#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
मुझे पढ़ने में मन नहीं लगता है क्या करें कोई उपाय बताइए?Mujhe Padhne Mein Man Nahi Lagta Hai Kya Kare Koi Upaay Bataiye
pooja Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pooja जी का जवाब
Student
2:48
नमस्कार आशा कर रही हूं आप सब खैरियत से हैं प्रश्न पूछा गया है मुझे पढ़ने में मन नहीं लगता है क्या करें कोई उपाय बताइए तो उपाय देकर पहले तो आपको मानी है जो है वह बनाना पड़ेगा आपको क्या सोचना पड़ेगा आपको यह सोचना पड़ेगा कि अगर मैं पढ़ लूंगा नहीं तो उसका रिजल्ट क्या होगा और अगर मैं पढ़ता हूं या पढ़ती हूं तो उसका रिजल्ट क्या होगा तो छोटे-छोटे पैक देख लेते हैं जिनको आप फॉलो करके थोड़ा बहुत पढ़ाई की तरफ अपना मन जो है वह बना सकते हैं सबसे पहले आप अपना टाइम प्ले कीजिए मान लीजिए आप तो मैं पढ़ सकते हैं तो आप सुबह के टाइम पड़े शाम के समय पढ़ सकते हैं शाम के समय पर है दोपहर के समय पर सकते हैं दोपहर के समय पड़े लेकिन टाइम जो है वह डिलीट करें कितने घंटे पढ़ना है वह भी दिल्ली सेक्स करें और ट्राई करें जितना घंटे डिसाइड किया है उसने घंटे ही पढ़ने की कोशिश करें दूसरा स्टेप जब बहुत ज्यादा मनाना हो पढ़ने का तो आप यूट्यूब कुछ के रिलेटेड कांटेक्ट जो है वीडियो कांटेक्ट देखते हैं कहीं पर उसके रिलेटेड कोई और किताब आपके सेलेब्स के बजाय कुछ और किताब आप वह पढ़ सकते हैं इसके अलावा जो सब्जेक्ट आपको विषय जो आपको बहुत अच्छा लगता है आप उसे पढ़ना तो है शुरू कर सकते हैं तो उससे क्या होगा चैटिंग में आपका मन बनेगा और जब आपका मन थोड़ा अच्छे से पढ़ाई में लगने लग जाए तो आप फिर कोई और भी से पढ़ना शुरू कर सकते हैं एक बहुत ही तरीका मैं कहूंगी बताना चाहूंगी मैं आपको इस समय वह क्या है 10 मिनट रुक 10 मिनट रुक गया होता है आपको क्या करना है आपको अपने ब्रेन को क्या बोला है कि मैं सिर्फ 10 मिनट पढ़ लूंगा या पड़ोसी उसके बाद मैं नहीं करूंगी तो उससे क्या होगा आपके दिमाग में यह होगा कि मैं को तो तब 10 मिनट पढ़ना है तो आप जब 10 मिनट पड़ेंगे आप खुद देखेंगे घड़ी में आपको पता नहीं चलेगा 10 मिनट तो ज्यादा समय हो गया और आप पढ़ ही रहे हैं तो यह रूल फॉलो करके भी आप पढ़ सकते हैं बहुत अच्छा रूल है आपका ब्रेन उसको बैटरी आपको बुद्धू बनाना है आप पर क्योंकि वही तो है सारे काम आपके करवा रहे हैं तो इसके अलावा एक और ट्रिक्स जो है वह यह है कि जब भी आप पढ़े हैं आप इस तरह से बड़े कि आप किसी को पढ़ा रहे हैं यानी क्या आप टीचर हैं और आपके को पढ़ा रहे हैं तो यह ट्रिक भी काफी जो है कारगर साबित होती है मैं यूजुअली मोस्ट आफ थे टाइम्स में इसी तरह से पढ़ती हूं कि जो है आपको काफी याद रहती है तू ही कुछ टिप्स एंड ट्रिक्स थी मेरी तो मैं खुद भी अपना आती हूं जब मेरा मन पढ़ाई में नहीं लगता है आशा करती हूं आप को भी यह टेक्स्ट काफी यूज़फुल लगी होगी कमेंट करके जरूर बताएं आपको किस तरह यह तो है हेल्प को लगी या नहीं लगी आपको शार्ट है मदद चाहते हैं मुझ पर जरूर आपकी मदद करूंगी मैं बहुत खुशी हो गई है मुझे मिलती होगी लेट आवाज नहीं शुक्रिया

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
चीन में किराए पर गर्लफ्रेंड क्यों मिलती है?Cheen Mein Kirae Par Garlaphrend Kyon Milatee Hai
अनन्या सिहं Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए अनन्या जी का जवाब
शिक्षारत
0:34
तो यह कौन सी नई बात है चीन में यह सब कुछ नया नहीं है और इस तरह किसी को भी आश्चर्य नहीं होता है और मैंने तो सुना है कि जापान में यदि आपको शादी करनी है और आपके पास गैस कम है या फिर नहीं है आने के लिए आपके रिश्तेदार तो लोग किराए पर गेस्ट भी अप्वॉइंट करते हैं कोई भी नकली पेरेंट्स बन सकता है कोई भी रिश्तेदार बन सकता है तो यह सब अक्सर सुनने में आता है विदेशों में इसमें कोई नया नहीं बात नहीं है

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
