#undefined

bolkar speaker
क्या चीन में व्यापार कर रहे अमेरिकी कंपनियां असमंजस में है?Kya Cheen Mein Vyaapaar Kar Rahe Amerikee Kampaniyaan Asamanjas Mein Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:59

#undefined

bolkar speaker
पाकिस्तान में इस समय के हालात के अनुसार भारत की जीडीपी की क्या कंडीशन है?Paakistaan Mein Is Samay Ke Haalaat Ke Anusaar Bhaarat Kee Jeedeepee Kee Kya Kandeeshan Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:43

#undefined

bolkar speaker
एक ट्रेन में आपके द्वारा अनुभव किए गए कुछ सबसे असहज अनुभव क्या है?Ek Train Mein Aapke Dwara Anubhav Kiye Gaye Kuchh Sabse Asahaj Anubhav Kya Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:55
हेलो जी गाना तो आज आप का सवाल है कि एक प्लेन में आपके द्वारा अनुभव किए गए तो सबसे अच्छा है जानू क्या करते समय के अनुसार एक्सपीरियंस इंसान को मतलब मिलता है चाहे वह फंक्शन एक्सपीरियंस हो या फिर बहुत सारी रात करते हैं आप सब लोग सो रहे हो और फिर अगर आप गलती से भी डाउन हो जाता है फिर कोई वजह से आपको जाना हो सके तो आप लाइट ऑन करके तो बहुत ज्यादा डिस्टर्ब हो जाते चीनी लगते हैं इंसान मतलब जो चाहिए वह इसीलिए इतना पैसा लगाया था क्यों अच्छे से सो सके अच्छे से रेस्ट कर सके नो डाउट यह अच्छी भी चीज देखी है रेस्ट करना चाहिए लेकिन अगर कोई किसी को किसी चीज के लिए रखा फ्लैशलाइट ऑन कर रहा है तो यह कंपार्टमेंट है कि हरेक लोगों को कॉर्पोरेट करना भी जरूरी है कोई किसी काम की वजह से करो तो चिल्लाना नहीं तो मैंने बहुत बार देखा है कि लोग चिल्लाते हैं और दूसरी चीज मैंने यह देखा है कि अगर मेरी कुछ पानी वगैरह कर गिर जाता है ट्रेन में या फिर अगर गलती से बोतल से कुछ भी चीज लिखो जा रहा है तो लोग बहुत ज्यादा चिल्लाते हैं गुस्सा होने लगते हैं एकदम झा लड़ाई झगड़ा होने लगता है सिर्फ को लेकर लड़ाई झगड़ा कर किसी की सीट में आपने कुछ गिरा दिया तो यह सब चीजें था मैंने देखा है कि लोग छोटी छोटी चीजों पर बहुत ज्यादा गुस्सा हो जाता है बहुत ज्यादा लड़ते जहां पर एक शांति से और किसी के भी गलती कोई जानबूझकर ऐसा गलती नहीं किया क्योंकि वहां से उसे भी जाना है वह जानू कैसे नहीं गिरेगा जानबूझकर कोई किसी को परेशान करने के लिए लाइट ऑन नहीं करेगा यह सोच समझकर अच्छे से मतलब जाना चाहिए जर्नी अच्छे से यात्रा करना चाहिए लेकिन लोग छोटी छोटी चीजों पर बहुत ज्यादा लड़ते मैंने देखा
Helo jee gaana to aaj aap ka savaal hai ki ek plen mein aapake dvaara anubhav kie gae to sabase achchha hai jaanoo kya karate samay ke anusaar eksapeeriyans insaan ko matalab milata hai chaahe vah phankshan eksapeeriyans ho ya phir bahut saaree raat karate hain aap sab log so rahe ho aur phir agar aap galatee se bhee daun ho jaata hai phir koee vajah se aapako jaana ho sake to aap lait on karake to bahut jyaada distarb ho jaate cheenee lagate hain insaan matalab jo chaahie vah iseelie itana paisa lagaaya tha kyon achchhe se so sake achchhe se rest kar sake no daut yah achchhee bhee cheej dekhee hai rest karana chaahie lekin agar koee kisee ko kisee cheej ke lie rakha phlaishalait on kar raha hai to yah kampaartament hai ki harek logon ko korporet karana bhee jarooree hai koee kisee kaam kee vajah se karo to chillaana nahin to mainne bahut baar dekha hai ki log chillaate hain aur doosaree cheej mainne yah dekha hai ki agar meree kuchh paanee vagairah kar gir jaata hai tren mein ya phir agar galatee se botal se kuchh bhee cheej likho ja raha hai to log bahut jyaada chillaate hain gussa hone lagate hain ekadam jha ladaee jhagada hone lagata hai sirph ko lekar ladaee jhagada kar kisee kee seet mein aapane kuchh gira diya to yah sab cheejen tha mainne dekha hai ki log chhotee chhotee cheejon par bahut jyaada gussa ho jaata hai bahut jyaada ladate jahaan par ek shaanti se aur kisee ke bhee galatee koee jaanaboojhakar aisa galatee nahin kiya kyonki vahaan se use bhee jaana hai vah jaanoo kaise nahin girega jaanaboojhakar koee kisee ko pareshaan karane ke lie lait on nahin karega yah soch samajhakar achchhe se matalab jaana chaahie jarnee achchhe se yaatra karana chaahie lekin log chhotee chhotee cheejon par bahut jyaada ladate mainne dekha

