#undefined

bolkar speaker

अमेरिका में सत्ता के लिए हुए संघर्ष पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?

America Mein Satta Ke Liye Hue Sangharsh Par Apki Kya Pratikriya Hai
Sanjeev Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sanjeev जी का जवाब
Financial consultant and Ex banker
1:02
आपका सवाल अमेरिका में सत्ता के लिए संघर्ष का विद्यापति क्रिया है तो इसमें जो डोनाल्ड ट्रम को भाई डेंकी जो जीत हुई है उसको मारना चाहिए और शांति पूर्वक अपने पद को मायडेन को हस्तांतरित कर देना चाहिए क्योंकि अमेरिका पूरे विश्व को एक तरह से डिलीट करता है और ऐसी घटनाएं अमेरिका को शोभा नहीं देती हैं तो अमेरिका में जो घटना हुई है ऐसी घटना 200 साल पहले हुई थी 1814 में जब अंग्रेजों ने अमेरिकी सांसद कैपिटल हिल को निर्देश में आग लगा दिया था तो यह बहुत ही शर्मनाक घटना हुई जो अभी कैप्टन हेल्पेड डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने किया तो मैं यह कहना चाहता हूं कि इसमें डोनाल्ड ट्रम को शांति पूर्वक अपने पद से हटना चाहिए और इसका हस्तांतरण वेडिंग कर देना चाहिए
Aapaka savaal amerika mein satta ke lie sangharsh ka vidyaapati kriya hai to isamen jo donaald tram ko bhaee denkee jo jeet huee hai usako maarana chaahie aur shaanti poorvak apane pad ko maayaden ko hastaantarit kar dena chaahie kyonki amerika poore vishv ko ek tarah se dileet karata hai aur aisee ghatanaen amerika ko shobha nahin detee hain to amerika mein jo ghatana huee hai aisee ghatana 200 saal pahale huee thee 1814 mein jab angrejon ne amerikee saansad kaipital hil ko nirdesh mein aag laga diya tha to yah bahut hee sharmanaak ghatana huee jo abhee kaiptan helped donaald tramp ke samarthakon ne kiya to main yah kahana chaahata hoon ki isamen donaald tram ko shaanti poorvak apane pad se hatana chaahie aur isaka hastaantaran veding kar dena chaahie

