती या यूं कहें की बुरी नजर का प्रभाव नहीं पड़ता यह प्रथा कई वर्षों से चली आ रही है अक्सर बच्चों को काला टीका नजर ना लगने की वजह से लगा जा और 20 के उपाय हैं कुछ लोग मंगल इतवार के दिन आटा नमक फ्राई मिर्चा बच्चे के ऊपर से उतार के आगे में डाल देते हैं यह भी पुरानी मान्यताओं के आधार पर किया जाता है
Kya kaala teeka lagaane se najar nahin lagatee doston puraanee maanyataon ke aadhaar par bachche ko kaala teeka lagaaya jaata hai kaha jaata hai isase bachche ko najar nahin lagatee ya yoon kahen kee buree najar ka prabhaav nahin padata yah pratha kaee varshon se chalee aa rahee hai aksar bachchon ko kaala teeka najar na lagane kee vajah se laga ja aur 20 ke upaay hain kuchh log mangal itavaar ke din aata namak phraee mircha bachche ke oopar se utaar ke aage mein daal dete hain yah bhee puraanee maanyataon ke aadhaar par kiya jaata hai

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
खून को शुद्ध करने के क्या घरेलू उपाय?Khoon Ko Shuddh Karne Ke Kya Gharelu Upaay
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:46
दुश्मन को शुद्ध करने के क्या घरेलू उपाय हैं खून को साफ करने के लिए घरेलू उपाय की बात करें तो भोजन करने के बाद आप थोड़ी ही शौक है इससे आपका खून साफ होगा सुबह उठकर शहद और नींबू गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं इससे भी खून साफ होगा या आप नीम की पत्ती उसकी नरमपंथी का यूज भी कर सकते हैं खाने में शिमला मिर्च खीरा तुलसी की पत्ती यह भी खा सकते हैं आप इससे भी खून साफ होगा और आप एक सुबह योगासन करें निर्मल मुद्रा इससे खून साफ होगा वैसे ज्यादातर लोग हमदर्द की साफी का यूज करते हैं लेकिन देसी दवाई में नीम की पत्ती काफी कारगर और अच्छी मानी जाती है धन्यवाद
Dushman ko shuddh karane ke kya ghareloo upaay hain khoon ko saaph karane ke lie ghareloo upaay kee baat karen to bhojan karane ke baad aap thodee hee shauk hai isase aapaka khoon saaph hoga subah uthakar shahad aur neemboo gunagune paanee mein milaakar peeen isase bhee khoon saaph hoga ya aap neem kee pattee usakee naramapanthee ka yooj bhee kar sakate hain khaane mein shimala mirch kheera tulasee kee pattee yah bhee kha sakate hain aap isase bhee khoon saaph hoga aur aap ek subah yogaasan karen nirmal mudra isase khoon saaph hoga vaise jyaadaatar log hamadard kee saaphee ka yooj karate hain lekin desee davaee mein neem kee pattee kaaphee kaaragar aur achchhee maanee jaatee hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्यों जरूरी है आयोडीन नमक?Kyun Jaruri Hai Iodine Namak
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:37
क्यों जरूरी है अरविंद में आयोडीन की कमी से हमारे शरीर में कई रोग हो सकते हैं जैसे घेंघा भी सूखा रोग यह रोग आयोडीन की कमी से बहुत जल्दी मनुष्य शरीर में उत्पन्न हो जाते हैं इसलिए आयोडीन की कमी पूरा करने के लिए हमें आयोडीन युक्त नमक ही इस्तेमाल करना चाहिए कुछ लोग तो मैं भी कंकड़ी वाला नमक इस्तेमाल करते हैं जो कि काफी नुकसान दे है क्योंकि कंकड़ी वाले नमक में आयोडीन नहीं होता इसलिए हमें आयोडीन युक्त नमक इस्तेमाल करना चाहिए धन्यवाद मित्र