#undefined

bolkar speaker
भारत एवं बांग्लादेश के बीच तनाव के कारण बताइए?Bharat Evam Bangladesh Ke Beech Tanaav Ke Karan Btaiye
Laxmi Ahirwar  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Unknown
1:38
भारत एवं बांग्लादेश दोनों पड़ोसी देशों में तनाव के कारण इस प्रकार से हैं पहला गंगा ब्रह्मपुत्र नदी के जल में सिरारी को लेकर भारत एवं बांग्लादेश के बीच तनाव बना रहता है ल विवाद को लेकर भी भारत एवं बांग्लादेश संबंधों में तनाव का एक कारण है भारत एवं बांग्लादेश में प्राकृतिक गैस के निर्यात को लेकर भी तनाव बना हुआ है बांग्लादेश भारत के विरुद्ध कट्टर इस्लामी रोधी का समर्थन करता है इसलिए भारत एवं बांग्लादेश के बीच तनाव बना हुआ है और एक अंतिम एक कारण वाहन बांग्लादेश के अप्रवासी कारण जो कि भारत में आकर बस गए इससे बांग्लादेश और भारत के बीच तनाव व्याप्त है
Bhaarat evan baanglaadesh donon padosee deshon mein tanaav ke kaaran is prakaar se hain pahala ganga brahmaputr nadee ke jal mein siraaree ko lekar bhaarat evan baanglaadesh ke beech tanaav bana rahata hai la vivaad ko lekar bhee bhaarat evan baanglaadesh sambandhon mein tanaav ka ek kaaran hai bhaarat evan baanglaadesh mein praakrtik gais ke niryaat ko lekar bhee tanaav bana hua hai baanglaadesh bhaarat ke viruddh kattar islaamee rodhee ka samarthan karata hai isalie bhaarat evan baanglaadesh ke beech tanaav bana hua hai aur ek antim ek kaaran vaahan baanglaadesh ke apravaasee kaaran jo ki bhaarat mein aakar bas gae isase baanglaadesh aur bhaarat ke beech tanaav vyaapt hai

