#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?

Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:33
हेलो अर्जुन तो आज आप का सवाल है कि हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए तो देखें मेरे हिसाब से हमें अपने जो भी पास में जो चीज हो चुका है इतना ज्यादा नहीं सोचना चाहिए क्योंकि वह चीज फिर से दोबारा नहीं आएगा और आप कैसी हो जिसको ठीक नहीं कर सकते आप अगर वह चीज से सीखे हैं और फिर से दोबारा ऐसी गलती नहीं होगी आपने बहुत कुछ सबक सिखा है और दोबारा ऐसा नहीं होगा यह चीज आपने सीखा है तो यह बहुत अच्छी बात है लेकिन बार-बार अगर आप यह सोचेंगे कि हम पास में मकाम कर दिया फिर करता तो इस तरह से आप कौन ज्यादा खुद कोई मतलब मुस्कान और खुद की हेल्प कोई नुकसान पहुंचाएंगे और दूसरा यह है कि और समाज देखिए समाज सोसायटी हर एक जगह का एक निवेदन है कि सब लोग एक जैसे होते तो आप तो जब भी कुछ आगे बढ़ने की कोशिश करें या फिर अगर आप औरों से अलग हो गया फिर आप के तौर-तरीके अगर अलग होंगे सही होंगे लेकिन बच्चों से अलग होंगे तो हर जगह वह लोग आपको बहुत खुश हैं बहुत मारेंगे कमेंट करेंगे आप जितनी बार मतलब मेहनत करके अगर आपको सफलता नहीं मिल पा रही है आपके लिए चुप जा रहे हैं तो वहां पर भी आपको बहुत ताने सुनने के लिए मिलेंगे तो यह सब चीजों को इतना ज्यादा दिल से और दिमाग से नहीं लेना है हमें यह सोचना है कि हां इनकी जो भी कमेंट और यह जो भी है सब चीज को लेकर हमें आगे बढ़ना यह सब चीजों को इतना दिमाग में इतना गंभीरता से सोचना नहीं है बस अपना काम करते रहना
Helo arjun to aaj aap ka savaal hai ki hamen kya gambheerata se nahin lena chaahie to dekhen mere hisaab se hamen apane jo bhee paas mein jo cheej ho chuka hai itana jyaada nahin sochana chaahie kyonki vah cheej phir se dobaara nahin aaega aur aap kaisee ho jisako theek nahin kar sakate aap agar vah cheej se seekhe hain aur phir se dobaara aisee galatee nahin hogee aapane bahut kuchh sabak sikha hai aur dobaara aisa nahin hoga yah cheej aapane seekha hai to yah bahut achchhee baat hai lekin baar-baar agar aap yah sochenge ki ham paas mein makaam kar diya phir karata to is tarah se aap kaun jyaada khud koee matalab muskaan aur khud kee help koee nukasaan pahunchaenge aur doosara yah hai ki aur samaaj dekhie samaaj sosaayatee har ek jagah ka ek nivedan hai ki sab log ek jaise hote to aap to jab bhee kuchh aage badhane kee koshish karen ya phir agar aap auron se alag ho gaya phir aap ke taur-tareeke agar alag honge sahee honge lekin bachchon se alag honge to har jagah vah log aapako bahut khush hain bahut maarenge kament karenge aap jitanee baar matalab mehanat karake agar aapako saphalata nahin mil pa rahee hai aapake lie chup ja rahe hain to vahaan par bhee aapako bahut taane sunane ke lie milenge to yah sab cheejon ko itana jyaada dil se aur dimaag se nahin lena hai hamen yah sochana hai ki haan inakee jo bhee kament aur yah jo bhee hai sab cheej ko lekar hamen aage badhana yah sab cheejon ko itana dimaag mein itana gambheerata se sochana nahin hai bas apana kaam karate rahana