लड़के को वर्जिन लड़की क्यों चाहिए?Ladake Ko Varjin Ladakee Kyon Chaahie
सचिन पाठक Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए सचिन जी का जवाब
Unknown
2:08
नमस्कार मित्रों मैं सचिन पाठक पैसे उपस्थित हूं आपके समक्ष एक नए प्रश्न के उत्तर के साथ इस प्रश्न में जो भी क्या कहते हैं कांट्रडिक्शन दो शब्दों का फोन कनेक्शन होता है या फिर आप के चरित्र का कॉन्ट्रिब्यूशन सोता है वह दिखाता है कि आप जब देखते हैं कोई भी व्यक्ति मतलब 12 लड़कों में देखेंगे या फिर किसी भी मतलब आज मिलने देखेंगे क्या चाहते हैं कि जब वह शादी करें ठीक है तो उन्हें जो लड़की मिले वह हमेशा वर्जन मिले लेकिन अपनी चीजों को अपने गिरेबान में नहीं जीत जाकर देखते हैं क्या हुआ वर्जिन है कि नहीं वर्जिना क्योंकि वह किसी भी लड़की की वर्जिनिटी तोड़ने में सोचते हैं कि शादी से पहले वह वर्जिन ना रहे हैं वह किसी के साथ सेक्स करें किसी के साथ रहे उनके जस्टिफाइड होता है बिल्कुल ही गलत चीज है कि आप आप चीजों को अपने ऊपर ना लागू कर करते हुए हैं और आप दूसरे से दूसरी चीज एक्सपेक्ट करते हैं ठीक है आप किसी को उपदेश से या फिर आप कुछ चीजें अपने पर अगर आप दूसरे से चाहते हैं तो उन चीजों को सबसे पहले अपने पर लागू करें अन्यथा आप उस चीजों के काबिल नहीं है ठीक है आप उस चीजों के काबिल नहीं है तो यह बिल्कुल सरासर गलत है यह मांग बिल्कुल भी बहू थी कि यह किसी भी की जिंदगी की कदर कोई 18 साल से आए उसके बाद शादी करता है तो यह उसकी लाइफ से व्हाट एवरी वांट जो भी बचाता है वह सेक्स करना चाहता है तो करें ना करना चाहता तो ना करें यदि यह समझ पर निर्भर करता है और आपकी समझ पर निर्भर करता है ठीक है और जहां तक मुझे लगता है सब एजुकेशन काला कर दो कि हर कोई साक्षर तो हो जा रहा है पर एजुकेटेड नहीं होता है कि वह जो शिक्षा का महत्व होता है क्या सही है क्या गलत है उन चीजों को हम नहीं अभी तक हिंदी पाते हैं कि क्या तार्किक रूप से क्या चीज सही है सही है और क्या चीज गलत है उसका डिफरेंस करना हमें आना चाहिए कि क्या चीज सही है क्या चीज गलत है
Namaskaar mitron main sachin paathak paise upasthit hoon aapake samaksh ek nae prashn ke uttar ke saath is prashn mein jo bhee kya kahate hain kaantradikshan do shabdon ka phon kanekshan hota hai ya phir aap ke charitr ka kontribyooshan sota hai vah dikhaata hai ki aap jab dekhate hain koee bhee vyakti matalab 12 ladakon mein dekhenge ya phir kisee bhee matalab aaj milane dekhenge kya chaahate hain ki jab vah shaadee karen theek hai to unhen jo ladakee mile vah hamesha varjan mile lekin apanee cheejon ko apane girebaan mein nahin jeet jaakar dekhate hain kya hua varjin hai ki nahin varjina kyonki vah kisee bhee ladakee kee varjinitee todane mein sochate hain ki shaadee se pahale vah varjin na rahe hain vah kisee ke saath seks karen kisee ke saath rahe unake jastiphaid hota hai bilkul hee galat cheej hai ki aap aap cheejon ko apane oopar na laagoo kar karate hue hain aur aap doosare se doosaree cheej eksapekt karate hain theek hai aap kisee ko upadesh se ya phir aap kuchh cheejen apane par agar aap doosare se chaahate hain to un cheejon ko sabase pahale apane par laagoo karen anyatha aap us cheejon ke kaabil nahin hai theek hai aap us cheejon ke kaabil nahin hai to yah bilkul saraasar galat hai yah maang bilkul bhee bahoo thee ki yah kisee bhee kee jindagee kee kadar koee 18 saal se aae usake baad shaadee karata hai to yah usakee laiph se vhaat evaree vaant jo bhee bachaata hai vah seks karana chaahata hai to karen na karana chaahata to na karen yadi yah samajh par nirbhar karata hai aur aapakee samajh par nirbhar karata hai theek hai aur jahaan tak mujhe lagata hai sab ejukeshan kaala kar do ki har koee saakshar to ho ja raha hai par ejuketed nahin hota hai ki vah jo shiksha ka mahatv hota hai kya sahee hai kya galat hai un cheejon ko ham nahin abhee tak hindee paate hain ki kya taarkik roop se kya cheej sahee hai sahee hai aur kya cheej galat hai usaka dipharens karana hamen aana chaahie ki kya cheej sahee hai kya cheej galat hai