#undefined

bolkar speaker
सऊदी अरब के लोग बाइक क्यों नहीं पसंद करते है?Saudi Arab Ke Log Bike Kyun Nahin Pasand Karte Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
0:40
काराकाट वाले सऊदी अरब की लुगाई को क्यों नहीं पसंद करते हैं लेकिन सॉरी यार अब एक अमीर देते हैं और वहां पर बहुत सारे देशों के लोग वहां पर कमाने जाते हैं और सऊदी अरब में पिक्चर नहीं बल्कि चार पहिया गाड़ी तो चलना सीखना जाता है सूरज माना जाता है इसलिए वहां के लोगों ने गाड़ी को पसंद करते हैं आप देखेंगे कि यह गरीब के गरीब व्यक्ति के घर में भी चार पहिया गाड़ी रहता है वहां पर बाइक नेता नहीं होती है घूमना पसंद करते हैं
Kaaraakaat vaale saoodee arab kee lugaee ko kyon nahin pasand karate hain lekin soree yaar ab ek ameer dete hain aur vahaan par bahut saare deshon ke log vahaan par kamaane jaate hain aur saoodee arab mein pikchar nahin balki chaar pahiya gaadee to chalana seekhana jaata hai sooraj maana jaata hai isalie vahaan ke logon ne gaadee ko pasand karate hain aap dekhenge ki yah gareeb ke gareeb vyakti ke ghar mein bhee chaar pahiya gaadee rahata hai vahaan par baik neta nahin hotee hai ghoomana pasand karate hain