Kyon jarooree hai aravind mein aayodeen kee kamee se hamaare shareer mein kaee rog ho sakate hain jaise ghengha bhee sookha rog yah rog aayodeen kee kamee se bahut jaldee manushy shareer mein utpann ho jaate hain isalie aayodeen kee kamee poora karane ke lie hamen aayodeen yukt namak hee istemaal karana chaahie kuchh log to main bhee kankadee vaala namak istemaal karate hain jo ki kaaphee nukasaan de hai kyonki kankadee vaale namak mein aayodeen nahin hota isalie hamen aayodeen yukt namak istemaal karana chaahie dhanyavaad mitr

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
व्यायाम क्यों लाभदायक है?Vyayam Kyo Labhadayak Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:47
स्नान क्यों लाभदायक है योग जीवन का अभिन्न अंग है जो व्यायाम का अभ्यास हमारे जीवन को संयमित बनाता है गीता में श्रीकृष्ण भगवान ने कहा है योग कर्मसु कौशलम् यानी योग से कर्मों में कुशलता आती है योग हमारे शरीर को स्वस्थ रखता भी है और मन को भी स्वस्थ रखता है योग से आनंद की अनुभूति होती है जिस प्रकार एक तरफ सुख और एक तरफ दुख होता है जबकि आनंद सुख से ऊपर होता है और योग से हमें रितेश आनंद की प्राप्ति होती है कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है योग करने से ही मनुष्य निरोग रह सकता है धन्यवाद मित्रों
Snaan kyon laabhadaayak hai yog jeevan ka abhinn ang hai jo vyaayaam ka abhyaas hamaare jeevan ko sanyamit banaata hai geeta mein shreekrshn bhagavaan ne kaha hai yog karmasu kaushalam yaanee yog se karmon mein kushalata aatee hai yog hamaare shareer ko svasth rakhata bhee hai aur man ko bhee svasth rakhata hai yog se aanand kee anubhooti hotee hai jis prakaar ek taraph sukh aur ek taraph dukh hota hai jabaki aanand sukh se oopar hota hai aur yog se hamen ritesh aanand kee praapti hotee hai kul milaakar kahane ka matalab yah hai yog karane se hee manushy nirog rah sakata hai dhanyavaad mitron

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
हाइड्रोजन गैस बनाने की उपविधि क्या है?Hydrogen Gas Bnane Ki Upvidhi Kya Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:31
हाइड्रोजन गैस बनाने की विधि क्या है सर्वप्रथम 1766 में हिंदी के बीच में हाइड्रोजन गैस की खोज की थी हाइड्रोजन गैस की थोड़ी मात्रा में पाई जाती है इसको बनाने की विधि तनु गंधक जस्ते पर डालने से यकृत होकर हाइड्रोजन गैस निकलता है तथा जल के विद्युत अपघटन से भी पर्याप्त शुद्ध भोजन प्राप्त किया जा सकता है धन्यवाद
Haidrojan gais banaane kee vidhi kya hai sarvapratham 1766 mein hindee ke beech mein haidrojan gais kee khoj kee thee haidrojan gais kee thodee maatra mein paee jaatee hai isako banaane kee vidhi tanu gandhak jaste par daalane se yakrt hokar haidrojan gais nikalata hai tatha jal ke vidyut apaghatan se bhee paryaapt shuddh bhojan praapt kiya ja sakata hai dhanyavaad

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
नाली के कीड़े मारने की दवा का क्या नाम है?Nali Ke Keede Maarne Ki Dava Ka Kya Naam Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:02