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
जब हम किसी अपने से दूर हो जाए और वह हमसे बात ना करें तो हमें क्या करना चाहिए?Jab Hum Kisi Apne Se Door Ho Jaye Aur Wah Humse Baat Na Karein To Hume Kya Karna Chahiye
Bhavesh Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Bhavesh जी का जवाब
West Bengal India is Great
1:34
जब हम किसी अपनों से दूर हो जाते हैं तो मैं क्या करना चाहिए सबसे पहले बहाना बनाना कोई नंबर दे दो उसको कॉल किया तो कॉल कर चलूंगा फ्री कॉल कर लीजिए नंबर ले तो उसे बुरा नहीं है फिर से बातचीत शुरू कर सकते हैं आप कॉल करते हो कब आते हो जाते हैं जो भी समझा जा सकता है और घर में घुस सकता हूं और सरप्राइस के के निकला करो उनको बुला सकते हो कि ऐसा हुआ मैं कॉल नहीं करता मैं आ गया तो यह भी एक तरह से तरीका अच्छा है तो यह सब तरीके वापिस माल करके आप कंटिन्यू कर सकते हो कोई बहुत बड़ी सोनी होता है जो आजकल आम बात हो गया है जब से फेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम और उनकी भी सच में हम सबके सामने आया है और इंटरनेट कितना सस्ता हो गया है हम सब को परेशान कर रही है तो
Jab ham kisee apanon se door ho jaate hain to main kya karana chaahie sabase pahale bahaana banaana koee nambar de do usako kol kiya to kol kar chaloonga phree kol kar leejie nambar le to use bura nahin hai phir se baatacheet shuroo kar sakate hain aap kol karate ho kab aate ho jaate hain jo bhee samajha ja sakata hai aur ghar mein ghus sakata hoon aur saraprais ke ke nikala karo unako bula sakate ho ki aisa hua main kol nahin karata main aa gaya to yah bhee ek tarah se tareeka achchha hai to yah sab tareeke vaapis maal karake aap kantinyoo kar sakate ho koee bahut badee sonee hota hai jo aajakal aam baat ho gaya hai jab se phesabuk vhaatsep instaagraam aur unakee bhee sach mein ham sabake saamane aaya hai aur intaranet kitana sasta ho gaya hai ham sab ko pareshaan kar rahee hai to

#रिश्ते और संबंध

Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
0:52
प्रश्न है कि अगर आपको कोई लड़की पसंद है और वह भी आपको पसंद करती है तो ऐसे में एक दूसरे की भावनाओं को एक दूसरे को बताना सही होगा देखिए यह सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है कुछ लोगों को आप देख रहे हैं शायद उनका आपको देखने का नजरिया उस तरह का ना हो जिस तरह का आप समझ रहे हो तो ऐसे में आपको सबसे पहले उनसे खुद ही बातचीत करके यह समझना होगा कि उसके मन में क्या है वैसे ही बिना वजह अगर आप अपने मन में उनको लेकर कुछ सोच रहे हो और वह आप गहन चिंतन में चले गए हो तो यह आपके लिए भी नुकसानदेह हो सकता है उनके लिए भी तो ऐसे में पहले ही बातों को आप तरीके से बोल देना और उन्हें बता देना ही अच्छा रहेगा धन्यवाद
Prashn hai ki agar aapako koee ladakee pasand hai aur vah bhee aapako pasand karatee hai to aise mein ek doosare kee bhaavanaon ko ek doosare ko bataana sahee hoga dekhie yah sabakee apanee-apanee pasand hotee hai kuchh logon ko aap dekh rahe hain shaayad unaka aapako dekhane ka najariya us tarah ka na ho jis tarah ka aap samajh rahe ho to aise mein aapako sabase pahale unase khud hee baatacheet karake yah samajhana hoga ki usake man mein kya hai vaise hee bina vajah agar aap apane man mein unako lekar kuchh soch rahe ho aur vah aap gahan chintan mein chale gae ho to yah aapake lie bhee nukasaanadeh ho sakata hai unake lie bhee to aise mein pahale hee baaton ko aap tareeke se bol dena aur unhen bata dena hee achchha rahega dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