#undefined

bolkar speaker
LPG सिलेंडर के दाम इतना क्यों बढ़ रहा है?Lpg Cylinder Ke Daam Itna Kyun Badh Raha Hai
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
4:58
एलपीजी सिलेंडर के दाम कितने क्यों बढ़ रहा है अब हम इसके साहिल के अंदर चलते हैं इसके पीछे का एक्चुअल क्या रीजन है उसे जनवरी 2014 में इसके दाम बढ़े थे उसके बाद में यह सब्सिडी रेट पर चल रहा है 14 पॉइंट 1 किलो का यह सिलेंडर होता है अभी इसके दाम जो है 144 से लेकर डेड सो रुपए के आसपास मेट्रो सिटीज में पड़ चुके हैं यह दाम इसके पहले 2019 में भी कुछ सकती ₹10 से गवर्नमेंट ने बढ़ाए थे अब होता क्या है कि यह प्राइस डिसाइड कैसे होता है क्या होता है कि एक कंपनी है कंपनी का नाम है सऊदी अरामको सऊदी अरामको एक गैस बनाती है उसका नाम है प्रोपेन हमें पास जो हमारे पास जो एलपीजी आती है लेकिन फाइट पेट्रोलियम गैस सिलेंडर होता है इसके अंदर में प्रोटीन प्लस ब्यूटेन इन दोनों का मिश्रण होता है यह ज्ञात हम कुकिंग में जो घर में सिलेंडर उसका है उसके अंदर यह गैस हम यहां पैदा नहीं करते हैं यह गैस सऊदी अरामको कंपनी है यह वहां से यहां पर अब सऊदी व्यास बनाती कहते हैं यह सऊदी यह गैस बनाती है ऑयल से क्रूड ऑयल से तो ऑयल के प्राइस एस के ऊपर इनके गैस के प्रोडक्शन का कॉस्ट डिपेंड होता है अब यहां से निकलता है गैस और यह कई देशों को देता है जो भी कई देशों को देता है तो वह अपने देश तक उस ज्ञान को अपने देश तक पहुंचने के लिए उसने उनको खर्चा आता है जैसे फ्रेट का खर्चा हो गया उसके बाद में बोर्डिंग प्राइस ओसियन फ्रेश होते हैं कस्टम ड्यूटी एयरपोर्ट ड्यूटी लग जाती उनको किसी भी देश में यूआईटीपी जो होता है यह सऊदी अरामको से ही क्यों लिया जाता है क्योंकि सऊदी अरामको के जो एलपीजी के प्राइस को बेंच मार्क पकड़ा जाता है देश पूरे वर्ल्ड के अंदर में किसी ना किसी चीज को बेंचमार्क लेना पड़ेगा इनको इतना खर्चा आता है तो वह बेंच मार्क पकड़ा जाता है उसके प्राइस क्वालिटी के साथ में जोड़ा जाता है अब यह कैसे निकला जाता है कि आप इंडिया के अंदर में यह प्रोपेन कितने रुपए में पहुंचा दे सब खर्चा जोड़कर कितने रुपए में इंडिया में यह ₹2 तक पहुंच गया है इंडिया में प्रोपेन आपके जब आप कहां पहुंचा है उसके बाद क्या होता है को पेमेंट जब करते हम तेरे पेमेंट ग्रुप में नहीं करते हम तो उन्होंने करते मान लो कि मुझे एक $1 का गैस पड़ गया $1 के मुकाबले रुपए की कीमत चल रही है ₹65 अगर एक एग्जांपल है पैसा है तो मुझे क्या करना पड़ेगा ₹65 बैंक को देने पड़ेंगे बैंक मुझे $1 देगा उसे डॉलर सऊदी अरामको कंपनी को दूंगा और वह दे देगी राम को मुझे यह ला कर देगी और उसके लिए मैं सिम गया इस किले को $1 मुझे कर देना बैंक मुझे बोलेगी अभी मुझे ₹72 दीजिए क्योंकि अभी डॉलर एक्सचेंज रेट बढ़ चुका है हम उनको ₹72 दूंगा $1 महीना हो गया है और मैं $1 खरीद के उनको दूंगा क्योंकि इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन डॉलर होते नहीं होते और मुझे तो देंगे रेट भी बढ़ गया क्योंकि अभी डॉलर की कीमत ₹72 रेट बढ़ गया अपने आप होने के वजह से उनके प्रोटीन बनाने में उनको फर्क पड़ा क्वेश्चन के ब्रेक में फर्क पड़ा कस्टम ड्यूटी बहुत सारी चीजों को लेकर उसके फर्क पड़ता है और इसके अंदर जो प्रोपेन की प्राइस है अभी जनवरी के अंदर में एक सिम कंपनी ने प्रोपेन के उपाय से 565 बार और 565 और मैट्रिक पहन कर दी थी दिसंबर में ₹440 का $440 मैट्रिक संतति इसका मतलब प्राइस ऑलरेडी वहां से बढ़ चुकी है तो यह इनक्रीस प्राइस जॉब हुई इनकी तो इन्होंने जीएचएस अपने को प्राइस में पड़ी आई पी पी के थ्रू इंपोर्ट पैरट प्राइस के थ्रू व जब हमारे पास में आई तो हमने डॉलर महंगा होने की वजह से वह भी महंगा खरीदा तो हमारे पास आते आते ज्ञात हो कि मैं गवर्नमेंट को ज्ञात कितनी महंगी पड़े लेकिन गवर्नमेंट इतना महंगा अगर करके भेजें तो एक सिलेंडर की कीमत बहुत ज्यादा बढ़ जाती है इसलिए गवर्नमेंट ने सब्सिडी देती है हमने देखा होगा कि हमारे जो कि मैं उसके अंदर सब्सिडी हम लोग पैसे भी लेते हैं अरे हम लोग जब गैस सिलेंडर खरीदते हैं हम जो भी पेमेंट करते हैं उसकी सब्सिडी हमारे अकाउंट में वापस आती है अगर गैस महीना हो जाएगा तो गवर्नमेंट सब्सिडी बढ़ा देता है जो उनके साथ में यह होता है कि वह सब्सिडी बढ़ा देती है गवर्नमेंट कुल मिलाकर यह मैंने जो होता है ज्ञात के प्राइस तो रिश्ते