सच में नाली के कीड़े मारने की दवा का क्या नाम है अब बर्तन धोने की वजह से जूठन जाने के कारण नालियों में कीड़े उत्पन्न हो जाते हैं इन को मारने के लिए हम अक्सर कैनाल का यूज करते हैं हम नालियों में अक्सर कर फिनाइल डाल देते हैं इससे होता यह है कि हमको तो लगता है कीड़े समाप्त हो गए लेकिन फ़िलहाल का कुछ असर नहीं होता और कीड़े पूरी तरीके से समाप्त नहीं हो पाते और हमारे पैसे भी बेकार हो जाते हैं इसके लिए हम आपको बहुत अच्छी दवा बता रहे हैं जितने आपके मात्र ₹50 लगेंगे और आपको यह दवा किसी भी बीज की दुकान पर उपलब्ध हो जाएगी दवा काम करती है वह दवा हम आपको बता रहे हैं पर 25 यह बोतल होती है और एलमुनियम की होती है जो आपको किसी दिन और कीटनाशक दुकान पर धन्यवाद मित्रों
Sach mein naalee ke keede maarane kee dava ka kya naam hai ab bartan dhone kee vajah se joothan jaane ke kaaran naaliyon mein keede utpann ho jaate hain in ko maarane ke lie ham aksar kainaal ka yooj karate hain ham naaliyon mein aksar kar phinail daal dete hain isase hota yah hai ki hamako to lagata hai keede samaapt ho gae lekin filahaal ka kuchh asar nahin hota aur keede pooree tareeke se samaapt nahin ho paate aur hamaare paise bhee bekaar ho jaate hain isake lie ham aapako bahut achchhee dava bata rahe hain jitane aapake maatr ₹50 lagenge aur aapako yah dava kisee bhee beej kee dukaan par upalabdh ho jaegee dava kaam karatee hai vah dava ham aapako bata rahe hain par 25 yah botal hotee hai aur elamuniyam kee hotee hai jo aapako kisee din aur keetanaashak dukaan par dhanyavaad mitron

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या भलाई करने से भलाई मिलती है?Kya Bhalai Karne Se Bhalai Milti Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
2:07
उसने क्या भलाई करने से भलाई मिलती है तो हम दोस्तों अगर आपने किसी के साथ भलाई की है तो आपको उसका फल जरुर मिलेगा भले चाहे देर से मिले एक बार की बात हम आपको बताना चाहिए एक महिला टेंपो चौधरी और उनकी तबीयत कुछ खराब लग रही थी और वह हमारी दुकान के पास आकर बैठ गई थी पार्टी में बैठ गई तो हमने उनसे पूछा क्या आपकी कुछ तबीयत खराब है तो उन्होंने कहा बेटा काफी दिनों से बुखार आ रहा है कोई दवाई फायदा नहीं कर रही है हमने उनको दवाई बताइए जो शानदार चिरायता समझ लीजिए आप जो भी दो नामों से जानी जाती है जो चांद आया कि रहता है इसमें जड़ी बूटी है उसकी हैं और यह बुखार में बहुत अच्छा फायदा करती है हमने उनको बताइए फिर उन्होंने मोबाइल नंबर निकाला और अब फोन मिला दोगे उनका फोन मिला दिया और उनके लड़के को बता दिया कहां पर वह दवाई उनके फोन करने पर उनका लड़का आया दवाई की दुकान बताइए वह चली गई बात समाप्त हो गई दो-तीन महीने बाद ही माता जी अपने लड़के के साथ हमारी दुकान पर हैं और एक बहुत बड़ी पॉलिथीन हम आते हुए बोली यह फल बेटा मेरे भागते हैं और हम तुम्हारे लिए लेकर आए नहीं ना इसकी क्या जरूरत थी लेकिन वह मान ही नहीं और उनको देते हुए बोली कि बेटा जो तुमने दवाई बताई थी उस दवाई को दो बार पीने से हमारा बुखार उतर गया और 2 महीने हो गए आज तक नहीं आया और हमने काफी पैसा बर्बाद किया डॉक्टरों का कितने दिमाग की बुखार है हम डर गए थे हमने सोचा कि बुखार हमारी जान ले लेगा लेकिन तुम बिल्कुल भगवान बन गए हमारे लिए और उसके बाद जब कभी वह तो अपने बाप के यहां हमको दे जाती हूं दोस्तों भलाई का फल मीठा जरूर है और वह दशहरी आम के रूप में मनोनीत