आज का प्यार सच्चा है या झूठा यह आप कैसे पता कर सकते हैं कृपया विस्तार से बताइए?Aaj Ka Pyaar Sacha Hai Ya Jhutha Yah Aap Kese Pta Kar Sakte Hai Krpya Vistaar Se Batiye
Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
2:50
नमस्कार आप ने प्रश्न किया है कि आज का प्यार सच्चा है या झूठा आप कैसे पता कर सकते हैं कृपया विस्तार से बताइए तो देखिए ऐसा कुछ नहीं है कि आज का प्यार झूठा है आज का प्यार सच्चा है प्यार प्यार होता है उस पर आज और कल जैसा कुछ भी नहीं होता यार जैसे कल होता था वैसे ही आज भी होता है शायद हमेशा ही ऐसा ही होता रहेगा जैसा हमेशा से होता आया है हां जहां तक बात सच्चे और झूठी की है तो मुझे ऐसा लगता है सच्चा झूठा जैसा कुछ होता नहीं है हां कई बार क्या होता है कि आप चार और आकर्षण में कंफ्यूज हो जाते हैं और आप अट्रैक्शन को जो है वह प्यार समझने लगते हैं और अब से जब आपको धोखा मिल जाता है तो आपको लगता है कि यार भी झूठा प्यार था धोखा दे दिया मुझे ऐसा नहीं होता आपको अट्रैक्शन है तो आपको बिल्कुल धोखा मिल सकता है क्योंकि वह प्यार नहीं है और जो प्रेम है वह बिल्कुल प्योर होता है और उसे अच्छी चीज जो है वह कोई नहीं होती सबसे पहले आप खुद से प्रेम करें तभी आप यह समझ पाएंगे कि प्रेम जो है वह होता क्या है हमारे सच्चा प्रेम और झूठा प्रेम जैसा दरअसल कुछ होता ही नहीं है प्रेम होता है क्या होता है कि प्रेम होता क्या है क्रीम जो है वह आज से आपका एक्सेप्टेंस मानता है स्वीकार करते हैं पहले किसी को और उसके बाद आपको उससे प्रेम होता है और इन्फेक्शन में क्या होता है आपने उसको देखा आपको अच्छा लगा हो और फिर आपने उसको बोला कि आई लव यू और वह प्रेम हो गया पर जब धीरे-धीरे आप उसको और जाने लगेंगे और तुझे एक्सेप्ट करने की जब बारी आएगी तो वहां पर दिक्कतें पैदा हो जाएंगे और फिर वहां पर आप साथ नहीं रह पाएंगे और एक दूसरे से ब्रेकअप कर लेंगे फिर आपको लगेगा उसने मुझे धोखा दिया है यह झूठा प्यार था मैं तो समझता था कि अरे बिल्कुल सच्चा प्यार था पर यह तो झूठा प्यार है तो तब आप कंफ्यूज हो जाते हैं तो दरअसल प्रेम का मतलब यही होता है कि आप पहले उसे एक्सेप्ट करें और जैसा भी है और फिर उसके बाद आप उसे प्रेम करके जब आप ऐसा करेंगे तो ऐसा नहीं होगा कि आपको झूठा प्रेम सच्चा प्यार में डिफरेंट छेद करने की जरूरत पड़ेगी क्योंकि प्रेम जो है वह प्रेम होता है और वह बेहद खूबसूरत होता है मुझे उम्मीद है आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा धन्यवाद
Namaskaar aap ne prashn kiya hai ki aaj ka pyaar sachcha hai ya jhootha aap kaise pata kar sakate hain krpaya vistaar se bataie to dekhie aisa kuchh nahin hai ki aaj ka pyaar jhootha hai aaj ka pyaar sachcha hai pyaar pyaar hota hai us par aaj aur kal jaisa kuchh bhee nahin hota yaar jaise kal hota tha vaise hee aaj bhee hota hai shaayad hamesha hee aisa hee hota rahega jaisa hamesha se hota aaya hai haan jahaan tak baat sachche aur jhoothee kee hai to mujhe aisa lagata hai sachcha jhootha jaisa kuchh hota nahin hai haan kaee baar kya hota hai ki aap chaar aur aakarshan mein kamphyooj ho jaate hain aur aap atraikshan ko jo hai vah pyaar samajhane lagate hain aur ab se jab aapako dhokha mil jaata hai to aapako lagata hai ki yaar bhee jhootha pyaar tha dhokha de diya mujhe aisa nahin hota aapako atraikshan hai to aapako bilkul