Elapeejee silendar ke daam kitane kyon badh raha hai ab ham isake saahil ke andar chalate hain isake peechhe ka ekchual kya reejan hai use janavaree 2014 mein isake daam badhe the usake baad mein yah sabsidee ret par chal raha hai 14 point 1 kilo ka yah silendar hota hai abhee isake daam jo hai 144 se lekar ded so rupe ke aasapaas metro siteej mein pad chuke hain yah daam isake pahale 2019 mein bhee kuchh sakatee ₹10 se gavarnament ne badhae the ab hota kya hai ki yah prais disaid kaise hota hai kya hota hai ki ek kampanee hai kampanee ka naam hai saoodee araamako saoodee araamako ek gais banaatee hai usaka naam hai propen hamen paas jo hamaare paas jo elapeejee aatee hai lekin phait petroliyam gais silendar hota hai isake andar mein proteen plas byooten in donon ka mishran hota hai yah gyaat ham kuking mein jo ghar mein silendar usaka hai usake andar yah gais ham yahaan paida nahin karate hain yah gais saoodee araamako kampanee hai yah vahaan se yahaan par ab saoodee vyaas banaatee kahate hain yah saoodee yah gais banaatee hai oyal se krood oyal se to oyal ke prais es ke oopar inake gais ke prodakshan ka kost dipend hota hai ab yahaan se nikalata hai gais aur yah kaee deshon ko deta hai jo bhee kaee deshon ko deta hai to vah apane desh tak us gyaan ko apane desh tak pahunchane ke lie usane unako kharcha aata hai jaise phret ka kharcha ho gaya usake baad mein bording prais osiyan phresh hote hain kastam dyootee eyaraport dyootee lag jaatee unako kisee bhee desh mein yooaeeteepee jo hota hai yah saoodee araamako se hee kyon liya jaata hai kyonki saoodee araamako ke jo elapeejee ke prais ko bench maark pakada jaata hai desh poore varld ke andar mein kisee na kisee cheej ko benchamaark lena padega inako itana kharcha aata hai to vah bench maark pakada jaata hai usake prais kvaalitee ke saath mein joda jaata hai ab yah kaise nikala jaata hai ki aap indiya ke andar mein yah propen kitane rupe mein pahuncha de sab kharcha jodakar kitane rupe mein indiya mein yah ₹2 tak pahunch gaya hai indiya mein propen aapake jab aap kahaan pahuncha hai usake baad kya hota hai ko pement jab karate ham tere pement grup mein nahin karate ham to unhonne karate maan lo ki mujhe ek $1 ka gais pad gaya $1 ke mukaabale rupe kee keemat chal rahee hai ₹65 agar ek egjaampal hai paisa hai to mujhe kya karana padega ₹65 baink ko dene padenge baink mujhe $1 dega use dolar saoodee araamako kampanee ko doonga aur vah de degee raam ko mujhe yah la kar degee aur usake lie main sim gaya is kile ko $1 mujhe kar dena baink mujhe bolegee abhee mujhe ₹72 deejie kyonki abhee dolar eksachenj ret badh chuka hai ham unako ₹72 doonga $1 maheena ho gaya hai aur main $1 khareed ke unako doonga kyonki intaraneshanal traanjaikshan dolar hote nahin hote aur mujhe to denge ret bhee badh gaya kyonki abhee dolar kee keemat ₹72 ret badh gaya apane aap hone ke vajah se unake proteen banaane mein unako phark pada kveshchan ke brek mein phark pada kastam dyootee bahut saaree cheejon ko lekar usake phark padata hai aur isake andar jo propen kee prais hai abhee janavaree ke andar mein ek sim kampanee ne propen ke upaay se 565 baar aur 565 aur maitrik pahan kar dee thee disambar mein ₹440 ka $440 maitrik santati isaka matalab prais olaredee vahaan se badh chukee hai to yah inakrees prais job huee inakee to inhonne jeeeches apane ko prais mein padee aaee pee pee ke throo import pairat prais ke throo va jab hamaare paas mein aaee to hamane dolar mahanga hone kee vajah se vah bhee mahanga khareeda to hamaare paas aate aate gyaat ho ki main gavarnament ko gyaat kitanee mahangee pade lekin gavarnament itana mahanga agar karake bhejen to ek silendar kee keemat bahut jyaada badh jaatee hai isalie gavarnament ne sabsidee detee hai hamane dekha hoga ki hamaare jo ki main usake andar sabsidee ham log paise bhee lete hain are ham log jab gais silendar khareedate hain ham jo bhee pement karate hain usakee sabsidee hamaare akaunt mein vaapas aatee hai agar gais maheena ho jaega to gavarnament sabsidee badha deta hai jo unake saath mein yah hota hai ki vah sabsidee badha detee hai gavarnament kul milaakar yah mainne jo hota hai gyaat ke prais to rishte