और जवाब सुनें

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 mission Indian Army🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
1:12
दोस्तों कैसे हो क्या हमें गंभीरता से नहीं लेना छोड़ दिया पर कोई भी दिखो पड़े हैं हम लिपि कोई भी दुख हो तुम्हें तो पूरी गंभीरता से नहीं लेना है क्योंकि अगर आपको ढेरों साहस के साथ काम लेते हैं तो निश्चित तौर पर दुखों के निवारण में सक्षम हो जाते हैं यानी कि अपने दुखों को अपने दुखों का निवारण करने में सक्षम हो जाते और अक्षर में बहुत से लोगों को देखा है कि जब भी उन पर कोई भी समस्या थी प्रॉब्लम आती तो निश्चित तौर पर इधर-उधर भागने लगे लेकिन इसमें भाग नहीं होते एकांत में बैठकर सोचने को ताकि लोगों से लड़ना क्योंकि इंसान पर आते रहते हो लेकिन निश्चित तौर पर बम से कतराते हैं भागती तूने चित्र का भी कुछ समस्या का समाधान नहीं ले सकते लूंगा समस्या का समाधान नहीं कर सकते हैं तो निश्चित तौर पर आप जब भी कोई दुख पड़े तो आप मुझे गंभीरता से ना ले और उसे मिला उसका निवारण करने पर ज्यादा ध्यान दे दो मिस करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा होगा अगर अच्छा लगे तो प्लीज लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Doston kaise ho kya hamen gambheerata se nahin lena chhod diya par koee bhee dikho pade hain ham lipi koee bhee dukh ho tumhen to pooree gambheerata se nahin lena hai kyonki agar aapako dheron saahas ke saath kaam lete hain to nishchit taur par dukhon ke nivaaran mein saksham ho jaate hain yaanee ki apane dukhon ko apane dukhon ka nivaaran karane mein saksham ho jaate aur akshar mein bahut se logon ko dekha hai ki jab bhee un par koee bhee samasya thee problam aatee to nishchit taur par idhar-udhar bhaagane lage lekin isamen bhaag nahin hote ekaant mein baithakar sochane ko taaki logon se ladana kyonki insaan par aate rahate ho lekin nishchit taur par bam se kataraate hain bhaagatee toone chitr ka bhee kuchh samasya ka samaadhaan nahin le sakate loonga samasya ka samaadhaan nahin kar sakate hain to nishchit taur par aap jab bhee koee dukh pade to aap mujhe gambheerata se na le aur use mila usaka nivaaran karane par jyaada dhyaan de do mis karata hoon savaal ka javaab achchha laga hoga agar achchha lage to pleej laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:23
अगर आप आपके बारे में कोई दूसरा इंसान कोई तीसरा इंसान के पास बोला है कुछ मतलब कोई 30 टन टन आपको बोल रहा है कि हमारे बारे में कोई दूसरा इंसान बुराई कर रहा है 200 मिनट में हम को उसके बाद गंभीरता से नहीं लेना चाहिए और उसको सुनना नहीं चाहिए और ज्यादा ध्यान हम अपने आप को खुश करने की जरूरत है धन्यवाद
Agar aap aapake baare mein koee doosara insaan koee teesara insaan ke paas bola hai kuchh matalab koee 30 tan tan aapako bol raha hai ki hamaare baare mein koee doosara insaan buraee kar raha hai 200 minat mein ham ko usake baad gambheerata se nahin lena chaahie aur usako sunana nahin chaahie aur jyaada dhyaan ham apane aap ko khush karane kee jaroorat hai dhanyavaad

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
1:14
देखे हमें जो रिलेटिव होते हैं ना और समाज के लोग जो अपने आप को कुछ ज्यादा ही हम लोग के हम हमदर्द बनते हैं खुद को दिखाते क्यों लोग सुंदर जो समाज के लोगों रिलेटिव उनकी बातों को गंभीरता भी डॉक्टर ही बनवा आप भी इंजीनियर ही बनो आप भी बैंक में ही जाओ नहीं तो आपका नाम क्यों हिंदी में नहीं जा सकता क्या कोई आर्किटेक्ट नहीं बन सकता क्या पेंटर नहीं बन सकता क्या दगड़ रिलेटिव समाज के लोगों के बात को आप गंभीरता से लीजिएगा तो आपको जो करना है जिस चीज में आप बहुत नाम कमा सकते हैं वह अपने है वह आप कमा नहीं पाओगे खुद को इंटरेस्ट को देखकर अपना कंफर्ट जोन से बाहर निकलना बहुत जरूरी है यह कंफर्ट जोन में रहने पर स्किल नहीं बढ़ पाता है डिवेलप नहीं हो पाता है और लाइफ में हम बहुत एवरेज कर कर पाते हैं तू यही बात है
Dekhe hamen jo riletiv hote hain na aur samaaj ke log jo apane aap ko kuchh jyaada hee ham log ke ham hamadard banate hain khud ko dikhaate kyon log sundar jo samaaj ke logon riletiv unakee baaton ko gambheerata bhee doktar hee banava aap bhee injeeniyar hee bano aap bhee baink mein hee jao nahin to aapaka naam kyon hindee mein nahin ja sakata kya koee aarkitekt nahin ban sakata kya pentar nahin ban sakata kya dagad riletiv samaaj ke logon ke baat ko aap gambheerata se leejiega to aapako jo karana hai jis cheej mein aap bahut naam kama sakate hain vah apane hai vah aap kama nahin paoge khud ko intarest ko dekhakar apana kamphart jon se baahar nikalana bahut jarooree hai yah kamphart jon mein rahane par skil nahin badh paata hai divelap nahin ho paata hai aur laiph mein ham bahut evarej kar kar paate hain too yahee baat hai