dhokha mil sakata hai kyonki vah pyaar nahin hai aur jo prem hai vah bilkul pyor hota hai aur use achchhee cheej jo hai vah koee nahin hotee sabase pahale aap khud se prem karen tabhee aap yah samajh paenge ki prem jo hai vah hota kya hai hamaare sachcha prem aur jhootha prem jaisa darasal kuchh hota hee nahin hai prem hota hai kya hota hai ki prem hota kya hai kreem jo hai vah aaj se aapaka ekseptens maanata hai sveekaar karate hain pahale kisee ko aur usake baad aapako usase prem hota hai aur inphekshan mein kya hota hai aapane usako dekha aapako achchha laga ho aur phir aapane usako bola ki aaee lav yoo aur vah prem ho gaya par jab dheere-dheere aap usako aur jaane lagenge aur tujhe eksept karane kee jab baaree aaegee to vahaan par dikkaten paida ho jaenge aur phir vahaan par aap saath nahin rah paenge aur ek doosare se brekap kar lenge phir aapako lagega usane mujhe dhokha diya hai yah jhootha pyaar tha main to samajhata tha ki are bilkul sachcha pyaar tha par yah to jhootha pyaar hai to tab aap kamphyooj ho jaate hain to darasal prem ka matalab yahee hota hai ki aap pahale use eksept karen aur jaisa bhee hai aur phir usake baad aap use prem karake jab aap aisa karenge to aisa nahin hoga ki aapako jhootha prem sachcha pyaar mein dipharent chhed karane kee jaroorat padegee kyonki prem jo hai vah prem hota hai aur vah behad khoobasoorat hota hai mujhe ummeed hai aapako aapake savaal ka javaab mil gaya hoga dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker
क्या चेहरा देख कर प्यार करना सही है?Kya Chehra Dekh Kar Pyaar Karna Sahi Hai
nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:13
सर आपका सवाल है कि क्या चेहरा देख कर प्यार करना सही है आंखें दोस्त वैसे तो आजकल लोग चेहरा देखकर के ही प्यार करते हैं और प्यार भी क्या करते हैं वह सिर्फ अपना मतलब साथ में के लिए दोस्ती कर लेते हैं और चेहरा जिस्म कारा देखते हैं आजकल आजकल तुम लोगों की जरूरत यहीं रह गई है प्यार तो आजकल सच है महीने में कहीं मिलेगा ही नहीं बहुत कम होगा 100 में से 10 लोग होंगे जो कि सच्चा प्यार करते हैं और उम्र भर साथ निभाते हैं और हर मुसीबत में काम आते हैं हर तरह की सहायता करते हैं तो ऐसे लोग पास कल की दुनिया में बहुत कम हो गए तो हमारा यह समझना तो भूल है कि चेहरा देखकर प्यार करते हैं लोग या सही है देखिए आपने कहावत सुनी होगी कि दिल आया गधी पर तो परी क्या चीज है तो इंसान कभी कभी कर बैठता है कि चेहरा देख लेता है बाकी सवाल नहीं देखता हूं मां की फिक्र नहीं देखता बाकी और काफी सारी चीजें जो जरूरी होती है वह सब चीजों को इग्नोर कर देता है उनको वह देखता ही नहीं यह सब गलत है और बाकी इंसानी परवर्ती का उस कह नहीं सकते चेहरा देखकर प्यार कीजिए या ना कीजिए यह तो आप अपने हिसाब से देखिए धन्यवाद
Sar aapaka savaal hai ki kya chehara dekh kar pyaar karana sahee hai aankhen dost vaise to aajakal log chehara dekhakar ke hee pyaar karate hain aur pyaar bhee kya karate hain vah sirph apana matalab saath mein ke lie dostee kar lete hain aur chehara jism kaara dekhate hain aajakal aajakal tum logon kee jaroorat yaheen rah gaee hai pyaar to aajakal sach hai maheene mein kaheen milega hee nahin bahut kam hoga 100 mein se 10 log honge jo ki sachcha pyaar karate hain aur umr bhar saath nibhaate hain aur har museebat mein kaam aate hain har tarah kee sahaayata karate hain to aise log paas kal kee duniya mein bahut kam ho gae to hamaara yah samajhana to bhool hai ki chehara dekhakar pyaar karate hain log ya sahee hai dekhie aapane kahaavat