#undefined

bolkar speaker
दुनिया का कौन सा एकमात्र ऐसा इंसान है जो बरमुडा ट्रायंगल से जिंदा बचकर आया था?Duniya Ka Kaun Sa Ekmaatr Aisa Insaan Hai Jo Barmuda Triangle Se Jinda Bachkar Aaya Tha
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:54
नमस्कार साथियों आप का सवाल है दुनिया का कौन सा एकमात्र ऐसा इंसान है जो बरमूडा ट्रायंगल से जिंदा बचकर आया था तो मित्रों आपके जवाब का उत्तर यह है कि कॉलम ही वह पहला शक था जिनका सामना ब्राह्मण टाटा एजेंसी ही हुआ और उन्होंने अपने लेख में भी इस चीज का वर्णन है और इस त्रिकोण में होने वाली गतिविधियों का जिक्र करता है बरमूडा त्रिकोण के पास पहुंचे थे और उंगली कंपास दिशा बताने वाला यंत्र ने भी काम करना बंद कर दिया था जो दुनिया का वही एक तथा जिनका प्रमुरा टाइगर जिंदाबाद करें आए थे जाने वालों को खोलो
Namaskaar saathiyon aap ka savaal hai duniya ka kaun sa ekamaatr aisa insaan hai jo baramooda traayangal se jinda bachakar aaya tha to mitron aapake javaab ka uttar yah hai ki kolam hee vah pahala shak tha jinaka saamana braahman taata ejensee hee hua aur unhonne apane lekh mein bhee is cheej ka varnan hai aur is trikon mein hone vaalee gatividhiyon ka jikr karata hai baramooda trikon ke paas pahunche the aur ungalee kampaas disha bataane vaala yantr ne bhee kaam karana band kar diya tha jo duniya ka vahee ek tatha jinaka pramura taigar jindaabaad karen aae the jaane vaalon ko kholo

#undefined

bolkar speaker
चीन में जनवादी गणराज्य की स्थापना कब हुई?China Mein Janvadi Ganraajy Kee Sthapna Kab Hui
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:31
मित्रों आपका सवाल है चीन में जनवादी गणराज्य की स्थापना कब हुई तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से चीन जनवादी गणराज्य की स्थापना 1 अक्टूबर 1960 को हुई थी जब सामने वादियों ने गृह युद्ध में गोविंदा कर जीत प्राप्त की थी धन्यवाद साथियों खुश रहो
Mitron aapaka savaal hai cheen mein janavaadee ganaraajy kee sthaapana kab huee to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se cheen janavaadee ganaraajy kee sthaapana 1 aktoobar 1960 ko huee thee jab saamane vaadiyon ne grh yuddh mein govinda kar jeet praapt kee thee dhanyavaad saathiyon khush raho