Usane kya bhalaee karane se bhalaee milatee hai to ham doston agar aapane kisee ke saath bhalaee kee hai to aapako usaka phal jarur milega bhale chaahe der se mile ek baar kee baat ham aapako bataana chaahie ek mahila tempo chaudharee aur unakee tabeeyat kuchh kharaab lag rahee thee aur vah hamaaree dukaan ke paas aakar baith gaee thee paartee mein baith gaee to hamane unase poochha kya aapakee kuchh tabeeyat kharaab hai to unhonne kaha beta kaaphee dinon se bukhaar aa raha hai koee davaee phaayada nahin kar rahee hai hamane unako davaee bataie jo shaanadaar chiraayata samajh leejie aap jo bhee do naamon se jaanee jaatee hai jo chaand aaya ki rahata hai isamen jadee bootee hai usakee hain aur yah bukhaar mein bahut achchha phaayada karatee hai hamane unako bataie phir unhonne mobail nambar nikaala aur ab phon mila doge unaka phon mila diya aur unake ladake ko bata diya kahaan par vah davaee unake phon karane par unaka ladaka aaya davaee kee dukaan bataie vah chalee gaee baat samaapt ho gaee do-teen maheene baad hee maata jee apane ladake ke saath hamaaree dukaan par hain aur ek bahut badee politheen ham aate hue bolee yah phal beta mere bhaagate hain aur ham tumhaare lie lekar aae nahin na isakee kya jaroorat thee lekin vah maan hee nahin aur unako dete hue bolee ki beta jo tumane davaee bataee thee us davaee ko do baar peene se hamaara bukhaar utar gaya aur 2 maheene ho gae aaj tak nahin aaya aur hamane kaaphee paisa barbaad kiya doktaron ka kitane dimaag kee bukhaar hai ham dar gae the hamane socha ki bukhaar hamaaree jaan le lega lekin tum bilkul bhagavaan ban gae hamaare lie aur usake baad jab kabhee vah to apane baap ke yahaan hamako de jaatee hoon doston bhalaee ka phal meetha jaroor hai aur vah dashaharee aam ke roop mein manoneet

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
क्या हम सिर्फ फल खाकर भी जिंदा रह सकते हैं?Kya Hum Sirf Phal Khakar Bhe Zinda Reh Sakte Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:53
क्या हम सिर्फ फल खाकर भी जिंदा रह सकते हैं तो हां दोस्तों फल खाकर जिंदा रहा जा सकता है परंतु बदल बदल कर खाने से हमें पौष्टिक तत्व मिलते रहेंगे और हमें विटामिन प्राप्त होते रहेंगे शायद आप यह नहीं जानते कि जब व्यक्ति कोमा में चला जाता है तो उसको भी ग्लूकोज और विटामिंस देकर जीवित रखा जाता है या 2 महीने अस्पताल में खो जाते हैं खाना बंद कर देते हैं उसको वह विटामिंस प्राप्त होते रहते हैं और व्यक्ति जल्दी ठीक हो जाता है ठीक इसी प्रकार से हम फल खाकर जिंदा रह सकते हमको विटामिन पर्याप्त मात्रा में प्राप्त होता रहेगा और हम जीवित रहेंगे धन्यवाद मित्रों
Kya ham sirph phal khaakar bhee jinda rah sakate hain to haan doston phal khaakar jinda raha ja sakata hai parantu badal badal kar khaane se hamen paushtik tatv milate rahenge aur hamen vitaamin praapt hote rahenge shaayad aap yah nahin jaanate ki jab vyakti koma mein chala jaata hai to usako bhee glookoj aur vitaamins dekar jeevit rakha jaata hai ya 2 maheene aspataal mein kho jaate hain khaana band kar dete hain usako vah vitaamins praapt hote rahate hain aur vyakti jaldee theek ho jaata hai theek isee prakaar se ham phal khaakar jinda rah sakate hamako vitaamin paryaapt maatra mein praapt hota rahega aur ham jeevit rahenge dhanyavaad mitron