sunee hogee ki dil aaya gadhee par to paree kya cheej hai to insaan kabhee kabhee kar baithata hai ki chehara dekh leta hai baakee savaal nahin dekhata hoon maan kee phikr nahin dekhata baakee aur kaaphee saaree cheejen jo jarooree hotee hai vah sab cheejon ko ignor kar deta hai unako vah dekhata hee nahin yah sab galat hai aur baakee insaanee paravartee ka us kah nahin sakate chehara dekhakar pyaar keejie ya na keejie yah to aap apane hisaab se dekhie dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
4:13
नमस्कार आपने लिखा है कि हमारी शादी होगी हम भी मां बाप बनेंगे तो हम क्यों दहेज मांगते हैं में दहेज नहीं मांगना चाहिए कि हमारी भी बेटी होगी तो हमें भी हमेशा आगे सोच समझ कर चलना चाहिए दहेज का मतलब होता है विवाह के वक्त लड़की के घर से दी जाने वाली संपत्ति दक्षिण लड़की को दी जाती है बिना नहीं रह गई है दक्षिणा पहले हुआ करती थी ऐसा कहा जाता है कि पहली बार दहेज जो है वह दक्षिणा के रूप में पार्वती जी के घर से शिव जी को दिया गया था और वह इस परंपरा की शुरुआत हुई और आज इस परंपरा ने एक बहुत बड़ी सामाजिक कृति का रूप ले लिया है जो थमने का नाम नहीं ले रही है आपको बताओ यह पहले की बात और अभी जो दहेज का वह यह है मेरी समझ के अनुसार दहेज एक ऐसी राशि है जिससे मां बाप अपनी बेटी के लिए एक सूट योग्य वर खरीदने के लिए प्रयोग में लाते हैं उसका यूज़ करते हैं मां-बाप के पास जितना ज्यादा पैसा होगा अच्छा लड़का खरीदने के लिए उन्हें उतना ही अच्छा लड़का मिल जाएगा जिन लोगों के पास कम पैसा है उनकी बेटी को इतना अच्छा लड़का नहीं मिलेगा अगर आपके पास अच्छा सा साल ज्यादा पैसा है तो आप एक अच्छा लड़का खरीद सकते हैं अपनी बेटी के लिए जो डिमांड है कि वह लड़का कितने में बिकेगा वह खुद डिसाइड करेगा कि आप मुझे इतने पैसे दे दीजिए वरना आपकी बेटी से शादी कर लूंगा तो अभी जो दहेज है वही सीने बिजनेस है कि मामा की लड़की तुमको दे रहे हैं तुम्हें लड़की से शादी कर लो मैं तुमको इतना पैसा दूंगा तो तुम मैं भी खरीदा हूं तो दहेज का मतलब नहीं समझ रही है और इसे आपने लिखा है कि विदेश नहीं मांगना चाहिए तो देखी हमेशा बोल तो देते हैं कि नहीं मांगना चाहिए जो देखे नहीं मांगते हैं वह यह तो चाहते हैं कि तुमको तो वह ज्ञान दे देंगे कि तुम नहीं समझ लो पर जब उनकी बारी आएगी तो वह पीछे नहीं हटेंगे उनको दही एक कहावत है कि लोग हर कोई भगत सिंह चाहता तो है पर अपने घर में नहीं दूसरे के घर पर तो यहां भी वही चीज लागू होती है कि हम बोल तो देते हैं कि दहेज नहीं लेना चाहिए पर जब कुत्ते आती है तुम लेने से नहीं चूकते फिर आपने लिखा है कि हमारी भी बेटी होगी तो हमें आगे सोच समझ कर चलना चाहिए दहेज के बाद अब तू अभी भी है बहुत यूपी बिहार में तो यह बहुत ज्यादा चलता है अगर हम लोग ज्यादा पढ़े-लिखे हैं आफ एजुकेटेड है जहां में इतना नहीं जलता है या जो लव मैरिज कर लेते हैं इंटर कास्ट मैरिज करते हैं वहां भी दहेज इतना नहीं दिया जाता है पर अगर आप अरेंज मैरिज कर रहे हैं बिल्कुल प्रॉपर जाके रिश्ता रिश्ता ले रहे हैं तुम्हारे जो है वह आपको देना पड़ता है कंपलसरी है कह सकते हैं अब बात आ गई कि हमारी बेटी होगी तो देखे होता क्या आप एक एग्जांपल के तौर पर देखिए एक घर है वहां पर एक लड़का है एक लड़की है उसके मां-बाप लड़की की शादी कर रहे हैं और दिमाग में नहीं तो देंगे नहीं लेंगे पर उनको दे देना पड़ रहा है अपनी बेटी की शादी के लिए क्योंकि उनकी शादी नहीं हो रही है पिंकी लड़की की शादी हो जाएगी और वह अपने बेटे की शादी करेंगे तो दहेज लेंगे क्यों क्यों नहीं भेज दिया है तो उसे दहेज लेना लेने जाएगा अब जब देना बंद करेंगे ना तब तभी यह दहेज प्रथा नाम के लिए रोती है वह खत्म होगी तो यह कहा जा सकता है कि इस कृति को खत्म होने में वक्त तो लगेगा पर धीरे-धीरे यह बहुत कम होती जा रही है और कहा नहीं जा सकता कि एक कब तक रहेगी मुझे उम्मीद है कि आपको आपके प्रश्न का जवाब मिल गया होगा धन्यवाद