#undefined

bolkar speaker
अमेरिका जैसे विकसित देशों में भिखारी क्यों नहीं होते हैं?Amerika Jaise Viksit Deshon Mein Bhikhari Kyun Nahin Hote Hain
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 mission Indian Army🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
1:25
नमस्कार दोस्तों कैसे हैं वाले अमेरिका जैसे विकसित देशों में भिखारी क्यों नहीं होते थे कि सबसे पहले तो आपकी यह गलतफहमी है कि अमेरिका जैसे विकसित देश में अधिकारी नहीं होती है उसका चाहे जितना भी संपन्न देशों तुमने विकास जरूर दें क्योंकि ऐसे बहुत से लोग होते हैं जो मेरे काम करने के काबिल नहीं होते और वह बेचारे अनाथ होते तो मानता हूं कि वह अमेरिका इतना पैसा वाला लेकिन जो वक्त पर काम नहीं करेगा उसे ऐसी फालतू में थोड़ी ना पैसा मिल जाएगा वह भी अपनी जीविका चलाने के लिए कुछ ना कुछ करता होगा लेकिन क्या करें कि वह अपने सारे दिन काम करने के काबिल नहीं है तो इसलिए मुझे भीख मांग कर अपना जीवन यापन करता है लेकिन वहां पर भी जो भिखारी होते वह भी काफी संपन्न होते हैं आप पर मैं जब हमारे यहां जो मतलब थोड़ा संपन्न लोगों की श्रेणी में आते हैं तुम आकर दिखा देना हमारे यहां के संपन्न लोगों की सीडी के समान ही होते हैं उनका केवल नाम तो वहां की लेवल के हिसाब से वह भिखारी होते हैं लेकिन अगर वह हमारे इंडिया में आ जाए तो यहां तो काफी पैसा वाले माने जाएंगे ना उनके पास पैसा होता है उनके पास में जब चार पहिया गाड़ी होती है और हर एक चीज उपलब्ध होती है लेकिन वहां पर मुझे भिकारी माना जाता है क्योंकि उनसे भी बड़े बड़े लोग वहां पर रहते हैं जिनके पास काफी पैसा है काफी संपन्न ने उम्मीद करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा होगा धन्यवाद
Namaskaar doston kaise hain vaale amerika jaise vikasit deshon mein bhikhaaree kyon nahin hote the ki sabase pahale to aapakee yah galataphahamee hai ki amerika jaise vikasit desh mein adhikaaree nahin hotee hai usaka chaahe jitana bhee sampann deshon tumane vikaas jaroor den kyonki aise bahut se log hote hain jo mere kaam karane ke kaabil nahin hote aur vah bechaare anaath hote to maanata hoon ki vah amerika itana paisa vaala lekin jo vakt par kaam nahin karega use aisee phaalatoo mein thodee na paisa mil jaega vah bhee apanee jeevika chalaane ke lie kuchh na kuchh karata hoga lekin kya karen ki vah apane saare din kaam karane ke kaabil nahin hai to isalie mujhe bheekh maang kar apana jeevan yaapan karata hai lekin vahaan par bhee jo bhikhaaree hote vah bhee kaaphee sampann hote hain aap par main jab hamaare yahaan jo matalab thoda sampann logon kee shrenee mein aate hain tum aakar dikha dena hamaare yahaan ke sampann logon kee seedee ke samaan hee hote hain unaka keval naam to vahaan kee leval ke hisaab se vah bhikhaaree hote hain lekin agar vah hamaare indiya mein aa jae to yahaan to kaaphee paisa vaale maane jaenge na unake paas paisa hota hai unake paas mein jab chaar pahiya gaadee hotee hai aur har ek cheej upalabdh hotee hai lekin vahaan par mujhe bhikaaree maana jaata hai kyonki unase bhee bade bade log vahaan par rahate hain jinake paas kaaphee paisa hai kaaphee sampann ne ummeed karata hoon savaal ka javaab achchha laga hoga dhanyavaad

#undefined

bolkar speaker
क्या चीनी लोग अपने देश के अलावा किसी और देश का सामान इस्तेमाल करते होंगे?Kya Chini Log Apne Desh Ke Alawa Kisi Aur Desh Ka Saamaan Istemaal Karte Honge
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:33
डिवाइन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या चीनी लोग अपने देश के अलावा किसी और देश का समान इस्तेमाल करते होंगे जी आप फ्रेंड्स जो प्रोडक्ट चीन में नहीं बनते होंगे या ज्योति जयंती मतलब नहीं होती होंगी तो मैं बाहर के देशों से भी मना कर जरूर कमाल करते हुए क्योंकि हर देश में हर चीज पैदा नहीं होती है हर चीज का उत्पादन हर देश में नहीं होता है जो चीज किसी देश में मोदी में तो सीधे सभी मनाई जाती है इसलिए चीन में भी जो वफादार नहीं होता वह दूसरी जगह से मंगा कर लोग इस्तेमाल जरूर करते होंगे धन्यवाद
Divain svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya cheenee log apane desh ke alaava kisee aur desh ka samaan istemaal karate honge jee aap phrends jo prodakt cheen mein nahin banate honge ya jyoti jayantee matalab nahin hotee hongee to main baahar ke deshon se bhee mana kar jaroor kamaal karate hue kyonki har desh mein har cheej paida nahin hotee hai har cheej ka utpaadan har desh mein nahin hota hai jo cheej kisee desh mein modee mein to seedhe sabhee manaee jaatee hai isalie cheen mein bhee jo vaphaadaar nahin hota vah doosaree jagah se manga kar log istemaal jaroor karate honge dhanyavaad
URL copied to clipboard