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
LPG सिलेंडर के दाम इतना क्यों बढ़ रहा है?Lpg Cylinder Ke Daam Itna Kyun Badh Raha Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:04
एलपीजी सिलेंडर के दाम इतना क्यों बढ़ रहे हैं तो दोस्तों की बात है जब पेट्रोल का दाम कितना बढ़ा हुआ है तो लोग एलपीजी का इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि गाड़ी भी एलपीजी से चलती है और जिसको पड़ता जिसमें ज्यादा आ रहा है वह उसको यूज करेगा कहने का मतलब यह है कि इस समय पेट्रोल 100 में है और एलपीजी कुछ कम में पढ़ती है इसलिए लोग गाड़ी में एलपीजी का ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं इसलिए गैस के दाम बढ़े हुए चल रहे हैं दूसरी चीज भी हो सकती है कि हमने कई सिलेंडरों की सब्सिडी उठाई है इस वजह से कंपनी को लात तो जरूर हुआ होगा सिलेंडर खरीद कोई-कोई व्यक्तियों ने पूरे घर के सिलेंडर खरीद डाले उनकी बिक्री तो काफी हुई लेकिन उनको सब्सिडी देना काफी महंगा पड़ गया इसलिए इस घाटे को पूरा करने के लिए सिलेंडर के दाम चल सकते हैं यदि कारण हो सकता है
Elapeejee silendar ke daam itana kyon badh rahe hain to doston kee baat hai jab petrol ka daam kitana badha hua hai to log elapeejee ka istemaal kar rahe hain kyonki gaadee bhee elapeejee se chalatee hai aur jisako padata jisamen jyaada aa raha hai vah usako yooj karega kahane ka matalab yah hai ki is samay petrol 100 mein hai aur elapeejee kuchh kam mein padhatee hai isalie log gaadee mein elapeejee ka jyaada istemaal kar rahe hain isalie gais ke daam badhe hue chal rahe hain doosaree cheej bhee ho sakatee hai ki hamane kaee silendaron kee sabsidee uthaee hai is vajah se kampanee ko laat to jaroor hua hoga silendar khareed koee-koee vyaktiyon ne poore ghar ke silendar khareed daale unakee bikree to kaaphee huee lekin unako sabsidee dena kaaphee mahanga pad gaya isalie is ghaate ko poora karane ke lie silendar ke daam chal sakate hain yadi kaaran ho sakata hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
कुछ लोग दांत खोदने के लिए लकड़ी का प्रयोग करते हैं क्या यह सही है?Kuch Log Daat Khodne Ke Liye Lakdi Ka Prayog Karte Hai Kya Yah Sahi Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:13
कुछ लोग दोष खोजने के लिए लकड़ी का प्रयोग करते हैं क्या यह सही है हम लोग खाते हैं आंखों में कचरा फस जाता है और वह फिर काफी दिक्कत पैदा करने लगता है हमको कुछ अटपटा सा लगता है बार-बार जवान वहीं पर जाती है और दिक्कत है कि महसूस होती है हम लकड़ी का प्रयोग करते हैं ज्यादा बेटर यह होगा कि आप नींद की पिक का प्रयोग करें एक बार प्रयोग किया और फेंक दिया ठीक है यह होता है कि जो दांतों में कीड़े लगे ना लगे हैं सुनील की कड़वाहट से उनको भी दिक्कत होती है और कड़वाहट की वजह से वह भी जगह छोड़ सकते हैं दूसरी चीज आप एक पांडे की डेथ होने वाली जो आती है वह आपको मार्केट में मिल जाएगी उसको अपनी जेब में रखें जब भी ऐसी दिक्कत हो तो आप उसका यूज़ करें और तांबे की वजह से वह आपके दांतों में जब रगड़ खाएगी तो उसमें से तांबा हल्का आपके दांतों में प्रवेश करेगा या नहीं कहने का मतलब है जिनका आपके मुंह में प्रवेश करेगी और यह गैस के लिए काफी फायदेमंद होगी धन्यवाद मित्र