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अमेरिका में सत्ता के लिए हुए संघर्ष पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?America Mein Satta Ke Liye Hue Sangharsh Par Apki Kya Pratikriya Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
5:07
कर दोस्तों जैसा कि सवाल किया गया अमेरिका में सत्ता के लिए हुए संगत पर आपकी क्या प्रतिक्रिया तक बात की गई अमेरिका में सत्ता को लेकर हुए संघर्ष अमेरिका के अंदर जो है दोस्तों श्वेत अश्वेत इंतजार हमने पहले से देखते हुए और उसके बाद जो सत्ता को हथियाने के लिए भी अभी वहां की पॉलिसी आप पढ़े तो देख कि वहां पर ऐसा होता रहता है नहीं हुआ अमेरिका में वर्तमान समय में जो चीजें चल रहे हैं दोस्तों को कभी डोनाल्ड ट्रंप जो थे वह अपने फर्स्ट कार्यकाल उन्होंने भी हाल में पूरा करने जा रहे हैं और उन्होंने जो है इसलिए सत्ता में आए थे क्योंकि जो एक बड़ा समूह तवा पर गौरव गौरव का उन्होंने उनको समर्थन किया था परंतु जहां तक ब्लैक लोगों की बात की जाए उन में से 99 पॉइंट जो लोग हैं उन लोगों ने डॉनल्ड ट्रंप को समर्थन नहीं किया गया उन्होंने बताया गया कि जो रूस था उन्होंने चुनाव में कुछ धांधली शादी की थी जिसके चलते डोनाल्ड ट्रंप जाते हैं और उन्होंने अमर के हार को स्वीकार करते हैं कि पता कीजिए और के पास जाएं क्योंकि कुछ गुप्त जानकारियां हो या कुछ और चीजें वह डोनाल्ड ट्रंप ने हाथ रखना चाहते हैं कि एजेंसी ने यह दावा भी किया था कि डोनाल्ड ट्रंप के हाथी सत्ता चली गई तो हो सकता है कि हमारे परमाणु हथियारों की हत्यारी तैयारी है उनकी जानकारी को दुश्मन को दे सकते हैं डोनाल्ड ट्रंप चुनाव हार गए दोस्तों तो इनको बड़ा दुख सा लग रहा है और इस दुख के चलते उन्होंने क्या किया है कि जो रिपब्लिक जो समर्थक थे गोरे जो लोग थे इनको उन्होंने एकजुट करके उनको इस तरीके से एक दंगे भड़काने का काम कर दिया डोनाल्ड ट्रंप किस तरीके से भारत के अंदर होते हैं सिस्टम जगह दंगे कराना जातिवाद करना इत्यादि करना और राजनीति में आ जाना डोनाल्ड ट्रंप उस चीज के ऊपर खरे उतरते हैं परंतु ऐसी कोई बात नहीं है डॉनल्ड ट्रंप दंगे करवाने में सबसे आगे रहे अब तक की प्रगति मां के अमेरिका के राष्ट्रपति की बात की जाए तो इस मामले में हार गए तो दंगे करवा रहे हैं ऐसे तो को आपने देखा होगा कि इनके जोक्स संता इसके दौरान संतों के साथ काफी ज्यादा तरीके से यानी कि जिस तारीख जनवरी का आज बदला है डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति के शासनकाल में सबसे अधिक पर हमले किए गए पर किए गए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उसके बाद आपातकाल की घोषणा कर दी जाए और विरोध कर रहे हैं और दूसरी बात यह है कि यदि मान लीजिए इनके पर महाभियोग लग जाता है और यदि न्यायालय क्षेत्र के अंदर भी जाते हैं तो अपने पद पर रहते हुए अपने आप को माफ भी कर सकते हैं क्योंकि अमेरिका के राष्ट्रपति के पास क्या शक्ति होती है कि वह खुद को भी माफ कर सकते और किसी भी व्यक्ति को भी माफ कर सकते हैं और यदि बात की जाए संगत को ले करके सब का संघर्ष के लिए ले करके तो देखिए संघर्ष पहले से चले हुए आ रहे हैं अमेरिका को ले अमेरिका के अंदर और फिलहाल कर देखा जाए तो यह संतोष तो संघर्ष में एक मुठभेड़ है क्योंकि आप देख पा रहे होंगे कि जिस तरीके से कांग्रेस के ऊपर यानी कि अमेरिका के संसद के ऊपर हमला किया गया पुलिस वालों ने 4 लोगों को तो वहीं पर ही गोली मार मार दी और उनकी डेथ हो गई उसके बाद भी जो है रिपब्लिक जो समर्थक है वह रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं तो यह तो है क्या और डोनाल्ड ट्रंप को पूरी तरीके से सत्ता के नशे में चूर हो चुके हैं और अब वह पूरी तरीके से अमेरिका के जो अधिकांश क्षेत्र जाति के लोग जो बहुल एरिया है वहां पर दंगे के दंगों का जिक्र है यह सप्ताह के आने के लिए चल रहा है डोनाल्ड ट्रंप इसके अंदर समर्पित है ऐसा शब्द बोल रहे हैं
Kar doston jaisa ki savaal kiya gaya amerika mein satta ke lie hue sangat par aapakee kya pratikriya tak baat kee gaee amerika mein satta ko lekar hue sangharsh amerika ke andar jo hai doston shvet ashvet intajaar hamane pahale se dekhate hue aur usake baad jo satta ko hathiyaane ke lie bhee abhee vahaan kee polisee aap padhe to dekh ki vahaan par aisa hota rahata hai nahin hua amerika mein vartamaan samay mein jo cheejen chal rahe hain doston ko kabhee donaald tramp jo the vah apane pharst kaaryakaal unhonne bhee haal mein poora karane ja rahe hain aur unhonne jo hai isalie satta mein aae the kyonki jo ek bada samooh tava par gaurav gaurav ka unhonne unako samarthan kiya tha parantu jahaan tak blaik logon kee baat kee jae un mein se 99 point jo log hain un logon ne donald tramp ko samarthan nahin kiya gaya unhonne bataaya gaya ki jo roos tha unhonne chunaav mein kuchh dhaandhalee shaadee kee thee jisake chalate donaald tramp jaate hain aur unhonne amar ke haar ko sveekaar karate hain ki pata keejie aur ke paas jaen kyonki kuchh gupt jaanakaariyaan ho ya kuchh aur cheejen vah donaald tramp ne haath rakhana chaahate hain ki ejensee ne yah daava bhee kiya tha ki donaald tramp ke haathee satta chalee gaee to ho sakata hai ki hamaare paramaanu hathiyaaron kee hatyaaree taiyaaree hai unakee jaanakaaree ko dushman ko de sakate hain donaald tramp chunaav haar gae doston to inako bada dukh sa lag raha hai aur is dukh ke chalate unhonne kya kiya hai ki jo ripablik jo samarthak the gore jo log the inako unhonne ekajut karake unako is tareeke se ek dange bhadakaane ka kaam kar diya donaald tramp kis tareeke se bhaarat ke andar hote hain sistam jagah dange karaana jaativaad karana ityaadi karana aur raajaneeti mein aa jaana donaald tramp us cheej ke oopar khare utarate hain parantu aisee koee baat nahin hai donald tramp dange karavaane mein sabase aage rahe ab tak kee pragati maan ke amerika ke raashtrapati kee baat kee jae to is maamale mein haar gae to dange karava rahe hain aise to ko aapane dekha hoga ki inake joks santa isake dauraan santon ke saath kaaphee jyaada tareeke se yaanee ki jis taareekh janavaree ka aaj badala hai donaald tramp raashtrapati ke shaasanakaal mein sabase adhik par hamale kie gae par kie gae amerika ke raashtrapati donaald tramp aur usake baad aapaatakaal kee ghoshana kar dee jae aur virodh kar rahe hain aur doosaree baat yah hai ki yadi maan leejie inake par mahaabhiyog lag jaata hai aur yadi nyaayaalay kshetr ke andar bhee jaate hain to apane pad par rahate hue apane aap ko maaph bhee kar sakate hain kyonki amerika ke raashtrapati ke paas kya shakti hotee hai ki vah khud ko bhee maaph kar sakate aur kisee bhee vyakti ko bhee maaph kar sakate hain aur yadi baat kee jae sangat ko le karake sab ka sangharsh ke lie le karake to dekhie sangharsh pahale se chale hue aa rahe hain amerika ko le amerika ke andar aur philahaal kar dekha jae to yah santosh to sangharsh mein ek muthabhed hai kyonki aap dekh pa rahe honge ki jis tareeke se kaangres ke oopar yaanee ki amerika ke sansad ke oopar hamala kiya gaya pulis vaalon ne 4 logon ko to vaheen par hee golee maar maar dee aur unakee deth ho gaee usake baad bhee jo hai ripablik jo samarthak hai vah rukane ka naam nahin le rahe hain to yah to hai kya aur donaald tramp ko pooree tareeke se satta ke nashe mein choor ho chuke hain aur ab vah pooree tareeke se amerika ke jo adhikaansh kshetr jaati ke log jo bahul eriya hai vahaan par dange ke dangon ka jikr hai yah saptaah ke aane ke lie chal raha hai donaald tramp isake andar samarpit hai aisa shabd bol rahe hain