Namaskaar aapane likha hai ki hamaaree shaadee hogee ham bhee maan baap banenge to ham kyon dahej maangate hain mein dahej nahin maangana chaahie ki hamaaree bhee betee hogee to hamen bhee hamesha aage soch samajh kar chalana chaahie dahej ka matalab hota hai vivaah ke vakt ladakee ke ghar se dee jaane vaalee sampatti dakshin ladakee ko dee jaatee hai bina nahin rah gaee hai dakshina pahale hua karatee thee aisa kaha jaata hai ki pahalee baar dahej jo hai vah dakshina ke roop mein paarvatee jee ke ghar se shiv jee ko diya gaya tha aur vah is parampara kee shuruaat huee aur aaj is parampara ne ek bahut badee saamaajik krti ka roop le liya hai jo thamane ka naam nahin le rahee hai aapako batao yah pahale kee baat aur abhee jo dahej ka vah yah hai meree samajh ke anusaar dahej ek aisee raashi hai jisase maan baap apanee betee ke lie ek soot yogy var khareedane ke lie prayog mein laate hain usaka yooz karate hain maan-baap ke paas jitana jyaada paisa hoga achchha ladaka khareedane ke lie unhen utana hee achchha ladaka mil jaega jin logon ke paas kam paisa hai unakee betee ko itana achchha ladaka nahin milega agar aapake paas achchha sa saal jyaada paisa hai to aap ek achchha ladaka khareed sakate hain apanee betee ke lie jo dimaand hai ki vah ladaka kitane mein bikega vah khud disaid karega ki aap mujhe itane paise de deejie varana aapakee betee se shaadee kar loonga to abhee jo dahej hai vahee seene bijanes hai ki maama kee ladakee tumako de rahe hain tumhen ladakee se shaadee kar lo main tumako itana paisa doonga to tum main bhee khareeda hoon to dahej ka matalab nahin samajh rahee hai aur ise aapane likha hai ki videsh nahin maangana chaahie to dekhee hamesha bol to dete hain ki nahin maangana chaahie jo dekhe nahin maangate hain vah yah to chaahate hain ki tumako to vah gyaan de denge ki tum nahin samajh lo par jab unakee baaree aaegee to vah peechhe nahin hatenge unako dahee ek kahaavat hai ki log har koee bhagat sinh chaahata to hai par apane ghar mein nahin doosare ke ghar par to yahaan bhee vahee cheej laagoo hotee hai ki ham bol to dete hain ki dahej nahin lena chaahie par jab kutte aatee hai tum lene se nahin chookate phir aapane likha hai ki hamaaree bhee betee hogee to hamen aage soch samajh kar chalana chaahie dahej ke baad ab too abhee bhee hai bahut yoopee bihaar mein to yah bahut jyaada chalata hai agar ham log jyaada padhe-likhe hain aaph ejuketed hai jahaan mein itana nahin jalata hai ya jo lav mairij kar lete hain intar kaast mairij karate hain vahaan bhee dahej itana nahin diya jaata hai par agar aap arenj mairij kar rahe hain bilkul propar jaake rishta rishta le rahe hain tumhaare jo hai vah aapako dena padata hai kampalasaree hai kah sakate hain ab baat aa gaee ki hamaaree betee hogee to dekhe hota kya aap ek egjaampal ke taur par dekhie ek ghar hai vahaan par ek ladaka hai ek ladakee hai usake maan-baap ladakee kee shaadee kar rahe hain aur dimaag mein nahin to denge nahin lenge par unako de dena pad raha hai apanee betee kee shaadee ke lie kyonki unakee shaadee nahin ho rahee hai pinkee ladakee kee shaadee ho jaegee aur vah apane bete kee shaadee karenge to dahej lenge kyon kyon nahin bhej diya hai to use dahej lena lene jaega ab jab dena band karenge na tab tabhee yah dahej pratha naam ke lie rotee hai vah khatm hogee to yah kaha ja sakata hai ki is krti ko khatm hone mein vakt to lagega par dheere-dheere yah bahut kam hotee ja rahee hai aur kaha nahin ja sakata ki ek kab tak rahegee mujhe ummeed hai ki aapako aapake prashn ka javaab mil gaya hoga dhanyavaad