Kuchh log dosh khojane ke lie lakadee ka prayog karate hain kya yah sahee hai ham log khaate hain aankhon mein kachara phas jaata hai aur vah phir kaaphee dikkat paida karane lagata hai hamako kuchh atapata sa lagata hai baar-baar javaan vaheen par jaatee hai aur dikkat hai ki mahasoos hotee hai ham lakadee ka prayog karate hain jyaada betar yah hoga ki aap neend kee pik ka prayog karen ek baar prayog kiya aur phenk diya theek hai yah hota hai ki jo daanton mein keede lage na lage hain suneel kee kadavaahat se unako bhee dikkat hotee hai aur kadavaahat kee vajah se vah bhee jagah chhod sakate hain doosaree cheej aap ek paande kee deth hone vaalee jo aatee hai vah aapako maarket mein mil jaegee usako apanee jeb mein rakhen jab bhee aisee dikkat ho to aap usaka yooz karen aur taambe kee vajah se vah aapake daanton mein jab ragad khaegee to usamen se taamba halka aapake daanton mein pravesh karega ya nahin kahane ka matalab hai jinaka aapake munh mein pravesh karegee aur yah gais ke lie kaaphee phaayademand hogee dhanyavaad mitr

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या बगैर मास प्रोटीन से खाए बिना बॉडी बनाना संभव है?Kya Bagair Mass Protein Se Khaye Bina Body Bnana Sambhav Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:54
क्या बगैर मांस प्रोटीन खाए बॉडी बनाना संभव है तो दोस्तों बॉडी बनाने के लिए आप जिम जॉइन कर सकते हैं जिनमें आपकी अच्छी कसरत होगी और इससे मांसपेशियां मजबूत होंगी और आपकी बॉडी काफी मजबूत और सॉलिड बनेगी रही बात बगैर मांस और प्रोटीन खाने की तो दोस्तों आप काजू बादाम छुहारा ताजी हरी सब्जियां फल खाकर आप सेहत बना सकते हैं आपको मांस और प्रोटीन से एलर्जी है आप कई ऐसी चीजें हैं जिनको आप खा सकते हैं कुल मिला के कहने का मतलब यह है जो चीज आपको पसंद नहीं है वह ना खाएं दूसरा कुछ खाएं और बॉडी बनाने के लिए आप सुबह जल्दी उठकर जिम ज्वाइन करें आपकी बॉडी एकदम टनाटन मजबूत बनेगी धन्यवाद मित्रों
Kya bagair maans proteen khae bodee banaana sambhav hai to doston bodee banaane ke lie aap jim join kar sakate hain jinamen aapakee achchhee kasarat hogee aur isase maansapeshiyaan majaboot hongee aur aapakee bodee kaaphee majaboot aur solid banegee rahee baat bagair maans aur proteen khaane kee to doston aap kaajoo baadaam chhuhaara taajee haree sabjiyaan phal khaakar aap sehat bana sakate hain aapako maans aur proteen se elarjee hai aap kaee aisee cheejen hain jinako aap kha sakate hain kul mila ke kahane ka matalab yah hai jo cheej aapako pasand nahin hai vah na khaen doosara kuchh khaen aur bodee banaane ke lie aap subah jaldee uthakar jim jvain karen aapakee bodee ekadam tanaatan majaboot banegee dhanyavaad mitron
URL copied to clipboard