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:53
अनार था हर बात को हंसी में बता देना यानि हर बात पर हंसी आ नागदा राणा पहले बच्चे खेला करता कुत्ते खेलते हफ्ते और अब बड़े हो गए अब वो खेलते हैं कुत्ते नहीं है लेकिन पहले बच्चे हैं कुछ भी कर लेते थे लेकिन अब माता-पिता ने मना पढ़ने के लिए कोई बेचे और कई कमाने के लिए भेजा तो यह बात गंभीर है उसे की जिंदगी ना मिलेगी दोबारा इसे जब कोई दो पक्षी होता तो हमें शत्रु को कभी भी कमजोर नहीं समझना चाहिए कि हमारी गंभीरता है हमें जागरूक रहना चाहिए छात्र कैसा भी कुछ भी प्लान ही प्लान बना सकता कुछ भी कर सकता है
Anaar tha har baat ko hansee mein bata dena yaani har baat par hansee aa naagada raana pahale bachche khela karata kutte khelate haphte aur ab bade ho gae ab vo khelate hain kutte nahin hai lekin pahale bachche hain kuchh bhee kar lete the lekin ab maata-pita ne mana padhane ke lie koee beche aur kaee kamaane ke lie bheja to yah baat gambheer hai use kee jindagee na milegee dobaara ise jab koee do pakshee hota to hamen shatru ko kabhee bhee kamajor nahin samajhana chaahie ki hamaaree gambheerata hai hamen jaagarook rahana chaahie chhaatr kaisa bhee kuchh bhee plaan hee plaan bana sakata kuchh bhee kar sakata hai

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
BK. SHYAAM. KARWA Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BK. जी का जवाब
Unknown
0:36
नमस्कार आप ने प्रश्न किया कि हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए कि मैं आपको बताना चाहूंगा कि विश्व छोटी बातों से दुखी नहीं होना चाहिए और इन्हें गंभीरता से नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह देश और छोटी बातों पर नाराज होते होते इसलिए हम ईश्वर छोटी बात को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए बल्कि हमें विचार करना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar aap ne prashn kiya ki hamen kya gambheerata se nahin lena chaahie ki main aapako bataana chaahoonga ki vishv chhotee baaton se dukhee nahin hona chaahie aur inhen gambheerata se nahin lena chaahie kyonki yah desh aur chhotee baaton par naaraaj hote hote isalie ham eeshvar chhotee baat ko gambheerata se nahin lena chaahie balki hamen vichaar karana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:30

bolkar speaker
हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?Hume Kya Gambhirta Se Nahin Lena Chaiye
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:16
प्रश्न पूछा कि हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए देखिए समस्याओं को देखिए इतना गंभीरता से बिल्कुल भी नहीं लेना चाहिए कि वह कैंसर की तरह देखी आपके पूरे मन और शरीर में फैल जाए अगर आपने देखी है समस्याओं को सरल बना लिया तो जीवन में देखे सरल बन जाएगा स्थित कोई भी हो लेकिन इंसान को देख कर अपना संतुलन और धैर्य नहीं खोना चाहिए जीवन देखिए हर पल करवट बदलता है देखिए और हम भी के हर दिन नए हो जाते तो फिर किस बात पर देखें गंभीर हुआ जा सकता है जीवन को देखिए एक अवसर की देखो और देखिए अवसर की ओर देखो जीवन के हर क्षण के महत्व को समझो तभी देखिए उसके हर रंग का दिखे आनंद लिया जा सकता है आप कैसे बिजी हो लेकिन जीवन तो हर क्षण देकर घाटी रहा है तो फिर क्यों इसे इतने गंभीर होकर दुखी होकर जी जीवन और शरीर एक एक पल भी तू कुत्ते की पड़ रहा है इसलिए इस यात्रा को देख इस सुखद बनाने की हर संभव कोशिश करें
Prashn poochha ki hamen kya gambheerata se nahin lena chaahie dekhie samasyaon ko dekhie itana gambheerata se bilkul bhee nahin lena chaahie ki vah kainsar kee tarah dekhee aapake poore man aur shareer mein phail jae agar aapane dekhee hai samasyaon ko saral bana liya to jeevan mein dekhe saral ban jaega sthit koee bhee ho lekin insaan ko dekh kar apana santulan aur dhairy nahin khona chaahie jeevan dekhie har pal karavat badalata hai dekhie aur ham bhee ke har din nae ho jaate to phir kis baat par dekhen gambheer hua ja sakata hai jeevan ko dekhie ek avasar kee dekho aur dekhie avasar kee or dekho jeevan ke har kshan ke mahatv ko samajho tabhee dekhie usake har rang ka dikhe aanand liya ja sakata hai aap kaise bijee ho lekin jeevan to har kshan dekar ghaatee raha hai to phir kyon ise itane gambheer hokar dukhee hokar jee jeevan aur shareer ek ek pal bhee too kutte kee pad raha hai isalie is yaatra ko dekh is sukhad banaane kee har sambhav koshish karen

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • हमें क्या गंभीरता से नहीं लेना चाहिए क्या गंभीरता से न ले
URL copied to clipboard