#रिश्ते और संबंध

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:13
सवाल है कि भारतीय समाज को किसी बात से कोई मतलब नहीं है बस में किसी को अनिवार्य रूप से अधिक रिलेशन में दोस्तों वो कहता है कि दोस्तों के साथ रिलेशन के साथ नहीं परंतु उन से मतलब नहीं रखता है तो मतलब रखता है आपके मन से और दूसरे वाले की मर्जी प्यार होता है और इसमें आपकी मां की आरती मां पिताजी के साथ के साथ में तारों की बात करें तो जैसे बंधन बन जाता है बच्चों जाती है और उसके पास जाने के लिए तू इंसान बनाता है ना कि कोई जानवर के साथ जानवर होता है
Savaal hai ki bhaarateey samaaj ko kisee baat se koee matalab nahin hai bas mein kisee ko anivaary roop se adhik rileshan mein doston vo kahata hai ki doston ke saath rileshan ke saath nahin parantu un se matalab nahin rakhata hai to matalab rakhata hai aapake man se aur doosare vaale kee marjee pyaar hota hai aur isamen aapakee maan kee aaratee maan pitaajee ke saath ke saath mein taaron kee baat karen to jaise bandhan ban jaata hai bachchon jaatee hai aur usake paas jaane ke lie too insaan banaata hai na ki koee jaanavar ke saath jaanavar hota hai

#रिश्ते और संबंध

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:11
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया अधिकतर लड़कों को एक से ज्यादा लड़कियों की तरफ अट्रैक्शन क्यों होता है इसके पीछे क्या रीजन है जबकि वह सच्चा लव भी करते हैं तो भी अन्य लड़कियों के साथ अटैच हो जाते हैं तो दोस्तों में बताना चाहता हूं कि यह आकर्षण जो है मनुष्य में चाहे स्त्री हो या पुरुष स्तर प्रदत्त है अगर आकर्षण नहीं आई होगा तो सृष्टि नहीं चलेगी तो विपरीत सेक्स के प्रति आकर्षण बनाया गया है तो लड़का है लड़कियों की सुंदरता के प्रति आकर्षित हो जाता है उसके व्यवहार से आकर्षित हो जाता है उसकी सारी की स्थिति को देखकर आकर्षित हो जाता है ऐसी लड़कियां भी आकर्षित होती है लेकिन लड़कियां को खुलकर बोलने की जैसे भारत में आजादी नहीं रही थी अब धीरे-धीरे शहरों में लड़कियां भी खुल कर बोल रही है लड़कियों के अपने भी मित्र बहुत सारे हैं वह भी आकर्षित होती है तो उत्तर प्रदेश है आकर्षण बना रहेगा तभी प्यार होगा तो यह प्राकृतिक चीज है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya adhikatar ladakon ko ek se jyaada ladakiyon kee taraph atraikshan kyon hota hai isake peechhe kya reejan hai jabaki vah sachcha lav bhee karate hain to bhee any ladakiyon ke saath ataich ho jaate hain to doston mein bataana chaahata hoon ki yah aakarshan jo hai manushy mein chaahe stree ho ya purush star pradatt hai agar aakarshan nahin aaee hoga to srshti nahin chalegee to vipareet seks ke prati aakarshan banaaya gaya hai to ladaka hai ladakiyon kee sundarata ke prati aakarshit ho jaata hai usake vyavahaar se aakarshit ho jaata hai usakee saaree kee sthiti ko dekhakar aakarshit ho jaata hai aisee ladakiyaan bhee aakarshit hotee hai lekin ladakiyaan ko khulakar bolane kee jaise bhaarat mein aajaadee nahin rahee thee ab dheere-dheere shaharon mein ladakiyaan bhee khul kar bol rahee hai ladakiyon ke apane bhee mitr bahut saare hain vah bhee aakarshit hotee hai to uttar pradesh hai aakarshan bana rahega tabhee pyaar hoga to yah praakrtik cheej hai dhanyavaad
URL copied to clipboard