bolkar speaker
अमेरिका में सत्ता के लिए हुए संघर्ष पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?America Mein Satta Ke Liye Hue Sangharsh Par Apki Kya Pratikriya Hai
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College Student
1:32
नमस्कार श्रोताओं और चौंकाने वाला था क्योंकि ऐसा कभी देखा नहीं क्या था अमेरिका जो नंबर वन कंट्री कही जाती है दुनिया की वहां पर लोकतंत्र का इस्तेमाल चाकू ना और वह खुद उनके राष्ट्रपति द्वारा उड़ाया जाना तो काफी चौंकाने वाली बात है और अमेरिका से कभी भी आने वाले वक्त में नहीं भुला पाएगा पर जो भी है यह जो भी घटना हुई उससे यह बात साफ हो गई है कि अमेरिका अब सच में सोचा दो भागों में बांट चुका है अमेरिकन सोसायटी 1 है ट्रंप के सपोर्टर जो काफी हम उससे लड़ाकू या जिन्हें बस जल्दी जल्दी कुछ चाहिए जो उन्हें चाहिए वह बस से लेकर आएंगे टॉलरेंस नहीं है दूसरे हैं जो उनके अपोजिट में आते हैं जिनको कुछ लोग लेफ्ट विंग कहते हैं कुछ लोग रिप्लाई कहते हैं तो एक मुराद डिवीजन हो गया है कोई ऐसा नहीं है कि जो बीच में हो जो दोनों साइड की सुनता तो यह काफी चिंताजनक हमारे अखिलेश को सही करना काफी मुश्किल होगा जिसे भारत में बटा हुआ है सोसाइटी कुछ भक्त है कुछ अंध भक्त हैं कुछ भक्त नहीं है तो जैसे भारत में चल रहा था जिसको लेकर काफी दिक्कत आती है भारत में वैसे ही दिक्कत अब हमारी भी आने लगी है
Namaskaar shrotaon aur chaunkaane vaala tha kyonki aisa kabhee dekha nahin kya tha amerika jo nambar van kantree kahee jaatee hai duniya kee vahaan par lokatantr ka istemaal chaakoo na aur vah khud unake raashtrapati dvaara udaaya jaana to kaaphee chaunkaane vaalee baat hai aur amerika se kabhee bhee aane vaale vakt mein nahin bhula paega par jo bhee hai yah jo bhee ghatana huee usase yah baat saaph ho gaee hai ki amerika ab sach mein socha do bhaagon mein baant chuka hai amerikan sosaayatee 1 hai tramp ke saportar jo kaaphee ham usase ladaakoo ya jinhen bas jaldee jaldee kuchh chaahie jo unhen chaahie vah bas se lekar aaenge tolarens nahin hai doosare hain jo unake apojit mein aate hain jinako kuchh log lepht ving kahate hain kuchh log riplaee kahate hain to ek muraad diveejan ho gaya hai koee aisa nahin hai ki jo beech mein ho jo donon said kee sunata to yah kaaphee chintaajanak hamaare akhilesh ko sahee karana kaaphee mushkil hoga jise bhaarat mein bata hua hai sosaitee kuchh bhakt hai kuchh andh bhakt hain kuchh bhakt nahin hai to jaise bhaarat mein chal raha tha jisako lekar kaaphee dikkat aatee hai bhaarat mein vaise hee dikkat ab hamaaree bhee aane lagee hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अमेरिका में सत्ता के लिए हुए संघर्ष अमेरिका सत्ता
URL copied to clipboard